सामग्री और उपयोग

चिया बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान – Chia Seeds Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

Medically reviewed by Madhu Sharma, Registered Dietitian
by
चिया बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान – Chia Seeds Benefits, Uses and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 January 7, 2020

‘छोटा पैकेट बड़ा धमाका’, यह डायलॉग चिया बीज पर बिल्कुल फिट बैठता है। साथ ही अगर चीया बीज के लिए यह कहा जाए कि ‘देखन में छोटन लगे, असर करे भरपूर’, तो गलत नहीं होगा। यह छोटा-सा दिखने वाला चीया बीज असल में गुणों का खजाना है। यह शारीरिक रूप से स्वस्थ रखने के साथ-साथ कई बीमारियों के लक्षणों को कम करने में भी सक्षम है। हां, अगर कोई गंभीर रूप से बीमार है, तो उसके लिए मेडिकल ट्रीटमेंट से बेहतर कुछ नहीं है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको चिया बीज के फायदे बता रहे हैं। साथ ही चिया बीज के नुकसान के बारे में भी बताएंगे, लेकिन पहले इस सुपरफूड के फायदे और उपयोग जान लेते हैं।

चिया बीज क्या है?

कई लोगों को यह गलतफहमी होती है कि चीया बीज और तुलसी के बीज यानी सब्जा एक ही हैं, लेकिन यह सच नहीं है। चिया बीज को वैज्ञानिक रूप से साल्विया हर्पेनिका (Salvia hispanica) के रूप में जाना जाता है। ये बीज मुख्य रूप से मैक्सिको में पाई जाते हैं। ये बीज ओमेगा-3 फैटी एसिड, फाइबर, प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट और कैल्शियम से भरपूर होते हैं (1) (2)। यही कारण है कि चिया बीज को सुपरफूड के श्रेणी में रखा गया है।

चिया बीज के कुछ रोचक तथ्य – Chia Seeds Facts in Hindi

चिया बीज के फायदे जानने से पहले उससे जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जान लेते हैं। इनके बारे में आपको शायद ही पता होगा।

  • चिया सीड मिंट प्रजाति का होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि कीड़ों को पुदीना पसंद नहीं होता। इसलिए, कीटनाशकों के उपयोग के बिना ही इस पौधे को उगाया जा सकता है।
  • चिया बीज के पौधे थोड़े अलग तरह के होते हैं और इन्हें विशिष्ट रूप से बढ़ने की आवश्यकता होती है। इसलिए, इन्हें 23 डिग्री उत्तर और 23 डिग्री दक्षिण अक्षांश के बीच उगाया जाता है।
  • चिया की खोज 1990 के दशक में डॉ. वेन कोट्स ने की थी। उन्होंने अर्जेंटीना में ऐसी फसलों (cash crop) की तलाश में परियोजना का नेतृत्व किया था, जो क्षेत्र में किसानों को लाभान्वित कर सकता था।
  • चिया बीज के फूल बैंगनी और सफेद रंग के होते हैं।

चिया सीड के रोचक तथ्य जानने के बाद अब हम पता करते हैं कि यह हमारी लिए अच्छे क्यों हैं।

चिया बीज आपके लिए अच्छे क्यों हैं ?

चिया सीड में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। इसलिए, चिया बीज के जरिए इन स्वस्थ फैटी एसिड का सेवन करने का सबसे आसान तरीका है। चिया बीज के एक सर्विंग में पांच ग्राम ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। साथ ही इसमें घुलनशील फाइबर होता है। अगर आप चिया बीज को थोड़ा गीला करते हैं, तो आप उन्हें एक जेल में बदलते देखेंगे – जो घुलनशील फाइबर है। घुलनशील फाइबर के लाभ कई हैं। यह ब्लड शुगर को सही रखता है और यह आंत में अच्छे बैक्टीरिया को पनपने में मदद करता है। अगर आपको हड्डी से जुड़ी कोई परेशानी है, तो यह आपकी हड्डियों के लिए भी लाभकारी है। यह तो बस शुरुआत है, चिया बीज के फायदों के बारे में हम आगे विस्तार से बता रहे हैं।

चिया बीज के फायदे – Benefits of Chia Seeds in Hindi

1. वजन कम करने के लिए चिया बीज

आजकल हम जैसी जीवनशैली जी रहे हैं, उससे वजन बढ़ना आम बात है। बाद में यही बढ़ता वजन कई बीमारियों का कारण बन जाता है। ऐसे में जरूरी है कि आप शुरू से ही वजन पर ध्यान दें। इस काम में चिया सीड आपकी मदद कर सकता है। साथ ही अपनी डाइट पर भी नियंत्रण रखना जरूरी है।

  • चिया सीड में फाइबर मौजूद होता है। इसके सेवन से पेट काफी देर तक भरा-भरा महसूस होगा। ऐसे में कुछ और खाने की इच्छा कम ही होती है, जिससे वजन घट सकता है।
  • अध्ययन से पता चला है कि सुबह नाश्ते के बाद स्नैक्स के रूप में चिया बीज का सेवन स्वस्थ व्यक्तियों में थोड़ी देर के लिए भूख को शांत कर सकता है (3)।
  • एक अध्ययन के अनुसार, चिया बीज फैट कम करने में अहम भूमिका निभाता है और ब्लड ग्लूकोज व लिपिड प्रोफाइल में सुधार लाता है (4)। चिया सीड में भरपूर मात्रा में प्रोटीन भी होता है, जिस कारण आपके पेट को तृप्ति का अनुभव होता है और भूख कम लगती है। ऐसे में वजन कम होने के आसार ज्यादा होते हैं (5)।
  • वजन कम करने के लिए आप एक गिलास पानी में एक चम्मच चिया बीज डालकर अच्छे से मिलाएं और कुछ मिनट तक उसे घुलने दें। फिर चिया सीड के फूलने से पहले ही इस पानी का सेवन कर लें। ध्यान रहे कि वजन कम करने के लिए चिया सीड के साथ-साथ नियमित रूप से व्यायाम या फिर योग करना भी जरूरी है।

2. दिल के लिए चिया बीज

अच्छी सेहत के लिए दिल का स्वस्थ होना जरूरी है, लेकिन आजकल की रूटीन के कारण किसी को भी कभी भी ह्रदय संबंधी परेशानी हो सकती है। चिया सीड जिसे सुपरफूड की श्रेणी में रखा गया है, उसके सेवन से दिल की बीमारी का खतरा कुछ हद तक कम हो सकता है।

  • चिया सीड में फाइबर मौजूद होता है, जो दिल की बीमारी का खतरा कम करता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण दिल के दौरे और अन्य ह्रदय संबंधी परेशानियों के खतरे को कम करता है (2) (6) (7)।
  • इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड आपके ह्रदय को स्वस्थ रखता है और अगर किसी को दिल की बीमारी है, तो यह उसमें सुधार करता है (8)। इसलिए, अगर आप अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं, तो चिया बीज को अपने डाइट में शामिल करें।

3. हड्डियों और दांत के लिए चिया बीज

उम्र के साथ-साथ हमारी हड्डियां और दांत कमजोर होने लगते हैं, इसलिए जरूरी है कि हमें नियमित रूप से पोषक तत्व खासतौर पर कैल्शियम लेना चाहिए। अगर आप शुरुआत से ही अपनी डाइट को सही रखेंगे, तो बढ़ती उम्र में आपको ज्यादा तकलीफ नहीं होगी।

  • एक अध्ययन से पता चला है कि कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ जैसे कि चिया बीज के सेवन से शारीरिक ढांचा स्वस्थ रह सकता है (9)। चिया बीज को शरीर में कैल्शियम की पूर्ति का अच्छा विकल्प माना गया है (10)। चिया बीज में फास्फोरस भी होता है, जो हड्डी को मजबूत करने में मदद करता है (11)।
  • चिया बीज में एंटीऑक्सीडेंट की उपस्थिति आपके दांतों को नुकसान से बचा सकती है (1)। हड्डियों और दांतों की सेहत के लिए आप अपने प्रतिदिन के आहार में इसे शामिल कर सकते हैं।

4. कोलेस्ट्रॉल को कम करता है चिया बीज

असंतुलित खानपान और दिनचर्या के कारण शरीर बीमारियों का घर बन जाता है। आज के दौर में कम उम्र में ही लोग कई बीमारियों से घिर जाते हैं और कोलेस्ट्रॉल उन्हीं बीमारियों में से एक है। कोलेस्ट्रॉल दो प्रकार का होता है, एलडीएल (लो डेन्सिटी लिपोप्रोटीन), जिसे बुरा कोलेस्ट्रॉल माना गया है और एचडीएल (हाई डेन्सिटी लिपोप्रोटीन) जो अच्छा होता है। जब शरीर में एलडीएल बढ़ने लगता है, तो धमनियां सिकुड़ने लगती हैं, जिससे रक्त का प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता। इससे दिल का दौरा और ह्रदय से जुड़ी अन्य बीमारियां होने का अंदेशा बढ़ जाता है।

  • अगर चिया बीज का सेवन किया जाए, तो उसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड शरीर में हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करके, अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। साथ ही कोरोनरी हार्ट डिजीज (coronary heart disease) का खतरा कम हो सकता है (12)।
  • यह डिस्लिपिडेमिया (dyslipidemia) को बेहतर करके अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकता है (2)। इसके अलावा, यह ट्राइग्लिसराइड (triglycerides) जो कि खून में एक प्रकार का फैट होता है, उसे भी कम करता है। यह अनियमित दिल की धड़कन, निम्न रक्तचाप और कई अन्य समस्याओं को कम कर सकता है (8)।

5. डायबिटीज के लिए चिया बीज के फायदे

आजकल बीमारी उम्र देखकर नहीं आती है। डायबिटीज भी उन्हीं में से एक है। इससे बचने के लिए पहले से सावधानी बरतना जरूरी है।

  • अगर आप डायबिटीज से बचना चाहते हैं या डायबिटीज को संतुलित रखना चाहते हैं, तो चिया बीज का सेवन करें।
  • चिया बीज में मौजूद फाइबर और अन्य पोषक तत्व डायबिटीज के खतरे को कम करते हैं। साथ ही यह बिना किसी साइड इफेक्ट के ब्लड प्रेशर को भी कम कर सकता है (2) (13)।

6. कब्ज से राहत

कब्ज की परेशानी किसी को भी हो सकती है। इसके लिए लोग कई तरह की दवाइयां और घरेलू उपाय करते हैं। ऐसे में अगर अन्य उपायों के साथ चिया सीड का सेवन करें, तो इस परेशानी से काफी हद तक राहत मिल सकती है। चिया सीड में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है, खासतौर पर अघुलनशील फाइबर। जब चिया बीज पानी में मिलते हैं, तो वो जेल में बदल जाते हैं, जिसके सेवन से कब्ज में राहत मिलती है (14)। फाइबर पाचन शक्ति में भी सुधार लाता है।

7. स्तन कैंसर से बचाव के लिए चिया बीज

घर और काम के चक्कर में महिलाएं अपने ऊपर ज्यादा ध्यान नहीं देती हैं। आए दिन उन्हें छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं लगी रहती हैं, जिन्हें वो हल्के में लेती हैं। आजकल महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका जीवनशैली में बदलाव लाना है।

  • अगर आप चिया बीज को अपनी डाइट में शामिल करती हैं, तो ब्रेस्ट कैंसर का खतरा काफी हद तक कम हो सकता है।
  • यूसीएसएफ मेडिकल सेंटर द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, चिया बीज में अल्फा-लिनोलिक एसिड होता है, जो स्तन कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है (15)। यही बात ओमेगा-3 फैटी एसिड पर भी लागू होती है, जो चिया सीड में पाया जाता है।

8. एनर्जी बढ़ाने के लिए चिया बीज

शरीर को काम करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है। ऐसे में आहार में सभी तरह के जरूरी पोषक तत्व लेने से शरीर की एनर्जी बनी रहती है। पोषक तत्वों के लिए लोग तरह-तरह की सब्जियां, फल और अन्य खाद्य पदार्थ का सेवन करते हैं। अगर इन्हीं के साथ चिया बीज को भी शामिल कर लिया जाए, तो बात ही कुछ और है। जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि चिया बीज को सुपरफूड की श्रेणी में रखा गया है। चिया सीड में विटामिन-बी, जिंक, आयरन और मैग्नीशियम के साथ ही कई अन्य पोषक तत्व भी होते हैं, जो शरीर में ऊर्जा बढ़ाने में मदद करते हैं (16)। आप इसे स्मूदी में डालकर सेवन कर अपने आपको तरोताजा महसूस कर सकते हैं।

9. चिया बीज में होते हैं एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण

चिया बीज में मौजूद ओमेगा-3 एस, फाइबर और प्रोटीन इसे बेहतरीन एंटी-इंफ्लेमेटरी खाद्य पदार्थ बनाते हैं। चिया में मौजूद ये एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण शरीर के लिए लाभकारी हैं। ये शरीर को डायबिटीज, सूजन, दिल की बीमारी और अन्य कई शारीरिक परेशानियों से बचा सकते हैं (17) । साथ ही इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण गठिया की परेशानी से भी राहत दिला सकता है (18)।

10. नींद की समस्या दूर करे चिया बीज

इस तनाव भरी जिंदगी के कारण अन्य कई तरह की समस्याएं हो जाती हैं। रात को नींद न आना उन्हीं में से एक है। इसके लिए लोग कई बार नींद की दवाइयां भी लेने लगते हैं, जिसके कई तरह के साइड इफेक्ट हो सकते हैं। ऐसे में घरेलू उपाय कारगर साबित हो सकता है। चिया बीज उन्हीं घरेलू उपायों में से एक है।

  • शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन दो तरह के हार्मोन होते हैं, जो नींद के लिए जरूरी हैं। ये दोनों हार्मोन ट्रिप्टोफैन (tryptophan) द्वारा निर्मित होते हैं, जो शरीर में एक एमिनो एसिड है। एक अमेरिकी अध्ययन के अनुसार, ट्रिप्टोफैन का उपयोग नींद की समस्याओं के इलाज के लिए किया जा सकता है (19)। वहीं, चिया बीज में ट्रिप्टोफैन होता है (2)। इसके सेवन से अनिद्रा की परेशानी काफी हद तक दूर हो सकती है।

11. एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर चिया बीज

एंटीऑक्सीडेंट कई तरह की बीमारियों जैसे – डायबिटीज, कैंसर व त्वचा संबंधी बीमारी आदि से बचाव करता है (20)। ऐसे में अगर पर्याप्त मात्रा में आप एंटीऑक्सीडेंट चाहते हैं, तो चिया सीड अच्छा और आसान विकल्प है। चिया बीज में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है, जिसके सेवन से आप अपने आपको कई तरह के बीमारियों से बचा सकते हैं (1)।

12. मूड के लिए चिया बीज

काम का दबाव और दुनियाभर के तनाव का परिणाम यह होता है कि मूड स्विंग जैसी परेशानी होने लगती है। छोटी-छोटी बात पर मूड बदल जाता है। क्या आप जानते है कि खानपान भी मूड को प्रभावित करता है। इसलिए, डाइट में चिया सीड को शामिल कर मूड को अच्छा रखा जा सकता है (21)। पिट्सबर्ग के एक अध्ययन के अनुसार, ओमेगा-3 फैटी एसिड मूड और व्यवहार में सुधार से संबंधित होता है (22)। चिया बीज का सेवन आपको डिप्रेशन से निपटने में मदद कर सकता है।

13. प्रोटीन से भरपूर चिया सीड

यह तो सभी को पता होगा कि अन्य पोषक तत्वों की तरह प्रोटीन भी हमारे शरीर के लिए जरूरी है। यह हड्डियों, मांसपेशियों व इम्युनिटी आदि के लिए जरूरी है। इसलिए, हर रोज अपनी डाइट में प्रोटीन शामिल करें। चिया बीज प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है और अगर आप इसे अपनी डाइट में शामिल करेंगे, तो यह आपके लिए फायदेमंद होगा। ब्राजील में हुए एक अध्ययन के अनुसार, चिया बीज में अच्छी गुणवत्ता वाला प्रोटीन पाया जाता है (23)। इसके प्रयोग से चूहों के लिपिड प्रोफाइल (कोलेस्ट्रॉल के स्तर) में सुधार हुआ था। चिया बीज में 19% प्रोटीन होता है। अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रीशन के अनुसार, प्रोटीन युक्त आहार भूख को कम कर सकता है (24)। चिया बीज में सभी आवश्यक अमीनो एसिड के साथ-साथ उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन होता है (25)।

14. गर्भावस्था में चिया सीड

गर्भावस्था के दौरान महिला को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। खासकर, जब बात आए खाने की, तो गर्भवती महिला को अपने खाने का पूरी तरह से ध्यान रखना चाहिए। उन्हें ऐसे खाद्य पदार्थ लेने चाहिए, जिससे उन्हें पूरा पोषण मिले। अन्य लोगों की तुलना में गर्भवती महिला को ज्यादा पोषण इसलिए चाहिए होता है, क्योंकि उसके गर्भ में पल रहे शिशु को पोषण चाहिए होता है। शिशु के अच्छे विकास के लिए गर्भवती महिला को प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और अन्य पोषक तत्व चाहिए होते हैं और ये सब किसी एक खाद्य पदार्थ में मिलना मुश्किल हो सकता है। ऐसे में सुपरफूड के तौर पर जाना जाने वाला चिया बीज अच्छा ऑप्शन है। गर्भावस्था में चिया सीड का सेवन फायदेमंद हो सकता है। चिया सीड के सेवन करने से भ्रूण के रेटिना और मस्तिष्क का विकास होता है (2)।

नोट: अगर आपको किसी चीज से जल्दी एलर्जी हो जाती है या आप पहली बार चिया बीज का सेवन कर रही हैं, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से राय लें। हर किसी की गर्भावस्था एक जैसी नहीं होती, हो सकता है किसी को यह सूट करे या किसी को सूट न करे, ऐसे में आप सावधानी के लिए विशेषज्ञ की राय जरूर लें।

15. त्वचा के लिए चिया बीज के फायदे

शरीर के साथ-साथ त्वचा का खास ख्याल रखना भी जरूरी है। वक्त के साथ-साथ त्वचा नमी खोने लगती है और प्रदूषण व धूल-मिट्टी का भी बुरा असर पड़ता है। ऐसे में त्वचा को सही रखने के लिए सिर्फ क्रीम, लोशन और घरेलू उपाय ही नहीं, बल्कि सही खान-पान भी जरूरी है। आप अपनी त्वचा के लिए चिया बीज का सेवन कर सकते हैं। चिया बीज में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड त्वचा के रूखेपन और सूजन को कम कर सकता है (26)। एक और अध्ययन के अनुसार, ओमेगा-3 एस यूवी किरण से त्वचा की रक्षा करने में मदद करता है (27)। चिया बीज के सेवन से त्वचा हाइड्रेट भी रहती है (28) (2)।

16. चिया बीज के कुछ अन्य फायदे

चिया बीज गुणों का खजाना है। ओमेगा-3 फैटी एसिड, फाइबर, प्रोटीन, मिनरल्स, आयरन और कई पोषक तत्वों के कारण इसे सुपरफूड का नाम दिया गया है। ऊपर बताए गए चिया बीज के फायदों के अलावा इसके सेवन से कई अन्य लाभ भी हैं, जैसे – ब्लड शुगर का नियंत्रण में रहना, शरीर के तापमान का नियंत्रित रहना, नर्वस सिस्टम में संतुलन आदि। साथ ही यह त्वचा पर झुर्रियों को नहीं आने देता है और शरीर में किसी भी प्रकार के सूजन से भी बचाव करता है। इसके फायदों की गिनती करना थोड़ा मुश्किल है, क्योंकि यह गुणकारी खाद्य पदार्थ है।

अब हम आपको बताते हैं कि चिया बीज में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व होते हैं।

चिया बीज के पौष्टिक तत्व – Chia Seeds Nutritional Value in Hindi

हमने आपको ऊपर चिया बीज के फायदे बताए, अब यहां चिया सीड के पौष्टिक तत्वों की लिस्ट आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

पोषक तत्वपर्याप्त सेवन (Adequate Intake)
डाइटरी फाइबर10.6 ग्राम (42% ऑफ डेली वैल्यू)
प्रोटीन4.4 ग्राम (9% ऑफ डेली वैल्यू)
कैल्शियम17 एमजी (18% ऑफ डेली वैल्यू)
मैंगनीज0.6 ग्राम (30% ऑफ डेली वैल्यू)
फास्फोरस265 एमजी (27% ऑफ डेली वैल्यू)
पोटैशियम44.8 एमजी (1% ऑफ डेली वैल्यू)
सोडियम5.3 एमजी
जिंक1 एमजी (7% ऑफ डेली वैल्यू)
कॉपर0.1 एमजी (3% ऑफ डेली वैल्यू)
टोटल ओमेगा- 3 फैटी एसिड4915 एमजी
टोटल ओमेगा- 6 फैटी एसिड1620 एमजी

चिया बीज का सेवन कैसे करें – How to Use or Eat Chia Seeds in Hindi

चिया बीज के फायदे और पौष्टिक तत्वों के बारे में जानने के बाद अब वक्त है चिया बीज के सेवन के बारे में जानने का। आप इसे अपने प्रतिदिन के भोजन में शामिल कर सकते हैं। नीचे हम बता रहे हैं कि चिया बीज कैसे खाएं? चिया बीज का सेवन आप तीन तरीके से कर सकते हैं।

1. पानी में भिगोकर चिया बीज का सेवन करें

अगर आप चिया बीज के लाभ और गुणों को अच्छे से लेना चाहते हैं, तो आप रातभर के लिए चिया बीज को पानी में भिगोकर रखें। रातभर पानी में भीगे चिया बीज चिया जेल में बदल जाएंगे, जिसे आप अपनी स्मूदी या प्रोटीन शेक में मिलाकर सेवन कर सकते हैं। यह चिपचिपा प्रभाव पैदा करता है और पाचन में सहायता करता है। भीगे हुए चिया बीज भी आपके शरीर द्वारा आसानी से अवशोषित कर लिए जाते हैं।

अगर आप जल्दी में हैं, तो एक जार में चिया सीड और पानी को डालकर ढक्कन बंद कर दें और पांच से दस मिनट के लिए उसे घुलने दें। आपको यह जेल जैसा लगने लगेगा फिर आपका इसका सेवन करें।

2. चिया सीड का पाउडर बनाकर सेवन करें

आप चिया बीज का पाउडर बनाकर भी उसका सेवन कर सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि चिया बीज को कैसे पीसा जाए? आप इसे कॉफी ग्राइंडर में आसानी से पीस सकते हैं। ध्यान रहे कि इससे पहले थोड़ा चावला पीस लें, ताकि ग्राइंडर साफ हो जाए और चिया सीड में कॉफी की महक न आए। पीसने के बाद इसका पाउडर थोड़ा चिपचिपा लग सकता है और आपके दांतों पर चिपक सकता है, लेकिन इससे आपको इसमें मौजूद सारे पोषक तत्व मिलेंगे।

3. दही के साथ चिया बीज

नाश्ते में चिया सीड को दही में मिलाकर खाना इसके सेवन का सबसे आसान तरीका है। आप इस बीज को अपनी स्मूदी में मिलाकर भी खा सकते हैं। आप अन्य खाद्य पदार्थों में भी चिया बीज को छिड़ककर खा सकते हैं। आप चिया बीज को सूप या सॉस में मिलाकर सेवन कर सकते हैं। यहां तक कि इसे दलिये में भी मिलाया जा सकता है।

चिया बीज कैसे खरीदें? – How to Buy Chia Seeds in Hindi

चिया बीज को ऑर्गेनिक दुकान से खरीदना सबसे बेहतर होता है। इस तरह के बीज केमिकल मुक्त होते हैं। ध्यान रहे कि आप साबुत चिया बीज खरीदें, न कि चिया बीज का पाउडर। ऑर्गेनिक चिया बीज ऑनलाइन भी मिल जाते हैं।

इसके अलावा, एक सवाल यह भी उठता है कि चिया बीज को ज्यादा दिनों तक स्टोर करके कैसे रखा जाए। उन्हें स्टोर करके रखना काफी आसान है। आप एक प्लास्टिक या शीशे का टाइट ढक्कन का जार लें और उसमें चिया बीज को बंद करके फ्रिज में रख दें, ताकि बासी न हो जाए।

आगे हम आपको चिया सीड की कुछ आसान रेसिपी बता रहे हैं, ताकि आप इसका और लुत्फ उठा सकें।

चिया बीज रेसिपी – Chia Seeds Recipes in Hindi

नीचे हम चिया बीज की दो आसान रेसिपी बता रहे हैं, जो न सिर्फ स्वादिष्ट हैं, बल्कि पौष्टिक भी हैं।

1. सफेद चिया बीज का हलवा

सामग्री :

  • एक तिहाई कप सफेद चिया बीज
  • डेढ़ कप दूध
  • दो चम्मच मेपल सिरप
  • आधा चम्मच वैनिला एक्सट्रैक्ट

बनाने की विधि :

  • एक जार लें और इसमें सारी सामग्रियां डालकर अच्छी तरह मिक्स करें।
  • अब जार को ढक्कर चार घंटे के लिए रख दें।
  • आप देखेंगे कि धीरे-धीरे चिया बीज फूल जाएंगे और हलवे में बदल जाएंगे, जो थोड़ा गाढ़ा होगा।
  • फिर इसमें फल काटकर या बादाम आदि डालकर परोस सकते हैं।

कुछ लोगों का प्रश्न होता है कि क्या यह हलवा स्वस्थ है, तो इसका जवाब हां है। हालांकि, इस हलवे से आपका वजन नहीं बढ़ेगा, लेकिन यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप इसमें और क्या सामग्री मिक्स करते हैं।

2. ब्लूबेरी और चिया सीड स्मूदी

सामग्री :

  • दो चम्मच चिया बीज
  • डेढ़ कप बादाम दूध
  • एक कप ब्लूबेरी
  • एक चम्मच वैनिला एक्सट्रैक्ट
  • एक चम्मच नारियल तेल या नारियल का मक्खन
  • चुटकीभर दालचीनी
  • एक चम्मच शहद

बनाने की विधि :

  • एक जार में आधा कप बादाम दूध के साथ चिया बीज डालें और अच्छी तरह मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को 10 मिनट के लिए छोड़ दें। आप इस मिश्रण को चार घंटे के लिए फ्रिज में भी रख सकते हैं।
  • फिर इस पूरे मिश्रण को मिक्सी में डालें और इसमें ब्लूबेरी, वैनिला एक्सट्रैक्ट, नारियल तेल या नारियल बटर और दालचीनी मिलाकर अच्छी तरह पीस लें।
  • आप इसमें स्वाद के लिए शहद मिला सकते हैं।

इसके अलावा, आप अपने अन्य व्यंजनों में मैदा की जगह हल्का चिया बीज मिला सकते हैं। आप सूप को गाढ़ा करने के लिए और यहां तक कि चिकन व मछली को कोट करने के लिए ब्रेड क्रम्ब्स के साथ चिया बीज मिला सकते हैं।

चिया बीज के नुकसान – Side Effects of Chia Seeds in Hindi

बेशक, चिया बीज को सुपरफूड की श्रेणी में रखा गया है, लेकिन चिया बीज के नुकसान भी हैं। हालांकि, चिया बीज के नुकसान कम हैं, लेकिन सावधानी बरतने के लिए इस बारे में जान लेना जरूरी है। नीचे पढ़ें चिया बीज के नुकसान :

  1. चिया बीज में अधिक मात्रा में फाइबर होता है, जिस कारण इससे पेट की समस्या जैसे – कब्ज, पेट में दर्द या पेट फूलने जैसी परेशानी हो सकती है। इसलिए, पहले आप इसका सेवन कम मात्रा में करके देखें। अगर सब सही रहे, तो आप इसका नियमित या हर दूसरे दिन सेवन करें।
  1. अगर कोई संवेनदशील है और उसे जल्दी नई चीजों से एलर्जी होती है, तो पहली बार चिया बीज का सेवन करने से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञों की सलाह लें। चीया बीज से एलर्जी के रूप में खुजली, उल्टी व दस्त आदि समस्याएं हो सकती हैं।
  1. चिया बीज में प्रचुर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो खून को पतला करता है। अगर कोई पहले से ही खून पतला करने की दवा ले रहा है, तो इसके सेवन से बचें। अगर किसी ने कोई सर्जरी करवाई है, तो भी इसके सेवन से बचे, क्योंकि सर्जरी कराने के बाद इसके सेवन से अधिक रक्तस्त्राव हो सकता है।

नोट : आपको चिया बीज के नुकसान से डरने की जरूरत नहीं है, क्योंकि जब तक आप इसका सेवन सही तरीके से और विशेषज्ञों की निगरानी में कर रहे हैं, यह तभी तक फायदेमंद है।

चिया बीज के फायदे और पौष्टिक तत्वों के बारे में जानने के बाद आप भी इसे सुपरफूड कह सकते हैं। चिया बीज कैसे खाएं, इस सवाल का जवाब भी आपको इस लेख में मिल ही चुका है। अगर इसका सही तरीके से उपयोग किया जाए, तो यह आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है। अगर आपने अभी तक इस सुपरफूड को अपनी डाइट में शामिल नहीं किया है, तो बिना देरी करते हुए आज ही चिया सीड का एक पैकेट खरीदें और अपनी रसोई में स्टॉक करें। साथ ही ध्यान रहे कि स्वस्थ रहने या किसी बीमारी से उबरने का सिर्फ तरीका है, इसे मेडिकल ट्रीटमेंट का विकल्प नहीं माना जा सकता। चिया बीज का सेवन आपके लिए किस प्रकार फायदेमंद रहा, अपने अनुभव हमारे साथ कमेंट बॉक्स में जरूर शेयर करें।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

संबंधित आलेख