बालों को झड़ने से रोकने के उपाय और इलाज – How to Stop Hair Fall in Hindi

Medically reviewed byDr. Zeel Gandhi, Ayurvedic Doctor
by

बाल झड़ना एक आम समस्या है, जो पुरुष हो या महिला, किसी को भी प्रभावित कर सकती है। इसके पीछे कई बाल झड़ने के कारण जिम्मेदार हो सकते हैं, जिनकी जानकारी हम आगे लेख में देंगे। वहीं, इस समस्या से निजात पाने के लिए लोग कई तरह के आधुनिक उपाय भी करते हैं, जिनका दुष्प्रभाव बालों की समस्या को ओर भी जटिल बना सकता है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम बालों को झड़ने से रोकने के उपाय बताने जा रहे हैं। यहां बताए जा रहे बाल झड़ने के घरेलू उपाय आपकी इस समस्या को कुछ हद तक कम करने में मददगार हो सकते हैं। इस बात का ध्यान जरूर रखें कि इन घरेलू नुस्खों को हेयर फॉल का इलाज न समझें। अगर समस्या गंभीर है तो संबंधित डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

पढ़ते रहिए

इससे पहले हम पाठकों को बालों का गिरना कैसे रोके ये बताएं, उससे पहले जानते हैं बाल झड़ने के कारण क्या-क्या हो सकते हैं।

बाल झड़ने के कारण – Causes of Hair Fall in Hindi

बाल झड़ने के कारण कई हैं, उनमें से प्रमुख कारणों के बारे में हम नीचे जिक्र कर रहे हैं (1)।

आनुवंशिक – बालों के झड़ने का एक प्रमुख कारण आनुवंशिक भी है। अगर परिवार में पहले किसी को बाल झड़ने की समस्या रही है, तो परिवार में किसी अन्य सदस्य को भी इसका सामना करना पड़ सकता है।

शारीरिक या भावनात्मक तनाव – शारीरिक या भावनात्मक तनाव के कारण भी बाल झड़ सकते हैं। इस तरह के बालों के झड़ने को टेलोजेन एफ्लुवियम (Telogen effluvium) कहा जाता है। जब आप शैम्पू करते हैं, कंघी करते हैं या अपने हाथों को बालों में फेरते हैं तो मुट्ठी में बहुत सारे बाल एक साथ आ जाते हैं।

शारीरिक या भावनात्मक तनाव से बाल गिरने का कारण कुछ इस प्रकार है –

  • तेज बुखार या गंभीर संक्रमण
  • प्रसव
  • बड़ी सर्जरी, बड़ी बीमारी या अचानक खून की कमी
  • गंभीर भावनात्मक तनाव
  • क्रैश डाइट (कम वक्त में वजन कम करने की डाइट), विशेष रूप से वे जिनमें पर्याप्त प्रोटीन नहीं होता है।
  • कुछ खास तरह की दवाइयों की वजह से जैसे – गर्भनिरोधक दवा या एंटीडिप्रेसेंट्स।

कुछ महिलाएं 30 से 60 की उम्र के बीच में भी इस प्रकार की बाल झड़ने की समस्या से पीड़ित हो सकती हैं। हालांकि, टेलोजेन एफ्लुवियम का अभी तक कोई सटीक कारण पता नहीं चल पाया है।

बाल झड़ने के अन्य कारण

  • एलोपेसिया एरीटा (Alopecia Areata – बाल झड़ने की गंभीर समस्या)
  • एनीमिया (खून की कमी)
  • ऑटोइम्यून स्थिति जैसे कि ल्यूपस (Lupus – प्रतिरक्षा प्रणाली द्वारा स्वस्थ टिश्यू पर हमला)
  • जलने के कारण
  • कुछ संक्रामक रोग जैसे सिफलिस (Syphilis – यौन संबंध से होने वाला एक तरह का बैक्टीरियल संक्रमण)
  • अत्यधिक शैंपू करना और ब्लो-ड्राई करना
  • हार्मोन में बदलाव होना
  • थायराइड रोग
  • कुछ आदतें जैसे – लगातार बालों पर हाथ फेरना, खींचना या स्कैल्प को रगड़ना
  • टिनिआ केपिटिस (Tinea Capitis – खोपड़ी का दाद)
  • स्कैल्प में बैक्टीरियल संक्रमण

पढ़ना जारी रखें 

बाल गिरने का कारण जानने के बाद अब बात करते हैं बाल झड़ने के घरेलू उपाय के बारे में।

बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Hair Fall in Hindi

1. नारियल तेल 

सामग्री

आवश्यकतानुसार नारियल तेल।

उपयोग करने का तरीका
  • रात को सोने से पहले बालों और स्कैल्प की अच्छे से मालिश करें।
  • फिर अगले दिन हल्के शैंपू से धो लें।
  • नारियल तेल का उपयोग हफ्ते में दो से तीन बार कर सकते हैं।
कैसे लाभकारी है?

नारियल तेल का उपयोग कई तरह के हेयर प्रोडक्ट में किया जाता है (2)। नारियल तेल बालों के डैमेज को कम करने में उपयोगी हो सकता है। यह काफी हल्का होता है और बालों को गहराई से पोषण प्रदान कर सकता है। बाल धोने से पहले या बाद में, नारियल तेल का उपयोग बालों के प्रोटीन को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे बालों के स्वास्थ को बढ़ावा मिल सकता है (3)। साथ ही नारियल तेल का उपयोग बालों के खराब होने या टूटने के जोखिम को कम कर सकता है (4)।

2. प्याज का रस

सामग्री
  • एक प्याज
  • एक कॉटन बॉल
उपयोग करने का तरीका
  • प्याज को पीसकर उसका रस निकाल लें।
  • अब इसमें रूई को डुबाकर, रस को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं।
  • करीब आधे से एक घंटे बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें और बाद में शैंपू भी कर लें।
कैसे फायदेमंद है?

एनसीबीआई (The National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार स्कैल्प पर कच्चे प्याज के रस का उपयोग बालों के री ग्रोथ में उपयोगी पाया गया है। इस आधार पर प्याज के रस का उपयोग एलोपेसिया एरेटा (Alopecia Areata – बाल झड़ने की स्थिति) के लिए प्रभावकारी हो सकता है (5)।

3. करी पत्ता

सामग्री
  • मुट्ठी भर करी पत्ता
  • आधा कप नारियल तेल
उपयोग करने का तरीका
  • आधा कप नारियल के तेल में मुट्ठी भर करी पत्ते डालें और इसे सॉस पैन में गर्म करें।
  • जब मिश्रण हल्का काला रंग का होने लगे तो गैस बंद कर दें और मिश्रण को ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • ठंडा होने के बाद मिश्रण को छान लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने बालों और स्कैल्प पर लगाकर, आधे से एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद शैंपू और कंडीशनर से धो लें।
  • हफ्ते में एक बार इसका उपयोग किया जा सकता है।
कैसे फायदेमंद है?

कई सालों से बालों के लिए करी पत्ते का उपयोग किया जाता रहा है। यह बालों के लिए टॉनिक की तरह काम कर बालों के रंग को बरकरार रखने के साथ-साथ नए बालों को जमने में भी मदद कर सकता है (6)। इतना ही नहीं करी पत्ता बालों के सफेद होने के जोखिम को भी कम कर सकता है (7)। हालांकि, इस बारे में अभी तक कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है, लेकिन व्यक्ति बालों को स्वस्थ रखने के लिए करी पत्ते का उपयोग कर सकता है।

4. अंडा

सामग्री
  • एक अंडा
  • दो से तीन चम्मच बादाम तेल
उपयोग करने का तरीका
  • अंडे के सफेद हिस्से को बादाम तेल में मिला लें।
  • अब इसे अपने बालों में लगाएं।
  • लगभग आधे घंटे के बाद बालों को शैंपू से धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

अंडा बालों को स्वस्थ रखने के लिए एक प्रभावकारी सामग्री हो सकता है। यह न सिर्फ बालों को स्वस्थ रख सकता है बल्कि बालों को खराब होने या टूटने से भी बचा सकता है। बालों के लिए अंडे का उपयोग कई अन्य सामग्रियों जैसे – जैतून का तेल, शहद और दही के साथ भी किया जा सकता है (8)। इतना ही नहीं अंडे की जर्दी भी बालों के लिए लाभकारी हो सकती है और बाल झड़ने में एक उपयोगी उपचार की तरह काम कर सकती है (9)।

5. आंवला

सामग्री
  • 4-5 आंवला
  • एक कप नारियल तेल
उपयोग करने का तरीका
  • आंवले को नारियल तेल में तब तक उबालें, जब तक कि तेल काला न हो जाए।
  • इसके बाद तेल को ठंडा करें और इससे सिर की मालिश करें।
  • इसके करीब 20-30 मिनट के बाद शैंपू से सिर धो लें।
कैसे फायदेमंद है?

आंवला हेयर टॉनिक की तरह उपयोग किया जाता रहा है। आंवला का उपयोग बालों को मजबूत बनाने में मदद कर सकता है। आंवला का उपयोग अगर नारियल तेल के साथ किया जाए तो यह बालों को झड़ने से बचाव करने में सहायक हो सकता है। इसके अलावा, आंवला बालों को पोषण प्रदान कर सकता है, जिससे बाल स्वस्थ हो सकते हैं। अगर आंवले का सेवन किया जाए तो यह और लाभकारी हो सकता है (10)। आंवला में विटामिन सी मौजूद होता है, जो झड़ते बालों के लिए लाभकारी हो सकता है (11)।

6. मुलेठी

सामग्री
  • एक चम्मच मुलेठी का पाउडर
  • एक कप दूध
  • एक चम्मच केसर
उपयोग करने का तरीका
  • मुलेठी पाउडर और केसर को दूध में डालकर मिक्स कर लें।
  • रात को सोने से पहले इस मिश्रण को सिर पर लगाएं।
  • अगली सुबह सिर को अच्छी तरह से धो लें।
  • इसे हफ्ते में एक से दो बार उपयोग किया जा सकता है।
कैसे फायदेमंद है?

मुलेठी का उपयोग बालों के लिए बनाए जाने वाले टॉनिक में किया जाता है। मुलेठी बालों को झड़ने से रोकने में मदद कर सकता है (12)। इसके अलावा, मुलेठी युक्त शैंपू बालों को स्वस्थ रखने और बालों से जुड़ी अन्य समस्याओं के लिए लाभकारी हो सकता है (13)। हालांकि, इससे संबंधित कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण अभी तक उपलब्ध नहीं है। यह एक हर्बल जड़ी बूटी है तो इसका उपयोग बालों को स्वस्थ रखने के लिए किया जा सकता है।

अंत तक पढ़ें

7. ग्रीन टी

सामग्री
  • दो ग्रीन टी बैग्स
  • दो-तीन कप गर्म पानी
उपयोग करने का तरीका
  • दोनों टी बैग्स को गर्म पानी में डाल दें और पानी के ठंडा होने तक का इंतजार करें।
  • टी बैग्स को बाहर निकालकर, इस पानी से बालों को धो लें।
  • साथ ही सिर की मसाज करें।
कैसे फायदेमंद है?

बालों के लिए ग्रीन टी के लाभ भी अनेक हैं। ग्रीन टी में एपिगैलोकैटेचिन-3-गैलेट (ईजीसीजी) नामक एक पॉलीफेनोल होता है। ईजीसीजी बालों के ग्रोथ में सहायक हो सकता है और साथ ही साथ एलोपेसिया के लिए भी लाभकारी हो सकता है (14)।

पढ़ना जारी रखें

8. दही

सामग्री
  • एक कटोरी दही
  • थोड़े से मेथी के दाने
उपयोग करने का तरीका
  • मेथी के दानों को मिक्सी में पीस लें।
  • अब इस पाउडर को दही में डालकर मिक्स कर लें।
  • इस मिश्रण को सिर व बालों पर लगाएं और हल्के हाथों से सिर की मालिश करें।
  • करीब 20 मिनट बाद गुनगुने पानी से बालों को धोकर, शैंपू कर लें।
कैसे फायदेमंद है?

दही प्रोबायोटिक्स का एक स्रोत है (15)। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, प्रोबायोटिक्स का उपयोग बालों के विकास और उनकी मोटाई में सुधार का काम कर सकता है (16)।

9. गुड़हल (Hibiscus)

सामग्री
  • 10 चाइनीज हिबिस्कस फूल
  • 2 कप शुद्ध नारियल तेल
उपयोग करने का तरीका
  • चाइनीज हिबिस्कुस फूल को नारियल के तेल में मिलाकर गर्म कर लें।
  • जब फूल अच्छी तरह से जल जाएं, तो तेल को अलग कर लें।
  • इस तेल को हर रात सिर व बालों पर लगाएं और अगली सुबह धो लें।

इसके अलावा, हिबिस्कुस की पत्तियों का उपयोग भी किया जा सकता है।

सामग्री
  • 1-2 हिबिस्कस फूल
  • 5-6 हिबिस्कस की पत्तियां
  • नारियल का तेल (आवश्यकतानुसार)
उपयोग करने का तरीका
  • हिबिस्कस के फूल और पत्तियों को ब्लेंड करें।
  • इस मिश्रण में थोड़ा सा नारियल तेल मिलाएं।
  • इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं और अपने बालों में फैलाएं।
  • इसे 30-60 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर शैंपू और कंडीशनर से धो दें।
  • हफ्ते में एक बार इसका उपयोग कर सकते हैं।
कैसे लाभकारी है?

हिबिस्कस फूल और पत्तियां बालों के लिए लाभकारी हो सकते हैं। दरअसल, चूहों पर किए गए शोध के अनुसार हिबिस्कस फूल और पत्तियां बालों को बढ़ने में मदद कर सकते हैं। शोध में यह बात सामने आई कि फूलों से भी ज्यादा उपयोगी पत्तियां हो सकती हैं (17)। इसके अलावा, हिबिस्कस को हेयर टॉनिक की तरह भी उपयोग किया जा सकता है। इसके उपयोग से बालों का झड़ना काफी हद तक कम हो सकता है (18)।

10. रोजमेरी तेल

सामग्री
  • आवश्यकतानुसार रोजमेरी तेल
  • 8 से 10 बूंद जैतून या नारियल तेल
उपयोग करने का तरीका
  • रोजमेरी तेल और जैतून या नारियल तेल को मिला लें।
  • इसे रात में सोने से पहले सिर में लगाकर, अगले दिन बाल धो लें।
  • हफ्ते में एक से दो बार इसका उपयोग किया जा सकता है।
कैसे फायदेमंद है?

रोजमेरी तेल का उपयोग बालों के लिए काफी लाभकारी हो सकता है। रोजमेरी तेल या उसकी पत्तियों का उपयोग बालों के ग्रोथ के लिए लाभकारी हो सकता है (19) (20)। हालांकि, इस विषय में अभी और सटीक शोध की आवश्यकता है।

11. एलोवेरा

सामग्री
  • एलोवेरा का एक पत्ता
उपयोग करने का तरीका
  • एलोवेरा के पत्तों को गर्म पानी में डालकर उबाल लें और फिर उन्हें पीसकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब बालों को धोकर, पेस्ट को बालों पर अच्छे से लगाएं।
  • इसके बाद, हल्के हाथों से सिर की मालिश करें।
  • करीब 15 मिनट बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें।
  • इसे हफ्ते में दो से तीन बार लगाया जा सकता है।
कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा के फायदे अनेक हैं। सेहत और त्वचा के साथ-साथ एलोवेरा बालों के लिए भी लाभकारी हो सकता है। यह बालों को झड़ने और बालों के ग्रोथ में सहायक हो सकता है। इसे बाल गिरने की दवा की तरह उपयोग किया जा सकता है । यह बालों को खराब होने से बचा सकता है और बालों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। एलोवेरा का उपयोग अन्य सामग्रियों जैसे – बादाम या अरंडी तेल के साथ भी किया जा सकता है (8) (21)।

12. शिकाकाई

सामग्री
  • एक चम्मच शिकाकाई पाउडर
  • एक चम्मच एलोवेरा पाउडर
  • एक चम्मच आंवला पाउडर
  • एक चम्मच हिना पाउडर

नोट – चाहें तो बाजार में उपलब्ध आंवला, रीठा, शिकाकाई और हिना  के मिश्रण का पाउडर भी उपयोग कर सकते हैं।

उपयोग करने का तरीका
  • इन सभी सामग्रियों को एक समान मात्रा में लेकर मिलाएं और पेस्ट बना लें।
  • अब मिश्रण को अपने सिर और बालों पर लगाएं।
  • थोड़ी देर बाद बालों को गुनगुने पानी से धो लें और शैंपू जरूर करें।
  • इस घरेलू उपचार को बाल झड़ने की दवा के रूप में हफ्ते में दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं।
कैसे फायदेमंद है?

शिकाकाई एक हर्बल जड़ी-बूटी है। इसका उपयोग सालों से बालों को बढ़ाने और उन्हें धोने के लिए हर्बल शैंपू के रूप में किया जाता रहा है (22) (23)। इतना ही नहीं, बालों को साफ करने के साथ-साथ इससे बना ऐंटी-डैंड्रफ शैंपू रूसी से निजात दिलाने में भी मददगार हो सकता है (24)। बालों पर यह किस प्रकार काम करता है, इसपर फिलहाल और शोध की आवश्यकता है।

पढ़ते रहें

बाल झड़ने के घरेलू उपाय के बाद अब बारी आती है डाइट की। खाद्य पदार्थों के सेवन से बालों का गिरना कैसे रोकें, उस बारे में यहां जानकारी दी जा रही है।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Diet for Hair Fall Treatment in Hindi

बालों को झड़ने से रोकने के उपाय की बात करें तो डाइट भी अहम भूमिका निभाती है। अगर डाइट सही हो तो बाल भी स्वस्थ रहेंगे। वहीं, पोषक तत्वों की कमी भी बाल झड़ने का कारण हो सकती है (25)। इसलिए लेख के इस भाग में हम बाल झड़ने से रोकने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं इसकी जानकारी दे रहे हैं।

बाल झड़ने से रोकने के लिए क्या खाएं –  

अंडा – बालों के लिए अंडे का सेवन लाभकारी हो सकता है। दरअसल, अंडे में प्रोटीन होता है और प्रोटीन की कमी से बाल बेजान और झड़ने लग सकते हैं (11) (26)। अगर कोई अंडा नहीं खाता है तो वो अन्य प्रोटीन युक्त आहार जैसे – बादाम या मटर का सेवन कर सकता है। सिर्फ प्रोटीन ही नहीं अंडे में बायोटीन भी होता है, जो बालों के लिए लाभकारी हो सकता है (27)।

ओमेगा 3 और 6 – ओमेगा 3 और 6 का सेवन बालों को झड़ने से रोकने के लिए लाभकारी हो सकता है (28)। ओमेगा 3 के लिए सैल्मन (Salmon) मछली, अखरोट और ओमेगा 6 के लिए अखरोट या कद्दू के बीज (Pumpkin Seeds) का सेवन कर सकते हैं (29)।

आयरन – बालों को स्वस्थ बनाने के लिए आयरन भी फायदेमंद हो सकता है (30)। ऐसे में आयरन युक्त खाद्य पदार्थ जैसे – पालक, मटर या काले का सेवन कर सकते हैं (31)।

जिंक – पोषक तत्वों की बात करें तो जिंक की कमी भी झड़ते बालों का कारण बन सकती है। ऐसे में जिंक युक्त आहार जिसमें, चिकन, बादाम, ओटमील, मटर जैसे खाद्य पदार्थ शामिल हैं। इनका सेवन किया जा सकता है (32)।

क्या न खाएं 

विटामिन ए – विटामिन-ए बालों के लिए लाभकारी है, लेकिन इसका अत्यधिक सेवन बालों के झड़ने का कारण बन सकता है (11)।

इसके अलावा, नीचे बताए जा रहे खाद्य और पेय पदार्थों से दूरी बनाना एक अच्छा विचार हो सकता है, ये  बालों की समस्या को जटिल कर सकते हैं। हालांकि, यह बालों को किस प्रकार प्रभावित करते हैं, इससे जुड़ा वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

  • शक्कर युक्त पेय पदार्थ
  • शराब
  • जंक फूड्स
  • अधिक चाय व कॉफी

स्क्रॉल करें

बाल झड़ने का घरेलू उपाय जानने के बाद अब बारी आती है बाल गिरने का इलाज जानने की।

बाल झड़ने का इलाज – Hair Fall Treatment In Hindi

नीचे जानिए बाल झड़ने के उपचार क्या-क्या हो सकते हैं (33)।

  • डॉक्टर बाल गिरने की दवा में मिनोक्सिडिल (Minoxidil) लगाने की सलाह दे सकते हैं। यह एक प्रकार का लोशन होता है।
  • बाल गिरने का इलाज हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी के जरिए भी किया जा सकता है। यह एक प्रभावी बाल झड़ने का उपचार हो सकता है।
  • हो सकता है डॉक्टर बालों की समस्या के आधार पर कुछ अन्य उपचार या दवाइयां प्रेसक्राइब्ड करें।

जानें कुछ और उपाय

बाल झड़ने की दवा और उपाय के अलावा, कुछ अन्य चीजें भी हैं जिनका ध्यान रखना जरूरी है।

बालों को झड़ने से रोकने के कुछ और उपाय – Hair Fall Tips in Hindi

बाल झड़ने का इलाज और बाल झड़ने का घरेलू उपाय करने के साथ-साथ कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना भी आवश्यक है। ये उपाय व्यक्ति की जीवनशैली से जुड़े हैं और इनका कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

  • बाजार में मिलने वाले हेयर कलर में कई तरह के केमिकल होते हैं, जो बालों के लिए ठीक नहीं है। बार-बार हेयर कलर करने से बाल टूट सकते हैं, साथ ही बालों की प्राकृतिक चमक भी कम हो सकती है।
  • बालों को ज्यादा कसकर न बांधे। टाइट से बांधने से ज्यादा बाल टूट सकते हैं।
  • कंघी को नियमित रूप से साफ करें।
  • धूप में बाहर निकलने से पहले सिर पर स्कार्फ या कैप पहनें ताकि बालों का सूरज की हानिकारक किरणों और प्रदूषण से बचाव हो सके।
  • बालों पर बार-बार हाथ न फेरें।
  • बालों को गर्म पानी से न धोएं। गर्म पानी से धोने से बाल रूखे, बेजान और खराब हो सकते हैं।
  • नियमित रूप से व्यायाम करें।
  • तनाव या चिंता से दूर रहें।
  • योग या ध्यान लगाएं।

जिस तरह शरीर को देखभाल की जरूरत होती है, उसी तरह बालों को भी पर्याप्त रखरखाव की जरूरत होती है। अब जब भी मन में सवाल आए कि बालों का गिरना कैसे रोकें तो यह लेख खोलकर पढ़ लें। इस लेख में बताए बालों को गिरने से रोकने के उपाय न सिर्फ किफायती है बल्कि आसान भी है। अगर बाल झड़ने का घरेलू उपाय अपनाने के बाद भी किसी के बाल लगातार झड़ रहे हैं तो हो सकता है कि व्यक्ति को कोई गंभीर स्वास्थ्य समस्या है और उन्हें बाल झड़ने का इलाज कराने की जरूरत है। ऐसे में डॉक्टर बाल झड़ने की दवा के बारे में मरीज को सलाह दे सकते हैं। इसके अलावा, बाल झड़ने के घरेलू उपाय के साथ-साथ डाइट का भी ध्यान जरूर रखें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या बालों को काटने से बाल झड़ना कम हो सकता है?

नहीं, ये जरूरी नहीं है कि बालों का झड़ना कम हो सकता है। हालांकि, इससे अलग-अलग व्यक्ति पर अलग-अलग प्रभाव हो सकता है। अच्छा होगा कि इस विषय में संबंधित डॉक्टर से बात की जाए।

क्या लंबे बाल होने से बाल ज्यादा झड़ते हैं?

नहीं, लंबे बाल होने से बाल झड़ें ये जरूरी नहीं है। अगर कोई बालों को बार-बार खींचता है या किसी को अगर कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो बाल झड़ सकते हैं। फिलहाल, इससे जुड़ा कोई वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है।

दवाइयों के कारण अगर मेरा हेयर फॉल हो रहा है तो उसे कैसे रोका जा सकता है?

अगर आप नोटिस करते हैं कि एक निश्चित दवा के कारण आपके बाल अधिक झड़ रहे हैं, तो इसे तुरंत लेना बंद करें और अपने डॉक्टर से सलाह लें।

बालों का गिरना रोकने के लिए हमें क्या खाना चाहिए?

हमने लेख में जानकारी दी है कि कौन-कौन से पौष्टिक तत्व बालों के लिए जरूरी है। आप उन्हें पढ़कर बालों के लिए जरूरी खाद्य पदार्थों के विषय में जान सकते हैं (34)। इसके अलावा, डॉक्टरी सलाह पर फिश ऑयल का सेवन भी किया जा सकता है। इसके अलावा, विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ जैसे – संतरा या नींबू का सेवन भी कर सकते हैं (11)।

सर्दियों में बाल क्यों झड़ते हैं?

सर्दियों के दौरान बाल अधिक झड़ते हैं (35) (36)। इसके कारण को लेकर अभी तक कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है। हालांकि, अनुमान के तौर पर यह कहा जा सकता है कि शुष्क हवा के कारण स्कैल्प भी ड्राई हो जाता है, जिसके कारण बाल झड़ सकते हैं।

36 sources

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch