40 टिप्स : अच्छी पत्नी कैसे बनें – 40 Ways How To Become Good Wife

Written by

पति-पत्नी का रिश्ता सात जन्मों का होता है और इस रिश्ते की बुनियाद होते हैं भरोसा, प्यार और ढेरों वादे। शादी के बाद हर स्त्री चाहती है कि वो एक अच्छी पत्नी बन सके, ताकि उसके पति का आंगन हमेशा हंसता-खिलखिलाता रहे। ससुराल में एकमात्र पति ही होता है, जिससे औरत अपना सुख-दुख बांटती है। स्टाइलक्रेज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि अच्छी वाइफ कैसे बने। इस लेख में हमने आदर्श पत्नी के 40 गुण लिखे हैं और कई सारे टिप्स भी दिए हैं। तो इस लेख को पढ़ें और अपनी शादीशुदा जिंदगी को खुशहाल बनाएं।

विषय सूची


विस्तार से पढ़ें

पहले हम बताएंगे कि कैसे एक अच्छी पत्नी बनें।

कैसे एक अच्छी पत्नी बनें – 40 Best Tips To Be A Better Wife

अच्छी वाइफ कैसे बने, ये सवाल हर नई दुल्हन या शादीशुदा स्त्री के मन में एक न एक बार जरूर आता है। एक अच्छी पत्नी बनना आसान नहीं है, हालांकि यह उतना भी मुश्किल काम नहीं है। कहते हैं कि एक औरत चाहे, तो सब कुछ कर सकती है। तो आइये, इस लेख में दिए गए टिप्स को अपनाएं और बन जाएं अपने पति की आदर्श पत्नी।

  1. ईमानदार रहें : एक आदर्श पत्नी की यह सबसे बड़ी खूबी होती है कि वह हर परिस्थिति में अपने पति के प्रति ईमानदार बनी रहती है। किसी भी हाल में वह अपने पति से छल, धोखा और बेवफाई नहीं करती। एक पति के लिए वफा से बड़ा और कीमती तोहफा कुछ नहीं हो सकता।
  2. कीजिए पति का सम्मान : सम्मान पाना हर व्यक्ति का अधिकार है। यदि आप चाहती हैं कि आपका पति आपका सम्मान करें, तो इसके लिए आपको भी उनका सम्मान करना होगा। प्यार और आदर से हर किसी का दिल जीता जा सकता है।
  3. खान-पान का ध्यान : पति के दिल का रास्ता उनके पेट से होकर गुजरता है। चूंकि पति के खान-पान की पूरी जिम्मेदारी एक पत्नी की होती है, तो उसे चाहिए कि वह उनके शरीर का ख्याल रखें और पति को अच्छा और हेल्दी खाना परोसें।
  4. प्यार जताएं : कई पति-पत्नी यूं तो बड़े प्यार में होते हैं, लेकिन अक्सर तमाम जिम्मेदारियों और भागदौड़ के बीच वे उस प्यार को भूल जाते हैं और उसे जाहिर नहीं कर पाते हैं। अगर आप भी ऐसा कर रही हैं, तो जरा रुकिए। समय निकालें और रोजाना अपने पति को अपने दिल में छिपे प्यार का एहसास दिलाएं।
  5. तारीफ में कमी न करें : तारीफ हर इंसान को पसंद होती है। इससे आत्मविश्वास भी बढ़ता है, इसलिए समय-समय पर अपने पति के कार्यों, उनके लुक्स, उनकी पसंद आदि की तारीफ करें और उन्हें स्पेशल फील कराएं
  6. उनकी भी सुनिए : काम से थक-हार कर जब आपका पति घर आए, तो अपनी दिनभर की कहानी उनके सामने मत शुरू कर दीजिए। कई पत्नियां ऐसा ही करती है, जबकि आपको उनकी सुननी चाहिए। उन्होंने दिनभर क्या किया या किससे मिले ये जानिए। इससे उन्हें लगेगा कि आपको उनके जीवन में दिलचस्पी है और यकीनन उन्हें यह अच्छा लगेगा।
  7. झगड़ा नहीं है समाधान : झगड़े-नोकझोंक के बिना कोई रिश्ता पूरा नहीं होता, लेकिन याद रखें झगड़ा किसी भी समस्या का समाधान नहीं हो सकता। अनबन होने पर शांति से बैठकर बात करें और चीजें सुलझाने की कोशिश करें। बातचीत बंद कर विवाद को बढ़ावा न दें। छोटे-छोटे विवाद कई बार रिश्ते में बड़ी कड़वाहट छोड़ जाते हैं।
  8. हर रिश्ते का सम्मान : शादी के बाद हर लड़की का जीवन पूरी तरह से बदल जाता है। ससुराल में उससे कई अंजान रिश्ते जुड़ जाते हैं, जिसे उसे ताउम्र निभाना पड़ता है। एक अच्छी वाइफ अपने पति से जुड़े हर रिश्ते का बखूबी सम्मान और आदर करती है। ऐसा करने से पति इंप्रेस होते हैं
  9. सच का साथ न छोड़ें : पति-पत्नी जीवन भर के साथी होते हैं। अगर आप चाहती हैं कि ये रिश्ता खुशी-खुशी चलता रहे, तो हमेशा सच बोलें। अपने पति से कुछ न छिपाएं। हो सकता है कि कोई सच सुनकर उन्हें बुरा लगे, लेकिन वक्त के साथ उन्हें यह एहसास जरूर होगा कि कम से कम आपने उन्हें धोखे में नहीं रखा।
  10. दिखावा और बनावटीपन से बचें : परफेक्ट वाइफ बनने के लिए आपको किसी तरह का दिखावा करने की जरूरत नहीं है। आप व्यक्तिगत तौर पर जो हैं, जैसी हैं, वैसी ही बनी रहें। बस परिस्थिति और अपने आस-पास के लोगों के हिसाब से खुद को थोड़ा ढाल लीजिए, जीवन आसान हो जाएगा।

लेख पढ़ते रहें

  1. अपनी इच्छाओं को न दबाएं : पति भी चाहते हैं कि उनकी पत्नी अपनी जरूरतों और इच्छाओं के बारे में उनसे खुलकर बात करें। यदि आपको कोई चीज नहीं पसंद या आपके मन में कुछ बात चल रही है, तो इस बारे में अपने पति से बात कीजिए। आपकी यह पारदर्शिता आपके पति को जरूर पसंद आएगी।
  2. एक-दूसरे के साथ एंजॉय कीजिए : सुखी जीवन के लिए हर पति-पत्नी को चाहिए कि वे एक-दूसरे के साथ एंजॉय करना सीखें। अच्छी वाइफ बनने के लिए कभी उन कार्यों को भी करें जिससे आपके पति को खुशी मिले। जैसे उनके साथ वीडियो गेम खेलना या एक्सरसाइज करना आदि।
  3. अपने रिश्ते को अहमियत दें : शादी के बाद पति से ही एक स्त्री का हर रिश्ता जुड़ा होता है। जीवन भर के लिए उसकी पहचान बदल जाती है। अच्छी पत्नी हमेशा अपनी शादी को महत्व देती है और प्राथमिकता मानते हुए उसे निभाती है।
  4. छोटे पलों को खास बनाएं : दिनभर की व्यस्त दिनचर्या के बीच रोजाना अपने पति के लिए समय निकालें। छोटे-छोटे पलों में जीना सीखें। शाम के एक साथ चाय पियें या डिनर के बाद वॉक पर जाएं, इससे पति-पत्नी का रिश्ता मजबूत बनेगा
  5. गलतियों पर माफी मांगे : एक अच्छी वाइफ की ये खासियत होती है कि वह हर झगड़े के बाद अपने पति के सॉरी बोलने का इंतजार नहीं करती। यदि आपको लगता है कि आपकी गलती है, तो बिना देर किए माफी मांग लीजिए, आप दोनों का साथ बना रहेगा।
  6. जिम्मेदारियां बांटना सीखें : अपने वैवाहिक और पारिवारिक जीवन की जिम्मेदारियों को आपस में बांटना एक आदर्श पत्नी की निशानी है। हर कार्य के लिए अपने पति पर आश्रित न रहें।
  7. हर जरूरत का ध्यान दें : सुखी दांपत्य जीवन के लिए एक अच्छी पत्नी को चाहिए कि वह अपने पति की हर छोटी-बड़ी जरूरत का पूरा ख्याल रखें। उनके खान-पान, पहनावे व अन्य जरूरी चीजों पर पूरा ध्यान दें। केयरिंग पत्नियां पतियों को खूब भाती हैं।
  8. प्यार बरकरार रखें : जीवन कभी एक समान नहीं रहता। यहां सुख-दुख लगे रहते हैं। एक अच्छी पत्नी के दिल में उसके पति के लिए प्यार कभी कम नहीं होता, बल्कि बदलते समय के साथ वह और गहरा होता चला जाता है।
  9. सहारा बनिए : एक आदर्श पत्नी बुरे वक्त में अपने पति का सहारा बनती है। जब सुख में आप दोनों साथ हंसे थे, तो पति पर दुख या विपदा आने पर उनकी ढाल बनिए और उनके साथ खड़े रहिए। इससे उन्हें हिम्मत मिलेगी।
  10. हमेशा हंसते-मुस्कुराते रहिए : सुबह-सुबह पत्नी की एक प्यारी-सी मुस्कुराहट पति का दिन बनाने के लिए काफी है। साथ ही कोशिश करें कि घर में हमेशा हंसता-खिलखिलाता माहौल रहे, ताकि जब पति थक कर काम से घर लौटे और घर का वातावरण देखें, तो उसकी सारी थकान दूर हो जाए।
  11. साथ फैसले लें, थोपें नहीं : परिवार आपसी सहमति और सूझबूझ से चलता है। इसलिए, घर-परिवार से जुड़े फैसले पति और पत्नी को साथ में लेने चाहिए न कि एक-दूसरे पर अपने फैसले थोपने चाहिए। परफेक्ट वाइफ वो होती हैं, जो अपने पति के साथ बैठकर हर फैसले में अपनी राय शामिल करें।

पढ़ते रहें आदर्श पत्नी बनने के टिप्स

  1. पार्टनर को बदलने की कोशिश न करें : हर व्यक्ति अलग होता है। सभी की अपनी एक सोच, मानसिकता और विचारधारा होती है। अच्छी पत्नी कभी अपने पति को बदलने की कोशिश नहीं करती, बल्कि उनकी व्यक्तिगत पसंद को समझते हुए उनका सम्मान करती है। दांपत्य जीवन में कभी अपने पार्टनर को बदलने की कोशिश न करें।
  2. सबसे अच्छी दोस्त बनें : शादी के बंधन में बंधते ही जीवन अचानक से बदल जाता है। पति को पत्नी के रूप में नई दोस्त मिलती है और पत्नी को भी पति के रूप में नया दोस्त मिलता है। कोशिश करें कि अपने पति की अच्छी दोस्त बनें, ताकि वो आपसे हर छोटी-बड़ी बात शेयर कर सकें।
  3. खास मौकों को सेलिब्रेट करें : एनिवर्सरी और बर्थडे पर सरप्राइज प्लान करना या गिफ्ट देना ये जिम्मेदारी केवल पति की ही नहीं होती है। खास मौकों पर अपने पति के लिए स्पेशल सेलिब्रेशन करके भी आप एक अच्छी पत्नी बन सकती हैं।
  4. आर्थिक संतुलन बरकरार रखें : पुरुषों को वैसी स्त्रियां खूब पसंद आती हैं, जो जीवन में पैसे का महत्व समझती हैं। पति जितना कमाए और घर चलाने के लिए जितने पैसे दे, उतने में घर चलाना एक आदर्श पत्नी की निशानी होती है।
  5. स्पेस दें, ज्यादा सवाल-जवाब न करें : व्यक्तिगत आजादी हर इंसान को प्यारी होती है। यदि आपका पति अपने दोस्तों के साथ बाहर जाता है या घूमता है, तो ज्यादा को रोक-टोक न करें। उन्हें स्पेस दें। इससे रिश्ता लंबे समय तक कायम रहेगा।
  6. उनके सपनों को अहमियत दें : हर कामयाब पुरुष के पीछे एक स्त्री का हाथ होता है। एक अच्छी पत्नी हमेशा इस कोशिश में रहती है कि वह अपने पति के हर सपने को पूरा करने में उसका पूरा सहयोग करें।
  7. स्पेशल फील कराएं : अपने पति को स्पेशल फील करवा कर भी आप एक आदर्श पत्नी बन सकती हैं। जैसे उन्हें मैसेज करके पूछे कि उन्होंने खाना खाया या नहीं, घर कब तक लौटेंगे आदि। इन छोटी कोशिशों से आपके पति को जरूर अच्छा लगेगा।
  8. मस्ती-मजाक बरकरार रखें : कई हसबैंड चाहते हैं कि उनकी वाइफ का सेंस ऑफ ह्यूमर अच्छा हो, ताकि जीवन में बोरियत न आए। पत्नी केवल घर का कामकाज ही न संभाले या केवल ऑफिस का ही काम न करें, बल्कि मस्ती-मजाक भी करें।

पढ़ना जारी रखें

  1. पति से की गई जरूरी बातों को किसी से शेयर न करें : एक आदर्श पत्नी कभी भी अपने दांपत्य जीवन की जरूरी बातें अपने दोस्तों या घरवालों को नहीं बताती है। पति के साथ आपकी क्या बात हुई, आप दोनों के बीच क्या चल रहा है, इसकी चर्चा इधर-उधर न करें। ये लड़ाई और दूरी का कारण बन सकता है।
  2. भरोसे पर आंच न आने दें : पति के लिए पत्नी सबसे अधिक भरोसे की पात्र होती है। वह हर बात आपसे शेयर करते हैं, इसलिए कभी इस भरोसे को टूटने न दें। हर परिस्थिति में पति की विश्वासी बने रहना एक आदर्श पत्नी का फर्ज है।
  3. गलत करने पर रोकें : एक अच्छी पत्नी होने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आप अपने पति के गलत काम में उनका साथ दें या उनकी गलतियों पर पर्दा डालें। आपका पति अगर कुछ गलत कर रहा है या आपको उनकी कुछ आदतें गलत लगती हैं, तो उनसे इस बारे में स्पष्ट बात कीजिए। उन्हें रोकिए न कि उनकी जिंदगी बर्बाद होने दीजिए।
  4. मन की सुंदरता को महत्व दें : रंग-रूप से ऊपर उठ कर गुण को महत्व दीजिए। एक आदर्श पत्नी केवल बाहरी चकाचौंध के पीछे नहीं भागती, बल्कि मन की सुंदरता को पहचानती है। हर पति को यह कला खूब भाती है।
  5. गृहस्थ संसार में रुचि लें : शादी के बाद एक स्त्री खुद से ज्यादा अपने परिवार वालों, पति और बच्चे के बारे में सोचती है। एक आदर्श पत्नी में यह गुण जरूर देखने को मिलता है। वह गृह कार्यों में रुचि लेती है।
  6. प्राथमिकता तय करें : हर स्त्री को चाहिए कि जब उसका पति उसके इर्द-गिर्द हो, तो वह उसे महत्व दे, उससे बात करें। ऐसा न करें कि पति की मौजूदगी में भी फोन पर लगी रहें या इधर-उधर पड़ोसियों से बात करती रहें।
  7. धर्म के कार्यों में रुचि लें : आदर्श पत्नी धर्म के कार्यों में रुचि लेती है। वह भगवान से पति की अच्छी सेहत की कामना करती है। रोज पूजा-पाठ करती है, ताकि घर में शांति और संपदा बरकरार रहे।
  8. पति की सेवा करें : शादी के बाद पति अपनी हर छोटी-बड़ी जरूरतों के लिए पत्नी पर निर्भर होता है। अच्छी पत्नी की यह खूबी होती है कि वह पतिव्रता होती है और पति की मौजूदगी में उसकी सेवा के लिए हमेशा तैयार रहती है।
  9. रोमांस की पहल करें : रोमांस की पहल करने में महिलाएं अक्सर संकोच महसूस करती हैं। जरूरी नहीं है कि हर बार पति ही पहल करें, पत्नी भी शुरुआत कर सकती है। पति-पत्नी के जीवन में रोमांस हमेशा बरकरार रहना चाहिए।
  10. सास-ससुर की सेवा : एक आदर्श पत्नी अपने सास-ससुर की सेवा भी करती है। पत्नी द्वारा सास-ससुर की सेवा करते देख पति को काफी खुशी का अनुभव होता है। उन्हें यह महसूस होता है कि उन्होंने एक सही जीवनसाथी का चयन किया है।
  11. आलोचना करने से बचें : पति-पत्नी को एक-दूसरे की आलोचना करने से बचना चाहिए। यदि आपको आपके पति की कोई आदत बुरी लगे, तो सब के सामने उनकी आलोचना न करें। अकेले में उन्हें उनकी गलती बताएं।

नीचे स्क्रॉल करें

लेख के अगले भाग में जानिए कि आदर्श पत्नी को क्या करना चाहिए और क्या करने से बचना चाहिए।

आदर्श पत्नी : क्या करें और क्या न करें – Do’s and Don’ts

ऊपर हमने आपको बताया कि अच्छी वाइफ कैसे बनें और इसके लिए कई सारे टिप्स भी दिए। आगे हमने लिखा है कि एक आदर्श पत्नी को क्या चीजें करनी और क्या चीजें नहीं करनी चाहिए, तो इसे भी जरूर पढ़ें।

आदर्श पत्नी : क्या करें

  • आदर्श पत्नी समझदारी से परिस्थिति से निपटती है। विवादों को बातचीत कर सुलझाने की कोशिश करें।
  • किसी भी कार्य में पहल के लिए हर बार पति पर आश्रित न करें। खुद भी शुरुआत की सोचें।
  • पति की जिम्मेदारियों में सहयोग करना भी एक अच्छी पत्नी की निशानी है। घर व बाहर के कार्यों को आपस में बांटे। इससे पति आपके और करीब आ जाएंगे।
  • गुस्से के समय वाणी पर नियंत्रण रखें, ताकि आपके मुंह से कुछ ऐसा न निकल जाए जिसके लिए आपको बाद में अफसोस हो।
  • आदर्श पत्नी अपने पति के घर संसार और उसकी खुशियों को दोगुना करती है। अत: रोजाना इस दिशा में सोचें और कार्य करें।
  • पति के लिए समय निकालें और उनकी सुनें। पति-पत्नी के रिश्ते को प्राथमिकता दें। सम्मान करना न भूलें।

आदर्श पत्नी : क्या न करें

  • मामूली बातों को बढ़ने न दें। लड़ाई-झगड़ा करने की बजाए प्यार से बैठकर हल निकालने की कोशिश करें।
  • अपने पति की बातों को हल्के में न लें, उन्हें दरकिनार न करें। अच्छी पत्नी का कर्तव्य है कि वह अपने पति को समझने की कोशिश करें।
  • किसी भी परिस्थिति में अपने पति का अनादर व अपमान न करें। अगर उनकी कोई बात आपको नहीं पसंद आ रही है, तो अकेले में समझाएं, बुरा-भला कहने से बचें।
  • किसी कार्य के लिए दबाव न डालें। अगर आपके पति आपकी इच्छा अनुसार कोई काम करने में सहज नहीं हैं, तो आपको उन पर दबाव नहीं डालना चाहिए।
  • वैवाहिक संबंधों में आ रही परेशानियों की चर्चा पहले पति से करें। आपस में बातचीत से समाधान न होने पर आप किसी करीबी से अपनी समस्या शेयर कर सकती हैं।
  • आदर्श पत्नी बनने की चाहत में अपना व्यक्तित्व न खोने दें। अपने सपनों व अपनी सोच को भी उतना ही महत्व दें जितना आप अपने पति व बच्चों के सपनों को देती हैं।
  • एक हेल्दी रिश्ते के लिए यह बहुत जरूर है कि आप किसी अन्य रिश्ते से अपने रिश्ते की तुलना न करें। हर व्यक्ति व संबंध अलग होता है। अपने रिश्ते की लगातार तुलना करने से आपका रिश्ता कमजोर हो सकता है।

दोस्तों, पति-पत्नी के मधुर व तनावपूर्ण संबंधों का असर उनसे जुड़े हर रिश्ते-नाते पर पड़ता है। इसलिए, बहुत जरूर है कि इस खास रिश्ते में ढेर सारा प्यार और सम्मान बरकरार रहे। इस लेख में हमने आपको बताया कि अच्छी वाइफ कैसे बने। साथ ही हमने यह भी बताया कि एक आदर्श पत्नी को क्या नहीं करना चाहिए, तो इन सभी बातों का ध्यान रखें और एक आदर्श पत्नी बनकर अपनी शादीशुदा जिंदगी को खुशहाल बनाएं। हमें पूरी उम्मीद है कि ऊपर दिए गए टिप्स आपको जरूर पसंद आए होंगे।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

एक पत्नी में क्या गुण होने चाहिए?

आदर्श पत्नी संस्कारवान होनी चाहिए। अपने पति के सुख-दुख में साथ देने वाली और उसे समझने वाली होनी चाहिए। साथ ही एक पत्नी गृह कार्यों में रुचि लेने वाली होनी चाहिए। अच्छी पत्नी कैसे बनें, ये जानने के लिए ऊपर लिखे गए टिप्स फॉलो करें।

पुरुष एक पत्नी में क्या चाहते हैं?

पति अपनी पत्नी से बस इतनी आशा रखता है कि वह उसका और उसके परिवार वालों का ध्यान रखें। सबसे प्यार से बात करे। घर-परिवार को जोड़े रखे और हर परिस्थिति में अपने पति के साथ खड़ी रहे।

एक अच्छी पत्नी को क्या करना चाहिए?

अच्छी पत्नी को अपने पति का आदर-सम्मान करना चाहिए। पति को प्यार करना चाहिए और उसका ख्याल रखना चाहिए। एक अच्छी वाइफ अपने पति की जरूरतों को उसके कहने से पहले ही समझ जाती है।

पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत कैसे बनाएं?

पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए खुल कर आपस में बात करें। लड़ाई-झगड़े को जल्द से जल्द सुलझाए। एक-दूसरे को समय दें और समझें। केवल प्यार करना काफी नहीं है, भावनाओं को जुबां पर लाएं और प्यार जताएं।

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

ताज़े आलेख