सामग्री और उपयोग

अंगूर के 25 फायदे, उपयोग और नुकसान – Grapes (Angoor) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

अंगूर के 25 फायदे, उपयोग और नुकसान – Grapes (Angoor) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 May 21, 2019

खाने के साथ-साथ फल का सेवन करना भी जरूरी है, लेकिन कई बार वक्त की कमी और फल छिलने के आलस के कारण लोग इसे खाने से बचते हैं। अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं, तो एक फल ऐसा है, जो गुणों का खजाना होने के साथ-साथ उसे खाना भी आसान है। हम यहां बात कर रहे हैं अंगूर की। यह ऐसा फल है, जिसे खाने के लिए ज्यादा झंझट करने की जरूरत नहीं है और अंगूर खाने के फायदे भी अनेक हैं। इस लेख में हम अंगूर के फायदे बता रहे हैं, जिन्हें जानने के बाद यह फल आपका और प्रिय हो जाएगा। बिना देर करते हुए जानिए अंगूर के फायदे और नुकसान।

विषय सूची


अंगूर के बारे में विस्तार से जानकारी

अंगूर का वैज्ञानिक नाम विटिस विनिफेरा (Vitis vinifera) है। यह विटेसी परिवार से है। इसे हिंदी में अंगूर, संस्कृत में द्राक्षा, तेलुगु में द्रक्षा पाण्डु, तमिल में द्रक्षा पझम (Draksha Pazham), मलयालम में मुंथिरि, कन्नड़ में द्राक्षी, गुजराती में द्रक्ष और मराठी में द्रक्षा कहते हैं। अंगूर को ‘फलों की रानी’ के रूप में जाना जाता है। यह न सिर्फ खाने में मीठे होते हैं, बल्कि गुणकारी भी हैं। अंगूर में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए विटामिन-सी, ऊर्जा के लिए चीनी और एंटीऑक्सीडेंट व एंटी-इंफ्लेमेटरी जैसे गुण हैं।

अंगूर के प्रकार – Types of Grapes in Hindi

अंगूर मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं – हरा, लाल व काला/नीला। सामान्यतः बाजार में हरे और काले अंगूर ज्यादा मिलते हैं और लोग उसी का सेवन करते हैं।

आगे हम अंगूर के कुछ सुने-अनसुने फायदे बता रहे हैं।

अंगूर के फायदे – Benefits of Grapes (Angoor) in Hindi

दिखने में भले ही यह छोटा-सा फल है, लेकिन अंगूर के गुण अनेक हैं। स्वास्थ्य से लेकर त्वचा की बात करें या बालों की, इसमें मौजूद गुणकारी तत्व हर तरह से लाभकारी हैं। नीचे जानिए अंगूर के फायदे।

सेहत के लिए अंगूर के फायदे – Health Benefits of Grapes in Hindi

अगर इंसान स्वस्थ रहे, तो उसकी आधी परेशानियां ऐसे ही कम हो जाती है। स्वस्थ शरीर ही सब कुछ होता है, इसलिए शुरूआत करते हैं सेहत के लिए अंगूर के फायदे से।

1. स्तन कैंसर के लिए अंगूर के फायदे

1. स्तन कैंसर के लिए अंगूर के फायदे Pinit

Shutterstock

आजकल कैंसर सर्दी-जुकाम जैसी सामान्य बीमारी बन चुकी है। स्तन का कैंसर उन्हीं में से एक है, महिलाओं की जीवनशैली और कुछ अन्य कारणों से यह किसी को भी हो सकता है। इसलिए, जरूरी है कि आप पहले से ही इससे बचने के कुछ उपाय कर लें। आप अपनी डाइट में अंगूर को जरूर शामिल करें। अंगूर में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण एंटीकैंसर का प्रभाव डालते हैं, जिससे कैंसर का खतरा काफी हद तक कम हो सकता है (1)। सिर्फ अंगूर में ही नहीं, बल्कि अंगूर से बने किसी भी उत्पाद के सेवन से कैंसर खासकर स्तन और पेट के कैंसर का खतरा कम हो सकता है (2)।

2. पाचन के लिए अंगूर के फायदे

अगर शरीर को स्वस्थ रखना है, तो सही पाचन क्रिया होनी जरूरी है। इसलिए, अपनी जीवनशैली में हर सब्जियों के साथ-साथ फलों को भी शामिल करें। अगर फल की बात करें, तो अंगूर अच्छा विकल्प है। अंगूर में मौजूद पॉलीफेनोल के कारण पाचन क्रिया में काफी हद तक सुधार हो सकता है (3)। इसलिए, अपनी रोज की डाइट में अंगूर को शामिल किया जा सकता है।

3. माइग्रेन के लिए अंगूर के फायदे

3. माइग्रेन के लिए अंगूर के फायदे Pinit

Shutterstock

आजकल हर दूसरे-तीसरे व्यक्ति को माइग्रेन की समस्या होती है। अब यह बीमारी आम हो चुकी है। लगातार सिरदर्द, कभी-कभी तो दो से तीन दिन तक सिरदर्द रहता है। ऐसे में इसका सबसे पहला उपाय है डाइट बदलना। अगर डाइट सही होगी, तो माइग्रेन की परेशानी काफी हद तक ठीक हो सकती है। अपनी डाइट में अंगूर को शामिल कर सकते हैं, इसके सेवन से माइग्रेन से राहत मिल सकती है (4)।

4. आंखों के लिए अंगूर के फायदे

कहा जाता है आंखें किसी के व्यक्तित्व का आईना होती हैं। शरीर के अन्य अंगों की तरह आंखों का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। बढ़ती उम्र के साथ आंखों की रोशनी पर भी प्रभाव पड़ता है। इस स्थिति में पौष्टिक तत्वों का सेवन बहुत जरूरी होता है। आप आंखों के लिए अंगूर का सेवन कर सकते हैं। अंगूर में ल्यूटिन और जियाजैंथिन (lutein and zeaxanthin) मौजूद होता है, जो आंखों को स्वस्थ रख सकता है (5)। इसलिए, नियमित तौर पर अंगूर या अंगूर के सप्लीमेंट का सेवन जरूर करें (6)।

5. हड्डियों के लिए अंगूर खाने के फायदे

5. हड्डियों के लिए अंगूर खाने के फायदे Pinit

Shutterstock

ये तो सभी जानते हैं कि उम्र के साथ-साथ हड्डियां कमजोर होने लगती है। ऐसे में जरूरी है कि आप पहले ही सतर्क हो जाएं। इसलिए, अपनी डाइट में अंगूर शामिल करें। अंगूर के बीज में मौजूद प्रोएंथोस्यानिडींस (proanthocyanidins) हड्डियों के लिए फायदेमंद है (7)। इसके सेवन से हड्डियां मजबूत होती है, साथ ही कैल्शियम के स्तर में सुधार आता है। इसमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है (8)।

6. डायबिटीज के लिए अंगूर खाने के फायदे

डायबिटीज के मरीजों को जितना मीठा खाना मना होता है, उनका मन उतना ही मीठे की तरफ आकर्षित होता है। अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं, तो शायद आपकी समस्या कुछ हद तक ठीक हो सकती है। कई बार मधुमेह के दौरान कई फलों के सेवन को लेकर दुविधा होती है। अगर अंगूर को लेकर भी दुविधा है, तो हम उसे दूर किए देते हैं। मधुमेह के मरीज अंगूर का सेवन कर सकते हैं, लेकिन एक सीमा तक। अंगूर का लो ग्लिसेमिक इंडेक्स और लो ग्लिसेमिक लोड टाइप 2 डायबिटीज में फायदेमंद हो सकता है (9)। अगर डायबिटीज में खाए जाने वाले फलों की बात की जाए, तो अंगूर उन्हीं फलों में से एक है (10)। आप हर रोज 10 से 15 अंगूर खा सकते हैं, लेकिन इसकी खुराक के बारे में एक बार अपने डॉक्टर से भी पूछ लें।

7. कोलेस्ट्रॉल के लिए अंगूर खाने के फायदे

7. कोलेस्ट्रॉल के लिए अंगूर खाने के फायदे Pinit

Shutterstock

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से शरीर में कई तरह की समस्याएं जैसे – दिल की बीमारी, डायबिटीज और ऐसी ही कई परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए, कोलेस्ट्रॉल का सही रहना बहुत जरूरी है। अंगूर के बीज के हायपोलिपिडेमिक प्रभाव (hypolipidemic effect) से शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल कम हो सकता है (11)। आप चाहें तो लाल अंगूर के जूस का सेवन भी कर सकते हैं। इसके सेवन से आपके शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की वृद्धि हो सकती है (12)। इसके अलावा, यह उच्च रक्तचाप को भी कम कर सकता है और कई ह्रदय संबंधी समस्याओं से भी बचाव कर सकता है।

8. अस्थमा या दमा के लिए अंगूर

दमा के मरीजों के लिए ठंड और बरसात का मौसम काफी परेशानियों भरा हो जाता है। धूल-मिट्टी और प्रदूषण तो और ज्यादा दुखदायी हो जाता है। ऐसे में अंगूर के सेवन से काफी राहत मिल सकती है। अंगूर के बीज में प्रोएंथोसायडीन (Proanthocyanidin) होता है, जो सूजन को कम कर दमा के लिए अच्छा उपचार साबित हो सकता है (13) (14)।

9. कब्ज के लिए अंगूर के फायदे

9. कब्ज के लिए अंगूर के फायदे Pinit

Shutterstock

कब्ज की समस्या आम है। इससे निजात पाने के लिए लोग कई तरह की दवाइयों और घरेलू नुस्खों का उपयोग करते हैं। अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं, तो अंगूर का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है (15)। अगर आपको दस्त की समस्या है, तो अंगूर का सेवन न करें।

10. किडनी के लिए अंगूर के फायदे

अंगूर के सेवन से किडनी की समस्या भी काफी हद तक ठीक हो सकती है। आप अंगूर के पाउडर का सेवन कर सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण किडनी की समस्या से बचाव कर सकते हैं (15)। अगर मोटापे और डायबिटीज का शिकार व्यक्ति हर रोज अंगूर के पाउडर का सेवन करे, तो वो भी किडनी की बीमारी से बच सकता है (16) (17)।

11. अल्जाइमर के लिए अंगूर

11. अल्जाइमर के लिए अंगूर Pinit

Shutterstock

भूलने की आदत आम है, लेकिन अगर यही ज्यादा होने लगे, तो इसे खतरे की घंटी समझना चाहिए। कुछ लोगों को उम्र के साथ-साथ भूलने की बीमारी होने लगती है, जिसे अल्जाइमर कहते हैं। वैसे तो यह बीमारी अधिक उम्र में होती है, लेकिन आजकल की जीवनशैली की वजह से यह कम उम्र में भी होने लगी है। ऐसे में अंगूर के सेवन से इस बीमारी के जोखिम से बचा जा सकता है। लाल अंगूर के जूस में कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जो अल्जाइमर के कारण मस्तिष्क को होने वाली हानि पर चिकित्सीय प्रभाव डाल सकते हैं (18)। इसलिए, अगर अल्जाइमर के जोखिम से बचना है, तो लाल अंगूर के जूस का सेवन कर सकते हैं।

12. ब्लड प्रेशर के लिए अंगूर

ब्लड प्रेशर जब तक नियंत्रित है, तब तक ठीक है, लेकिन जब यही ब्लड प्रेशर घटने या बढ़ने लगे, तो सेहत खराब होने लगती है। अधिकतर लोग उच्च रक्तचाप की समस्या की शिकायत करते हैं। अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं, तो आप अंगूर का सेवन करें। हर रोज इसके सेवन से सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर ( systolic blood pressure) कम हो सकता है (19)। हालांकि, ब्लड प्रेशर की दवाइयों के मुकाबले इसका असर कम होता है। अंगूर खासकर कम उम्र और मोटापे के शिकार लोगों के लिए प्रभावकारी हो सकते हैं (20)। साथ ही एक और बात सामने आई है कि लाल अंगूर के जूस का सेवन करने के बाद व्यक्ति के आराम करने से ब्लड प्रेशर कम होता है और एक्सरसाइज करने के बाद ब्लड प्रेशर में सुधार आता है, लेकिन यह सब कुछ व्यक्ति के यह शुरुआती बीपी पर निर्भर करता है (21)। कई अध्ययनों में अंगूर में हाइपोटेंसिव प्रभाव (hypotensive effect) पाया गया है (11)। इसलिए, निम्न रक्तचाप वाले लोग इसका सेवन सावधानी से करें या किसी विशेषज्ञ की राय लेकर करें।

13. वायरल संक्रमण के लिए अंगूर

13. वायरल संक्रमण के लिए अंगूर Pinit

Shutterstock

वायरल संक्रमण से बचाव के लिए अंगूर बहुत फायदेमंद साबित हो सकते हैं। अंगूर या अंगूर के जूस में मौजूद एंटी-वायरल गुण किसी भी प्रकार के वायरल संक्रमण से कुछ हद तक बचाव कर सकते हैं (22)। हालांकि, इसके बारे में अभी और शोध एवं जानकारी की जरूरत है।

14. गठिया के लिए अंगूर के फायदे

उम्र बढ़ने के साथ-साथ हड्डियां कमजोर होना और हड्डियों से संबंधित समस्याएं होना आम बात है। गठिया उन्हीं में से एक है। जोड़ों में दर्द होना इसका सबसे सामान्य लक्षण है। इस स्थिति में अगर पहले से अंगूर का सेवन किया जाए, तो रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid arthritis), जोकि गठिया का ही एक प्रकार है, उससे बचा जा सकता है। सूजन की वजह से होने वाली इस बीमारी में अंगूर के सेवन से राहत मिल सकती है। अंगूर में मौजूद पॉलीफेनोल में एंटी-अर्थराइटिक प्रभाव हैं, जिस कारण इससे बचाव हो सकता है (23)। साथ ही अंगूर में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी हैं, जिससे गठिया में राहत मिल सकती है (24)।

15. वजन कम करने के लिए अंगूर

15. वजन कम करने के लिए अंगूर Pinit

Shutterstock

बढ़ता वजन आजकल हर किसी के लिए चिंता का कारण बना हुआ है। अगर आप भी बढ़ते वजन से परेशान हैं, तो व्यायाम के साथ-साथ अंगूर को अपने खाने में शामिल करें। अंगूर के बीज में एंटी-ऑबेसिटी गुण मौजूद हैं (25), जिस कारण इसके सेवन से मोटापे की समस्या काफी हद तक दूर हो सकती है। आप चाहें तो अंगूर के जूस का भी सेवन कर सकते हैं।

16. अंगूर एंटीऑक्सीडेंट के रूप में

एंटीऑक्सीडेंट शरीर के लिए बहुत जरूरी है। शरीर को घातक बीमारियों से बचाने के लिए एंटीऑक्सीडेंट की आवश्यकता होती है। एंटीऑक्सीडेंट कई फलों और सब्जियों में पाया जाता है और अंगूर उन्हीं में से एक है। अंगूर में कई प्रकार के फाइटोकेमिकल्स होते हैं, जैसे कि फेनोलिक एसिड (phenolic acids), स्टिलबेन (stilbenes), एंथोसायनिन (anthocyanins) और प्रोएंथोसायडीन (proanthocyanidins), ये सभी मजबूत एंटीऑक्सीडेंट हैं (26)।

यह छोटा-सा फल त्वचा पर निखार लाने के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

त्वचा के लिए अंगूर के फायदे – Skin Benefits of Grapes (Angoor) in Hindi

त्वचा के लिए अंगूर के फायदे - Skin Benefits of Grapes (Angoor) in Hindi Pinit

Shutterstock

सेहत के लिए अंगूर के फायदे तो आप जान ही गए हैं। अब बारी आती है त्वचा के लिए अंगूर खाने के फायदे जानने की। खूबसूरत और निखरी त्वचा की चाहत लगभग हर किसी को होती है और फलों का सेवन इसके लिए जरूरी है। यहां जानिए त्वचा के लिए अंगूर के फायदे :

1. सनबर्न के लिए अंगूर

कभी-कभी धूप इतनी तेज होती है कि सनस्क्रीन लगाने के बावजूद सनबर्न हो जाते हैं, लेकिन अब आपको चिंता करने कि जरूरत नहीं है, क्योंकि प्रकृति के पास हर चीज का इलाज है। आपको पढ़कर हैरानी हो सकती है, लेकिन सनबर्न के लिए अंगूर अच्छा उपाय है। नीचे हम बता रहे हैं कि सनबर्न होने पर अंगूर का उपयोग कैसे किया जाए।

सामग्री :
  • कुछ कुचले हुए अंगूर
क्या करें?
  • सनबर्न की जगह पर धीरे-धीरे से मसले हुए अंगूर लगाएं।
  • 30 मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

पहली बात यह है कि अंगूर की तासीर ठंडी होती है, इसलिए यह सनबर्न में आराम दिलाता है। इसके अलावा, अंगूर में पॉलीफेनोल होते हैं, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद हैं। ये पॉलीफेनोल सनबर्न से बचाव कर सकते हैं और अल्ट्रावॉयलेट (UVA & UVB) के प्रभाव को कम कर सकते हैं (27)। हालांकि, इस संबंध में अभी और शोध की जरूरत है।

2. असमान स्किन टोन के लिए अंगूर

कई बार लोग असमान चेहरे की रंगत से परेशान रहते हैं। ऐसा मुख्यतः सनबर्न के बाद होता है, जब चेहरे या त्वचा के कुछ भाग की रंगत, दूसरे भाग की रंगत से अलग होती है। इससे राहत पाने के लिए आप अंगूर का उपयोग कर सकते हैं। नीचे जानिए कैसे –

सामग्री :
  • ताजे अंगूर का रस या गूदा
क्या करें?
  • अपनी त्वचा पर ताजा निचोड़ा हुआ अंगूर का रस या गूदा लगाएं।
  • इसे कुछ देर के लिए सूखने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर में रेस्वेराट्रोल (Resveratrol) नामक एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो त्वचा संबंधी समस्याओं से बचाव कर सकते हैं (28)।

3. एंटी-एजिंग के लिए अंगूर

उम्र के साथ-साथ चेहरे पर फाइन लाइन्स और झुर्रियां होने लगती हैं, लेकिन कई बार यह उम्र से पहले ही दस्तक दे देती हैं। धूल-मिट्टी, प्रदूषण और धूप ही नहीं, बल्कि आजकल की जीवनशैली भी इसका कारण है। ऐसे में कुछ प्राकृतिक पदार्थ एंटी-एजिंग का काम कर सकते हैं और अंगूर उन्हीं में से एक है। नीचे जानिए एंटी-एजिंग के लिए अंगूर के गुण :

सामग्री :
  • बिना बीज वाले अंगूर का गूदा
क्या करें ?
  • अपने चेहरे पर अंगूर के गूदे को सर्कुलर मोशन में मालिश करें।
  • इसे 20 मिनट तक रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर में रेस्वेराट्रोल (Resveratrol) नामक पॉलीफेनोल होता है, जो एंटी-एजिंग का काम कर सकता है। यह एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। यह न सिर्फ स्किन एजिंग, बल्कि स्किन कैंसर से भी बचाव कर सकता है (29) (30)।

4. त्वचा को कोमल बनाने के लिए अंगूर

कोमल त्वचा पाने के लिए लोग कई तरह की चीजें करते हैं । क्रीम, लोशन, यहां तक कि बेबी प्रोडक्ट भी उपयोग कर लेते हैं। हालांकि, इनका असर कुछ वक्त तक ही रहता है और त्वचा फिर पहले जैसी रूखी-बेजान होने लगती है। इस स्थिति में प्राकृतिक चीजें काफी लाभकारी हो सकती है और अंगूर उन्हीं में से एक है। अगर आपके पास अंगूर है, तो आपको अपनी त्वचा के लिए ज्यादा महंगे उत्पादों की जरूरत नहीं है। जानिए इसके उपयोग का तरीका :

सामग्री :
  • अंगूर के बीज का रस
क्या करें?
  • इसको हल्के-हल्के से अपने चेहरे पर स्क्रब की तरह उपयोग करें।
  • फिर ठंडे पानी से इसको धो दें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर या अंगूर के बीज में विटामिन-ई होता है और यह त्वचा के लिए बहुत लाभकारी होता है (30)। अंगूर का रस एक्सफोलिएंट के रूप में भी काम करता है। इसे त्वचा पर रगड़ने से मृत कोशिकाओं की ऊपरी परत निकल जाती है, जिससे त्वचा स्वस्थ और मुलायम हो सकती है। आप चाहें तो अंगूर के जूस को पी भी सकते हैं।

5. दाग-धब्बों के लिए अंगूर

किशोरावस्था ऐसा चरण है, जिस दौरान चेहरे पर मुंहासे होना आम बात है। जैसे-जैसे हम बड़े होते हैं, ये धीरे-धीरे गायब होने लगते हैं। कई बार यही मुंहासे कभी न मिटने वाले दाग छोड़ देते हैं। इससे निपटने के लिए लोग कई तरह की क्रीम और लोशन पर पैसे खर्च करते हैं, लेकिन उनका कुछ खास फर्क नहीं पड़ता है। ऐसे में आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि प्रकृति के पास इसका उपाय है। आप अंगूर के उपयोग से दाग-धब्बे की समस्या से निजात पा सकते हैं। नीचे जानिए इसे उपयोग करने की विधि :

सामग्री :
  • हरे अंगूर
  • 1 बड़ी चम्मच फिटकरी
  • 1 बड़ा चम्मच नमक
क्या करें?
  • सभी सामग्री को मिलाएं और फॉयल में लपेट लें। फिर इसे 15 मिनट के लिए बेक करें।
  • बेक करने के बाद ठंडा करके इसका जूस निकालकर चेहरे पर लगाएं।
  • इसे 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर में विटामिन-सी होता है (31), जो त्वचा को रिपेयर करने में मदद कर सकता है और त्वचा को स्वस्थ रखता है। इसके नियमित उपयोग से दाग-धब्बे काफी कम हो सकते हैं।

बालों को खूबसूरत बनाना हो, तो भी अंगूर के लाभ अनेक हैं।

बालों के लिए अंगूर के फायदे – Hair Benefits of Grapes in Hindi

बालों के लिए अंगूर के फायदे - Hair Benefits of Grapes in Hindi Pinit

Shutterstock

सेहत और त्वचा के बाद अब बारी आती है बालों की। खूबसूरत, लंबे व घने बाल व्यक्तित्व को और निखारते हैं, लेकिन कई बार बालों के लगातार झड़ने, रूखे-बेजान होने की वजह से न चाहते हुए भी छोटे करवाने पड़ जाते हैं। अब इस स्थिति में अगर अंगूर का उपयोग किया जाए, तो आपके बाल स्वस्थ हो सकते हैं। नीचे जानिए बालों के लिए अंगूर के फायदे :

1. बालों को झड़ने से बचाए

बालों को कंघी करने के बाद उसमें बालों का गुच्छा देखकर आपको डर तो लगता ही होगा। खासकर, बारिश के मौसम के दौरान यह समस्या ज्यादा होती है। मौसम के कारण और देखभाल की कमी के कारण बाल टूटने लगते हैं और जब तक इस पर ध्यान जाए, तब तक काफी देर हो चुकी होती है। इस स्थिति में अंगूर आपके लिए मददगार साबित हो सकता है।

सामग्री :
  • जरूरत के अनुसार बीज वाले अंगूर
उपयोग करने की विधि :
  • अंगूर को मैश करें और आराम से उनको बालों पर लगाएं।
  • लगाने के बाद थोड़ी देर के लिए उसे अपने बालों पर लगा रहने दें।
  • फिर बालों को धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर में मौजूद प्रोएंथोस्यानिडींस (proanthocyanidins) यौगिक बालों को घना करने और बढ़ने में मदद कर सकते हैं (32)। इसलिए, आप अंगूर के अलावा अंगूर के बीज का तेल भी लगा सकते हैं।

2. चमकदार बालों के लिए अंगूर

बाल लंबे हों, लेकिन उनमें चमक न हो, तो उसका कोई फायदा नहीं है। वहीं, अगर छोटे बालों में चमक हो, तो वो आकर्षण का केंद्र बन जाते हैं। इसलिए, बालों की चमक बरकरार रखने के लिए आप अंगूर का उपयोग कर सकते हैं। आपको हैरानी हो सकती है, लेकिन यह सच है कि कई सालों से अंगूर के बीज के तेल को बालों के झड़ने और बालों से संबंधित अन्य समस्याओं के लिए उपयोग किया जाता रहा है। अंगूर में मौजूद विटामिन, मिनरल और ऐसे कई पौष्टिक तत्व हैं, जिससे बालों को पोषण मिलता है और बाल चमकदार बनते हैं।

आप अंगूर के बीज का तेल या फिर अंगूर का हेयर पैक लगा सकते हैं। अगर आप यह नहीं कर सकते, तो अपनी डाइट में अंगूर को शामिल कर अपने बालों को स्वस्थ और चमकदार बना सकते हैं।

3. बालों को घना बनाने के लिए अंगूर

बाल लंबे हों, लेकिन घने न हों, तो वो आकर्षित नहीं लगते। वहीं, बाल छोटे, लेकिन घने हों, तो वो ज्यादा खूबसूरत लगते हैं। अगर आप भी अपने बालों को घना बनाना चाहती हैं, तो अंगूर अच्छा विकल्प है। नीचे जानिए, कैसे अंगूर से आप घने बाल पा सकते हैं :

सामग्री :
  • 50 ग्राम अंगूर के बीज
  • 50 ग्राम मेथी दाना
  • 1 चम्मच काली मिर्च
उपयोग करने की विधि :
  • मेथी, अंगूर के बीज और काली मिर्च को मिक्स करे पाउडर होने तक पीस लें।
  • इस पाउडर को गुनगुने तेल में मिलाकर स्कैल्प पर 10 मिनट तक मसाज करें।
  • फिर शैंपू या पानी से धो लें।
  • इसके अच्छे परिणाम के लिए सप्ताह में दो बार इसका उपयोग करें।
कैसे फायदेमंद है?

अंगूर में प्रोएंथोस्यानिडींस (proanthocyanidins) होते हैं, जो बालों को घना करने में मददगार साबित हो सकते हैं (32)।

4. रूसी के लिए अंगूर

डैंड्रफ यानी रूसी की समस्या आम है। हालांकि, लोग इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं और इसी कारण से यह समस्या बढ़ती चली जाती है। जब तक इस पर ध्यान जाता है, बाल टूटने और खराब होने लगते हैं। इसलिए, रूसी को अनदेखा न करते हुए वक्त रहते डैंड्रफ की समस्या को दूर करना जरूरी है। अगर आपको खुजली और रूसी से तुरंत आराम चाहिए, तो काले अंगूर को मैश करें और अपने बालों पर लगाएं। फिर 15 मिनट बाद इसे धो लें। इससे आपको काफी हद तक राहत मिल सकती है।

कैसे फायदेमंद है?

काले अंगूर में विटामिन-ई, एंटी-माइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं, जो बालों की समस्याओं को रोकने में मदद कर सकते हैं। यह आपके स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार कर उसे स्वस्थ रख सकते हैं।

फायदों के बाद अब बारी आती है अंगूर के पौष्टिक तत्वों के बारे में जानने की।

अंगूर के पौष्टिक तत्व – Grapes (Angoor) Nutritional Value in Hindi

अंगूर के फायदे तो आपने कई सारे पढ़े, अब आप यह जानना चाहेंगे कि इसमें ऐसी क्या चीजें हैं, जो इसे इतना फायदेमंद बनाती हैं। नीचे हम अंगूर के पौष्टिक तत्वों की सूची दे रहे हैं।

तत्वन्यूट्रिएंट वैल्यूआरडीए %
एनर्जी69 केसीएल3.5%
कार्बोहाइड्रेट18 ग्राम14%
प्रोटीन0.72 ग्राम 1%
कुल फैट0.16 ग्राम0.5%
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम0%
डायटरी फाइबर0.9 ग्राम2%
विटामिन्स
फोलेट2 माइक्रोग्राम0.5%
नियासिन0.188 मिलीग्राम1%
पेंटोथेनिक एसिड0.050 मिलीग्राम1%
पाइरिडोक्सिन0.086 मिलीग्राम7.5%
राइबोफ्लेविन0.070 मिलीग्राम5%
थियामिन0.069 मिलीग्राम6%
विटामिन ए66 आईयू3%
विटामिन सी10.8 मिलीग्राम18%
विटामिन ई0.19 मिलीग्राम1%
विटामिन के14.6 माइक्रोग्राम12%
 एल्क्ट्रोलाइट्स
सोडियम1 मिलीग्राम0%
पोटैशियम191 मिलीग्राम4%
मिनरल्स
कैल्शियम10 मिलीग्राम1%
कॉपर0.127 मिलीग्राम14%
आयरन0.36 मिलीग्राम4.5%
मैग्नीशियम7 मिलीग्राम2%
मैंगनीज0.071 मिलीग्राम3%
जिंक0.07 मिलीग्राम0.5%
फायटो-न्यूट्रिएंट्स
कैरोटीन (Carotene-a)1 माइक्रोग्राम
बीटा कैरोटीन (Carotene-ß)39 माइक्रोग्राम
बीटा क्रिप्टो-जैंथिन0 माइक्रोग्राम
ल्यूटिन-जिआजेंथिन72 माइक्रोग्राम

अंगूर का उपयोग – How to Use Grapes in Hindi

अंगूर का उपयोग - How to Use Grapes in Hindi Pinit

Shutterstock

अब इतने सारे फायदे जानने के बाद आपके मन में अंगूर को उपयोग कैसे करें, यह बात भी चल ही रही होगी। कई लोग यह सोच रहे होंगे कि अंगूर का उपयोग करने का तो एक ही तरीका है कि इसे धोएं और खा लें। हालांकि, यह सही भी है, लेकिन इसके फायदे को और अच्छे से अवशोषित करने के लिए व इसके स्वाद को बढ़ाने के लिए कई अन्य तरीकों से भी खाया जा सकता है। नीचे हम कई तरह से अंगूर खाने के बारे में आपको बता रहे हैं।

  1. आप अंगूर का सेवन फ्रूट चाट में कर सकते हैं।
  2. आप अंगूर का जूस पी सकते हैं।
  3. आप अंगूर की आइसक्रीम खा सकते हैं।
  4. अंगूर को कस्टर्ड में डालकर सेवन कर सकते हैं।
  5. अंगूर को केक में डालकर खा सकते हैं।
  6. अंगूर के बीज का तेल लगा सकते हैं।
  7. आप किशमिश के रूप में भी अंगूर का सेवन कर सकते हैं।
  8. अंगूर को ऐसे ही खा सकते हैं।

नोट : कोशिश करें अंगूर को सुबह के वक्त खाने की। इससे न सिर्फ आपको एनर्जी मिलेगी, बल्कि आपका शरीर भी हाइड्रेटेड रहेगा।

इस गुणकारी फल के कुछ नुकसान भी हैं, जिनके बारे में हम आगे बता रहे हैं।

अंगूर के नुकसान – Side Effects of Grapes in Hindi

किसी भी चीज का अत्यधिक सेवन या गलत तरीके से सेवन से नुकसान हो सकते हैं और उसी तरह अंगूर के फायदे और नुकसान दोनों ही हैं। आपने ऊपर अंगूर के फायदे जानें, जिसे जानकर हो सकता है आप इसका जरूरत से ज्यादा सेवन कर लें। आप ऐसी गलती न करें, इसलिए हम आपको इसके नुकसान बताकर सावधान कर देना चाहते हैं।

  1. अगर अंगूर से वजन कम हो सकता है, तो इसके ज्यादा सेवन से वजन बढ़ भी सकता है।
  2. इससे गैस या दस्त की समस्या भी हो सकती है।
  3. अगर किसी को एलर्जी की परेशानी है, तो उसे अंगूर से एलर्जी भी हो सकती है।
  4. गर्भवती महिलाएं अंगूर का सेवन डॉक्टर से पूछकर करें।
  5. ज्यादा अंगूर खाने से उल्टी की परेशानी भी हो सकती है।
  6. अंगूर के अधिक सेवन से अपच की समस्या भी हो सकती है।

अगर अंगूर के अंगूर के गुण अनेक हैं, तो कुछ नुकसान भी हैं। अंगूर के नुकसान बताकर हम आपको डराना नहीं चाहते, बल्कि सावधान करना चाहते हैं कि किसी भी चीज का ज्यादा सेवन फायदे की जगह हानि कर सकता है। यह छोटा-सा दिखने वाला फल आपको सेहतमंद रखने में बहुत मददगार साबित हो सकता है। अंगूर के फायदे अनेक हैं, लेकिन सिर्फ अंगूर खाने से ही नहीं, बल्कि आपको अपनी जीवनशैली में भी सुधार करना होगा, ताकि अंगूर खाने के फायदे आपको पूरी तरह से मिल सकें। साथ ही अगर आपको भी अंगूर के फायदे पता हों, जो इस लिस्ट में नहीं है, तो आप उसे हमारे साथ नीचे कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

संबंधित आलेख