डिप्रेशन में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?- Depression Me Kya Khana Chahiye Aur Kya Nahi

Written by , (शिक्षा- एमए इन मास कम्युनिकेशन)

हम क्या खाते हैं, इसका सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है। कुछ खाद्य ऐसे होते हैं, जो हमें बीमार कर सकते हैं, वहीं कुछ खाद्य हमें बीमारियों से सुरक्षा कवच प्रदान कर सकते हैं। ऐसा तभी संभव है जब हमें यह मालूम हो कि किस बीमारी में किस चीज का सेवन करना बेहतर हो सकता है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम बताने वाले हैं कि डिप्रेशन में क्या खाना चाहिए। साथ ही डिप्रेशन में क्या नहीं खाना चाहिए, इसके बारे में भी जानने के लिए लेख के अंत तक बने रहें।

स्क्रॉल करें

लेख में सबसे पहले हम डिप्रेशन में क्या खाएं, यह बता रहे हैं।

डिप्रेशन में क्या खाना चाहिए – Depression Foods to Eat In Hindi

यहां हम कुछ ऐसे खाद्यों के बारे में बताएंगे, जो डिप्रेशन के लक्षणों को काफी हद तक कम करने में मददगार हो सकते हैं। साथ ही हम यह स्पष्ट कर दें कि नीचे बताए गए खाद्य पदार्थ डिप्रेशन की समस्या का इलाज नहीं है। डिप्रेशन से बचाव के लिए आहार कुछ इस प्रकार हैं:

1. सेलेनियम से भरपूर खाद्य

सेलेनियम की कमी अवसाद यानी डिप्रेशन का कारण बन सकती है। इस विषय पर हुए एक शोध में पाया गया कि शरीर में सेलेनियम का कम स्तर मूड में बदलाव ला सकता है जिसके कारण चिंता, अवसाद और थकान की स्थिति बन सकती है (1)। ऐसे में आहार में सेलेनियम युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल कर मूड में सुधार कर अवसाद की स्थिति को नियंत्रित किया जा सकता है। सेलेनियम युक्त खाद्य पदार्थों के तौर पर आहार में सी फूड, ब्रेड, चिकन, मछली और अनाज को शामिल किया जा सकता है (2)।

2. विटामिन डी युक्त खाद्य

अवसाद को दूर करने और मूड को बेहतर करने के लिए विटामिन डी के फायदे देखे गए हैं। एक रिसर्च पेपर के मुताबिक, विटामिन डी का कम स्तर मूड को खराब और अवसादग्रस्त का कारण बन सकता है। ऐसे में पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी के सेवन से न सिर्फ मूड को ठीक किया जा सकता है, बल्कि अवसाद की समस्या पर भी कुछ हद तक काबू पाया जा सकता है। शाेध में इस बात की पुष्टि भी होती है कि विटामिन डी लोगों में मूड संंबंधि विकार को दूर कर मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकता है (3)।

विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थों के लिए डाइट में संतरे का रस, टूना मछली, साल्मन मछली, अंडा, दूध, डेयरी प्रोडक्ट्स और सोया मिल्क को शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा सूर्य की राेशनी को भी विटामिन डी का अच्छा स्रोत माना जाता है (3)।

3. ओमेगा-3 युक्त खाद्य

ओमेगा 3 युक्त खाद्य पदार्थ भी मूड में सुधार कर डिप्रेशन को कुछ हद तक नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर ऑफ बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिसर्च से इस बात की जानकारी मिलती है कि ओमेगा-3 फैटी एसिड मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बढ़ाने के साथ ही मूड को सुधारने में फायदेमंद हो सकते हैं। इससे अवसाद और उसके लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। ओमेगा 3 के लिए साल्मन मछली, अलसी, चिया सीड्स, कीवी, बटरनट्स, और अखरोट को डाइट में शामिल किया जा सकता है (4)।

4. एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य

डिप्रेशन की समस्या को एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव द्वारा भी काबू किया जा सकता है। इस विषय पर हुई रिसर्च के अनुसार ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस तनाव और चिंता की स्थिति के कारणों में से एक है। वहीं, शोध में इस बात का जिक्र भी मिलता है कि एंटीऑक्सीडेंट न सिर्फ ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करते हैं, साथ ही एंटीडिप्रेशन प्रभाव प्रदर्शित कर सकते हैं। इस तरह मूड को ठीक करने और अवसाद की स्थिति को कम करने में एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य मदद कर सकते हैं (5)।

फलों और सब्जियों को एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा स्रोत माना जाता है। इसके अलावा डेयरी प्रोडक्ट्स, अंडे, चॉकलेट, फलों का रस, सलाद आदि में भी इसकी अच्छी मात्रा होती है (6)।

5. प्रोटीन से भरपूर खाद्य

प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थों के सेवन से भी डिप्रेशन की समस्या को कुछ हद तक कम किया जा सकता है। इससे संबंधित एक रिसर्च के मुताबिक प्रोटीन युक्त आहार में अमीनो एसिड पाए जाते हैं। वहीं, अमीनो एसिड मस्तिष्क की कार्य प्रणाली और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं (7)।

इसके अलावा, अमीनो एसिड की कमी से न्यूरोट्रांसमीटर का पर्याप्त संश्लेषण नहीं होता, जो खराब मूड का कारण बन सकता है। इस आधार पर हम कह सकते हैं कि प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ जैसे कि मीट, दूध, डेयरी उत्पाद और अंडे का सेवन मूड को सही रखने में मददगार हो सकते हैं (7)।

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस हिस्से में हम बता रहे हैं डिप्रेशन में क्या नहीं खाना चाहिए।

डिप्रेशन में क्या नहीं खाना चाहिए

डिप्रेशन की समस्या होने पर क्या-क्या खाया जा सकता है, यह तो आप जान ही चुके हैं। साथ ही डिप्रेशन में क्या न खाएं इस बात की जानकारी होना भी जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ खाद्य पदार्थ डिप्रेशन की समस्या को बढ़ा सकते हैं, जिनके बारे में नीचे बता रहे हैं:

  • अल्कोहल से करें परहेज: कई बार लोग तनाव से बाहर आने के लिए अल्कोहल का सहारा लेते हैं, लेकिन यह डिप्रेशन और एंग्जायटी को ट्रिगर कर सकती है। यही वजह से डिप्रेशन से बचाव के लिए शराब से दूरी बनाकर रखने की सलाह दी जाती है (8)।
  • रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट खाद्य: फास्ट फूड और जंक फूड का सेवन करना ज्यादातर लोगों को पसंद होता है। वहीं, एक शोध में साफ तौर से इस बात का जिक्र मिलता है कि जो लोग जंक फूड का सेवन ज्यादा करते हैं उनमें डिप्रेशन का जोखिम अधिक हो सकता है (9)।
  • कैफीन से बनाएं दूरी: कई शोध में इस बात की पुष्टि होती है कि सीमित मात्रा में कॉफी का सेवन डिप्रेशन के लक्षण को कम कर सकता है, लेकिन इस बात में भी कोई संशय नहीं है कि अधिक मात्रा में कैफीन डिप्रेशन की स्थिति को ज्यादा गंभीर बना सकता है (10)।
  • धूम्रपान न करें: धूम्रपान करना छोड़ें, क्योंकि यह भी अवसाद की स्थिति को बिगाड़ सकता है (11)।
  • शुगर स्वीटेंड ड्रिंक्स (Sugar Sweetened Drinks): स्वीट ड्रिंक्स, सॉफ्ट ड्रिंक्स, सोडा, एनर्जी ड्रिंक आदि से दूरी बनाकर रखें (12)।

अवसाद कभी भी किसी को भी प्रभावित कर सकता है। इस समस्या से बचने के लिए जीवन शैली में सुधार होने के साथ-साथ आहार पर ध्यान देना भी आवश्यक है। लेख में ऊपर हमने डिप्रेशन में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इस विषय पर विस्तार से जानकारी दी है। हमारी हमेशा कोशिश रहती है कि हम अपने पाठक तक सटीक जानकारी पहुंचाएं। आशा करते हैं कि अवसाद में सेवन करने योग्य खाद्यों पर आधारित यह लेख आपके लिए फायदेमंद रहा होगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

कौन से फल अवसाद की समस्या में मदद करते हैं?

एक शोध में केला, सेब, सिट्रस फल, बेरीज, अंगूर, कीवी आदि फलों को डिप्रेशन की समस्या को नियंत्रित करने के लिए मददगार माना गया है (13)।

क्या डिप्रेशन की समस्या के लिए कॉफी का सेवन फायदेमंद है?

हां, शोध के अनुसार सीमित मात्रा में काॅफी का सेवन डिप्रेशन की समस्या को कुछ हद तक कम करने में मददगार हो सकता है। वहीं, इसकी अधिकता से अवसाद के लक्षण गंभीर रूप भी ले सकते हैं (14)।

क्या दूध डिप्रेशन के लिए अच्छा है?

हां, डिप्रेशन में दूध का सेवन फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, अमीनो एसिड को डिप्रेशन के लिए अच्छा माना जाता है। वहीं, दूध में मौजूद प्रोटीन में सभी अमीनो एसिड पाए जाते हैं (15)।

क्या केले का सेवन डिप्रेशन की समस्या के लिए लाभदायक है?

हां, केले का सेवन अवसाद की समस्या को कम करने में लाभदायक हो सकता है। दरअसल, इसमें फाइटो-एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं, जो तनाव, चिंता और अवसाद से राहत में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है (16)।

संदर्भ (Sources)

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. The impact of selenium supplementation on mood
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/1873372/
  2. Zinc, Magnesium, Selenium and Depression: A Review of the Evidence, Potential Mechanisms and Implications
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5986464/
  3. Vitamin D and Depression: Where is all the Sunshine?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2908269/
  4. Brain foods: the effects of nutrients on brain function
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2805706/
  5. Novel Therapeutic Targets in Depression and Anxiety: Antioxidants as a Candidate Treatment
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3964743/
  6. The total antioxidant content of more than 3100 foods beverages spices herbs and supplements used worldwide
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2841576/
  7. Understanding nutrition depression and mental illnesses
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2738337/
  8. What is comorbidity?
    https://www.drugabuse.gov/publications/drugfacts/comorbidity-substance-use-disorders-other-mental-illnesses
  9. Healthy and Unhealthy Dietary Patterns Are Related to Depression: A Case-Control Study
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4620299/
  10. Caffeine consumption and self-assessed stress anxiety and depression in secondary school children
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4668773/
  11. The Association of Cigarette Smoking With Depression and Anxiety: A Systematic Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5157710/
  12. Sugar intake from sweet food and beverages common mental disorder and depression: Prospective findings from the Whitehall II study
    https://www.researchgate.net/publication/318726538_Sugar_intake_from_sweet_food_and_beverages_common_mental_disorder_and_depression_Prospective_findings_from_the_Whitehall_II_study
  13. Fruit and Vegetable Intake and Mental Health in Adults: A Systematic Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7019743/
  14. Coffee consumption in depressive disorders: it’s not one size fits all
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25174692/
  15. Nutrition and depression at the forefront of progress
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3539842/
  16. Banana fruit pulp and peel involved in antianxiety and antidepressant effects while invigorate memory performance in male mice: Possible role of potential antioxidants
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/28655697/
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख