घरेलू उपचार

चश्मे से नाक पर पड़ने वाले निशानों को हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies To Get Rid of Spectacle Marks in Hindi

by
चश्मे से नाक पर पड़ने वाले निशानों को हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies To Get Rid of Spectacle Marks in Hindi Hyderabd040-395603080 November 20, 2019

चश्मा लगाना कुछ लोगों के लिए फैशन होता है, तो कुछ लोगों के लिए मजबूरी। मजबूरी इसलिए, क्योंकि कई बार खान-पान और बिगड़ी दिनचर्या के कारण नजर कमजोर हो जाती है, जिसके लिए इसे लगाना ही पड़ता है। वहीं, कुछ ऐसे भी हैं, जो इस मजबूरी के साथ जन्म से ही बंध जाते हैं। खैर वजह कुछ भी हो, लेकिन चश्मे के कारण नाक पर निशान पड़ जाते हैं, जो खराब लगते हैं। इससे निजात पाने के लिए हम स्टाइलक्रेज के इस लेख में चश्मे के निशान के कारण के साथ ही चश्मे के निशान को हटाने के घरेलू उपाय बता रहे हैं। ये उपाय इन दागों से राहत पाने में मददगार साबित हो सकते हैं। वहीं, कुछ लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है, तो वो इन घरेलू नुस्खों को प्रयोग करने से पहले त्वचा विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

आइए, सबसे पहले लेख में हम चश्मे के निशान के कारण के बारे में जान लेते हैं। उसके बाद हम आपको चश्में का निशान छुड़ाने के घरेलू उपाय के बारे में भी बताएंगे।

चश्मे के निशान के कारण – Causes of Spectacle Marks in Hindi

चश्मे के निशान के कारण की बात करें, तो यह मुख्य रूप से नाक के स्थान पर होता है, जहां चश्मे का नोज स्टैंड रुकता है। ऐसे में जब आप चश्मे को लगातार पहनते हैं, तो चश्मे के स्टैंड से नाक की त्वचा पर पड़ने वाले दबाव के कारण वहां खून का दौरा रुकने लगता है। खून का दौरा अधिक समय तक रुका रहने के कारण उस जगह की त्वचा डेड हो जाती है और एक गहरा दाग पीछे छूट जाता है (1)। यह दाग चश्मे के आकर, भार और नोज पैड के दबाव पर भी निर्भर करता है। नोज पैड का दबाव जितना अधिक होगा यह दाग उतना ही ज्यादा गहरा हो सकता है। इसलिए, उचित आकार के हल्के और कम दबाव वाले नोज पैड से युक्त चश्मा चुनने की सलाह दी जाती है।

चश्मे के निशान के कारण जानने के बाद हम चश्मे के निशान को हटाने के घरेलू उपाय के बारे में बताएंगे।

चश्मे के निशान हटाने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Spectacle Marks in Hindi

1. एलोवेरा

सामग्री :

  • एलोवेरा की पत्ती का एक छोटा टुकड़ा

कैसे इस्तेमाल करें :

  • सबसे पहले एलोवेरा की पत्ती को बीच से काट लें।
  • अब उसमें मौजूद गूदे को अलग कर लें।
  • निकाले गए गूदे को नाक के प्रभावित हिस्से पर लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में करीब एक से दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

चश्मे के निशान को हटाने के घरेलू उपाय में आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक, एलोवेरा में मॉइस्चराइजिंग और एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं, जो चश्मे के कारण नाक पर बने निशान और सूजन को कम करने में सहायता कर सकते हैं। साथ ही यह डेड स्किन को निकाल कर प्रभावित कोशिकाओं को ठीक करने में मदद कर सकते हैं (2)

2. आलू

सामग्री :

  • एक कच्चा आलू

कैसे इस्तेमाल करें :

  • सबसे पहले आप आलू को घिस लें।
  • अब किसी सूती कपड़े की सहायता से इसके रस को निकाल लें।
  • अब इस रस को प्रभावित क्षेत्र लगाएं और 10 से 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद आप इसे धो डालें।

कैसे है लाभदायक :

आलू के रस में ब्लीचिंग प्रभाव पाया जाता है। इस कारण इसे त्वचा पर मुंहासे के दाग से छुटकारा पाने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमें त्वचा पर मौजूद दाग-धब्बों को दूर करने की अद्भुत क्षमता होती है। इस कारण यह माना जा सकता है कि चश्मे के निशान छुड़ाने के घरेलू उपाय में आलू लाभकारी साबित हो सकता है (3)

3. खीरा

सामग्री :

  • खीरे के दो छोटे टुकड़े।

कैसे इस्तेमाल करें :

  • खीरे के टुकड़े को नाक के प्रभावित स्थान पर हल्के हाथों से रगड़ें।
  • अब इसे पांच से दस मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर आप अपने चेहरे को साफ पानी से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में करीब दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

खीरे का उपयोग त्वचा से संबंधित कई समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक इसमें सनबर्न, कील-मुंहासे और त्वचा की रंगत को साफ करने के विशेष गुण पाए जाते हैं। इन्हीं गुणों के कारण ऐसा माना जा सकता है कि चश्मे से नाक पर पड़ने वाले निशान को दूर करने में भी यह काफी हद तक सहायक साबित हो सकता है (4)

4. नींबू का रस

सामग्री :

  • आधा नींबू
  • एक छोटी कटोरी
  • रूई का एक छोटा टुकड़ा

कैसे इस्तेमाल करें :

  • सबसे पहले आप कटोरी में नींबू का रस निकाल लें।
  • अब उस रस में रूई के टुकड़े को डुबोएं और प्रभावित क्षेत्र पर हल्के हाथ से लगाएं।
  • अब उसे ऐसे ही 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद साफ पानी से उसे धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को सुबह नहाने से पहले और रात में सोने से पहले प्रतिदिन दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

चश्मे के निशान को हटाने के घरेलू उपाय में आप नींबू के रस को भी इस्तेमाल कर सकते हैं। नींबू का रस विटामिन-सी का अच्छा स्रोत है (5)। वहीं, एक शोध में इस बात को प्रमाणित किया गया है कि विटामिन-सी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीएजिंग गुणों के साथ-साथ त्वचा की रंगत को साफ करने की भी विशेष क्षमता होती है (6)। इसी कारण यह माना जा सकता है कि चश्मे के कारण बने निशान को दूर करने में नींबू का रस सहायक साबित हो सकता है।

5. गुलाब जल

सामग्री :

  • दो से तीन बूंद गुलाब जल
  • एक रूई का टुकड़ा

कैसे इस्तेमाल करें :

  • रूई के टुकड़े में गुलाब जल की दो से तीन बूंदें ले लें।
  • अब इसे नाक के प्रभावित क्षेत्र पर अच्छे से लगाएं।
  • अब इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • आप इस प्रक्रिया को सुबह नहाने के बाद और रात में सोने से पहले दोहरा सकते हैं।

कैसे है लाभदायक :

चश्मे के निशान छुड़ाने के घरेलू उपाय में आप गुलाब जल को भी उपयोग कर सकते हैं। बताया जाता है कि गुलाब जल में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जिनके कारण इसे त्वचा के लिए बेहद ही लाभकारी माना गया है। आमतौर पर मुंहासों को दूर करने और त्वचा को साफ करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है (7)। ऐसे में चश्मे के कारण नाक पर आने वाले दाग को ठीक करने के लिए भी इसे उपयोग में लाया जा सकता है। हालांकि, इस संबंध में अभी अधिक शोध किए जाने की आवश्यकता है।

6. शहद

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • एक चम्मच दूध

कैसे इस्तेमाल करें :

  • किसी बर्तन में आप शहद और दूध को आपस में मिला लें।
  • अब इस मिक्सचर को अपने प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं और 15  मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर साफ पानी से इसे धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को प्रतिदिन एक से दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

शहद में एंटी एलर्जिक, एंटीबैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट और एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होते हैं। इन्हीं गुणों के कारण इसे त्वचा से संबंधित कई समस्याओं को दूर करने के लिए लाभकारी माना गया है। वहीं, मुंहासे और उसके दागों से छुटकारा दिलाने में भी इसे सहायक माना गया है (3)। इस कारण यह माना जा सकता है कि चश्मे के दाग से निजात के लिए भी त्वचा पर इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

7. संतरे का छिलका

सामग्री :

  • दो चम्मच संतरे के सूखे छिलके का पाउडर
  • एक चम्मच दूध

कैसे इस्तेमाल करें :

  • संतरे के छिलके के पाउडर को दूध में मिलाकर इसका पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को नाक के प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं और 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा हो जाने के बाद पानी से इसे धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को दाग जाने तक दिन में एक बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

संतरे के छिलके में एंटीसेप्टिक गुण के साथ स्किन लाइटनिंग (त्वचा की रंगत को साफ करने वाला) प्रभाव पाया जाता है, जो चेहरे पर मौजूद दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है (8)। इस कारण यह कहना गलत नहीं होगा कि चश्मे के निशान छुड़ाने के घरेलू उपाय में संतरे का छिलका एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

8. टमाटर

सामग्री :

  • टमाटर के दो टुकड़े

कैसे इस्तेमाल करें :

  • टमाटर के टुकड़े को लेकर नाक के प्रभावित क्षेत्र पर कुछ देर रगड़ें।
  • फिर इसे 10 से 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद इसे साफ पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में करीब एक से दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

टमाटर सेहत और त्वचा दोनों के लिए लाभकारी माना गया है। इसमें मौजूद एसिड त्वचा को ठीक करने, डेड स्किन को निकालने, बंद रोम छिद्रों को खोलने के साथ-साथ त्वचा को साफ और चमकदार बनाने में मदद करता है (9)। इस कारण यह माना जा सकता है कि चश्मे के कारण बनने वाले दाग से छुटकारा दिलाने में यह मददगार साबित हो सकता है।

9. बादाम तेल की मालिश

सामग्री :

  • दो से तीन बूंद बादाम तेल

कैसे इस्तेमाल करें :

  • बादाम तेल की कुछ बूंदें लेकर आप उंगलियों से नाक की मसाज करें।
  • उसके बाद इसे रात भर ऐसे ही छोड़ दें।
  • सुबह उठकर साफ पानी से चेहरों को धो लें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

बादाम तेल को भी त्वचा के लिए फायदेमंद माना गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक, इसकी मदद से रूखी त्वचा और कटी-फटी त्वचा को ठीक करने के साथ-साथ त्वचा को बेदाग, मुलायम और चमकदार भी बनाया जा सकता है (10)। इस कारण हम यह कह सकते हैं कि बादाम तेल की मदद से चश्मे के दाग से राहत पाई जा सकती है।

10. सेब का सिरका

 सामग्री :

  • एक चम्मच सेब का सिरका
  • एक कप पानी
  • एक रूई का टुकड़ा

कैसे इस्तेमाल करें :

  • एक कप पानी में सेब के सिरके को मिलाएं।
  • अब रूई के टुकड़े को इस मिक्सचर में डुबोकर अपनी नाक पर लगाएं।
  • अब इसे 10 से 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर चेहरे को पानी से धो लें।
  • रात में सोने से पहले इस प्रक्रिया को प्रतिदिन दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

सेहत, त्वचा और बालों से संबंधित कई समस्याओं के लिए सेब के सिरके को लाभकारी माना गया है। इसके साथ ही यह मुंहासों से छुटकारा दिलाकर त्वचा को नरम, मुलायम और बेदाग बनाने में मददगार साबित होता है। दरअसल, इसमें एक्सफोलिएशन (डेड स्किन को बाहर निकालना) का एक खास गुण पाया जाता है, जो त्वचा पर दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है (11)। इस कारण यह कहना गलत नहीं होगा कि सेब के सिरके का उपयोग चश्मे के निशान को हटाने में सहायक साबित हो सकता है।

लेख के अगले भाग में हम आपको चश्मे के निशान से बचाव के कुछ उपाय बताएंगे।

चश्मे के निशान से बचाव  – Prevention Tips for Spectacle Marks in Hindi

चश्मे के निशान से बचाव के लिए आपको निम्न बातों का खास ध्यान रखना होगा।

  • चश्मे को इस्तेमाल करने से पहले एक बार उसे अच्छे से साफ करें।
  • अगर चश्मा पुराना होने की वजह से टाइट महसूस हो रहा है, तो उसे तुरंत बदलवा लें।
  • अगर चश्मे के नोज पैड नाक पर अधिक दबाव डाल रहे हैं, तो उन्हें बदलने के बारे में विचार करें।
  • हमेशा हल्के और आरामदायक फ्रेम का चुनाव करें।
  • जब पसीना आ रहा हो, तो चश्मे को हटा दें या पसीने को पोंछते रहें।
  • चश्मे को थोड़ी-थोड़ी देर में हटा दें, जिससे त्वचा में खून का दौरा बना रहे।

अब तो आपको मालूम चल ही गया होगा कि लगातार चश्मा पहने रहने से नाक पर निशान क्यों पड़ जाते हैं। साथ ही यह भी मुमकिन है कि अगली बार से जब आप चश्मा पहनेंगे, तो चश्में के निशान से बचाव संबंधी बातों को ध्यान जरूर रखेंगे। इसके बावजूद अगर नाक पर निशान पड़ ही जाते हैं, तो फिर लेख में सुझाए गए चश्मे के निशान छुड़ाने के घरेलू उपाय काफी हद तक मदद कर सकते हैं। अगर चश्में के निशान हटाने के लिए इन घरेलू नुस्खों को उपयोग करने के बाद भी कोई फर्क नजर न आए, तो एक बार त्वचा विशेषज्ञ को जरूर दिखाएं। इस विषय से संबंधित कोई अन्य सवाल या सुझाव अगर आपके मन में हो, तो आप उसे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से हम तक पहुंचा सकते हैं।

The following two tabs change content below.

Ankit Rastogi

अंकित रस्तोगी ने साल 2013 में हिसार यूनिवर्सिटी, हरियाणा से एमए मास कॉम की डिग्री हासिल की है। वहीं, इन्होंने अपने स्नातक के पहले वर्ष में कदम रखते ही टीवी और प्रिंट मीडिया का अनुभव लेना शुरू कर दिया था। वहीं, प्रोफेसनल तौर पर इन्हें इस फील्ड में करीब 6 सालों का अनुभव है। प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में इन्होंने संपादन का काम किया है। कई डिजिटल वेबसाइट पर इनके राजनीतिक, स्वास्थ्य और लाइफस्टाइल से संबंधित कई लेख प्रकाशित हुए हैं। इनकी मुख्य रुचि फीचर लेखन में है। इन्हें गीत सुनने और गाने के साथ-साथ कई तरह के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाने का शौक भी हैं।

संबंधित आलेख