बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे और घरेलू उपाय – Mustard Oil For Hair Care in Hindi

Medically reviewed by Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD Dr. Suvina Attavar Dr. Suvina AttavarMBBS, DVD linkedin_icon
Written by , MA (Mass Communication) Kavita Singh MA (Mass Communication)
 • 
 

बाल झड़ना एक आम समस्या है। प्राकृतिक रूप से हर किसी के कुछ न कुछ बाल गिरते ही हैं, लेकिन दिक्कत तब आती है, जब इनका गिरना हद से ज्यादा हो जाता है। लोग इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए न जाने कितने ही उत्पाद जैसे :- जेल, क्रीम, लोशन और तेल इस्तेमाल करते हैं। फिर भी इस समस्या से छुटकारा नहीं मिल पाता। आपको जानकार हैरानी होगी कि जिस समस्या का उपचार आप कॉस्मेटिक उत्पादों में ढूंढ रहे हैं, उसका हल आपके ही किचन में छिपा हुआ है। हम बात कर रहे हैं सरसों के तेल की। वैसे तो बाजार में कई प्रकार के सरसों के तेल उपलब्ध होते हैं, लेकिन कच्ची घानी सरसों का तेल बालों के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे से संबंधित सभी जानकारियां देंगे।

उपयोग और इस्तेमाल को जानने से पहले हम बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे के बारे में बात करेंगे।

बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे – Benefits of Mustard Oil for Hair in Hindi 

1. बालों का झड़ना रोके

1. बालों का झड़ना रोके
Image: Shutterstock

बालों के झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए सरसों के तेल का उपयोग करना फायदेमंद साबित हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, सरसों के तेल में कुछ ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो बालों को जड़ों से मजबूती प्रदान करते हैं। सरसों के तेल से स्कैल्प की मालिश करने से सिर में रक्त संचार बेहतर होता है, जो बालों को झड़ने से रोकने में सहायता करता है। सरसों के तेल से स्कैल्प की मालिश करके बाल झड़ने की समस्या से राहत मिल सकती है (1)

2. बालों की कंडीशनिंग 

अगर आप रूखे और बेजान बालों की समस्या से परेशान हैं, तो सरसों का तेल आपके बड़े काम आ सकता है। बताया जाता है कि सरसों का तेल रूखे और बेजान बालों में जान डालने का काम करता है। साथ ही इसके मसाज से स्कैल्प में खून का संचार बढ़ता है, जो बालों के स्वास्थ्य के लिए बेहद उपयोगी माना जाता है (2) कहा जाता है कि नहाने से कुछ घंटे पहले सरसों के तेल की मसाज बालों को नरम, मुलायम और चमकदार बना सकती है।

3. मालिश के लिए उपयोगी 

सिर की मालिश करने के लिए भी सरसों के तेल का उपयोग किया जाता है। सरसों के तेल से सिर की नियमित मसाज तनाव को कम करने काम करती है। बताया जाता है कि तनाव बालों के कमजोर और पतला होने का एक बड़ा जोखिम कारक है। इस लिहाज से यह कहा जा सकता है कि सरसों का तेल का प्रतिदिन प्रयोग आपको बालों से संबंधित कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने का काम कर सकता है (1)

4. बालों का पोषण

4. बालों का पोषण
Image: Shutterstock

सरसों का तेल बालों को केवल नरम, मुलायम और चमकदार ही बनाने का काम नहीं करता, बल्कि बालों को पोषण देने का भी काम करता है (3) विशेषज्ञों के मुताबिक, इसमें सेलेनियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन पाया जाता है, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। वहीं, इसमें विटामिन बी-3 यानी नियासिन भी मौजूद होता है। यह सभी तत्व संयोजित ढंग से हमारे मस्तिष्क और बालों के लिए काफी लाभदायक माने जाते हैं (4)

5. एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव के साथ विटामिन और मिनरल्स का अच्छा स्रोत 

सरसों के तेल में एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव के साथ विटामिन और मिनरल्स भी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक इसमें सेलेनियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन पाया जाता है, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। वहीं, इसमें विटामिन बी-3 यानी नियासिन भी मौजूद होता है। साथ ही मिनरल के तौर पर इसमें मैग्नीशियम, कैल्शियम और जिंक की अच्छी मात्रा उपस्थित रहती है (4)। ये सभी तत्व संयोजित ढंग से बालों के विकास में सहायक साबित होते हैं।

6. दोमुंहे बालों के लिए उपयोग

6. दोमुंहे बालों के लिए उपयोग
Image: Shutterstock

बताया जाता है कि सरसों का तेल रूखे और बेजान बालों में जान पैदा करने के साथ ही दोमुंहे बालों की समस्या से भी छुटकारा दिलाने का काम कर सकता है। इसके लिए आप नहाने से कुछ घंटे पहले हल्के हाथों से सरसों के तेल की मसाज कर लें। अगर आप चाहें तो नहाने के बाद भी हल्का तेल बालों में इस्तेमाल कर सकती हैं (2) बता दें इसमें सेलेनियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन पाया जाता है, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। वहीं, इसमें विटामिन बी-3 यानी नियासिन भी मौजूद होता है। यह सभी तत्व बालों से संबंधित विकारों को दूर करने में सहायक माने जाते हैं (4)

बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे जानने के बाद आगे लेख में हम इसके उपयोग के बारे में बात कर रहे हैं।

बालों को बढ़ाने के लिए सरसों का तेल का उपयोग – How to Use Mustard Oil for Hair Growth in Hindi

सामग्री :
  • एक कटोरी दही
  • 3 से 4 चम्मच सरसों का तेल
  • एक तौलिया
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले दही और तेल को आपस में अच्छे से मिलाएं।
  • अब इस लेप को बालों की जड़ों से लेकर पूरे बालों पर लगाएं।
  • अब तौलिये को सामान्य पानी में भिगो लें।
  • इस तौलिये को अपने बालों पर घुमाकर लपेट लें।
  • अब इसे 30-40 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद बालों को धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हर हफ्ते करीब दो बार दोहराएं।

नोट- सिर धोने के लिए आप शैम्पू का इस्तेमाल कर सकती हैं। वहीं, तेल को बालों से पूरी तरह निकालने के लिए आप दो बार बाल धोएं।

कैसे है फायदेमंद :

बताया जाता है कि सरसों के तेल में सेलेनियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन पाया जाता है, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। वहीं, इसमें विटामिन बी-3 यानी नियासिन मौजूद होते हैं, जो बालों की मजबूती और उनके विकास के लिए जरूरी माने जाते हैं। वहीं, इसमें बालों को नरम, मुलायम और दोषमुक्त करने वाले गुण भी पाए जाते हैं (3) (4)

आगे के लेख में हम सरसों के तेल को इस्तेमाल करने की कुछ आसान टिप्स के बारे में बताएंगे।

बालों के लिए सरसों का तेल इस्तेमाल करने के कुछ और टिप्स – Tips to Use Mustard Oil for Hair in Hindi

आइए, कुछ बिन्दुओं के माध्यम से सरसों के तेल को इस्तेमाल करने के कुछ आसान तरीकों के बारे में जानते हैं।

  • अगर आपको सूखे बालों की समस्या है, तो सरसों के तेल का इस्तेमाल करें। यह आपके बालों को प्राकृतिक नमी और चमक के साथ मजबूती प्रदान करेगा।
  • अगर आप बालों के झड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो बेहतर परिणाम पाने के लिए आप तेल को हल्का गर्म करके बालों पर लगाएं। तेल लगाने से पहले यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि आपके नाखून न हों, क्योंकि इससे स्कैल्प पर खरोंच लग सकती है।
  • जिन लड़कियोंं के बाल लंबे हैं, वो टर्बन मसाज का इस्तेमाल कर सकती हैं। मसाज की इस प्रक्रिया में आपको सरसों के तेल को सिर पर तब तक मलना होता है, जब तक स्कैल्प तेल को पूरी तरह से सोख न ले।

आगे के लेख में हम सरसों के तेल के उपयोग के दौरान बचाव संबंधी सावधानियों के बारे में बताएंगे।

बचाव – Caution

  • अगर आपने बालों में सरसों का तेल लगाया है, तो घर से बाहर जाने से पहले बालों को धो लें। सरसों के तेल के कारण धूल-मिट्टी और प्रदूषण आपके बालों पर चिपक सकता है। इससे आपके बाल खराब हो सकते हैं।
  • हफ्ते में तीन दिन सरसों के तेल का इस्तेमाल फायदेमंद माना जाता है। इसे प्रतिदिन इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

अब तो आप बालों के लिए सरसों के तेल के फायदे के बारे में अच्छे से जान ही गए होंगे। साथ ही आपको यह भी पता चल गया होगा कि सरसों के तेल का उपयोग बालों से संबंधित समस्याओं से कैसे छुटकारा दिलाने में सहायक साबित हो सकता है। वहीं, लेख के माध्यम से हमने आपको इसके इस्तेमाल के कुछ खास तरीकों के बारे में भी बताया है। ऐसे में अगर आप भी बालों की किसी खास समस्या से जूझ रहे हैं, तो जरूरी होगा कि आप लेख में दी गई सभी जानकारियों को अच्छे से पढ़ लें। उसके बाद ही कदम आगे बढ़ाएं। आशा करते हैं कि यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद रहा होगा। बालों के रखरखाव और झड़ने की समस्या को रोकने से जुड़े अन्य आर्टिकल के लिए पढ़ते रहें स्टाइलक्रेज।

और पढ़े:

References

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Use the following home remedies for controlling hair loss
    https://www.academia.edu/37915546/Use_the_following_home_remedies_for_controlling_hair_loss
  2. Hair massage
    https://www.academia.edu/37900783/Hair_massage
  3. Explaining Reduction in Hair Fall Graphically
    http://portfolios.pratt.edu/gallery/79132347/Explaining-reduction-oF-hair-fall-graphically
  4. Commodity Revenue Management: India’s rapeseed/mustard oil sector
    http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.439.2160&rep=rep1&type=pdf
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Dr. Suvina Attavar

Dr. Suvina AttavarMBBS, DVD

Dr. Suvina Attavar - I have a thirst for learning and a passion for Dermatology, Cosmetology and hair transplantation. I am well versed with lasers, chemical peels, and other minor dermatologic procedures. I have been doing hair transplants since 2018. I have written articles on dermatology topics for Residream during my residency as well as for practo and icliniq.read full bio

ताज़े आलेख