छुहारे के फायदे, उपयोग और नुकसान – Dry Dates Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

Medically Reviewed By Neelanjana Singh, RD
Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

ड्राई फ्रूट्स शरीर को सेहतमंद बनाने के साथ ही कमजोरी और बीमारी से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। इन्हीं ड्राई फ्रूट्स में से एक नाम छुहारा का भी है। यह देखने में तो छोटा होता है, लेकिन गुणों के मामले इसका कोई जवाब नहीं। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम छुहारे खाने के फायदे और नुकसान के साथ ही इसके गुणों के बारे में जानकारी लेकर आए हैं। साथ ही यहां हम अपनी डाइट में छुहारा शामिल करने के टिप्स भी देंगे।

शुरू करते हैं लेख

लेख में सबसे पहले हम जान लेते हैं कि आखिर छुहारा क्या होता है।

छुहारा क्या है – What is Dry Dates

डेट्स की गिनती सूखे मेवों में की जाती है, जिसके कई लाभ हैं। इसके गुणों की वजह से इसके पेड़ को जीवन का वृक्ष, रेगिस्तान की रोटी आदि नामों से जाना जाता है (1)। इसके चार प्रकार हैं, जिनमें से एक छुहारा (सूखा खजूर) भी है, जो खाने में बेहद स्वादिष्ट और मीठा होता है (2)। खजूर की ही तरह छुहारा भी कई गुणों से भरपूर होता है, लेकिन खजूर की तुलना यह थोड़ा कम प्रभावी माना जाता है। लेख में हमने इसके फायदों के बारे में विस्तार से बताया है।
स्क्रॉल करें

अब जानते हैं, छुहारे के फायदों के बारे में।

छुहारे के फायदे – Benefits of Dry Dates in Hindi

छुहारे में कई प्रकार के पोषक तत्व और औषधिय गुण पाए जाते हैं जो इसे सेहत के लिए फायदेमंद बनाते हैं। यहां हम उन्हीं फायदों का जिक्र करने वाले हैं। हालांकि उससे पहले हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि छुहारे के गुण शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद जरूर कर सकते हैं, लेकिन ये किसी बीमारी का इलाज साबित नहीं हो सकते। अब जानें छुहारे खाने के फायदे :

1. सम्पूर्ण स्वास्थ्य के लिए

छुहारे का उपयोग सेहत से जुड़ी किसी एक या दो बीमारियों में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण स्वस्थ्य के लिए किया जा सकता है। दरअसल, डेट्स कई गुणों से समृद्ध होते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो सूजन की समस्या को कम करने में मदद कर सकते है। इसके अलावा यह एंटीऑक्सीडेंट गुण से भी भरपूर होता है, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और लीवर टॉक्सीटी को कम कर सकता है (3)।

यही नहीं, इसमें मौजूद एंटी माइक्रोबियल प्रभाव कई प्रकार के संक्रमण को दूर करने में मददगार हो सकता है, साथ ही इसमें एंटी-डायबिटिक प्रभाव भी होता है, जो मधुमेह की समस्या में फायदेमंद हो सकता है (3)। यही वजह है कि छुहरे को संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता है।

2. कैंसर की रोकथाम करे

छुहारा कैंसर से बचाए रखने के लिए भी उपयोगी साबित हो सकता है। इस पर हुए एक शोध में पाया गया है कि छुहारे में एंटीट्यूमर और एंटी कैंसर गुण होते हैं, जो कैंसर के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं (3)। साथ ही छुहारे खाने के लाभ यह भी हैं कि यह आंत में अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ा सकता है, जिससे आंत स्वस्थ बनी रह सकती हैं। साथ ही, यह आंत के कैंसर (कोलन कैंसर) की कोशिकाओं को नष्ट करने का काम भी कर सकता है (4)।

बता दें कि कैंसर के मामले में छुहारा सिर्फ कुछ हद तक मदद कर सकता है। यह कभी भी मेडिकल ट्रीटमेंट का विकल्प साबित नहीं हो सकता। इसलिए, कैंसर की समस्या में डॉक्टर से इलाज जरूर करवाना चाहिए।

3. हृदय रोग का खतरा कम करे

हृदय रोग को दुनिया में मृत्यु का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। ऐसे में हृदय रोग के जोखिमों को कम करने के लिए छुहारे का सेवन करना लाभकारी साबित हो सकता है। इस बारे में एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध से पता चलता है कि छुहारा हृदय रोग के जोखिमों को कम करने में मदद कर सकता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट, हाइपोलिपिडेमिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एपोप्टोटिक प्रभाव पाए जाते हैं, जो मायोकार्डियल डैमेज यानी दिल के दौरे को रोकने में मददगार हाे सकते हैं (5)।

वहीं एक अन्य रिसर्च पेपर में बताया गया है कि छुहारा उच्च रक्तचाप की समस्या, कोलेस्ट्रॉल, लिपिड ऑक्सीडेशन (फ्री रेडिकल्स का एक तरह का प्रभाव) और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम कर सकता है, जो कार्डियोवस्कुलर रोग होने के अहम कारण माने जाते हैं। इन कारणों को कम करके छुहारे के गुण हृदय रोग का खतरा कम करने में मदद कर सकते हैं (6)।

4. संक्रमण से राहत दिलाए

जैसा कि हमने लेख के शुरूआत में बताया है कि छुहारा कई गुणों से समृद्ध होता है और ऐसा ही एक गुण है एंटीमाइक्रोबियल। यह गुण न केवल संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर सकता है बल्कि उन्हें दोबारा पनपने से भी रोक सकता है (3)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि छुहारे का सेवन कर संक्रमण से बचाव किया जा सकता है।

5. पेट की समस्या से आराम

पेट से जुड़ी समस्या किसी को भी हो सकती है। वहीं, छुहारे का उपयोग पेट की परेशानी के इलाज के लिए किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल औषधिय तौर पर क्लीजिंग एजेंट के रूप में किया जा सकता है, जाे आंतों को साफ करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा इसमें एंटीडायरेहियल प्रभाव होता है जो दस्त की समस्या में मददगार हाे सकता है। इसके एंटीडिसेंटरी और लेक्सेटिव प्रभाव एस्केरिस नामक आंतों के कीड़े को मारने में मदद कर सकते हैं (2)।

वहीं, शोध में इस बात का भी जिक्र मिलता है कि उल्टी और दस्त के कारण होने वाले निर्जलीकरण की समस्या के लिए भी छुहारे का इस्तेमाल किया जा सकता है। माना जाता है कि छुहारे के पानी का अर्क पेट की हाइपरएसिडिटी के साथ-साथ ब्लड एसिडिटी को कम करने में भी मदद कर सकता है (2)। यही वजह है कि पेट की समस्याओं के लिए छुहारे के सेवन की सलाह दी जाती है।

6. एनीमिया की समस्या में लाभकारी

एनीमिया की समस्या का मुख्य कारण शरीर में आयरन की कमी को माना जाता है (7)। वहीं, इस कमी को पूरा करने के लिए छुहारे खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, छुहारा आयरन से समृद्ध होता है। इसका इस्तेमास आयरन सप्लीमेंट्स के तौर पर किया जा सकता है। यह बिना किसी दुष्प्रभाव के आयरन की कमी को पूरा करने में मदद कर सकता है (2)। वहीं, इस बात का भी ध्यान रहे कि एनीमिया की समस्या में डॉक्टरी उपचार को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

यहां हम एक बार फिर से बता दें कि खजूर की ही तरह छुहारा भी उन्हीं पोषक तत्वों से भरपूर होता है। हालांकि, खजूर की तुलना में छुहारे में पानी की मात्रा कम होती है, लेकिन इसमें कुछ सूखे रूप में पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

7. ऊर्जा बढ़ाने में छुहारे खाने के लाभ

छुहारे की गिनत एक एनर्जेटिक फूड के तौर पर भी की जा सकती है। बता दें कि छुहारे में लगभग 70 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट मौजूद होते हैं। यह आसानी से ग्लूकोज में बदल कर ब्लड में पहुंच जाता है, जो शरीर के लिए ऊर्जा का स्रोत बन सकता है (2)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि छुहारा शरीर को ऊर्जावान बनाने में कारगर साबित हो सकता है।

8. मांसपेशियों को मजबूत बनाए

मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए अक्सर लोग प्रोटीन सप्लीमेंट्स लेते हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि एक्सरसाइज के साथ प्रोटीन मसल्स मास को बढ़ाता है और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है (8)। छुहारे में भी समृद्ध मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जो मांसपेशियों को मजबूत बनाए रखने में मदद कर सकता है (2)।

शारीरिक मांसपेशियों के साथ-साथ छुहारा कार्डियोमायोपैथी (हृदय की मांसपेशियों का रोग) के दौरान हृदय की मांसपेशियों को मजबूत बनाए रखने में भी मदद कर सकता है (5)। फिलहाल, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

9. त्वचा के लिए छुहारे के फायदे

स्किन एजिंग के कारण त्वचा समय से पहले ही बूढ़ी और झुर्रिदार दिखाई देने लगती है। इस समस्या से बचने के लिए भी छुहारे के साथ ही उसके बीज का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, एक शोध में पाया गया कि छुहारे की बीज के अर्क में एंटीएजिंग और एंटी-रिंकल प्रभाव होते हैं। यह प्रभाव स्किल एजिंग की समस्या में कुछ हद तक फायदेमंद हाे सकता है और झुर्रियों को कम करने में मददगार हो सकते हैं (9)।

10. बालों को रखे स्वस्थ

बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से एक है आयरन की कमी से होने वाला एनिमिया। इस समस्या में भी छुहारे का सेवन फायदेमंद हो सकता है। रिसर्च के अनुसार छुहारे में आयरन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो एनिमीया को कुछ हद तक कम करने में मदद कर सकती है। इससे एनिमीया के कारण होने वाले बालों की क्षती को भी रोका जा सकता है (10)।

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस हिस्से में हम आपको छुहारे के पोषक तत्वों के बारे में बता रहे हैं।

छुहारे के पौष्टिक तत्व – Dry Dates Nutritional Value in Hindi

छुहारे में कार्बोहाइड्रेट, शुगर, फाइबर और प्रोटीन के साथ नीचे बताए गए कई पोषक तत्व पाए जाते हैं (11):

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी8.35 ग्राम
ऊर्जा371 कैलोरी
प्रोटीन8.82 ग्राम
फैट6.98 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट72.4 ग्राम
फाइबर6.9 ग्राम
शुगर30.8 ग्राम
कैल्शियम297 मिलीग्राम
आयरन10.7 मिलीग्राम
मैग्नीशियम92 मिलीग्राम
फास्फोरस296 मिलीग्राम
पोटैशियम374 मिलीग्राम
सोडियम516 मिलीग्राम
जिंक1.94 मिलीग्राम
कॉपर0.364 मिलीग्राम
मैंगनीज2.22 मिलीग्राम
सिलेनियम16.4 माइक्रोग्राम
विटामिन सी0.8 मिलीग्राम
थियामिन0.892 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन1.02 मिलीग्राम
नियासिन12 मिलीग्राम
पैंटोथैनिक एसिड0.675 मिलीग्राम
विटामिन बी-61.2 मिलीग्राम
फोलेट डीएफई381 माइक्रोग्राम
विटामिन ए आईयू2990 आईयू
विटामिन ई0.55 मिलीग्राम
विटामिन के2 माइक्रोग्राम
फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड1.07 ग्राम
फैटी एसिड टोटल मोनोअनसैचुरेटेड1.9 ग्राम
फैटी एसिड टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड3.24 ग्राम

पढ़ते रहें

छुहारे के गुण और छुहारे खाने के लाभ जानने के बाद, अब हम छुहारे खाने के तरीकों के बारे में बता रहे हैं।

छुहारे का उपयोग – How to Use Dry Dates in Hindi

छुहारे खाने के तरीके के बारे में बात करें, तो नीचे बताए गए तरीकों से छुहारों का सेवन कर सकते हैं:

कैसे खाएं :

  • छुहारों को साबुत खा सकते हैं।
  • इसका पेस्ट बना कर इसे मिठाइयों में शक्कर की जगह उपयोग कर सकते हैं।
  • एक गिलास गर्म दूध में एक या दो छुहारों को डालकर सेवन कर सकते हैं।
  • ठंडे दूध में भी छुहारा डालकर स्मूदी तैयार कर सकते हैं।
  • इसका इस्तेमाल मीठे व्यंजनों में ड्राई फ्रूट की तरह भी कर सकते हैं।
  • इसके टुकड़े करके सिरीअल या मुस्ली में डाल कर भी खा सकते हैं।

कब खाना चाहिए :

माना जाता है कि छुहारों का सेवन सर्दियों के दौरान ज्यादा करना चाहिए। इसके अलावा, इसे नाश्ते में खाने की सलाह दी जाती है। हालांकि, इच्छानुसार किसी भी समय इसका सेवन कर सकते हैं।

कितना खाना चाहिए :

साबुत दो या तीन छुहारों का सेवन किया जा सकता है। साथ ही व्यक्ति के स्वास्थ्य के आधार पर इसकी मात्रा में बदलाव हो सकता है। इस संबंध में आहार विशेषज्ञ सही सलाह दे सकते हैं।

अंत तक पढ़ें

यहां हम जानेंगे कि छुहारे को लंबे समय तक किस प्रकार से सुरक्षित रखा जा सकता है।

छुहारे को लम्बे समय तक सुरक्षित केसे रखे

छुहारे को लंबे समय तक सुरक्षित रखने के लिए सबसे पहले जरूरी है उसका चुनाव। इसे पूरी तरह से जानने के लिए नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • हमेशा ताजे और नरम छुहारों का चुनाव करना चाहिए।
  • ध्यान रहे कि उन पर क्रिस्टल शुगर नहीं होनी चाहिए और उनका रंग समान होना चाहिए।
  • इसके साथ ही इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि खजूर में किसी भी प्रकार के छेद नहीं हाें नहीं तो उनमें कीड़े हो सकते हैं।
  • ताजे छुहारे को एयरटाइट डिब्बे में भरकर फ्रिज में रखें इस प्रकार से इन्हें 1 साल तक रखा जा सकता है।
  • एक एयरटाइट कंटेनर में रखे जाने पर फ्रीजिंग छुहारे को लंबे समस तक उपयोग किया जा सकता है।

आगे है कुछ खास

छोहाड़ा खाने के फायदे के के बाद अब लेख के अगले भाग में जानिए छुहारे खाने के नुकसान के बारे में।

छुहारे के नुकसान – Side Effects of Dry Dates in Hindi

खजूर का ही सूखा रूप छुहारा होता है। इसलिए, खजूर से होने वाले नुकसान छुहारे के जरिए भी हो सकते हैं। नीचे जानिए छुहारे खाने के नुकसान:

  • छुहारे में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है (11)। वहीं, अधिक मात्रा में फाइबर का सेवन पेट से जुड़ी समस्या का कारण बनसकता है जिसमें ब्लोटिंग यानी पेट फूलने की समस्या, गैस और पेट दर्द शमिल है (12)।
  • मधुमेह रोगी इसके अधिक सेवन से बचें, क्योंकि अधिक सेवन से ब्लड शुगर का स्तर बढ़ सकता है।

नोट : छुहारे में भरपूर मात्रा में शुगर पाया जाता है और इसका अधिक सेवन ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है।

अब आप छुहारे खाने के फायदे और नुकसान दोनों से अच्छी तरह से वाकिफ हो गए होंगे। रोजमर्रा के जीवन में ऊर्जा बढ़ाने से लेकर कई बीमारियों का खतरा कम करने के लिए छोहाड़ा खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि छुहारे का उपयोग किसी प्रकार के मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए नहीं किया जा सकता है। साथ भी छुहारे खाने के नुकसान से बचने के लिए इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

खाली पेट छुहारा खाने का क्या फायदा है?

खाली पेट छुहारा खाने का फायदा यह है कि ये शरीर में मौजूद टॉक्सिक यानी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद कर सकता है (13)।

मुझे एक दिन में कितने सूखे छुहारा खाने चाहिए?

एक दिन में दो या तीन छुहारों का सेवन किया जा सकता है।

सूखे और सामान्य छुहारे में से कौन सा बेहतर है?

सूखे छुहारे की तुलना में सामान्य छुहारे में विटामिन की मात्रा अधिक होती है, क्योंकि सुखाने की प्रक्रिया के दौरान विटामिन नष्ट हो जाते हैं। सूखे खजूर को विटामिन राइबोसेविन, पाइरिडोक्सिन, नियासिन और फोलिक एसिड का एक मध्यम स्रोत माना जा सकता है। जबकि सामान्य खजूर की तुलना में सूखे खजूर में थायमिन, विटामिन सी और विटामिन ए कम मात्रा में मौजूद होते हैं (2)।

सूखा छुहारा खाने का सबसे अच्छा समय क्या है?

सूखे छुहारे को कभी भी खाया जा सकता है। वैसे माना जाता है कि छुहारों का सेवन सर्दियों के दौरान ज्यादा करना चाहिए। इसके अलावा, इसे नाश्ते में खाने की सलाह दी जाती है।

क्या सूखा छुहारे खाने से बढ़ता है वजन?

नहीं, छुहारा खाने से वजन नहीं बढ़ता है। बताया जाता है कि सीमित मात्रा में इसका सेवन करने से वजन नियंत्रण में काफी हद तक मदद मिल सकती है (14)।

किशमिश छुहारे खाने के फायदे क्या हैं?

किशमिश छुहारे खाने के फायदे कई सारे हैं। जैसा कि हमने लेख में बताया कि छुहारा एनीमिया और पेट की समस्या के साथ-साथ हृदय रोगों के जोखिमों को कम करने में मदद कर सकता है (2)। वहीं, किशमिश की बात करें तो किशमिश मुंह को स्वस्थ रखने के अलावा हृदय, आंत और अल्जाइमर की समस्या को भी दूर रखने में कारगर साबित हो सकता है (15)।

क्या शहद में छुहारा मिलाकर खाना फायदेमंद हो सकता है?

हां, शहद में छुहारा मिलाकर खाना फायदेमंद हो सकता है। बता दें कि सेहत के लिए शहद के भी लाभ कई सारे हैं। इसका इस्तेमाल आंखों के रोग, अस्थमा, गले में संक्रमण, हिचकी, थकान, चक्कर, हेपेटाइटिस, कब्ज, बवासीर, अल्सर आदि के लिए किया जा सकता है (16)।

वहीं, छुहारे के गुणों की बात करें तो यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ-साथ फिटनेस और दर्द से राहत के दिला सकता है। इसके अलावा, छुहारा कैंसर और हृदय रोग सहित कई बीमारियों से बचाने में मदद कर सकता है (2)।

छुहारे और दूध के फायदे कौन कौन से हो सकते हैं?

छुहारे और दूध का सेवन करने के कई सारे लाभ हैं। यह शरीर को ऊर्जा प्रदान कर सकता है। इसके अलावा, इसमें मौजूद लैक्सेटिव प्रभाव पेट को साफ करने में मदद कर सकते हैं। यही नहीं छुहारे और दूध आंतों की समस्या में भी मददगार हाे सकते हैं। साथ ही यह आयरन की कमी को दूर कर एनीमिया की समस्या में भी लाभकारी माना जा सकता है (17)।

क्या छुहारा पानी में भिगोकर खाने के फायदे हैं?

छुहारे को पानी में भिगोकर खाने से यह कई प्रकार के फायदे प्रदान कर सकता है, जिनमें पेट की समस्या, भूलने की बीमारी और दर्द से राहत शामिल है। इसके साथ ही यह तंत्रिका संबंधी समस्या को दूर कर इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने भी मददगार साबित हो सकता है (2)।

संदर्भ (Sources):

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Date fruit (Phoenix dactylifera L.): An underutilized food seeking industrial valorization
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S2352364616300463#bb0250
  2. Nutritional and Medicinal Value of Date Fruit
    https://www.researchgate.net/publication/257416165_Nutritional_and_Medicinal_Value_of_Date_Fruit
  3. Therapeutic effects of date fruits (Phoenix dactylifera) in the prevention of diseases via modulation of anti-inflammatory antioxidant and antitumor activity
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3992385/
  4. The impact of date palm fruits and their component polyphenols on gut microbial ecology bacterial metabolites and colon cancer cell proliferation
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4473134/
  5. Date Palm (Phoenix dactylifera) Fruits as a Potential Cardioprotective Agent: The Role of Circulating Progenitor Cells
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5591459/
  6. An extract from date palm fruit (Phoenix dactylifera) acts as a co-agonist ligand for the nuclear receptor FXR and differentially modulates FXR target-gene expression in vitro
    https://journals.plos.org/plosone/article?id=10.1371/journal.pone.0190210
  7. Anemia
    https://medlineplus.gov/anemia.html
  8. The effects of protein supplements on muscle mass strength and aerobic and anaerobic power in healthy adults: a systematic review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25169440/
  9. Date palm kernel extract exhibits antiaging properties and significantly reduces skin wrinkles
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12779247/
  10. The Effect of a Date Consumption-Based Nutritional Program on Iron Deficiency Anemia in Primary School Girls Aged 8 to 10 Years Old in Zahedan (Iran)
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6927593/
  11. Cereals QUAKER Instant Oatmeal raisins dates and walnuts dry
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/174625/nutrients
  12. Fiber
    https://medlineplus.gov/ency/article/002470.htm
  13. Nutritional and Potential Planting of Date Palm: Review of Recent Trends and Future Prospects in Malaysia
    https://www.researchgate.net/publication/341812831_Nutritional_and_Potential_Planting_of_Date_Palm_Review_of_Recent_Trends_and_Future_Prospects_in_Malaysia
  14. Effects of Daily Low-Dose Date Consumption on Glycemic Control Lipid Profile and Quality of Life in Adults with Pre- and Type 2 Diabetes: A Randomized Controlled Trial
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7019638/
  15. Is Eating Raisins Healthy?
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/31878160/
  16. Honey and Health: A Review of Recent Clinical Research
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5424551/
  17. Date Palm and Goat Milk Improve Haematological Parameters and Availability of Functional Iron in Iron Deficient Rats
    https://medic.upm.edu.my/upload/dokumen/2020090809403109_MJMHS_0636.pdf

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsup
The following two tabs change content below.
पुजा कुमारी ने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में एमए किया है। इन्होंने वर्ष 2015 में अपने... more

Neelanjana Singh

(RD)
Neelanjana Singh has over 30 years of experience in the field of nutrition and dietetics. She created and headed the... more

ताज़े आलेख