त्वचा की देखभाल
Stylecraze

कैलामाइन लोशन के 21 अद्भुत फायदे – Amazing Benefits Of Calamine Lotion in Hindi

by
कैलामाइन लोशन के 21 अद्भुत फायदे – Amazing Benefits Of Calamine Lotion in Hindi February 8, 2019

विश्व स्वास्थ्य संगठन की जरूरी दवाओं की सूची में कैलामाइन लोशन भी शामिल है। यह जिंक ऑक्साइड और फेरिक ऑक्साइड का एक प्रभावी मिश्रण है। इसे फिनोल और कैल्शियम हाइड्रॉक्साइड जैसे जरूरी तत्वों के साथ मिलाकर बनाया जाता है। शरीर से जुड़ी समस्याओं के लिए इसका उपयोग लगभग 1500 ईसा पूर्व से किया जा रहा है। त्वचा संबंधी बैक्टीरियल और फंगल इंफेक्शन के लिए कैलामाइन एक प्रभावी उपचार है। इस लेख के जरिए जानिए कि आपके शरीर से जुड़ी कौन-कौन से परेशानियों के लिए कैलामाइन लोशन फायदेमंद है।

विषय सूची


कैलामाइन लोशन क्या है और यह कैसे काम करता है? – What Is Calamine Lotion And How Does It Work in Hindi?

कैलामाइन लोशन एक दवा है, जो खुजली का इलाज करती है। इसका उपयोग कीड़े के काटने, सनबर्न, हल्के त्वचा संबंधी रोग और बीमारियों का इलाज करने में किया जाता है।

कैलामाइन अपने काउंटर-इरिटेंट प्रभाव के चलते काम करता है। जब आप इस लोशन को लगाते हैं, तो यह भाप में बदलकर त्वचा पर शीतल प्रभाव छोड़ता है। इस लोशन का कूलिंग प्रभाव खुजली और जलन से त्वचा को राहत देने का काम करता है। इस लोशन में जिंक ऑक्साइड के साथ-साथ एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी मौजूद होता है, जो शरीर के लिए कई मायनों में लाभ पहुंचाता है।

नीचे कैलामाइन लोशन के फायदों के बारे में विस्तार से जानिए।

कैलामाइन लोशन के लाभ क्या हैं? Benefits Of Calamine Lotion in Hindi

1. मुंहासों का इलाज

कैलमाइन, जिंक ऑक्साइड के अलावा एंटी इंफ्लेमेटरी गुण से भी समृद्ध होता है। अध्ययनों से पता चला है कि यह लोशन मुंहासों का उपचार प्रभावी रूप से करता है (1)।

कैसे करें इस्तेमाल

आप मुंहासों के इलाज के लिए लोशन का उपयोग कर सकते हैं। सिस्ट से मवाद बाहर निकालने के लिए सबसे पहले स्टीम चेहरे पर लें। फिर, बैक्टीरिया को मारने के लिए कॉटन की मदद से टी ट्री तेल मुंहासों पर लगाएं। अब एक या दो बूंद कैलमाइन की कॉटन पर डालें और मुहांसों पर लगाएं। प्रभावित क्षेत्र पर धीरे-धीरे लोशन को मलें और तीन घंटे के लिए छोड़ दें। अब गुनुगने पानी से चेहरे को साफ कर लें। यह प्रक्रिया दिन में दो बार दोहराएं।

2. डार्क स्पॉट्स हटाने में लाभदायक

कैलामाइन में काओलिन नाम का एक विशेष तत्व पाया जाता है , जो चेहरे से काले धब्बे हटाने में कारगर माना गया है।

कैसे करें इस्तेमाल

कैलामाइन का इस्तेमाल करने के लिए आप सबसे पहले चेहरे को साफ पानी से धो लें और तौलिये से अच्छी तरह पोंछ लें। अब कॉटन की मदद से प्रभावित क्षेत्र पर कैलामाइन लोशन लगाएं। इस लोशन का इस्तेमाल आप रात में करें और सुबह चेहरे को पानी से धो लें। ध्यान रहे कि लोशन आंखों के आसपास न जाने पाए।

3. सूखी त्वचा को देता है आराम

शुष्क त्वचा के इलाज के लिए भी कैलामाइन लोशन का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप सबसे पहले कॉटन पर लोशन की कुछ बूंदें डालें और प्रभावित क्षेत्र पर धीरे-धीरे रगड़ें। आप तीन घंटे तक लोशन को लगा रहने दें और बाद में गुनगुने पाने से धो लें।

4. डायपर रैशेज

Diaper Rashes Pinit

Shutterstock

त्वचा की जलन को कम करने के लिए कैलामाइन लोशन का उपयोग किया जाता है। इसलिए, इसका प्रयोग बच्चों के डायपर रैशेज को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। यह लोशन त्वचा को नमी से मुक्त रखकर रैशेज को दोबारा आने से रोकता है।

कैसे करें इस्तेमाल

डायपर रैशेज के लिए आप सीधे कैलामाइन की कुछ बूंदों या कॉटन की मदद से बच्चे के डायपर रैशेज पर लगा सकते हैं। लोशन प्रभावित जगह पर अच्छी तरह लगाएं और कुछ देर के लिए छोड़ दें। अगर लोशन लगाने के बावजूद बच्चे की त्वचा पर असर नहीं दिखता है, तो संबंधित डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

5. गर्भावस्था के दौरान खुजली से राहत

प्रुराइटस गर्भवती महिलाओं को होने वाली आम समस्या है। इसकी वजह से शरीर में खुजली शुरू होती है। अध्ययनों के अनुसार, एंटीपयरेटिक के रूप में कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल किया जा सकता है (2)।

कैलामाइन के प्रभावी रूप के कारण ही अमेरिकन प्रेग्नेंसी एसोसिएशन गर्भावस्था के दौरान खुजली को रोकने के लिए कैलामाइन का उपयोग करने का सुझाव देती है।

कैसे करें इस्तेमाल

कैलामाइन का इस्तेमाल करने के लिए आप सीधे कुछ बूंदें प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं या फिर कॉटन की मदद से इसे लगा सकते हैं। अगर एक हफ्ते में सुधार नहीं आता, तो आप संबंधित डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

6. मच्छर काटने से राहत

कैलामाइन लोशन में मौजूद जिंक ऑक्साइड त्वचा के संपर्क में आने पर ठंडक पैदा करता है। इससे मच्छर या चिंटी के काटने से राहत मिलती है। यह लोशन सूजन को भी कम करने में मदद करता है।

कैसे करें इस्तेमाल

प्रभावित क्षेत्र पर लोशन लगाएं और धीरे-धीरे मालिश करें। दिन में कई बार लोशन को लगाएं। अध्ययन से पता चला है कि इस लोशन को कीड़े के काटने और हल्के डंक का इलाज करने में इस्तेमाल किया जा सकता है (3)।

7. आर्मपिट रैशेज का इलाज

कैलामाइन लोशन शरीर के चकत्तों पर समान रूप से काम करता है। यह आर्मपिट रैशेज से दिनभर होने वाली जलन और बेचैनी से राहत दिलाने का प्रभावी उपचार है। कैलामाइन लोशन हिलिंग की प्रक्रिया भी तेज करता है।

कैसे करें इस्तेमाल

आप अपनी उंगलियों पर थोड़ा लोशन लें और प्रभावित जगह पर लगाएं। जरूरत महसूस होने पर दिन में कई बार यह प्रक्रिया दोहराएं।

8. चिकन पॉक्स के फफोलों का इलाज

चिकन पॉक्स एक दर्दनाक शारीरिक समस्या है, जिससे शरीर पर दाग और फफोले पड़ जाते हैं। इन फफोलों से छुटकारा पाने के लिए कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस लोशन में फिनोल, मेन्थॉल और कपूर मौजूद होता है। ये सभी मिलकर संक्रमित त्वचा को शांत और फफोलों को सूखाने का काम करते हैं (4)।

कैसे करें इस्तेमाल

लोशन को फफोलों (अतिरिक्त सावधानी के साथ) पर लगाने से वो जल्द सूख सकते हैं और आप असुविधा से राहत पा सकते हैं। लोशन की कुछ मात्रा अपने फफोले पर लगाएं, लेकिन ध्यान रखें कि लोशन आंखों और मुंह के आसपास के क्षेत्रों पर न लगे। फफोलों के लिए हाइड्रोकार्टिसोन क्रीम का इस्तेमाल न करें, क्योंकि यह क्रीम आपके फफोलों को ठीक करने में रुकावट पैदा कर सकती है।

चिकन पॉक्स के दौरान खुजली से बचने के लिए आप कैलामाइन को कोलाइडयन ओटमील बाथ में भी मिला सकते हैं (5)।

9. एक्जिमा और सोरायसिस का इलाज

Treatment of Eczema and Psoriasis Pinit

Shutterstock

एक्जिमा और सोरायसिस के इलाज के लिए कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल किया जा सकता है। इन्हें ठीक करने के लिए लोशन में मौजूद जिंक ऑक्साइड और फेरस ऑक्साइड की भूमिका अहम होती है। जिंक ऑक्साइड एक कारगर एंटीसेप्टिक है, जो संक्रमण को रोकता है और फेरस ऑक्साइड त्वचा की टोन में सुधार लाता है।

कैसे करें इस्तेमाल

त्वचा को अच्छी तरह साफ करें और लोशन की कुछ मात्रा लगाएं। अत्यधिक मात्रा में लोशन का उपयोग न करें। इसे लगाने से खुजली कम होती है और त्वचा ठीक होने लगती है।

10. जननांग मस्सों का उपचार

जननांग मस्सों के उपचार के लिए भी आप कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह जननांग मस्सों को ठीक करता है और वायरस को भी मारने का काम करता है। अभी इस पर और शोध होना बाकी है, इसलिए मस्सों के लिए इस लोशन का इस्तेमाल करने से पहले अपने संबंधित चिकित्सक से परामर्श जरूर कर लें।

11. पित्ती का इलाज

पित्ती और इससे होने वाली खुजली से राहत पाने के लिए आप कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस लोशन को लगाने से त्वचा को ठंडक मिलती है।

कैसे करें इस्तेमाल

लोशन की कुछ मात्रा कॉटन पैड या साफ सूती कपड़े पर लगाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।

12. दाद का इलाज

हालांकि, कैलामाइन लोशन पूरी तरह से दाद से आपको राहत नहीं दे सकता, लेकिन खुजली और असुविधा से आपको अस्थायी आराम दे सकता है। बेहतर उपचार के लिए संबंधित चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।

13. नाखूनों के संक्रमण से निजात

Nail infection Pinit

Shutterstock

नाखूनों के संक्रमण से निजात पाने के लिए कैलामाइन का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें मौजूद जिंक ऑक्साइड फंगस का इलाज कर सकता है, लेकिन इस संबंध में अभी और शोध होना बाकी है। इसमें एंटिफंगल गुण नहीं होते, इसलिए यह नाखूनों के फंगस का इलाज किस प्रकार करता है, इस बारे में अभी स्पष्ट तौर पर कुछ भी संभव नहीं है। नाखूनों के संक्रमण के लिए लोशन का इस्तेमाल करने से पहले संबंधित चिकित्सक से जरूर सलाह लें।

14. तैलीय त्वचा के लिए कारगर

कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि कैलामाइन लोशन आपके टी-जोन को दिन में कम से कम 9 घंटों तक रोक कर रख सकता है।

कैसे करें इस्तेमाल

आप अपने चेहरे विशेषकर टी-जोन पर लोशन लगा सकते हैं। कुछ व्यक्तियों ने कैलामाइन लोशन का उपयोग करने के बाद खुजली होने की शिकायत की है, इसलिए आप इसे लगाने से पहले पैच टेस्ट जरूर कर लें। इसके अलावा, सूखी त्वचा के लिए लोशन का उपयोग न करें।

15. त्वचा के छिद्र

इस पर बहुत कम शोध हुआ है। जानकारी के अनुसार, कैलामाइन लोशन त्वचा को शांत कर सकता है और त्वचा के छिद्रों को भी खोल सकता है।

16. खुजली का इलाज

कैलामाइन लोशन लगाने से खुजली और दर्द को कम करने में मदद मिल सकती है।

कैसे करें इस्तेमाल

अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी के अनुसार, प्रभावित क्षेत्रों पर कैलामाइन लोशन लगाने से खुजली का इलाज किया जा सकता है (6)। नहाने के बाद आप त्वचा पर लोशन लगा सकते हैं। लोशन संक्रमित त्वचा को आराम देने का काम करेगा (7)।

17. योनी में इचिंग

कैलामाइन लोशन शरीर की खुजली से राहत देने का काम करता है। योनी में होने वाली इचिंग के लिए आप इस लोशन का प्रयोग कर सकते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

कैलामाइन लोशन की कुछ मात्रा प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।

18. जख्म भरने में मददगार

Wound healing Pinit

Shutterstock

कैलामाइन में मौजूद जिंक जल्द जख्म भरने का काम करता है। इसमें मौजूद खनिज घावों को ठीक कर त्वचा का इलाज करता है। यह लोशन रोगाणुओं को बढ़ने से भी रोकता और किसी भी प्रकार के संक्रमण से त्वचा की रक्षा करता है।

19. यीस्ट इन्फेक्शन से निजात

यीस्ट इन्फेक्शन एक प्रकार का फंगल इन्फेक्शन है, जो महिलाओं के योनी क्षेत्र को प्रभावित करता है। कैलामाइन इस फंगल संक्रमण के लिए कितना कारगर है, इस विषय में कुछ सटीक नहीं कहा जा सकता है। हमारे पास जो जानकारी है, वह केवल लोगों के व्यक्ति अनुभव पर आधारित है। इसलिए, यीस्ट इन्फेक्शन के लिए इसका प्रयोग करने के पहले संबंधित डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

20. पॉइजन आइवी रैश

प्रभावित क्षेत्रों पर कैलामाइन लोशन लगाने से पॉइजन आइवी रैश से राहत मिल सकती है। इसे लगाते समय ध्यान रखें कि आपकी त्वचा ज्यादा सूखी नहीं हो जाए, जो ज्यादा दिनों तक लोशन लगाने से हो सकती है (8)।

21. स्केबीज का इलाज

यह संक्रामक त्वचा रोग काफी दर्दनाक हो सकता है। लाल धब्बों के साथ खुजली आपको परेशान कर सकती है। कैलामाइन लोशन लगाने से आप इस समस्या से कुछ हद तक राहत पा सकते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

प्रभावित जगह पर कैलामाइन लोशन लगाएं और फिर ठंडे पानी से स्नान करें। ऐसा करने से आपको खुजली से राहत मिलेगी (9)।

ऊपर बताई गईं शारीरिक समस्याओं के लिए आप कैलामाइन लोशन का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन इसका अधिक प्रयोग आपकी त्वचा के लिए घातक सिद्ध हो सकता है।

नीचे जानिए इसके कुछ नकारात्मक प्रभाव के बारे में।

कैलामाइन लोशन के साइड इफेक्ट्स क्या हैं? – Side Effects of Calamine Lotion in Hindi

कैलामाइन लोशन के अधिक उपयोग से जुड़े बहुत कम प्रतिकूल प्रभाव हैं। फिर भी अगर इसे लगाने पर आपको जलन महसूस होती है, तो इसका उपयोग बंद कर दें और वैकल्पिक दवा के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करें। साइड इफेक्ट्स के नाम पर इससे जीभ, गले या चेहरे पर पित्ती और सूजन की समस्या हो सकती है।

त्वचा रोगों के लिए कैलामाइन लोशन अंतिम इलाज नहीं हो सकता, लेकिन यह जरूर सुनिश्चित करता है कि कुछ त्वचा रोगों के लक्षणों से राहत मिल सकती है। अगर आप भी लेख में बताई गई किसी त्वचा संबंधी समस्या से ग्रसित हैं, तो आज ही इसका इस्तेमाल शुरू कर दें। किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स में सवाल पूछ सकते हैं।

संबंधित आलेख