सामग्री और उपयोग
Stylecraze

आमचूर के 10 फायदे और नुकसान – Amchur (Mango Powder) Benefits and Side Effects in Hindi

by
आमचूर के 10 फायदे और नुकसान – Amchur (Mango Powder) Benefits and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 August 20, 2019

घरेलू मसालों में हम कई प्रकार की चीजों का इस्तेमाल करते हैं। मसाले न केवल भोजन को स्वाद और सुगंध प्रदान करते हैं, बल्कि कई पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने का भी काम करते हैं। इन्हीं मसालों में से एक है आमचूर। अपने औषधीय गुणों के कारण यह कई बीमारियों से निजात दिलाने में कारगर माना जा सकता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख के माध्यम से हम आपको आमचूर पाउडर के ऐसी ही कई चमत्कारिक गुणों और फायदों के बारे में जानकारी देंगे।

आमचूर के फायदे को जानने से पहले जरूरी होगा कि हम यह जान लें कि आमचूर क्‍या है।

आमचूर क्‍या है? – What is Amchur in Hindi

घरेलू मसालों में आमचूर का इस्तेमाल नियमित रूप से किया जाता है। बता दें कि यह आम का चूरा यानी पाउडर है। इसे आम को सुखाने के बाद पीसकर तैयार किया जाता है। वैसे तो बाजार में आसानी से बना बनाया आमचूर मिल जाता है, लेकिन आप चाहें तो इसेे घर में भी इसे तैयार कर सकते हैं। आपको करना बस इतना है कि कच्चे आम को छीलकर दो-चार दिन धूप में सूखने रख दें। साथ ही कीड़ों से बचाने के लिए आप इन पर हल्दी जरूर लगाएं। अच्छी तरह सूख जाने के बाद आप इन्हें मिक्सर में पीस लें। पीसने के बाद आपका आमचूर तैयार हो जाएगा।

आमचूर क्या है यह जानने के बाद आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में।

आमचूर पाउडर के फायदे – Benefits of Amchur Powder in Hindi

1. वजन घटाने में आमचूर के फायदे

Benefits of Mango in weight loss Pinit

Shutterstock

आमचूर का उपयोग वजन घटाने में सहायक माना जा सकता है। कारण यह है कि इसमें विटामिन सी की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। साथ ही इसमें फाइबर भी मौजूद होता है (1)। वहीं, इस संबंध में किए गए शोध में पाया गया है कि विटामिन सी एक बेहतर एंटीऑक्सीडेंट है, जो वजन कम करने का काम कर सकता है (2)। साथ ही एक अन्य शोध में यह माना गया है कि फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ वजन कम करने में सहायक माने जाते हैं (3)। इसलिए, यह कहा जा सकता है कि आमचूर का उपयोग वजन घटाने के प्रयास में एक लाभकारी विकल्प साबित हो सकता है।

2. कैंसर से करता है बचाव

विशेषज्ञों के मुताबिक आम में मैंगीफेरीन (Mangiferin) नाम का एक तत्व पाया जाता है, जो कैंसर से संबंधित जोखिम कारकों को कम करने का काम करता है। खास यह है कि यह तत्व केवल आम के गूदे में ही नहीं, बल्कि उसके छिलके, पत्तियों और पेड़ की छाल में भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है (4)। जैसा कि आपको लेख में पहले ही बताया जा चुका है कि आमचूर कच्चे आमों को सुखाकर बनाया जाने वाला पाउडर है। इस कारण ऐसा माना जा सकता है कि यह तत्व उसमें भी मौजूद रहता है। फलस्वरूप, आमचूर पाउडर के फायदे में कैंसर के जोखिमों को कम करना भी शामिल है। कैंसर के लिए आमचूर कितना फायदेमंद हो सकता है इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

3. डायबिटीज नियंत्रण में आमचूर के फायदे

Benefits of Mango in diabetes control Pinit

Shutterstock

आमचूर का इस्तेमाल आपको डायबिटीज की समस्या से राहत पहुंचाने का भी काम कर सकता है। दरअसल, आम में पाया जाने वाला खास तत्व मैंगीफेरीन कैंसर के साथ-साथ संक्रमण, ह्रदय संबंधी बीमारी और डायबिटीज की समस्या में भी लाभकारी माना जाता है (4)। इस वजह से यह कहा जा सकता है कि डायबिटीज से परेशान लोग आमचूर का इस्तेमाल एक बेहतर विकल्प के तौर पर कर सकते हैं।

4. आंखों की रोशनी बढ़ाता है

आमचूर पाउडर के फायदे में आंखों की रोशनी बढ़ाना भी शामिल है। आंखों से संबंधित समस्याओं में यह काफी सहायक साबित हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, इसमें विटामिन-ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ-साथ इस अंग से संबंधित कई विकारों को भी दूर करने का काम कर सकता है (5)।

5. पाचन में आमचूर के फायदे

आहार में आमचूर का इस्तेमाल आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाने का भी काम करता है। इस संबंध में किए गए एक शोध में पाया गया है कि आमचूर में मौजूद कुछ खास पोषक तत्वों की वजह से यह पाचन क्रिया को मजबूत करने के साथ-साथ गैस की समस्या से भी निजात दिलाने में सक्षम है (6)।

6. दिल का रखे ख्याल

Take care of heart Pinit

Shutterstock

जैसा कि आपको लेख में पहले भी बताया जा चुका है कि आम में मैंगीफेरीन नाम का एक तत्व पाया जाता है। इस तत्व की खूबी यह है कि यह अकेले ही कैंसर, संक्रमण, ह्रदय संबंधी बीमारी और डायबिटीज को नियंत्रित करने में सक्षम है (4)। आमचूर कच्चे आम को सुखाकर तैयार किया जाता है। इस कारण यह माना जा सकता है कि आमचूर पाउडर के फायदे ह्रदय स्वास्थ्य के लिए भी काफी लाभकारी सिद्ध हो सकते हैं, लेकिन इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

7. एनीमिया में सहायक

आम से संबंधित एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि इसमें पाए जाने वाले खास तत्व मैंगीफेरीन में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं, जिनमें एनीमिया से संबंधित जोखिम कारकों को दूर करने की क्षमता भी शामिल है। रोचक बात यह है कि यह तत्व आम के पेड़ के विभिन्न भागों में मौजूद रहता है (5)। वहीं, दूसरी ओर आमचूर में आयरन और फोलिक एसिड भी मौजूद होता है (1), जिसकी कमी से एनीमिया होने का खतरा रहता है (7)।

8. स्कर्वी के उपचार में

स्कर्वी विटामिन सी की कमी से होने वाला एक रोग है। आमतौर पर इस बीमारी में मसूड़ों से खून आना, थकावट और कमजोरी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। कच्चे आम में विटामिन सी अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसलिए, ऐसा माना जा सकता है कि आमचूर पाउडर के फायदे में स्कर्वी जैसी समस्या से छुटकारा पाना भी शामिल हो सकता है (8)। हालांकि, इस विषय पर और अध्ययन की आवश्यकता है।

9. डिटॉक्सीफिकेशन में आमचूर के फायदे

आम में पाए जाने वाले तत्व मैंगीफेरीन के कई औषधीय गुणों के बारे में आप लेख में विस्तार से जान चुके हैं, लेकिन इसकी एक खासियत यह भी है कि यह अपने एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-स्कैवेंजिंग गुण के कारण मानव शरीर को जहरीले प्रभाव से बचाने का काम करता है। सीधी तौर पर समझें तो यह अशुद्धियों को दूर करता है (9)। इस कारण ऐसा माना जा सकता है कि आमचूर का इस्तेमाल शरीर को डिटॉक्सीफाई (विषैले तत्वों को दूर करना) के लिए किया जा सकता है।

10. त्वचा के लिए लाभदायक

Beneficial for the skin Pinit

Shutterstock

आमचूर का उपयोग त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद माना जा सकता है। कारण यह है कि इसमें विटामिन सी काफी मात्रा में पाया जाता है (1)। जो त्वचा संबंधी कई समस्याओं जैसे :- सूखापन, झाइयां, मुंहासे और सनबर्न से बचाने का काम करता है (10)।

आमचूर के फायदों के बारे में जानने के बाद अब हम इसके पौष्टिक तत्वों से संबंधित जानकारी हासिल करेंगे।

आमचूर के पौष्टिक तत्व – Amchur Nutritional Value in Hindi

जैसा कि आपको पहले भी बताया जा चुका है कि आमचूर कच्चे आम को सुखाकर बनाया जाता है। इसलिए, इसमें भी वहीं पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो कि कच्चे आम में होते हैं (1)।

पोषक तत्वयूनिटमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानीg16.60
एनर्जीKcal319
प्रोटीनg2.45
टोटललिपिड(फैट)g1.18
कार्बोहाइड्रेटg78.58
फाइबर(टोटलडाइटरी)g2.4
शुगरg66.27
मिनरल
कैल्शियमmg0
आयरनmg0.23
मैग्नीशियमmg20
फास्फोरसmg50
पोटैशियमmg279
सोडियमmg162
जिंकmg0.30
विटामिन
विटामिनसीmg42
थियामिनmg0.062
राइबोफ्लेविनmg0.085
नियासिनmg2.000
विटामिनबी-6mg0.334
फोलेट(डीएफई)µg68
विटामिनए(आरएई)µg67
विटामिनए(आईयू)IU1343
विटामिन ईmg4.02
विटामिन केµg13.2
लिपिड
फैटीएसिड(सैचुरेटेड)g0.287
फैटीएसिड(मोनोअनसैचुरेटेड)g0.439
फैटीएसिड(पॉलीसैचुरेटेड)g0.222

पोषक तत्वों के बारे में जानकारी हासिल करने के बाद अब हम आते हैं, इसके उपयोग पर।

आमचूर पाउडर का उपयोग – How to Use Amchur (Mango Powder) in Hindi

आमचूर का उपयोग बहुत आसान है, जिन्हें हम कुछ बिन्दुओं के माध्यम से जानेंगे।

  • सलाद के साथ एक चुटकी आमचूर का उपयोग इसका स्वाद बढ़ा सकता है।
  • सब्जी में खटास लाने के लिए भी आप एक से दो चुटकी आमचूर का उपयोग कर सकते हैं।
  • दो से तीन चम्मच आमचूर की चटनी बनाकर आप इसे स्नैक्स के साथ भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

मात्रा- बता दें सामान्य तौर पर दिनभर में करीब एक चम्मच यानी 10 ग्राम आमचूर का सेवन किया जा सकता है।

ये तो हो गई उपयोग की बात अब है आमचूर के नुकसान को जानने की बारी।

आमचूर के नुकसान – Side Effects of Amchur in Hindi

आमचूर के नुकसान के बारे में जानने के लिए नीचे दिए गए बिन्दुओं पर डालिए एक नजर।

  • अमचूर विटामिन सी का अच्छा स्रोत है। इस कारण इसका अधिक सेवन पेट से संबंधित समस्याओं जैसे :- गैस, मतली और डायरिया का कारण बन सकता है (1) (11)।
  • जिन लोगों को किडनी में पथरी की शिकायत है, उन्हें इसके उपयोग से बचना चाहिए, क्योंकि विटामिन सी की मौजूदगी इस समस्या को बढ़ा सकती है (1) (11)।
  • कुछ लोगों में इसे खाने से एलर्जी की शिकायत हो सकती है।
  • इसकी तासीर ठंडी होने के कारण कभी-कभी अमचूर पाउडर खांसी, जुकाम और गले की खराश की वजह बन सकता है।

अब तो आप अमचूर के बारे में अच्छे से जान ही गए होंगे। साथ ही आपको यह भी पता चल गया होगा कि इसका उपयोग आपको किन-किन समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक साबित हो सकता है। वहीं, लेख के माध्यम से आपको अमचूर पाउडर के पौष्टिक तत्वों के साथ-साथ इसके इस्तेमाल के तरीकों के बारे में भी अच्छे से बताया जा चुका है। ऐसे में अगर आप भी इसे अपने नियमित प्रयोग में लाने के बारे में सोच रहे हैं, तो बेहतर होगा कि पहले लेख में दी गई सभी जानकारियों को अच्छे से पढ़ लें। उसके बाद ही लेख में सुझाए गए तरीकों को इस्तेमाल में लाएं। आशा करते हैं कि इस लेख के माध्यम से आप अपनी स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं को हल कर पाने में सक्षम होंगे। इस विषय में किसी अन्य प्रकार के सुझाव और सवालों के लिए आप हमसे नीचे दिए कमेंट बॉक्स के माध्यम से जुड़ सकते हैं।

संबंधित आलेख