आंवला और शहद के फायदे – Benefits of Amla and Honey in Hindi

Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

आंवला और शहद का इस्तेमाल सदियों से घरेलू उपचार के तौर पर किया जा रहा है। इस बात से सभी अच्छे से वाकिफ होंगे कि ये दोनों सामग्रियां स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं। आंवला और शहद दोनों में अलग-अलग औषधीय गुण होते हैं, लेकिन इन दोनों का सेवन अगर साथ में किया जाए, तो असर दोगुना हो सकता है, जिससे कई शारीरिक समस्याओं से बचाव और उनके जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में आंवला रस और शहद के फायदे और आंवला और शहद के नुकसान के बारे में चर्चा करेंगे। साथ ही आंवला रस और शहद के लाभ और इनमें मौजूद पोषक तत्वों के बारे में भी बताया जाएगा।

शुरू करते हैं लेख

सबसे पहले हम आंवला रस और शहद के फायदे के बारे में विस्तार से बात करेंगे।

आंवला और शहद के फायदे – Benefits of Amla and Honey in Hindi

आंवला और शहद दोनों ही सेहत के लिए अच्छे माने जाते हैं, लेकिन दोनों को मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं माना जा सकता है। इनका सेवन समस्या से बचाव और उनके प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में लाभकारी हो सकता है। वहीं, कोई अगर गंभीर रूप से बीमार है, तो डॉक्टरी इलाज जरूरी है।

1. पाचन में मददगार

शहद में कई ऐसे गुण होते हैं जो पाचन तंत्र को ठीक रखने में मदद कर सकते हैं। यही कारण है कि आयुर्वेद में भी पाचन संबंधित परेशानियों के लिए इसे वरदान समान बताया है (1)। वहीं, आंवले में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है, जो पाचन तंत्र को दुरुस्त रख सकता है (2)। इसके अलावा, नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने से पाचन क्रिया मजबूत हो सकती है। यह हाइपरएसिडिटी व अन्य कई पाचन संबंधित परेशानी से निजात दिलाने में मददगार साबित हो सकता है (3)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि आंवला और शहद का सेवन पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में मदद कर सकता है।

2. डायबिटीज के लिए आंवला रस और शहद के फायदे

एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) पर उपलब्ध एक शोध के अनुसार, आंवला में एंटी-डायबिटिक प्रभाव होते हैं, जो बढ़े हुए ब्लड शुगर की समस्या को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं (4)। इसी तरह मधुमेह में शहद के भी कुछ फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, एक शोध के मुताबिक शहद का उपयोग डायबिटीज के मरीजों के वजन को ब्लड लिपिड को कम करने में मदद कर सकता है। हालांकि, शोध में मधुमेह के मरीजों में इसके उपयोग को लेकर सावधानी बरतने की भी सलाह दी गई है (5)।

3. सर्दी-खांसी में लाभदायक

आंवला और शहद का सेवन सर्दी-खांसी में भी फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, आंवला में मौजूद विटामिन-सी सर्दी से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (2)। इसके अलावा, एक शोध में बताया गया है कि आंवला पाउडर को शहद के साथ लेने से सूखी खांसी में राहत मिल सकती है (6)। वहीं, एक शोध में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बच्चों में खांसी और कोल्ड के लिए शहद को लाभकारी बताया है (7)। इस तरह कहा जा सकता है कि आंवला और शहद का इस्तेमाल सर्दी-खांसी पर असरदार हो सकता है।

4. इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में सहायक

इम्यून सिस्टम के कमजोर होने पर शरीर कई रोगों की चपेट में आ सकता है। ऐसे में आंवला का इस्तेमाल रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत कर सकता है। एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि आंवला व्हाइट ब्लड सेल्स (इम्यून सिस्टम का एक अहम भाग) को बढ़ा सकता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद कर सकता है (8)। वहीं, शहद भी इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मददगार साबित हो सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध एक रिसर्च पेपर के अनुसार, शहद का सेवन शरीर में एंटीबॉडी के उत्पादन को बढ़ाने में मदद कर सकता है (9)। बता दें कि एंटीबॉडी एक प्रोटीन है जिसे इम्यून सिस्टम रिलीज करता है। वहीं, एंटीबॉडी शरीर को एंटीजन यानी बैक्टीरिया, वायरस, फंगस व परजीवियों से बचाने का काम करता है (10)।

जारी रखें पढ़ना

5. पीलिया में मददगार

एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि शहद का उपयोग पीलिया के हानिकारक प्रभावों को रोकने में प्रभावी साबित हो सकता है (11)। वहीं, एक शोध में आंवले से बने टॉनिक का उपयोग पीलिया की बीमारी में लाभकारी बताया गया है (12)। इसलिए, हम कह सकते हैं कि आंवला और शहद का सेवन पीलिया में फायदेमंद हो सकता है।

6. अस्थमा में आंवला और शहद के लाभ

शहद दमा यानी अस्थमा में भी कारगर हो सकता है। एनसीबीआई पर उपलब्ध एक रिसर्च के मुताबिक, शहद का सेवन और इससे सूंघने से अस्थमा में कुछ हद आराम मिल सकता है। वहीं, शहद में मौजूद एंटीइंफ्लेमेट्री गुण सांस नली में सूजन को कम कर सकते हैं (13)। वहीं, आंवले में मौजूद एंटी इन्फ्लामेट्री गुण अस्थमा की गंभीरता कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं (14)। इसके अलावा, इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज एंड रिसर्च के अनुसार, आंवले के जूस के साथ शहद को लेने से अस्थमा के लक्षण जैसे सांस लेने में दिक्कत को कम करने में मदद मिल सकती है (15)।

7. त्वचा के लिए आंवला रस और शहद के लाभ

आंवला को आयुर्वेद में त्वचा के लिए फायदेमंद माना गया है। एक अध्ययन के मुताबिक आंवले में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को बचा सकता है। वहीं, इसका इस्तेमाल सनस्क्रीन व एंटी एजिंग प्रोडक्ट्स में भी किया जाता है (16) एक अन्य शोध के अनुसार, आंवला में स्किन व्हाइटनिंग एजेंट भी होते हैं, जो त्वचा की रंगत में सुधार कर सकते हैं (17)। जहां तक शहद का सवाल है, तो शहद त्वचा को कुदरती रूप से मॉइस्चराइज कर सकता है। शहद में एंटी माइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं, जो त्वचा को बैक्टीरियल संक्रमण से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं, जो त्वचा को सूजन से राहत दिलाने के साथ संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मददगार हो सकते हैं (18)। इन तथ्यों को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि त्वचा के लिए आंवला और शहद उपयोगी हो सकते हैं।

8. बालों के लिए आंवला रस और शहद के फायदे

आंवला और शहद का इस्तेमाल बालों के लिए लाभकारी साबित हो सकता है। एक शोध के अनुसार, आंवले का नियमित रूप से इस्तेमाल बालों की ग्रोथ में सहायक हो सकता है (19)। एक अन्य शोध में भी कहा गया है कि आंवला युक्त शैम्पू और तेल स्कैल्प और बालों को पोषण देने के साथ बालों को समय से पहले सफेद होने से बचा सकते हैं (20)। बात करें शहद की, तो यह सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस (स्किन एलर्जी, जो स्कैल्प पर पपड़ी जमने और लाल त्वचा का कारण बनती है) और डैंड्रफ की रोकथाम में उपयोगी साबित हो सकता है। इसके अलावा, शहद का इस्तेमाल बालों के झड़ने की समस्या में भी लाभकारी हो सकता है। इसलिए, यह माना जा सकता है कि बालों के लिए आंवला रस और शहद के फायदे कई हैं (21)।

आगे पढ़ें लेख

लेख के अगले भाग में अब हम आंवला और शहद के पोषक तत्वों के बारे में जानेंगे।

आंवला और शहद के पोषक तत्‍व – Amla and Honey Nutritional Value in Hindi

यहां नीचे दिए हुए चार्ट के माध्यम से आंवला और शहद दोनों के पोषक तत्वों के विषय में विस्तार से जाना जा सकता है (22) (23)।

पोषक तत्वआंवला (मात्रा प्रति 100 ग्राम)शहद (मात्रा प्रति 100 ग्राम)
पानी87.87 g17.1 g
उर्जा44 Kcal304 Kcal
प्रोटीन0.88 g0.3 g
टोटल लिपिड (फैट)0.58 g00
कार्बोहाइड्रेट10.18 g82.4 g
फाइबर (टोटल डायट्री)4.3 g0.2 g
शुगर0 g82.12 g
कैल्शियम25 mg6 mg
आयरन0.31 mg0.42 mg
मैग्नीशियम10 mg2 mg
फास्फोरस27 mg4 mg
पोटैशियम198 mg52 mg
सोडियम1 mg4 mg
जिंक0.12 mg0.22 mg
कॉपर0.07 mg0.036 mg
मैगनीज0.144 mg0.08 mg
सेलेनियम0.6 µg0.8 µg
विटामिन-सी27.7 mg0.5 mg
थियामिन0.04 mg0.0
राइबोफ्लेविन0.03 mg0.038 mg
नियासिन0.3 mg0.121 mg
विटामिन बी-60.08 mg0.024 mg
फोलेट (डीएफई)6 µg2 µg
विटामिन-ए (आरएई)15 µg00
विटामिन-ए (आईयू)290 IU00
विटामिन-ई0.37 mg00
फैटी एसिड (सैचुरेटेड)0.038 g0.00
फैटी एसिड (मोनोअनसैचुरेटेड)0.051 g0.00
फैटी एसिड (पॉलीअनसैचुरेटेड)0.317 g0.00

 नीचे स्क्रॉल करें

पोषक तत्व के बाद आगे आंवला और शहद का सेवन करने के तरीके समझेंगे।

आंवला और शहद का उपयोग – How to Use Amla and Honey in Hindi

आंवला और शहद का उपयोग किस तरह से किया जा सकता है, यह आप निम्न बिंदुओं के जरिए आसानी से समझ सकते हैं।

  • सूखी खांसी से राहत के लिए आंवला पाउडर में शहद मिलाकर सेवन करने से फायदा हो सकता है (12)।
  • आंखों को स्वस्थ रखने के लिए आंवले के जूस में शहद मिलाकर ले सकते हैं (12)।
  • बाहरी इस्तेमाल की बात करें, तो आंवला पाउडर में शहद मिलाकर बालों में लगाया जा सकता है।
  • आंवले के पल्प में शहद मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
  • शहद में आंवले को भिगोकर मुरब्बा तैयार कर सकते हैं।
  • दही के साथ आंवला और शहद का उपयोग फेस मास्क बनाने के लिए किया जा सकता है।

मात्रा : एक दिन में आधा चम्मच आंवला जूस के साथ आधा चम्मच शहद का सेवन किया जा सकता है (20)। हालांकि, हर व्यक्ति के शरीर की जरूरत अलग होती है। इसलिए, हमारी राय यही है कि शहद और आंवले की उचित मात्रा के लिए डॉक्टर से  संपर्क करें।

अंत तक पढ़ें लेख

आंवला और शहद के सेवन के तरीके जानने के बाद इसके नुकसान के बारे में बात करेंगे।

आंवला और शहद के नुकसान – Side Effects of Amla and Honey in Hindi

जिस तरह आंवला रस और शहद के फायदे कई हैं, वैसे ही इसके कई नुकसान भी हैं। ये नुकसान कुछ विशेष स्वास्थ्य स्थितियों या अधिक मात्रा में लेने से हो सकते हैं। नीचे दिए गए बिंदुओं के जरिए जानिए आंवला और शहद के नुकसान।

1. आंवला के नुकसान

  • आंवले में ब्लड प्रेशर कम करने के गुण पाए जाते हैं। ऐसे में जिन लोगों को लो ब्लड प्रेशर की समस्या है, उन्हें आंवले का सेवन डॉक्टरी परामर्श पर करना चाहिए, क्योंकि इससे उनका ब्लड प्रेशर और कम हो सकता है (24)।
  • लो ब्लड शुगर से ग्रसित लोगों को डॉक्टर की सलाह पर ही आंवले का सेवन करना चाहिए, क्योंकि इसमें एंटीडायबिटिक (ब्लड शुगर को कम करने वाला) गुण पाया जाता है, जो लो ब्लड शुगर के मरीजों में रक्त शर्करा को और भी कम कर सकता है (4)।
  • आंवला विटामिन-सी का अच्छा स्रोत है (25)। वहीं, आंवले का अधिक मात्रा में सेवन विटामिन-सी की अधिकता का कारण बन सकता है। इससे किडनी स्टोन का जोखिम बढ़ सकता है (26)।
  • प्रेगनेंसी में आंवला खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

2. शहद से होने वाले नुकसान

  • शहद के कारण एनाफिलेक्सिस (Anaphylaxis) हो सकता है। यह एक प्रकार का एलर्जिक रिएक्शन है। इससे त्वचा का लाल होना, सांस लेने में दिक्कत, पित्ती, छाती में दर्द व जकड़न जैसी समस्या हो सकती है (27) (28)।
  • शहद में फ्रुक्टोज अधिक मात्रा में होता है। वहीं, शरीर में इसका अवशोषण ठीक तरीके से न होने की वजह से दस्त की समस्या हो सकती है (29)।
  • शहद के अधिक सेवन से बोटुलिनम पॉइजनिंग (क्लोस्ट्रीडियम बोटुलिनम बैक्टीरिया के कारण) हो सकती है। इससे धुंधला दिखाई देना, निगलने में दिक्कत व मांसपेशियों में कमजोरी जैसी परेशानियां हो सकती हैं (30) (31)।
  • जिन लोगों को लो ब्लड शुगर की समस्या रहती है, उन्हें डॉक्टर की सलाह के बाद ही शहद का सेवन करना चाहिए, क्योंकि फ्रुक्टोज की मौजूदगी के कारण अधिक शहद के सेवन से ब्लड शुगर लेवल अस्थिर हो सकता है ।

आंवला रस और शहद के फायदे जानने के बाद इसके इस्तेमाल का ख्याल आना लाजमी है, लेकिन ध्यान रहे कि आंवला और शहद का उचित सेवन और इस्तेमाल ही आपको फायदा पहुंचा सकता है। अगर कोई किसी गंभीर समस्या से ग्रसित है, तो इनका सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। वहीं, इनके सेवन की मात्रा का भी ध्यान जरूर रखें, क्योंकि अधिक मात्रा में किया गया इनका सेवन बताए गए शहद और आंवला के नुकसान का कारण बन सकता है। उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपको पसंद आया होगा। सेहत और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी के लिए जुड़े रहें हमारे साथ।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

आंवला और शहद का खाली पेट सेवन करने के क्या फायदे हैं?

खाली पेट आंवला रस और शहद के फायदे कई सारे हैं। इससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के साथ शरीर को एनर्जेटिक बनाए रखने में मदद मिल सकती है (20) (32)।

क्या रोजाना आंवला और शहद का सेवन करना सुरक्षित है?

हां, आंवला चूर्ण और शहद खाने के फायदे देखते हुए इनका रोजाना सेवन (सीमित मात्रा में) किया जा सकता है (20)।

क्या रात के समय आंवला और शहद का सेवन करना सुरक्षित है?

हां, आंवला और शहद को रात के समय भी ले सकते हैं, लेकिन सुबह के समय इसे लेना बेहतर होगा  (20)। सही जानकारी के लिए एक बार डॉक्टर से जरूर बात करें।

क्या आंवला और शहद वजन कम करने में मदद करता है?

हां,  आंवला और शहद दोनों में एंटी ओबेसिटी प्रभाव होते हैं, जिस वजह से माना जा सकता है कि ये वजन को कम करने में फायदेमंद साबित हो सकते हैं (33) (34)।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Traditional and Modern Uses of Natural Honey in Human Diseases: A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3758027/
  2. Health benefits of amla or indian gooseberry fruit (Phyllanthus emblica)
    https://www.researchgate.net/publication/298153173_Health_benefits_of_amla_or_indian_gooseberry_fruit_Phyllanthus_emblica
  3. EMBLICA OFFICINALIS – THE WONDER OF AYURVEDIC MEDICINE
    http://www.mchemist.com/ayas/pdf/13amla.pdf
  4. Anti-diabetic effects of the Indian indigenous fruit Emblica officinalis Gaertn: active constituents and modes of action
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24577384/
  5. Effects of natural honey consumption in diabetic patients: an 8-week randomized clinical trial
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19817641/
  6. Indian gooseberry (Emblica officinalis): Complete pharmacognosy review
    https://www.researchgate.net/publication/331857453_Indian_gooseberry_Emblica_officinalis_Complete_pharmacognosy_review
  7. Honey for treatment of cough in children
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4264806/
  8. Recent Trends in Potential Traditional Indian Herbs Emblica officinalis and Its Medicinal Importance
    https://www.phytojournal.com/archives/2012/vol1issue1/PartA/2.pdf
  9. Honey and Cancer: Sustainable Inverse Relationship Particularly for Developing Nations—A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3385631/
  10. Antibody
    https://medlineplus.gov/ency/article/002223.htm
  11. Effect of honey on bacterial translocation and intestinal morphology in obstructive jaundice
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2716596/
  12. Current Trends in the Research of Emblica officinalis (Amla): A Pharmacological Perspective
    https://globalresearchonline.net/journalcontents/v24-2/25.pdf
  13. Inhalation of honey reduces airway inflammation and histopathological changes in a rabbit model of ovalbumin-induced chronic asthma
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4048365/
  14. Pharmacological investigation of antiasthmatic activity of fruit extract of Phyllanthus emblica
    https://www.researchgate.net/publication/288556043_Pharmacological_investigation_of_antiasthmatic_activity_of_fruit_extract_of_Phyllanthus_emblica
  15. A REVIEW ON MEDICINAL IMPORTANCE OF EMBLICA OFFICINALIS
    https://ijpsr.com/bft-article/a-review-on-medicinal-importance-of-emblica-officinalis/?view=fulltext
  16. Emblica Cascading Antioxidant: A Novel Natural Skin Care Ingredient
    https://www.researchgate.net/publication/11152231_Emblica_Cascading_Antioxidant_A_Novel_Natural_Skin_Care_Ingredient
  17. Critical review of Ayurvedic Varṇya herbs and their tyrosinase inhibition effect
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4623628/
  18. Medicinal and cosmetic uses of Bee’s Honey – A review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3611628/
  19. Emblica (Phyllanthus emblica Linn.) Fruit Extract Promotes Proliferation in Dermal Papilla Cells of Human Hair Follicle
    https://scialert.net/fulltext/?doi=rjmp.2011.95.100
  20. AMLA: A NOVEL AYURVEDIC HERB WITH ITS HEALTH BENEFITS
    https://www.ijarse.com/images/fullpdf/1505650732_143ijarse.pdf
  21. Therapeutic and prophylactic effects of crude honey on chronic seborrheic dermatitis and dandruff
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/11485891/
  22. Honey
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/169640/nutrients
  23. Gooseberries
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/173030/nutrients
  24. A comparative clinical study of hypolipidemic efficacy of Amla (Emblica officinalis) with 3-hydroxy-3-methylglutaryl-coenzyme-A reductase inhibitor simvastatin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3326920/
  25. Comparative antioxidant and bioavailability studies of Vitamin C in Phyllanthus emblica Linn. and its combinations with Piper nigrum Linn. and Zingiber officinale Roscoe
    https://www.scielo.br/pdf/bjps/v52n1/1984-8250-bjps-52-01-00035.pdf
  26. Vitamin C
    .https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3884093/#:~:text=High%20amounts%20of%20vitamin%20C,susceptible%20to%20kidney%20stone%20formation
  27. Anaphylaxis caused by honey: a case report
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5287071/
  28. Anaphylaxis
    https://medlineplus.gov/anaphylaxis.html
  29. Honey May Have a Laxative Effect on Normal Subjects Because of Incomplete Fructose Absorption
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/7491882/
  30. Botulism Prevention
    https://www.cdc.gov/botulism/prevention.html
  31. Botulism
    https://medlineplus.gov/botulism.html#:~:text=Symptoms%20include%20double%20or%20blurred,when%20canning%20foods%20at%20home
  32. THE EFFECT OF ORAL SUPPLEMENTATION OF AMLA JUICE WITH HONEY VS. GARLIC ON BLOOD PRESSURE AND SELECTED COMPLAINTS AMONG CLIENTS WITH HYPERTENSION IN A SELECTED COMMUNITY AT TIRUPUR
    http://repository-tnmgrmu.ac.in/1862/7/300108015brintha.pdf
  33. Emblica officinalis – Anti-obesity activity
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29206643/
  34. Four-Week Consumption of Malaysian Honey Reduces Excess Weight Gain and Improves Obesity-Related Parameters in High Fat Diet Induced Obese Rats
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5299215/
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख