बड़ी इलायची के फायदे, उपयोग और नुकसान – Black Cardamom (Badi Elaichi) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

Medically reviewed by Neelanjana Singh, RD Neelanjana Singh Neelanjana SinghRD
Written by , MA (Journalism & Media Communication) Puja Kumari MA (Journalism & Media Communication)
 • 
 

व्यंजनों की दुनिया मसालों के बिना अधूरी है। दुनिया भर में विभिन्न प्रकार के मसालों का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें एक नाम बड़ी इलायची का भी है। अगर आप यह सोच रहे हैं कि इसमें खास क्या है, तो स्टाइलक्रेज का यह लेख आप जरूर पढ़ें। इस लेख में वैज्ञानिक प्रमाण सहित कई शारीरिक समस्याओं पर बड़ी इलायची के फायदे बताए गए हैं। आप यहां जान पाएंगे कि बड़ी इलायची का उपयोग स्वास्थ्य के लिए किस प्रकार फायदेमंद हो सकता है। यहां एक बात स्पष्ट कर दें कि बड़ी इलायची लेख में बताई गई किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है, यह केवल इनके लक्षण और प्रभाव को कम करने में एक सहायक भूमिका निभा सकती है।

सबसे पहले जानते हैं कि बड़ी इलायची के क्या-क्या फायदे हाे सकते हैं।

बड़ी इलायची के फायदे – Benefits of Black Cardamom in Hindi

सेहत के लिए बड़ी इलायची के फायदे कई हो सकते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट, एंटीअल्सर, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल गुणों से समृद्ध होती है। ये सभी गुण विभिन्न तरीके से फायदा पहुंचाने का काम करते हैं, जैसे एंटी-अल्सर शरीर में अल्सर से बचाव कर सकता है। शरीर को विभिन्न प्रकार के बैक्टीरियल संक्रमण से बचाने के लिए इसमें मौजूद एंटी माइक्रोबियल गुण कारगर हो सकता है। इसके अलावा, शरीर में किसी भी प्रकार की सूजन से आराम देने के लिए इसका एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण काम कर सकता है (1)। इनके अलावा भी स्वास्थ्य के लिए बड़ी इलायची के कई लाभ है, जिन्हें नीचे विस्तारपूवर्क बताया गया है।

यहां जानिए बड़ी इलायची के फायदे सेहत के लिए किस प्रकार काम करते हैं।

सेहत के लिए बड़ी इलायची के फायदे – Health Benefits of Black Cardamom (Badi Elaichi) in Hindi

जैसा कि आपने ऊपर पढ़ा कि बड़ी इलायची के गुण इसे सेहत के लिए फायदेमंद बनाते हैं। सेहत के लिए होने वाले बड़ी इलायची के फायदे हम आपको नीचे बता रहे हैं।

1. आंत के स्वास्थ्य के लिए

आंतों के लिए बड़ी इलायची फायदेमंद हो सकती है। दरअसल, एक शोध में जिक्र मिलता है कि आयुर्वेद और यूनानी चिकित्सा में बड़ी इलायची का इस्तेमाल गैस्ट्रिक अल्सर और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार (मुंह, गले, पेट, आंत और गुदे से जुड़ा) के लिए किया जाता रहा है। माना जाता है कि इस लाभ के पीछे बड़ी इलायची की फाइटोकेमिकल्स और बायोलॉजिकल गतिविधियां हो सकती हैं (2)। इसका उपयोग लीवर टॉनिक और ऐपेटाइज़र (भूख बढ़ाने की दवा) में भी किया जाता रहा है।

2. स्वस्थ हृदय के लिए

हृदय के लिए भी बड़ी इलायची के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, बड़ी इलायची पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे खनिजों का एक अच्छा स्रोत है। पोटैशियम हृदय गति और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है, इससे हृदय का स्वास्थ्य बनाए रखने में मदद मिल सकती है (3)।

3. श्वास की समस्या को दूर करने के लिए

बड़ी इलायची में दर्द निवारक, एंटी इंफ्लेमेटरी (सूजन कम करने वाला), एंटी माइक्रोबियल (बैक्टीरिया से बचाने वाला) और एंटीऑक्सीडेंट (मुक्त कणों से रक्षा करने वाला) गुण मौजूद होते हैं। ये गुण संयुक्त रूप से श्वसन तंत्र के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इससे जुड़े शोध में जिक्र मिलता है कि बड़ी इलायची का उपयोग फेफड़ों की अकड़न और तपेदिक (Tuberculosis) जैसी गंभीर बीमारी से बचाव में कुछ हद तक मददगार साबित हो सकता है (4)। एक अन्य शोध के अनुसार यह अस्थमा से बचाव में भी मददगार हो सकती है (5)।

4. मुंह की समस्याओं को दूर करे

दंत स्वास्थ्य को बनाए रखने में बड़ी इलायची के लाभ देखे जा सकते हैं। दरअसल, अन्य गुणों के साथ बड़ी इलायची एंटी-माइक्रोबियल गुणों से भी समृद्ध होती है। ये गुण दांतों और मसूड़ों से जुड़े किसी भी प्रकार के बैक्टीरियल संक्रमण से बचाव और उनसे लड़ने में अहम भूमिका निभा सकता है (6)। साथ ही एंटी-माइक्रोबियल उन हानिकारक बैक्टीरिया पर भी प्रभावी असर दिखा सकते हैं, जो दांतों पर प्लाक का कारण बनते हैं।

5. मोटापे को नियंत्रित करने के लिए

मोटापे को नियंत्रित करने में भी बड़ी इलायची के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, इस संबंध में एनसीबीआई की वेबसाइट पर एक शोध उपलब्ध है, जिसमें चूहों पर अध्ययन के जरिए यह बताया गया है कि बड़ी इलायची शरीर के टोटल फैट को कम करने में मदद कर सकती है। साथ ही यह पेट की माप (Abdominal Circumference) में भी सुधार का काम कर सकती है (7)। बड़ी इलायची के ये गुण यहां कैसे काम कर रहे हैं, इसपर अभी और शोध की आवश्यकता है।

6. उच्च रक्तचाप में फायदेमंद

बढ़ता हुआ रक्तचाप एक गंभीर समस्या है। इस स्थिति को दूर करने के लिए बड़ी इलायची मददगार हो सकती है। दरअसल, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध से पता चलता है कि बड़ी इलायची में मौजूद 1,8-सिनेओल नामक घटक रक्तचाप को कम करने में मदद कर सकता है (7)।

7. अच्छे चयापचय के लिए

मेटाबॉलिज्म (चयापचय) शरीर की उन रासायनिक प्रक्रियाओं को कहा जाता है, जो भोजन को ऊर्जा में बदलने का काम करती हैं। यहां मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के उपाय में बड़ी इलायची फायदेमंद हो सकती है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार बड़ी इलायची मेटाबॉलिक सिंड्रोम के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकती है। इसके अलावा, इसमें मौजूद 1,8-सिनेओले नाम का घटक मेटाबॉलिक पैरामीटर में सुधार का काम कर सकता है (7)। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

8. कैंसर से बचाव के लिए

बड़ी इलायची कैंसर से बचाव में कुछ हद तक फायदेमंद साबित हो सकती है। दरअसल, बड़ी इलायची के बीजों के अर्क में एंटी कैंसर गुण पाये जाते हैं, जो कैंसर कोशिकाओं के विस्तार को रोकने के साथ ही ट्यूमर के प्रभाव को कम करने में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (8)। यहां पाठक ध्यान दें कि बड़ी इलायची कैंसर का इलाज नहीं है। अगर कोई कैंसर से पीड़ित है, तो उसे डॉक्टरी उपचार जल्द से जल्द करवाना चाहिए।

9. स्वस्थ लिवर के लिए बड़ी इलायची के फायदे

बड़ी इलायची में लिवर को स्वस्थ रखने और जोखिम से बचाने वाले गुण पाए जाते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार बड़ी इलायची अल्कोहोलिक फैटी लिवर (Alcoholic Fatty Liver, लिवर में फैट का जमाव) की बीमारी से बचाव में सहायक भूमिका निभा सकती है (7)।

10. एंटीबैक्टीरियल गुण से भरपूर

बड़ी इलायची बैक्टीरियल संक्रमण से बचाव और इनसे लड़ने में मददगार साबित हो सकती है। दरअसल, इसमें एंटीबैक्टीरियल प्रभाव पाए जाते हैं, जो शरीर को हानिकारक बैक्टीरिया (Escherichia coli & Pseudomonas Aeruginosa) से बचाव में मदद कर सकते हैं (8)। बता दें ई.कोली बैक्टीरिया दस्त, पेट में ऐंठन और उल्टी की वजह बन सकते हैं (9)। वहीं स्यूडोमोनास एरुगिनोसा रक्त के साथ फेफड़ों के संक्रमण का जोखिम बढ़ा सकता है (10)।

11. अल्सर में फायदेमंद

अल्सर जैसी समस्याओं से बचाव के लिए भी बड़ी इलायची के सकारात्मक प्रभाव देखे जा सकते हैं। दरअसल, बड़ी इलायची के बीज से निकाले गए तेल में एंटीअल्सर प्रभाव पाए जाते हैं, जो गैस्ट्रिक अल्सर के लक्षणों के साथ इससे बचाव में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (2)।

12. त्वचा के लिए बड़ी इलायची के फायदे

झुर्रियों से छुटकारा पाने के लिए बड़ी इलायाची एक अच्छा विकल्प हो सकती है। माना जाता है कि इसमें मौजूद प्रोटोकेचुआल्डिहाइड (Protocatechualdehyde) और प्रोटोकैटेचिक (protocatechuic) एसिड जैसे सक्रिय घटक पाये जाते हैं, जो झुर्रियों से निजात दिलाने में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (11)।

13. बालों के लिए बड़ी इलायची का उपयोग

बालों के लिए भी बड़ी इलायची का उपयोग फायदेमंद साबित हो सकता है। इससे संबंधित एक शोध के अनुसार बड़ी इलायची में बालों को मजबूत बनाने में मदद कर सकती है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंड प्रभाव स्कैल्प को पोषिक करने के साथ इसके स्वास्थ्य को बनाए रखने में मददगार हो सकते हैं (12)।

बड़ी इलायची के फायदे के बाद यहां हम आपको इसके उपयोग के बारे में बता रहे हैं।

बड़ी इलायची का उपयोग – How to Use Black Cardamom (Badi Elaichi) in Hindi

बड़ी इलायची खाने का तरीका और उसका उपयोग इस प्रकार है।

  • बड़ी इलायची को कई मिठाइयों में स्वाद बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • बड़ी इलायची के पाउडर का उपयोग शहद और गुनगुने पानी के साथ भी किया जा सकता है।
  • इसका उपयोग कई प्रकार की सब्जियों में मसाले के रूप में भी कर सकते हैं।
  • इसे नमकीन आदि में स्वाद बढ़ाने के लिए भी उपयोग किया जाता है।
  • इसका इस्तेमाल पुलाव और बिरयानी जैसी व्यंजनों में किया जा सकता है।

मात्रा : इसका उपयोग सीमित मात्रा में किया जाना चाहिए। अधिक मात्रा में किया गया उपयोग सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। अच्छा होगा इसकी मात्रा से जुड़ी जानकारी के लिए आप डॉक्टर से परामर्श लें।

उपयोग जानने के बाद हम यहां बता रहे हैं, बड़ी इलायची के नुकसान बारे में।

बड़ी इलायची के नुकसान – Side Effects of Black Cardamom in Hindi

यहां हम बड़ी इलायची के कुछ नुकसान की जानकारी दे रहे हैं। ये नुकसान सावधानी के तौर पर दिए गए हैं, ताकि व्यक्ति इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करे। तो बड़ी इलायची के नुकसान कुछ इस प्रकार हैं:

  • बड़ी इलायची रक्तचाप को कम करती है, इसलिए निम्न रक्तचाप वालों के लिए इसका सेवन नहीं करना चाहिए (7)।
  • जिनको लो शुगर की समस्या हो उन्हें भी इसका उपयोग नहीं करना चाहिए यह रक्त में शुगर की मात्रा को कम कर सकती है (13)।
  • वहीं, बीपी और हाई शुगर वाले लोग काले इलायची का सेवन करते वक्त अपने बीपी और शुगर के स्तर का ध्यान रखें। अगर कोई बीपी या शुगर की दवा का भी सेवन कर रहा हो, तो बेहतर है बड़ी इलायची के सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह लें।
  • गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाएं बड़ी इलायची के सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

दोस्तों, आपने इस लेख में बड़ी इलायची के गुण के साथ ही इसके उपयोग को जाना। साथ ही ये भी जाना कि किस प्रकार यह स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकती है। ध्यान देने योग्य बात यह है कि उपरोक्त सभी रिसर्च जानवरों पर आधारित हैं और इंसानों पर इसके बेहतर प्रभाव जानने के लिए अभी और शोध की आवश्यकता है। इसके स्वास्थ्य लाभों को प्राप्त करने के लिए आप इसका सेवन डॉक्टरी परामर्श पर कर सकते हैं। उम्मीद है की यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा।

References

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Amomum subulatum Roxb.: Traditional, Biochemical and Biological activities – An overview
    https://www.researchgate.net/publication/236327594_Amomum_subulatum_Roxb_Traditional_Biochemical_and_Biological_activities_-_An_overview
  2. Analysis of the essential oil of large cardamom (Amomum subulatum Roxb.) growing in different agro-climatic zonesof Himachal Pradesh, India
    https://www.researchgate.net/profile/Virbala-Sharma/publication/230651358_Analysis_of_the_essential_oil_of_large_cardamom_Amomum_subulatum_Roxb_growing_in_different_agro-climatic_zonesof_Himachal_Pradesh_India/links/5a69a9760f7e9b01f3eda01a/Analysis-of-the-essential-oil-of-large-cardamom-Amomum-subulatum-Roxb-growing-in-different-agro-climatic-zonesof-Himachal-Pradesh-India.pdf
  3. Value chain of organic large cardamom of Sikkim
    https://www.researchgate.net/profile/Nitish-Kumar-38/publication/326574969_Genetic_evaluation_of_cabbage_hybrids_under_mid_hill_conditions_of_Himachal_Pradesh/links/5caeea34299bf120975d7a48/Genetic-evaluation-of-cabbage-hybrids-under-mid-hill-conditions-of-Himachal-Pradesh.pdf#page=5
  4. STUDY OF DIFFERENT DRYING METHODS EFFECT ON QUALITY OF LARGE-CARDAMOM (AMOMUM SUBULATUM ROXB.) CAPSULES
    https://www.researchgate.net/publication/322554168_STUDY_OF_DIFFERENT_DRYING_METHODS_EFFECT_ON_QUALITY_OF_LARGE-CARDAMOM_AMOMUM_SUBULATUM_ROXB_CAPSULES
  5. Pharmacological basis for the medicinal use of cardamom in asthma
    https://www.researchgate.net/publication/269560739_Pharmacological_basis_for_the_medicinal_use_of_cardamom_in_asthma
  6. Effect of Black Cardamom Extracts on Mutans Streptococci in Comparison to Chlorhexidine Gluconate and De-ionized Water (In Vitro Study)
    https://www.iasj.net/iasj?func=fulltext&aId=118503
  7. Green and Black Cardamom in a Diet-Induced Rat Model of Metabolic Syndrome
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4586555/
  8. Studies on Antibacterial And Anticancer activities of Black Cardamom
    http://tudr.thapar.edu:8080/jspui/bitstream/10266/2539/4/2539.pdf
  9. Symptoms
    https://www.cdc.gov/ecoli/ecoli-symptoms.html
  10. Pseudomonas aeruginosa in Healthcare Settings
    https://www.cdc.gov/hai/organisms/pseudomonas.html
  11. 1, 8-Cineole: A predominant component in the essential oil of large cardamom (Amomum subulatum Roxb.)
    https://www.researchgate.net/profile/Vinod-Bisht-2/publication/254258966_1_8-Cineole_A_predominant_component_in_the_essential_oil_of_large_cardamom_Amomum_subulatum_Roxb/links/0f31753a7cb534bf74000000/1-8-Cineole-A-predominant-component-in-the-essential-oil-of-large-cardamom-Amomum-subulatum-Roxb.pdf
  12. Cardamom (Elettaria cardamomum): A Spice of Prominent Healthcare
    http://jbcr.co.in/Current_Issue/vol-35-1-jan-jun2018-part-b/7.%20Cardamom%20is%20194-199.pdf
  13. Comparative in vitro analysis of anti-diabetic activity of Indo-Pak black cardamom (Amomum subulatum Roxb.) and Chinese black cardamom (Amomum tsao-ko Crevost et Lemaire)
    https://www.researchgate.net/publication/327930837_Comparative_in_vitro_analysis_of_anti-diabetic_activity_of_Indo-Pak_black_cardamom_Amomum_subulatum_Roxb_and_Chinese_black_cardamom_Amomum_tsao-ko_Crevost_et_Lemaire
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Neelanjana Singh has over 30 years of experience in the field of nutrition and dietetics. She created and headed the nutrition facility at PSRI Hospital, New Delhi. She has taught Nutrition and Health Education at the University of Delhi for over 7 years.   She has authored several books on nutrition: Our Kid Eats Everything (Hachette), Why Should I Eat...read full bio

ताज़े आलेख