घरेलू उपचार

स्तनों के आकार को कम करने के घरेलू नुस्खे – How To Reduce Breast Size Naturally in Hindi

by
स्तनों के आकार को कम करने के घरेलू नुस्खे – How To Reduce Breast Size Naturally in Hindi Hyderabd040-395603080 January 11, 2019

छरहरी काया हर महिला को पसंद होती है और इस छरहरी काया को खूबसूरत बनाते हैं स्तनों के सही आकार। अगर स्तनों का आकार जरूरत से कम या ज्यादा हो, तो उससे महिला की खूबसूरती प्रभावित होती है। बढ़ते वजन, गर्भावस्था और अन्य कारणों से अक्सर स्तनों का आकार बढ़ जाता है। इन बड़े स्तनों के कारण कई बार महिलाएं अपने पसंद के कपड़े नहीं पहन पाती हैं और उन्हें असहज भी महसूस होता है। ऐसे में महिलाओं के मन में यह सवाल उठता है कि ब्रेस्ट कम कैसे करें? हालांकि, इसके लिए वो कई तरह के उपाय अपनाती हैं। यहां तक कि सर्जरी और दवाइयों तक की मदद लेती हैं, लेकिन इनका साइड इफेक्ट होने का खतरा रहता है। ऐसे में जरूरी है कि वक्त रहते स्तनों के आकार पर ध्यान देकर उन्हें सामान्य आकार में लाया जाए। इस लेख में हम स्तन कम करने के उपाय आपको बता रहे हैं, जो काफी आसान हैं।

विषय सूची


पहले हम यह जान लेते हैं कि स्तनों का आकार बढ़ने के कारण क्या हैं।

स्तनों के आकार बढ़ने के कारण – Factors That Affect The Breast Size in Hindi

स्तनों के आकार में वृद्धि होने के कई कारण है और उन्हीं में से कुछ कारण हम नीचे आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

अनुवांशिक – स्तनों के आकार में बदलाव के लिए आपके जीन्स अहम भूमिका निभाते हैं। यह उन हॉर्मोंस के स्तर को प्रभावित करते हैं, जो आपके ब्रेस्ट टिश्यू पर असर डालते हैं।

वजन – आपके स्तन छोटे हों या बड़ें, लेकिन एक बात जिसे हम अनदेखा नहीं कर सकते, वो यह कि आपके ब्रेस्ट टिश्यू फैट से बने होते हैं। इसलिए, जब वजन घटेगा या बढ़ेगा, तो आपके स्तनों का आकार भी उसी हिसाब से बदलेगा।

आयु – जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपके स्तनों के आकार में भी बदलाव आने लगता है। लिंगामेंट एक प्रकार के कनेक्टिव टिश्यू होते हैं, जो स्तनों की पकड़ बनाए रखने में मदद करते हैं, लेकिन उम्र बढ़ने के साथ ये कमजोर होने लगते हैं और परिणामस्वरूप स्तन ढीले हो जाते हैं।

स्तनपान – हॉर्मोन भी आपके स्तनों के आकार में बदलाव का एक कारण है। हॉर्मोन के उतार-चढ़ाव के कारण भी आपके स्तनों के आकार में बदलाव होते हैं। जब आप स्तनपान कराती हैं, तो भी आपके स्तनों का आकार बढ़ता है, लेकिन वक्त के साथ-साथ कम भी हो जाते हैं।

अब आपको स्तनों के आकार में बदलाव के कारण तो पता चल ही गए हैं, तो क्यों न अब स्तन कम करने के उपाय के बारे में जानें?

नीचे हम ब्रेस्ट कम करने के उपाय (How to reduce breast size in hindi) के बारे में बता रहे हैं। ये बहुत ही आसान घरेलू उपाय हैं।

1. मेथी

Breast kam karne ke liye Methi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • तीन चम्मच मेथी
  • पानी (आवश्यकतानुसार)

उपयोग करने की विधि

  • रातभर के लिए मेथी को पानी में भिगोएं।
  • अगले दिन मेथी को थोड़े पानी के साथ पीसकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने स्तनों पर लगाएं।
  • फिर इसे सूखने दें और उसके बाद धो लें।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हफ्ते में तीन से चार बार यह पेस्ट लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

मेथी में कई गुण हैं, जो आपके स्तनों के आकार को कम करने में मदद करेंगे। मेथी के पेस्ट को लगाने से आपके स्तनों को सही आकार मिलेगा और ज्यादा बड़े या झुके हुए नहीं नजर आएंगे (1)।

2. अलसी

Breast kam karne ke liye Alsi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक चम्मच पीसी हुई अलसी
  • एक गिलास गर्म पानी

उपयोग करने का तरीका

  • एक चम्मच अलसी के पाउडर को गर्म पानी में मिलाएं।
  • फिर इसे पिएं।
  • आप चाहें तो अलसी के पाउडर को अपने खाने या जूस में मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हर रोज एक बार इसका सेवन करें।

कैसे फायदेमंद है ?

अलसी में एस्ट्रोजन के स्तर को कम करने के गुण होते हैं (2), (3)। एस्ट्रोजन एक प्रकार का हॉर्मोन होता है, जो स्तनों की कोशिकाओं को फैलने में मदद करता है। जब एस्ट्रोजन का स्तर कम होता है, तो स्तनों का आकार भी कम होता है।

3. अदरक

Breast kam karne ke liye Adrak Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक
  • एक कप पानी
  • शहद

उपयोग करने का तरीका

  • एक कप पानी में एक चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक डालें।
  • फिर इस मिश्रण को एक बर्तन में डालकर उबालें।
  • इसे पांच मिनट के लिए उबलने दें और फिर छान लें।
  • अब इसे ठंडा करें और फिर शहद डालकर पिएं।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप इस चाय को पूरे दिन में दो से तीन बार पिएं।

कैसे फायदेमंद है ?

आपके स्तन मुख्य रूप से फैटी ऊतकों से बने होते हैं। अदरक की चाय का नियमित सेवन करने से आपका चयापचय दर (metabolic rate) बढ़ता है और आपके स्तनों में जमा फैट कम होने लगता है (4), (5)।

4. ग्रीन टी

Breast kam karne ke liye Green tea Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक चम्मच ग्रीन टी या एक ग्रीन टी का बैग
  • एक कप पानी
  • शहद

उपयोग करने का तरीका

  • एक कप पानी में ग्रीन टी डालें।
  • फिर इसे पांच मिनट के लिए उबाल लें।
  • चाय को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने दें और उसके बाद शहद मिला लें।
  • उसके बाद इसे पिएं।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हर रोज तीन से चार बार ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

ग्रीन टी एक अद्भुत उपाय है, जो आपके स्तनों के आकार को कम करने में मदद करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो आपके शरीर के चयापचय दर (metabolic rate) को बढ़ाते हैं (6)। ब्रेस्ट कम करने के उपाय में यह एक आसान उपाय तो है ही, साथ ही इससे न सिर्फ स्तनों के आकार में बदलाव आएगा, बल्कि यह वजन कम करने और आपको स्वस्थ रखने में भी मदद करेगा।

5. नीम और हल्दी

Breast kam karne ke liye Neem aur Haldi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • मुट्ठीभर नीम के पत्ते
  • दो चम्मच हल्दी पाउडर
  • चार गिलास पानी
  • शहद

उपयोग करने का तरीका

  • नीम के पत्तों को पानी में डालकर पांच से दस मिनट के लिए उबाल लें।
  • जब यह मिश्रण पीने लायक गर्म हो जाए, तब इसमें दो चम्मच हल्दी और शहद मिला लें।
  • फिर इस मिश्रण को पिएं।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप कुछ महीनों तक इस मिश्रण को हर रोज पिएं।

कैसे फायदेमंद है ?

अगर आप गर्भावस्था के बाद या स्तनपान के बाद अपने स्तनों का आकार कम करना चाह रही हैं, तो यह घरेलू नुस्खा बहुत फायदेमंद हो सकता है। जब आप स्तनपान कराती हैं, तो सूजन के कारण आपके स्तनों का आकार बड़ा हो जाता है। नीम और हल्दी सूजन को और एक्स्ट्रा फैट को कम करने में मदद करता है और स्तनों के आकार को कम करता है (7), (8)।

6. गार्सिनिया कंबोजिया (Garcinia Cambogia)

Breast kam karne ke liye Garcinia Cambogia Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • 300-500 mg गार्सिनिया कंबोजिया का सप्लीमेंट

उपयोग करने का तरीका

  • 300-500 mg गर्सिनिआ कंबोजा के सप्लीमेंट का सेवन करें।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हर रोज तीन बार इसका सेवन कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

गार्सिनिया कंबोजिया में फैट बर्निंग गुण होते हैं। इसके नियमित सेवन से आपका चयापचय दर (metabolic rate) बढ़ता है, जिससे आपका वजन आसानी से कम हो सकता है (9)।

7. फिश ऑइल कैप्सूल

Breast kam karne ke liye Fish oil capsule Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • फिश ऑइल कैप्सूल (एक हजार mg)

उपयोग करने का तरीका

  • आप फिश ऑइल सप्लीमेंट का सेवन करें।
  • आप हर दूसरे दिन मछली को अपने खाने में शामिल भी कर सकते हैं।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हर रोज कम से कम एक बार इनका सेवन करें।

कैसे फायदेमंद है ?

फिश ऑइल में ओमेगा 3- फैटी एसिड मौजूद होता है। इन फैटी एसिड में एंटी-एस्ट्रोजन गुण मौजूद होते हैं, जो आपके शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर को कम करते हैं (10)। इससे आपके स्तनों का आकार भी कम हो सकता है।

8. स्तनों की मालिश

Breast kam karne ke liye Massage Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • मालिश के लिए गर्म तेल (नारियल या जैतून का तेल)

उपयोग करने का तरीका

  • गुनगुना नारियल या जैतून का तेल लें और अपने स्तनों पर लगाएं।
  • धीरे-धीरे दोनों स्तनों की सर्कुलर मोशन में मालिश करें।
  • आप 10 मिनट तक मालिश करें और फिर चाहें तो तेल को साफ कर लें।

कितनी बार उपयोग करें ?

आप हर रोज मालिश करें।

कैसे फायदेमंद है ?

हर रोज स्तनों की मालिश से आपके ब्रेस्ट टिश्यू में जमे फैट कम हो सकते हैं (11)।

9. डाइट

Breast kam karne ke liye Diet Pinit

Shutterstock

सिर्फ घरेलू नुस्खे ही नहीं, बल्कि आपकी डाइट भी आपके स्तनों के आकार को कम करने में अहम भूमिका निभाती है। अगर आप आहार में जरूरत से ज्यादा कैलोरी शामिल करते हैं, तो आपका वजन बढ़ने लगता है और इसी का नतीजा होता है कि आपके स्तन बड़े होने लगते हैं। इसलिए, ऐसे खाद्य पदार्थ का सेवन करें, जो आपके फैट को कम करे। आप खाने में सब्जी, मछली व फलों को शामिल करें। साथ ही आप फैटी फूड जैसे – रेड मीट, चीज, क्रीम या तैलीय खाने से दूर रहें।

यहां ब्रेस्ट कम करने का तरीका तो आपने जान ही लिया, अब वक्त है ब्रेस्ट कम करने की एक्सरसाइज के बारे में जानने का।

10. ब्रेस्ट कम करने की एक्सरसाइज

  • जॉगिंग करना
Breast kam karne ke liye exercise Pinit

Shutterstock

किसी भी तरह की कार्डिओ एक्सरसाइज आपके शरीर के फैट को कम करने में मदद करती है। इसलिए, अपने स्तनों के आकार को कम करने के लिए रोज जॉगिंग करें, दौड़ें या साइकिल चलाएं। इससे न सिर्फ आपके स्तनों का आकार कम होगा, बल्कि आप तंदरुस्त भी महसूस करोगे।

कितनी देर के लिए एक्सरसाइज करें ?

आप हर रोज 20 से 30 मिनट के लिए एक्सरसाइज करें।

  • पुश-अप
Breast kam karne ke liye Push-up Pinit

Shutterstock

पुश-अप करने से भी आपके स्तनों का आकार कम हो सकता है।

कितनी बार करें

हर रोज 15 से 20 पुश-अप करें।

  • स्विमिंग
Breast kam karne ke liye Swimming Pinit

Shutterstock

स्विमिंग करने से आपके सीने और कंधों के मांसपेशियों पर असर पड़ता है। इससे आपके स्तनों को सही आकार मिलेगा।

कितनी देर ?

करीब 20 मिनट करें।

  • योग
Breast kam karne ke liye Yoga Pinit

Shutterstock

योग से कई बीमारियां ठीक हो जाती हैं और यह वजन कम करने के लिए भी एक अच्छा उपाय है। आप अपने स्तनों के आकार को कम करने के लिए प्रणाम आसन, अर्ध चंद्रासना व मंडूकासन कर सकते हैं।

कितनी देर के लिए योग करें

हर योगासन को 10-20 सेकंड के लिए करें।

नोट : ऊपर दिए गए स्तन कम करने के उपाय में इस्तेमाल की गई किसी भी सामग्री से अगर आपको एलर्जी हो, तो उपयोग करने से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञ से जरूर पूछ लें। इसके अलावा, अगर किसी भी सामग्री के इस्तेमाल करने के बाद आपको खुजली, जलन या अन्य एलर्जी जैसी समस्या महसूस हो, तो उसका उपयोग तुरंत बंद करें और डॉक्टर से सलाह लें। साथ ही जो भी एक्सरसाइज या योग करें, उसे अच्छे विशेषज्ञ से ट्रेनिंग लेने के बाद या ट्रेनर की देखरेख में ही करें। अगर किसी भी एक्सरसाइज या योग को करते वक्त या उसके बाद आपको असहज महसूस हो, तो उसे तुरंत बंद करें।

स्तनों के आकार कम करने के कुछ अन्य टिप्स

ब्रेस्ट कम करने के उपाय के साथ-साथ आप कुछ और टिप्स का भी ध्यान रख सकते हैं, जिनके बारे में हम यहां बता रहे हैं।

  • अपने खान-पान पर ध्यान दें यानि सही डाइट लें।
  • किसी भी तरह का प्रोसेस्ड फूड, ज्यादा चीनी वाला खाना, सॉफ्ट ड्रिंक व तैलीय खाना न खाएं।
  • ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं, ताकि आपका शरीर डिटॉक्सिफाई हो सके।
  • अपना वजन हमेशा चेक करते रहें।
  • ब्रेस्ट कम करने की एक्सरसाइज करने के साथ-साथ नियमित रूप से अन्य भी व्यायाम करें।

आप यहां बताए गए स्तन कम करने के उपायों को आजमाएं और सही खान-पान व अच्छी जीवनशैली को अपनाएं, क्योंकि सिर्फ ब्रेस्ट कम करने का तरीका ही नहीं, बल्कि सही दिनचर्या भी बहुत जरूरी है। इन उपायों को आजमाने के बाद अपने अनुभव हमारे साथ कमेंट बॉक्स में शेयर करना न भूलें।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

संबंधित आलेख