बालों में तेल कब और कैसे लगाना चाहिए : How And When To Apply Hair Oil in Hindi

Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

धूल, मिट्टी और प्रदूषण त्वचा के साथ-साथ बालों के लिए भी नुकसानदायक होते हैं। ऐसे में बालों की रक्षा करने के लिए जितना जरूरी हेयर वॉश होता है, उतना ही जरूरी होता बालों में तेल लगाना। वहीं, इसका फायदा तभी होता है जब बालों में तेल लगाने का तरीका मालूम हो। इसलिए स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम बालों में तेल लगाने का सही तरीका बताने के साथ-साथ बालों में तेल लगाने के फायदे भी लेकर आए है। इसके अलावा यहां हम यह भी बताएंगे कि बालों के लिए कौन सा तेल सही है। तो चलिए बिना देर किए जानते हैं बालों में तेल कब लगाना चाहिए।

पढ़ना शुरू करें

लेख में सबसे पहले हम बाल में तेल लगाने के सही समय के बारे में जानेंगे।

बालों में तेल कब लगाना चाहिए? – How often should you oil your hair

अगर बात करें बालों में तेल कब लगाना चाहिए, तो हम बता दें कि इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है। लोगों की मान्यता के अनुसार, रात में सोने से पहले बालों में तेल लगाना फायदेमंद माना जा सकता है। इसके अलावा, शैम्पू से कुछ घंटे पहले भी हेयर ऑयलिंग करना लाभकारी माना जा सकता है। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो बाल धोने के बाद तेल लगाते हैं। हालांकि, यह सही नहीं है क्योंकि ऐसा करने से बालों में धूल या गंदगी चिपक सकती है।

आगे पढ़ें

यहां जानें बालों में तेल लगाने का सही तरीका ।

बालों में तेल लगाने का तरीका – How to oil your hair

बालों में तेल कब लगाना चाहिए, जानने के बाद बालों में तेल लगाने का तरीका भी जानना जरूरी है। सही तरीके से बालों में तेल लगाने से ही बाल स्वस्थ हो सकेंगे। इसलिए यहां हम क्रमवार तरीके से बालों में तेल लगाने का सही तरीका बता रहे हैं:

  • बालों में तेल लगाने के लिए सबसे पहले तेल को हल्का गर्म कर लें।
  • इसके बाद तेल को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ दें। फिर, उसमें अपनी उंगलियों को डुबोएं और उसे बालों में डालकर हल्की-हल्की मालिश करें।
  • चाहें तो बालों को कई भागों में बांटकर भी हर हिस्से में मालिश कर सकते हैं।
  • लगभग 10 से 15 मिनट तक इसी तरह पूरे सिर और बालों की मसाज करें।
  • ध्यान रहे कि बालों में तेल सिर्फ स्कैल्प पर ही न लगाएं, बल्कि स्वस्थ बालों के विकास के लिए बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक तेल लगाना जरूरी होता है।
  • बालों में तेल लगाते समय कभी भी हथेलियों से बालों को न रगड़ें। इससे बालों को नुकसान हो सकता है।
  • बालों में तेल लगाने के बाद हल्के गिले गर्म तौलिए को सिर में 10 मिनट के लिए लपेटें। इससे सिर की त्वचा के रोम छिद्र खुल जाते हैं, जिससे तेल आसानी से अवशोषित हो पाता है।
  • वहीं, तेल लगाने के एक घंटे बाद बालों में शैंपू कर सकते हैं। इसके अलावा, चाहें तो रात भर के लिए भी बालों में तेल लगाकर छोड़ सकते और अगली सुबह बालों में शैंपू कर सकते हैं।
  • बता दें कि तेल लगाने के एक घंटे बाद गुनगुने पानी से बाल धोना अधिक फायदेमंद माना जाता है।
  • सप्ताह में कम से कम एक बार बालों में तेल लगाना चाहिए। अगर चाहे तो दो से तीन बार भी बालों में तेल का उपयोग कर सकते हैं। लेख में आगे हम बालों के लिए कौन सा तेल सही है, इसकी भी जानकारी देंगे।

नीचे स्क्रॉल करें

लेख के इस हिस्से में जानें बालों में तेल लगाने के फायदे।

बालों में तेल लगाने के फायदे – Benefits of Using Oil for Hair in Hindi

यहां हम बालों में गर्म तेल लगाने के फायदे से जुड़ी जानकारियां देने जा रहे हैं। हम यह पहले ही स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि बाल में लगाने वाला तेल, केवल बाल से जुड़ी समस्याओं को कुछ हद तक कम कर सकता है। यह किसी भी प्रकार से बालों से जुड़े गंभीर समस्याओं का इलाज नहीं है। वहीं, यहां गर्म तेल का मतलब गुनगुना तापमान है। तो चलिए जानते है, बालों में तेल लगाने के फायदे –

1. बालों के विकास के लिए – बालों के विकास के लिए तेल लगाना बेहद फायदेमंद माना गया है। इस बात की पुष्टि कई प्रकार के हर्बल तेलों पर किए गए शोध में होती है। बालों में तेल लगाने से उनके स्वस्थ विकास में मदद मिल सकती है। इसके पीछे तेल के अर्क में मौजूद खनिज और अमीनो एसिड को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है (1)।

2. डैंड्रफ के लिए – बालों में जमे रूसी से निजात पाने के लिए भी तेल लगाना फायदेमंद साबित हो सकता है। इससे संबंधित एक शोध में बताया गया है कि नारियल का तेल रूसी को रोकने में मदद कर सकता है। दरअसल, नारियल के तेल में एंटी-फंगल (फंगस से लड़ने वाला) और एंटी बैक्टीरियल (बैक्टीरिया को पनपने से रोकने वाला) गुण मौजूद होते हैं (2)। बता दें कि बालों में डैंड्रफ का एक कारण मालासेजिया फुरफुर (Malassezia furfur) नामक फंगी को भी माना जाता है (3)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि, डैंड्रफ से निजात पाने के लिए बालों के लिए तेल लगाना फायदेमंद हो सकता है।

3. चमक प्रदान करे – बाल में लगाने वाला तेल उसे चमकदार बनाने के लिए भी लाभकारी माना जा सकता है। इस बात की पुष्टि एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध से होती है। इस रिसर्च में बताया गया है कि मिनरल ऑयल और सूरजमुखी का तेल बालों की चमक को बढ़ा सकता है (4)। इसके अलावा, बालों में लगाए जाने वाले कई तरह के तेलों पर हुए एक अन्य शोध में भी नारियल तेल और कैस्टर ऑयल को बालों में चमक प्रदान करने के लिए लाभकारी पाया गया है (5)।

4. ब्लड सर्कुलेशन के लिए – बालों की समस्या और उसके समाधान को लेकर हुए एक रिसर्च में जानकारी मिलती है कि बाल में लगाने वाला तेल ब्लड सर्कुलेशन यानी रक्त संचार को बेहतर बना सकता है। साथ ही यह बालों को जड़ों से पोषण दे सकता है। इसके लिए सप्ताह में एक बार बालों के अनुकूल तेल से मालिश करने की सलाह दी गई है। तेल लगाने के बाद बालों को कुछ देर के लिए टोपी से ढकने और फिर दो घंटे बाद शैम्पू करने की सलाह दी गई है (6)।

5. बालों को क्षति से बचाने के लिए – एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, बालों को नुकसान से बचाने में तेल अहम भूमिका निभा सकते हैं। दरअसल, बालों का तेल, सिर में जाते ही बालों में अवशोषित पानी की मात्रा को कम कर सकते हैं, जिससे सूजन की समस्या कम हो सकती है। इसके परिणामस्वरूप हाइग्रल फेटिग (Hygral fatigue – बार-बार सूजन की समस्या होना) को कम कर सकता है। बता दें कि हाइग्रल फेटिग बालों को नुकसान पहुंचाने के मुख्य कारणों में से एक हो सकता है। इसके अलावा, बालों का टूटना भी कम हो सकता है (4)।

अभी और है जानकारी

चलिए, अब बालों के लिए कौन सा तेल सही है, इस बारे में जान लेते हैं।

बालों के लिए सबसे अच्छा तेल कौन सा है? – Best Oils for Hair Health

यहां हम कुछ ऐसे तेलों के बारे में बता रहे हैं, जो बालों की देखभाल के लिए जरूरी है। तो चलिए जानते हैं कौन से बालों के लिए कौन सा तेल सही है –

  • सामान्य बालों के लिए – इस तरह के बाल न तो रूखे होते हैं और न ही ऑयली। इसलिए इस तरह के बालों के लिए किसी भी तरह की समस्या न के बराबर होते हैं। ऐसे बालों के लिए किसी भी तरह का तेल लगाया जा सकता है। इनमें नारियल तेल, बादाम का तेल और जैतून का तेल शामिल है।
  • तैलीय बालों के लिएबालों के तैलीय होने का मुख्य कारण होता है, स्कैल्प में मौजूद सेबेसियस ग्रंथि (Sebaceous glands) से अत्यधिक तेल का उत्पादन होना (7)। ऐसे में इस तरह के बालों के लिए ऐसा तेल उपयोगी है जो अत्यधिक तेल के उत्पादन को कम कर सके। इससे संबंधित एक शोध से जानकारी मिलती है कि हर्बल ऑयल वसामय ग्रंथियों (Sebaceous glands) के सामान्य कार्य को बनाए रखने के लिए कई आवश्यक पोषक तत्व प्रदान कर सकता है। साथ ही यह प्राकृतिक रूप से बालों के विकास को बढ़ावा देने में भी मदद कर सकता है (8)।
  • रूखे बालों के लिए – इस तरह के बालों में नमी की कमी होती है, जिस वजह से वो रूखे लगने लगते हैं। इसलिए, इस तरह के ड्राई हेयर के लिए ऐसे तेल की जरूरत होती है, जो बालों को नमी प्रदान कर सके। ऐसे बालों के लिए अरंडी का तेल और नारियल का तेल लगाना फायदेमंद हो सकता है। बता दें कि नारियल का तेल बालों को रूखेपन से बचा सकता है। जबकि अरंडी के तेल में भी मॉइस्चराइजिंग गुण मौजूद होते हैं, जो बालों को नमी प्रदान कराने में सहायक हो सकते हैं (5)।
  • झड़ते बालों के लिए – बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं। इनमें से तनाव की समस्या को सबसे प्रमुख माना गया है। इसके अलावा, इम्यून सिस्टम का कमजोर होना, फंगल संक्रमण, सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस (त्वचा में खुजलीदार और पपड़ी की समस्या) या फिर बालों में हेयर प्रोडक्ट्स का अधिक उपयोग आदि भी बालों के झड़ने का कारण बन सकते हैं। 

    ऐसे बालों के लिए जोजोबा तेल, नारियल का तेल, जैतून का तेल लाभकारी माना गया है (9)। यही नहीं, बालों को झड़ने से रोकने के लिए अरंडी का तेल, ब्राह्मी तेल के साथ-साथ नीम का तेल भी बालों के लिए उपयोगी माना गया है (5)। वहीं, विटामिन ई से भरपूर बादाम के तेल का इस्तेमाल भी बालों के झड़ने के इलाज के लिए उपयोग किया जा सकता है (8)।

  • रूसी वाले बालों के लिए – जैसा कि हमने लेख के ऊपरी भाग में बताया कि बालों में डैंड्रफ का एक मुख्य कारण मलेसेजिया नामक फंगी को माना जाता है। इसके अलावा भी बालों में डैंड्रफ अन्य कारण जैसे- ड्राई स्किन, बालों में गंदगी, सेंसिटिव प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल, सोरायसिस की समस्या, एक्जिमा आदि से हो सकते हैं (10)। 

    इस तरह के बालों के लिए नारियल तेल, अरंडी का तेल, ब्राह्मी का तेल, आंवला का तेल के साथ-साथ, नीम का तेल भी बालों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है (5)। वहीं, एक शोध में कुछ एसेंशियल तेलों को भी बालों में रूसी की समस्या से निजात पाने के लिए लाभकारी माना गया है। जिनमें, दालचीनी का तेल, लैवेंडर का तेल, पुदीने का तेल, टी ट्री ऑयल, रोजमेरी ऑयल आदि शामिल हैं (10)।

  • सफेद बालों के लिए – आज के समय में बालों के सफेद होने की समस्या बेहद आम मानी जा सकती है। इसके पीछे का कारण बढ़ती उम्र तो होती ही है (11)। इसके अलावा भी कई ऐसे कारण होते हैं, जो बालों का रंग फीका करने लगते हैं। इनमें से एक कारण तनाव को भी माना जा सकता है (12)। ऐसे में सफेद बालों से राहत पाने के लिए वर्जिन कोकोनट ऑयल के अलावा आंवले का तेल लगाना लाभकारी साबित हो सकता है (13)। यही नहीं, ब्राह्मी का तेल, भृंगराज का तेल, जटामांसी का तेल और करी पत्ते का तेल भी सफेद बालों का तेल के रूप में उपयोगी हो सकता है (5)।
  • दो मुंहे बालों के लिए – दो मुंहे बालों की समस्या भी आजकल सामान्य हो चुकी है। केमिकल हेयर प्रोडक्ट का उपयोग या बालों का ध्यान न रखना, कई बार दो मुंहे बालों का कारण बन जाता है। ऐसे में इस समस्या से राहत दिलाने में भी तेल लगाना उपयोगी हो सकता है। दरअसल, अरंडी का तेल दो मुंहे बालों की परेशानी के लिए उपयोगी माना गया है (14)। वहीं, दो मुंहे बालों के उपचार के लिए अरंडी तेल के साथ जैतून के तेल का इस्तेमाल फायदेमंद हो सकता है (15)। इसके अलावा, नारियल तेल में भी दो मुंहे बालों को रोकने की क्षमता है (16)।
  • डैमेज बालों के लिए – बालों के डैमेज होने के पीछे बाहरी कारक होने के साथ-साथ हेयर स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी एक कारण माना जाता है (17)। ऐसे में बालों के लिए नारियल तेल का उपयोग अत्यधिक फायदेमंद माना जा सकता है। एक शोध में बताया गया है कि नारियल का तेल बालों को धूप से होने वाले नुकसान से बचा सकता है (5)। इसके अलावा, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में यह भी बताया गया है कि नारियल का तेल, बालों को क्षतिग्रस्त होने से बचाने के साथ-साथ प्रोटीन लॉस को भी कम करने में मददगार साबित हो सकता है। इसे नहाने के पहले या हल्की मात्रा में बाद में लगाया जा सकता है (4)।

स्क्रॉल कर पढ़ें
बालों के लिए बेस्ट तेल के बारे में जानने के बाद बालों में तेल न लगाने के साइड इफेक्ट भी जान लीजिए।

बालों में तेल न लगाने के नुकसान

बालों के लिए तेल कितना लाभकारी है, यह तो आप लेख में अब तक समझ चुके होंगे। वहीं, अगर बालों में तेल न लगाया जाए तो क्या हो सकता है, यह समझना जरूरी है। अगर कोई बालों में तेल नहीं लगाता है, तो इससे उसके बालों को उचित पोषण नहीं मिल सकेगा, जिससे बालों को कई तरह का नुकसान पहुंच सकता है, जो निम्नलिखित हैं-

  • बाल कमजोर हो सकते हैं।
  • बाल झड़ सकते है।
  • बाल टूटने लग सकते हैं।
  • ब्लड सर्कुलेशन खराब हो सकता है।
  • बाल रूखे और बेजान हो सकते है।

यह भी पढ़ें

लेख के सबसे आखिरी में जानिए, बालों में तेल लगाते समय ध्यान रखने योग्य बातें।

बालों में ऑयलिंग करते समय क्या करें और क्या न करें – Do’s And Don’ts Of Oiling Your Hair

बालों में तेल लगाना कितना फायदेमंद हो सकता है, यह तो आप जान ही चुके हैं। वहीं, हेयर ऑयलिंग करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है, तभी उसे उचित पोषण मिल सकेगा। इसलिए नीचे हम क्रमवार तरीके से बता रहे हैं कि बालों में तेल लगाते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।

क्या करें :

  • बालों में हमेशा तेल गुनगुना करके ही लगाएं।
  • बालों में तेल हमेशा जड़ से लेकर सिर तक लगाएं।
  • सप्ताह में कम से कम दो से तीन बार हेयर ऑयलिंग जरूर करें।
  • बेहतर परिणाम पाने के लिए शैम्पू से एक या दो घंटे पहले तेल लगाना फायदेमंद हो सकता है।
  • इसके अलावा, बालों के तेल का चुनाव हमेशा बालों के हिसाब से ही करें।
  • वहीं, बालों के लिए पहली बार कोई तेल आजमाने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर कर लें।
  • हमेशा जरूरत के हिसाब से ही बालों में तेल लगाएं, अधिक तेल लगाने से सिर के त्वचा की प्राकृतिक नमी छिन सकती है।

क्या न करें:

  • बालों में अधिक गर्म तेल का प्रयोग न करें, यह बालों को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • अगर कहीं बाहर जाना हो तो बालों में तेल लगाने से परहेज करें।
  • बालों में अधिक मात्रा में तेल न लगाएं।

तो दोस्तों ये थे बालों में तेल लगाने के तरीके और फायदों से जुड़ी कुछ जानकारियां। लेख में हमने बालों के लिए कौन सा तेल सही है, इस बारे में बताने के साथ-साथ तेल लगाने से जुड़े कुछ टिप्स भी बताए हैं। तो ऐसे में अगर कोई बाल लंबे करने वाला तेल या फिर बालों से जुड़ी किसी अन्य समस्याओं के लिए तेल ढूंढ रहा हो तो हमारा यह लेख उसके लिए जरूर मददगार साबित होगा। वहीं, अगर किसी को बालों से जुड़ी गंभीर समस्या हो ऐसे में उन्हें तेल के बजाए बिना देर किया डॉक्टर के पास जाना चाहिए। अब हम उम्मीद करते हैं कि हमारा यह लेख आपको पसंद आया होगा। इसे अन्य लोगों के साथ शेयर कर हर किसी को बालों में तेल लगाने से जुड़ी जानकारियों से अवगत कराएं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल –

तेल लगाने के बाद बाल क्यों झड़ते हैं?

ऐसा जरूरी नहीं है कि तेल लगाने के बाद ही बाल झड़े। हां, ऐसा हो सकता है कि तेल से एलर्जी के कारण बाल झड़ सकते हैं या फिर इसके कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में एक बार डॉक्टर से सलाह जरूरी लेनी चाहिए ।

सूखे बालों में तेल लगाना चाहिए या गीले बालों में?

गीले बालों के मुकाबले सूखे बालों में तेल लगाना ज्यादा सही माना जाता है। दरअसल, गीले बालों की जड़े कमजोर होती है। ऐसे में तेल लगाने से बाल टूट सकते हैं।

क्या रोजाना बालों में तेल लगाना चाहिए?

नहीं, रोजाना बालों में तेल नहीं लगाना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि बालों में ज्यादा तेल होने से स्कैल्प की प्राकृतिक नमी खो सकती है, जिससे फुंसी होने का खतरा हो सकता है। हालांकि, इस संबंध में अभी सटीक वैज्ञानिक शोध की कमी है।

क्या दो दिनों के लिए बालों में तेल लगा छोड़ सकते हैं?

नहीं, बालों में दो दिनों के लिए तेल लगा नहीं छोड़ सकते हैं। ऐसा करने से स्कैल्प में गंदगी जमा हो सकती है, जिससे स्कैल्प के रोम छिद्र बंद हो सकते हैं।

क्या गंदे बालों में तेल लगाना ठीक है?

नहीं, गंदे बालों में तेल लगाना सही नहीं माना जाता है। अगर कोई गंदे बालों में तेल लगाता है तो इससे स्कैल्प में जमी गंदगी के कारण रोम छिद्र बंद हो सकते हैं। इस वजह से तेल बालों के जड़ तक नहीं पहुंच सकता है, जिसके परिणामस्वरूप बाल कमजोर होकर टूट सकते हैं।

क्या बालों में तेल लगाने से डैंड्रफ बढ़ता है?

बालों में तेल लगाने से डैंड्रफ बढ़ता है या नहीं, फिलहाल इस बारे में शोध की कमी है।

बालों में कितना तेल लगाना चाहिए?

बालों में कितना तेल लगाना चाहिए, इस सवाल जवाब बालों की लंबाई पर निर्भर करता है। बालों में लंबाई और जरूरत के अनुसार ही तेल लगाना चाहिए।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख