बायो ऑयल के फायदे, उपयोग और नुकसान – Bio Oil Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by

त्वचा और बालों के लिए किसी नए उत्पाद का चयन, एक बड़ा सवाल हो सकता है। कई बार जानकारी के अभाव में लोग ऐसे उत्पादों को खरीद बैठते हैं, जो फायदा पहुंचाने की जगह नुकसान का कारण बन जाते हैं। ऐसे में अगर आप त्वचा के लिए बायो ऑयल का उपयोग करने के बारे में विचार कर रहे हैं, तो स्टाइलक्रेज का यह लेख आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। इस लेख में बायो ऑयल के फायदे विस्तारपूर्वक बताए गए हैं, साथ ही त्वचा और बालों के लिए बायो ऑयल का उपयोग किस प्रकार करना है, इस विषय में भी जानकारी दी गई है। लेख के अंत में आपको संभावित बायो ऑयल के नुकसान के विषय में भी जानने को मिलेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ते रहिए यह लेख।

सबसे पहले जानिए कि बायो ऑयल क्या होता है और इसमें कौन-कौन से तत्व मौजूद होते हैं।

बायो ऑयल एक तरह का नॉन-ग्रीसी (जो चिपचिपा न हो) तेल होता है। इसमें कई तरह से एसेंशियल ऑयल एवं विटामिन मौजूद होते हैं, जो त्वचा के लिए लाभदायक हो सकते हैं, जैसे-

  • कैलेंडुला तेल (Calendula Oil)
  • लैवेंडर तेल (Lavender Oil)
  • कैमोमाइल तेल (Chamomile Oil)
  • पर्सेलिन तेल (Purcellin Oil)
  • विटामिन-ए
  • विटामिन-ई

इस लेख के अगले भाग में जानिए बायो ऑयल के फायदे के बारे में।

बायो ऑयल के फायदे – Benefits of Bio Oil in Hindi

बायो ऑयल के फायदे जानने से पहले पाठक इस बात को भी ध्यान में रखें कि बायो ऑयल लेख में शामिल किसी भी समस्या का मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं है। यह सिर्फ उन समस्या के प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में सहायक भूमिका निभा सकता है।

1. झुर्रियों को कम करने के लिए

उम्र बढ़ने के साथ बढ़ती उम्र के लक्षण जैसे झुर्रियां होना सामान्य है। वहीं, कई बार ऑक्सीडेटिव तनाव भी चेहरे पर बढ़ती उम्र के लक्षण दिखने की वजह बन सकता है। ऐसे में, इससे बचने के लिए बायो ऑयल का इस्तेमाल किया जा सकता है। एमडीपीआई (MDPI – मॉलिक्यूलर डायवर्सिटी प्रिजर्वेशन इंटरनेशनल) नामक वेबसाइट द्वारा प्रकाशित एक शोध में बायो ऑयल के एंटीऑक्सीडेंड गुणों का जिक्र मिलता है, जो ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर एजिंग के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकते हैं। इस गुण के कारण कई कॉस्मेटिक कंपनियां इस खास तेल का इस्तेमाल एंटी-रिंकल और एंटीएजिंग उत्पादों को बनाने में करती हैं (2)।

2. मुंहासों और दाग-धब्बों से आराम दिलाए

मुंहासों से आराम पाने में बायो ऑयल का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। इस कार्य के पीछे इसमें मौजूद एसेंशियल ऑयल काम करते हैं। जैसा कि बायो ऑयल के परिचय में हम बता चुके हैं कि इसमें अन्य तत्वों के साथ कैमोमाइल, लैवेंडर और कैलेंडुला एसेंशियल ऑयल भी मौजूद होते हैं। इन तीनों तेल की मौजूदगी इस तेल के गुणों को बढ़ाने का काम करती हैं, जैसे कैमोमाइल तेल का उपयोग मुंहासों को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, लैवेंडर एसेंशियल ऑयल मुंहासों के साथ त्वचा के दाग-धब्बों को हटाने में मददगार साबित हो सकता है (3)। इसके अलावा, बायो ऑयल में मौजूद ओलिक और लिनोलेनिक एसिड भी दाग-धब्बों को हल्का करने में सहायक हो सकते हैं (4)।

3. स्ट्रेच मार्क्स के लिए बायो ऑयल के फायदे

बायो ऑयल अपने कई फायदों के लिए जाना जाता है, लेकिन स्ट्रेच मार्क्स को कम करना, बायो ऑयल के फायदे में सबसे ऊपर है। माना जाता है कि लगभग 80 प्रतिशत महिलाएं जीवन में कभी न कभी स्ट्रेच मार्क्स का शिकार होती हैं। ये शरीर के अलग अलग हिस्सों जैसे पेट, कमर, स्तन, जांघ व कूल्हों के आस पास कई कारणों से हो सकते हैं, जैसे मोटापा और गर्भावस्था। एक शोध में देखा गया है कि बायो ऑयल स्ट्रेच मार्क्स पर सकारात्मक प्रभाव दिखा सकता है। लगभग छह से आठ हफ्तों के उपयोग से बायो ऑयल स्ट्रेच मार्क्स को कम करने में प्रभावी रूप से मददगार साबित हो सकता है (5)।

बायो ऑयल के अन्य फायदों के लिए स्क्रॉल करें।

4. रंगत निखारने में बायो ऑयल के फायदे

माना जाता है नियमित रूप से बायो ऑयल का इस्तेमाल करने से मुंहासों और झुर्रियों को कम करने के साथ, त्वचा का रंग निखारने में भी मदद मिल सकती है। इसका यह फायदा लोगों के अनुभव पर आधारित है और इस पर कोई वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है। इस कारण यह नहीं कहा जा सकता कि त्वचा का रंग निखारने में बायो ऑयल के फायदे कितना काम करेंगे।

5. ऑयली त्वचा के लिए लाभदायक

कई लोगों के मन में यह सवाल उठ सकता है कि क्या बायो ऑयल का इस्तेमाल ऑयली त्वचा के लिए किया जा सकता है? लोगों ने अनुभव के आधार पर यह जानकारी मिलती है कि यह एक नॉन-ग्रीसी (जो चिपचिपा न हो) तेल है और ऑयली स्किन के लिए भी लाभदायक हो सकता है। दरअसल, बायो ऑयल में मौजूद लैवेंडर ऑयल, ऑयली त्वचा और उससे संबंधित समस्याएं, जैसे एक्ने से आराम दिलाने में मदद कर सकता है (3)।

6. बालों के लिए बायो ऑयल के फायदे

जैसा कि हम बता चुके हैं कि बायो ऑयल में कई एसेंशियल ऑयल मौजूद होते हैं और इन्हीं में से एक है लैवेंडर ऑयल। लैवेंडर तेल के फायदे बालों के लिए भी देखे जा सकते हैं। यह बालों को झड़ने से रोकता है और उन्हें बढ़ने में मदद करता है (6)। इसके अलावा, बायो ऑयल में विटामिन-ई भी पाया जाता है, जो एक प्रभावी एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बालों को फ्री रेडिकल्स से बचाकर, उन्हें स्वस्थ रखने में मदद करता है (7)।

और जानकारी के लिए स्क्रॉल करें

लेख के अगले भाग में जानिए बायो ऑयल का इस्तेमाल किस प्रकार किया जा सकता है।

बायो ऑयल का उपयोग – How to Use Bio Oil in Hindi

त्वचा के लिए बायो ऑयल का उपयोग

  • सबसे पहले प्रभावित त्वचा को पानी से धोकर अच्छी तरह साफ कर लें।
  • अब बायो ऑयल की कुछ बूंदे हथेलियों में लें।
  • अब प्रभावित हिस्से पर हाथों को गोलाकार (Circular Motion) घुमाते हुए मसाज करें।
  • इसे लगभग पांच से आठ मिनट के लिए करें। इतनी देर में तेल त्वचा में पूरी तरह समा जायेगा।
  • बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराया जा सकता है।

बालों के लिए बायो ऑयल का उपयोग

  • सबसे पहले बालों को शैम्पू से धो लें और फिर सुखा लें।
  • इसके बाद हथेली में थोड़ा सा बायो ऑयल लें और इससे सिर की अच्छी तरह मसाज करें।
  • लगभग 15 से 20 मिनट मसाज करने के बाद बालों को शैम्पू से धो लें।
  • आप चाहें तो रात भर इसे बालों में रहने दें और सुबह बाल धो लें।

पढ़ते रहें आर्टिकल

बायो ऑयल का उपयोग के बाद जानिए इसके कुछ अन्य फायदों के बारे में।

बायो ऑयल के अन्य फायदे – Other Benefits Of Bio Oil in Hindi

  1. मेकअप रिमूवर – मेकअप हटाने के लिए बायो ऑयल का उपयोग किया जा सकता है। इसके लिए उंगलियों की मदद से बायो ऑयल से चेहरे पर मसाज करें। जब मेकअप चेहरे से निकलने लगे तो रुई की मदद से उसे पोंछ लें। पूरा मेकअप निकालने के बाद, चेहरे को फेस वॉश से धो लें।
  2. मॉइस्चराइजर – बायो ऑयल का उपयोग मॉइस्चराइजर के रूप में भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा को नम बनाए रखने में मदद करता है (8)। इसके लिए उंगलियों पर बायो ऑयल की कुछ बूंदे लेकर चेहरे पर मसाज की जा सकती है।
  3. लिप बाम – बायो ऑयल का उपयोग लिप बाम की तरह भी किया जा सकता है। माना जाता है कि इसमें मौजूद विटामिन-ई होठों की त्वचा को भी नम बनाए रखने में मदद कर सकता है। फिलहाल, इस पर कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

आगे जानिए कि क्या बायो ऑयल के नुकसान भी हैं?

बायो ऑयल के नुकसान – Side Effects of Bio Oil in Hindi

बायो ऑयल के नुकसान की बात करें तो इससे जुड़े वैज्ञानिक अध्ययनों का अभाव है। वहीं, किसी को अगर इसमें मौजूद किसी भी एसेंशियल ऑयल से एलर्जी है या किसी की त्वचा अतिसंवेदनशील है, तो वे इसका उपयोग करने से बचें। इसके अलावा, त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क कर इसके उपयोग संबंधी अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

इसके फायदे जानने के बाद अगर आप इसे लेना चाह रहे हैं, तो यहां से खरीदें

उम्मीद करते हैं कि इस लेख को पढ़ने के बाद आप बायो ऑयल के फायदे अच्छी तरह जान गए होंगे। साथ ही त्वचा और बालों के लिए इसका इस्तेमाल किस प्रकार किया जा सकता है, इस विषय में भी आपको जानकारी हो गई होगी। ऐसे में अगर आप इसका इस्तेमाल करने के बारे में सोच रहे हैं, तो इसे ऑनलाइन या बाजार से खरीद सकते हैं। अगर बायो ऑयल का उपयोग करने से त्वचा पर जलन या रैशेज जैसी समस्याएं होती हैं, तो इसका इस्तेमाल बंद कर दें और त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क करें। आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा।

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Soumya Vyas

सौम्या व्यास ने माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीएससी किया है और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बेंगलुरु से टेलीविजन मीडिया में पीजी किया है। सौम्या एक प्रशिक्षित डांसर हैं। साथ ही इन्हें कविताएं लिखने का भी शौक है। इनके सबसे पसंदीदा कवि फैज़ अहमद फैज़, गुलज़ार और रूमी हैं। साथ ही ये हैरी पॉटर की भी बड़ी प्रशंसक हैं। अपने खाली समय में सौम्या पढ़ना और फिल्मे देखना पसंद करती हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch