घरेलू उपचार

दांत दर्द के 15 बेहतरीन घरेलू इलाज – Tooth Pain (Dant Dard) Home Remedies in Hindi

दांत दर्द के 15 बेहतरीन घरेलू इलाज – Tooth Pain (Dant Dard) Home Remedies in Hindi Hyderabd040-395603080 May 9, 2019

जरा सोचिए, आप अपनी पसंदीदा आइसक्रीम खा रहे हों और खाते-खाते अचानक दांत में तेज दर्द होने लगे। दांतों में होने वाली झनझनाहट वाकई में तकलीफदायक होती है। ऐसे में दांत दर्द का इलाज जल्द से जल्द करा लेना बेहतर होता है, ताकि यह समस्या गंभीर न हो जाए। ऐसे में एक ओर जहां कुछ लोग दांतों के डॉक्टर के पास जाकर दांत दर्द की दवा लेते हैं, तो वहीं कुछ लोग दांत दर्द के घरेलू उपचार अपनाते हैं।

अगर आप भी दांत दर्द से परेशान हैं और दांत दर्द की दवा नहीं लेना चाहते, तो स्टाइलक्रेज के इस लेख को जरूर पढ़ें। हम इस लेख में बताएंगे कि दांत का दर्द क्यों होता है। साथ ही दांत दर्द के घरेलू उपचार भी जानेंगे। आइए, पहले जानते हैं कि दांत दर्द के कारण क्या हैं।

दांत दर्द के कारण – Causes of Toothache Hindi

दांत दर्द के कई कारण हो सकते हैं, जिनके बारे में हम विस्तार से बता रहे हैं (1) :

  1. बाहरी परत कमजोर पड़ना : कई बार अम्लीय पदार्थों का ज्यादा सेवन करने से या जोर से ब्रश करने से दांतों की बाहरी परत कमजोर पड़ने लग जाती है। ऐसे में परत हटने के बाद अंदर का दांत दिखने लगता है, जिसे डेंटिन कहा जाता है। इस वजह से दांत में दर्द होने लगता है।
  1. संक्रमण : कभी-कभी दांत के आसपास या मसूड़ों में फोड़ा हो जाता है, जो दांत दर्द का कारण बन सकता है।
  1. अक्ल दाढ़ : दांतों के सबसे पीछे वाली दाढ़ को अक्ल दाढ़ कहते हैं। जब यह दाढ़ निकलती है, तो मसूड़ों में दबाव पड़ता है, जिससे दर्द होने लगता है।
  1. संवेदनशीलता : कई बार ठंडा या गर्म के संपर्क में आने से भी दांत दर्द करने लगते हैं।
  1. मसूड़ों की समस्याएं : कई तरह की मसूड़ों की समस्याएं भी दांत दर्द का कारण बनती हैं। मुंह में हल्का दर्द होना, मसूड़ों से खून आना आदि मसूड़ों की समस्याओं के अंतर्गत आता है। इलाज में देरी होने पर जबड़े की हड्डी, दांत और मसूड़ों को नुकसान पहुंच सकता है।
  1. दांतों में दरार आना : कई बार किसी न किसी वजह से दांत में चोट लग जाती है, जिस कारण दांतों में दरार आ जाती है। इस कारण भी दांतों में दर्द होने लगता है।
  1. ठीक से ब्रश न करना : कुछ लोग जल्दबाजी में या तो ठीक से ब्रश नहीं करते या फिर बहुत तेज रगड़कर ब्रश कर लेते हैं, जो दांत दर्द का कारण बन सकता है।

दांत दर्द के लक्षण – Symptoms of Tooth Pain in Hindi

दांत में दर्द होने पर आपको दर्द के साथ-साथ मुंह में काफी असहजता हो सकती है। इसके अलावा, दांत दर्द के लक्षण इस प्रकार के हो सकते हैं (1) :

  • कुछ भी चबाते समय दांतों में दर्द होना या झनझनाहट महसूस होना।
  • ठंडा या गर्म खाने पर संवेदनशीलता महसूस होना।
  • दांतों से खून आना और मसूड़ों की पकड़ कमजोर पड़ना।
  • जबड़े में और चेहरे पर सूजन आना।

दांत दर्द का घरेलू इलाज – Home Remedies for Toothache in Hindi

1. लौंग का तेल

clove oil Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • एक-दो बूंद लौंग का तेल

क्या करें?

  • जिस दांत में दर्द है, उस पर लौंग का तेल लगाएं।
  • कोशिश करें कि तेल आप अंदर न निगलें। इसे दांतों पर लगा रहने दें।

यह कैसे फायदा करता है?

दांत दर्द के घरेलू उपचार के तौर पर लौंग काफी प्रचलित है। लौंग में यूगेनोल होता है, जिस वजह से यह दर्द दूर करने में मदद करता है। दांत के दर्द के लिए लिए लौंग का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है। इसे दांत पर लगाने के कुछ देर बाद ही दर्द कम होने लगता है (2)।

सावधानी : लौंग तीखा मसाला है। इसे दांतों पर लगाने पर हल्की-सी जलन महसूस हो सकती है। संभव हो तो इसे इस्तेमाल करने से पहले एक बार अपने डेंटिस्ट से पूछ लें।

2. अदरक

सामग्री :

  • सूखी अदरक का एक छोटा टुकड़ा
  • एक चम्मच लाल मिर्च
  • पानी
  • रूई

क्या करें?

  • अदरक को पीसकर उसका पाउडर बना लें।
  • इस पाउडर में लाल मिर्च और पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं।
  • फिर इस पेस्ट को रूई की मदद से अपने दांतों पर लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

दांत दर्द का यह उपचार आपको तुरंत राहत दिलाने में मदद कर सकता है। अदरक में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो दर्द को कम कर सकता है। वहीं, लाल मिर्च में कैप्साइसिन होता है, जो दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है (11)।

सावधानी : ध्यान रहे कि आप रूई को अपने मसूड़ों पर न लगने दें। इससे आपको जलन महसूस हो सकती है।

3.  हींग

सामग्री :

  • एक चुटकी हिंग का पाउडर
  • 1-2 चम्मच नींबू का रस
  • रूई

क्या करें?

  • हींग को पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को दर्द वाले दांत पर रूई की मदद से लगाएं।
  • जब भी दांत में दर्द हो, इसका इस्तेमाल करें।

यह कैसे काम करता है?

हींग में एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो आपको दांत के दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं (12)। जब दांतों में कैविटी होती है, तो यह काफी फायदा पहुंचाता है। यह दांत दर्द के घरेलू उपचार में काफी कारगर है।

4. प्याज

Onion Pinit

Shutterstock

सामग्री :

कच्चे प्याज का छोटा टुकड़ा

क्या करें?

  • आप प्याज के टुकड़े को दर्द वाले दांत पर लगाएं।
  • इसे कुछ मिनट के लिए लगा रहने दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

प्याज को दांत के दर्द में काफी फायदेमंद पाया गया है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपको दांत दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं (6)।

5. लहसुन

सामग्री :

  • एक लहसुन की कली
  • एक चम्मच सेंधा नमक

क्या करें?

  • लहसुन की कली को अच्छी तरह पीसकर इसमें सेंधा नमक मिलाएं।
  • इस पेस्ट को दर्द वाले दांत पर लगाएं।
  • इस प्रक्रिया को आप दिन में दो बार दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

लहसुन में एलिसिन नामक एंटीबैक्टीरियल गुण होता है, जो उन बैक्टीरिया को मारता है, जिससे दांत में दर्द होता है (7)।

6. नमक का पानी

सामग्री :

  • एक गिलास गुनगुना पानी
  • एक चम्मच नमक

क्या करें?

  • पानी में अच्छी तरह नमक मिला लें।
  • फिर इस पानी से कुल्ला करें।
  • आप इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

नमक वाला गुनगुना पानी बैक्टीरिया को मारता है और दांत दर्द से राहत दिलाता है (8)।

7. वनीला एक्सट्रैक्ट

Vanilla extract Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • वनीला रस की दो-तीन बूंदें
  • रूई

क्या करें?

  • जिस दांत में दर्द हो रहा है, उस पर रूई की मदद से वनीला का रस लगाएं।
  • आपको जब भी दर्द हो, इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

वेनिला एक्सट्रैक्ट में एंटीसेप्टिक और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो दांत दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं (9)।

8. अमरूद का पत्ता

सामग्री :

  • 4-5 अमरूद के पत्ते
  • एक चम्मच नमक
  • पानी

क्या करें?

  • पत्तियों को पानी में डालकर उबालें। फिर पानी को छानकर पत्तियां निकाल लें।
  • जब पानी हल्का गर्म रह जाए, तो इसमें नमक डालें और फिर इससे कुल्ला करें।
  • इसके बाद पत्ताें को चबाएं।
  • इस प्रक्रिया को आप दिन में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

अमरूद के पत्तों में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो दांत दर्द से राहत दिलाने में मदद करते है।

9. टी बैग

सामग्री :

  • एक टी बैग
  • पानी

क्या करें?

  • टी बैग लें और इसे थोड़े से पानी से गीला करें।
  • फिर इस टी बैग को दांत पर लगाएं।
  • अगर आपके दांत ठंड के प्रति संवेदनशील नहीं हैं, तो लगाने से पहले टी बैग को कुछ समय के लिए बर्फ के पानी में रखें। इस प्रक्रिया को जरूरत के अनुसार दिन में एक या दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

दांत के दर्द का इलाज आप टी बैग से भी कर सकते हैं। चाय में टैनिन होता है, जो सूजन और दांत के दर्द को कम करने में मदद करता है (10)।

10. बेकिंग सोडा

Baking soda Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • बेकिंग सोडा
  • पानी
  • रूई

क्या करें?

  • रूई को पानी में भिगोएं और फिर इस पर बेकिंग सोडा लगाएं।
  • बेकिंग सोडा लगाकर रूई को दर्द वाले दांत पर लगाएं।
  • आप इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
  • आप चाहें तो, गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा मिलाएं और इस पानी से कुल्ला करें।

यह कैसे काम करता है?

बेकिंग सोडा में एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सूजन और दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं (11)।

11. ऑयल पुलिंग

सामग्री :

  • 1-2 बड़े चम्मच नारियल का तेल
  • गरम पानी
  • टूथब्रश
  • टूथपेस्ट

क्या करें?

  • लगभग 20 मिनट के लिए नारियल के तेल को अपने मुंह में रखें।
  • फिर मुंह से तेल को थूक दें।
  • इसके बाद गुनगुने पानी से कुल्ला करें।
  • कुल्ला करने के बाद सामान्य रूप से ब्रश कर लें।
  • आप ऐसा दिन में दो बार करें।

यह कैसे काम करता है?

इस तकनीक का इस्तेमाल दांतों में संक्रमण, मसूड़ों से खून बहना, मसूड़े की सूजन और अन्य मुंह की समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता है। नारियल के तेल में लोरिक एसिड की उच्च मात्रा होती है, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जिससे यह दांत दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है (12)। यह दांत के दर्द का इलाज काफी कारगर है।

12. दालचीनी

सामग्री :

  • 1 चम्मच दालचीनी पाउडर
  • 5 चम्मच शहद

क्या करें?

  • दालचीनी पाउडर में शहद मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को दर्द वाले दांत पर लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

दांत के दर्द का इलाज करने में दालचीनी काफी काम आती है। दालचीनी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो दांत के दर्द से राहत पहुंचाते हैं (12)। वहीं, शहद में भी एंटीमाइक्रोबियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो इस समस्या से निजात दिलाते हैं (13)। यह बेहतरी दांत दर्द का घरेलू उपचार है।

13. पेपरमिंट

सामग्री :

  • 1 चम्मच सूखे पुदीना के पत्ते
  • 1 कप उबलता पानी

क्या करें?

  • मिंट की पत्तियों को उबले हुए पानी में 20 मिनट तक डाले रखें।
  • फिर इसे ठंडा होने पर छान लें और इस पानी से कुल्ला करें।

यह कैसे काम करता है?

दांत दर्द का इलाज आप मिंट से भी कर सकते हैं। मिंट में आपके मुंह के प्रभावित हिस्से को सुन्न करने की क्षमता होती है। इसमें मेन्थॉल नामक तत्व होता है, जो आपके मसूड़ों और दांतों को ठंडक देता है। साथ ही जलन व सूजन से भी छुटकारा मिलता है (14)। इसे दांत दर्द के उपाय में कारगर माना गया है।

14. ऑरेगैनो ऑयल

Oregano oil Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • ऑरेगैनो ऑयल की दो-तीन बूंदें
  • एक ईयर बड

क्या करें?

  • आप ईयर बड को ऑरेगैनो ऑयल में भिगोकर दातों पर लगाएं।
  • आप इस प्रक्रिया को हर कुछ घंटों में दोहरा सकते हैं।

यह कैसे फायदा करता है?

दांत दर्द का इलाज आप ऑरेगैनो से भी कर सकते हैं। ऑरेगैनो ऑयल में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो दांत में दर्द पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारते हैं (15)।

15. व्हिस्की या ब्रांडी

सामग्री :

  • व्हिस्की/ब्रांडी
  • रूई

क्या करें?

  • रूई को व्हिस्की/ब्रांडी में भिगोएं और इसे दर्द वाले दांत पर रखें। इससे आपको राहत महसूस होगी।
    इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराया जा सकता है।

यह कैसे काम करता है?

दांत के दर्द का इलाज करने में व्हिस्की का इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, यह स्थाई इलाज नहीं है, लेकिन कुछ देर के लिए यह दांत के दर्द को कम कर सकता है।

दांत दर्द से बचाव – Prevention Tips for Toothache in Hindi

अगर आप दांत दर्द से बचना चाहते हैं, तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी होगी। दांत दर्द के उपाय के रूप में आप इन टिप्स का भी सहारा ले सकते हैं :

  1. नियमित रूप से चेकअप : भले ही आपके दांत बिल्कुल ठीक हों, लेकिन आप नियमित रूप से डॉक्टर से दांतों का चेकअप कराते रहें, ताकि अगर कोई समस्या हो, तो उसे शुरू में ही पकड़ लिया जाए।
  1. धूम्रपान से बचें : धूम्रपान दांतों के लिए हानिकारक होता है। यह दांतों की स्थिति को और बिगाड़ सकता है।
  1. दांत के गार्ड पहनें : अगर आप खेल-कूद में सक्रिये हैं, तो इस दौरान दांतों के गार्ड जरूर पहनें, ताकि दांतों पर किसी तरह की चोट न लगे।
  1. फ्लोराइड : फ्लोराइड दांतों के लिए बहुत जरूरी है। यह दांतों में कैविटी होने से रोकता है। यह कई तरह की सब्जियों और पानी में पाया जाता है। इसलिए, आप जो पानी पीते हैं, उसकी जांच करें और पता लगाएं कि इसमें कितना फ्लोराइड है। अगर फ्लोराइड की मात्रा कम है, तो डॉक्टर से पूछकर फ्लोराइड के सप्लीमेंट्स ले सकते हैं। ज्यादातर इसकी जरूरत बच्चों को पड़ती है।
  1. साफ-सफाई : आप अपने मुंह की साफ-सफाई का खास ध्यान रखें। सुबह उठकर ब्रश करें और रात को सोने से पहले भी ब्रश करें। इसके अलावा, ध्यान दें कि आप जो भी खा रहे हैं, उसके कण ज्यादा देर तक आपके दांतों में न फंसे रहें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

अगर मेरे दांतों से खून आने लगे, तो मैं क्या करूं?

आमतौर पर यह दांतों की नहीं, बल्कि मसूड़ों की समस्या हो सकती है। ध्यान दें कि आप जोर से ब्रश तो नहीं कर रहे। इसके अलावा, राहत पाने के लिए आप एक कपड़े को पानी में भिगोएं और प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। आपको कुछ देर में ब्लीडिंग से राहत मिलेगी। अगर फिर भी ब्लीडिंग बंद न हो, तो बेहतर होगा कि आप तुरंत दांत के डॉक्टर से चेकअप कराएं।

दांत दर्द होने पर क्या न करें?

अगर दांत दर्द हो, तो आप इन बातों का ध्यान रखें :ज्यादा चीनी वाले खाद्य पदार्थ न खाएं। इससे दांतों में बैक्टीरिया पैदा होते हैं, जो दर्द का कारण बनते हैं।तेज ठंडी या तेज गर्म चीजी न खाएं।दांतों या मसूड़ों पर दर्द निवारक क्रीम न लगाएं। इसमें मौजूद केमिकल नुकसान पहुंचा सकते हैं।

दांतों में दर्द होना कब एमरजेंसी बन सकता है?

अगर आपको नीचे बताए गए लक्षण नजर आएं, तो आपको देर न करते हुए डॉक्टर के पास जाना चाहिए :अगर आपके मसूड़ों और जबड़ों में सूजन आने लगे।अगर आपको सीने में दर्द होने लगे।अगर आपको सांस लेने में तकलीफ होने लगे।अगर खांसते समय खून आने लगे।

क्या दांत दर्द के कारण कान में दर्द होता है?

हां, दांत दर्द के कारण आपके कान में भी दर्द हो सकता है। खासतौर पर अगर आपके ऊपरी जबड़े में दर्द हो। ऐसे में आपकी नस दांत के दर्द को कान तक ले जाती है (16)।

क्या दांत दर्द के कारण बुखार आ सकता है?

हां, दांत के दर्द से आपको बुखार भी आ सकता है। यह ज्यादातर तब होता है, जब आपको इन्फेक्शन के कारण दांत में दर्द होता है (17)। अगर आपको दांत दर्द के कारण बुखार आए, तो इसे अनदेखा न करते हुए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

क्या कैविटी के कारण दांत दर्द हो सकता है?

हां, कैविटी के कारण भी दांत में दर्द हो सकता है। इन्फेक्शन आपकी नसों को संवेदनशील बनाता है, जिस कारण दांत में तेज दर्द होने लगता है।

हालांकि, दांत का दर्द काफी तकलीफ देता है, लेकिन पहले से ही कुछ सावधानियां बरतने से इस समस्या से बचा जा सकता है। अगर फिर भी आपको दांत दर्द हो रहा है, तो ऊपर बताए गए घरेलू उपाय काम आ सकते हैं। इन उपाय को अपनाने से संभव है कि आपको दांत दर्द की दवा न लेनी पड़े। वहीं, अगर यह समस्या ज्यादा बढ़ जाए, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। उम्मीद है कि यह लेख आपको पसंद आएगा। अगर आपने इस लेख में बताए गए तरीके आजमाए हैं, तो अपने अनुभव नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में हमारे साथ जरूर शेयर करें।

संबंधित आलेख