अमीनो एसिड के फायदे, इसकी कमी के कारण और लक्षण – Amino Acids Benefits in Hindi

Written by

हमारे शरीर को स्वस्थ रहने के साथ ही बीमारियों और कुपोषण से बचने के लिए विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों की जरूरत होती है। उन्हीं पोषक तत्वों में से एक अमीनो एसिड भी है। शरीर के लिए अमीनो एसिड के फायदे कई हैं, जिनके बारे में हम स्टाइलक्रेज के इस लिख में बता रहे हैं। यहां फायदे के साथ ही अमीनो एसिड की कमी के लक्षण और कारण भी बताए गए हैं। साथ ही अमीनो एसिड के स्रोतों की जानकारी भी यहां दी गई है।

स्क्रॉल करें

लेख में सबसे पहले जानें अमीनो एसिड क्या है।

अमीनो एसिड क्या है? – What is Amino Acids in Hindi

अमीनो एसिड एक तरह का ऑर्गेनिक कंपाउंड है। हमारा शरीर प्रोटीन बनाने के लिए अमीनो एसिड का उपयोग करता है, ताकि शरीर को भोजन तोड़ने, शरीर के विकास, ऊतकों की मरम्मत करने में मदद मिल सके। अमीनो एसिड का उपयोग शरीर द्वारा ऊर्जा के स्रोत के रूप में भी किया जा सकता है।

अमीनो एसिड को तीन समूहों में बांटा गया है, जिसमें एसेंशियल, नॉन एसेंशियल और कंडीशनल अमीनो एसिड शामिल हैं (1 )। इन सभी समूहों में कई तरह के अमीनो एसिड आते हैं। दरअसल, 20 अमीनो एसिड मिलकर प्रोटीन बनाते हैं और उसके संश्लेषण यानी सिंथेसिस में मदद करते हैं (2)।

पढ़ना जारी रखें

अमीनो एसिड के बाद जानते हैं इसकी कमी के कारणों को।

अमीनो एसिड की कमी होने के कारण – Causes of Amino Acids Deficiency in Hindi

अमीनो एसिड की कमी के कई कारण हो सकते हैं, जिनके बारे में हम नीचे विस्तार से बता रहे हैं (3 )।

  • गंभीर बीमारी या चोट जैसी स्थितियों के दौरान नॉन एसेंशिअल अमीनो एसिड की कमी हो सकती है।
  • अल्पपोषण की वजह से अमीनो एसिड की कमी हो सकती है।
  • अमीनो एसिड और प्रोटीन से भरपूर आहार का कम सेवन करना।
  • शरीर में प्रोटीन का अवशोषित न हो पाना।
  • पाचन तंत्र के द्वारा अमीनो एसिड का सही तरह उपयोग न कर पाना।

पढ़ते रहें

लेख के इस भाग में जानते हैं अमीनो एसिड की कमी के लक्षण के बारे में।

अमीनो एसिड की कमी के लक्षण – Symptoms of Amino Acids Deficiency in Hindi

अमीनो एसिड की कमी से कई रोग और मौत तक हो सकती है, इसलिए अमीनो एसिड की कमी होने पर इसके लक्षणों को पहचान कर इसे दूर करना जरूरी होता है। अमीनो एसिड की कमी के लक्षण निम्न हो सकते हैं (2) (3) ।

आगे पढ़ें फायदे

अमीनो एसिड की कमी के लक्षण के बाद हम अमीनो एसिड के फायदे बता रहे हैं।

अमीनो एसिड के फायदे – Amino Acids Benefits In Hindi

शरीर को अमीनो एसिड के फायदे कई हो सकते हैं, जिनके बारे में हम आगे जानकारी दे रहे हैं। इन फायदों को पाने के लिए अमीनो एसिड युक्त खाद्य पदार्थों को आहार में जगह देना जरूरी है।

1.मूड में सुधार करे

अमीनो एसिड का एक प्रकार ट्रिप्टोफैन भी है। इसे मूड सुधारने और मानसिक स्वास्थ्य बनाए रखने में फायदेमंद माना जाता है। ये शरीर में सेरोटोनिन हार्मोन को बनाने में मदद करता है। इस हार्मोन को मूड बेहतर करने के साथ ही मनोदशा को सुधारने और नियंत्रित करने के लिए जाना जाता है (4 )। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी) द्वारा प्रकाशित एक शोध के अनुसार, ट्रिप्टोफैन से मूड संबंधी सभी विकार दूर हो सकते हैं (5 )।

2.नींद की गुणवत्ता में करे सुधार

नींद की गुणवत्ता को सुधारने में अमीनो एसिड फायदेमंद हो सकता है। नींद के रोगियों पर किए एक रिसर्च के अनुसार, मनुष्यों में नींद की गुणवत्ता को बेहतर करने में ग्लाइसिन अमीनो एसिड लाभदायक हो सकता है। शोध के दौरान, रोगियों को नींद की गुणवत्ता सुधारने के लिए 3 ग्राम ग्लाइसिन दिया गया और नींद संबंधी परेशानी में सुधार पाया गया। ग्लाइसीन में अनिद्रा के साथ ही थकान दूर करने का प्रभाव भी होता (6 )। यही नहीं, ट्रिप्टोफैन अमीनो एसिड को भी नींद की गुणवत्ता बेहतर करने के लिए जाना जाता है (5 )।

3.तनाव को स्तर को कम करे

नींद की गुणवत्ता में सुधार करने के साथ ही अमीनो एसिड तनाव के स्तर को कम कर सकता है। एक शोध के मुताबिक, अमीनो एसिड की खुराक आमतौर पर अवसाद और अन्य मानसिक बीमारियों के लक्षणों को कम करती है, क्योंकि ये न्यूरोट्रांसमीटर में परिवर्तित हो सकते हैं। माना जाता है कि ट्रिप्टोफैन, टायरोसिन और फेनिलएलनिन जैसे अमीनो एसिड भी अवसाद से बचाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं (7)।

4.मांसपेशियों की कमजोरी से राहत

मांसपेशियों की कमजोरी को दूर रख उन्हें मजबूती प्रदान करने के लिए भी अमीनो एसिड को जाना जाता है। एक रिसर्च पेपर से पता चलता है कि अतिरिक्त मात्रा में लिया गया ल्यूसीन मांसपेशियों के प्रोटीन की कमी को दूर करने में सक्षम हो सकता है। यह सरकोपेनिया यानी मांसपेशियों की कमजोरी की रोकथाम और उपचार में मददगार साबित हो सकता है (8)। ल्यूसीन के साथ ही अन्य अमीनो एसिड को भी मांसपेशियों के लिए जरूरी माना गया है (9)।

5.वजन कम करने में मददगार

बढ़ता हुआ वजन यानी मोटापे को कई बीमारियों की जड़ माना जाता है। शरीर की अतिरिक्त चर्बी और मोटापा को कम करने के लिए भी अमीनो एसिड के फायदे हो सकते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक, ब्रांच्ड चेन अमीनो एसिड (BCAA), विटामिन B6 के साथ पैर, कमर और कूल्हों की चर्बी को थोड़ा कम कर सकता है (10)। ग्लूटामेट अमीनो एसिड को भी वजन नियंत्रित करने में फायदेमंद पाया गया है (11)।

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस भाग में हम अमीनो एसिड के स्रोतों के बारे में बताएंगे।

अमीनो एसिड के स्रोत – Amino Acids Food Sources in Hindi

अमीनो एसिड को प्राकृतिक तरीके से प्राप्त किया जा सकता है। नीचे बताए जा रहे खाद्य पदार्थ अमीनो एसिड से भरपूर माने जाते हैं (12):

  • मांस और मांस से बने उत्पाद
  • अनाज के उत्पाद
  • दूध और डेयरी प्रोडक्ट
  • सब्जियां
  • अंडा
  • मछली और अन्य सी फूड
  • स्नैक्स और मिठाई
  • फल
  • साबुत अनाज
  • फलियां
  • सेम
  • विभाजित मटर और बेक्ड बीन्स
  • सोया उत्पाद

पढ़ते रहें

यहां जानें अमीनो एसिड की सही दैनिक मात्रा कितनी होनी चाहिए।

अमीनो एसिड की रोजाना की खुराक- Recommended Daily Intake Of Amino Acids

अमीनो एसिड की मात्रा उम्र और लिंग के अनुसार अलग-अलग हो सकती है, जिसे डॉक्टर से परामर्श लेकर ही लेना चाहिए। यहां हम एक रिसर्च पेपर के आधार पर इसकी जानकारी दे रहे हैं (2):

  • प्रीस्कूल जाने वाले बच्चों के लिए रोजाना 50 ग्राम मात्रा।
  • बड़े बच्चों के लिए 70 से 85 ग्राम की मात्रा सही मानी जाती है।
  • वयस्क पुरुष 90 से 110 ग्राम मात्रा ले सकते हैं।
  • किशोरियों और वयस्क महिलाओं में 65 से 70 ग्राम जरूरी मानी गई है।
  • 65 वर्ष से अधिक उम्र के पुरुषों में 75 से 80 ग्राम और महिलाओं में 55 से 65 ग्राम दी जा सकती है।पढ़ना जारी रखें

लेख इस हिस्से में हम अमीनो एसिड लेने से जुड़ी अन्य जरूरी जानकारी दे रहे हैं।

अमीनो एसिड लेते समय बरती जाने वाली सावधानियां – Precautions to Take while taking Amino Acids

अमीनो एसिड सेहत के लिए जरूरी होता है, लेकिन इसे लेने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। यहां उन्हीं के बारे में हम बता रहे हैं।

  • गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान अमीनो एसिड की खुराक लेने के पहले डॉक्टर से परामर्श लें।
  • शिशुओं को सेवन कराने के पहले चिकित्सीय परामर्श जरूर लें।
  • इसे सप्लीमेंट के रूप में बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं लेना चाहिए (13 )।
  • लिवर से जुड़ी समस्या को सभी तरह के अमीनो एसिड का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके लिए चिकित्सक से जरूर संपर्क करें (2)।
  • सर्जरी के तुरंत बाद और पहले इसके सेवन से बचना चाहिए।

नीचे स्क्रॉल करें

लेख के अंत में हम आपको अमीनो एसिड के नुकसान बता रहे हैं।

अमीनो एसिड साइड इफेक्ट – Amino Acids Side Effects in Hindi

अमीनो एसिड के फायदे सेहत के लिए कई प्रकार से होते हैं, लेकिन इसकी अधिक मात्रा या कुछ अन्य परिस्थितियों में इसके नुकसान हो सकते हैं।

  • अधिक मात्रा में अमीनो एसिड का सेवन करने पर शरीर में विषाक्तता उत्पन्न होती है (14)।
  • खाने की आदत प्रभावित हो सकती है (14)।
  • ग्रोथ प्रभावित हो सकती है (14)।
  • इसे अधिक मात्रा में लेने पर ब्रेन अमीनो एसिड के स्तर में परिवतर्न हो सकता है (14)।
  • इसके अधिक उपयोग से हड्डियों को नुकसान पहुंच सकता हैं (15)।
  • किडनी और लिवर पर दवाब पड़ सकता है (15)।

सभी पोषक तत्वों की तरह ही अमीनो एसिड के फायदे भी शरीर के लिए कई हैं। इसे आसानी से खाद्य पदार्थों के माध्यम से ग्रहण किया जा सकता है। बस इसके फायदों को जानने के बाद अमीनो एसिड के सप्लीमेंट लेने की बिल्कुल न सोचें। ऐसा बिना डॉक्टर की सलाह के करने से अमीनो एसिड के नुकसान हो सकते हैं। हम लेख में इसके नुकसान के साथ ही अमीनो एसिड युक्त खाद्य पदार्थों की भी लिस्ट दे चुके हैं। अब अपनी डाइट में इससे भरपूर खाद्यों को शामिल करें और अमीनो एसिड के लाभ उठाएं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

अमीनो एसिड शरीर में क्या कार्य करता है?

शरीर प्रोटीन बनाने के लिए अमीनो एसिड का उपयोग करता है, ताकि शरीर को भोजन तोड़ने, शरीर के विकास, शरीर के ऊतकों की मरम्मत करने के साथ ही, शरीर को कई अन्य कार्यों में मदद मिल सके। अमीनो एसिड का उपयोग शरीर द्वारा ऊर्जा के स्रोत के रूप में भी किया जा सकता है (1)।

मुझे अमीनो एसिड कब लेना चाहिए?

अमीनो एसिड खाद्य पदार्थों के रूप में कभी भी लिया जा सकता है।

क्या अमीनो एसिड वजन कम करने में मदद कर सकता है?

हां, अमीनो एसिड वजन को कम करने में लाभदायक माना गया है (10)।

क्या हर रोज अमीनो एसिड लेना सुरक्षित है?

हां, हर रोज अमीनो एसिड लेना सुरक्षित है। ऐसा करके शरीर को इसकी कमी से बचाया जा सकता है। बस इसकी मात्रा पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

क्या अमीनो एसिड त्वचा के लिए अच्छा है?

हां, अमीनो एसिड त्वचा को स्वस्थ रखने में फायदेमंद माना गया है। यह त्वचा के केराटिन, कोलेजन और इलास्टिन बढ़ाकर ढीली और झुर्रीदार त्वचा, धूप से क्षतिग्रस्त त्वचा की समस्या में फायदेमंद हाे सकता है (16)।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Amino acids
    https://medlineplus.gov/ency/article/002222.htm
  2. Protein and Amino Acids
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK234922/
  3. Amino Acid Deficiency
    https://www.sciencedirect.com/topics/medicine-and-dentistry/amino-acid-deficiency
  4. Tryptophan
    https://medlineplus.gov/ency/article/002332.htm
  5. Analysis Nutrition and Health Benefits of Tryptophan
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6158605/
  6. The Effects of Glycine on Subjective Daytime Performance in Partially Sleep-Restricted Healthy Volunteers
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3328957/
  7. Evaluation of serum amino acids and non-enzymatic antioxidants in drug-naïve first-episode major depressive disorder
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7315550/
  8. Amino acids and muscle loss with aging
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/16365098/
  9. Regulation of Skeletal Muscle Function by Amino Acids
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7019684/
  10. The Weight Loss Effects of Branched Chain Amino Acids and Vitamin B6: A Randomized Controlled Trial on Obese and Overweight Women
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/30841823/
  11. Protein
    amino acids and obesity treatment
  12. Food Products as Sources of Protein and Amino Acids—The Case of Poland
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6315330/
  13. Safety Concerns Regarding Supplemental Amino Acids: Results of a Study
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK209070/
  14. Nutritional consequences of excess amino acid intake
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/103372/
  15. Adverse Effects Associated with Protein Intake above the Recommended Dietary Allowance for Adults
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4045293/
  16. Metabolism and Functions of Amino Acids in the Skin
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/32761577/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
विनिता पंगेनी ने एनएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में बीए ऑनर्स और एमए किया है। टेलीविजन और डिजिटल मीडिया में काम करते हुए इन्हें करीब चार साल हो गए हैं। इन्हें उत्तराखंड के कई पॉलिटिकल लीडर और लोकल कलाकारों के इंटरव्यू लेना और लेखन का अनुभव है। विशेष कर इन्हें आम लोगों से जुड़ी रिपोर्ट्स करना और उस पर लेख लिखना पसंद है। इसके अलावा, इन्हें बाइक चलाना, नई जगह घूमना और नए लोगों से मिलकर उनके जीवन के अनुभव जानना अच्छा लगता है।

ताज़े आलेख