बालों के लिए एलोवेरा के फायदे और घरेलू उपाय – Aloe Vera Uses For Hair in Hindi

by

बाल न केवल मानव शरीर का एक अहम हिस्सा हैं, बल्कि व्यक्ति की सुंदरता का पर्याय भी हैं। यही वजह है कि महिला हो या फिर पुरुष सभी मजबूत, घने और मुलायम बालों की चाह रखते हैं। इसके लिए लोग कई तरह के जतन भी करते रहते हैं। बावजूद इसके बालों से जुड़ी समस्याएं (जैसे:- डैंड्रफ, रूखे-सूखे बेजान बाल और बालों का टूटना-झड़ना) कम होने का नाम ही नहीं लेती हैं। ऐसे में एलोवेरा को अपना कर इन समस्याओं को कम करने में काफी हद तक मदद मिल सकती है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम बालों के लिए एलोवेरा के फायदे विस्तार से बताने जा रहे हैं। यहां आपको बालों के लिए एलोवेरा लाभ के साथ ही इसे इस्तेमाल में लाने के विभिन्न तरीकों के बारे में भी पता चलेगा।

पढ़ते रहें लेख

आइये, सबसे पहले एलो वेरा फॉर हेयर अच्छा है या नहीं, यह समझ लेते हैं। 

क्या आपके बालों के लिए एलोवेरा अच्छा है?

बालों के स्वास्थ्य से संबंधित घरेलू उपचारों पर किए गए एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) के एक अध्ययन में माना गया है कि एलोवेरा बालों के साथ-साथ स्कैल्प से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने में भी सहायक हो सकता है (1)। इस तथ्य को देखते हुए यह माना जा सकता है कि एलोवेरा बालों के लिए अच्छा है। अब बालों के लिए एलोवेरा के फायदे क्या-क्या हैं? इस बारे में हम लेख में आगे विस्तार से बात करेंगे।

आगे पढ़ें लेख

एलोवेरा बालों के लिए अच्छा है, जानने के बाद हम बालों के लिए एलोवेरा के फायदे जानेंगे।

बालों के लिए एलोवेरा के फायदे – Benefits of Aloe Vera for Hair in Hindi

यहां हम क्रमवार बालों के लिए बेनिफिट्स ऑफ एलो वेरा फॉर हेयर बताने जा रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं : 

  1. बालों का विकास करे : एलोवेरा जेल से संबंधित एक शोध में माना गया है कि यह बालों को जरूरी पोषण प्रदान करने का काम कर सकता है। साथ ही यह स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर बालों को मजबूत बनाने का काम कर सकता है। इस तरह एलोवेरा बालों के विकास को बढ़ावा दे सकता है (2)। इस आधार पर माना जा सकता है कि एलोवेरा बालों के लिए उपयोगी है और बालों के विकास में सहायक साबित हो सकता है।
  2. डैंड्रफ और स्कैल्प की खुजली दूर करे : एलोवेरा से जुड़े एक शोध में माना गया है कि इसमें एंटीडैंड्रफ (डैंड्रफ हटाने वाला) प्रभाव पाया जाता है। इस कारण इसे हेयर कन्डीशनर और शैम्पू में मुख्य घटक के रूप में इस्तेमाल में लाया जाता है। इसके साथ ही यह स्किन से संबंधित खुजली को दूर करने में भी सहायक हो सकता है। इस काम में एलोवेरा में मौजूद विटामिन बी1, बी2, बी6 और बी12 के साथ विटामिन-सी अहम भूमिका निभाते हैं (3)। ऐसे में कहना गलत नहीं होगा कि डैंड्रफ और स्कैल्प की खुजली में एलोवेरा मददगार हो सकता है।
  3. बालों को गिरने और झड़ने से बचाए : एलोवेरा का इस्तेमाल बालों को गिरने और झड़ने से बचाने का काम भी कर सकता है। एलोवेरा से संबंधित बालों पर किए गए एक शोध में इस बात का साफ जिक्र मिलता है। शोध में माना गया है कि एलोवेरा में मौजूद सिस्टीन (Cysteine) और लाइसिन (Lysine) नाम के तत्व पाए जाते हैं, जो बाल कम होने की समस्या को रोकने में सहायक होते हैं (4)। इस आधार पर एलोवेरा को बालों को गिरने और झड़ने से बचाने के लिए भी उपयोग किया जा सकता है।
  4. एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुण : एलोवेरा एंटीबैक्टीरियल प्रभाव से भी समृद्ध होता है (3)। वहीं, इसमें छह तरह के एंटीसेप्टिक एजेंट पाए जाते हैं, जिनमें ल्यूपेओल, सैलिसिलिक एसिड, यूरिया नाइट्रोजन, सिन्नामोनिक एसिड, फिनोल और सल्फर शामिल हैं (5)। इन सभी की मौजूदगी के कारण यह स्कैल्प पर होने वाले इन्फेक्शन से बचाव करने में सक्षम हो सकता है।

नीचे स्क्रॉल करें 

एलोवेरा बालों के लिए अच्छा है, जानने के बाद हम एलोवेरा बालों में कैसे लगाएं, यह बताएंगे। 

बालों के लिए एलोवेरा के उपयोग – Aloe Vera Uses for Hair in Hindi

वैसे तो बालों के विकास के लिए एलोवेरा अपने आप में एक बेहतरीन औषधि की तरह काम कर सकता है, लेकिन कुछ अन्य चीजों के साथ मिलाकर इसके प्रभाव को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। तो आइए, अब हम उन चीजों के बारे में जान लेते हैं, जिनके साथ एलोवेरा को उपयोग में लाया जा सकता है। साथ ही बालों में एलोवेरा कैसे लगाये, यहां यह भी विस्तार से जानने को मिलेगा। 

1. एलोवेरा और अरंडी का तेल

सामग्री :

  • एक कप ताजा एलोवेरा जेल
  • दो चम्मच अरंडी का तेल
  • दो चम्मच मेथी पाउडर
  • शॉवर कैप
  • तौलिया 

बनाने की विधि :

  • एक कटोरे में सारी सामग्रियों को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं, ध्यान रहे कि इस मिश्रण को अपने बालों की जड़ों में अच्छे से लगाएं।
  • जब अपने बालों में यह मिश्रण अच्छे से लगा लें, तो सिर पर शॉवर कैप पहन लें।
  • अब इस मिश्रण को लगाकर सोने जा सकते हैं। चाहें, तो शॉवर कैप के साथ सिर पर तौलिया लपेट लें, ताकि कैप सोते समय उतर न जाए।
  • अगली सुबह बालों को ठंडे पानी और शैम्पू से धोकर कंडीशनर लगा लें। 

कब लगाएं?

  • इस पैक को हफ्ते में एक या दो बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

अरंडी के तेल साथ एलोवेरा फॉर हेयर ग्रोथ इस्तेमाल किया जा सकता है। बालों के लिए यह फायदेमंद माना जाता है। इस बात की पुष्टि एनसीबीआई के एक शोध से होती है। शोध में जिक्र मिलता है कि दो मुंहे बाल और बाल झड़ने की समस्या से राहत दिलाने के साथ अरंडी का तेल हेयर कंडीशनर की तरह भी काम कर सकता है (1)। इसके अलावा, इसे बालों की चमक बढ़ाने में भी सहायक माना जाता है (6)। ऐसे में एलोवेरा के फायदे बालों के लिए अरंडी के तेल के साथ अधिक उपयोगी साबित हो सकते हैं।

2. शहद और एलोवेरा

सामग्री :

  • पांच चम्मच एलोवेरा जेल
  • तीन चम्मच नारियल तेल
  • दो चम्मच शहद
  • शॉवर कैप 

बनाने की विधि :

  • एक कटोरे में सभी सामग्रियों को मिलाकर एक अच्छा पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर इसे बालों की जड़ों से लगाना शुरू करें और बालों के मुंह तक लगाएं। इस मिश्रण को सबसे ज्यादा बालों के मुंह पर लगाएं, क्योंकि बालों का यह हिस्सा सबसे जल्दी खराब होता है।
  • जब पूरे बालों पर यह मिश्रण लग जाए, तो शॉवर कैप से अपने सिर को कवर कर लें और आधे घंटे के लिए छोड़ दें।
  • फिर अपने बालों को शैंपू और कंडीशनर लगाकर ठंडे पानी से धो लें।
  • यह मिश्रण 10-15 मिनट में बन जाता है।

कब लगाएं?

  • इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा फॉर हेयर ग्रोथ शहद के साथ भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है। दरअसल, दुबई की एक मेडिकल रिसर्च लैब द्वारा शहद पर किए गए एक शोध में इसे बालों के लिए उपयोगी माना गया है। शोध में जिक्र मिलता है कि शहद एंटीबैक्टीरियल (बैक्टीरिया नष्ट करने वाला), एंटीफंगल (फंगस नष्ट करने वाला) और एंटीऑक्सीडेंट (मुक्त कणों को नष्ट करने वाला) प्रभाव से समृद्ध होता है। इन सभी प्रभावों के कारण शहद डैंड्रफ और बाल झड़ने की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (7)। वहीं, नारियल तेल बेजान बालों को ठीक करने में मदद कर सकता है (8)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं है कि शहद और एलो वेरा फॉर हेयर बालों के विकास में अधिक प्रभावी साबित हो सकते हैं।

3. अंडा और एलोवेरा

सामग्री :

  • चार चम्मच ताजा एलोवेरा जेल
  • तीन चम्मच जैतून तेल
  • एक अंडे की जर्दी
  • शॉवर कैप 

बनाने की विधि :

  • सभी सामग्रियों को एक कटोरे में डालकर अच्छे से मिलाएं और पेस्ट तैयार कर लें।
  • इस पेस्ट को स्कैल्प पर और बालों पर अच्छे से लगाएं।
  • बालों की जड़ों में इस पेस्ट को अच्छे से लगाएं।
  • बालों में पेस्ट अच्छे से लग जाने के बाद शॉवर कैप लगाएं।
  • अब इसे करीब 20 से 25 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद बालों को शैम्पू करके ठंडे पानी से धो डाले।
  • बाद में बालों में हल्का कंडीशनर लगाकर छोड़ दें। 

कब लगाएं?

  • इस मिश्रण को हफ्ते में करीब एक बार इस्तेमाल किया जा सकता है। 

कैसे फायदेमंद है?

बालों के विकास के लिए अंडे की जर्दी भी फायदेमंद मानी गई है। इस बात को एनसीबीआई के अंडे से संबंधित एक शोध में स्पष्ट रूप से स्वीकार किया गया है। शोध में जिक्र मिलता है कि अंडे की जर्दी में हेयर ग्रोथ पेप्टाइड पाए जाते हैं। ये बालों के विकास में मददगार साबित हो सकते हैं (9)। ऐसे में अंडे के साथ एलोवेरा के फायदे बालों के लिए अत्यधिक प्रभावी साबित हो सकते हैं।

4. प्याज और एलोवेरा

सामग्री :

  • एक कप प्याज का रस
  • एक चम्मच एलोवेरा जेल 

नोट: सामग्री की मात्रा बालों की लंबाई और घनत्व पर निर्भर करती है। 

बनाने की विधि :

  • तीन से चार मध्यम आकार के प्याज लेकर उसे अच्छे से पीस लें, फिर किसी जालीदार कपड़े या छन्नी से रस निकाल लें।
  • अब इस रस में एलोवेरा जेल मिला लें।
  • इस मिश्रण से अपने बालों और बालों की जड़ों में मालिश करें और तब तक करें जब तक कि बालों में यह मिश्रण अच्छे से घुल न जाए।
  • अब इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • फिर इसे हल्के शैम्पू और कंडीशनर से धो लें।

कब लगाएं?

  • इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

प्याज के साथ भी एलोवेरा के फायदे बालों के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं। एनसीबीआई के मुताबिक झड़ते बालों की समस्या को रोकने और बालों के विकास को बढ़ावा देने में प्याज का रस मददगार हो सकता है (10)। हालांकि, प्याज के रस का कौन-सा गुण या तत्व इस काम में सहायक होता है, इस बात का स्पष्ट प्रमाण उपलब्ध नहीं है। इसके बावजूद अनुमान लगाया जाता है कि प्याज के रस में मौजूद सल्फर इस काम में अहम भूमिका निभा सकता है (11)। इस कारण प्याज के साथ एलो वेरा फॉर हेयर इस्तेमाल करना बालों के विकास संबंधी बेहतर परिणाम प्रदर्शित कर सकता है। वहीं, बालों के लिए उन तैयार मेडिकेटेड सीरम को भी इस्तेमाल किया जा सकता है, जो प्याज के अर्क के साथ तैयार किए गए हैं और बाजार में उपलब्ध हैं।

5. कोकोनट मिल्क और एलोवेरा

सामग्री :

  • चार चम्मच एलोवेरा जेल
  • चार चम्मच कोकोनट मिल्क
  • एक चम्मच नारियल तेल 

बनाने की विधि :

  • सभी सामग्रियों को एक कटोरे में डालें और अच्छे से मिलाएं।
  • सभी सामग्रियों को तब तक मिलाएं जब तक एक चिकना लेप न तैयार हो जाए।
  • अब इस लेप को बालों की जड़ों से लेकर सिरों तक अच्छे से लगाएं।
  • बालों में अच्छे से लग जाने के बाद इसे करीब एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद एक हल्के शैम्पू से बालों को धोकर कंडीशनर लगा लें। 

कब लगाएं?

इसे हफ्ते में एक बार इस्तेमाल किया जा सकता है। 

कैसे फायदेमंद है?

बालों और स्कैल्प के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जो भी पेड़-पौधे इस्तेमाल में लाए जाते हैं, उनमें एलोवेरा के साथ-साथ नारियल भी शामिल है (1)। वहीं, नारियल से संबंधित एक अन्य शोध में जिक्र मिलता है कि कोकोनट मिल्क को गर्म करके नारियल तेल तैयार किया जाता है, जो बालों को मजबूती प्रदान कर टूटते-झड़ते बालों से राहत दिला सकता है (12)। हालांकि, सीधे तौर पर कोकोनट मिल्क बालों के लिए कितना फायदेमंद होगा, इससे जुड़े सटीक वैज्ञानिक शोध का अभाव है।   

6. गुड़हल और एलोवेरा

सामग्री :

  • दो चम्मच गुड़हल के फूल का पेस्ट
  • एक कप एलोवेरा जेल 

बनाने की विधि :

  • एलोवेरा जेल और गुड़हल के पेस्ट को कटोरे में डालकर अच्छे से मिक्स करें।
  • अब इस मिक्सचर को बालों और स्कैल्प पर अच्छे से लगाएं।
  • बालों पर अच्छे से लग जाने के बाद इसे ऐसे ही करीब आधे से एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद बालों को हल्के शैम्पो से धो डालें और बाद में कंडीशनर लगा लें। 

कब लगाएं?

  • इसे हफ्ते में करीब एक बार इस्तेमाल में लाया जा सकता है। 

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा जेल बालों के लिए उपयोगी है ही, वहीं गुड़हल का उपयोग करने से भी बालों के विकास को बढ़ावा मिल सकता है। गुड़हल से संबंधित एक शोध में माना गया कि गुड़हल के फूल और इसकी पत्तियां बालों को मजबूती प्रदान कर झड़ते बालों की समस्या से राहत दिलाने का काम कर सकते हैं। वहीं, यह इस तरह बालों के विकास में भी काफी हद तक सहायक हो सकता है (13)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि गुड़हल के साथ एलो वेरा जेल फॉर हेयर बालों के विकास में काफी हद तक सहायक हो सकता है।

7. लेमन और एलोवेरा

सामग्री :

  • दो चम्मच एलोवेरा
  • एक चम्मच नींबू का रस 

नोट: सामग्री की मात्रा बाल की लंबाई और घनत्व पर निर्भर करती है। 

बनाने की विधि :

  • एक कटोरी में एलोवेरा जेल और नींबू को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने बालों की जड़ों में लगाएं और फिर उंगलियों से बालों के बीच-बीच में लगाएं।
  • अब इसे 20-25 मिनट के लिए रहने दें।
  • फिर शैम्पू करके कंडीशनर लगा लें।

कब लगाएं?

  • इसे हफ्ते में एक बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा फॉर हेयर ग्रोथ नींबू के साथ भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है। बालों और स्कैल्प के स्वास्थ्य को बनाए रखने में नींबू के फायदे लाभदायक माने जाते हैं। इस बात का जिक्र बालों से संबंधित एनसीबीआई के एक शोध में भी मिलता है। शोध में जैतूल के तेल के साथ नींबू के रस को मिलाकर लगाना बालों और स्कैल्प के लिए फायदेमंद बताया गया है (14)। वहीं, एक अन्य शोध में माना गया है कि नींबू में मौजूद विटामिन-सी बाल झड़ने की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (15)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि नींबू के रस के साथ एलोवेरा जेल बालों के लिए अधिक प्रभावी साबित हो सकता है।

जारी रखें पढ़ना 

8. मेहंदी और एलोवेरा

सामग्री :

  • दो कप ताजा मेहंदी के पत्ते
  • दो चम्मच दही
  • एक चम्मच ताजा एलोवेरा
  • एक चम्मच जैतून का तेल 

बनाने की विधि :

  • मेहंदी के पत्तों को दो घंटे तक पानी में भिगोकर रखें और फिर पीस लें।
  • पत्तों को पीस लेने के बाद इसमें अन्य सामग्रियां मिला दें।
  • अब इस मिश्रण को अपने स्कैल्प, बालों और बालों की जड़ों में लगाएं।
  • जब ये मिश्रण पूरे बालों में अच्छे से लग जाए, तो इसे एक से दो घंटे बाद या सूखने के बाद शैंपू और ठंडे पानी से धो लें। चाहें, तो कंडीशनर भी लगा सकते हैं। 

कब लगाएं?

  • इसे दो हफ्ते में एक बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

अन्य सामग्रियों की तरह ही मेहंदी के साथ भी एलोवेरा जेल बालों के लिए इस्तेमाल में लाया जा सकता है। दरअसल, स्कैल्प और बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखने मेहंदी भी कारगर साबित हो सकती है। इस बात को एनसीबीआई के एक शोध में स्वीकार किया गया है (1)। वहीं, एक अन्य शोध में माना गया है कि मेहंदी टेलोजेन एफ्फ्लुवियम (Telogen effluvium) जो कि बाल झड़ने का एक प्रकार है, में सहायक हो सकती है (16)। इस आधार पर एलोवेरा फॉर हेयर ग्रोथ मेहंदी के साथ मिलाकर लगाना उपयोगी माना जा सकता है।

9. एलोवेरा और विटामिन-ई

सामग्री :

  • एक चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच विटामिन-ई ऑयल
  • दो चम्मच बादाम तेल 

बनाने की विधि :

  • सभी सामग्रियों को एक कटोरे में डालकर तक तक मिलाएं, जब तक एक चिकना मिश्रण न तैयार हो जाए।
  • अब इस मिश्रण को बालों और स्कैल्प पर अच्छे से लगाएं और हल्के हाथों से करीब 10 मिनट मसाज करें।
  • अब बालों को करीब 20 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर बालों को शैम्पू कर लें और फिर कंडीशनर लगा लें। 

कब लगाएं?

  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में करीब एक बार इस्तेमाल करें। 

कैसे फायदेमंद है?

विटामिन-ई में टोकोट्राइएनोल (tocotrienol) नाम का एक खास तत्व पाया जाता है, जो शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट का काम करता है। यह तनाव के कारण होने वाली बाल झड़ने की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (17)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि विटामिन के फायदे एलोवेरा जेल के साथ बालों के लिए अधिक मददगार साबित हो सकता है।

10. एलोवेरा और सेब का सिरका

सामग्री :

  • एक कप ताजा एलोवेरा जेल
  • दो चम्मच सेब का सिरका
  • एक चम्मच शहद 

नोट : सामग्री की मात्रा बाल की लंबाई और घनत्व के अनुसार रखें। 

बनाने की विधि :

  • एक कटोरे में सारी सामग्रियों को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने बालों की जड़ों से लेकर पूरे बालों और बाल के मुंह तक लगाएं।
  • इसे 15 मिनट तक लगा रहने दें।
  • फिर इसे शैम्पू और कंडीशनर से धो लें।

कब लगाएं?

  • इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

सेब के सिरके में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल प्रभाव पाए जाते हैं, जिनके कारण यह डैंड्रफ की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (18)। ऐसे में बालों के विकास में सहायक एलोवेरा में सेब का सिरका मिलाकर लगाना बालों के लिए अधिक फायदेमंद साबित हो सकता है।

11. बेकिंग सोडा और एलोवेरा

सामग्री :

  • चार चम्मच एलोवेरा जेल
  • दो चम्मच शहद
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा
  • एक चम्मच नारियल का दूध 

बनाने की विधि :

  • इन सामग्रियोंं से दो तरह के मिश्रण बनेंगे।
  • पहले एक कटोरे में एलोवेरा जेल, नारियल का दूध और शहद मिलाकर मिश्रण तैयार करेंगे।
  • अब बालों को पानी से धोकर, इस मिश्रण को शैंपू की तरह बालों पर लगाएं। इसे थोड़ी देर के लिए लगा रहने दें और फिर पानी से धो लें।
  • अब बेकिंग सोडा में एक या दो चम्मच पानी मिलाएं और बालों की धीरे-धीरे स्क्रबिंग करें। ऐसा करने से बालों में चिपचिपाहट या तेल जैसी समस्या कम हो सकती है।
  • ध्यान रहे, बेकिंग सोडा को स्कैप्ल पर नहीं लगाना है।
  • फिर बालों को ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

  • हफ्ते में एक बार शैम्पू की जगह इसे लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

बेकिंग सोडा बालों को साफ करने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है। इस बात को एनसीबीआई के एक शोध में भी स्वीकार किया गया है। शोध में जिक्र मिलता है कि बेकिंग सोडा बालों को बिना नुकसान पहुंचाए अच्छे से साफ कर सकता है (19)। इस आधार पर माना जा सकता है कि एलोवेरा के साथ बेकिंग सोडा को मिला कर इस्तेमाल करने से बालों के विकास को बढ़ावा मिलने के साथ उन्हें अच्छे से साफ करने में मदद भी मिल सकती है। बशर्ते इस बात का भी ध्यान रखा जाए कि बेकिंग सोडा का अधिक प्रयोग बालों को रूखा और बेजान बना सकता है। साथ ही इसे स्कैल्प पर लगाने से बचना चाहिए।

12. शिया बटर और एलोवेरा

सामग्री :

  • आधा कप शिया बटर
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक चम्मच एप्रीकोट ऑयल
  • एक चम्मच ग्रेपसीड ऑयल
  • पांच बूंद लैवेंडर एसेंशियल ऑयल
  • आधा चम्मच विटामिन-ई ऑयल 

बनाने की विधि :

  • एक पैन में शिया बटर लेकर गैस पर चढ़ाएं और गरम करें।
  • जब शिया बटर गरम होकर तरल हो जाए, तो इसे कुछ देर ठंडा होने के लिए रख दें।
  • ठंडा होने के बाद इसमें अन्य सभी सामग्रियां मिला दें।
  • अब इस मिश्रण को अपने बालों और स्कैल्प पर अच्छे से लगायें।
  • अब इसे ऐसे ही 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद बालों को शैम्पू कर लें और बाद में कंडीशनर लगा लें।

कब लगाएं?

  • इसे हफ्ते में एक बार उपयोग में लाया जा सकता है।

 कैसे फायदेमंद है?

शिया बटर एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर की तरह काम कर सकता है, जिससे त्वचा, बालों और स्कैल्प को नमी प्रदान करने में मदद मिल सकती है (20)। ऐसे में एलोवेरा के साथ इससे उपयोग में लाकर बालों के विकास को बढ़ावा देने के साथ-साथ बालों को नमी प्रदान करने में भी मदद मिल सकती है।

13. लाल मिर्च और एलोवेरा

सामग्री :

  • आधा कप ताजा एलोवेरा जेल
  • आधा चम्मच लाल मिर्च पाउडर 

बनाने की विधि :

  • एक कटोरे में लाल मिर्च पाउडर और एलोवेरा जेल को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  • इसमें से एक चम्मच मिश्रण लेकर अपने स्कैल्प की मालिश करें। बाकी के मिश्रण को एक जार में बंद करके रख दें। इसे बाद में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • इस मिश्रण को 10 मिनट तक बालों में लगे रहने दें।
  • अब बालों को शैंपू और कंडीशनर से धो लें।

कब लगाएं?

  • हफ्ते या दो हफ्ते में एक बार इस मिश्रण को लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

मिर्च में कैपसाइकिन (Capsaicin) नाम का एक खास तत्व पाया जाता है, जो लाल मिर्च में भी उपलब्ध रहता है (21)। वहीं, बालों से संबंधित एक शोध में कैपसाइकिन को बालों के विकास में मददगार माना गया है (22)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि एलोवेरा के साथ मिलाकर इसे उपयोग करना बालों के विकास के लिए अत्यधिक प्रभावी साबित हो सकता है। हालांकि, इस बात का भी ध्यान रखना जरूरी है कि इसका स्कैल्प पर अधिक प्रयोग न किया जाए। स्कैल्प पर इसका अधिक प्रयोग डर्मेटाइटिस (त्वचा से जुड़ी सूजन की समस्या) और अतिसंवेदनशीलता (जलन या चुभन) का कारण बन सकता है। फिलहाल, इस विषय पर अभी और सटीक शोध की आवश्यकता है।

14. मेथी और एलोवेरा

सामग्री :

  • दो चम्मच मेथी के बीज
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल 

बनाने की विधि :

  • रात भर मेथी के दानों को पानी में भिगोकर रखें।
  • अगली सुबह इन्हें अच्छे से पीसकर पेस्ट बना लें और उसे एलोवेरा जेल में मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को बाल में लगाकर आधे घंटे के लिए रहने दें।
  • फिर बालों को शैंपू और ठंडे पानी से धो लें और बाद में कंडीशनर लगाना न भूलें। 

कब लगाएं?

  • चाहें, तो हफ्ते में एक बार इसे लगा सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

बालों के लिए मेथी को भी उपयोगी और फायदेमंद माना गया है। यह बात मेथी के फायदे से संबंधित एक शोध से भी स्पष्ट होती है। शोध में जिक्र मिलता है कि मेथी प्रोटीन के भरपूर मात्रा होती है। वहीं, प्रोटीन बालों के लिए आवश्यक माना जाता है। इसके अलावा, इसमें गंजापन, पतले बालों की समस्या और बालों का झड़ना जैसी समस्याओं को ठीक करने का भी गुण मौजूद होता है। साथ ही शोध में यह भी माना गया है कि मेथी में मौजूद लेसिथीन नाम का एक खास तत्व बालों को प्राकृतिक रूप से मजबूत बनाने के साथ ही मॉइस्चराइज करने का भी काम कर सकता है। इतना ही नहीं, डैंड्रफ की समस्या में भी इसे लाभकारी माना गया है (23)। यही वजह है कि अगर इसे एलोवेरा के साथ इस्तेमाल में लाया जाता है तो यह मिश्रण बालों के विकास के लिए अत्यधिक प्रभावी साबित हो सकता है।

15. ग्रीन टी और एलोवेरा

सामग्री :

  • आधा कप बनी हुई ग्रीन-टी
  • आधा कप एलोवेरा जेल 

बनाने की विधि:

  • ग्रीन-टी और एलोवेरा जेल को मिक्सी में अच्छे से मिला लें। इतने अच्छे से मिलाएं कि गांठ न बने, क्योंकि गांठ होने से यह पेस्ट स्कैल्प पर चिपक सकता है।
  • अब इस मिक्सचर को अच्छी तरह स्कैल्प में लगाएं और बालों में भी अच्छे से लगाएं। ध्यान रहे कि यह मिश्रण बालों में अच्छे से मिल जाए।
  • इसे 10 मिनट लगा रहने दें और फिर इसे पानी से धो लें।
  • उसके बाद बालों में कंडीशनर लगा लें। 

कब लगाएं?

  • हफ्ते में एक बार इसे शैम्पू की जगह इस्तेमाल कर सकते हैं। 

कैसे फायदेमंद है?

बालों के विकास में ग्रीन टी को भी उपयोगी माना गया है। इस बात की पुष्टि ग्रीन टी से जुड़े एनसीबीआई के एक शोध से होती है। शोध में जिक्र मिलता है कि ग्रीन टी में एपिगैलोकैटेचिन-3-गैलेटे  (epigallocatechin-3-gallate) नाम का एक खास तत्व पाया जाता है। यह तत्व बालों की जड़ों को मजबूत कर बालों के विकास को बढ़ावा देने का काम कर सकता है (24)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि एलोवेरा के साथ ग्रीन टी का उपयोग अधिक प्रभावी ढंग से बालों के विकास को बढ़ावा देने का काम कर सकता है।

पढ़ते रहें लेख

एलोवेरा से बाल बढ़ाने का तरीका जानने के बाद अब हम इससे जुड़ी सावधानी जानेंगे। 

बचाव – Caution

एलोवेरा जेल बालों में कैसे लगाएं? यह तो जान लिया। वहीं, इनसे जुड़ी सावधानी की बात करें, तो ऊपर दिए गए किसी नुस्खे को लगाने के बाद अगर स्कैल्प में खुजली या जलन हो, तो उसे तुरंत धो दें, क्योंकि हो सकता है कि स्कैल्प ज्यादा संवेदनशील हो। वहीं, अगर किसी को प्याज या ट्यूलिप (एक प्रकार का फूल) से एलर्जी की शिकायत हो, तो उन्हें एलोवेरा का उपयोग नहीं करना चाहिए।

एलोवेरा के फायदे बालों के लिए कितने उपयोगी हैं, यह तो आप अच्छे से समझ गए होंगे। वहीं, लेख के माध्यम से आपको एलोवेरा को उपयोग करने के अलग-अलग तरीकों के बारे में भी जानकारी हासिल हुई। ऐसे में अगर आप भी अपने बालों को घना, मुलायम और लंबा बनाना चाहते हैं, तो आप लेख में शामिल एलोवेरा के नुस्खों में से किसी एक को उपयोग में ला सकते हैं। उम्मीद है कि बालों को स्वस्थ बनाए रखने में यह लेख काफी हद तक मददगार साबित होगा। ऐसी ही सौंदर्य, सेहत और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी हासिल करने के लिए पढ़ते रहें स्टाइलक्रेज।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

एलोवेरा को सीधे बालों पर लगाया जा सकता है?

हां, एलोवेरा के जेल को सीधे बालों पर लगाया जा सकता है।

क्या एलोवेरा बालों के झड़ने का कारण बन सकता है?

नहीं, लेख में आपको पहले ही बताया जा चुका है कि एलोवेरा बाल झड़ने की समस्या को रोकने में मदद कर सकता है।

क्या एलोवेरा खोये हुए बालों को फिर से वापस ला सकता है?

लेख में आपको यह बताया जा चुका है कि एलोवेरा बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि खोये हुए बालों को वापस लाने में एलोवेरा कुछ हद तक सहायक हो सकता है। हालांकि, इससे जुड़े सटीक वैज्ञानिक शोध का अभाव है।

बालों में एलोवेरा लगाकर कितने समय के लिए छोड़ा जा सकता है?

एलोवेरा को पूरी रात बालों में लगाकर छोड़ा जा सकता है।

24 संदर्भ (Sources) :

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Ankit Rastogi

अंकित रस्तोगी ने साल 2013 में हिसार यूनिवर्सिटी, हरियाणा से एमए मास कॉम की डिग्री हासिल की है। वहीं, इन्होंने अपने स्नातक के पहले वर्ष में कदम रखते ही टीवी और प्रिंट मीडिया का अनुभव लेना शुरू कर दिया था। वहीं, प्रोफेसनल तौर पर इन्हें इस फील्ड में करीब 6 सालों का अनुभव है। प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में इन्होंने संपादन का काम किया है। कई डिजिटल वेबसाइट पर इनके राजनीतिक, स्वास्थ्य और लाइफस्टाइल से संबंधित कई लेख प्रकाशित हुए हैं। इनकी मुख्य रुचि फीचर लेखन में है। इन्हें गीत सुनने और गाने के साथ-साथ कई तरह के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाने का शौक भी हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch