त्वचा की देखभाल

चेहरे की झुर्रियों को हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Wrinkles in Hindi

by
चेहरे की झुर्रियों को हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Wrinkles in Hindi Hyderabd040-395603080 November 1, 2019

एक वक्त था जब झुर्रियों को बुढ़ापे की निशानी माना जाता था, लेकिन आज के समय में यह समस्या युवाओं में भी आम हो गई है। कारण है बिगड़ी दिनचर्या और अनियमित खान-पान। वहीं, अनिद्रा, चिंता और तनाव भी इसके अहम कारण हो सकते हैं। ऐसे में अगर आपको भी असमय इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। जरूरत है तो बस अपने घर में एक बार नजर घुमाने की। दरअसल, झुर्रियों का इलाज आपके किचन में ही छिपा है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय के साथ-साथ इसके होने के कारण, लक्षण और इससे बचने के कुछ तरीकों के बारे में भी बताएंगे।

झुर्रियां कम करने के उपाय, कारण और लक्षण जानने से पहले जरूरी होगा कि हम झुर्रियां क्या हैं, इस संबंध में जान लें।

झुर्रियां क्या हैं? – What are Wrinkles in Hindi

जब त्वचा अपनी प्राकृतिक तनाव को खो देती है, तो ऐसी स्थिति में त्वचा पर सिलवटें या सिकुड़न दिखाई देने लगती हैं। त्वचा पर दिखाई देने वाली इसी सिकुड़न को झुर्रियां कहा जाता है। इन्हें मेडिकल टर्म में राइटिड्स के नाम से भी जाना जाता है (1)।

झुर्रियां क्या हैं? यह जानने के बाद अब हम झुर्रियों के कारण क्या-क्या हैं, इस बारे में जानकारी हासिल करेंगे।

झुर्रियों के कारण – Causes of Wrinkles in Hindi

वैसे तो झुर्रियों के कारण कई हो सकते हैं, लेकिन हम यहां इसके कुछ आम कारणों के बारे में बता रहे हैं (1)।

  • आनुवंशिक कारण (पारिवारिक इतिहास)
  • बढ़ती उम्र के कारण त्वचा में बदलाव
  • धूम्रपान
  • अधिक समय तक धूप में रहने के कारण

झुर्रियों के कारण जानने के बाद लेख के आगे के भाग में हम झुर्रियों के लक्षण के बारे में जानेंगे।

झुर्रियों के लक्षण – Symptoms of Wrinkles in Hindi

झुर्रियां खुद बढ़ती उम्र का एक लक्षण हैं। इस कारण इसके कोई विशेष लक्षण नहीं हैं और न ही इसके लक्षणों का प्रमाण, लेकिन कुछ बिंदुओं के माध्यम से इसकी पहचान जरूर की जा सकती है। जैसे :-

  • त्वचा का अधिक पतला होना।
  • आंखे मुंह और गर्दन के चारों ओर महीन रेखाएं दिखाई देना।
  • खासकर चेहरे और गर्दन पर त्वचा का ढीला होना।

झुर्रियों के लक्षण जानने के बाद हम चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय के संबंध में जानकारी हासिल करेंगे।

चेहरे की झुर्रियों को दूर करने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies For Wrinkles in Hindi

1. एग व्हाइट

सामग्री :
  • एक अंडे की सफेदी (एग व्हाइट)
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले एग व्हाइट को अच्छे से फेंट लें।
  • अब इसे प्रभावित त्वचा पर हल्के हाथों से लगाएं।
  • फिर सूखने तक इसे ऐसे ही लगा रहने दें।
  • जब यह त्वचा पर पूरी तरह सूख जाए, तो गुनगुने पानी से इसे धो लें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक से दो बार तक दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

अंडे के सफेद भाग को एग व्हाइट कहते हैं, जिसमें पानी में घुलनशील एक झिल्ली भी शामिल होती है। यह त्वचा को फ्री-रेडिकल्स के कारण होने वाले नुकसान से बचाती है और त्वचा को नमी भी प्रदान करती है। इस कारण सूरज की किरणों से त्वचा को पहुंचने वाले नुकसान के साथ-साथ इसका उपयोग मुंहासों और झुर्रियों की समस्या में भी लाभकारी परिणाम देता है (2)। ऐसे में यह माना जा सकता है कि चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय में एग व्हाइट सकारात्मक परिणाम दे सकता है।

2. एलोवेरा

सामग्री :
  • एक चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक अंडे का एग व्हाइट
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले किसी बर्तन में एलोवेरा जेल और एग व्हाइट को अच्छे से मिक्स कर लें।
  • अब तैयार पेस्ट से अपने चेहरे पर अच्छे से मसाज करें।
  • फिर इसे आधे घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर गुनगुने पानी से चेहरा धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय में एग व्हाइट के फायदे तो आपको लेख में पहले ही बताए जा चुके हैं। वहीं, इसके साथ एलोवेरा जेल का मेल इस समस्या में और भी प्रभावी साबित हो सकता है। दरअसल, एलोवेरा जेल स्किन के लिए एंटी एजिंग की तरह काम करता है। यह त्वचा में कोलेजन (प्रोटीन का एक प्रकार, जो त्वचा में तनाव लाता है और उसे मुलायम बनाता है) की मात्रा को बढ़ाता है और त्वचा की झुर्रियों को दूर करता है (3)।

3. पपीता और केले का फेस मास्क

सामग्री :
  • पपीता का एक छोटा टुकड़ा
  • आधा पका केला
कैसे इस्तेमाल करें :
  • पपीता और केले को मैश कर पेस्ट बना लें।
  • अब तैयार पेस्ट को चेहरे पर लगाएं।
  • इसे 15 से 20 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर गुनगुने पाने से मुंह धो लें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक या दो बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

पपीता और केले का फेस मास्क झुरियों का इलाज करने में लाभकारी साबित हो सकता है। कारण यह है कि पपीते में बीटा कैरोटीन नाम का एक खास तत्व पाया जाता है, जो सनबर्न और सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों के प्रभाव से त्वचा को बचाता है, जिनकी वजह से झुर्रियां हो सकती हैं (4)। वहीं, केले में सीधे तौर पर एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं, जो झुर्रियों से छुटकारा दिलाने में सहायक साबित हो सकते हैं (5)।

4. हल्दी मास्क

सामग्री :
  • एक चम्मच हल्दी पाउडर
  • आधा चम्मच गन्ने का रस
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले गन्ने के रस के साथ हल्दी मिलाकर इसका पेस्ट बना लें।
  • अब इसे अपने चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे गुनगुने पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में करीब दो बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

विशेषज्ञों के मुताबिक हल्दी के साथ-साथ गन्ने में भी एंटी-फोटोएजिंग (बढ़ती उम्र के त्वचा प्रभावों को कम करने वाले) गुण पाए जाते हैं, जो झुर्रियों से छुटकारा दिलाने के साथ-साथ त्वचा संबंधी अन्य कई विकारों को दूर करने में सहायक साबित होते हैं (6) (7)।

[ पढ़े: हल्दी के 25 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

5. कीवी फल

सामग्री :
  • एक मध्यम आकार का कीवी फल
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले कीवी को छील लें।
  • अब इसका गूदा अलग कर लें।
  • फिर गूदे को पीसकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

कीवी फल विटामिन-सी का अच्छा स्रोत है (8)। वहीं, त्वचा से संबंधित एक शोध में पाया गया है कि विटामिन-सी न केवल त्वचा को पोषण देता है, बल्कि कई त्वचा संबंधी समस्याओं को भी दूर करता है, जिसमें झुर्रियां भी शामिल हैं (9)। इसलिए यह कहना गलत नहीं होगा कि कीवी फल को झुरियों का इलाज करने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है।

[ पढ़े: किवी फल के 19 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

6. नारियल तेल

सामग्री :
  • आधा चम्मच ऑर्गेनिक नारियल तेल
कैसे इस्तेमाल करें :
  • नारियल के तेल को हाथों में लेकर चेहरे और प्रभावित त्वचा की अच्छे से मसाज करें।
  • मसाज के दौरान प्रभावित त्वचा पर अपनी उंगलियों को गोल-गोल घुमाएं।
  • जब तक त्वचा तेल सोख न ले, तब तक मसाज करते रहें।
  • अब रात भर के लिए तेल को लगे रहने दें।
  • इस प्रक्रिया को हर दिन सोने से पहले दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

नारियल के तेल से प्रतिदिन की जाने वाली मसाज आपकी त्वचा पर चमक लाती है। साथ ही यह झुर्रियों और सनबर्न से भी बचाने में सहायक होती है। कारण यह है कि इसमें लौरिक एसिड के साथ कई अन्य तत्व भी मौजूद होते हैं, जो संयुक्त रूप से त्वचा के लिए एंटी-एजिंग प्रभाव प्रदर्शित करते हैं (10)। ऐसे में झुरियों का इलाज करने के लिए नारियल तेल एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

7. अरंडी का तेल

सामग्री :
  • अरंडी का तेल
  • एक रूई का टुकड़ा
कैसे इस्तेमाल करें :
  • किसी बर्तन में थोड़ा अरंडी का तेल निकाल लें।
  • अब रूई के टुकड़े को तेल में डुबोएं और प्रभावित त्वचा पर लगाएं।
  • अब इसे रात भर के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
कैसे है उपयोगी :

अरंडी के तेल में पाए जाने वाले फैटी एसिड त्वचा में कोलेजन (प्रोटीन का एक प्रकार, जो त्वचा में तनाव पैदा करता है) की मात्रा को बढ़ाते हैं और उसे नरम बनाते हैं। साथ ही यह चेहरे पर मौजूद दाग धब्बों और झुरियों का इलाज करने में भी सहायक साबित होते हैं (11)।

[ पढ़े: अरंडी के तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान ]

8. अंगूर के बीज का अर्क

सामग्री :
  • अंगूर के बीज के अर्क (तेल) की कुछ बूंदें।
कैसे इस्तेमाल करें :
  • हाथ में अंगूर के अर्क की कुछ बूंदें लेकर प्रभावित त्वचा की अच्छे से मसाज करें।
  • अब इसे करीब एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को कुछ हफ्ते तक रोजाना दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

जैसा कि आपको लेख में पहले भी बताया जा चूका है कि अंगूर के बीज के अर्क में फैटी एसिड मौजूद होते हैं, जो झुर्रियों को दूर करने में सहायक माने जाते हैं। वहीं, इसमें उपलब्ध पॉलीफेनोल और विटामिन-ई में एंटी-एजिंग और त्वचा के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के गुण मौजूद होते हैं। इस कारण अंगूर के बीज का अर्क झुर्रियों की समस्या में भी राहत पहुंचा सकता है, क्योंकि झुर्रियां भी स्किन एजिंग का ही एक प्रभाव है (12)। इस कारण यह माना जा सकता है कि झुर्रियां कम करने के उपाय में अंगूर के बीज का अर्क सकारात्मक परिणाम दे सकता है।

9. विटामिन-ई

सामग्री :
  • दो या तीन विटामिन-ई कैप्सूल
कैसे इस्तेमाल करें :
  • विटामिन-ई कैप्सूल में मौजूद तेल को निकाल लें।
  • अब इसे उंगलियों के सहारे प्रभावित स्थान पर हल्के हाथों से लगा कर मसाज करें।
  • इस प्रक्रिया को सोने से पहले रोज रात को दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

विशेषज्ञों के मुताबिक विटामिन-ई में फोटोएजिंग (त्वचा पर बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने वाला) और एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव पाए जाते हैं। इस कारण ऐसा कहा जा सकता है कि विटामिन-ई का सीधा उपयोग झुर्रियां कम करने के उपाय में एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है (13)।

10. आर्गन ऑयल

सामग्री :
  • आर्गन ऑयल की कुछ बूंदें
कैसे इस्तेमाल करें :
  • आर्गन ऑयल की कुछ बूंदें हाथ में लें।
  • इसे प्रभावित त्वचा पर लगाएं और हल्के हाथ से मसाज करें।
  • अब इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में एक से दो बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

झुर्रियां कम करने के उपाय में आर्गन ऑयल का उपयोग काफी सहायक साबित हो सकता है। कारण यह है कि यह त्वचा को मॉइस्चराइज करके नरम और मुलायम बनाता है। इसके अलावा, यह त्वचा में नमी को लॉक करने के साथ त्वचा की इलास्टिसिटी में सुधार का काम करता है। इस कारण हम यह कह सकते हैं कि ये सभी प्रभाव झुर्रियों को दूर करने में सहायक साबित हो सकते हैं (10)।

11. सेब का सिरका

सामग्री :
  • एक चम्मच सेब का सिरका
  • एक चम्मच शहद
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले सेब के सिरके और शहद को अच्छे से मिला लें।
  • अब तैयार इस लेप को चेहरे और गर्दन पर लगाएं और 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे गुनगुने पानी से धो डालें।
  • बाद में प्रभावित त्वचा पर मॉइस्चराइजर का उपयोग करें।
कैसे है उपयोगी :

सेब का सिरका त्वचा में नमी पहुंचाकर उसे नरम और मुलायम बनाता है। इसमें मौजूद एक्सफोलिएट गुण मृत त्वचा हटाने का काम करते हैं (14)। वहीं, शहद में त्वचा को जवां बनाए रखने वाले गुण मौजूद होते हैं, जो झुर्रियों को भी दूर करने में सहायक साबित होते हैं (15)। इस कारण हम कह सकते हैं कि सेब का सिरका और शहद से तैयार मिक्सचर झुर्रियों पर असरदार प्रभाव डाल सकता है।

[ पढ़े: सेब के सिरके (एप्पल साइडर विनेगर) के 21 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

12. वैसलीन

सामग्री :
  • वैसलीन (पेट्रोलियम जेली) आवश्यकतानुसार
कैसे इस्तेमाल करें :
  • हाथों में थोड़ी वैसलीन लें और प्रभावित स्थान पर हल्के हाथों से लगाएं।
  • अब प्रभावित त्वचा की तब तक मसाज करें जब तक वैसलीन पूरी तरह त्वचा में समा नहीं जाती।
  • अब इसे पूरी रात के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को हर रात सोने से पहले दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

पेट्रोलियम जेली का उपयोग आपको झुर्रियों की समस्या से निजात दिला सकता है। कारण यह है कि यह त्वचा में नमी को लॉक कर देती है। इससे लंबे समय तक त्वचा में नमी बनी रहती है। इस तरह यह त्वचा को झुर्रियों के खिलाफ लड़ने की ताकत देती है (16)।

13. एवोकाडो

सामग्री :
  • एक एवोकाडो
कैसे इस्तेमाल करें :
  • एवोकाडो को काटकर इसके गूदे को अलग कर दें।
  • अब इस गूदे को अच्छे से मसल कर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को नहाने से करीब आधा घंटा पहले प्रभावित स्थान पर लगाएं।
  • समय पूरा होने पर नहा डालें।
कैसे है उपयोगी :

एवोकाडो में फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो त्वचा के लिए एंटी-एजिंग प्रभाव प्रदर्शित करते हैं (4)। वहीं इस संबंध में किए गए एक अन्य शोध में पाया गया कि एवोकाडो फल के साथ इसके बीज का तेल त्वचा में कोलेजन की मात्रा को बढ़ाने में सहायक माना जाता है (17)। लेख में हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि त्वचा में कोलेजन की कमी झुर्रियों का कारण बनती है। इस कारण यह माना जा सकता है कि एवोकाडो का पेस्ट लगाने से झुर्रियों से छुटकारा पाया जा सकता है।

14. शहद

सामग्री :
  • आधा चम्मच प्राकृतिक शहद
कैसे इस्तेमाल करें :
  • शहद को उंगलियों पर लें और हल्के हाथों से प्रभावित त्वचा की मसाज करें।
  • मसाज के बाद इसे करीब आधे घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे गुनगुने पानी से धो डालें।
  • त्वचा के बेहतर स्वास्थ्य के लिए आप इस प्रक्रिया को प्रतिदिन दोहरा सकते हैं।
कैसे है उपयोगी :

शहद में त्वचा को जवां बनाए रखने वाले प्रभाव पाए जाते हैं। इसका नियमित उपयोग त्वचा पर बुढ़ापे के लक्षणों को प्रदर्शित नहीं होने देता, जिनमें झुर्रियां भी शामिल हैं (15)।

[ पढ़े: शहद के 23 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

15. ग्रीन टी

सामग्री :
  • एक ग्रीन टी-बैग
  • एक कप गर्म पानी
  • शहद (वैकल्पिक)
कैसे इस्तेमाल करें :
  • सबसे पहले टी-बैग को गर्म पानी में 2-3 मिनट के लिए छोड़ें।
  • समय पूरा होने पर उसमें स्वाद के लिए थोड़ा शहद मिला लें।
  • अब आप ग्रीन टी का आनंद ले सकते हैं।
  • दिन में दो से तीन कप ग्रीन टी पीना फायदेमंद माना जाता है।
कैसे है उपयोगी :

ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट (ऑक्सीकरण की प्रक्रिया को रोकना), एंटी इंफ्लेमेटरी (सूजन को कम करना), एंटी-कार्सिनोजेनिक (कैंसर सेल्स को खत्म करना) और एंटी-बैक्टीरियल (बैक्टीरिया से बचाव) गुण पाए जाते हैं। इस कारण इसे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक माना गया है। वहीं, इसमें एंटी-एजिंग प्रभाव भी पाए जाते हैं, जो त्वचा पर झुर्रियों को टिकने नहीं देते (18)।

16. नींबू का रस

सामग्री :
  • आधा चम्मच नींबू का रस
  • आधा चम्मच शहद
कैसे इस्तेमाल करें :
  • शहद और नींबू के रस को अच्छे से मिलाएं और इसका लेप बना लें।
  • लेप को प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 10 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर गुनगुने पानी से इसे धो डालें।
कैसे है उपयोगी :

नींबू के रस में विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो त्वचा की रंगत को साफ करने और झुर्रियों को हटाने में सकारात्मक परिणाम देता है (19)। वहीं] शहद में त्वचा को जवां बनाए रखने वाले गुण मौजूद होते हैं, जो झुर्रियों को भी दूर करने में सहायक साबित होते हैं (15)। इस कारण नींबू का रस और शहद का समायोजन झुर्रियों से राहत दिलाने का एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

17. शिया बटर

सामग्री :
  • आधा चम्मच ऑर्गेनिक शिया बटर
कैसे इस्तेमाल करें :
  • शिया बटर को हाथों पर लें और प्रभावित स्थान की अच्छे से मसाज करें।
  • प्रतिदिन नहाने के बाद इस प्रक्रिया को दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

शिया बटर को त्वचा के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसमें त्वचा को नमी प्रदान करने वाले गुण मौजूद होते हैं। साथ ही यह एंटी एजिंग प्रभाव के साथ झुर्रियों को दूर कर त्वचा को नरम, मुलायम और खूबसूरत बनाने में मदद करता है (20)।

18. जोजोबा ऑयल

सामग्री :
  • जोजोबा ऑयल की कुछ बूंदें
कैसे इस्तेमाल करें :
  • जोजोबा ऑयल की कुछ बूंदें हाथ पर लें और प्रभावित स्थान की मसाज करें।
  • अब इसे करीब एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को प्रतिदिन दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

जोजोबा ऑयल स्किन के लिए लाभकारी है। कारण यह है कि यह त्वचा की नमी बनाए रखता है और त्वचा से संबंधित कई समस्याओं को भी दूर करने में सहायक माना जाता है। वहीं, इसमें मौजूद एंटी-एजिंग प्रभाव झुर्रियों को दूर करने में भी मददगार साबित होता है (10)।

19. कलौंजी ऑयल

सामग्री :
  • एक चम्मच ऑलिव ऑयल
  • आधा चम्मच कलौंजी का तेल
कैसे इस्तेमाल करें :
  • दोनों तेलों को मिलाकर प्रभावित स्थान पर लगाएं।
  • इसे कुछ घंटों तक ऐसे ही लगा रहने दें।
कैसे है उपयोगी :

कलौंजी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-एपोप्टोसिस (कोशिकाओं को मरने से बचाने वाला) प्रभाव मौजूद होते हैं, जो संयुक्त रूप से त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करते हैं। इस कारण यह झुर्रियों की समस्या को दूर करने में भी सहायक माना जा सकता है (21)। वहीं, ऑलिव ऑयल में भी एंटी एजिंग गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा को नरम, मुलायम और जवां बनाए रखने में कारगर साबित हो सकते हैं (10)। इस कारण झुर्रियों से बचने के उपाय में इन दोनों तेलों का मेल असरदार परिणाम दे सकता है।

20. बेकिंग सोडा मास्क

सामग्री :
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा
  • एक चम्मच पानी
कैसे इस्तेमाल करें :
  • बेकिंग सोडा और पानी को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट से चेहरे को स्क्रब करें।
  • स्क्रब करने के बाद इसे पानी से धो डालें।
  • आप इसे चेहरे पर मास्क के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके लिए इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे धो लें।
  • इन दोनों में से किसी एक प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।
कैसे है उपयोगी :

बेकिंग सोडा को एक बेहतरीन एक्सफोलिएंट माना गया है, जो त्वचा से डेड सेल्स को निकालता है और रक्त संचार को बढ़ाता है (22)। स्किन का डेड होना भी झुर्रियों का कारण माना जाता है। इस कारण इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी इसे उपयोग में लाया जा सकता है।

झुर्रियों से बचने के उपाय जानने के बाद अब हम लेख के अगले भाग में इससे संबंधित कुछ आहार के बारे में बात करेंगे।

झुर्रियों के लिए आहार – Diet For Wrinkles in Hindi

विशेषज्ञों के मुताबिक विटामिन-ए से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन बढ़ती उम्र के प्रभाव को रोकने में मददगार साबित हो सकता है। आइए, विटामिन-ए युक्त कुछ खाद्य पदार्थों पर डालते हैं एक नजर (23)।

  • कॉड लिवर ऑयल
  • अंडा
  • अनाज (जैसे :- जौ, चना, मक्का, बाजरा)
  • मलाई निकला हुआ दूध
  • नारंगी या पीली रंग की फल व सब्जियां
  • ब्रोकली
  • पालक
  • हरी पत्तेदार सब्जियां

लेख के आगे के भाग में हम झुर्रियों से बचने के उपाय जानेंगे।

झुर्रियों से बचने के उपाय – Prevention Tips for Wrinkles in Hindi

निम्न उपाय अपनाकर आप झुर्रियों को खुद से दूर रख सकते हैं।

  • ज्यादा समय तक धूप में न रहें।
  • घर से बाहर जाते समय मॉइस्चराइजर या सनस्क्रीन क्रीम लगाकर ही बाहर निकलें।
  • संभव हो तो किसी कपड़े से चेहरे को ढकें।
  • ऐसे में धूप से बचने के लिए आप छाते का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • बाहर से वापस आने के बाद ठंडे पानी से मुंह जरूर धोएं।
  • तैलीय भोजन का सेवन कम से कम करें।
  • अधिक मात्रा में पानी का सेवन करें।

अगर आपको भी वक्त से पहले खुद में बुढ़ापे के लक्षण नजर आने लगे हैं, तो यही वक्त है जागने का। आपकी इसी समस्या को देखते हुए इस लेख में हमने 20 बेहतरीन घरेलू उपचार बताएं हैं, जो न केवल आपके चेहरे की झुर्रियों को दूर भगाने में समर्थ हैं, बल्कि आपकी त्वचा में नई जान भी डालने में कारगर साबित होंगे। फिर देर किस बात की, झुर्रियों से छुटकारा पाने के लिए लेख को अच्छे से पढ़ें और खुद के लिए उपयुक्त और आसान विकल्प को चुनकर आज ही इन्हें इस्तेमाल में लाएं। उम्मीद है कि इस समस्या से जूझ रहे सभी लोगों के लिए यह लेख आशा की नई किरण साबित होगा। इस संबंध में कोई अन्य सुझाव या सवाल हों, तो उसे नीचे दिए कमेंट बॉक्स के माध्यम से हम तक पहुंचाना न भूलें।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Ankit Rastogi

अंकित रस्तोगी ने साल 2013 में हिसार यूनिवर्सिटी, हरियाणा से एमए मास कॉम की डिग्री हासिल की है। वहीं, इन्होंने अपने स्नातक के पहले वर्ष में कदम रखते ही टीवी और प्रिंट मीडिया का अनुभव लेना शुरू कर दिया था। वहीं, प्रोफेसनल तौर पर इन्हें इस फील्ड में करीब 6 सालों का अनुभव है। प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में इन्होंने संपादन का काम किया है। कई डिजिटल वेबसाइट पर इनके राजनीतिक, स्वास्थ्य और लाइफस्टाइल से संबंधित कई लेख प्रकाशित हुए हैं। इनकी मुख्य रुचि फीचर लेखन में है। इन्हें गीत सुनने और गाने के साथ-साथ कई तरह के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाने का शौक भी हैं।

संबंधित आलेख