ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय – How To Reduce Breast Size Naturally in Hindi

Written by

छरहरी काया हर महिला को पसंद होती है और इस छरहरी काया को खूबसूरत बनाता हैं, स्तनों का सही आकार। अगर स्तनों का आकार जरूरत से कम या ज्यादा हो तो उससे महिला की खूबसूरती प्रभावित होती है। बढ़ते वजन, गर्भावस्था और अन्य कारणों से अक्सर स्तनों का आकार बढ़ जाता है। ऐसे में बढ़े हुए स्तनों के कारण कई बार महिलाएं अपने पसंद के कपड़े नहीं पहन पाती हैं और उन्हें असहज भी महसूस होता है। इस वजह से महिलाओं के मन में यह सवाल उठता है कि ब्रेस्ट साइज कैसे कम करें? हालांकि, इसके लिए वो कई तरह के उपाय अपनाती हैं। कई महिलाएं तो इसके लिए सर्जरी और दवाइयों तक की मदद लेती हैं, जिससे साइड इफेक्ट होने का खतरा हो सकता है। इसलिए जरूरी है कि वक्त रहते स्तनों के आकार पर ध्यान देकर उन्हें सामान्य आकार में लाया जाए। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम ब्रेस्ट कम करने का उपाय बता रहे हैं, जो काफी आसान हैं।

शुरू करते हैं लेख

तो आइए ब्रेस्ट कम करने के घरेलू उपाय जानने से पहले स्तनों का आकार बढ़ने के कारण जान लेते हैं।

स्तनों के आकार बढ़ने के कारण – Factors That Affect The Breast Size in Hindi

स्तनों के आकार में वृद्धि होने के कई कारण है और उन्हीं में से कुछ कारण यहां हम नीचे बता रहे हैं।

  • आनुवंशिक  – आनुवंशिक (पारिवारिक इतिहास) के कारण भी कई बार महिलाओं में बढ़े हुए स्तनों की समस्या देखी जाती है (1) (2)
  • वजन – स्तनों की कोशिकाएं वसा से बनी होती हैं। इसलिए वजन के घटने या बढ़ने की स्थिति में स्तनों क आकर में भी बदलाव देखा जा सकता है। इस बात को वजन और स्तनों के आकार से संबंधित शोध में भी माना गया है। शोध में जिक्र मिलता है कि अधिक वजन वाली महिलाओं में स्तनों का आकार भी सामन्य के मुकाबले अधिक बढ़ा हुआ पाया जाता है (3)
  • आयु – बढ़ती आयु भी स्तनों के बढ़ने का कारण मानी जा सकती है। स्तनों के आकर से संबंधित एक शोध में इस बात को स्पष्ट रूप से स्वीकार किया गया है। शोध में माना गया है कि बढ़ती उम्र के साथ ही रजोनिवृत्ति (मासिक धर्म का बंद होना) के चरण में भी स्तनों के आकार में बदलाव देखा जाता है (4)
  • हार्मोन में असंतुल – हार्मोन में बदलाव का एक कारण भी स्तनों का आकार बढ़ सकता है। जिसके लिए एस्ट्रोजेन (एक प्रकार का हॉर्मोन, जो स्तन कोशिकाओं को फैलने में मदद करता है) जिम्मेदार हो सकता है (5)। अध्ययनों से पता चलता है कि गर्भवास्था के अंतिम चरणों और स्तानपान के दौरान एस्ट्रोजन का स्तर अधिक बढ़ सकता है (6)
  • आहार –  एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्निकल इंफॉर्मेशन) पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, आहार में विटामिन डी, कैल्शियम, डायटरी फैट युक्त आहार की अधिकता और शराब का सेवन करना भी स्तनों के आकार में बदलाव का कारण बन सकता है। इस तरह के आहार स्तनों के क्षेत्र का आकार (Percent Dense Area) बढ़ा सकते हैं। हालांकि, यह स्थिति मुख्य रूप से प्रीमोनोपोज (मासिक चक्र बंद होने से पूर्व) वाली महिलाओं में अधिकतर देखने को मिलती है (7)

लेख में आगे बढ़ें

यहां अब हम घरेलू उपायों के माध्यम से ब्रेस्ट साइज कैसे कम करें, यह बताने जा रहे हैं।

ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय – Home Remedies to Reduce Breast Size in Hindi

नीचे हम छाती कम करने के घरेलू उपाय बता रहे हैं। ये बहुत ही आसान घरेलू उपाय हैं। हालांकि, यहां बताए गए ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय इसका इलाज नहीं माने जा सकते हैं। हां, इन घरेलू उपायों की मदद से स्तनों के आकार को कुछ हद तक कम करने में मदद जरूर मिल सकती है।

1. मेथी

सामग्री :

  • 1 चम्मच मेथी
  • 1 गिलास पानी

उपयोग करने की विधि :

  • रातभर के लिए मेथी को पानी में भिगोएं।
  • सुबह भीगे हुए मेथी दानों को पानी से छान लें और भीगे हुए बीजों को खाली पेट चबा लें।
  • वैकल्पिक रूप से 250-500 एमएल मेथी के पानी का भी सेवन किया जा सकता है।
  • हफ्ते में तीन से चार बार भीगे हुए मेथी के दाने खाएं जा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

बढ़ता वजन भी बड़े स्तनों का एक कारण हो सकता है (3)। इस आधार पर वजन कम करने के उपाय स्तनों का आकार छोटा करने में मदद कर सकते हैं, जिसमें मेथी के भीगे दाने लाभकारी हो सकते हैं। दरअसल, मेथी का सेवन करने से शरीर पर जमा वसा को कम किया जा सकता है। साथ ही इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो भोजन पचाने और भूख कम करने में मदद कर सकती है। इससे बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है (8)। इस आधार पर छाती कम करने के घरेलू उपाय में मेथी के फायदे सहायक माने जा सकते हैं।

2. अलसी के बीज

सामग्री :

  • एक चम्मच पिसी हुई अलसी
  • एक गिलास गर्म पानी

उपयोग करने की विधि :

  • अलसी के चूर्ण को गर्म पानी में मिलाएं।
  • फिर इसे पी जाएं।
  • अगर चाहें तो अलसी के चूर्ण को खाने या जूस में मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं।
  • इच्छानुसार इस उपाय को प्रतिदिन या हफ्ते में दो से तीन बार भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

जैसा कि लेख में बताया गया है कि स्तनों का आकार बढ़ने के पीछे एस्ट्रोजन हार्मोन का बढ़ा हुआ स्तर भी हो सकता है। ऐसे में एस्ट्रोजन का स्तर घटाने से स्तनों का आकार कम करने में मदद मिल सकती है। इसके लिए अलसी का बीज लाभकारी साबित हो सकता है। दरअसल, अलसी में एंटीएस्ट्रोजन प्रभाव होता है। जो एस्ट्रोजन का स्तर कम करने में मदद कर सकता है (9)। इस आधार पर छाती कम करने के घरेलू उपाय के तौर पर अलसी के फायदे सहायक हो सकते हैं।

3. अदरक

सामग्री :

  • एक चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक
  • एक कप पानी
  • आधा चम्मच शहद

उपयोग करने की विधि :

  • पानी में कद्दूकस किया हुआ अदरक डालें।
  • फिर इस मिश्रण को एक बर्तन में डालकर उबालें।
  • लगभग पांच मिनट तक इसे उबलने दें।
  • फिर इस पानी को छान लें।
  • ठंडा होने पर इसमें शहद मिलकर पी सकते हैं।
  • इस चाय को दिन में दो से तीन बार पी सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

बढा हुआ वजन भी स्तनों के बड़े आकार का एक कारण हो सकता है (3)। ऐसे में अदरक का इस्तेमाल करना लाभकारी हो सकता है। एक अन्य अध्ययन से यह पता चलता है कि अदरक बढ़े हुए वजन को नियंत्रित करने में फायदेमंद साबित हो सकती है। शोध में जिक्र मिलता है कि अदरक पेट, कमर व कूल्हों पर जमा चर्बी को कम कर सकती है (10)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि छाती कम करने के घरेलू उपाय के तौर पर अदरक का इस्तेमाल किया जा सकता है।

4. ग्रीन टी

सामग्री :

  • एक चम्मच ग्रीन टी या एक ग्रीन टी का बैग
  • एक कप पानी
  • शहद

उपयोग करने की विधि :

  • कप पानी में ग्रीन टी या ग्रीन टी का बैग डालें।
  • फिर इसे पांच मिनट के लिए उबाल लें।
  • जब यह गुनगुना रह जाए, तो इसमें शहद मिलाकर पी लें।
  • इसे रोजाना तीन से चार बार पिया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

वजन कम करके स्तनों का आकार कम करने में ग्रीन टी के फायदे देखे जा सकते हैं। एनसीबीआई पर मौजूद एक शोध के अनुसार, ग्रीन टी में मौजूद कैटेचिन (Catechins) और कैफीन (Epigallocatechin Gallate (EGCG)-Caffeine) के मिश्रण का सेवन बढ़े हुए वजन को कम करने में मदद कर सकता है (11)। इसके अलावा, शहद का इस्तेमाल भी वजन घटाने के लिए किया जा सकता है (12)। इस तरह शहद और ग्रीन टी का यह मिश्रण ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय के तौर पर उपयोगी माना जा सकता है।

5. नीम और हल्दी

सामग्री :

  • 15 से 20 नीम की पत्तियां
  • दो चम्मच हल्दी पाउडर
  • चार गिलास पानी
  • शहद

उपयोग करने की विधि :

  • नीम के पत्तों को पानी में डालकर पांच से दस मिनट के लिए उबालें।
  • जब यह मिश्रण पीने लायक गर्म हो जाए, तब इसमें हल्दी और शहद मिलाएं।
  • फिर हल्का गुनगुना रहने पर इस मिश्रण को पी सकते हैं।
  • इस उपाय का फायदा देखने के लिए कुछ महीनों तक इस मिश्रण का सेवन प्रतिदिन के लिए करना पड़ सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

गर्भावस्था और स्तनपान के समय स्तनों का आकार बढ़ सकता है। इसे कम करने के लिए नीम के फायदे और हल्दी के गुण संयुक्त रूप से अधिक प्रभावी साबित हो सकते हैं। अध्ययनों के मुताबिक, नीम के अर्क में टैनिन (Tannin) नाम का एक खास तत्व होता है, जो ऑक्सीडेटिव तनाव (मुक्त कणों की अधिकता) को कम कर सकता है और वजन घटाने में मददगार हो सकता है (13)। वहीं एनसीबीआई पर मौजूद एक अन्य अध्ययन में यह भी जिक्र मिलता है कि हल्दी में डायटरी फाइबर और स्टार्च (Resistant Starch) की मात्रा होती है। इस वजह से हल्दी के फायदे में मोटापा कम करना भी शामिल है (14)। इन तथ्यों को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि नीम और हल्दी वजन को कम कर ब्रेस्ट कम करने का उपाय साबित हो सकते हैं।

6. गार्सिनिया कंबोजिया (Garcinia Cambogia)

सामग्री :

  • 300-500 mg गार्सिनिया कंबोजिया सप्लीमेंट

उपयोग करने की विधि :

  • 300-500 mg गर्सिनिआ कंबोजा सप्लीमेंट का सेवन करें।
  • रोजाना तीन बार इसका सेवन किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

वजन घटाने के लिए गार्सिनिया कंबोजिया सप्लीमेंट का इस्तेमाल बड़े तौर पर देखा जा सकता है। अध्ययनों से पता चला है कि गार्सिनिया कंबोजिया के फल के छिलके के अर्क में हाइड्रॉक्सिसिट्रिक एसिड होता है, जो एंटी-ओबेसिटी (मोटापा कम करने वाला) प्रभाव प्रदर्शित करता है। यह सेरोटोनिन के स्तर को कम कर सकता है, जिससे भोजन करने की इच्छी में कमी हो सकती है। साथ ही यह शरीर में जमा वसा को कम करने में भी मदद कर सकता है (15)। इस आधार पर ब्रेस्ट कम करने के घरेलू उपाय में गार्सिनिया कंबोजिया को शामिल करना उपयोगी माना जा सकता है।

7. फिश ऑइल कैप्सूल

सामग्री :

  • फिश ऑइल कैप्सूल (एक हजार mg)

उपयोग करने की विधि :

  • फिश ऑइल सप्लीमेंट का सेवन करें।
  • हर रोज कम से कम एक बार इसका सेवन किया जा सकता है।
  • साथ ही, इच्छानुसार आहार में मछली का सेवन भी शामिल किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

ब्रेस्ट साइज कैसे कम करें, इसका जवाब फिश ऑइल भी हो सकता है। फिश ऑइल में ओमेगा- 3 फैटी एसिड मौजूद होता है, जो एंटी-एस्ट्रोजन प्रभाव दिखा सकता है। इससे शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर को कम किया जा सकता है (16)। एक शोध के परिणाम के अनुसार, ओमेगा-3 फैटी एसिड के एंटी-एस्ट्रोजन प्रभाव मोटापे के कारण बढ़े हुए, स्तनों के आकार को कम करने में मददगार हो सकते हैं (17)मछली के तेल के इन गुणों को देखते हुए इसे ब्रेस्ट कम करने के घरेलू उपाय में शामिल किया जा सकता है।

8. स्तनों की मालिश

सामग्री :

  • मालिश के लिए गर्म या गुनगुना तेल (नारियल या जैतून का तेल)

उपयोग करने की विधि :

  • गुनगुना नारियल या जैतून का तेल लें और स्तनों पर लगाएं।
  • धीरे-धीरे दोनों स्तनों की सर्कुलर मोशन में मालिश करें।
  • लगभग 10 मिनट तक मालिश करें और फिर चाहें तो तेल को साफ कर सकते हैं।
  • स्तनों की मालिश की यह प्रक्रिया रोजाना या साप्ताहिक रूप से भी कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

घरेलू तौर पर की जाने वाली मसाज को भी ब्रेस्ट कम करने का उपाय माना जा सकता है। दरअसल, नियमित रूप से मालिश करने से मांसपेशियों की थकान दूर करने में मदद मिलती है। साथ ही रक्त प्रवाह भी बेहतर किया जा सकता है (18)। वहीं अध्ययनों से यह यह भी पुष्टि होती है कि मालिश करने से शरीर की चर्बी कम की जा सकती है, जिससे शरीर के आकार को बेहतर बनाने में कुछ हद तक मदद मिल सकती है (19)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि स्तनों की मालिश करने से उनमें रक्त प्रवाह बढ़ाया जा सकता है। साथ ही इससे स्तनों के बढ़े हुए आकार को कम करने में भी मदद मिल सकती है।

9. डाइट

संतुलित डाइट को भी ब्रेस्ट कम करने का उपाय कहना गलत नहीं होगा। लेख में आपको पहले ही बताया गया है कि फैट युक्त आहार की अधिकता स्तनों का आकार बढ़ने के कारणों में से एक है। ऐसे में वजन को नियंत्रित रखने वाली डाइट को फॉलो करके स्तनों का आकार कम किया जा सकता है। इसके लिए डाइट में फल, सब्जियां व लो फैट डेयरी उत्पाद शामिल कर सकते हैं (20)। वहीं मांसाहार के तौर पर कम वसा युक्त मांस जैसे :- मछली और मुर्गा शामिल किया जा सकता है (21)

नोट : ऊपर दिए गए ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय में इस्तेमाल की गई किसी भी सामग्री से अगर एलर्जी है तो उपयोग करने से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। इसके अलावा अगर किसी भी सामग्री के इस्तेमाल करने के बाद खुजली, जलन या अन्य एलर्जी जैसी प्रतिक्रिया होती है तो उसका उपयोग तुरंत बंद कर दें। इसके बाद भी अगर समस्या बनी रहती है तो बिना देर किए डॉक्टर से परामर्श करें।

स्क्रॉल करें

ब्रेस्ट साइज कम करने के घरेलू उपाय के बाद अब हम ब्रेस्ट कम करने की एक्सरसाइज बताएंगे।

ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए व्यायाम – Exercise to Reduce Breast Size in Hindi

यहां हम ब्रेस्ट को कम करने के उपाय के तौर पर अपनाई जाने वाली कुछ प्रभावी एक्सरसाइज के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं :

1. कार्डियो एक्सरसाइज

कार्डियो एक्सरसाइज को भी ब्रेस्ट कम करने का उपाय माना जा सकता है। दरअसल, अध्ययनों से यह पता चलता है कि कार्डियो एक्सरसाइज वजन घटाने में मदद कर सकते हैं। दरअसल, कार्डियो एक्सरसाइज करने से हृदय की गति बढ़ती है, जो शरीर से ग्लूकोज और वसा को जलाकर कैलोरी बर्न करने में मदद कर सकती है। इस कारण यह मोटापे को नियंत्रित करने में भी मददगार हो सकती है (22)। वहीं लेख में यह पहले ही बताया गया है कि अधिक वजन भी बड़े आकार के स्तनों का एक कारण हो सकता है। इस आधार पर चेस्ट कम करने के उपाय में रोजना जॉगिंग और साइकलिंग जैसे कार्डियो एक्सरसाइज को शामिल किया जा सकता है।

कितनी देर के लिए एक्सरसाइज करें?

रोजाना 20 से 30 मिनट के लिए इस तरह की गतिविधियां की जा सकती हैं।

2. एरोबिक एक्सरसाइज

अगर बढ़ा हुआ वजन घटाकर स्तनों का आकार कम करना चाहती हैं तो एरोबिक एक्सरसाइज को अपनाया जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, एरोबिक एक्सरसाइज करने से वजन घटाया जा सकता है। हालांकि, इसके लिए मॉडरेट इंटेंसिटी एरोबिक एक्सरसाइज (अधिक तीव्रता से की जाने वाली एक्सरसाइज) करना अधिक लाभकारी हो सकता है। वहीं अगर सही आहार के साथ आइसोलेटेड एरोबिक एक्सरसाइज (Isolated Aerobic Exercise) किया जाए तो रक्तचाप और लिपिड के स्तर में सुधार करके वजन कम किया जा सकता है (23)। एरोबिक एक्सरसाइज मुख्य रूप से दौड़ना, तेज गति से तैरना और जंपिंग जैक्स जैसी गतिविधियों को शामिल किया जा सकता है (24)

कितनी बार करें?

प्रतिदिन इन गतिविधियों को करने के लिए 30 मिनट का समय दिया जा सकता है।

  1. पुश-अप

एनसीबीआई पर प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि पुश-अप करने के फायदे में सीने की मांसपेशियों को मजबूत बनाना भी शामिल है (25)। ऐसे में स्तनों के आकार को कम करने के लिए भी इस एक्सरसाइज को अभ्यास में लाया जा सकता है।

कितनी देर करें?

एक बार में करीब 10 से 15 पुश अप किए जा सकते हैं।

आगे पढ़ें लेख

आगे हम ब्रेस्ट को कम करने के उपाय के तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले योगासन के बारे में बताएंगे।

ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए योगा – Yoga to Reduce Breast Size in Hindi

ब्रेस्ट को कम करने के उपाय में योग भी शामिल किया जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, नियमित रूप से योग का अभ्यास करने से शरीर के बीएमआई (Body Mass Index) को बढ़ने से रोका जा सकता है। इससे वजन नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है (26)

इसके अलावा, एक अन्य अध्ययन से यह भी पता चलता है कि योग शरीर का फैट कम करने और मोटापे के कारण होने वाली समस्याओं से बचाव करने में भी मदद कर सकता है। कुछ मामलों में स्ट्रेस के कारण शरीर में बढ़ा हुआ ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस का स्तर भी मोटापे का कारण बन सकता है। ऐसे में योग करके मोटापे को कम किया जा सकता है (27)। इस तरह मोटापा कम करके आसानी से स्तन का आकार भी कम किया जा सकता है। ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए योग में निम्नलिखित योग किए जा सकते हैं (28):

कितनी देर के लिए योग करें?

रोजाना 10 मिनट से लेकर 30 मिनट तक यहां बताए गए आसन कर सकते हैं।

नोट : ब्रेस्ट कम करने के उपाय में एक्सरसाइज या योग शामिल करने से पहले किसी अच्छे विशेषज्ञ से इनकी ट्रेनिंग अवश्य लें। वहीं योग या एक्सरसाइज की शुरुआत ट्रेनर की देखरेख में ही करें।

अंत तक पढ़ें

अंत में आइए अब हम ब्रेस्ट का आकार कम करने के उपाय से जुड़ी कुछ जरूरी टिप्स जान लेते हैं।

ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए कुछ और टिप्स – Other Tips for Reduce Breast Size in Hindi

ब्रेस्ट कम करने के उपाय के साथ-साथ कुछ टिप्स का भी ध्यान रखा जा सकता है, जिनके बारे में हम यहां बता रहे हैं।

  • खान-पान की आदतों पर ध्यान दें। अगर अधिक वजन के कारण स्तनों का आकार बढ़ा हुआ है तो कम वसा और कैलोरी यु्क्त सही डाइट लें।
  • किसी भी तरह का प्रोसेस्ड फूड, ज्यादा चीनी वाला खाना, सॉफ्ट ड्रिंक व तैलीय खाना न खाएं।
  • ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं ताकि आपका शरीर डिटॉक्सिफाई हो सके।
  • समय-समय पर वजन चेक करते रहें।
  • यहां बताए गए किसी भी घरेलू उपाय का बेहतर परिणाम पाने के लिए नियमित तौर पर इनका इस्तेमाल करें।
  • अगर ब्रेस्ट छोटे करने के घरेलू उपाय में योग या एक्सरसाइज की मदद लेना चाहती हैं तो रोजाना तय समय पर ही इनका अभ्यास करें।

अब तो आप समझ ही गए होंगे कि लेख में दिए स्तन कम करने के उपायों के साथ सही खान-पान स्तनों को सही आकार देने में मददगार हो सकता है। तो फिर अधिक क्या सोचना लेख में शामिल सभी जानकारियों को अच्छे से पढ़ें, फिर यहां दिए ब्रेस्ट कम करने के उपाय अमल में लाएं। हालांकि, ब्रैस्ट को छोटा करने के उपाय आजमाने से पहले स्तनों के बड़े होने का मूल कारण भी जररू पता कर लें। ताकि कारण के आधार पर समस्या का सही समाधान हासिल किया जा सके। उम्मीद है, आपको यह लेख पसंद आया होगा। ऐसे में अपने जानने वाले लोगों के साथ भी इस लेख को जरूर शेयर करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या वजन घटाने से ब्रेस्ट साइज छोटा हो जाता है?

हां, जैसा कि बढ़ता वजन भी स्तनों के बड़े आकार का एक कारण हो सकता है (3)। इस आधार पर हम यह कह सकते हैं कि ब्रेस्ट कम करने के तरीके में वजन घटाने के उपाय शामिल करना लाभकारी हो सकता है।

एक सप्ताह में ब्रेस्ट साइज कैसे कम करें?

एक हफ्ते में ब्रेस्ट साइज कैसे कम करें, अगर यह सवाल आपके मन में हैं तो बता दें कि इसके लिए ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी के अलावा दूसरा कोई विकल्प नहीं है (29)। वहीं लेख में शामिल ब्रेस्ट छोटा करने का उपाय अपना प्रभाव दिखने में थोड़ा समय जरूर ले सकते हैं, लेकिन धैर्य के साथ इन्हें अपनाने से बेहतर परिणाम हासिल किए जा सकते हैं।

स्तनों का आकार कम करने का सबसे तेज उपाय क्या है?

जैसा कि आप जानते ही होंगे कि हमारी शारीरिक गतिविधियां और खान-पान की आदत हमारे शरीर को सबसे तेजी से प्रभावित करती हैं। वहीं लेख में बताया भी गया है कि मोटापा और फैट युक्त आहार की अधिकता बढ़े हुए स्तनों का एक मुख्य कारण हो सकती है। ऐसे में वजन को नियंत्रित रखने वाली डाइट के माध्यम से स्तनों का आकार तेजी से घटाया जा सकता है (20)। ब्रेस्ट छोटा करने के उपाय में आप किस तरह की डाइट फॉलो कर सकते हैं, इसके लिए आप लेख में बताए गए उपाय पढ़ सकते हैं।

क्या सप्लीमेंट्स का सेवन करने से स्तनों का आकार कम किया जा सकता है?

हां, इस लेख में बताए गए गार्सिनिया कंबोजिया सप्लीमेंट व फिश ऑइल कैप्सूल जैसे सप्लीमेंट्स ब्रेस्ट कम करने के उपाय में कारगर हो सकते हैं (15) (17)। इसके अलावा, कुछ अन्य सप्लीमेंट्स भी स्तनों का आकार कम करने में मददगार हो सकते हैं। हालांकि, इस संबंध में विस्तार से एक डॉक्टर ही बेहतर बता सकता है।

क्या स्तनों का आकार कम करना संभव है?

हां, अगर आप यहां बताए गए ब्रेस्ट कम करने के उपाय अपनाते हैं व उचित एक्सरसाइज और योग का नियमित अभ्यास करते हैं तो स्तनों का आकार कम किया जा सकता है। इसके अलावा सीना कम करने के उपाय के साथ ही संतुलित आहार भी इस काम में अहम् भूमिका निभा सकता है।

क्या मालिश की मदद से स्तनों का आकार कम किया जा सकता है?

हां, हम लेख में बता चुके हैं कि मालिश करने से स्तनों में रक्त प्रवाह बढ़ाया जा सकता है और मांसपेशियों की थकान दूर की जा सकती है (18)। इसके अलावा मालिश करने से शरीर की चर्बी घटाने में मदद मिल सकती है (19), जिससे स्तनों के आकर पर भी सकारात्मक प्रभाव दिख सकता है। इस आधार पर कई कंपनियां हैं जो ब्रेस्ट साइज कम करने की दवा बनाने का दावा करती हैं। हालांकि, इनका इस्तेमाल करना सुरक्षित है या नहीं, इस बारे में शोध की कमी है। इसलिए इस मामले में डॉक्टर से परामर्श करना ही बेहतर होगा।यह कहा जा सकता है कि छाती कम करने के घरेलू उपाय में मालिश को भी जगह दी जा सकती है।

Sources

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख