सामग्री और उपयोग
Stylecraze

अनानास के 24 फायदे, उपयोग और नुकसान – Pineapple Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by
अनानास के 24 फायदे, उपयोग और नुकसान – Pineapple Benefits, Uses and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 April 30, 2019

अनानास ऐसा फल है, जो खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, उसके फायदे भी उतने ही होते हैं। आप अनानास का जूस पिएं या उसे खाएं, यह हर तरह से शरीर को फायदा पहुंचाता है। इस फल में पौष्टिक तत्वों की भरमार है। खाने में रसीला और सेहत से भरपूर अनानास अपने आप में गुणों का खजाना है।

अगर आप अनानास के लाभ से अनजान हैं, तो स्टाइलक्रेज का यह लेख खास आपके लिए है। इस लेख में हम आपको अनानास के फायदे बताएंगे। साथ ही बताएंगे कि इसे आप किस-किस तरह से अपने खान-पान में शामिल कर सकते हैं। नीचे पढ़िए अनानास के लाभ क्या-क्या हैं।

अनानास के फायदे – Benefits of Pineapple in Hindi

अनानास के इस लेख में हम इसके कई सारे फायदे बताएंगे। आपको जानकर हैरानी होगी कि यह स्वास्थ्य के साथ-साथ बालों और त्वचा पर भी चमत्कारी प्रभाव डालता है।

सेहत के लिए अनानास के फायदे – Health Benefits of Pineapple in Hindi

1. मजबूत हड्डियां : अगर आप चाहते हैं कि आपकी हड्डियां लंबे समय तक मजबूत रहें, तो अपने खानपान में अनानास जरूर शामिल करें। इसमें मैंगनीज होता है, जो हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है (1) (2)।

2. सर्दी-जुकाम : जब कभी म्यूकस मैंबरेन में किसी तरह की सूजन आ जाती है, तो नाक जमने लगती है। अनानास में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो इस समस्या से राहत दिलाने में मदद करते हैं। अगर आपको भी कुछ ऐसी समस्या है, तो नियमित रूप से अनानास के सेवन से आपको राहत मिल सकती है (3)।

3. मुंह का स्वास्थ्य : अनानास आपके मुंह के स्वास्थ्य को भी बनाए रखने में मदद करता है। इसमें विटामिन-सी होता है, जो दांतों में होने वाली प्लाक की समस्या को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा, अनानास से कई तरह की मसूड़ों की समस्या भी दूर हो सकती हैं। अनानास में ब्रोमेलिन होता है, जो दांतों की चमक और सफेदी बरकरार रखने में मदद करता है (4)।

4. ह्रदय का स्वास्थ्य
Heart health Pinit

Shutterstock

अनानास के सेवन से आपके हृदय का स्वास्थ्य बना रहता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित रखने में मदद करते हैं, जिससे कई तरह की दिल संबंधी समस्याएं दूर रहती हैं (5)।

5. वजन कम करे : अनानास वजन घटाने में भी मदद करता है। यह आपका पेट ज्यादा देर तक भरा रखता है, जिससे आपको कुछ और खाने की इच्छा नहीं होती। साथ ही यह आपको पूरा पोषण भी देता है। इस कारण यह आपका वजन कम करने में मदद करता है।

6. रोग-प्रतिरोधक क्षमता : यह फल रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन-सी होता है, जो रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर जुकाम के साथ-साथ अन्य बीमारियों को भी दूर करने में मदद करता है (6)।

7. फ्री रेडिकल्स से बचाए : अनानास एंटीऑक्सीडेंट का एक समृद्ध स्रोत है, जो शरीर में मुक्त कणों से लड़ने में मदद करता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण हमारे शरीर को एथेरोस्क्लेरोसिस, दिल की बीमारियों, गठिया व विभिन्न तरह के कैंसर आदि से बचाते हैं। इसलिए, अगर आप इन स्थितियों से बचना चाहते हैं, तो अनानास खाने से न हिचकें।

8. कैंसर : अनानास में एंटीऑक्सीडेंट व ब्रोमेलिन गुण होते हैं, जो मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं। ये कोशिका क्षति होने से भी रोकने में मदद करते हैं और कई प्रकार के कैंसर से बचाव करते हैं (4) (7)।

9. सूजन, गठिया और गले में खराश से बचाव : अनानास में ब्रोमेलिन होता है, जो साइनसाइटिस को रोकने में मदद करता है (8)। इसके अलावा, इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण गले में खराश, गठिया और सूजन को ठीक करने में भी प्रभावी है (9)।

10. पाचन : अनानास आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में भी मदद करता है। इसमें मौजूद ब्रोमेलिन, विटमिन-सी और फाइबर आपके पाचन शक्ति को मजबूत बनाते हैं (10)।

11. ब्रोंकाइटिस : अनानास में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो कई तरह की स्थितियों से निपटने में मदद करते हैं। ये ब्रोन्कियल ट्यूब में सूजन को कम करने में भी मदद करते हैं, जो आमतौर पर ब्रोंकाइटिस के कारण होती है (11)।

12. रक्तचाप
blood pressure Pinit

Shutterstock

अगर आप उच्च रक्तचाप की समस्या से परेशान हैं, तो अनानास का सेवन फायदेमंद रहता है। इसमें मौजूद पोटैशियम की उच्च मात्रा और सोडियम की कम मात्रा रक्तचाप स्तर को सामान्य रखने में मदद करती है (12)।

13. जी-मिचलाना : अगर आपको जी-मिचलाने की समस्या अक्सर होती रहती है, तो अनानास का सेवन राहत दिला सकता है। इसमें मौजूद ब्रोमेलिन जी-मिचलाने में फायदा पहुंचाता है (13)।

14. मैक्यूलर डिजनरेशन : यह ऐसी समस्या है, जिसमें आंखों की रोशनी धीरे-धीरे कम होने लगती है। अनानास में बीटा-कैरोटीन होता है, जिससे आंखों की रोशनी बढ़ने में मदद मिलती है (14)।
आगे हम बता रहे हैं कि त्वचा के लिए अनानास किस प्रकार लाभकारी है।

त्वचा के लिए अनानास के फायदे – Skin Benefits of Pineapple in Hindi

अनानास के फायदे केवल स्वास्थ्य तक ही सीमित नहीं हैं, बल्कि त्वचा के लिए भी फायदेमंद हैं। इसलिए, नीचे हम त्वचा के लिए अनानास के फायदे विस्तार से बताएंगे :

1. मुंहासे : अगर आपके चेहरे पर मुंहासे हैं, तो अनानास का सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी मुहांसों पर असरदायक होता है। वहीं, इसमें मौजूद ब्रोमेलिन विटामिन-सी के असर को बढ़ाता है।

कैसे इस्तेमाल करें?

मुंहासों से राहत पाने के लिए आप रात को सोते समय अनानास का रस रूई की मदद से मुंहासों पर लगाएं और अगली सुबह सामान्य पानी से चेहरा धो लें। ऐसा रोजाना करें। आपको कुछ ही दिनों में फर्क नजर आने लगेगा।

2. त्वचा को हाइड्रेट रखे : अनानास आपकी त्वचा को हाइड्रेट रख इसे चमकदार बनाए रखने में भी मदद करता है। इसलिए, अगर आपकी त्वचा रूखी और बेजान रहती है, तो अनानास का इस्तेमाल करना चाहिए।

कैसे इस्तेमाल करें?

थोड़े-से अनानास को कुचलकर इसमें अंडे की जर्दी और थोड़ा-सा दूध मिलाएं और इसे अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे कुछ मिनटों तक लगा रहने दें। फिर पानी से चेहरा धो लें। आपकी त्वचा तरोताजा रहेगी।

3. त्वचा को बनाए जवां : अनानास आपकी त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करता है। यह शरीर में कोलेजन सिंथेसिस को बढ़ावा देता है। शरीर में कोलेजन की सही मात्रा होने से त्वचा में लचीलापन आता है। इसके अलावा, इसमें मौजूद विटामिन-सी और अमीनो एसिड मृत कोशिकाओं को जल्दी ठीक करने में मदद करते हैं।

कैसे इस्तेमाल करें?

इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है। बस आप नियमित रूप से अनानास खाएं या फिर अनानास के जूस का सेवन करें।

4. फटी एड़ियों के लिए
broken ankles Pinit

Shutterstock

कई लोग फटी एड़ियों से परेशान रहते हैं, जिसके लिए वो कई तरह के उपाय अपनाते हैं। अगर आप भी फटी एड़ियों से परेशान हैं, तो अनानास बेहतर विकल्प हो सकता है।

कैसे इस्तेमाल करें?

फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए अनानास के एक टुकड़े पर शहद व चीनी मिलाकर लगाएं और इसे एड़ियों पर रगड़ते हुए स्क्रब करें। फिर कुछ देर बाद पैरों को धो लें। रोजाना ऐसा करने से आपकी एड़ियां साफ हो जाएंगी।

5. एक्सफोलिएट गुण : अनानास आपकी त्वचा को एक्सफोलिएट करने का भी काम करता है। इससे त्वचा की मृत कोशिकाएं हटती हैं और त्वचा में रक्त का संचार दुरुस्त होता है।

कैसे इस्तेमाल करें?

आप एक कटोरी में अनानास का रस डालें और इसमें थोड़ी-सी ब्राउन शुगर डालकर पेस्ट बना लें। फिर इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाते हुए हल्के-हल्के हाथों से कुछ देर मालिश करें। फिर सामान्य पानी से चेहरा धो लें।

6. मजबूत नाखून : क्या आपके नाखून भी जल्दी टूट जाते हैं? अगर हां, तो यह विटामिन-ए और विटामिन-बी की कमी हो सकती है। ऐसे में आपके लिए अनानास का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है।

क्या करें?

इसके लिए आपको एक अंडे की जर्दी, एक चम्मच अनानास का रस, एक चम्मच नींबू का रस और दो बूंद लेमन ऑयल की लेनी होगी। आप इन सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिलाएं और रूई की मदद से अपने नाखूनों पर लगाएं। फिर 15 मिनट बाद हाथ धो लें। मजबूत और चमकदार नाखून पाने के लिए आप रोजाना रात को सोने से पहले इस प्रक्रिया को दोहराएं।

7. फटे होंठ
chapped lips Pinit

Shutterstock

अगर आपके होंठ फटे और रूखे रहते हैं, तो अनानास से आप मुलायम होंठ पा सकते हैं। यह आपके होंठों को हाइड्रेट रखता है, जिससे यह फटे और रूखे नहीं रहते।

क्या करें?

अनानास के रस में थोड़ा-सा नारियल का तेल लगाएं और रोजाना रात को सोने से पहले अपने होंठों पर लगाएं। नियमित रूप से ऐसा करने से फटे होंठों की समस्या दूर हो जाएगी।

अब बालों के लिए भी अनानास के लाभ जान लेते हैं।

बालों के लिए अनानास के फायदे – Hair Benefits of Pineapple in Hindi

आपको जानकर हैरानी होगी कि अनानास सिर्फ स्वास्थ्य और त्वचा को ही नहीं, बल्कि बालों को भी फायदा पहुंचाता है। इसलिए, नीचे हम बालों के लिए अनानास के फायदे बता रहे हैं।

1. बाल झड़ने से बचाए
Protect from hair fall Pinit

Shutterstock

अगर आप भी झड़ते बालों से परेशान हैं, तो अनानास का सेवन फायदेमंद हो सकता है। इसमें विटामिन-सी होता है, जो बालों को झड़ने से बचाता है।

कैसे इस्तेमाल करें?

इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं, बस अपने खानपान में नियमित रूप से अनानास का सेवन करना होगा।

2. बालों को मोटा बनाए : अगर आपके बाल बेहद पतले हैं और आप इन्हें मोटा और मजबूत बनाना चाहते हैं, तो अनानास आपकी मदद कर सकता है। इसमें ऐसे एंजाइम होते हैं, जो बालों को पोषण देते हैं।

कैसे इस्तेमाल करें?

अनानास के रस को बालों में लगाएं और आधे घंटे के लिए इसे लगा छोड़ दें। इसके अलावा, नियमित रूप से अनानास का सेवन फायदेमंद हो सकता है।

3. इंफ्लेमेटरी स्कैल्प कंडीशन : अगर आपके सिर में खुजली की समस्या रहती है, तो अनानास का सेवन फायदेमंद हो सकता है। इसमें मौजूद ब्रोमेलिन एंजाइम एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों को बढ़ाता है। इस वजह से यह सिर में खुजली होने जैसी समस्या दूर रखने में मदद करता है।

कैसे इस्तेमाल करें?

आप सिर में खुजली होने पर अनानास के रस से सिर की मालिश करें। फिर 20 मिनट बाद सिर धो लें। ऐसा सप्ताह में दो से तीन बार करने से आपको सिर की खुजली से राहत मिलेगी।

अनानास के पौष्टिक तत्व – Pineapple Nutritional Value in Hindi

आपको अनानास के अनगिनत फायदे हमने ऊपर बताने की कोशिश की है। ऐसे में इस फल के पौष्टिक तत्वों पर नजर डालना वाकई में दिलचस्प होगा। नीचे हम बता रहे हैं कि 100 ग्राम अनानास में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व होते हैं और उनकी मात्रा कितनी होती है (15) :

पोषक तत्वमात्रा (ग्राम)
प्रोटीन0.55 g
ऊर्जा45 kcl
कुल कैलोरी210
कार्बोहाइड्रेट11.82 g
शुगर8.29 g
फैटी एसिड0.00 g
विटामिन-ए, आईयू52 IU
विटामिन-सी16.9 mg
विटामिन-बी60.106 mg
आयरन0.25 mg
कैल्शियम13 mg
मैग्नीशियम12 mg
पोटैशियम125 mg

अनानास का उपयोग – How to Use Pineapple in Hindi

ज्यादातर लोग अनानास का सेवन इसके स्लाइस करके या अनानास के जूस के रूप में करते हैं। इसके अलावा भी आप कई तरीके से अनानास का सेवन कर सकते हैं, जैसे :

  • आप दही में अनानास के छोटे-छोटे टुकड़े कर इसका रायता बनाकर सेवन कर सकते हैं।
  • आप फलों के सलाद में अनानास डालकर इसका सेवन कर सकते हैं।
  • आप अनानास को जैम के रूप में भी खा सकते हैं।
  • कई लोग घर में अनानास की चटनी बनाकर भी इसका सेवन करते हैं।

आर्टिकल के इस हिस्से में अनानास के दुष्प्रभावों की बात करेंगे।

अनानास के नुकसान – Side Effects of Pineapple in Hindi

इसमें कोई दो राय नहीं है कि अनानास के अनेक फायदे हैं। वहीं, इसके कुछ नुकसान भी देखे गए हैं।

  • अनानास में ब्रोमेलीन पाया जाता है, जो शरीर में जाकर प्रोटीन में बदल जाता है। कई बार कुछ लोगों को इससे खुजली की समस्या हो सकती है।
  • इसके अलावा, अनानास खाने से कुछ लोगों के होंठ सूज जाते हैं या किसी की जीभ भी कटने लगती है।
  • वहीं, प्रेग्नेंसी में अनानास का ज्यादा सेवन कर लिया जाए, तो इससे गर्भपात का खतरा बढ़ सकता है।
  • अनानास का सेवन ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है। इसलिए, डायबिटीज के मरीजों को इससे परहेज करना चाहिए या बहुत कम मात्रा में सेवन करना चाहिए।
  • अनानास में अधिक मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है। ऐसे में इसके ज्यादा सेवन से उल्टी, दस्त, पेट दर्द और मासिक धर्म में अत्यधिक स्राव की समस्या हो सकती है।
  • अगर आप एंटी-बायोटिक दवाएं खाते हैं, तो अनानास के सेवन से बचें। अनानास में ऐसे तत्व होते हैं, जो एंटी-बायोटिक दवाओं के साथ रिएक्ट कर सकते हैं।

इस लेख में हमने आपको अनानास से जुड़ी जरूरी जानकारियां देने की कोशिश की है। उम्मीद है कि ये जानकारियां आपके काम आएंगी और आप अनानास का सेवन सही प्रकार से करेंगे। आपको यह लेख कैसा लगा, हमें जरूर बताएं। इसके अलावा, अगर आपको अनानास की कोई खास रेसिपी आती है, तो नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में हमारे साथ जरूर शेयर करें।

संबंधित आलेख