अनार के फेस पैक लगाने के फायदे – Benefits of Pomegranate Face Pack in Hindi

Medically reviewed by Suvina Attavar (Dermatologist & Hair transplant surgeon)
Written by

अनार रसभरा स्वादिष्ट फल है। आपने अक्सर बुजुर्गों से सुना होगा कि कई बीमारी का इलाज एक अनार है। इसका कारण यह है कि अनार में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है। अनार का अंग्रेजी नाम पॉमग्रेनेट है और वैज्ञानिक भाषा में इसे पुनिका ग्रेनेटम (Punica granatum L.) कहते हैं (1)। लाल मोती जैसे दिखाई देने वाले अनार के दाने, स्वास्थ्य के लिए चमत्कार साबित हो सकते हैं। सिर्फ अच्छे स्वास्थ्य के लिए अनार का सेवन नहीं किया जाता, बल्कि इसे त्वचा पर लगाया भी जा सकता है। स्टाइलक्रेज के इस आर्टिकल में हम अनार के फेस पैक के बारे में जानेंगे।

अधिक जानकारी के लिए करें स्क्रॉल

आइए, शुरुआत इससे करते हैं कि अनार के फेसपैक लगाने के फायदे क्या हैं।

अनार के फेस पैक के फायदे – Benefits of Pomegranate Face Pack in Hindi

अनार में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण इसे त्वचा के लिए उपयोगी माना जा सकता है (2)। ये सभी यौगिक फ्री रेडीकल्स के खिलाफ लड़कर त्वचा को स्वस्थ बना सकते हैं (3)।

इन गुणों को ध्यान में रखें, तो अनार के फेसपैक लगाने के फायदे तीन तरह से प्रभावी हो सकते हैं।

1. त्वचा को हाइड्रेट रखने में अनार के फायदे

त्वचा में नमी बनाए रखने में अनार फायदेमंद है। यह सूखी त्वचा में गहराई से प्रवेश करता है और त्वचा को कोमलता देता है। अनार के रस में पाए जाने वाले पोनिक एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड नमी को अंदर सील करके त्वचा को हाइड्रेट बनाए रखने में सहायक हो सकते हैं (4)।

2. प्रदूषण और सूरज से होने वाले नुकसान से बचने में अनार का प्रयोग

अनार के सभी उत्पाद सूरज की पराबैंगनी किरणों के कारण होने वाली फोटोएजिंग प्रभाव (उम्रदराज दिखना) को कम कर सकते हैं (5)। साथ ही अनार में फेनोलिक कंपाउंड यानी एक प्रकार के रासायनिक तत्व पाए जाते हैं, जो एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण रखते हैं। इन गुणों के चलते अनार का इस्तेमाल, प्रदूषण के कारण त्वचा पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव को कम करने में किया जा सकता है (6)।

3. अनार के एंटीएजिंग प्रभाव

एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, अनार के अर्क में एंटी एजिंग प्रभाव होता है। चूहों पर किए गए एक शोध के अनुसार, इसमें पाए जाने वाले तत्व एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेटिव प्रभाव के कारण त्वचा पर फाइन लाइन्स होने से रोक सकते हैं। इस संबंध में मनुष्यों पर अभी शोध किया जाना बाकी है (7)।

आगे है और जानकारी

आइए, अब जानते हैं कि अनार से कौन-कौन से फेस पैक बनाए जा सकते हैं और ये कैसे काम करते हैं।

अनार के फेस पैक – Pomegranate Face Pack in Hindi

अनार त्वचा के लिए कितना फायदेमंद है, ये तो आप जान ही चुके हैं। अब हम आपको बताने वाले हैं कि किन-किन चीजों के साथ मिलाकर अनार के गुणों को बढ़ाया जा सकता है।

1. अनार और नींबू का रस

सामग्री :

  • एक बड़ा चम्मच अनार के दाने
  • एक चम्मच नींबू का रस

कैसे इस्तेमाल करें?

  • पहले अनार के दानों को पीसकर पेस्ट बना लें और फिर उसमें नींबू का रस मिक्स कर दें।
  • इस पेस्ट को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। जहां स्किन काली हो रही हो वहां जरूर लगाएं।
  • आधे घंटे तक इसे चेहरे पर लगा रहने दें।
  • इसके बाद सादे पानी से चेहरे को धो लें।
  • आप यह उपाय सप्ताह में एक बार कर सकते हैं।

कैसे काम करता है?

अनार किस प्रकार त्वचा के लिए फायदेमंद है, यह तो आप ऊपर पढ़ ही चुके हैं। अब हम नींबू की बात करते हैं। विटामिन-सी की उपस्थिति की वजह से नींबू को त्वचा के लिए अच्छा माना जाता है। यह न सिर्फ त्वचा में निखार ला सकता है, बल्कि मुहांसों से भी बचाव कर सकता है। नींबू में मौजूद विटामिन-सी कोलेजन के निर्माण को प्रेरित करके स्वस्थ त्वचा प्रदान कर सकता है (8)। कोलेजन त्वचा में पाया जाने वाला एक प्रोटीन है, जो त्वचा को कोमलता और कसावट प्रदान करता है। अनार के साथ नींबू का इस्तेमाल करके हानिकारक प्रदूषण से भी त्वचा को होने वाले नुकसान से बचाया जा सकता है।

कैसी त्वचा के लिए सही हैं?

अनार और नींबू का यह फेस पैक ऑयली त्वचा के लिए सही हो सकता है।

2. अनार और शहद का फेस पैक

सामग्री :

  • एक बड़ा चम्मच अनार के दाने
  • एक चम्मच शहद

कैसे इस्तेमाल करें?

  • अनार और शहद को मिक्सी में डालकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं और इसे पूरे चेहरे पर लगाएं।
  • इस पेस्ट को आधे घंटे तक चेहरे पर लगा रहने दें।
  • फिर बाद में साफ पानी से मुंह को धो लें।

कैसे काम करता है?

त्वचा के लिए शहद के लाभ लिए जा सकते हैं। यह मुंहासों को साफ कर सकता है और त्वचा में नमी कायम रखता है (9)। त्वचा संबंधी विकारों के उपचार और बचाव में शहद को बहुत प्रभावी पाया गया है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक अन्य अध्ययन के अनुसार, शहद त्वचा के लिए इसलिए लाभकारी है, क्योंकि इसमें एंटीबैक्टीरीयल गुण होते हैं, जो त्वचा की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। त्वचा के टिश्यू की मरम्मत करने में भी शहद लाभकारी सिद्ध हो सकता है (10)। अनार के साथ इसका प्रयोग करके आप दोगुना लाभ उठा सकते हैं।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

शहद में मॉइस्चराइजर गुण पाए जाते हैं, इसलिए रूखी त्वचा के लिए यह फेसपैक सही है।

3. अनार और पपीते का फेस पैक

सामग्री :

  • दो चम्मच अनार के बीज का तेल
  • एक चम्मच हरे पपीते का पाउडर
  • एक चम्मच अंगूर के बीज का तेल
  • एक चम्मच अंगूर का अर्क

कैसे इस्तेमाल करें :

  • सारी सामग्रियों को आपस में मिला लें।
  • इस फेस पैक को चेहरे पर लगाएं और आधे घंटे तक लगा रहने दें।
  • आधे घंटे बाद चेहरे को साफ और ताजे पानी से धो लें।
  • इस घरेलू नुस्खे को हफ्ते में दो बार किया जा सकता है।

कैसे काम करता है?

त्वचा के लिए पपीते का उपयोग किया जा सकता है क्योंकि पपीते में विटामिन-ए पाया जाता है, जो क्षतिग्रस्त त्वचा के पुनर्निर्माण में मदद कर सकता है। इस पाउडर को पपीते का छिलके को सुखाकर और पीसकर बनाया जाता है। यह त्वचा की रंगत को साफ बनाए रखने में कारगर हो सकता है (11)। अंगूर के बीज से निकले तेल में लिनोलिक एसिड, रेसवेरेट्रॉल और विटामिन-ई जैसे एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो त्वचा को पोषण दे सकते हैं (12)।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

इसका इस्तेमाल सामान्य या फिर मिश्रित त्वचा के लिए किया जा सकता है। जिनकी त्वचा संवेदनशील है, वो पहले इस फेसपैक का पैच टेस्ट जरूर कर लें।

4. अनार और ग्रीन टी फेस पैक

सामग्री :

  • एक चम्मच अनार का पेस्ट
  • एक चम्मच योगर्ट
  • एक चम्मच उबली और छानी हुई ग्रीन टी
  • एक चम्मच शहद

कैसे इस्तेमाल करें?

  • एक कटोरे में सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिलाएं।
  • इस मिश्रण को चेहरे पर लगाकर पांच से दस मिनट तक मालिश करें।
  • फिर करीब 20 मिनट तक इस मिश्रण को चेहरे पर लगा रहने दें।
  • इसके बाद साफ पानी से चेहरा धो लें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराया जा सकता है।

कैसे काम करता है?

ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो सूरज की हानिकारक किरणों से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं (13)। हम लेख में पहले भी जिक्र कर चुके हैं कि शहद और अनार त्वचा को कई तरह के लाभ दे सकते हैं। इसके अलावा, इस फेस पैक में इस्तेमाल होने वाला योगर्ट त्वचा में और निखार ला सकता है। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में पाया गया है कि योगर्ट त्वचा में चमक लाता है और लोच (Elastisity) प्रदान करता है (14)।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

यह फेसपैक रूखी और एक्ने प्रोन स्किन वालों के लिए ज्यादा उपयुक्त है।

5. अनार और कोको पाउडर फेसपैक

सामग्री:

  • एक चम्मच अनार का पेस्ट
  • एक चम्मच कोको पाउडर

कैसे इस्तेमाल करें?

  • अनार के पेस्ट और कोको पाउडर को अच्छी तरह मिला लें।
  • अगर ये पेस्ट गाढ़ा हो, तो थोड़ा-सा पानी मिलाकर इसे चेहरे पर फैलाने योग्य कर लें।
  • इस फेसपैक को चेहरे पर लगाएं और सूखने दें।
  • पूरी तरह सूखने पर चेहरा ठंडे पानी से धो लें।
  • इस फेसपैक का प्रयोग हफ्ते में एक बार किया जा सकता है।

कैसे काम करता है?

कोको पाउडर में एंटीऑक्सीडेंट गुण पर्याप्त मात्रा में होते हैं, जो त्वचा पर एंटीएजिंग प्रभाव डालते हैं यानी इसके इस्तेमाल से त्वचा जवां दिख सकती है। यह मुंहासों पर भी असरकारी हो सकता है (15)।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

  • यह हर त्वचा के लिए उपयोगी है।
  • आगे हैं और फेसपैक

6. अनार और योगर्ट का फेसपैक

सामग्री :

  • आधा कप पीसे हुए अनार के बीज
  • तीन चम्मच योगर्ट

कैसे इस्तेमाल करें?

  • दोनों सामग्रियों को अच्छी तरह से मिला लें।
  • इस पेस्ट को 20 मिनट के लिए चेहरे पर लगाएं।
  • इसके बाद मुहं को साफ पानी से धो लें।
  • इस विधि को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

कैसे काम करता है?

योगर्ट कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर है। यह खाने में जितना स्वादिष्ट और गुणकारी होता है, उतना ही त्वचा के लिए लाभदायक है। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार योगर्ट और त्वचा के लिए अच्छे माने जाने वाले प्राकृतिक तत्वों से बने फेसपैक त्वचा को सुंदर बनाए रखने में मदद कर सकते हैं (14)।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

इस फेसपैक को रूखी त्वचा के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

7. अनार और ओटमील का फेसपैक

सामग्री :

  • आधा कप अनार के दाने
  • दो चम्मच ओटमील पाउडर

कैसे इस्तेमाल करें?

  • अनार के दानों को मिक्सी में पीस लें।
  • इसमें ओटमील पाउडर डालकर अच्छे तरीके से मिलाएं।
  • इस मिश्रण से चेहरे की गोलाई में मालिश करें।
  • आधे घंटे बाद साफ पानी से चेहरे को धो लें।

कैसे काम करता है?

ओट्स एक प्राकृतिक स्क्रब है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और हाइड्रेटिंग गुण पाए जाते हैं। ये गुण त्वचा को साफ करके उसे चमकदार बनाते हैं। यह फेसपैक रूखेपन के कारण त्वचा में होने वाली खुजली और जलन को दूर करने में भी मदद कर सकता है (16)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि अनार के फेसपैक में मिलकर ओट्स के फायदे उठाए जा सकते हैं।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

यह फेसपैक मिली जुली तवचा के लिए सही है।

8. अनार, बादाम और चावल का फेसपैक

सामग्री :

  • आधा कप अनार के दाने (पिसे हुए)
  • एक बड़ा चम्मच चावल का आटा
  • 3 से 4 बूंद बादाम का तेल

कैसे इस्तेमाल करें?

  • एक कटोरा लें और उसमें अनार का पेस्ट व चावल का आटा मिलाकर मिक्स कर दें।
  • फिर इसमें बादाम का तेल डालें और अच्छी तरह से मिलाएं।
  • अब इस पेस्ट को पूरे चेहरे और गर्दन पर अच्छी तरह से लगाएं।
  • धोने से पहले कम से कम 20 से 30 मिनट तक प्रतीक्षा करें।

कैसे काम करता है?

इस फेसपैक में इस्तेमाल होने वाला बादाम का तेल रूखी त्वचा पर प्रभावित तरीके से काम कर सकता है। रूखी त्वचा से जुड़ी सोरायसिस व एग्जिमा जैसी समस्याओं के लिए बादाम तेल का इस्तेमाल पाैराणिक समय से किया जा रहा है। साथ ही बादाम के तेल में त्वचा को कोमलता और निखार देने वाले गुण मौजूद हैं, जिससे स्किन टोन में सुधार लाया जा सकता है (17)। चावल का आटा क्षतिग्रस्त त्वचा को ठीक कर सकता है। एनसीबीआई के एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, चावल में पाए जाने वाले स्टार्च से डैमेज स्किन में 20 प्रतिशत तक सुधार हो सकता है (18)। अनार के फेस मास्क में इन दोनों तत्वों को मिलाने से उनका असर और बढ़ सकता है।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

यह फेसपैक रूखी त्वचा के लिए सही हो सकता है।

9. अनार का छिलका, बेसन और मिल्क क्रीम

सामग्री :

  • दो चम्मच अनार के छिलके का पाउडर (सुखाकर पीसा गया)
  • एक चम्मच बेसन
  • दो चम्मच मिल्क क्रीम

कैसे इस्तेमाल करें?

  • एक कटोरे में अनार के छिलके का पाउडर, बेसन और मिल्क क्रीम को मिलाएं।
  • तीनों चीजों को मिक्सी में पीसकर महीन पेस्ट बना लें।
  • पूरे चेहरे पर इस मिश्रण को लगाएं।
  • 20 मिनट बाद चेहरा धो लें।

कैसे काम करता है?

चेहरे की सुंदरता को बढ़ाने के लिए बरसों से बेसन का उपयोग किया जा रहा है। बेसन रंग साफ करता है और त्वचा को मुलायम बनाता है। यह अतिरिक्त तेल और मृत कोशिकाओं को भी हटाता है। यह चेहरे के अंदर जाकर गहराई से सफाई करता है, जिससे झुर्रियों के पड़ने का डर कम हो सकता है। मिल्क क्रीम यानी दूध की चिकनाई त्वचा को नमी देती है और चेहरे की चमक बरकरार रखने में मदद कर सकती है (19)। ये दोनों तत्व अनार के फेसपैक के फायदे को बढ़ा सकते हैं।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

यह फेस पैक ऑयली और बेजान त्वचा के लिए सही है।

10. अनार का छिलका, गुलाबजल और नींबू फेसपैक

सामग्री :

  • तीन चम्मच अनार के सूखे छिलकों का पाउडर
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • दो चम्मच गुलाब जल

कैसे इस्तेमाल करें?

  • तीनों सामग्रियों को अच्छे से मिलाएं।
  • अगर यह पेस्ट ज्यादा गाढ़ा हो जाए, तो थोड़ा-सा पानी मिलाकर सही कर लें।
  • इस मिश्रण को चेहरे पर अच्छी तरह लगाएं।
  • फिर करीब 20 मिनट बाद चेहरा धो लें।

कैसे काम करता है?

गुलाब जल में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। घरेलू नुस्खों में गुलाब जल सदियों से इस्तेमाल हो रहा है, क्योंकि यह त्वचा के लिए बेहद लाभकारी हैं। गुलाब जल का फायदा यह है कि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाया जाता है। इस गुण के कारण ही विभिन्न सौंदर्य प्रसाधनों में गुलाब जल का इस्तेमाल किया जाता है (20)। वहीं, नींबू सूरज की पराबैंगनी किरणों से त्वचा की रक्षा करता है जिससे त्वचा को झुर्रियों से बचाया जा सकता है (8)। अनार के फेसपैक के फायदे इन दो तत्वों से दोगुने हो सकते हैं।

कैसी त्वचा के लिए सही है?

यह तैलीय त्वचा के लिए सही है।

बने रहें हमारे साथ

ये थी अनार के फेसपैक से संबंधित जानकारी। आइए, आगे जानते हैं फेसपैक लगाने के लिए कुछ सुझाव।

अनार का फेस पैक लगाने के लिए कुछ टिप्स – Other Tips To Use Pomegranate Face Pack in Hindi

यहां बताए गए फेसपैक को लगाने से पहले कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है।

  • ध्यान रखें कि पहले चेहरा पूरी तरह साफ हो, तभी फेसपैक लगाएं। इसलिए, अनार के फेस मास्क को लगाने से पहले चेहरे को पानी से अच्छी तरह धो लें।
  • फेसपैक लगाने से पहले मेकअप को हटाना भी जरूरी है। अगर मेकअप वाटरप्रूफ है, तो किसी अच्छे मेकअप रिमूवल से चेहरे को साफ करके ही फेसपैक लगाएं।
  • कोई भी फेसपैक लगाने के बाद आप घर से बाहर न निकलें। बाहर निकलने पर चेहरे पर धूल-मिट्टी लग सकती है और फेसपैक का असर कम हो सकता है।
  • चेहरा धोने के बाद चेहरे को तौलिये से न रगड़ें, बल्कि मुलायम तौलिये से थपथपा कर पोंछें।
  • चेहरा धोने के बाद चेहरे पर मॉइस्चराइजर लगाना न भूलें। अनार के फेस मास्क को लगाने के बाद चेहरे के रोमछिद्र खुल सकते हैं और मॉइस्चराइजर आसानी से त्वचा के भीतर पहुंच कर नमी प्रदान कर सकता है।
  • अगर आप किसी त्वचा रोग से जूझ रहे हैं, तो उपरोक्त फेसपैक का उपयोग करने से पहले अपने त्वचा रोग विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।

ये तो थे अनार के फेसपैक लगाने के फायदे उठाने के लिए कुछ जरूरी टिप्स। आइए, आगे जानते हैं कि इन फेसपैक को लगाने में क्या सावधानी बरतनी चाहिए।

सावधानियां :

  • एक बार इस्तेमाल किए गए फेसपैक का उपयोग दोबारा न करें, क्योंकि इससे बैक्टीरिया पैदा हो सकते हैं, जो त्वचा के लिए हानिकारक हैं।
  • फेसपैक को निकालने के लिए पानी और वाश क्लॉथ का प्रयोग करें। सूख चुके फेसपैक को सीधे निकालने का प्रयास न करें, इससे त्वचा पर रैशेज हो सकते हैं।
  • अगर किसी की त्वचा संवेदनशील है, तो बिना डॉक्टर की सलाह के चेहरे पर कुछ न लगाएं।
  • अगर आप पहली बार कोई फेसपैक इस्तेमाल करने जा रहे हैं, तो पहले उसे अपनी कलाई पर लगाकर पैच टेस्ट कर लें।
  • फेस पैक के इस्तेमाल से किसी भी तरह की एलर्जी, खुजली या जलन हो, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

तो इस आर्टिकल में आपने जाना कि अनार से बने फेसपैक कितने फायदेमंद हो सकते हैं। आशा करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। अनार के फेसपैक के फायदे तभी उठाए जा सकते हैं, जब इनका प्रयोग बताए गए तरीके से नियमित रूप से किया जाए। स्वस्थ त्वचा के लिए कई तरह फेसपैक इस्तेमाल किए जाते हैं, लेकिन साथ में खान-पान का ध्यान रखना भी जरूरी है। त्वचा की देखभाल व सुंदरता को बढ़ाने के लिए आप हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

20 संदर्भ (Sources) :

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Check out our editorial policy for further details.

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
औली त्यागी उभरती लेखिका हैं, जिन्होंने हरिद्वार (उत्तराखंड) से पत्रकारिता और जनसंचार में एम.ए. की डिग्री हासिल की है। औली को लेखन के क्षेत्र में दो साल का अनुभव है। औली प्रतिष्ठित दैनिक अखबार और कम्युनिटी रेडियो स्टेशन से ट्रेनिंग ले चुकी हैं। औली सामाजिक मुद्दों पर लिखना पसंद करती हैं। लेखन के अलावा इन्हें वीडियो एडिटिंग और फोटोग्राफी का तकनीकी ज्ञान भी हैं। इन्हें हिंदी और उर्दू साहित्य में विशेष रुचि है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch