चिंता (एंग्जायटी) के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज – Home Remedies for Anxiety in Hindi

Medically reviewed by Dr. Zeel Gandhi, Ayurvedic Doctor, BAMS
Written by

चिंता या घबराहट एक मानसिक विकार है, जो किसी बात या काम को लेकर अधिक सोचने से उत्पन्न होता है। चिंता की वजह से आपकी रातों की नींद खराब हो सकती है। इससे कई तरह के मानसिक और शारीरिक रोग होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इस मानसिक तनाव से बाहर आने के लिए कई लोग दवाई का भी सहारा लेते हैं, लेकिन कभी-कभी उन दवाइयों का बुरा असर भी हो सकता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में चिंता के कारण, चिंता के लक्षण और चिंता के इलाज के बारे में विस्तार से जानेंगे ।

पूरी जानकारी के लिए पढ़ें पूरा लेख

सबसे पहले हम चिंता के कारण के बारे में बात करते हैं।

चिंता का कारण – Causes of Anxiety in Hindi

चिंता होने के कई कारण हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं (1) :

  • अपनों से दूर होना
  • घरेलू लड़ाई झगड़ा
  • महिलाओं में मासिक चक्र के समय हार्मोनल बदलाव
  • किसी डरावनी घटना को याद करना
  • आनुवंशिक

लक्षण जानना है जरूरी

चिंता के लक्षण के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें।

चिंता के लक्षण – Symptoms of Anxiety in Hindi

घबराहट के लक्षण को छुपाया नहीं जा सकता है। यह आसपास के लोगों को भी दिखने लगता है। इसके कुछ आम लक्षण इस प्रकार हैं  (1) :

  • कमजोरी
  • सांस लेने में समस्या
  • ह्रदय गति का तेज होना
  • सिर चकराना
  • भूख न लगना
  • नींद न आना
  • किसी काम को लेकर ठीक से ध्यान न लगना
  • ज्यादा पसीना आना
  • जी मिचलना

उपाय भी हैं

लेख में आगे हम चिंता के घरेलू उपचार के बारे में बात कर रहे हैं।

चिंता दूर करने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies For Anxiety in Hindi

चिंता या घबराहट को दूर करने के लिए किस तरह की केमिकल युक्त दवाई लेने की जरूरत नहीं है। इसे घरेलू तरीके से भी दूर किया जा सकता है। चलिए, चिंता के उपचार के बारे में यहां विस्तार से बात करते हैं।

1. संतरा

सामग्री :
  • 1 चम्मच संतरे का तेल
  • 1 चम्मच लैवेंडर का तेल
उपयोग की विधि :
  • दोनों तेलों को आपस में मिला लें और हल्का गर्म कर लें।
  • फिर इसे सिर पर लगाकर अच्छी तरह से मालिश करें।
कितनी बार करें उपयोग :

रात में सोने से पहले इससे मालिश करें।

कैसे है फायदेमंद :

संतरा खाने के फायदे तो आपको पता ही होंगे, लेकिन क्या आप संतरे के तेल के फायदे के बारे में जानते है। जी हां, संतरा के तेल का उपयोग कर आपको चिंता और तनाव से मुक्ति मिल सकती है। इस तेल में पाए जाने वाले औषधीय गुण के कारण इसे कई बीमारियों के घरेलू उपचार की तरह उपयोग किया जा सकता है। संतरे का तेल अरोमा थेरेपी का काम करता है। इसकी सुगंध मूड को फ्रेश करने का काम करती है, जिससे चिंता से मुक्ति मिल सकती है (2)।

2. जायफल

सामग्री :
  • आधा चम्मच जायफल पाउडर व तेल
उपयोग की विधि :
  • जायफल पाउडर को आहार में मसाले की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • जायफल के तेल को सूंघने से भी मूड अच्छा हो सकता है।
कितनी बार करें उपयोग :
  • खाने में लंच और डिनर में मसाला के तौर पर मिलाकर उपयोग करें।
कैसे है फायदेमंद :

जायफल पाउडर खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ आपको स्वस्थ रखने का भी काम करता है। इसका प्रयोग मानसिक व्यग्रता के लक्षण को दूर करने के लिए किया जा सकता है। जायफल में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो चिंता को दूर करने का काम कर सकते हैं (3) (4)। इसलिए, कह सकते हैं कि जायफल से घबराहट का इलाज किया जा सकता है।

3. बादाम

सामग्री :
  • बादाम तेल
  • लैवेंडर तेल
  • मिशेलिया अल्बा लीफ ऑयल
उपयोग की विधि :
  • सभी तेलों को आपस में मिला लें।
  • फिर इसे सिर पर लगाकर अच्छी तरह मालिश करें।
कितनी बार करें उपयोग :
  • आप रात को सोने से पहले इसे सिर पर लगा सकते हैं।
कैसे है फायदेमंद :

चिंता के इलाज के लिए तेल मालिश को सबसे बेहतर माना गया है। बादाम तेल, लैवेंडर तेल, मिशेलिया अल्बा लीफ ऑयल को मिलाकर लगाने से आपको चिंता से मुक्ति मिल सकती है। इसके मिश्रण से एंटी एंग्जायटी प्रभाव उत्पन्न होता है, जो आपको घबराहट के उपाय करने में सहायता कर सकता है (5)।

4. गाजर

सामग्री :
  • ताजी गाजर
  • मिक्सर
उपयोग की विधि :
  • गाजर को मिक्सर में पीसकर जूस बना लें।
  • फिर इस ताजे जूस को पिएं।
कितनी बार करें उपयोग :
  • इसे रोज सुबह पीने से मूड अच्छा रहता है। साथ ही सेहत के लिए भी लाभदायक होता है।
कैसे है फायदेमंद :

गाजर में विटामिन ए, विटामिन सी व विटामिन-के के साथ-साथ फाइबर व पोटैशियम जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो कई बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं। गाजर में पाया जाने वाला पोटैशियम चिंता और तनाव से राहत देने का काम करता है (6)। इसलिए, गाजर का उपयोग घबराहट के उपचार में किया जा सकता है।

5. स्ट्रॉबेरी

सामग्री :
  • 8 से 10 स्ट्रॉबेरी
उपयोग की विधि :
  • ताजी स्ट्रॉबेरी को अच्छी तरह धोकर खाएं।
कितनी बार करें उपयोग :
  • प्रतिदिन सुबह और शाम कुछ स्ट्रॉबेरी खाएं।
कैसे है फायदेमंद :

चिंता का कारण एंटीऑक्सीडेंट कि कमी भी हो सकती है। एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध आहार के सेवन करने से चिंता के समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। स्ट्रॉबेरी में एंटीऑक्सीडेंट गुण की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो चिंता से मुक्ति दिलाने में मददगार हो सकता है (4)।

[ पढ़े: स्‍ट्रॉबेरी के 19 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

6. पालक

सामग्री :
  • ताजी हरी पालक
उपयोग की विधि :
  • पालक को मिक्सर में पीसकर जूस बना लें।
  • फिर इसे पी लें।
  • पालक को सब्जी के तौर पर भी खा सकते हैं।
कितनी बार करें उपयोग :
  • प्रतिदिन 1 गिलास तक जूस पी सकते हैं।
  • आप रोज एक कप सब्जी भी खा सकते हैं।
कैसे है फायदेमंद :

पालक का सेवन शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए उपयोगी माना जाता है। इसमें एंटी स्ट्रेस और एंटी डिप्रेसिव प्रभाव पाए जाते हैं, जो आपको तनाव मुक्त रहने में मददगार साबित होते हैं। इसमें मौजूद कैलोरीज, रक्त में कॉर्टिकोस्टेरोन (एक तरह का हार्मोन) की मात्रा को कम करने का काम करती है। इससे तनाव से राहत मिलने मदद मिलती है। इसलिए, चिंता से मुक्ति के लिए पालक का सेवन करना चाहिए (7)

7. एवोकाडो

सामग्री :
  • एवोकाडो का तेल
उपयोग की विधि :
  • एवोकाडो के तेल से सिर की मालिश करें।
  • आप एवोकाडो के फल को खा भी सकते हैं।
कितनी बार करें उपयोग :
  • आप रोज सुबह इसका सेवन कर सकते हैं और रात में इसके तेल से सिर की मालिश कर सकते हैं।
कैसे है फायदेमंद :

एवोकाडो फल में कुछ ऐसे गुण पाए जाते हैं, जो चिंता से राहत दिलाने में सहायता कर सकते हैं। एवोकाडो में विटामिन बी पाया जाता है, जो चिंता से मुक्ति दिलाने में मदद करता है (4)। इसके अलावा, एवोकाडो में सेरोटोनिन (एक तरह का न्यूरोट्रांसमीटर) और डोपामाइन (एक तरह का हार्मोन व न्यूरोट्रांसमीटर) भी होता है, जो मूड को बेहतर करने का काम कर सकते हैं (8)।

8. रोजमेरी

सामग्री :
  • एक चम्मच रोजमेरी तेल
  • एक चम्मच पेपरमिंट तेल
उपयोग की विधि :
  • तेलों को मिलाकर गर्म कर लें।
  • फिर उससे सिर पर अच्छे से मालिश कर लें।
  • इससे आपको तनाव और चिंता से मुक्ति मिलेगी।
कैसे है फायदेमंद :

एक अध्ययन से यह साबित हो गया है कि रोजमेरी तेल का उपयोग चिंता से मुक्त होने के लिए किया जा सकता है। रोजमेरी व पेपरमिंट ऑयल अरोमा थेरेपी की तरह काम करते हैं, जो आपको चिंता से मुक्त करने के साथ-साथ सुकून की नींद प्रदान करने का भी काम कर सकते हैं (9)। डॉक्टरों की मानें तो ब्राह्मी और जटामांसी तेल भी इसके लिए उपयोगी हो सकता है।

आगे है और जानकारी

चिंता से छुटकारा पाने के लिए कौन-सा आहार सही होगा इसके बारे में आगे समझेंगे।

चिंता के लिए आहार – Diet For Anxiety in Hindi

  • फाइबर और ओमेगा-3-पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड युक्ता खाद्य पदार्थ का सेवन करें।
  • पालक
  • स्ट्रॉबेरी
  • गाजर
  • संतरा
  • बादाम
  • सौंफ

इलाज के बारे में पढ़ें

चिंता के इलाज के बारे में आगे जानकारी देंगे।

चिंता का इलाज – Treatment of Anxiety in Hindi

चिंता को दूर करने के लिए घरेलू उपचार के अलावा कुछ और टिप्स भी हैं, जिनके बारे में यहां बता रहे हैं (10) :

  • बुसपिरोन– यह एक तरह की दवाई है, जो चिंता से राहत पहुंचाने का काम कर सकती है। इस दवाई के दुष्प्रभाव होने का जोखिम भी कम होता है।
  • एंटीडिप्रेसन्ट– कई बार चिंता अधिक होने पर एंटीडिप्रेसन्ट दवाई का उपयोग किया जाता है। एंटीडिप्रेसेंट्स दवाइयों में सेरोटोनिन रीप्टेक इनहिबिटर ,एस्सिटालोप्राम, पैरोक्सीटिन, और सेरोटोनिन-नॉरपेनेफ्रिन रीप्टेक इनहिबिटर आते हैं।
  • एन्जोदिअजेपिनेस– इस दवाई के उपयोग से चिंता से मुक्ति पाने में मदद मिल सकती है, क्योंकि इसमें एंटी एंग्जायटी प्रभाव पाए जाते हैं। इस दवाई से दुष्प्रभाव होने का भी खतरा बना रहता है।

बचाव जानिए

चलिए, अब चिंता से बचने के उपाय के बारे में जानते हैं।

चिंता से बचने के उपाय – Prevention Tips for Anxiety in Hindi

  • खुल के हंसना– तनाव या चिंता का कारण कुछ भी हो सकता है, लेकिन इससे बचने के लिए आपको हमेशा खुश रहना चाहिए। खुल कर हंसने से किसी भी चीज को लेकर चिंता कम हो जाती है। इसका मानसिक स्वास्थ्य पर भी अच्छा असर देखा जा सकता है (11)।
  • व्यायाम– मॉर्निंग व इवनिंग वॉक, जॉगिंग और व्यायाम आपको चिंता मुक्त रखने में मदद कर सकता है। रोज खुली हवा में थोड़ी देर सैर करने से तनाव से मुक्त होने में मदद मिलती है (14)।
  • मेडिटेशन– मेडिटेशन के सहारे दिमाग को किसी वस्तु या विचार पर केंद्रित किया जाता है। इससे मानसिक और भावनात्मक रूप से शांति प्राप्त हो सकती है। योग की तरह ही ध्यान भी न्यूरोट्रांसमीटर को ट्रिगर करता है, जो चिंता के लक्षणों को नियंत्रित करने में सहायता पहुंचाता है (12)।
  • पर्याप्त नींद – अच्छी नींद लेने पर चिड़चिड़ापन और तनाव आपसे दूर रहता है। साथ ही चिंता को खत्म करने में भी मदद मिलती है। इसलिए, पर्याप्त नींद लेनी चाहिए (13
  • डीप ब्रीदिंग – जब हम अधिक तनाव में होते हैं, तो आंखें बंद करके गहरी सांस लेने लगते हैं। इससे तनाव से राहत मिलती है। गहरी सांस लेने से शरीर में ऊर्जा का सही से प्रवाह होने लगता है, जो आपको चिंता मुक्त रखने का भी काम करता है (14)।
  • एसेंशियल तेल का उपयोग– चिंता और तनाव से छुटकारा पाने के लिए तेल से मालिश करना बरसों से चला आ रहा है। इसके लिए एसेंशियल तेल को सबसे बेहतर माना जा सकता है। यह आपको चिंता मुक्त करने के साथ-साथ अच्छी नींद दिलाने का भी काम करता है।
  • स्वस्थ आहार – स्वस्थ आहार का प्रभाव सिर्फ शरीर पर ही नहीं होता, बल्कि यह आपके मानसिक स्वास्थ्य को भी अच्छा करता है। साथ ही चिंता को भी दूर करने का काम करता है। एक अध्ययन में कहा गया है कि कच्चे फलों और सब्जियों का अधिक सेवन मानसिक स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाता है (15)।
  • धूम्रपान से दूर– धूम्रपान आपके लिए कैंसर का कारण बन सकता है। साथ ही आपके लिए तनाव और चिंता उत्पन्न कर सकता है। यह सब सिगरेट के धुएं में मौजूद निकोटीन के कारण होता है, जो आपके मानसिक स्वास्थ्य को पूरी तरह से बिगाड़ सकता है (16)। ऐसे में धूम्रपान से बचें और खुद को चिंता मुक्त रखें।
  • शराब और कैफीन से दूर रहे– शराब और कैफीन युक्त पेय भी चिंता को बढ़ाने का काम कर सकते हैं। शराब या कैफीन पीने से शुरू में कुछ समय के लिए चिंता से राहत मिल सकती है, लेकिन बाद में यह लंबे समय तक चिंता का कारण बन सकता है। इसलिए, शराब और कैफीन के सेवन से बचें (17) (18)। (19)

इस लेख को पढ़ने के बाद आप समझ ही गए होंगे कि चिंता से दूर रहने के लिए किन उपायों को अपनाना चाहिए। साथ ही इसके घरेलू उपचार की जानकारी चिंता से मुक्त होने में मदद कर सकती है। मूड को अच्छा रखने के लिए बताए गए खाद्य पदार्थ आपके लिए लाभदायक हो सकते हैं। आशा करते हैं कि यह लेख आपको चिंता मुक्त करने में मदद करेगा।

Sources

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.
  1. Anxiety disorders
    https://www.womenshealth.gov/mental-health/mental-health-conditions/anxiety-disorders
  2. Ambient odors of orange and Lavender reduce anxiety and improve mood in a dental office
    https://www.researchgate.net/publication/7664124_Ambient_odors_of_orange_and_Lavender_reduce_anxiety_and_improve_mood_in_a_dental_office
  3. Antioxidant and Antiinflammatory Compounds in Nutmeg (Myristicafragrans) Pericarp as Determined by in vitro Assays
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26434127/
  4. Nutritional strategies to ease anxiety
    https://www.health.harvard.edu/blog/nutritional-strategies-to-ease-anxiety-201604139441
  5. A Study of the Effects of Lavender Aromatherapy on Preoperative Anxiety in Breast Surgery Patients
    https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT03445130
  6. The carrot and the stick: affective commitment and acceptance anxiety as motives for discretionary group efforts by respected and disrespected group members
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/16382085/
  7. Anti-Stress and Anti-Depressive Effects of Spinach Extracts on a Chronic Stress-Induced Depression Mouse Model through Lowering Blood Corticosterone and Increasing Brain Glutamate and Glutamine Levels
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6262511/
  8. Featured Links
    https://portal.ct.gov/dmhas
  9. Effects of Aromatherapy on Test Anxiety and Performance in College Students
    https://eric.ed.gov/?id=ED561747
  10. Treating generalized anxiety disorder in the elderly
    https://www.health.harvard.edu/mind-and-mood/treating-generalized-anxiety-disorder-in-the-elderly
  11. Therapeutic Benefits of Laughter in Mental Health: A Theoretical Review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/27439375/
  12. Exercise in the treatment of clinical anxiety in general practice – a systematic review and meta-analysis
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6048763/
  13. Meditation and Yoga can Modulate Brain Mechanisms that affect Behavior and Anxiety-A Modern Scientific Perspective
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4769029/
  14. Sleep and anxiety disorders
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3181635/
  15. A better state-of-mind: deep breathing reduces state anxiety and enhances test performance through regulating test cognitions in children
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/27666392/
  16. Intake of Raw Fruits and Vegetables Is Associated With Better Mental Health Than Intake of Processed Fruits and Vegetables
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5902672/
  17. Cigarette Smoking and Onset of Mood and Anxiety Disorders
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3726564/
  18. The relationship between anxiety disorders and alcohol use disorders: a review of major perspectives and findings
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/10721495/
  19. Caffeine consumption and self-assessed stress, anxiety, and depression in secondary school children
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4668773/

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
भूपेंद्र वर्मा ने सेंट थॉमस कॉलेज से बीजेएमसी और एमआईटी एडीटी यूनिवर्सिटी से एमजेएमसी किया है। भूपेंद्र को लेखक के तौर पर फ्रीलांसिंग में काम करते 2 साल हो गए हैं। इनकी लिखी हुई कविताएं, गाने और रैप हर किसी को पसंद आते हैं। यह अपने लेखन और रैप करने के अनोखे स्टाइल की वजह से जाने जाते हैं। इन्होंने कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्म की स्टोरी और डायलॉग्स भी लिखे हैं। इन्हें संगीत सुनना, फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

ताज़े आलेख