बालों में मेंहदी लगाने के फायदे, लगाने का तरीका और नुकसान – Benefits of Mehndi for Hair in Hindi

Written by

मेंहदी सिर्फ हाथों की ही खूबसूरती नहीं, बल्कि बालों को भी आकर्षक बनाती है। अक्सर लोग सफेद बालों को छिपाने के लिए बालों में मेंहदी लगाते हैं। बालों में मेंहदी लगाने के फायदे यहीं तक सीमित नहीं है। इसके कई अन्य लाभ भी हैं, जिनके बारे में शायद कई लोग अभी तक नहीं जानते होंगे। ऐसे में बालों में मेंहदी के फायदे और क्या-क्या हो सकते हैं, इसकी जानकारी हम स्टाइलक्रेज के इस लेख से दे रहे हैं। साथ ही हम बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान भी उजागर करेंगे। तो बालों में मेंहदी लगाने के फायदे, नुकसान और उपयोग से जुड़ी ज्यादा से ज्यादा जानकारी के लिए लेख को अंत तक पढ़ें।

लेख विस्तार से पढ़ें

इससे पहले कि बालों में मेंहदी लगाने के फायदे के बारे में जानें, उससे पहले जानते हैं कि मेंहदी क्या है।

मेंहदी क्या है? – What is Henna in Hindi

मेंहदी का वैज्ञानिक नाम लॉसनिया इनर्मिस (Lawsonia Inermis) है, इसे हिना भी कहते हैं। यह औषधीय गुणों युक्त एक पौधा है, जिसका इस्तेमाल कई सालों से स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं और बालों और हाथ-पैरों की खूबसूरती निखारने के लिए किया जाता रहा है। इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीट्यूमर जैसे कई सारे गुण हैं। स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं के लिए मेंहदी की पत्तियों, छाल और बीज का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं, बालों के लिए मेंहदी का उपयोग कई सालों से किया जाता रहा है। इसे बालों को रंगने और बालों को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है (1)। लेख में आगे हम बालों में मेंहदी लगाने के फायदे को विस्तारपूर्वक बता रहे हैं।

आगे बढ़ते हैं

अब पढ़ते हैं बालों के लिए मेंहदी के लाभकारी गुणों के बारे में। 

बालों के लिए मेंहदी  के फायदे – Benefits Of Mehndi For Hair in Hindi 

लेख के इस भाग में अब हम बालों के लिए मेंहदी के फायदे से जुड़ी जानकारियां देंगे। यहां हम यह स्पष्ट कर दें कि बालों में मेंहदी के फायदे बालों से जुड़ी समस्याओं को कम करने में या उनसे बचाव करने में मदद कर सकता है। मेंहदी को बालों से जुड़े गंभीर परेशानियों का इलाज समझने की भूल न करें। तो चलिए अब जानते हैं बालों में मेंहदी लगाने के फायदे, जो कुछ इस प्रकार हैं :

1. डैंड्रफ के लिए

रूसी की समस्या स्कैल्प से जुड़ी सबसे आम परेशानियों में से एक है। ऐसे में डैंड्रफ से बचाव के लिए मेंहदी उपयोगी हो सकता है। दरअसल, मेंहदी में मौजूद लॉसन (Lawsone) नाम के केमिकल कंपाउंड में एंटी डैंड्रफ गुण होने की बात सामने आई है। वहीं, डैंड्रफ के लिए उपयोग किए जाने वाले कई एंटी डैंड्रफ हेयर प्रोडक्ट में लॉसन का उपयोग किया जाता है (2)। इसके अलावा, मेंहदी में मौजूद कुछ यौगिक में एंटी डैंड्रफ गुण की पुष्टि हुई है। वहीं, मेंहदी में एंटी फंगल गुण भी है, जो डैंड्रफ का कारण बनने वाले फंगस से बचाव करने का काम कर सकते है (3)

2. बालों का रंग बढ़ाए

मेंहदी का उपयोग बालों को कलर करने या सफेद बालों को छुपाने के लिए भी किया जा सकता है। बालों को कलर करने के लिए प्राकृतिक विकल्प के तौर पर मेंहदी को चुना जा सकता है। दरअसल, मेंहदी की पत्तियो में लॉसन (कलरिंग एजेंट) नामक यौगिक होता है, जिस वजह से इसमें प्राकृतिक तौर पर लाल-नारंगी रंग मौजूद होते हैं। इसके अलावा, मेंहदी का उपयोग बालों के सफेद होने की समस्या से भी बचाव कर सकता है (4)। वहीं, कई तरह के हेयर डाई में भी मेंहदी का उपयोग किया जाता है। ऐसे में समय से पहले बालों के सफेद होने की समस्या को दूर करने के लिए मेंहदी का विकल्प अच्छा हो सकता है।

3. ऑक्सीडेटिव तनाव कम करे

बालों की समस्या जैसे – बालों का झड़ना या सफेद होने का एक कारण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को भी माना जाता है (5)। ऐसे में इस समस्या से बचाव के लिए मेंहदी का उपयोग लाभकारी हो सकता है। दरअसल एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार मेंहदी में एंटीऑक्सीडेंट गुण होने की बात सामने आई है (6)। ऐसे में इस आधार पर, बालों को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के क्षति से बचाने के लिए मेंहदी का उपयोग किया जा सकता है।

4. बालों की कंडिशनिंग करे

लोग मेंहदी का उपयोग बालों को कंडिशन करने के लिए भी करते हैं। दरअसल, मेंहदी स्कैल्प से अतिरिक्त तेल हटाकर बालों को कंडिशन करने में सहायक हो सकती है (4)। कई लोग मेंहदी को नैचुरल कंडिशनर भी कहते हैं। ऐसे में बालों को प्राकृतिक तरीके से कंडिशन करने के लिए मेंहदी को विकल्प के तौर पर चुन सकते हैं।

5. स्कैल्प का पीएच संतुलित करे

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे के बारे में बात करें, तो यह स्कैल्प के पीएच को भी संतुलित कर सकती है। दरअसल, मेंहदी स्कैल्प के पीएच को संतुलित कर उम्र से पहले होने वाले सफेद बालों की समस्या से बचाव कर सकती है। इतना ही नहीं मेंहदी में मौजूद एंटी-फंगल गुण डैंड्रफ की समस्या से बचाव कर स्कैल्प को स्वस्थ बना सकता है (4)

6. बालों का झड़ना कम करे

एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित, अध्ययन में मेंहदी को एंड्रोजेनिक एलोपेसिया (बालों के झड़ने की सामान्य समस्या) के उपचार में लाभकारी पाया गया है (7)। इतना ही, हमने ऊपर पहले ही जानकारी दे दी थी कि मेंहदी स्कैल्प के पीएच को संतुलित कर सकता है। वहीं, स्कैल्प के संतुलित पीएच की वजह से मेंहदी बालों के झड़ने की परेशानी को भी कम कर सकती है (4)। झड़ते बालों की समस्या कम करने के लिए मेंहदी का उपयोग एक आसान विकल्प हो सकता है। हालांकि, ध्यान रहे अगर किसी को बाल झड़ने की गंभीर समस्या है, तो डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह को प्राथमिकता देना बेहतर है।

7. हेयर ग्रोथ के लिए मेंहदी

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे में सिर्फ बालों के झड़ने से छुटकारा पाना ही नहीं, बल्कि हेयर ग्रोथ यानी बालों का विकास भी शामिल है। सालों से मेंहदी को बालों के विकास के लिए औषधि के रूप में उपयोग किया जाता रहा है (1)। ऐसे में हेयर ग्रोथ के लिए मेंहदी का उपयोग एक आसान विकल्प हो सकता है। हालांकि मेंहदी में मौजूद कौन सा गुण इसके लिए जिम्मेदार है, इस बात की पुष्टि के लिए अभी शोध की आवश्यकता है।

8. स्वस्थ बालों के लिए मेंहदी

जैसे कि हमने ऊपर बालों में मेहंदी लगाने के कई सारे फायदे बताएं हैं। डैंड्रफ से बचाव हो, बालों का झड़ना कम करना हो या बालों को कंडीशन करना हो, मेंहदी बालों के लिए एक परफेक्ट घरेलू उपाय हो सकता है (4)। ऐसे में मेंहदी के इन गुणों के आधार पर यह कहा जा सकता है कि यह बालों और स्कैल्प को स्वस्थ रखने में उपयोगी हो सकती है।

 स्क्रॉल करें

आगे जानिए बालों में मेंहदी लगाने का सही तरीका।

बालों में मेंहदी लगाने के तरीके

ऊपर बताए गए बालों के लिए मेंहदी के फायदे से यह तो पता चल गया कि कैसे ये बालों के लिए लाभकारी है। अब बालों में मेंहदी के फायदे तभी पाए जा सकते हैं, जब इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका पता हो। ऐसे में हम अपने पाठकों की यह मुश्किल भी हल कर देते हैं। नीचे हम बालों में मेंहदी लगाने के सही तरीके के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

बालों में मेंहदी लगाने के लिए सामग्री: 

  • आधा कप या बालों के लंबाई के अनुसार मेंहदी की पत्तियां या मेंहदी पाउडर
  • गुनगुना या ठंडा पानी
  • दस्ताने
  • हेयर ब्रश
  • शॉवर कैप

कैसे तैयार करें: 

  • एक कटोरी में मेंहदी पाउडर और पानी मिला कर गाढ़ा लेप तैयार करें।
  • अगर मेंहदी की पत्तियों का उपयोग कर रहे हैं, तो पत्तियों को धोकर अच्छी तरह पीस लें।
  • इसके बाद इस तैयार लेप को 1 घंटे के लिए अलग रख दें। अगर आप बालों को मेंहदी से रंगना नहीं चाहते हैं, तो इस लेप का इस्तेमाल बालों पर तुरंत भी कर सकते हैं।
  • अब हाथों में दस्ताने पहनें और हेयर ब्रश की मदद से बालों में इस मिश्रण को अच्छे से लगाएं।
  • बालों में मेंहदी अच्छे से लगे, इसके लिए बालों को छोटे-छोटे हिस्सों में बांटकर इस पेस्ट को लगा सकते हैं।
  • जब बालों में मेंहदी लगा लें, तो शावर कैप से सिर को कवर कर लें।
  • लगभग 2 से 3 घंटों बाद बालों को माइल्ड शैंपू से धो लें।
  • इसके बाद बालों का पानी सामान्य रूप से सूखने दें। हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करने से बचें।
  • बालों में मेंहदी का लेप महीने में 1 से 2 बार लगा सकते हैं।

किन बातों का रखें ध्यान:

  • बालों में मेंहदी लगाने से पहले बालों में कोई भी तेल या केमिकल न लगाएं।
  • मेंहदी का अधिक लाभ पाने के लिए बालों को पहले पानी से धो लें और उसके बाद हल्के गीले बालों पर मेंहदी का इस्तेमाल करें।

मेंहदी का उपयोग अन्य सामग्री के साथ : 

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे के लिए आप मेंहदी को अन्य घरेलू सामग्री जैसे – आंवला, शिकाकाई, रीठा, नींबू, दही के साथ मिक्स करके भी लगा सकते हैं। लेख में आगे हम मेंहदी बालों में लगाने के फायदे के लिए इसे अन्य सामग्रियों के साथ मिलाकर लगाने के बारे में भी जानकारी देंगे।

पढ़ते रहें

लेख के इस भाग में मेंहदी को अन्य सामग्रियों के साथ बालों में हेयर पैक की तरह लगाने की विधियों की जानकारी दी गई है।

बालों के लिए मेंहदी हेयर पैक – Mehndi Hair Packs in Hindi

जैसे कि ऊपर हमने आपको जानकारी दे ही दी है कि बालों में मेंहदी लगाने के फायदे कई सारे हैं। अब इन फायदों के जल्द से जल्द असर के लिए मेंहदी को सही तरीके से लगाना भी जरूरी है। ऐसे में लेख के इस भाग में हम मेंहदी को बालों में लगाने के अलग-अलग तरीके बता रहे हैं। तो सेहतमंद स्कैल्प और बालों के लिए कुछ इस प्रकार करें मेंहदी का उपयोग:

1. रूखे बालों के लिए मेंहदी हेयर पैक

सामग्रीः

  • बालों की लंबाई के अनुसार मेंहदी की पत्तियां या पाउडर लें
  • पेस्ट बनाने के लिए आवश्यकता अनुसार पानी
  • एक कटोरी

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • एक कटोरी में पानी और मेंहदी को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • अगर मेंहदी की पत्तियों का उपयोग कर रहे हैं, तो उन्हें धोकर पीस लें या मिक्सी में ग्राइंड कर लें।
  • ग्राइंड करते वक्त भी पानी डाल सकते हैं या फिर ग्राइंड करने के बाद पानी डालकर पेस्ट बना सकते हैं।
  • अब इस मिश्रण को थोड़ी देर के लिए रख दें।
  • कुछ देर बाद इस मेंहदी पैक को बालों में अच्छे से लगाएं।
  • इसके बाद बालों को शॉवर कैप से कवर करे लें और लगभग 2 घंटे बाद शैंपू का इस्तेमाल करते हुए बालों को धो लें।
  • आप चाहें तो इस पैक को सिर्फ पानी से भी धो सकते हैं और फिर अगले दिन शैम्पू कर सकते हैं।
  • ध्यान रहे मेंहदी पैक नहाने से कुछ घंटो पहले लगाएं।
  • बालों में कंडिशनर न लगाएं।

कैसे फायदेमंद हैः

हमने लेख की शुरुआत में ही मेंहदी के कई सारे फायदे आपके साथ साझा किए हैं। ऐसे में रूखे बालों की समस्या से बचाव करना हो, बालों का झड़ना रोकना हो या बालों को कंडिशन करना हो, मेंहदी का यह पैक बालों के साथ-साथ स्कैल्प को भी स्वस्थ रख सकता है  (4)

2. मेंहदी और आंवले का हेयर पैक

सामग्रीः 

  • आवश्यकता अनुसार मेंहदी पाउडर
  • एक से दो चम्मच आंवला पाउडर (बाजार में उपलब्ध)
  • पेस्ट बनाने के लिए पानी
  • एक बाउल

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • बाउल में मेंहदी, आंवला पाउडर और पानी डालकर इसका पेस्ट तैयार कर लें।
  • इसके बाद इस पैक को नहाने से कुछ घंटे पहले बालों में अच्छे से लगाएं।
  • फिर बालों को शॉवर कैप से कवर कर लें।
  • लगभग 2 घंटे बाद शैंपू से बालों को धो लें।
  • ध्यान रहे पेस्ट ज्यादा गाढ़ा न हो, क्योंकि गाढ़े पेस्ट को सूखने में वक्त लग सकता है।

कैसे फायदेमंद हैः

बालों के लिए मेंहदी के फायदे तो हम पहले ही बता ही चुके हैं। वहीं, इसके गुणों को बढ़ाने के लिए आंवला का उपयोग भी किया जा सकता है। आंवला चूर्ण का इस्तेमाल लोग कई सालों से करते आ रहे हैं। आंवला बालों को स्वस्थ और मजबूत बनाने में सहायक हो सकता है। इतना ही नहीं, यह बालों का वक्त से पहले सफेद होने और बालों के झड़ने की समस्या को भी कम कर सकता है। इसका उपयोग बालों के लिए हेयर टॉनिक की तरह कई सालों से किया जाता रहा है (8)

इसमें मौजूद विटामिन सी बालों को स्वस्थ रखने में सहायक हो सकता है। वहीं, आंवलें में एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो स्कैल्प को स्वस्थ रखने और बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं (9)। आंवला और मेंहदी का यह पैक बालों को काला और चमकदार बनाने के लिए उपयोगी हो सकता है।

3. मेंहदी और केले का हेयर पैक 

सामग्रीः

  • एक कटोरा
  • 2 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • एक पका हुआ केला
  • गुनगुना या ठंडा पानी

बनाने और उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरे में पके हुए केले को मसलें।
  • फिर इसमें मेंहदी पाउडर व पानी मिलाकर इसका हेयर पैक तैयार कर लें।
  • यह मिश्रण तैयार होने के बाद कुछ देर के लिए इसे रख दें।
  • फिर इस मिश्रण को पूरे बालों में अच्छी तरह से लगाएं।
  • मिश्रण बालों से टपके न इसके लिए बालों को शॉवर कैप या नर्म तौलिए से कवर कर लें।
  • फिर 1 से 2 घंटे के बाद या हेयर पैक सूखने के बाद बालों को पानी और शैंपू से धो लें। 

कैसे फायदेमंद हैः

मेंहदी बालों में लगाने के फायदे बढ़ाने के लिए इसमें केले का इस्तेमाल कर सकते हैं। केले में पोटेशियम, प्राकृतिक तेल, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन्स होते हैं, जो बालों की चमक बढ़ाने के साथ-साथ दोमुंहे बालों की समस्या को भी कम कर सकते हैं। बालों के लिए केले के लाभ यहीं तक सीमित नहीं है। यह रूसी की समस्या से बचाव करने के साथ-साथ बालों को मुलायम और सुलझा हुआ बना सकता है (10)। इस तरह बालों के मेंहदी के लाभ को बढ़ाने के लिए केले का इस्तेमाल करना अच्छा विकल्प हो सकता है।

4. मेंहदी और मुल्तानी मिट्टी का हेयर पैक 

सामग्रीः

  • 2 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • 2 चम्मच मुल्तानी मिट्टी पाउडर
  • गुनगुना या ठंडा पानी
  • एक कटोरी

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • एक कटोरी में मुल्तानी मिट्टी व हिना पाउडर मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण में आवश्यकता अनुसार पानी मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • मिश्रण तैयार होने के बाद इसे थोड़ी देर के लिए सेट होने के लिए रख दें।
  • इस मिश्रण को नहाने के 2 घंटे पहले लगाएं।
  • फिर सूखने पर गुनगुने या ठंडे पानी व शैंपू से बालों को धो लें।

कैसे फायदेमंद हैः 

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे को अधिक कारगर बनाने के लिए इसमें मुल्तानी मिट्टी मिलाई जा सकती है। मुल्तानी मिट्टी के फायदे सिर्फ त्वचा ही नहीं, बल्कि बालों के लिए भी हैं। बता दें कि बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी एक क्लींजर के रूप में कार्य कर सकती है। क्लींजर के अलावा, यह स्कैल्प के अत्यधिक तेल (सीबम) को कम करने में भी सहायक हो सकती है (11)। ऐसे में बालों से गंदगी और चिपचिपाहट को साफ करने के लिए मेंहदी के साथ मुल्तानी मिट्टी का यह पैक उपयोगी हो सकता है।

5. मेंहदी और कॉफी का हेयर कलर पैक 

सामग्रीः

  • 4 से 5 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • 1 चम्मच कॉफी पाउडर
  • एल्युमिनियम फॉयल
  • जरूरत अनुसार पानी
  • एक कटोरा

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले एक बतर्न में पानी को गर्म करें।
  • जब पानी खौलने लगे तो उसमें कॉफी पाउडर मिलाएं।
  • अब गैस बंद कर इस मिश्रण को एक कटोरी में छानकर ठंडा होने के लिए रख दें।
  • जब यह ठंडा हो जाए तो इसमें हिना पाउडर मिलाकर इसका मिश्रण तैयार करें।
  • फिर इस मिश्रण को 1 घंटे के लिए रख दें।
  • उसके बाद नहाने से कुछ घंटे पहले इसे बालों में लगा लें और एल्युमिनियम फॉयल की मदद से बालों को कवर कर लें।
  • फिर कुछ घंटों बाद गुनगुने पानी से बालों को धो लें।

कैसे फायदेमंद हैः

लेख में ऊपर हमने पहले ही जानकारी दी है कि मेंहदी का इस्तेमाल बालों को कलर करने के लिए भी किया जाता है। मेंहदी के रंग को और खूबसूरत बनाने के लिए और इसके गुण को अधिक प्रभावी बनाने के लिए, इसमें कॉफी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, कॉफी पाउडर का उपयोग भी हेयर कलरेंट्स यानी बालों को रंगने के लिए किया जाता है (9)

इसके साथ ही एक अन्य अध्ययन में इस बात की पुष्टि हुई है कि कॉफी में मौजूद मुख्य तत्व कैफीन एंड्रोजेनिक एलोपेसिया (एक प्रकार का गंजापन) के उपचार में लाभकारी हो सकता है। यह नए बालों के ग्रोथ में मदद कर सकता है (12)।ऐसे में बालों को खूबसूरत रंग और स्वस्थ बनाने के लिए यह हेयर पैक लाभकारी हो सकता है।

6. मेंहदी, अंडा और दही का हेयर मास्क

सामग्रीः

  • एक कटोरी
  • 2 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • 1 अंडा
  • 2 चम्मच दही
  • ठंडा पानी 

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • एक कटोरी में आवश्यकता अनुसार ठंडा पानी लें।
  • अब उसमें मेंहदी पाउडर, अंडे का पीला भाग व दही मिलाएं।
  • इसका अच्छे से मिश्रण तैयार करें।
  • फिर इस मिश्रण को कुछ देर के लिए रख दें।
  • थोड़ी देर बाद इस पैक को बालों में अच्छे से लगाएं।
  • फिर बालों को शॉवर कैप की मदद से कवर करें लें।
  • 2 घंटे बाद या जब यह हेयर पैक सूख जाए, तो शैंपू से बालों को धो लें।
  • बेहतर है इस हेयर पैक को नहाने से कुछ घंटे पहले लगाएं।

कैसे फायदेमंद हैः 

बालों के लिए मेंहदी के गुणों को बढ़ाने के लिए इसमें अंडे व दही का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। बालों के लिए अंडे के लाभकारी गुण की बात करें, तो अंडे की जर्दी में मौजूद वॉटर सोल्यूबल पेपटाइट बालों के विकास को बेहतर कर सकता है (13)। वहीं, दही का उपयोग सालों से बालों को डैमेज से बचाने और स्कैल्प को स्वस्थ रखने के लिए किया जाता रहा है (14)। कई लोगों का मानना है कि दही बालों को कंडिशन करने और रूसी की समस्या के लिए भी उपयोगी हो सकता है। ऐसे में इस विषय में अभी और शोध की आवश्यकता है, लेकिन बालों को स्वस्थ बनाने के लिए मेंहदी का यह हेयर पैक ट्राई कर सकते हैं।

7. मेंहदी और नारियल तेल का हेयर पैक 

सामग्रीः

  • आवश्यकता अनुसार मेंहदी पाउडर
  • 1 चम्मच नारियल का तेल
  • पानी
  • 1 बाउल

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले एक बाउल में नारियल तेल गर्म करें।
  • फिर गैस बंद कर दें और नारियल तेल को गुनगुना होने दें।
  • उसके बाद इसमें पानी व हिना पाउडर मिलाकर इसका मिश्रण तैयार करें।
  • अब इस मिश्रण को तैयार करके थोड़ी देर के लिए रख दें।
  • जब यह ठंडा हो जाए तो इसे बालों में लगाएं।
  • लगभग 1 घंटे बाद बालों को पानी व शैंपू से धो लें।
  • बेहतर है इसे नहाने से कुछ घंटे पहले लगाएं। 

कैसे फायदेमंद हैः

नारियल तेल का उपयोग, बालों के लिए मेंहदी के लाभ को और भी अधिक बढ़ा सकता है। नारियल तेल के फायदे क्षतिग्रस्त हुए व सामान्य बालों में प्रोटीन लॉस को कम करने में मदद कर सकते हैं। दरअसल, नारियल तेल में लॉरिक एसिड (Lauric Acid) होता है, जो बालों में आसानी से अवशोषित होकर बालों को पोषण प्रदान कर सकता है। इसका जिक्र एनसीबीआई की साइट पर प्रकाशित एक शोध में मिलता है (15)। ऐसे में बालों के लिए नारियल तेल और मेंहदी का यह पैक लाभकारी हो सकता है।

8. मेंहदी और मेथी का हेयर पैक

सामग्रीः

  • 4 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • 2 चम्मच मेथी के बीज
  • गुनगुना या ठंडा पानी
  • 1 कटोरी

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • मेथी के बीज को ग्राइंडर में पीसकर पाउडर बना सकते हैं या बाजार में उपलब्ध मेथी के पाउडर का उपयोग कर सकते हैं।
  • इसके अलावा, रातभर मेथी के बीज को पानी में भिगोकर रखें और अगले दिन मेंहदी के साथ पीसकर उपयोग कर सकते हैं।
  • अब कटोरी में मेंहदी पाउडर, मेथी के बीज का पाउडर और गुनगुना पानी मिला लें।
  • अब इसका पेस्ट तैयार कर लें।
  • कुछ देर के लिए इस पेस्ट को रख दें।
  • इसके बाद इसे नहाने से कुछ घंटे पहले बालों में लगाएं।
  • 40 से 45 मिनट बाद पानी व शैंपू से बाल धो लें।

 कैसे फायदेमंद हैः

अगर बालों के झड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो मेंहदी के हेयर पैक में मेथी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। बालों के लिए मेथी के फायदे की बात करें, तो इस विषय में हुए स्टडी के अनुसार मेथी के बीज के अर्क में फ्लेवोनोइड्स (Flavonoids) और ट्राइटरपेनॉयड (Triterpenoid) होते हैं, जो बालों के रोम को पोषण प्रदान करने के साथ-साथ ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर बालों के ग्रोथ में सहायक हो सकते हैं (16)। इस आधार पर बालों से जुड़ी समस्या को कम करने के लिए मेंहदी के हेयर पैक में मेथी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

9. मेंहदी और नींबू के रस का हेयर पैक

सामग्रीः

  • 4 से 5 चम्मच मेंहदी पाउडर
  • 1 चम्मच नींबू का रस
  • पानी
  • 1 बाउल

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • एक बाउल में पानी लें और उसमें हिना पाउडर मिलाकर उसका मिश्रण तैयार करें।
  • अब इसमें नींबू का रस डालकर इसे अच्छे से मिलाएं।
  • इसके बाद इस मिश्रण को थोड़ी देर के लिए सेट होने के लिए रख दें।
  • फिर इस पेस्ट को बालों में लगाएं।
  • कुछ घंटों के बाद या बाल सूख जाने के बाद बालों को गुनगुने पानी व शैंपू से धो लें।

कैसे फायदेमंद हैः

लेख में यह बताया गया है कि मेंहदी के अर्क में एंटी-फंगल गुण होता है, जो स्कैल्प और बालों से जुड़ी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है (17)। वहीं, इसके प्रभाव को बढ़ाने में नींबू के रस का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस संबंध में हुए शोध के अनुसार, रूसी से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मेंहदी और नींबू के रस का मिश्रण प्रभावकारी पाया गया है। दरअसल, मेंहदी और नींबू में एंटी-फंगल गुण होता है, जो मालासेजिया फरफुर (Malassezia Furfur- रूसी का कारण बनाने वाला फंगस) का उपचार करने में प्रभावी हो सकता है (18)। ऐसे में अगर किसी को डैंड्रफ की समस्या है तो मेंहदी और नींबू का यह हेयर पैक उपयोगी हो सकता है।

10. मेंहदी और गुड़हल की पत्तियों का हेयर पैक

सामग्रीः

  • मुट्ठीभर मेंहदी की ताजी हरी पत्तियां या मेंहदी का पाउडर
  • मुट्ठीभर गुड़हल की ताजी हरी पत्तियां

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • मेंहदी और गुड़हल की पत्तियों को पीस कर इसका पैक तैयार करें।
  • फिर इसे बालों में लगाएं।
  • जब यह सूख जाए तो गुनगुने पानी और शैंपू से बालों को धो लें।

कैसे फायदेमंद हैः

बालों के लिए मेंहदी हेयर पैक को अधिक प्रभावकारी बनाने के लिए, इसमें गुड़हल की पत्तियों को मिलाया जा सकता है। दरअसल, गुड़हल की पत्तियों का इस्तेमाल करने से बालों के विकास को बढ़ावा मिल सकता है। इसकी पुष्टि एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक अध्ययन से हुई है। इस स्टडी के अनुसार, गुड़हल की पत्तियों के अर्क में पेट्रोलियम ईथर (Petroleum Ether) होता है, जो बालों के विकास को बढ़ावा दे सकता है (19)

इसके अलावा, गुड़हल की पत्तियों की तरह ही गुड़हल के फूल का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। जानवरों पर किए गए इस अध्ययनों से यह पुष्टि होती है कि गुड़हल का फूल भी बालों के विकास के साथ-साथ बालों की लंबाई बढ़ाने में मदद कर सकता है (20)। ऐसे में बालों को बढ़ाने के लिए मेंहदी और गुड़हल की पत्तियों या फूल का हेयर पैक उपयोग कर सकते हैं। 

11. मेंहदी, आंवला, शिकाकाई और रीठा का हेयर पैक 

सामग्रीः

  • 5 चम्मच मेंहदी का पाउडर
  • 2 चम्मच आंवले का पाउडर
  • 2 चम्मच शिकाकाई का पाउडर
  • 2 चम्मच रीठा का पाउडर
  • आवश्यकता अनुसार पानी
  • 1 कटोरी

बनाने और उपयोग का तरीका : 

  • 1 कटोरी में सभी सामग्रियों को मिलाएं और पानी डालकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर नहाने से कुछ घंटे पहले इस पैक को पूरे बालों में अच्छी तरह से लगाएं।
  • पैक सूखने के बाद बालों को पानी और शैंपू से धो लें। 

कैसे फायदेमंद हैः 

बालों के लिए मेंहदी और आंवले के फायदे किस तरह मिल सकते हैं, इसकी जानकारी लेख में पहले ही बता दी गई है। वहीं, इसके प्रभाव को अधिक बढ़ाने के लिए इसमें शिकाकाई और रीठा का मिश्रण करके भी हेयर पैक तैयार किया जा सकता है। बालों के लिए शिकाकाई के फायदे की बात करें, तो शिकाकाई में ल्यूपॉल (Lupeol), स्पिनैस्टरॉल (Spinasterol), लैक्टॉन (Lactone) जैसे विभिन्न तत्व होते हैं, जो हेयर क्लींजर की तरह कार्य कर सकते हैं।

शिकाकाई रूसी के लिए भी उपयोगी है। वहीं, बालों के लिए रीठा के फायदे की बात करें, तो इसमें विटामिन ए, डी, के, ई, के साथ सैपोनिन (Saponin-एक प्रकार का यौगिक) होता है। रीठा हेयर ग्रोथ के लिए उपयोगी हो सकता है। वहीं इसके नियमित उपयोग से बाल स्वस्थ और चमकदार हो सकते हैं (9)। ऐसे में बालों को सेहतमंद बनाने के लिए यह हेयर पैक उत्तम विकल्प हो सकता है।

नोट: बालों में मेंहदी लगाने से पहले इसका पैच टेस्ट जरूर करें। अगर मेंहदी या ऊपर बताए गए किसी भी सामग्री से एलर्जी की समस्या हो तो उस सामग्री का इस्तेमाल हेयर पैक में करने से बचें।

पढ़ते रहें

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे के बाद अब जानते हैं बाजार में उपलब्ध कुछ प्रमुख मेंहदी के बारे में।

सबसे अच्छा मेंहदी ब्रांड – Top Mehendi Brands in Hindi

ऐसे तो मेंहदी की पत्तियों को पीसकर उपयोग करना बेहतर विकल्प है, क्योंकि ये पूरी तरह से प्राकृतिक होता है। हालांकि, यह संभव नहीं कि हमेशा मेंहदी की पत्तियां उपलब्ध हों। ऐसे में बाजार में उपलब्ध मेंहदी पाउडर का विकल्प भी चुन सकते हैं। बाजार में कई प्रकार के मेंहदी ब्रांड्स मौजूद हैं, लेकिन लोगों की पसंद के अनुसार इनमें से कुछ चुनिंदा ब्रांड्स के बारे में हम नीचे जानकारी दे रहे हैं।

नूपुर मेंहदी

मेंहदी के प्रसिद्ध ब्रांड्स में से एक है नूपुर मेंहदी। कई सालों से उपयोग किए जाने वाली इस मेंहदी में कई तरह के अन्य हर्बल सामग्री जैसे – आंवला, शिकाकाई, मेथी, एलोवेरा मौजूद हैं। कंपनी का दावा है कि यह न सिर्फ बालों को कंडीशन करेगी, बल्कि बालों को पोषण भी प्रदान करेगी। सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें अलग से शिकाकाई, आंवला मिलाने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि नूपुर मेंहदी में ये सारी प्राकृतिक चीजें पहले से ही मिली हुई हैं। आगे नूपुर मेंहदी लगाने के फायदे कुछ इस प्रकार दिए गए हैं :

गुण

  • यह प्राकृतिक है।
  • बालों को स्वस्थ और मजबूत बना सकती है।
  • इसका उपयोग महिला और पुरूष दोनों कर सकते हैं।
  • कंपनी के अनुसार इसमें अच्छी गुणवत्ता वाली मेंहदी और अन्य सामग्रियों का उपयोग किया गया है।

 यहां से खरीदें

2. शहनाज हुसैन मेंहदी

ब्यूटी इंडस्ट्री में शहनाज हुसैन एक जाना-माना नाम है। इनके विभिन्न ब्यूटी केयर उत्पादों में से एक उत्पाद शहनाज हुसैन मेंहदी भी है। इसे लेकर कंपनी का दावा है कि इसमें कई तरह के औषधीयों का मिश्रण है, जो बालों की जड़ों तक पहुंच कर बालों की समस्याओं जैसे- रूसी और बालों का झड़ना कम कर सकता है। इसमें आंवला, शिकाकाई, जैसी औषधियां भी हैं।

गुण

  • यह प्राकृतिक तत्वों का मिश्रण है।
  • यह मेंहदी बालों को कंडिशन कर सकती है।
  • रूसी और बालों का झड़ना कम हो सकता है।
  • इसके उपयोग से बाल मजबूत हो सकते हैं।
  • सभी उम्र की महिलाएं इसका इस्तेमाल कर सकती हैं।

 यहां से खरीदें

3. नेचरबे नेचुरल्स मेंहदी पाउडर

मेंहदी पाउडर का यह भी एक प्रसिद्ध ब्रांड है। इसकी कंपनी का दावा है कि यह पाउडर 100 फीसदी शुद्ध मेंहदी की पत्तियों से बनाया गया है। यह मेंहदी राजस्थान के गांव सोजत में उगाई गई मेंहदी के पेड़ों से तैयार की जाती है। इतना ही नहीं, कंपनी का यह भी कहना है कि इस मेंहदी को बालों के साथ ही हाथों और पैरों में भी लगाया जा सकता है।

गुण

  • यह केमिकल फ्री मेंहदी पाउडर है।
  • इसके कण काफी महीन हैं।
  • इससे बालों का रंग काफी खूबसूरत हो सकता है।

 यहां से खरीदें

4. बायोटिक बायो मेंहदी

बायोटिक ब्रांड भी अपने स्किन केयर और हेयर केयर उत्पादों के लिए काफी चर्चित है। इस मेंहदी में मुलेठी, ब्राह्मी, आम बीज, रीठा और अर्जुन की छाल होने का दावा किया गया है। साथ ही, कंपनी का यह भी कहना है कि यह मेंहदी बालों को रंगने के अलावा, बालों को सिल्की और चमकदार भी बना सकती है।

गुण

  • यह मेंहदी बेजान बालों को पोषण दे सकती है।
  • यह बालों को प्राकृतिक तौर पर गहरा भूरा रंग दे सकती है।
  • यह मेंहदी बालों से गंदगी को साफ करने के साथ-साथ कंडिशन भी कर सकती है।
  • किसी भी उम्र के महिला और पुरुष इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

 यहां से खरीदें

5. बंजारा नेचुरल्स मेंहदी पाउडर

आजकल बंजारा ब्रांड भी मार्केट में काफी लोकप्रिय है। बंजारा के इस मेंहदी में प्राकृतिक तत्व जैसे – मेथी, आंवला, ब्राह्मी, अड़हुल, भृंगराज मौजूद है। प्राकृतिक तत्व युक्त यह मेंहदी बालों को आकर्षक भूरा रंग दे सकता है। इसके अन्य गुण कुछ इस प्रकार हैं :

गुण

  • बाल कंमुलायम हो सकते हैं।
  • इसमें एंटी डैंड्रफ गुण है।
  • यह मेंहदी बालों को पोषण प्रदान कर सकती है।
  • बालों का झड़ना कम हो सकता है और हेयर ग्रोथ में मदद मिल सकती है।
  • वक्त से पहले बालों के सफेद होने की समस्या से भी बचाव हो सकता है।

 यहां से खरीदें

नोट : बाजार से कोई भी मेंहदी खरीदते वक्त उसके पैक में प्रोडक्ट की पैकिंग और एक्सपायरी डेट जरूर चेक करें।

लेख को अंत तक पढ़ें

अब लेख के इस भाग में हम बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान से जुड़ी जानकारियां देंगे।

बालों में मेंहदी  लगाने के नुकसान – Side Effects of Mehndi On Hair In Hindi

औषधीय गुणों से भरपूर मेंहदी को बालों में लगाने के फायदे कई हैं। वहीं, हर चीज का फायदा और नुकसान दोनों होता है। वैसे ही बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान भी हो सकते हैं। ऐसे में सावधानी के तौर पर बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान की जानकारी रखना भी जरूरी है। तो नीचे पढ़ें बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान :

  • मेंहदी का इस्तेमाल करने से एलर्जी की समस्या जैसे – सर्दी-जुकाम, नाक बहना, कंजक्टिवाइटिस की समस्या (Conjunctivitis- आंख आना) हो सकती है (21)
  • बाजार में मिलने वाली मेंहदी में रासायनिक तौर पर पैरा-फेनिलएडिमाइन (Para-Phenylenediamine-PPD) का मिश्रण होता है, जो त्वचा में सूजन जैसी समस्या का कारण बन सकता है(22)। ऐसे में बाजार से मेंहदी पाउडर लेते वक्त पैक में लिखी सामग्री के बारे में जरूर पढ़ें और कोशिश करें कि हर्बल या ऑर्गैनिक मेंहदी ही खरीदें।
  • कुछ लोगों को मेंहदी से एलर्जी की समस्या हो सकती है। इसके कारण मेंहदी के संपर्क में आने से त्वचा में जलन, खुजली, लालिमा या दाने निकलने की समस्या हो सकती है (23)
  • बच्चों को मेंहदी लगाने से बचें क्योंकि मेंहदी में मौजूद लॉसन हेमोलायसिस (Haemolysis – लाल रक्त कोशिकाओं की क्षति) का कारण बन सकता है। इसमें बच्चे के जान का जोखिम भी हो सकता है (21)
  • इसके अलावा, मेंहदी लगाते समय इसे आंखों के संपर्क में आने से बचाना चाहिए। यह आंखों में परेशानी का भी कारण बन सकता है।

नोट: अगर मेंहदी लगाने के बाद एलर्जी के लक्षण दिखते हैं, तो तुरंत ठंडे पानी से प्रभावित स्थान को साफ करें और मेंहदी का इस्तेमाल न करें। अगर इसके बाद भी समस्या बनी रहती है, तो डॉक्टरी सलाह लें।

तो ये थे मेंहदी बालों में लगाने के फायदे, जिनकी मदद से आप बालों के झड़ने, टूटने व रूसी जैसी कई समस्याओं से निजात पा सकते हैं। साथ ही, बालों में मेंहदी लगाने के फायदे को और प्रभावकारी बनाने के लिए, आप इस लेख में बताए गए विभिन्न हिना हेयर मास्क का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यहां बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान की जानकारी भी दी गई है, इसलिए उन्हें भी ध्यान में रखें और सावधानीपूर्वक बालों में मेंहदी का उपयोग करें। स्वस्थ बालों के लिए मेहंदी लगाने के साथ-साथ पौष्टिक आहार का भी सेवन क। वहीं, अगर किसी को स्कैल्प या बालों से संबंधित कोई गंभीर परेशानी है तो घरेलू नुस्खों के साथ-साथ विशेषज्ञ की सलाह भी लें। लेख के अंत में हम बालों में मेंहदी लगाने के फायदे से जुड़े कुछ जरूरी सवालों के जवाब भी दे रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या मैं अपने बालों में मेंहदी रातभर लगाकर रख सकती हूं?

मेंहदी में ठंडक प्रदान करने वाला गुण होता है (17)। ऐसे में अगर रातभर बालों में मेंहदी लगाकर छोड़ दिया जाए तो सर्दी-जुकाम की समस्या हो सकती है। बालों में मेंहदी के फायदे सुरक्षित तौर से पाने के लिए इसे 2-3 घंटों के लिए लगाकर रख सकते हैं। बेहतर है नहाने से कुछ घंटे पहले बालों में मेंहदी लगाएं।

क्या मैं अपने बालों पर मेंहदी का इस्तेमाल रोज कर सकती हूं?

किसी भी चीज का अधिक उपयोग उसके नुकसान का कारण बन सकता है। वैसे ही रोज बालों में मेंहदी लगाने से फायदे के बजाय नुकसान हो सकते हैं, जिसकी जानकारी लेख में दी गई है। इसलिए बालों में मेंहदी के फायदे पाने के लिए महीने में दो से तीन बार मेंहदी लगाएं।

क्या हम बालों में मेंहदी सीधे तौर पर लगा सकते हैं?

बालों में सीधे तौर पर मेंहदी का इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, बालों में मेंहदी लगाने के फायदे अधिक पाने के लिए, आप लेख में दिए गए अलग-अलग मेंहदी हेयर पैक को अपनी सुविधा अनुसार चुनकर उपयोग कर सकते हैं।

बालों में निशा मेंहदी लगाने के फायदे क्या हैं?

मार्केट में आसानी से निशा मेंहदी मिल सकती है। निशा मेंहदी बनाने वाली कंपनी के दावों के अनुसार यह बालों को प्राकृतिक रंग देने, मुलायम बनाने व रूखे बालों से छुटकारा दिला सकती है। निशा मेंहदी के अलावा मार्केट में कई अलग-अलग ब्रांड्स की भी मेंहदी पाउडर उपलब्ध हैं, जिनके बारे में लेख में जानकारी दी गई है। आप आर्टिकल में दिए गए लिंक के जरिए उन्हें घर बैठे ऑर्डर कर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

    1. A phytopharmacological review on Lawsonia inermis (Linn.)
      http://www.ijplsjournal.com/issues%20PDF%20files/jan2011/10.pdf
    2. Formulation and Evaluation of Anti-dandruff Hair Gel containing Lawsone
      https://www.jpsr.pharmainfo.in/Documents/Volumes/vol12issue01/jpsr12012015.pdf
    3. Extraction Of Antidandruff Compound From Lawsonia inermis.
      https://www.rjpbcs.com/pdf/2017_8(4)/[167].pdf
    4. Synthesis and Evaluation of Herbal Based Hair Dye
      https://www.researchgate.net/publication/328388284_Synthesis_and_Evaluation_of_Herbal_Based_Hair_Dye
    5. Oxidative Stress in Ageing of Hair
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2929555/
    6. Antioxidant Activity of Lawsonia inermis Extracts Inhibits Chromium(VI)-Induced Cellular and DNA Toxicity
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3136683/
    7. [Therapeutic effect of Impatiens balsamina, Lawsonia inermis L. and Henna on androgenetic alopecia in mice]
      https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/31852654/
    8. Recent Trends in Potential Traditional Indian Herbs Emblica officinalis and Its Medicinal Importance
      http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.1008.1346&rep=rep1&type=pdf
    9. Synthesis and Evaluation of Herbal Based Hair Dye
      https://benthamopen.com/contents/pdf/TODJ/TODJ-12-90.pdf
    10. Traditional and Medicinal Uses of Banana
      https://www.phytojournal.com/archives/2012/vol1issue3/PartA/9.1.pdf
    11. Short Communication Multani Mitti -Is it more than a placebo?
      https://www.researchgate.net/publication/336868352_Short_Communication_Multani_Mitti_-Is_it_more_than_a_placebo
    12. Effect of caffeine and testosterone on the proliferation of human hair follicles in vitro
      https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/17214716/
    13. Naturally Occurring Hair Growth Peptide: Water-Soluble Chicken Egg Yolk Peptides Stimulate Hair Growth Through Induction of Vascular Endothelial Growth Factor Production
      https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29583066/
    14. Ethnopharmacological survey of home remedies used for treatment of hair and scalp and their methods of preparation in the West Bank-Palestine
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5499037/
    15. Effect of mineral oil, sunflower oil, and coconut oil on prevention of hair damage
      https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12715094/
    16. Formulation and Evaluation of Herbal Hair Gel Containing Fenugreek Seed Extract for Nourishment and Hair Growth
      http://ijsrst.com/paper/5979.pdf
    17. Antimicrobial Efficacy of Henna Extracts
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3273913/
    18. Antifungal activity of plant extracts against dandruff causing organism Malassezia furfur
      https://www.researchgate.net/publication/309599093_Antifungal_activity_of_plant_extracts_against_dandruff_causing_organism_Malassezia_furfur
    19. In vivo and in vitro evaluation of hair growth potential of Hibiscus rosa-sinensis Linn
      https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12963149/
    20. HAIR GROWTH ACTIVITY OF AQUEOUS EXTRACT OF HIBISCUS ROSA- SINENSIS L. FLOWERS
      https://drugresearch.in/pdf/dec17/IJOD-17-kk-singhal.pdf
    21. Hair Cosmetics: An Overview
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4387693/
    22. Determination of para-Phenylenediamine (PPD) in Henna in the United Arab Emirates
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2872353/
    23. An Allergic Reaction to Henna Used in a Traditional Painting Ceremony
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4856623/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

    ताज़े आलेख