बालों के लिए अरंडी तेल के फायदे और घरेलू उपाय – Castor Oil For Hair Care in Hindi

Medically reviewed by Suvina Attavar (Dermatologist & Hair transplant surgeon)
by

हर लड़की की ख्वाहिश होती है कि उसके बाल लंबे और घने दिखें। इसके लिए अधिकतर युवतियां विभिन्न प्रकार के तेल से अपने सिर की मालिश करती हैं, ताकि बालों को भरपूर पोषण मिल सके। कोई बादाम का तेल लगाता है, तो कोई नारियल या जैतून का, लेकिन क्या आप जानते हैं कि अरंडी के तेल में भी बालों के लिए कई पोषक तत्व मौजूद हैं। अरंडी का तेल (कैस्टर ऑइल) सदियों से बालों के लिए उपयोग में लाया जा रहा है। इसमें रिसिनोलिक एसिड, ओमेगा-6 और फैटी एसिड, विटामिन-ई और मिनरल्स जैसे पोषक तत्व मौजूद हैं (1)। अरंडी तेल को अरंडी के बीजों से निकाला जाता है। अब हम आपको बालों के लिए अरंडी तेल (कैस्टर ऑइल) के फायदे (castor oil benefits for hair in hindi) बता रहे हैं।

बालों के लिए अरंडी तेल के फायदे – Benefits of Castor Oil for Hair in Hindi

1. बालों को बढ़ाने के लिए अरंडी तेल

Shutterstock

बालों में कई तरह के शैंपू लगाने व तरह-तरह के स्टाइल अपनाने से बालों की ग्रोथ रुक जाती है। ऐसे में अरंडी तेल काफ़ी फायदेमंद साबित हो सकता है (2)। यह न सिर्फ बालों को बढ़ने में मदद करेगा, बल्कि बालों को घना भी बनाएगा। हालांकि, अभी तक इसका कोई प्रमाण सामने नहीं आया है, लेकिन इसका असर काफी हद तक बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है। सिर्फ बाल ही नहीं, बल्कि अरंडी तेल से आपके आईब्रो और पलके भी घनी हो सकती हैं।

2. बालों को झड़ने से रोके अरंडी तेल

आजकल प्रदूषण व धूल-मिट्टी की वजह से बाल झड़ना एक आम बात हो गई है, लेकिन वक़्त रहते इसका उपचार न किया जाए, तो यह समस्या गंभीर रूप ले सकती है। कई बार इंफलेमेशन के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं (3)। ऐसे में अगर अरंडी तेल से सिर और बालों की मालिश की जाए, तो बालों का झड़ना कम हो सकता है। रिसिनोलिक एसिड, जोकि अरंडी तेल का एक मुख्य यौगिक है, उसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं (4), जिससे बालों का झड़ना कुछ हद तक कम हो सकता है।

3. दोमुंहे बालों के लिए अरंडी तेल

Shutterstock

बालों पर तरह-तरह के स्टाइल आजमाने या ज़्यादा शैंपू करने से बाल दोमुंहे और खराब होने लगते हैं। ऐसे में अगर अरंडी का तेल लगाया जाए, तो यह समस्या कुछ हद ठीक हो सकती है। इसमें मौजूद पोषक तत्व बालों को मज़बूत बनाते हैं और दोमुंहे होने से बचा सकते हैं।

4. बालों को मोटा और घना करने के लिए अरंडी तेल

घने बाल खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं, लेकिन कुछ लोगों के बाल इतने पतले और कमजोर होते हैं कि तेजी से झड़ते हैं। हालांकि, इससे बचने के लिए कई महिलाएं ऐसा हेयर कट लेती हैं, जिसमें उनके बाल घने और मोटे नजर आएं, लेकिन ऐसा करने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि अरंडी का तेल बालों को मोटा और घना बना सकता है।

5. काले बालों के लिए अरंडी का तेल

Shutterstock

काले बालों की चाह लगभग हर किसी को होती है और कई लोग तो बालों को रंगते भी हैं। वहीं, माना जाता है कि अरंडी के तेल के उपयोग से सफेद बालों की समस्या से बचाव हो सकता है। हालांकि, इस विषय में अभी कोई शोध उपलब्ध नहीं है। लेकिन, यह बालों को मॉइस्चराइज, चमकदार और बालों के विकास में सहायक हो सकता है। देखा जाए, तो यह बालों को स्वस्थ बनाने में मददगार हो सकता है (5)।

6. बालों में चमक लाता है अरंडी तेल

कई बार बालों को लगातार धोने से, प्रदूषण से और अन्य कई वजहों से बाल अपनी प्राकृतिक चमक खो देते हैं, जिससे ये रूखे और बेजान होते हैं। ऐसे में घरेलू उपाय काफी काम आ सकते हैं। बालों की चमक बढ़ाने के लिए आप अरंडी के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह बालों पर एक सुरक्षित परत की तरह काम करता है और उन्हें चमकदार बनाता है (6)।

7. प्राकृतिक कंडीशनर के रूप में अरंडी तेल

यह बात सही है कि शैंपू के बाद बालों को कंडीशन करने से उनमें एक नई जान आ जाती है, लेकिन बार-बार ऐसा करना सुरक्षित नहीं है। अगर आप कंडीशन की जगह कभी-कभी अरंडी तेल लगाएं, तो इससे आपके बालों में नई चमक नजर आएगी। यह बालों की जड़ों तक जाकर उन्हें प्राकृतिक तौर पर कंडीशन कर सकता है।

8. बालों को नुकसान पहुंचाने से बचाता है अरंडी तेल

अरंडी तेल में मौजूद फैटी एसिड (7) आपके बालों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाता है। इसके अलावा, यह शैंपू या हेयर कलर में मौजूद केमिकल से भी आपके बालों को होने वाले नुकसान से रक्षा करता है।

9. स्कैल्प संक्रमण से बचाता है अरंडी तेल

कभी-कभी ज़्यादा शैंपू या तरह-तरह के स्टाइल ट्रीटमेंट से स्कैल्प में संक्रमण, खुजली या जलन जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है। ऐसे में अरंडी का तेल बहुत ही फायदेमंद हो सकता है। अरंडी का तेल सिर्फ़ आपके स्कैल्प को हाइड्रेट नहीं रखेगा, बल्कि संक्रमण को भी कम करेगा। इसके एंटीवायरल, एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण संक्रमण को रोकते हैं (8) और इसमें मौजूद प्रोटीन बालों को स्वस्थ रखते हैं।

बालों की वृद्धि के लिए अरंडी तेल के उपयोग – How to Use Castor Oil for Hair Growth in Hindi

अब जब आप बालों के लिए अरंडी के तेल के इतने फायदे जान ही गए हैं, तो अब वक़्त आ गया है यह जानने का कि बालों के लिए अरंडी तेल का उपयोग कैसे किया जाए।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए अरंडी तेल का उपयोग

Shutterstock

सामग्री

  • आधा कप अरंडी तेल

कैसे उपयोग करें ?

  • थोड़ा-सा अरंडी तेल अपने हाथों में लेकर बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं और अच्छे से मालिश करें।
  • मालिश के बाद तेल को 10 से 15 मिनट लगे रहने दें।
  • यह तेल थोड़ा गाढ़ा होता है, जिस कारण इसे धोना थोड़ा मुश्किल है। हो सकता है कि आपको दो-तीन बाद शैंपू करना पड़े, इसलिए ध्यान रखें कि इसे ज़्यादा न लगाएं।
  • ऐसे में आप नहाने से आधा घंटे पहले अपने बालों में कंडीशनर लगा लें। कंडीशनर को साफ करने के बाद शैंपू करेंगे, तो हो सकता है कि बालों से तेल आसानी से निकल जाए।
  • धोने के बाद अपने बालों को तौलिये से सूखा लें, लेकिन ध्यान रहे कि बालों पर ड्रायर या बाल सुखाने के लिए किसी हीटिंग टूल का इस्तेमाल न करें।

नोट : यह उपाय तब और फायदेमंद होगा, जब आप इसे हल्के गीले बालों पर करेंगे।

बालों को बढ़ाने के लिए अरंडी तेल का उपयोग

आपको इतना तो पता चल ही गया है कि अरंडी तेल बालों को टूटने से बचाने में फायदेमंद साबित हो सकता है। साथ ही बालों को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। वहीं, इसका गाढ़ा होना और अजीब-सी गंध कुछ लोगों को पसंद नहीं आ सकती है। ऐसे में आप अरंडी तेल को किसी अन्य तेल में मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर सकते हैं और उससे सिर की मालिश कर सकते हैं।

नीचे हम तेल का एक मिश्रण आपको बता रहे हैं, जो चार तेल से मिलकर बना है। इसमें – नारियल तेल, बादाम तेल, तिल का तेल और अरंडी तेल है। हालांकि, आप अरंडी तेल को छोड़कर कोई अन्य तेल को इसमें से हटा सकते हैं या कोई अन्य तेल इसमें मिला भी सकते हैं।

तेल का मिश्रण बनाने के लिए सामग्री

  • एक चम्मच अरंडी तेल
  • दो चम्मच एक्स्ट्रा वर्जिन नारियल तेल
  • दो चम्मच बादाम तेल
  • दो चम्मच तिल का तेल

बनाने और लगाने की विधि

  • चारों तेलों को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें। आप चाहें तो तेल के मिश्रण को गुनगुना गर्म भी कर सकते हैं, ताकि यह आपके बालों में अच्छे से घुल जाए।
  • अब इस मिश्रण से बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • फिर एक घंटे के लिए इसे रहने दें।
  • उसके बाद शैंपू से अच्छे से बालों को धो लें।
  • तेल का मिश्रण आपके बालों के बढ़ने में मददगार साबित हो सकता है।

नोट : आप इस मिश्रण को अधिक मात्रा में बनाकर किसी बोतल में स्टोर करके रख सकते हैं। यह मिश्रण ज़्यादा दिनों तक स्टोर रहे, उसके लिए आप इसमें विटामिन-ई का एक कैप्सूल भी डाल सकते हैं।

बालों पर अरंडी तेल कितनी बार लगाना चाहिए?

यह तेल हर किसी के बालों में अलग-अलग तरह से काम करता है। इसका उपयोग बालों के अनुसार करना चाहिए, क्योंकि हर किसी के बाल एक जैसे नहीं होते हैं और सभी की समस्या भी अलग-अलग होती है। इसलिए, इसका उपयोग भी अलग-अलग तरह से होता है। नीचे हम इसी बारे में आपको बता रहे हैं।

झड़ते बालों के लिए : जो लोग बालों को झड़ने से रोकने के लिए अरंडी तेल का उपयोग कर रहे हैं, वो हफ़्ते में दो बार अरंडी तेल का उपयोग करें। इसका परिणाम चार-छह हफ़्तों में नज़र आने लगेगा। अगर आपको लगता है कि यह तेल आपके बालों को सूट कर रहा है, तो आप इसे हफ़्ते में तीन से चार बार भी लगा सकते हैं।

बालों में चमक के लिए : जो लोग अपने बालों में चमक बढ़ाने के लिए अरंडी तेल का उपयोग करना चाहते हैं, वो लोग हफ़्ते में एक बार अरंडी तेल को कंडीशनर के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। आप मटर के दाने जितना या फिर दो से चार बूंद भी ले सकते हैं।

दोमुंहे बालों के लिए : जो लोग अपने दोमुंहे बालों की समस्या को कम करना चाहते हैं, वो हफ़्ते में दो-तीन बार अरंडी तेल से अपने बालों की मालिश कर सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि इसका असर जल्दी और ज़्यादा हो, तो आप इसे रात को लगाकर सो जाएं और अगले दिन शैंपू कर लें।

बालों से अरंडी तेल को कैसे साफ करें?

Shutterstock

अरंडी तेल गाढ़ा और चिपचिपा होता है, ऐसे में इसे धोना थोड़ा मुश्किल होता है। खासकर के तब, जब आप इसे रात को लगाकर सोते हैं। इसलिए, नीचे हम आपको बालों से अरंडी तेल को धोने के उपाय बता रहे हैं।

  1. गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें – बालों से अरंडी तेल को निकालने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप पहले गुनगुने पानी से बालों को भीगा लें और फिर धोएं। गुनगुने पानी से आपके बालों में जमी गंदगी व चिपचिपाहट निकल जाएगी।
  1. शैंपू का झाग – थोड़ा-सा शैंपू लें और फिर पानी मिलाकर उसे अपनी हथेली पर रगड़कर अच्छे से झाग बना लें। इससे आपकी हथेली तो मुलायम होगी ही साथ ही साथ जब आप इसे अपने बालों पर लगाएंगे, तो आपके बाल भी ज़्यादा नहीं टूटेंगे।
  1. हल्के हाथों से शैंपू – आप चाहें तो शैंपू को सीधे अपने बालों पर लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें। फिर कुछ देर के लिए शैंपू को बालों में लगा रहने दें और उसके बाद धो लें।
  1. एक बार में धो लें – पहले पानी डालकर बालों को भीगाकर अच्छे से मालिश करके धोएं। फिर इसमें शैंपू लगाकर अच्छे से धो लें।
  1. कंडीशनर का इस्तेमाल – आप चाहें तो पहले अपने बालों में थोड़ा कंडीशनर लगा लें और फिर इसे कुछ मिनट तक लगा रहने दें। फिर कंडीशनर को धोकर शैंपू कर लें।
  1. ठंडे पानी से धोएं – अगर आप गर्म पानी का इस्तेमाल नहीं करना चाहते, तो बालों को पहले ठंडे पानी से धो लें। इससे आपके बालों में नमी बरकरार रहेगी और आपके बाल चमकदार और घने लगेंगे। आपको अगर लगे की आपके बाल चिपचिपे लग रहे हैं, तो आप शैंपू भी कर सकते हैं।

बालों को धोने के बाद के टिप्स

बालों को धोने के बाद उसे तौलिये से अच्छे से सुखाएं। ध्यान रहे कि आप बालों को सुखाने के लिए ड्रायर का उपयोग न करें, बल्कि तौलिये से पोछने के बाद उसे प्राकृतिक तरीके से सूखने दें।

जब आप तौलिये से बालों को पोछें, तो ज़्यादा ज़ोर से बालों को रगड़े नहीं। अगर आप बालों को ज़ोर से रगड़ेंगे, तो आपके बाल रूखे, बेजान और जल्दी टूटने लगेंगे।

कोशिश करें कि बालों को पूरी तरह सूखने के बाद ही कंघी करें। गीले बालों को झाड़ने से बाल ज़्यादा टूटेंगे।

बालों को कंघी करने के लिए अच्छी क्वालिटी वाला और बड़े दांत वाले लकड़ी की कंघी का उपयोग करने की कोशिश करें। बड़े दांत वाले कंघी से बाल कम टूटते हैं, वहीं लकड़ी की कंघी से बाल झाड़ने से बालों को फायदा होता है।

अरंडी तेल के हेयर मास्क – Castor Oil Hair Masks

बालों के लिए अरंडी तेल के फायदे और उसके उपयोग तो आप जान ही गए हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि अरंडी तेल से हेयर मास्क भी बना सकते हैं। यहां हम अरंडी तेल के कुछ हेयर मास्क रेसिपी आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

1. अरंडी तेल और नारियल तेल के मिश्रण का हेयर मास्क

Shutterstock

अगर आपके बाल ज्यादा झड़ते हैं, तो यह हेयर मास्क आपके बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

सामग्री

  • दो चम्मच अरंडी तेल
  • दो चम्मच नारियल तेल

बनाने और लगाने की विधि

  • एक कटोरी में अरंडी तेल और नारियल तेल को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस मिश्रण से अपने बालों में हल्के-हल्के हाथों से 5 से 10 मिनट तक मालिश करें।
  • इस तेल को पूरे बालों में अच्छे से लगाएं और उसके बाद शॉवर कैप पहन लें।
  • आप इस तेल को कम से कम दो घंटे के लिए अपने बालों में लगा रहने दें।
  • फिर अच्छे से शैंपू से बालों को धो लें।
  • आप इस मिश्रण को हफ्ते में दो से तीन बार लगा सकते हैं। अगले दो से तीन महीने में आपको फर्क नजर आने लगेगा।

कैसे फायदेमंद है?

नारियल तेल में एंटी-बैक्टीरियल गुण है (9), जो सिर में किसी भी प्रकार की खुजली, जलन या संक्रमण को कम करके नए बालों के उगने में मददगार साबित हो सकता है।

2. बालों को बढ़ाने के लिए अरंडी तेल और एलोवेरा का मास्क

अगर आप अपने बालों को लंबे और घने करना चाहते हो, तो यह हेयर मास्क आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

सामग्री

  • दो चम्मच अरंडी तेल
  • आधा कप एलोवेरा जेल
  • एक चम्मच तुलसी पाउडर
  • दो चम्मच मेथी पाउडर

बनाने और लगाने की विधि

  • सारी सामग्रियों को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब इस हेयर मास्क को अपने बालों पर लगा लें।
  • ध्यान रहे कि यह पेस्ट आपके पूरे बालों व स्कैल्प पर लगे कहीं भी छूटे न।
  • अब आप सिर पर शॉवर कैप पहन लें, ताकि यह मास्क आपके बालों पर अच्छे से चिपक जाए।
  • फिर इसे दो से तीन घंटे तक जब तक न सूखे लगा रहने दें।
  • सूखने के बाद गुनगुने पानी से बालों को शैंपू कर लें।
  • यह हेयर पैक आप एक-दो हफ़्तों में एक बार लगा सकते हैं। इससे आपके बाल स्वस्थ और चमकदार बनेंगे।

कैसे फायदेमंद है ?

एलोवेरा में एंजाइम और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं (10), जो जड़ों को पोषण देते हैं और संक्रमण से बचाते हैं। यह स्कैल्प के पीएच स्तर को सही रखते हैं और बालों को बढ़ने में मदद कर सकते हैं। साथ ही बालों को सूर्य की हानिकारक किरणों से सुरक्षित रखते हैं। यह मिश्रण बालों को खुजली, डैंड्रफ और झड़ने से रोकता है।

3. अरंडी तेल और जैतून के तेल का मिश्रण

Shutterstock

जैतून के तेल के भी कई फायदे हैं (जिसके बारे में हम विस्तार रसे अगले लेख में बताएंगे)। फिलहाल यहां हम बता रहे हैं कि अगर जैतून के तेल को गुणकारी अरंडी तेल के साथ मिल जाए तो यह किस तरह से बालों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

सामग्री

  • एक या दो चम्मच अरंडी तेल
  • एक या दो चम्मच जैतून का तेल
  • जपाकुसुम पौधे की पांच या छह पंखुड़ियां (hibiscus petals)

बनाने और लगाने की विधि

  • एक छोटे से कप में दोनों तेलों को बराबर मात्रा में डालकर मिलाएं।
  • अब इसमें जपाकुसुम की पंखुड़ियां (hibiscus petals) को डालें।
  • फिर इस तेल को 10 सेकंड के लिए गर्म करें और बालों पर लगाएं।
  • ध्यान रहे कि तेल ज़्यादा गर्म न हो।
  • इस तेल से अपने सिर की 10 से 15 मिनट के लिए मालिश करें।
  • अब अपने सिर पर हल्के गर्म पानी में भीगा हुआ तौलिया या भाप लगे हुए तौलिये को करीब एक घंटे के लिए बांध लें, ताकि आपके बालों में मॉइश्चर बरक़रार रहे।
  • एक घंटे बाद बालों को गुनगुने पानी से शैंपू कर लें।
  • अच्छे और जल्दी प्रभाव के लिए इस मिश्रण को आप हफ्ते में एक बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

जैतून का तेल एंटी-ऑक्सीडेंट और फैटी एसिड (fatty acids) से भरपूर है (11), जो बालों का झड़ना रोक सकता है। अरंडी तेल और जैतून के तेल का यह मिश्रण बालों को नमी देगा और उन्हें बढ़ने में मदद करेगा।

4. अरंडी तेल और बादाम तेल का मिश्रण

बालों को घना, खूबसूरत और लंबे बनाने की चाहत लगभग सभी को होती है। कई लोग इसके लिए बादाम तेल का उपयोग करते हैं, लेकिन इसका असर तब और बढ़ जाता, जब बादाम तेल के साथ अरंडी तेल मिला लें। नीचे हम उसकी विधि आपको बता रहे हैं।

सामग्री

  • दो चम्मच अरंडी तेल
  • दो चम्मच बादाम तेल

बनाने और लगाने की विधि

  • एक कटोरी में दोनों तेलों को बराबर मात्रा में मिलाएं।
  • फिर इसे कुछ सेकंड के लिए मध्यम आंच पर गर्म करें।
  • अब इस तेल के मिश्रण को अपने बालों और बालों की जड़ों में लगाएं।
  • इससे पांच से दस मिनट तक बालों और उनकी जड़ों में हल्की-हल्की मालिश करें।
  • ध्यान रहे कि तेल ज़्यादा गर्म न हो।
  • उसके बाद थोड़ी देर तेल को लगा रहने दें, ताकि आपके बाल तेल को अच्छे से सोख लें।
  • फिर गुनगुने पानी और शैंपू से बालों को धो लें।
  • आप हफ्ते में एक बार इस मिश्रण को लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

अरंडी व बादाम तेल का यह मिश्रण आपके बालों व स्कैल्प को प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व देते हैं। बादाम तेल में कई ज़रूरी पोषक तत्व हैं, जैसे – विटामिन-ए, बी और ई, जो बालों को बढ़ने में मदद कर सकते हैं (12)। इसलिए, यह मिश्रण पोषक तत्वों की कमी को पूरा कर आपके बालों को झड़ने से रोकेगा और बालों में नई जान डाल देगा।

5. अरंडी तेल और सरसों के तेल का मिश्रण

Shutterstock

खाने में सरसों का तेल लगभग हर घर में इस्तेमाल किया जाता है। जिस तरह खाने में सरसों का तेल स्वाद ले आता है, वैसे ही बालों के लिए भी सरसों के तेल के कई फायदे हैं। ये फायदे तब दोगुने हो जाते हैं, जब सरसों के तेल में अरंडी तेल मिल जाता है। नीचे हम अरंडी तेल और सरसों के तेल के मिश्रण की विधि बता रहे हैं।

सामग्री

  • एक चम्मच अरंडी तेल
  • एक चम्मच सरसों का तेल
  • एक चम्मच जैतून का तेल

नोट: तेल की मात्रा बालों की लंबाई और घनत्व के अनुसार लें।

बनाने और लगाने की विधि

  • एक बोतल में ये तीनों तेल डालकर उसे अच्छे से मिलाएं।
  • अब इस तेल के मिश्रण से अपने बालों और बालों की जड़ों में पांच से दस मिनट के लिए अच्छे से मालिश करें।
  • अब अपने बालों को गुनगुने पानी में भीगे तौलिये (steamed towel) से आधे से एक घंटे के लिए लपेट लें।
  • इसके बाद गुनगुने पानी और शैंपू से बालों को धो लें।
  • इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार लगाएं और अपने बालों की चमक बढ़ाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

सरसों के तेल में ज़रूरी विटामिन, मिनरल्स व फैटी एसिड हैं, जो बालों के लिए फायदेमंद हैं। विटामिन-ए बालों को बढ़ने में मदद कर सकता है, वहीं फैटी एसिड बालों में चमक लाता है। इसमें मौजूद प्रोटीन व कैल्शियम बालों को मज़बूत बनाते हैं (13)।

6. लाल मिर्च और अरंडी तेल का मिश्रण

खाने में स्वाद का तड़का लगाने में लाल मिर्च ही काफ़ी है, लेकिन क्या आपको पता है कि यही लाल मिर्च आपके बालों में भी नई जान डाल सकती है। नीचे हम अरंडी तेल और लाल मिर्च का एक मिश्रण शेयर कर रहे हैं, जो आपके बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

सामग्री

  • 60 ml अरंडी तेल
  • चार से छह लाल मिर्च
  • एक गाढ़े रंग की शीशे की बोतल

बनाने और लगाने की विधि

  • मिर्चियों को छोटे टुकड़ों में काटकर, उसमें अरंडी तेल मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को दो से तीन हफ़्तों के लिए एक शीशे के जार या कटोरे में डालकर किसी ठंडी जगह पर स्टोर कर लें।
  • ध्यान रहे कि यह सूरज की किरणों या गर्मी के संपर्क न आए, नहीं तो इसमें मौजूद बालों के लिए जरूरी पोषक तत्व नष्ट हो सकते हैं या फिर यह मिश्रण खराब हो सकता है।
  • हफ़्ते में एक या दो बार बोतल हिला दिया करें, ताकि यह मिश्रण अच्छे से घुल जाए।
  • अब दो से तीन हफ्ते बाद इस मिश्रण को छानकर इससे मिर्ची को अलग कर लें।
  • फिर इस तेल को अपने बालों और बालों की जड़ों में लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें। फिर इस मिश्रण को कुछ घंटों के लिए बालों में लगा रहने दें।
  • कोशिश करें कि इस मिश्रण को नहाने के एक घंटे पहले लगाएं, ताकि यह मिश्रण आपके बालों में अच्छे से लग जाए और फिर शैंपू से धो लें।
  • बालों में चमक लाने के लिए और बालों के घनत्व को बढ़ाने के लिए इस मिश्रण को हफ़्ते में एक या दो बार लगा सकते हैं।

नोट : ध्यान रहे कि यह तेल आंखों में न जाए। इसके अलावा, हो सकता है कि इस मिश्रण से आपके सिर की त्वचा में जलन हो। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है और आपको ज्यादा जलन हो, तो इस मिश्रण को न लगाएं। साथ ही अगर स्कैल्प पर किसी प्रकार का घाव या संक्रमण हो, तो इस तेल को न लगाएं। बेहतर है, यहां बताई गई किसी भी नुस्खे के उपयोग से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।

कैसे फायदेमंद है ?

मिर्ची में कैप्साइसिन (Capsaicin) (14) और आइसोफ्लैवोन (isoflavone) होता है (15)। ये यौगिक बालों की जड़ों से लेकर फॉलिकल्स (follicles) तक सही तरीके से रक्त प्रवाह करते हैं। साथ ही स्कैल्प और बालों को ज़रूरी पोषक तत्व प्रदान करते हैं।

7. अरंडी तेल और प्याज का रस

प्याज न सिर्फ सेहत के लिए, बल्कि बालों के लिए भी फायदेमंद है। आप अरंडी तेल के साथ प्याज़ का रस उपयोग कर सकते हैं।

सामग्री

  • दो चम्मच अरंडी का तेल
  • दो चम्मच प्याज़ का रस

बनाने और लगाने की विधि

  • अरंडी तेल और प्याज़ के रस को अच्छे से मिलाकर मिश्रण तैयार करें।
  • अब इस मिश्रण को अपने स्कैल्प में लगाकर सर्कुलर मोशन में मालिश करें।
  • इसे कुछ घंटों के लिए लगा रहने दें।
  • फिर कुछ देर बाद शैम्पू से धो लें।
  • इस मिश्रण को आप हफ्ते में एक या दो बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

जैसा कि आप जानते हैं कि अरंडी तेल बाल बढ़ाने में मददगार साबित होता है। वहीं, प्याज़ का रस बालों का झड़ना रोक सकता है (16)। यह मिश्रण बालों में घनत्व लाता है।

8. अरंडी तेल और लहसुन का मिश्रण

Shutterstock

आप अरंडी तेल को लहसुन के साथ भी उपयोग कर सकते हैं।

सामग्री

  • दो से तीन चम्मच अरंडी तेल
  • दो लहसुन की कलियां

बनाने और लगाने की विधि

  • लहसुन की कलियों को अच्छे से कुचल लें और अरंडी तेल के साथ मिला लें।
  • इस मिश्रण को तीन से चार दिनों के लिए मैरीनेट करके रखें।
  • तीन से चार दिन बाद इस तेल को निकालकर अपने बालों और स्कैल्प पर लगाएं।
  • अब इस मिश्रण से पांच-दस मिनट तक अपने बालों की मालिश करें।
  • मालिश करने के बाद तेल को दो से तीन घंटे तक बालों में लगा रहने दें।
  • इसके बाद बालों को शैम्पू और कंडीशनर से धो लें।
  • बालों को बढ़ाने के लिए आप हफ़्ते में एक या दो बार इस मिश्रण को लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

लहसुन में मौजूद एलिसिन (Allicin) में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं (17), जो बालों की जड़ों और स्कैल्प से गंदगी व कई प्रकार के संक्रमण को कम कर सकते हैं। इस मिश्रण से बाल साफ व स्वस्थ हो सकते हैं। हो सकता है कुछ लोगों को यह मिश्रण सूट न करे या एलर्जी का कारण भी बन सकती है। ऐसे में बेहतर है कि इसके उपयोग से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।

9. अरंडी तेल और ग्लिसरीन

ग्लिसरीन त्वचा के लिए तो फायदेमंद होता ही है, साथ ही साथ बालों के लिए भी लाभकारी होता है। अरंडी तेल और ग्लिसरीन का हेयर पैक आपके बालों में नई जान डाल सकता है।

सामग्री

  • एक चम्मच अरंडी तेल
  • दो से तीन बूंद ग्लिसरीन

बनाने और लगाने की विधि

  • अरंडी तेल और ग्लिसरीन को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
  • इस मिश्रण को बालों और स्कैल्प में लगाएं।
  • फिर इसे एक से दो घंटों के लिए अपने बालों में लगा रहने दें।
  • उसके बाद शैंपू से धो लें।
  • बालों को हाइड्रेट रखने के लिए और बालों में चमक बढ़ाने के लिए इस विधि को हफ्ते में एक बार उपयोग करें।

नोट : अगर आपके बाल तैलीय हैं, तो इस मिश्रण को न लगाएं। तैलीय बालों को ग्लिसरीन और चिपचिपा बना देगा।

कैसे फायदेमंद है ?

ग्लिसरीन आपकी त्वचा को ठंडक देता है। इस मिश्रण को नियमित रूप से लगाने से आपकी स्कैल्प मॉइस्चराइज़ रहेगी और खुजली व जलन जैसी समस्या भी कम हो सकती है (18)।

10. अरंडी तेल और अदरक

Shutterstock

अदरक सर्दी-खांसी और अन्य स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ पहुंचाता है, साथ ही यह बालों को भी स्वस्थ रखता है। जानिए अरंडी तेल और अदरक के मास्क की विधि।

सामग्री

  • दो चम्मच अरंडी तेल
  • एक चम्मच अदरक का रस

नोट : सामग्री अपने बालों के लंबाई और घनत्व के अनुसार लें।

बनाने और लगाने की विधि

  • अदरक के रस को अरंडी तेल में मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने बालों और स्कैल्प पर लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इस तेल के मिश्रण को आधे से एक घंटे के लिए बालों में लगा रहने दें।
  • फिर गुनगुने पानी और शैंपू से धो लें।
  • अच्छे परिणाम के लिए इस मिश्रण को हफ्ते में एक या दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

अदरक में एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण हैं, जो स्कैल्प में खुजली और डैंड्रफ को कम करके बालों को बढ़ने में मददगार साबित हो सकते हैं। यह मिश्रण स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन को संतुलित कर बालों को स्वस्थ बनाता है। अदरक में जिन्जेरॉल (gingerol) नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है (19), जो बालों की कोशिकाओं को क्षति पहुंचाने वाले मुक्त मूलकों (free radicals) को साफ़ करता है।

अरंडी तेल (कैस्टर ऑइल) का उपयोग करते वक़्त सावधानी

अरंडी तेल फायदे और उसे लगाने की विधि तो आप जान ही गए हैं। इसे लगाते वक़्त कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए। वैसे तो अरंडी तेल के कुछ नुकसान नहीं होते, लेकिन फिर भी कभी-कभी अगर किसी की त्वचा संवेदनशील हो, तो खुजली व जलन जैसी समस्या हो सकती है। ऐसे में अगर आप अरंडी का तेल या हेयर मास्क इस्तेमाल करने की सोच रहे हैं, तो उससे पहले पैच टेस्ट ज़रूर कर लें। आप अरंडी के तेल को अपने कलाई या हाथ पर लगाकर कुछ घंटे के लिए छोड़ दें। अगर इस दौरान आपको कोई जलन व खुजली जैसी समस्या महसूस हो, तो इसे न लगाएं, क्योंकि हो सकता है यह आपकी त्वचा को सूट न कर रहा हो। हर किसी की त्वचा एक जैसी नहीं होती, इसलिए हो सकता है, जो दूसरों की त्वचा को सूट करे वो आपको न करे। अरंडी तेल की तरह आप हेयर मास्क का भी पहले पैच टेस्ट करें और अगर आपको कोई परेशानी महसूस हो, तो तुरंत धो लें।

नोट : अगर ऊपर दी गई किसी सामग्री से आपको एलर्जी है या अगर कोई गर्भवती महिला इसका उपयोग करे, तो इसे इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से एक बार ज़रूर बात करें।

ये थे अरंडी तेल (कैस्टर ऑइल) के बालों के लिए कुछ फायदे और कुछ घरेलू नुस्खे। साथ ही ध्यान रहे कि जीवनशैली और खान-पान का भी आपके बालों पर असर होता है। इसलिए, स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं और स्वस्थ आहार लें। इससे न सिर्फ आप स्वस्थ रहेंगे, बल्कि आपके बाल भी लंबे, घने और काले नजर आएंगे।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या रूसी के लिए अरंडी के तेल का उपयोग किया जा सकता है?

रूसी के लिए अरंडी के तेल का उपयोग किया जा सकता है (2)। हालांकि, इसका प्रभाव अलग-अलग व्यक्ति में अलग हो सकता है। कुछ मामलों में डैंड्रफ के लिए अरंडी तेल का स्थिति को बिगाड़ भी सकता है। ऐसे में बेहतर है, इसके उपयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह ली जाए।

और पढ़े:

19 संदर्भ (Sources)

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch