मैंगो फेस पैक लगाने के फायदे और बनाने का तरीका – Mango Face Pack in Hindi

Written by

फलों के राजा आम का स्वाद तो कई लोगों को पसंद ही होगा। साथ ही सेहत के लिए आम के फायदे हम अपने अन्य आर्टिकल में बता चुके हैं। हालांकि, आम के लाभ सिर्फ सेहत तक ही सीमित नहीं है, बल्कि यह त्वचा के लिए भी बहुत गुणकारी हो सकता है। शायद कई लोग इस बात से अनजान हो सकते हैं कि आम खाने के ही नहीं, बल्कि चेहरे पर लगाने के भी फायदे हो सकते हैं। ऐसे में स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम मैंगो फेस पैक के फायदे की जानकारी देंगे। यहां हम मैंगो फेस पैक के लाभ आम में मौजूद गुणों के आधार पर साझा करेंगे। साथ ही आप जानेंगे मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका भी। तो मैंगो फेस पैक के फायदे और बनाने का तरीका जानने के लिए पढ़ें पूरा लेख।

जानने के लिए आगे पढ़ें

सबसे पहले पढ़ें कि मैंगो फेस पैक स्किन के लिए कैसे फायदेमंद हो सकता है।

मैंगो फेस पैक के फायदे – Benefits Of Mango Face Packs in Hindi

मैंगो फेस पैक के फायदे कई हैं, जिनके बारे में नीचे हम विस्तार से जानकारी दे रहे हैं। हालांकि, यह ध्यान रखें कि मैंगो फेस पैक त्वचा से जुड़ी समस्याओं से बचाव या उनके लक्षणों को कम करने में कुछ हद तक लाभकारी हो सकता है। अगर त्वचा से जुड़ी कोई गंभीर समस्या है, तो डॉक्टरी इलाज को प्राथमिकता दें। तो चलिए अब जानते हैं मैंगो फेस पैक के फायदे, जो कुछ इस प्रकार हैं:

1. यूवीबी किरणों से बचाव

आम में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, तो त्वचा पर स्किन एजिंग के लक्षण कम करने में प्रभावी हो सकते हैं। इसके साथ ही आम के अर्क में एंटी-फोटो ऐजिंग (Anti-Photoaging) प्रभाव होते हैं, जो त्वचा पर यूवीबी (UVB – सूर्य की हानिकारक किरणें) के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसका यह प्रभाव न सिर्फ झुर्रियों को कम कर सकता है, बल्कि कोलोजन (एक प्रकार का प्रोटीन) के उत्पादन को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। इसकी पुष्टि एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) पर प्रकाशित एक शोध में हुई है (1)।

2. एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध

आम में विटामिन सी और बीटा-कैरोटीन (विटामिन ए का एक प्रकार) होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट होते हैं (2)। दरअसल, मुक्त कण डीएनए, कोलेजन को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इससे वक्त से पहले चेहरे पर झुर्रियों (Photo aging) और यहां तक कि स्किन कैंसर तक का जोखिम हो सकता है। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन या त्वचा पर उनका उपयोग फ्री रैडिकल से होने वाले नुकसान से बचाव करने में सहायक हो सकते हैं (3)। इस आधार पर मान सकते हैं कि एंटीऑक्सीडेंट युक्त आम का उपयोग त्वचा को फ्री रैडिकल से होने वाले नुकसान से बचा सकता है।

3. एंटी-इंफ्लामेटरी प्रभाव

आम डाइटरी फाइबर का एक अच्छा स्रोत है और इसमें कई बायो एक्टिव यौगिक और एंटीऑक्सिडेंट पोषक तत्व होते हैं, जैसे कि पॉलीफेनोल कैरोटीनॉइड और एस्कॉर्बिक एसिड, जो एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों को प्रदर्शित कर सकते हैं (4)। वहीं, कई बार कील-मुंहासों के कारण त्वचा लाल होने के साथ-साथ त्वचा में सूजन की समस्या भी हो सकती है (5)। इसके अलावा, ज्यादा केमिकल युक्त प्रोडक्ट या कॉस्मेटिक के उपयोग से भी त्वचा पर रैशेज और सूजन हो सकती है (6)। ऐसे में त्वचा में सूजन से बचाव के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से युक्त आम का उपयोग लाभकारी हो सकता है।

स्क्रॉल करते रहें

तो मैंगो फेस पैक के फायदे जानने के बाद, आगे जानें मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका।

मैंगो फेस पैक – Mango Face Packs in Hindi

मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका काफी आसान है। मैंगो फेस पैक के फायदे और इसकी गुणवत्ता बढ़ाने के लिए हम यहां कुछ अन्य सामग्रियों के साथ मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका बता रहे हैं। इन्हें बनाने के लिए अधिकतर सामग्रियां आपको अपने किचन में ही मिल सकती है। तो जानने के लिए नीचे स्क्रॉल करें और मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका विस्तार से पढ़ें।

1. आम और मुल्तानी मिट्टी फेस पैक

सामग्री :

  • 2 चम्मच आम का गूदा
  • 1 चम्मच मुल्तानी मिट्टी
  • 1 चम्मच पानी या गुलाब जल (वैकल्पिक)
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के गूदे में मुल्तानी मिट्टी मिलाएं और इसका पेस्ट तैयार करें।
  • अगर जरूरत पड़े तो इसमें थोड़ा पानी या गुलाब जल भी मिला सकते हैं।
  • अब इस तैयार फेस पैक को अच्छे से चेहरे पर लगाएं।
  • पैक सूखने के बाद बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 से 2 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

त्वचा के लिए आम के फायदे हम पहले ही बता ही चुके हैं। वहीं, इसके फायदे को बढ़ाने के लिए इसमें मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल किया जा सकता है। त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे की बात करें, तो मुल्तानी मिट्टी त्वचा के अतिरिक्त तेल को सोखने और गहराई से त्वचा को साफ करने में मदद कर सकती है। इसके साथ ही, यह त्वचा के डेड स्किन सेल्स को निकालकर त्वचा को चमकदार बना सकती है। साथ ही दाग-धब्बों को हल्का करने में भी सहायक हो सकती है (7)। आम और मुल्तानी मिट्टी का यह घरेलू फेस पैक ऑयली त्वचा के लिए ज्यादा उपयोगी हो सकता है।

2. आम और एवोकाडो फेस पैक

सामग्री :

  • 2 बड़ा चम्मच आम का रस
  • 1 चम्मच एवोकाडो का तेल या गूदा (पल्प)
  • आवश्यकता अनुसार पानी (ऑप्शनल)
  • एक बाउल

उपयोग का तरीका :

  • एक बाउल में आम के रस में एवोकाडो तेल या पल्प मिलाएं।
  • फिर इस फेस पैक को चेहरे पर लगाएं।
  • सूखने के बाद गुनगुने या सामान्य तापमान वाले पानी और माइल्ड फेस वाश से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 2 से 3 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

जहां आम का अर्क सूर्य की हानिकारक किरणों से त्वचा की रक्षा कर सकता है (1)। वहीं, एवोकाडो को भी त्वचा की देखभाल के लिए जरूरी माना जा सकता है। बता दें कि प्राकृतिक तौर पर त्वचा की देखभाल करने के लिए सालों से कई पौधों के तेलों का इस्तेमाल किया जाता है, जिनमें एवोकाडो का तेल भी शामिल है। शोध के अनुसार एवोकाडो का तेल एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध होता है, जो त्वचा के घाव भरने और उसकी मरम्मत करने में मदद कर सकता है (8)।

इसके अलावा, एवोकाडो का तेल त्वचा में आसानी से अवशोषित हो जाता है, जिस कारण इसका उपयोग कई स्किन केयर प्रोडक्ट्स में भी किया जाता है (9)। सिर्फ एवोकाडो का तेल ही नहीं, बल्कि एवोकाडो फल का उपयोग भी कई कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स में किया जाता है। यह त्वचा को मॉइस्चराइज करने के साथ-साथ त्वचा को मुलायम भी बना सकता है (10)। इस आधार पर माना जा सकता है कि आम और एवोकाडो का यह फेस पैक त्वचा को कोमल-मुलायम बनाने में सहायक हो सकता है।

3. आम और ओटमील फेस पैक

सामग्री :

  • 2 चम्मच आम का गूदा
  • 1 चम्मच ओटमील
  • आवश्यकता अनुसार पानी या गुलाब जल
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • सबसे पहले ओटमील को पीसकर पाउडर बना लें।
  • अब एक कटोरी में इसे आम के गूदे के साथ अच्छे से मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • जरूरत पड़े तो इस मिश्रण में पानी भी मिला सकते है।
  • अब इस पेस्ट को त्वचा पर लगाएं।
  • जब यह फेस पैक सूख जाए, तो ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 से 2 बार इस्तेमाल कर सकती हैं।

कैसे लाभदायक है :

त्वचा के लिए आम के कई फायदे हम पहले ही बता चुके हैं। वहीं, आम के इन गुणों को बढ़ाने के लिए ओट्स का उपयोग कारगर हो सकता है। आम की तरह ही ओट्स में भी एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। जिस वजह से जई का फेस पैक सूजन संबंधी कई प्रकार के त्वचा समस्याओं जैसे :- प्रुरिटस (Pruritus – स्किन पर होने वाली खुजली), एटॉपिक डर्मेटाइटिस (Atopic Dermatitis – त्वचा पर खुजली और लाल चकत्ते) व एक्ने जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में कारगर माना जा सकता है। इतना ही नहीं ओटमील त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने में भी सहायक हो सकता है (11)। वहीं, आम और ओटमील को मिलाने से इन दोनों सामग्रियों की गुणवत्ता और बढ़ सकती है, जिसका फायदा त्वचा पर हो सकता है। यह पैक स्क्रब की तरह भी काम कर सकता है।

4. आम और गुलाब जल फेस पैक

सामग्री :

  • दो बड़ा चम्मच पके हुए आम का पल्प
  • 1 चम्मच गुलाब जल
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के पल्प में गुलाब जल मिलाएं और इसका पेस्ट तैयार करें।
  • अब इस तैयार पेस्ट को चेहरे व गर्दन पर अच्छे से लगाएं।
  • सूखने के बाद गुनगुने या सामान्य पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 से 2 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

मैंगो फेस पैक के फायदे को बढ़ाने के लिए इसमें गुलाब जल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। गुलाब जल न सिर्फ त्वचा का पीएच संतुलित कर सकता है, बल्कि त्वचा पर कील-मुंहासों की समस्या के उपचार में भी मदद कर सकता है। साथ ही, गुलाब जल का इस्तेमाल त्वचा पर अत्यधिक तेल के उत्पादन को कम करने के लिए भी किया जा सकता है। इसके अलावा, यह त्वचा को हाइड्रेट भी रख सकता है। वहीं, इसका एंटी ऑक्सीडेंट गुण त्वचा की कोशिकाओं को स्वस्थ बनाने में सहायक हो सकता है और त्वचा फाइन लाइन्स और झुर्रियों को दूर रखने का काम कर सकता है (12)।

जिस वजह से हम यह कह सकते हैं कि तैलीय त्वचा हो या ड्राई स्किन से जुड़ी परेशानियां, दोनों के लिए ही मैंगो फेस पैक में गुलाब जल का इस्तेमाल करना उपयोगी हो सकता है।

5. आम और बेसन फेस पैक

सामग्री :

  • 2 चम्मच आम का गूदा
  • 1 चम्मच बेसन
  • जरूरत अनुसार पानी या गुलाब जल (वैकल्पिक तौर पर)
  • एक बाउल

उपयोग का तरीका :

  • एक बाउल में आम के गूदे में बेसन में मिलाकर पेस्ट तैयार करें।
  • अगर पेस्ट ज्यादा गाढ़ा है तो इसे पतला करने के लिए इसमें पानी या गुलाब जल मिला सकते हैं।
  • अब इस चेहरे पर लगाएं।
  • फिर सूखने के बाद गुनगुने या सामान्य पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का इस्तेमाल सप्ताह में 1 से 2 बार किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

मैंगो फेस पैक के फायदे अधिक प्रभावी बनाने के लिए इसमें बेसन का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। त्वचा के लिए बेसन के फेस पैक के फायदे कई सारे हैं। कई सालों से बेसन का इस्तेमाल एक प्राकृतिक घरेलू फेस पैक के रूप में किया जाता रहा है। बेसन त्वचा के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं है। यह त्वचा को एक्सफोलिएट करने और छिपी अशुद्धियों को निकालने में सहायक हो सकता है। बेसन चेहरे की रंगत निखारने और त्वचा को मुलायम बनाने में भी मदद कर सकता है। साथ ही, त्वचा पर बेसन का लेप लगाने से त्वचा से अतिरिक्त तेल को कम किया जा सकता है, जो मुंहासों की समस्या का घरेलू उपाय भी साबित हो सकता है (7)। आम और बेसन का यह फेस पैक टैन कम करने के लिए भी उपयोग किया जा सकता है।

6. आम और अंडे का सफेद भाग

सामग्री :

2 चम्मच आम का गूदा
1 अंडा

उपयोग का तरीका :

  • आम के गूदे में अंडा का सफेद भाग (अंडे के अंदर मौजूद सफेद तरल पदार्थ) मिलाएं।
  • फिर दोनों को अच्छे से मिलाकर इस फेस पैक तैयार करें।
  • अब इसे चेहरे पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • अंडे और आम से तैयार इस फेस पैक को सप्ताह में 2 बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे लाभदायक है :

मैंगो फेस पैक की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए इसमें अंडा भी डाला जा सकता है। त्वचा के लिए अंडे के फायदे कई हो सकते हैं। इसका सफेद और पीला दोनों ही हिस्सा लाभकारी माना जा सकता है। अंडे में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम करने में सहायक हो सकते हैं। इसके साथ ही अंडे के सफेद भाग में एंटी एजिंग गुण होते हैं, जो त्वचा पर बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं। शायद यही वजह भी है कि इसका इस्तेमाल कई एंटी एजिंग कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में भी किया जाता है (13)।

इसके अलावा, अंडे की जर्दी (अंडे का पीला भाग) में प्रोटीन और विटामिन होते हैं, जो मुहांसों को कम करने और त्वचा की कोशिकाओं के निर्माण में मदद कर सकते हैं। साथ ही यह रोम छिद्रों को कम करके त्वचा में कसावट लाने में भी मदद कर सकता है (14)। वहीं, आम का उपयोग त्वचा के कोलेजन (Collagen-एक प्रकार का प्रोटीन) के उत्पादन को बढ़ावा दे सकता है (1)। गर्मियों के मौसम में सूरज के हानिकारक किरणों से होने वाले सनबर्न या अन्य समस्याओं से बचाव के लिए यह फेस पैक उपयोगी हो सकता हैं।

7. आम और दूध फेस पैक

सामग्री :

  • 2 बड़ा चम्मच आम का पल्प या छिलके का पेस्ट
  • 2 चम्मच कच्चा दूध या दूध का पाउडर
  • आवश्यकता अनुसार पानी या गुलाब जल (ऑप्शनल)
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के गूदे या छिलके के पेस्ट में दूध को मिलाकर उसका फेस पैक तैयार करें।
  • फिर इस पैक को चेहरे पर लगाएं।
  • जब यह लेप सूख जाए, तो गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का इस्तेमाल हफ्ते में 2-3 दिन किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

कुछ फंगल संक्रमण त्वचा पर मौजूद कैंडिडा जैसे यीस्ट के कारण हो सकते हैं, जो त्वचा की सतह के नीचे घुस जाते हैं और संक्रमण का कारण बन सकते हैं (15)। ऐसे में फंगल संक्रमण से बचाव के लिए आम का छिलका उपयोगी हो सकता है। आम की तरह ही आम का छिलका भी गुणकारी होता है, क्योंकि इसमें एंटी फंगल गुण मौजूद होते हैं (16)। वहीं मैंगो फेस पैक के गुण बढ़ाने में दूध का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। बात करें, त्वचा के लिए दूध के फायदे की, तो दूध में घाव भरने के गुण होते हैं (17)।

वहीं, कच्चे दूध के पाउडर में हाइड्रेटिंग गुण होता है, जो त्वचा में निखार लाने और स्किन को मुलायम बनाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह त्वचा को पोषण प्रदान करने और ड्राई स्किन की समस्या से राहत दिला सकता है (7)। ऐसे में त्वचा संक्रमण से बचाव के लिए यह फेस पैक उपयोगी हो सकता है।

8. आम और गेहूं के आटे का फेस पैक

सामग्री :

  • 2 चम्मच आम का गूदा
  • 1 बड़ा चम्मच गेहूं का आटा
  • एक बाउल

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के गूदे और गेहूं के आटे को मिलाकर फेस पैक बनाएं।
  • इस तैयार किए गए फेस पैक को चेहरे पर लगाएं।
  • फिर 20 मिनट बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

मैंगो फेस पैक बनाने में गेहूं के आटे का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, प्राकृतिक रूप से गेहूं में एजेलेक एसिड (Azelaic Acid) होता है, जो फ्री रेडिकल्स के उत्पादन को कम करने में मदद कर सकता है (18)। इसके अलावा, एक अन्य अध्ययन से यह पुष्टि हुई है कि गेहूं में पाए जाने वाला एजेलेक एसिड युक्त क्रीम हल्के मेलाज्मा की समस्या में लाभकारी पाया गया है। इस अध्ययन के अनुसार, त्वचा पर दिन में दो बार एजेलेक एसिड युक्त क्रीम लगाने से मेलाज्मा को कम किया जा सकता है (19)।

बता दें कि मेलाज्मा त्वचा संबंधी समस्या है, जिसमें त्वचा के उस भाग में भूरे दाग हो सकते हैं, जो सूरज के किरणों के संपर्क में आते हैं (20)। इस आधार पर माना जा सकता है कि त्वचा के दाग-धब्बों को हल्का करने के लिए आम और गेहूं के आटे का यह पैक कुछ हद तक उपयोगी हो सकता है।

9. आम और चीनी का फेस पैक

सामग्री :

  • दो बड़ा चम्मच आम का गूदा
  • एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के गूदे में मुल्तानी मिट्टी मिलाएं और इसका पेस्ट तैयार करें।
  • अब इस तैयार फेस पैक को अच्छे से चेहरे पर लगाएं।
  • सूखने के बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 से 2 बार इस्तेमाल जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

त्वचा के लिए आम के गुणों को बढ़ाने के लिए इसमें चीनी का इस्तेमाल कर सकते हैं। चीनी त्वचा के लिए एक एक्सफोलिएटर और स्क्रब के रूप में काम कर सकती है। इससे त्वचा की डेड स्किन को साफ करने में मदद मिल सकती है। चेहरे पर इसे लगाने के लिए स्पंज का भी इस्तेमाल कर सकते हैं (21)। इसके अलावा, चेहरे की सफाई करने के लिए आम के साथ इस फेस पैक में चीनी के साथ हल्दी का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। चीनी और हल्दी नेचुरल स्क्रब की तरह काम कर सकते हैं (22)।

10. आम, दालचीनी और जायफल का फेस पैक

सामग्री :

  • 2 चम्मच आम का पल्प
  • आधा चम्मच दालचीनी पाउडर या दालचीनी का तेल
  • आधा चम्मच जायफल का पाउडर
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में आम के पल्प में दालचीनी और जायफल का पाउडर मिलाएं।
  • सभी सामग्रियों को अच्छे से मिक्स करने के बाद इसे साफ त्वचा पर लगाएं।
  • जब यह सूख जाए, तो पहले हाथों को गिला करके हल्के हाथों से इसे चेहरे से छुड़ा लें।
  • इसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • फिर चेहरे पर अच्छी क्वालिटी का मॉइश्चराइजर लगा लें।
  • इस फेस पैक का सप्ताह में 1 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

ऊपर बताए गए विभिन्न सामग्रियों के साथ ही दालचीनी और जायफल के साथ भी मैंगो फेस पैक बनाने का तरीका त्वचा के लिए उपयोगी हो सकता है। जैसा कि लेख में हम त्वचा के लिए मैंगो फेस पैक की जानकारी विस्तार से दे ही चुके हैं। वहीं, त्वचा के लिए दालचीनी के फायदे की बात करें, तो इसमें एंटी-टाइरोसिनेस (Anti-Tyrosinase – एक प्रकार का स्किन लाइटनिंग एजेंट) प्रभाव होता है, जो त्वचा की रंगत निखारने में मदद कर सकता है (23)।

अब बात करें जायफल के फायदे की, तो इसका इस्तेमाल न सिर्फ एक मसाले के रूप में किया जाता है, बल्कि त्वचा से जुड़ी समस्याओं का उपचार करने के लिए भी जायफल का इस्तेमाल किया जाता रहा है। वहीं, एक शोध के अनुसार, जायफल का इस्तेमाल त्वचा की रंगत (Skin Whitening) बेहतर करने में भी किया जा सकता है (24)। इसके अलावा, जायफल से बने जेल में एंटीइंफ्लामेटरी प्रभाव होता है, जो इंफ्लामेशन के कारण होने वाली समस्याओं को कम करने में प्रभावी हो सकता है (25)। वहीं, इंफ्लामेशन की समस्या किस तरह त्वचा को प्रभावित कर सकती है, इसकी जानकारी हम पहले ही लेख में दे चुके हैं। ऐसे में त्वचा को निखारने के लिए यह फेस पैक एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

नोट : ऊपर बताए गए किसी भी सामग्री से अगर एलर्जी की समस्या हो तो उसे उपयोग न करें। साथ ही किसी भी फेस पैक के इस्तेमाल से पहले पैच टेस्ट जरूर करें और फेस पैक के उपयोग के बाद मॉइश्चराइजर जरूर लगाएं।

उम्मीद है कि मैंगो फेस पैक के फायदे से जुड़ा हमारा यह लेख आपको पसंद आया होगा। साथ ही इस लेख में बताए गए मैंगो फेस पैक आप अपनी पसंद और सहूलियत के अनुसार इस्तेमाल भी करेंगे। हालांकि, एक बात का ध्यान रखें कि घरेलू उपाय सिर्फ कुछ हद तक ही समस्याओं का समाधान करने में कारगर हो सकते हैं। इसलिए इस लेख में या अन्य घरेलू उपायों को किसी समस्या का पूर्ण उपचार न समझें। अगर कोई भी गंभीर त्वचा संबंधी समस्या है या स्वास्थ्य से जुड़ी किसी स्थिति को लेकर संदेह हो, तो डॉक्टरी परामर्श के साथ उसका उचित उपचार कराना ही समझदारी है। त्वचा और स्वास्थ्य से जुड़े ऐसे ही अन्य लेख पढ़ने के लिए विजिट करते रहें स्टाइलक्रेज की वेबसाइट।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या चेहरे की रंगत निखारने के लिए मैंगो फेस पैक अच्छा है?

त्वचा की रंगत फीकी पड़ने में सनबर्न की समस्या भी एक वजह मानी जा सकती है (26)। वहीं, मैंगो फेस पैक का इस्तेमाल करने से त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाने में मदद मिल सकती है (1)। इसके अलावा, आम के फेस पैक में दूध मिलाकर लगाने से रंगत में निखार आ सकता है।

क्या चेहरे पर मैंगो फेस पैक लगाना अच्छा है?

हां, त्वचा पर मैंगो फेस पैक के फायदे कई हो सकते हैं। त्वचा के लिए मैंगो फेस पैक के फायदे हमने लेख में पहले ही दे दी है। ये फायदे विस्तार से जानने के लिए आप हमारा यह लेख शुरू से अंत तक पढ़ सकते हैं।

आम के कौन से भाग में एंटीफंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं ?

आम के छिलके और बीज में एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं (16)। वहीं, आम के पत्तों में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं (27)। ऐसे में फंगल संक्रमण से बचाव के लिए आम के छिलके या बीज उपयोग लाभकारी हो सकता है।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख