अखरोट के तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान – Walnut Oil Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by

शरीर को सेहतमंद बनाए रखने के लिए अखरोट का उपयोग लाभकारी माना जाता है। यह एक ऐसा नट है, जिसके स्वास्थ्य लाभ से अमूमन सभी परिचित होंगे। इसके गुण कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाव का काम भी कर सकते हैं (1)। सिर्फ अखरोट ही नहीं, बल्कि इसका तेल भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि शरीर के साथ, त्वचा और बालों को स्वस्थ बनाए रखने में अखरोट के तेल के फायदे किस तरह काम करते हैं। हालांकि, ये फायदे लेख में बताई गई समस्याओं के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन ये इनका इलाज नहीं है। अखरोट के तेल के नुकसान से बचने के लिए इस लेख में इसके उपयोग के सही तरीके भी बताए गए हैं।

लेख के सबसे पहले भाग में जानिए अखरोट का तेल किस तरह फायदेमंद हो सकता है।

अखरोट के तेल के फायदे – Benefits of Walnut Oil in Hindi

अखरोट के तेल का उपयोग स्वास्थ्य के लिए कई तरह से लाभदायक हो सकता है। इस तेल पर ऐसे कई शोध हुए हैं, जिनकी वजह से यह कहा जा सकता है कि इसका उपयोग सेहत के साथ त्वचा और बालों के लिए भी फायदेमंद है। अखरोट के तेल की 100 ग्राम की मात्रा में लगभग 3699 किलोजौल ऊर्जा पाई जाती है, जिसकी वजह से यह शरीर में ऊर्जा बढ़ाने और बनाए रखने में मदद कर सकता है (2)। इसके और भी शारीरिक फायदे हैं, जिन्हें नीचे बताया गया है।

तो आइए जानते हैं कि सेहत के लिए अखरोट के तेल के फायदे क्या हैं और यह किस प्रकार काम करता है।

सेहत/स्वास्थ्य के लिए अखरोट के तेल के फायदे – Health Benefits of Walnut Oil in Hindi

1. हृदय रोग का खतरा करे कम

मधुमेह, हृदय रोग के मुख्य कारणों में गिना जाता है। टाइप 2 डायबिटीज का खतरा दुनिया में तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में, अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करना जरूरी है, जो मधुमेह को नियंत्रित करने में और हृदय को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इसके लिए अखरोट के तेल का उपयोग एक अच्छा विकल्प हो सकता है। इसमें मौजूद पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और अल्फा लिनोलेनिक एसिड खून में शुगर का स्तर कम करने में मदद कर सकते हैं और इस वजह से होने वाले हृदय रोग के खतरे को कम करने में मदद मिल सकती है (3)।

2. रक्त वाहिका की कार्यप्रणाली करे बेहतर

शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए रक्त का संचार सही तरीके से होना जरूरी है और इसके लिए रक्त वाहिका (शरीर में रक्त का संचार करने वाली नलियां) का स्वस्थ होना जरूरी है। ऐसे में अखरोट के तेल का उपयोग लाभदायक हो सकता है। दरअसल, अखरोट में लिनोलिक एसिड पाया जाता है, जिसका सेवन रक्तचाप को नियंत्रित करने में और रक्त प्रवाह को बेहतर बनाने (Vascular Resistance) में मदद कर सकता है। माना जाता है कि ये फैटी एसिड दिल को स्वस्थ बनाए रखने में बहुत लाभकारी होते हैं। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायो टेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में यह भी पाया गया है कि आहार में अखरोट और अखरोट का तेल के फायदे रक्तचाप को नियंत्रित करने और रक्त प्रवाह को बेहतर बनाने के साथ हृदय के मस्कुलर टिश्यू (मायोकार्डियम) के लिए भी लाभदायक हो सकते हैं (4)।

3. वजन नियंत्रित करे

वजन को नियंत्रित करने में अखरोट के तेल के फायदे देखे जा सकते हैं। इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाए जाते हैं। अखरोट के तेल में लगभग 10.4 प्रतिशत ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है और यह बाकी नट्स की तुलना में सबसे ज्यादा है (5)। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर ऑफ बायो-टेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) के एक शोध में इस बात की पुष्टि की गई है कि ओमेगा फैटी एसिड और अन्य सैचुरेटेड एसिड वजन कम करने में मदद कर सकते हैं और बाकी फैटी एसिड की तुलना में ओमेगा-3 शरीर के फैट-फ्री मास लॉस (फैट के अलावा सभी मांसपेशियां, कनेक्टिव टिश्यू, आतंरिक अंग आदि) पर प्रोटेक्टिव प्रभाव दिखा सकता है (6)।

लेख के अगले भाग में जानिए कि त्वचा के लिए अखरोट के तेल के फायदे किस प्रकार काम करते हैं।

त्वचा के लिए अखरोट के तेल के फायदे – Skin Benefits of Walnut Oil in Hindi

1. झुर्रियां कम करे

स्वस्थ और जवान त्वचा कौन नहीं चाहता, लेकिन कई बार वातावरण में मौजूद प्रदूषित कारकों और फ्री रेडिकल्स की वजह से त्वचा पर उम्र से पहले झुर्रियां पड़ने लगती हैं। ऐसे में, अखरोट के तेल के फायदे देखे जा सकते हैं। यह अपने एंटीएजिंग और एंटी रिंकल प्रभावों के लिए जाना जाता है। यह फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम करके त्वचा से झुर्रियां कम करने में मदद कर सकता है। साथ ही यह त्वचा की नमी बनाए रखने के भी सक्षम है (7)। अखरोट के तेल का उपयोग करने के लिए इस तेल की कुछ बूदों से चेहरे की मसाज की जा सकती है।

2. संक्रमण का उपाय

अखरोट के तेल का उपयोग कई तरह के संक्रमण से आराम पाने के लिए किया जा सकता है, क्योंकि ये एक नहीं, बल्कि छह तरह के बैक्टीरिया को खत्म करने का काम कर सकता है। एक शोध में पाया गया है कि अखरोट के तेल में प्रभावशाली एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं, जो संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर के त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकते हैं (8)। संक्रमण से आराम पाने के लिए अखरोट के तेल का उपयोग उसे संक्रमित जगह पर लगा कर किया जा सकता है।

3. प्रभावशाली एंटीऑक्सीडेंट

अखरोट का तेल एक अति प्रभावशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में भी काम कर सकता है। दरअसल, अखरोट में कुछ ऐसे कंपाउंड पाए जाते हैं, जैसे जगलोन, जो शरीर में कुछ फायदेमंद फ्री रेडिकल्स बनाते हैं। ये फ्री रेडिकल्स शरीर में मौजूद हानिकारक फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम करते हैं और शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इस प्रकार अखरोट के तेल के फायदे शरीर में एक एंटीऑक्सीडेंट वातावरण तैयार करते हैं, जिससे फ्री रेडिकल्स के दुष्प्रभावों को कम करने में मदद मिल सके। इसके लिए आहार में अखरोट के तेल को शामिल किया जा सकता है और उसका दैनिक तौर पर उपयोग किया जा सकता है (8)।

सेहत और त्वचा के बाद अब जानिए बालों के लिए अखरोट के तेल के फायदे।

बालों के लिए अखरोट के तेल के फायदे – Hair Benefits of Walnut Oil in Hindi

1. बालों का झड़ना कम करे

बढ़ती उम्र और पोषक तत्वों की कमी बालों के झड़ने का कारण बन सकते हैं। इनके साथ अन्य कारण जैसे प्रदूषण, यूवी किरणों की वजह से होने वाला ऑक्सीडेटिव तनाव और फ्री रेडिकल्स का प्रभाव भी बालों के झड़ने का कारण बन सकते हैं (9)। इनसे आराम पाने के लिए एक प्रभावी एंटीऑक्सीडेंट की जरूरत पड़ती है और ऐसे में अखरोट का तेल काम आ सकता है। जैसा की हम लेख में पहले भी बता चुके हैं कि अखरोट के तेल के फायदे में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी आता है, जो फ्री रेडिकल्स के प्रभाव और उनसे होने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद कर सकता है (8)।

2. रूसी से निजात

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज एंड रिसर्च द्वारा प्रकाशित एक शोध में यह पाया गया है कि अखरोट के तेल का उपयोग रूसी और उसकी वजह से हो रहे हेयरफॉल से आराम पाने में किया जा सकता है। माना जाता है कि अखरोट में जिंक पाया जाता है, जो स्कैल्प में आवश्यक तेल का उत्पादन करने में मदद करता है और रूसी से निजात पाने में लाभदायक साबित हो सकता है। इसके लिए स्कैल्प में अखरोट के तेल से मालिश करना फायदेमंद साबित हो सकता है (10)।

3. बालों को बढ़ने में करे मदद

अखरोट में मौजूद पोषक तत्वों की वजह से अखरोट के तेल का उपयोग बालों को बढ़ने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद आयरन रक्त प्रवाह और ऑक्सीजन संचार को बेहतर बनाता है, जिससे बालों को बढ़ने में मदद मिल सकती है। जिंक भी रूसी की वजह से होने वाले हेयरलॉस को कम करने में मदद कर सकता है और कॉपर बालों को फिर से उगाने में लाभकारी साबित हो सकता है। बालों को बढ़ाने के लिए अखरोट के तेल के फायदे उससे स्कैल्प में मसाज कर के उठाए जा सकते हैं (10)।

अखरोट के तेल के फायदे जानने के बाद लेख के अगले भाग में जानिए इसमें मौजूद पोषक तत्वों के बारे में।

अखरोट के तेल के पौष्टिक तत्व – Walnut Oil Nutritional Value in Hindi

अखरोट के तेल में नीचे दिए गए पोषक तत्व पाए जाते हैं (11) :

पोषकतत्वमात्राप्रति 100 ग्राम
ऊर्जा884 कैलोरी
ऊर्जा3699 किलोजूल
विटामिन
कोलीन0.4 मिलीग्राम
विटामिन-ई0.4 मिलीग्राम
विटामिन-के15 माइक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड9.1 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड22.8 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड63.3 ग्राम

फायदे और पोषक तत्वों के बाद, आगे जानिए कि अखरोट के तेल का उपयोग किस तरह किया जा सकता है।

अखरोट के तेल का उपयोग – How to Use Walnut Oil in Hindi

सेहत के लिए अखरोट के तेल का उपयोग :

खाने में इसका सेवन सलाद में किया जा सकता है। सलाद में सिरके और सीजनिंग (ओरेगेनो या थाइम) के साथ अखरोट के तेल को भी मिलाया जा सकता है। सलाद की मात्रा के अनुसार आधे से एक चम्मच तक अखरोट का तेल सलाद में मिलाया जा सकता है।

त्वचा के लिए अखरोट के तेल का उपयोग :

त्वचा के लिए अखरोट के तेल की दो से तीन बूंदे लें। अब उंगलियों की मदद से इससे चेहरे पर मसाज करें। आप चाहें तो इसकी दो से तीन बूंद अपने फेस पैक में भी मिला सकते हैं।

बालों के लिए अखरोट के तेल का उपयोग :

बालों के लिए इसके फायदे उठाने के लिए अखरोट के तेल से स्कैल्प की मसाज की जा सकती है। आप चाहें तो इसकी कुछ बूंदे नारियल के तेल में मिलाकर स्कैल्प की मालिश कर सकते हैं।

आइए, अब आपको बताते हैं कि घर पर अखरोट का तेल बनाने की विधि।

अखरोट के तेल बनाने की विधि

घर पर अखरोट का तेल, नीचे बताई गई विधि की मदद से बनाया जा सकता है।

सामग्री :

  • तीन चौथाई कप साबुत अखरोट
  • डेढ़ कप वेजिटेबल ऑयल

विधि :

  • सबसे पहले माइक्रोवेव को 350 डिग्री पर प्रीहीट करने रख दें।
  • अब पैन में पानी को उबालने रखें और जब पानी में उबाल आ जाए तो उसमें अखरोट डाल दें।
  • लगभग तीन मिनट उबलने के बाद पानी को छान दें।
  • उबले हुए अखरोट को बेकिंग शीट पर रखें। ध्यान रखें कि कोई भी अखरोट एक के ऊपर एक न रखा हो।
  • अब अखरोट को सुनहरा-भूरा होने तक बेक होने रख दें। लगभग 10 से 15 मिनट के बीच में एक बार अखरोट को हिला सकते हैं, ताकि नीचे का भाग भी बेक हो जाए।
  • सुनहरा-भूरा हो जाने पर अखरोट को माइक्रोवेव से निकालें और थोड़ा ठंडा होने के लिए बाहर रख दें।
  • अब अखरोट को एक प्लास्टिक जिप बैग में डाल कर, बेलन की मदद से कूट लें।
  • ध्यान रहे कि उनका पाउडर न बनाएं।
  • अब एक जार में अखरोट के टुकड़े और वेजिटेबल ऑयल को मिला कर रख दें।
  • जब तेल का रंग बदल कर हल्का गहरा हो जाए, तो अखरोट को जार से निकाल लें।
  • अखरोट का तेल बनाने की विधि पूरी होने के बाद, यह उपयोग के लिए तैयार है।

लेख के आखिरी भाग में आप जानेंगे अखरोट के तेल के नुकसान के बारे में।

अखरोट के तेल के नुकसान – Side Effects of Walnut Oil in Hindi

अखरोट के तेल के स्वयं में कोई नुकसान नहीं है, लेकिन जिन लोगो को नट एलर्जी है और अखरोट खाने से एलर्जी है, उन्हें अखरोट के तेल के नुकसान भी हो सकते हैं, जैसे (12) :

  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • होठों में सूजन
  • त्वचा पर रैशज और खुजली
  • नाक बहना
  • गला बैठना
  • पेट में दर्द और मरोड़
  • मलती और उल्टी

कुछ मामलों में अखरोट या अखरोट के तेल के नुकसान बहुत ज्यादा हो सकते हैं, जैसे (12):

  • सांस लेते समय आवाज आना या सांस लेने में समस्या।
  • गले में सूजन और जकड़न।
  • बात करने में समस्या या आवाज में भारीपन आना।
  • लंबे समय तक जुखाम रहना या सांस लेते समय आवाज आना।
  • लगातार नींद आना और शरीर का संतुलन बनाए रखने में समस्या होना।

दोस्तों, अखरोट एक ऐसा नट है, जिसका उपयोग बहुत लाभकारी है। लेकिन सही ढंग से उपयोग न करने से इसके नुकसान भी हो सकते हैं। यही बात इससे बने तेल पर भी लागू होती है। इस लेख से आप यह समझ गए होंगे कि अखरोट के तेल के फायदे स्वास्थ्य, त्वचा और बालों के लिए किस तरह लाभदायक हो सकते हैं। इन फायदों के साथ आपने अब घर पर अखरोट का तेल बनाने की विधि के बारे में भी जान लिया है। ध्यान रखें कि इसका सेवन नियंत्रित मात्रा में ही करें और अगर आपको अखरोट के तेल के नुकसान के कोई भी लक्षण महसूस हों तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। अखरोट के तेल से जुड़ा कोई भी सवाल आप नीचे कमेंट बॉक्स में जरिए हमसे पूछ सकते हैं।

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Soumya Vyas

सौम्या व्यास ने माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीएससी किया है और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बेंगलुरु से टेलीविजन मीडिया में पीजी किया है। सौम्या एक प्रशिक्षित डांसर हैं। साथ ही इन्हें कविताएं लिखने का भी शौक है। इनके सबसे पसंदीदा कवि फैज़ अहमद फैज़, गुलज़ार और रूमी हैं। साथ ही ये हैरी पॉटर की भी बड़ी प्रशंसक हैं। अपने खाली समय में सौम्या पढ़ना और फिल्मे देखना पसंद करती हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch