घरेलू उपचार
Stylecraze

ब्लैकहेड्स हटाने के घरेलू उपाय | How To Remove Blackheads In Hindi

by
ब्लैकहेड्स हटाने के घरेलू उपाय | How To Remove Blackheads In Hindi December 15, 2018

हर लड़की को चाहत होती है एक खूबसूरत त्वचा की, जिसके लिए वो कभी पार्लर जाकर कुछ न कुछ चेहरे पर करवाती रहती हैं, ताकि त्वचा जवां और खूबसूरत बनी रहे। बात की जाए चेहरे संबंधी समस्याओं की तो, ज्यादातर लोगों के चेहरे पर ब्लैकहेड्स जरूर देखने को मिलते हैं। धूल-मिट्टी, प्रदूषण, खानपान में लापरवाही के कारण चेहरे पर ब्लैकहेड्स हो जाते हैं, जिससे आपकी खूबसूरती में दाग-सा लग जाता है। ऐसे में लोग अलग-अलग तरह से ब्लैकहेड्स हटाने के तरीके ढूंढते रहते हैं। कुछ लोग पार्लर जाकर ब्लैकहेड्स हटवाते हैं, तो कुछ लोग ब्लैक हेड्स हटाने के घरेलू उपाय अपनाते हैं।

विषय सूची


आपको बता दें कि चेहरे पर ब्लैकहेड्स कई कारणों से हो सकते हैं। लेकिन ब्लैकहेड्स होने के कारण त्वचा के रोमछिद्र बंद हो जाते हैं। इस वजह से त्वचा को ऑक्सीजन नहीं मिल पाती और त्वचा संबंधी अन्य बीमारियां सामने आती हैं। कई बार लोग इसे दबाकर निकालने की कोशिश करते हैं, लेकिन यह तरीका ठीक नहीं है, क्योंकि इससे त्वचा पर निशान पड़ सकते हैं। इसलिए नीचे हम आपको ब्लैकहेड्स हटाने के घरेलू उपाय बताएंगे:

जरूरी टिप्स : जब आप नीचे बताए गए घरेलू टिप्स को आजमाएं, खासतौर पर जब आप स्क्रब करें, तो इसे जोर से रगड़कर न करें। ऐसा करने से त्वचा पर रैशेज पड़ सकते हैं।

ब्लैक हेड्स हटाने के घरेलू उपाय – How To Remove Blackheads In Hindi

फेस पैक

1. अंडे का सफेद भाग

यह फेस मास्क न सिर्फ ब्लैकहेड्स हटाने में मदद करेगा, बल्कि आपकी त्वचा से अतिरिक्त चिकनाई भी दूर करता है। इससे ब्लैकहेड्स दूर होकर रोम छिद्रों में कसाव पैदा होता है। चूंकि, अंडे के सफेद भाग में एल्बुमिन नामक तत्व पाया जाता है, जो त्वचा में कसाव लाता है। इसके अलावा, यह फेस मास्क आपकी त्वचा पर ग्लो भी लाएगा (1)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक अंडे का सफेद भाग।
  • एक चम्मच शहद।

क्या करें?

  • शहद को अंडे के सफेद भाग में अच्छी तरह मिलाकर इसे अपने चेहरे पर लगा लें।
  • इसे सूखने तक अपने चेहरे पर रखें, फिर बाद में गुनगुने पाने से मुंह धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

यह फेस मास्क आप सप्ताह में एक या दो बार अपने चेहरे पर लगाएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह तैलीय त्वचा और मिली-जुली त्वचा पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

2. दालचीनी

दालचीनी और नींबू का रस भी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है। नींबू के रस में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो बेलैकहेड्स, व्हाइटहेड्स और मुंहासे दूर करने में मदद करता है (2)। वहीं, दालचीनी रक्तसंचार संतुलित रखती है और त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाने में मदद करती है। इसके अलावा, दालचीनी से छिद्रों में भी कसाव आता है और चेहरे को जवां बनाए रखने में मदद करती है (3)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक या दो चम्मच दालचीनी पाउडर।
  • एक या दो चम्मच नींबू का रस।

क्या करें?

  • दालचीनी पाउडर में नींबू का रस मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को चेहरे के उस हिस्से पर लगाएं, जहां ब्लैकहेड्स हों।
  • इसे अपने चेहरे पर 20 मिनट तक लगा रहने दें, फिर पानी से धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम पाने के लिए आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में तीन से चार बार दोहराएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पेस्ट तैलीय त्वचा, मिली-जुली त्वचा और सामान्य त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी

इस पेस्ट को अपने पूरे चेहरे पर लगाने से पहले एक छोटी-सी जगह पर लगाकर देख लें कि कहीं इससे किसी प्रकार का रिएक्शन तो नहीं हो रहा।

3. एलोवीरा

बेहतर त्वचा पाने के लिए बहुत से लोग एलोवीरा का सेवन करते हैं। यह रोमछिद्रों को साफ करता है और त्वचा से अतिरिक्त तेल को हटाता है। इस वजह से ब्लैकहेड्स, मुंहासे और अन्य त्वचा संबंधी समस्याएं दूर होती हैं (4)।

इसके लिए आपको चाहिए :

फ्रेश एलोवीरा जेल।

क्या करें?

  • एलोवीरा की पत्ती से ताजा जेल निकालकर अपने चेहरे पर लगाएं।
  • इसे 10 मिनट तक अपने चेहरे पर लगाए रखें, फिर गुनगुने पानी से मुंह धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम पाने के लिए आप रोजाना अपने चेहरे पर एलोवीरा जेल लगाएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

इसे किसी भी प्रकार की त्वचा के लोग अपने चेहरे पर लगा सकते हैं।

4. हल्दी

हल्दी अनेक बीमारियों का इलाज करने के लिए इस्तेमाल की जाती है। इसमें करक्यूमिन नामक एंटीमाइक्रोबायल गुण होता है, जो त्वचा के छिद्रों में मौजूद बैक्टीरिया को बाहर निकालने में मदद करता है। इसके अलावा, हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण और एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो त्वचा के टेक्सचर को अच्छा करते हैं (5)। वहीं, पुदीने का रस त्वचा को ठंडक प्रदान करता है (6)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक चम्मच हल्दी पाउडर।
  • दो चम्मच ताजे पुदीने का रस।

क्या करें?

  • हल्दी पाउडर में पुदीने का रस मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को ब्लैकहेड्स वाले हिस्से पर लगाएं और 10-15 मिनट लगाकर इसे सूखने दें।
  • सूखने के बाद अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। इसके बाद अपने चेहरे में मॉइस्चराइजर लगाना न भूलें।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम के लिए आप सप्ताह में एक बार ये पैक लगाएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पैक हर किसी त्वचा के लिए उपयुक्त है।

5. मेथी

मेथी शरीर के लिए काफी फायदेमंद होती है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं, जो ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स दूर करने में मदद करते हैं (7)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक कप ताजी मेथी के पत्ते।
  • पानी।

क्या करें?

  • मेथी के पत्तों में थोड़ा-सा पानी डालकर महीन पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर ब्लैकहेड्स वाले क्षेत्र पर लगाएं।
  • 10 मिनट बाद गुनगुने पानी से अपने चेहरे को धो लें।
  • चेहरा सूखने के बाद मॉइस्चराइजर लगाएं।

आप चाहें तो यह पेस्ट बनाने के लिए मेथी के पत्तों की जगह मेथी के बीज का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम पाने के लिए आप इस फेसपैक को सप्ताह में दो बार अपने चेहरे पर लगाएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह फेसपैक हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

6. टमाटर

टमाटर में प्राकृतिक एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो ब्लैकडेड्स सुखाने में मदद करता है (8)। इसके अलावा, इसमें लाइकोपीन भी होता है, जो त्वचा पर एंटीऑक्सीडेंट के प्रभाव डालता है और सभी क्षतिग्रस्त मुक्त कणों को हटा देता है (9)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक छोटा टमाटर।

क्या करें?

  1. एक टमाटर लें और उसका गूदा निकालकर अच्छी तरह मैश कर लें। फिर इसे सोने से पहले अपने चेहरे पर लगाएं।
  2. बेहतर परिणाम के लिए इसे रातभर अपने चेहरे पर लगा छोड़ दें और सुबह उठकर पानी से मुंह धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप रोजाना रात को अपने चेहरे पर इसे लगाएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी

अगर आपकी त्चचा संवेदनशील है, तो इसमें पानी मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं।

7. क्ले मास्क

बेंटोनाइट क्ले आपके चेहरे से अशुद्धियों को अवशोषित करके त्वचा को साफ करती है। इसके अलावा, इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं (10)। इसका नियमित रूप से सेवन करने से ब्लैकहेड से छुटकारा पाया जा सकता है।

इसके लिए आपको चाहिए : :

  • एक चम्मच बेंटोनाइट क्ले।
  • पानी।

क्या करें?

  1. क्ले में थोड़ा-सा पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  2. इस पेस्ट को अपने चेहरे पर अच्छी तरह लगा लें।
  3. इसे तब तक अपने चेरे पर रखें, जब तक यह सूख न जाए।
  4. पैक सूखने के बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। इसके बाद चेहरे पर मॉइस्चराइजर लगा लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप ये फेसपैक सप्ताह में एक या दो बार लगा सकते हैं।

यह किस त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह फेसपैक हर त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो पानी की जगह कच्चे दूध का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

8. चारकोल का मास्क

एक्टिवेटेड चारकोल एक सामान्य कोयला होता है, जिसे प्रयोगशाला में गैस के संपर्क में लाया जाता है, ताकि इसमें छिद्र बन सकें। इसमें मौजूद छिद्र त्वचा पर आई गंदगी को साफ करने में मदद करते हैं। जब यह मास्क चेहरे पर लगाया जाता है, तो त्वचा से गंदगी हटकर ब्लैकहेड्स कम होने लगते हैं (11)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक्टिवेडेट चारकोल के दो कैप्सूल।
  • आधा चम्मच बेंटोनाइट क्ले।
  • पानी।

क्या करें?

  • कैप्सूल में से एक्टेवेटेड कार्बन निकालकर इसमें बेंटोनाइट क्ले डालकर अच्छी तरह दोनों को मिक्स कर लें।
  • बेहतर पेस्ट बनाने के लिए इसमें आवश्यकतानुसार पानी मिला लें।
  • इस पेस्ट को अपने चेहर पर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  • पैक सूखने के बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें और फिर मॉइस्चराइजर लगा लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस पेस्ट को सप्ताह में दो बार लगाने की सलाह दी जाती है।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह फेस पैक तैलीय त्वचा और मुंहासों वाली त्वचा के लिए उपयुक्त है।

9. ग्रीन-टी

ग्रीन-टी में एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाती है। यह त्वचा से सभी गंदगी हटाकर ब्लैकहेड्स को कम करती है (12)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक चम्मच ग्रीन-टी की पत्तियां।
  • पानी।

क्या करें?

  • ग्रीन-टी की पत्तियों में पानी डालकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर गुनगुने पानी से अपना मुंह धोकर मॉइस्चराइजर लगा लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप सप्ताह में एक बार इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं। या जब आपको जरूरत महसूस हो, इस पेस्ट को लगा लें।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पेस्ट हर किसी की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

10. स्ट्रॉबेरी

जी हां..स्ट्रॉबेरी भी ब्लैकहेड्स हटाने में मदद करती है। इसकी क्षारीयता सूजन को कम करती है और रोमछिद्रों को खोलती है। यह त्वचा के लिए प्राकृतिक रूप से एक्सफोलिएंट है। इसके अलावा, इसमें विटामिन-सी होता है, जो त्वचा से रूखापन दूर कर इसे नमी प्रदान करता है (13)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • 1 स्ट्रॉबेरी
  • ½ चम्मच शहद
  • ½ चम्मच नींबू का रस

क्या करें?

  • स्ट्रॉबेरी को क्रश करके इसमें शहद और नींबू का रस मिला लें।
  • इस मिश्रण को अच्छी तरह मिक्स करके पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर इसे ठंडे पानी से धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

यह पेस्ट थोड़े-थोड़े दिनों में अपने चेहरे पर लगाते रहें।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पेस्ट हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

11. एस्प्रिन मास्क

इस पेस्ट में एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं और यह ब्लैकहेड्स वाले भाग से सूजन और लालिमा कम करती है। यह मृत कोशिकाओं और ब्लैकहेड्स को भी दूर करने में मदद करती है। वहीं, यह त्वचा के रोमछिद्रों को छोटा कर मुंहासे और ब्लैकहेड्स की संभावना को कम करती है (14)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • 3-4 एस्प्रिन की गोलियां।
  • पानी
  • बादाम तेल या नींबू के रस की कुछ बूंदें।

क्या करें?

  • एस्प्रिन की गोलियों को पीसकर पानी मिला लें और इसके एक पेस्ट बना लें।
  • अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो इसमें कुछ बूंदें बादाम के तेल की मिला लें। वहीं. अगर आपकी त्वचा तैलीय है, तो इसमें नींबू के रस की कुछ बूंदें मिला लें।
  • इस पेस्ट को आप ब्लैकहेड्स वाले हिस्से पर लगाएं और 10 से 12 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें।
  • अब पानी से अपना मुंह धोकर मॉइस्चराइजर लगा लें।

ऐसा-कब कब करें?

यह फेस मास्क आप सप्ताह में दो बार से ज्यादा न लगाएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पेस्ट हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी

ध्यान रहे कि आप अपनी त्वचा की प्रकृति का ध्यान रखते हुए बादाम के तेल या नींबू के रस का इस्तेमाल कर रहे हों। तैलीय त्वचा पर तेल लगने से मुंहासे हो सकते हैं, वहीं रूखी त्वचा पर नींबू लगाने से त्वचा और रूखी हो सकती है।

ब्लैकहेड्स के लिए स्क्रब

12. बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा में न सिर्फ एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं, बल्कि यह एक बेहतरीन स्किन एक्सफोलिएटर भी है (15, 16, 17)। यह ब्लैकहेड्स और पिंपल दूर करने का आसान उपाय है।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक चम्मच बेकिंग सोडा।
  • 2 चम्मच पानी।

क्या करें?

  • बेकिंग सोडा में पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को ब्लैकहेड्स वाले क्षेत्र पर लगाएं।
  • इसे अपने चेहरे पर 15-20 मिनट तक लगाकर रखें, फिर गुनगुने पानी से धो लें।

ज्यादा फायदा पाने के लिए आप इस पेस्ट में थोड़ा-सा टूथपेस्ट या नींबू की कुछ बूंदे भी मिला सकती हैं।

ऐसा कब-कब करें?

आप ब्लैकहेड्स से राहत पाने के लिए इस पेस्ट को रोजाना अपने चेहरे पर लगाएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह पेस्ट तैलीय त्वचा और मिली-जुली त्वचा के लिए उपयुक्त है।

13. शहद

शहद सदियों से चिकित्सा के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। बात की जाए त्वचा के लिहाज से, तो शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो ब्लैकहेड्स हटाने में मदद करते हैं (18)। वहीं, नींबू का रस भी इसमें फायदा करेगा, क्योंकि इससे त्वचा में निखार आता है और चीनी भी एक तरह का बेहतरीन एक्सफोलिएटर है (2, 20)।

इसके लिए आपको चाहिए : 

  • 1 बड़ी चम्मच ऑर्गेनिक कच्चा शहद
  • 1 बड़ी चम्मच नींबू का रस
  • 1 बड़ी चम्मच चीनी

क्या करें?

  • ऊपर बताई सभी चीज़ों को अच्छी तरह मिक्स करके अपने चेहरे पर स्क्रब की तरह लगाएं और कुछ देर हल्का-हल्का रगड़ें।
  • फिर 10-15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें और बाद में गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इसे रोजाना अपने चेहरे पर लगा सकते हैं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह स्क्रब हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

14. दूध से दूर करें ब्लैकहेड्स

ब्लैकहेड्स वाले क्षेत्र पर दूध लगाकर रगड़ने से यह ब्लैकहेड्स कम होने लगेंगे। चूंकि, दूध में लैक्टिक एसिड होता है, जो मृत कोशिकाओं को हटाकर त्वचा को ठीक करने में मदद करता है (21)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • कच्चा दूध
  • एक चम्मच जायफल पाउडर (वैकल्पिक)

क्या करें?

  • अपने चेहरे पर कच्चा दूध लगाएं और धी-धीरे मालिश करें।
  • फिर गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप रोजाना कच्चा दूध तब तक लगाते रहें जब तक ब्लैकहेड्स दूर न हो जाएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

इसे ज्यादातर हर तरह की त्वचा पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

सावधानी

अगर आपको डेयरी उत्पाद से किसी तरह की एलर्जी है, तो इस उपचार को न अपनाएं।

15. ब्लैकहेड्स के लिए नींबू

योगर्ट (एक तरह की दही) और नींबू के रस का ये मेल ब्लैकहेड्स हटाने में मदद करता है। नींबू का रस त्वचा के अशुद्धियां हटाकर उसमें कसाव लाता है और त्वचा को चमकदार बनाता है। वहीं योगर्ट एक प्राकृतिक मॉश्चुराइजह है, जो त्वचा को रूखा होने से बचाता है (22)। वहीं, नमक त्वचा के लिए एक्सफोलिएटर का काम करता है (23)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच योगर्ट
  • आधा चम्मच नमक

क्या करें?

  • सभी सामग्रियों के अच्छी तरह मिलाकर गोल-गोल घुमाते हुए प्रभावी क्षेत्र पर लगाएं।
  • इसे 10-12 मिनट तक लगा छोड़ दें।
  • इसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप ये प्रक्रिया एक एक दिन छोड़कर दोहराएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

इसे हर तरह की त्वचा पर लगाया जा सकता है।

सावधानी

आप इस स्क्रब को धीरे-धीरे करें। त्वचा पर इसे जोर से न रगड़ें।

16. एक्सफोलिएटिंग वॉश

एक्सफोलिएटिंग की प्रक्रिया से त्वचा की मृत कोशिकाएं जड़ से बाहर निकल जाती है, जिससे ब्लैकहेड्स भी हट जाते हैं। एक्सफोलिएशन तैलीय और रूखी त्वचा दोनों के लिए फायदेमंद है। इसके लिए ओटमील एक बेहतर विकल्प है, क्योंकि इसमें एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं (24)। वहीं, योगर्ट और जैतून के तेल से त्वचा को पोषण मिलता है और त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनती है (25)। इसके अलावा, नींबू का रस त्वचा के बैक्टीरिया खत्म कर देता है।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • 2 चम्मच ग्राउंड ओटमील
  • 2 चम्मच योगर्ट
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच ओलिव ऑयल (जैतून का तेल)

क्या करें?

  • ओटमील में योगर्ट मिलाकर मिक्सचर बना लें। फिर इसमें नींबू का पानी और जैतून का तेल डालकर अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं।
  • 10-15 मिनट तक पेस्ट अपने चेहरे पर लगा रहने दें और बाद में ठंडे पानी से मुंह धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस मास्क को अपने चेहरे पर दो तीन दिन में एक बार लगाएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह फेस मास्क हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त माना जाता है।

नेचुरल क्लींजर

17. नारियल का तेल

आपको जानकर हैरानी होगी, लेकिन यह सच है कि यह ब्लैकहेड्स हटाने में मदद करता है। इसमें लॉरिक एसिड होता है, जो एंटीमाइक्रोबायल तत्व है (26)। इसके अलावा, नारियल का तेल त्वचा को पोषण देता है और मृत कोशिकाओं को हटाता है (27)।

इसके लिए आपको चाहिए :

ऑर्गैनिक वर्जिन नारियल तेल की कुछ बूंदें।

क्या करें?

  • ब्लैकहेड्स वाले भाग पर नारियल का तेल लगाकर अच्छी तरह मालिश करें।
  • थोड़ी देर के लिए इसे त्वचा पर लगा रहने दें और बाद में मुंह धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को रोजाना सोने से पहले दोहराएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह रूखी त्वचा और मिली-जुली त्वचा, दोनों के लिए उपयुक्त है।

18. अरंडी का तेल

अरंडी का तेल भारत और अफ्रीका में काफी इस्तेमाल किया जाता है। यह त्वचा की सारी अशुद्धता दूर कर सभी मृत कोशिकाएं हटाता है और ब्लैकडेड्स से छुटकारा पाने में मदद करता है (28)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • अरंडी के तेल की कुछ बूंदें।

क्या करें?

  • अपने चेहरे पर एक या दो मिनट के लिए अरंडी के तेल से मसाज करें और एक दो मिनट के लिए इसे छोड़ दें।
  • अगर आपको ज्यादा चिपचिपाहट महसूस हो, तो टिश्यू पेपर से अतिरिक्त तेल 15 से 20 मिनट बाद पोछ लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप अरंडी का तेल रोजाना रात को सोने से पहले अपने चेहरे पर लगा सकते हैं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

अरंडी का तेल रूखी त्वचा और मिली-जुली त्वचा के लिए उपयुक्त है।

19. जोजोबा ऑयल

पहले तो आपको बता दें कि जोजोबा कोई तेल नहीं है, बल्कि यह एक लिक्विड वैक्स है, जो जोजोबा के बीज से मिलता है। यह त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह त्वचा से सीबम (त्वचा पर जमा तैलीय पदार्थ) हाटाता है। इस वजह से ब्लैकहेड्स दूर होते हैं (29)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • जोजोबा ऑयल की कुछ बूंदें।

क्या करें?

  • अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धोकर सुखा लें।
  • इसके बाद जोजोबा तेल से कुछ देर चेहरे की मालिश करें और 5 से 10 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें।
  • आप चाहें तो इसमें एक दो बूंद टी-ट्री ऑयल भी मिला सकते हैं।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम के लिए दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

किस तरह की त्वचा लिए उपयुक्त है?

रूखी त्वचा और मिली-जुली त्वचा के लिए यह उपयुक्त है।

20. नमक का पानी

ब्लैकहेड से छुटकारा पाने के लिए भले ही यह एक धीमा, लेकिन प्रभावी तरीका है। इसके लिए आपको नियमित रूप से प्रभावित क्षेत्र को नमक के पानी से धोना है। इससे क्षेत्र में अतिरिक्त तेल को धीरे-धीरे खत्म करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, नमक के पानी में हल्के जीवाणुरोधी गुण भी होते हैं (30)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • 1-2 चम्मच नमक
  • पानी

क्या करें?

नमक को पानी में अच्छी तरह मिलाएं और अपने चेहरे को इस पानी से धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

दिन में कई बार नमक के पानी साथ अपना चेहरा धोएं।

कैसी त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह तरीका तैलीय और मिली-जुली त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी : अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो नमक के पानी से मुंह धोने के बाद मॉइस्चराइजर जरूर लगाएं।

21. क्लींजिंग

मेकअप के कारण रोमछिद्र बंद हो जाते हैं, इसलिए रात को सोने से पहले मेकअप हटाना न भूलें। इससे ब्लैकहेड्स होने की आशंका बढ़ जाती है। त्वचा पर तेल इकट्ठे होने वाले भाग जैसे नाक आदि को ऑयल फ्री एंटीबैक्टीरियल क्लींजर से साफ करें। इसके बाद त्वचा रूखी न हो, उसके लिए मॉइस्चराइजर लगाएं (31)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक तेल मुक्त एंटीबैक्टीरियल क्लींजर।
  • मॉइस्चराइजर।

क्या करें?

  • एंटीबैक्टीरियल क्लींजर से अपने चेहरे का मेकअप अच्छी तरह साफ करें। इस दौरान अपने हाथ को चेहरे पर गोल-गोल घुमाएं।
  • इसके बाद पानी से मुंह अच्छी तरह धो लें।
  • फिर मुंह सूखने के बाद मॉइस्चराइज़र लगा लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस क्लींजर से दिन में दो बार मुंह साफ कर सकते हैं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह क्लींजर हर तरह की त्वचा पर लगाया जा सकता है।

ब्लैकहेड्स हटाने के अन्य तरीके

22. टूथपेस्ट

मिंट वाला टूथपेस्ट ब्लैकहेड्स हटाने में काफी मदद करता है। यह बंद रोमछिद्रों को खोलता है और मौजूद किटाणुओं को मारता है (32, 33)। इसके बाद बर्फ का टुकड़ा रगड़ने से खुले छिद्र बंद होते हैं, जो ब्लैकहेड्स होने से बचाता है।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • मिंट टूथपेस्ट।
  • पानी।
  • एक बर्फ का टुकड़ा।

क्या करें?

  • अपनी नाक पर टूथपेस्ट लगाएं और पांच मिनट तक इसे सूखने के लिए छोड़ दें।
  • अब थोड़ा-सा पानी लगाकर उंगलियों से गोल-गोल घुमाते हुए एक दो मिनट तक मालिश करें।
  • इसके बाद पानी से मुंह धो लें और और नाक पर बर्फ रगड़ें।

ऐसा कब-कब करें?

आप रोजाना इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

यह हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है।

सावधानी : चेहरा धोने के बाद मॉइस्चराइजर लगाना न भूलें।

23. एप्पल सीडर विनेगर

एप्पल सीडर विनेगर कई तरह की त्वचा संबंधी समस्याओं में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो त्वचा में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को मारते हैं। इसके अलावा, यह आपके रोमछिद्रों की भी सफाई करता है, जो ब्लैकहेड्स को खत्म करता है (34)।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एप्पल सीडर विनेगर की कुछ बूंदें।
  • रूई।

क्या करें?

  • रूई की मदद के अपने चेहरे पर एप्पल सीडर विनेगर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  • सूखने के बाद गुनगुने पानी से मुंह धोएं।

ऐसा कब-कब करें?

त्वचा संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए आप इसे रोजाना अपने चेहरे पर लगाएं।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

इसे हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त माना जाता है।

सावधानी

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो इसमें बराबर मात्रा में पानी मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं।

24. चेहरे को भांप देना

चेहरे को भांप देने से त्वचा के छिद्र खुलते हैं, जिसके बाद त्वचा को स्क्रब करके ब्लैकहैड्स और व्हाइटहेड्स से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके अलावा, भांप देने से टॉक्सिन निकलते हैं और संचार में सुधार आता है (35)। यह घर पर किए जाने वाला आसान उपचार है।

इसके लिए आपको चाहिए :

  • गर्म पानी।
  • एक छोटा टब।
  • एक तौलिया।

क्या करें?

  • एक टब में गर्म पानी डालें और अपना मुंह पानी के ऊपर की ओर ले जाएं ताकि भांप आपके चेहरे पर पड़े। इस दौरान अपने अपने सिर को तौलिये से ढक लें, ताकि भांप बाहर न जा पाए।
  • अपने चेहरे को एक या दो मिनट के लिए भांप दें और यह प्रक्रिया तीन से चार बार दोहराएं।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम के लिए आप सप्ताह में दो से तीन बार अपने चेहरे को भांप दें।

किस तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त है?

हर तरह की त्वचा को भांप दी जा सकती है।

अब आपको प्राकृतिक रूप से ब्लैकहेड्स हटाने के तरीके पता चल ही गए होंगे। लेकिन, इन नुस्खों के साथ जरूरी है एक सही खानपान की। आइए जानते हैं कि कैसे आपका खानपान ब्लैकहेड्स रोकने में मदद कर सकता है।

सबसे पहले तो आइए जानते हैं, कि ब्लैकहेड्स से बचने के लिए क्या चीजें खाएं और क्या न खाएं।

ब्लैकहेड्स से बचने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Diet for Blackheads in Hindi

ब्लैकहेड्स से बचने के लिए आप फलों और सब्जियों का रस खूब पिएं। ब्लैकहेड्स से बचने के लिए अपने खानपान में पांच सर्विंग फल और सब्जियां ज़रूर शामिल करें। एक स्वस्थ त्वचा पाने के लिए आप नीचे बताई चीजें जरूर खाएं :

  • बेरीज जैसे स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी आदि।
  • विटामिन-सी युक्त चीजें जैसे सेब, पपीता, अनानास आदि।
  • टमाटर, गोभी, ब्रॉकली।
  • हरी सब्जियां जैसे पालक, शलजम, हरी सरसों।

वहीं , अगर आपको बार बार ब्लैकहैड्स हो रहे हैं, तो नीचे बताई गई चीजों से परहेज करें :

  • चॉकलेट
  • नट्स
  • अंडे
  • एवोकेडो
  • शेलफिश
  • दूध और डेयरी उत्पाद जैसे चीज़
  • पके हुए आम
  • तला हुआ भोजन

इसके अलावा, आप धूम्रपान, शराब, कैफीन का सेवन न करें , क्योंकि इनसे भी ब्लैकहैड्स होते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवालों पर विशेषज्ञ के जवाब

क्या रोमछिद्र की स्ट्रिप से ब्लैकहेड्स हट जाते हैं?

रोमछिद्र की स्ट्रिप (पोर स्ट्रिप) का इस्तेमाल नाक पर किया जाता है, जहां ज्यादातर ब्लैकहेड्स पाए जाते हैं। इसके लिए पोरस्ट्रिप को नाक पर लगाकर खींचना होता है, ताकि ब्लैकहेड्स स्ट्रिप के साथ निकल आएं। लेकिन, यह तरीका हर बार अपनाना ठीक नहीं है, क्योंकि कई बार ब्लैकहेड्स त्वचा की सतह पर न होकर, बिल्कुल सतह के अंदर होते हैं। त्वचा के अंदर मौजूद होने के कारण पोरस्ट्रिप पर ब्लैकहेड्स नहीं निकल पाते।

ब्लैकहेड्स क्यों होते हैं?

ब्लैकहेड्स एक तरह के मुंहासे हैं, जो ज्यादातर चेहरे और नाक पर नजर आते हैं। इसके अलावा, कभी-कभी यह छाती, हाथ, पीठ और कंधे पर भी हो जाते हैं। यह तब होते हैं, जब आपके चेहरे पर बालों के रोम नहीं बढ़ पाते। जब बालों के रोम के खुलने के स्थान पर जब प्लग विकसित होता है (जिसमें बाल और एक स्नेहक ग्रंथि होती है, जो सेबम नामक तेल उत्पन्न है), तो ब्लैकहेड्स दिखाई देते हैं। सीबम त्वचा को मुलायम रखता है। जब त्वचा पर मृत कोशिकाएं जमा होती हैं तो कमडन नामक बंप उत्पन्न करता है। ऐसे में ब्लैकहेड्स उत्पन्न होने लगते हैं। यह पिंपल की तरह दर्दनाक नहीं होते (36)।

नीचे हम बताने जा रहे हैं कि ब्लैकहेड्स जल्दी-जल्दी क्यों होते हैं :

  • जब त्वचा पर तेल ज्यादा बनने लगता है।
  • जब त्वचा पर प्रोपियनबैक्टीरियम बनने लगता है।
  • जब मृत कोशिकाओं को लगातार साफ नहीं किया जाता।
  • शरीर में हार्मोनल बदलाव होने के कारण। इस समय त्वचा पर ज्यादा सीबम उत्पन्न होता है। कभी-कभी मासिक धर्म या गर्भनिरोधक दवाएं लेने के समय पर त्वचा पर ज्यादा सीबम आ जाता है, इस कारण भी ब्लैकहेड्स हो सकते हैं।
  • कभी-कभी दवाओं के रिएक्शन (जैसे – corticosteroids, लीथियम, और एड्रोजेन्स) के कारण भी ब्लैकहेड्स हो जाते हैं।
  • तनाव के कारण भी ब्लैकहेड्स हो सकते हैं।
  • ब्लैकडेह्स होने के पीछे अनुवांशिक कारण भी हो सकता है।
  • किसी किसी कॉस्मेटिक के केमिकल रिएक्शन से ब्लैकहेड्स हो सकते हैं।

क्या होगा, अगर ब्लैकहेड्स को ऐसे ही रहने दिया तो?

ब्लैकहेड्स खुद से दूर नहीं होते। अगर इसका इलाज समय पर नहीं किया, तो यह बढ़ने लगते हैं और त्वचा पर निशान छोड़ सकते हैं।

क्या ब्लैकहेड्स को दबाकर निकालने से त्वचा को नुकसान पहुंचता है?

बहुत से लोग इसे लेकर दुविधा में रहते हैं कि क्या ब्लैकहेड्स को दबाकर निकाल सकते हैं या नहीं। लेकिन, ऐसा नहीं करना चाहिए, इससे संक्रमण का खतरा हो सकता है और त्वचा पर निशान पड़ सकते हैं। इसलिए, इनसे राहत पाने के लिए आप घरेलू फेसपैक और स्क्रब का इस्तेमाल करें। अगर फिर भी आप दबाकर यह गंदगी त्वचा से निकालना चाहती हैं, तो विशेषज्ञ की निगरानी में रहकर ही ऐसा करें।

इसके अलावा, त्वचा संबंधी समस्या से बचाव के लिए जरूरी है साफ-सफाई। आप रोजाना दिन में दो बार मुंह जरूर धोएं और खासतौर पर तब, जब आप कहीं बाहर से आएं, ताकि बाहर की धूल-मिट्टी से चेहरे को नुकसान न पहुंचे। त्वचा को जोर-जोर से न रगडें। इससे त्वचा पर अधिक तेल उत्पन्न हो सकता है और ब्लैकहेड्स होने का खतरा बढ़ सकता है।

हम उम्मीद करते हैं कि ब्लैकहेड्स हटाने के ये तरीके आपके काम आएंगे और आप एक खूबसूरत और बेदाग त्वचा पाएंगे। तो चलिए, नीचे कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं कि आप ब्लैकहेड्स दूर करने के लिए कौन-सा घरेलू उपचार अपनाते हैं?

और पढ़े:

संबंधित आलेख