बालों की देखभाल

दो मुंहे बालों के कारण और घरेलू उपाय – Split Ends Causes and Home Remedies in Hindi

by

बालों से जुड़ी समस्याएं आम होती जा रही हैं। इसके पीछे अनियंत्रित जीवनशैली और बालों का सही से ध्यान न रखना हो सकता है। बालों से जुड़ी समस्याएं कई प्रकार की हो सकती हैं, जिनमें बालों का दो मुंहे होना भी शामिल है। अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं, तो स्टाइलक्रेज का यह लेख आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। इस लेख में दो मुंहे बालों के कारण से लेकर दो मुंहे बाल का घरेलू उपचार भी बताया गया है। ये उपचार कुछ हद तक दो मुंहे बालों की समस्या से राहत दिला सकते हैं।

लेख में आगे बढ़ने से पहले आइए जान लेते हैं कि दो मुंहे बाल क्‍या हैं।

दो मुंहे बाल क्या हैं? – What is Split Ends in Hindi

यह समस्या बालों के अंतिम छोर पर देखने को मिलती है। इसमें एक बाल के दो छोर बन जाते हैं, जिसे ‘ट्राइकोप्टिलोसिस’ के नाम से भी जाना जाता है। इस समस्या के क्या-क्या कारण हो सकते हैं और इसे ठीक करने के उपाय क्या हैं, ये सब आगे लेख में बताया गया है।

आइए, जानते हैं कि दो मुंहे बाल होने के पीछे कौन-कौन से कारण जिम्मेदार होते हैं।

दो मुंहे बालों के कारण – Causes of Split Ends in Hindi

दो मुंहे बालों के लिए कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं (1):

  • बालों में ब्लीच का प्रयोग।
  • बालों का ड्राई रहना।
  • स्ट्रेटनर की वजह से।
  • कभी कभी अधिक धूप के कारण।
  • ज्यादा जोर लगाकर कंघी करने से।
  • बालों के केमिकल उत्पाद का दुष्प्रभाव।

दो मुंहे बालों के कारण जानने के बाद आगे जानिए इससे निजात पाने के घरेलू नुस्खे।

दो मुंहे बालों के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Split Ends in Hindi

दो मुंहे बालों की समस्या को कम करने के लिए निम्नलिखित घरेलू उपचार का सहारा लिया जा सकता है –

1. नारियल तेल

सामग्री:

  • दो से तीन चम्मच नारियल तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले तेल को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक अच्छी तरह से लगा लें।
  • फिर बालों को शॉवर कैप की मदद से कवर कर लें और रातभर के लिए छोड़ दें।
  • सुबह बालों को शैम्पू से अच्छे से धो लें।
  •  बालों को सुखाने के लिए तौलिए का इस्तेमाल करें।
  • आप इस प्रक्रिया को हर दो से तीन दिन के बाद कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

नारियल तेल का उपयोग कर बालों को पोषण दिया जा सकता है। साथ ही नारियल तेल के प्रोटेक्टिव प्रभाव हेयर डैमेज को रोकने में भी मदद कर सकते हैं। इस आधार पर कहा जा सकता है कि नारियल तेल का प्रयोग दो मुंहे बालों से छुटकारा दिलाने में एक सहायक भूमिका निभा सकता है (2)।

2. आर्गन का तेल

सामग्री:

  • आधा चम्मच आर्गन का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सुबह नहाने के बाद बालों को तौलिए से सुखाएं और इस तेल को लगाएं।
  • इसे सामान्य तेल की तरह बालों में लगे रहने दें।
  • इसे हफ्ते में दो से तीन बार लगा सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

आर्गन का तेल बालों से संबंधित कई समस्याओं से राहत दिलाने का काम कर सकता है। जैसा कि ऊपर बताया गया है कि दो मुंहे बालों की समस्या बालों के अधिक सूखने की वजह से हो सकती है। यहां आर्गन के तेल के फायदे देखे जा सकते हैं, क्योंकि यह ड्राई हेयर की समस्या को कम करने में मदद कर सकता है (3)।

3. अरंडी का तेल

सामग्री:

  • दो चम्मच अरंडी का तेल
  • दो चम्मच नारियल का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले दोनों तेलों को मिला लें।
  • फिर तेल को थोड़ा-थोड़ा हाथों में लेकर बालों में अच्छे से लगाएं।
  • फिर बालों को शॉवर कैप से कवर कर लें।
  • एक या दो घंटे के लिए बालों में तेल को लगा रहने दें।
  • इसके बाद बालों को शैम्पू से धो लें।
  • इस उपाय को हफ्ते में एक या दो बार किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

अरंडी के तेल का उपयोग करने से दो मुंहे बालों की समस्या से राहत पाई जा सकती है। दरअसल, अरंडी के तेल में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है, जो बालों को मॉइस्चराइज करने का काम कर सकता है। जैसा कि ऊपर बताया गया है कि सूखे बालों के कारण दो मुंहे बालों की समस्या उत्पन्न हो सकती है। ऐसे में कैस्टर ऑयल के मॉइस्चराइजिंग गुण सूखे बालों की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं (4)।

4. बादाम का तेल

सामग्री:

  • दो से चार चम्मच बादाम का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले बादाम तेल को हल्का गर्म कर लें।
  • फिर इस तेल को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं।
  • कुछ मिनट तक उंगलियों से हल्की मालिश करें।
  • फिर बालों को शॉवर कैप से कवर कर, दो से तीन घंटे या रातभर के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद शैम्पू से बालों को धो लें।
  • यह ध्यान रखें कि बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का उपयोग न करें।
  • हफ्ते में एक बार इस उपाय को कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

बादाम तेल कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इनमें विटामिन-ई और विटामिन-डी मुख्य हैं। इसमें मैग्नीशियम और आयरन की भी अच्छी मात्रा पाई जाती है। साथ ही इसमें वो प्राकृतिक तत्व भी पाए जाते हैं, जो बालों को सुरक्षित रखने का काम करते हैं। इसलिए, कहा जा सकता है कि ये सभी गुण मिलकर हेयर डैमेज से रोकने का काम कर सकते हैं, जिससे कुछ हद तक दो मुंहे बालों की समस्या से राहत मिल सकती है (5)। हालांकि, यह सीधे तौर पर किस तरह दो मुंहे बालों पर काम करता है, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

5. एवोकैडो हेयर मास्क

सामग्री:

  • आधा एवोकैडो
  • दो चम्मच बादाम का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • पहले एक कटोरी में एवोकेडो को अच्छे से मैश कर लें।
  • फिर इसमें बादाम के तेल को डालकर मिक्स कर लें।
  • फिर इस मास्क को अपने बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं।
  • बाल को शॉवर कैप से कवर कर दें और लगभग एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • अंत में बालों को शैम्पू से धो लें।
  • हफ्ते में एक बार इस विधि का उपयोग किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

एवोकैडो का इस्तेमाल त्वचा और बालों में लगाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल, एवोकैडो बालों को कंडीशनिंग करने का काम कर सकता है। जैसा कि ऊपर बताया गया है कि बालों के रूखे होने के कारण भी बाल दो मुंहे हो सकते हैं। ऐसे में बालों को कंडीशन कर इससे बचा जा सकता है (6)। इसलिए, ऐसा माना जा सकता है कि एवोकाडो से दो मुंहे बाल का घरेलू उपचार किया जा सकता है।

6. हनी हेयर मास्क

सामग्री:

  • दो से तीन चम्मच शहद
  • एक चम्मच नारियल का दूध
  • तीन चम्मच दूध

इस्तेमाल की विधि:

  • सभी सामग्रियों को मिलाकर हेयर मास्क बनाएं।
  • फिर इस मास्क को पूरे बालों में अच्छे से लगा लें।
  • फिर एक से दो घंटे के लिए सिर को शॉवर कैप से कवर कर छोड़ दें।
  • इसके बाद बालों को शैम्पू से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि दो मुंहे बाल की समस्या नमी की कमी के कारण भी हो सकती है। यहां शहद के लाभ देखे जा सकते हैं। दरअसल, बालों में शहद का इस्तेमाल नमी की पूर्ति का काम कर सकता है, जिससे दो मुंहे बालों की समस्या को बहुत हद तक कम की जा सकती है (7)। फिलहाल, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

7. पपीते का हेयर मास्क

सामग्री:

  • आधा कप कटा हुआ पपीता (पका हुआ)
  • एक चम्मच दही
  • एक चम्मच बादाम का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले पपीते को अच्छी तरह मैश कर लें।
  • फिर इसमें दही और बादाम तेल को मिलाएं।
  • इस मिश्रण को बालों में लगाएं और बालों को शॉवर कैप से कवर कर लें।
  • लगभग एक घंटे के लिए बालों को ऐसे ही छोड़ दें।
  • फिर बालों को शैम्पू से धो लें।
  • इसे हफ्ते में एक से दो बार तक लगाया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

पपीता बालों को कंडीशनिंग करने का काम कर सकता है। पपीते में मौजूद कंडीशनिंग गुण दो मुंहे बालों की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं। ध्यान रखें कि हमेशा पके हुए पपीते का ही इस्तेमाल करें, क्योंकि पपीता अगर सही से पका न हो, तो इसमें से लैक्टेस तरल निकलता है, जो जलन और एलर्जी का कारण बन सकता है (8) (9)।

8. बनाना हेयर मास्क

सामग्री:

  • एक पका हुआ केला
  • दो चम्मच नारियल का दूध

इस्तेमाल की विधि:

  • केले को काटकर अच्छे से मैश करें।
  • फिर इसमें नारियल का दूध डालें और अच्छी तरह मिलाएं।
  • इस पेस्ट को अपने बालों में अच्छी तरह लगा लें।
  • फिर एक-दो घंटे के लिए बालों को ऐसे ही छोड़ दें।
  • इसके बाद शैम्पू से बालों को धो लें।
  • इसका उपयोग हफ्ते में एक बार कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

केले को बालों की समस्या दूर करने के लिए भी उपयोग में लाया जा सकता है। दरअसल, केले में पोटैशियम, नेचुरल ऑयल, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन पाए जाते हैं। ये सभी पोषक तत्व बालों को मुलायम बनाने, इलास्टिसिटी में सुधार करने और दो मुंहे बालों की समस्या को ठीक करने में मदद कर सकते हैं (10)।

9. एग हेयर मास्क

सामग्री:

  • एक अंडा
  • एक चम्मच नारियल तेल
  • एक चम्मच शहद

इस्तेमाल की विधि:

  • अंडे को तोड़कर उसके सफेद वाले भाग को नारियल तेल और शहद के साथ मिला लें।
  • फिर इस मिश्रण को अपने बालों में पूरी तरह लगा लें।
  • एक घंटे के लिए बालों को ऐसे ही छोड़ दें।
  • अंत में शैम्पू से बालों को धो लें।
  • इसे हफ्ते में एक से दो बार उपयोग किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

अंडे में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जिनमें से एक सल्फर अमीनो एसिड भी है। यह बालों को कंडीशनिंग करने का काम कर सकता है, जिससे दो मुंहे बालों की समस्या बहुत हद तक कम हो सकती है (11)।

10. बियर

सामग्री:

  • लगभग चार चम्मच बीयर
  • एक चम्मच शहद

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले बीयर और शहद को मिला लें।
  • इस मिश्रण को पूरे बालों में लगा लें।
  • फिर 30 मिनट के लिए बालों को ऐसी ही छोड़ दें।
  • अंत में बालों को शैम्पू से धो लें।
  • बालों को सुखाने के लिए तौलिए का इस्तेमाल करें।

कैसे है फायदेमंद:

अक्सर कई लोगों से यह सुना होगा की बियर से बाल धोए जाते हैं। यह बात एकदम सच है। बियर को बालों के कंडीशनर की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है, जो बालों को कंडीशनिंग करने का काम कर सकती है। वहीं, हम ऊपर बता ही चुके हैं कि कंडीशनर दो मुंहे बालों की समस्या से बचाव व इनसे छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है (12)। इसलिए, बियर को दो मुंहे बालों के लिए फायदेमंद माना जा सकता है।

11. अखरोट का तेल

सामग्री:

  • लगभग चार चम्मच अखरोट का तेल

इस्तेमाल की विधि:

  • तेल को हल्का गर्म करें।
  • इस तेल को स्कैल्प और बालों में लगाकर कुछ मिनट के लिए मालिश करें।
  • फिर बालों को शॉवर कैप से कवर कर रातभर के लिए छोड़ दें।
  • सुबह शैम्पू से बालों को धो लें।
  • इसे हफ्ते में दो से तीन बार तक उपयोग कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

अखरोट के तेल को भी दो मुंहे बालों के लिए फायदेमंद माना जाता है। इस तेल को स्कैल्प पर लगाने पर बालों का झड़ना रुक सकता है। साथ ही यह बालों को पोषण देकर बालों के विकास को बढ़ावा दे सकता है, जिसका सकारात्मक प्रभाव दो मुंहे बालों पर भी हो सकता है (13)। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि दो मुंहे बालों से छुटकारा पाने के लिए अखरोट तेल का उपयोग सहायक सिद्ध हो सकता है।

12. टी ट्री ऑयल

सामग्री:

  • ट्री टी ऑयल की कुछ बूंदें
  • बादाम के तेल की कुछ बूंदें
  • नारियल तेल की कुछ बूंदें
  • एक चम्मच एलोवेरा जेल

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले सभी सामग्रियों को मिलाएं।
  • फिर इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं।
  • लगभग एक से दो घंटे के लिए बालों को ऐसे ही छोड़ दें।
  • फिर बालों को शैम्पू से धो लें।
  • इसे हफ्ते में दो से तीन बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

टी ट्री ऑयल बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है। इस तेल की कम मात्रा का उपयोग बालों में नमी के लिए किया जा सकता है, जिससे सूखे बालों के कारण होने वाली दो मुंहे बालों की समस्या कम हो सकती है। इसके साथ ही यह तेल स्कैल्प को स्वस्थ रखने का काम भी कर सकता है (5)।

13. एलोवेरा जेल

सामग्री:

  • चार चम्मच एलोवेरा जेल
  • दो चम्मच नींबू का रस

इस्तेमाल की विधि:

  • दोनों सामग्रियों को मिला लें।
  • इस मिश्रण को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगा लें।
  • फिर लगभग एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद बालों को शैम्पू से धो लें और तौलिए से सूखा लें।
  • इसे हफ्ते में दो बार उपयोग किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

एलोवेरा का उपयोग बाल झड़ने की समस्या के साथ-साथ रूसी की समस्या के लिए भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंजाइम बालों को झड़ने से बचाने का काम कर सकते हैं। एलोवेरा का नियमित उपयोग बालों को फिर से बढ़ने में मदद कर सकता है, जिसका सकारात्मक प्रभाव दो मुंहे बालों की समस्या पर भी दिख सकता है (14)। इस संबंध में अभी और शोध किए जाने की जरूरत है।

14. कोकोनट मिल्क

सामग्री:

  • तीन चम्मच नारियल का दूध

इस्तेमाल की विधि:

  • इस दूध को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगा लें।
  • इसके बाद इसे एक से दो घंटे के लिए छोड़ दें।
  • फिर शैम्पू से बालों को धो लें।
  • बालों को सुखाने के लिए तौलिए का इस्तेमाल करें।
  • इसे हफ्ते में दो से तीन दिन उपयोग कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

नारियल के तेल के साथ-साथ नारियल का दूध भी बालों के लिए उपयोगी साबित हो सकता है। माना जाता है कि नारियल का दूध बालों को कंडीशनिंग करने का काम कर सकता है, जिससे दो मुंहे बालों की समस्या बहुत हद तक कम हो सकती है (15)।

15. दही

सामग्री:

  • चार चम्मच दही
  • एक चम्मच जैतून का तेल
  • एक चम्मच शहद

इस्तेमाल की विधि:

  • सबसे पहले सभी सामग्रियों को मिलाएं।
  • फिर इस मिश्रण को बालों में लगाएं।
  • इसके बाद एक घंटे के लिए बालों को ऐसे ही छोड़ दें।
  • फिर शैम्पू से बालों को धो लें।
  • हफ्ते में एक बार इसका उपयोग किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

दो मुंहे बालों की समस्या को दूर करने के लिए घरेलू उपचार का सहारा भी लिया जा सकता है, जिनमें दही भी शामिल है। दही हेयर डैमेज में सुधार के साथ-साथ दो मुंहे बालों की समस्या को भी ठीक करने में मदद कर सकता है। साथ ही यह बालों को कंडीशनिंग करने का काम भी कर सकता है (16)। वहीं, इस मिश्रण में इस्तेमाल किया जाने वाला जैतून का तेल दो मुंहे बालों से राहत दिलाता है, बालों का झड़ना कम करता है और बालों की कंडीशनिंग में भी मदद कर सकता है (17)।

16. गुलाब जल

सामग्री:

  • चार चम्मच गुलाब जल
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच शहद
  • आठ चम्मच पानी

इस्तेमाल की विधि:

  • सभी सामग्रियों को एक बाउल में मिला लें।
  • फिर तैयार मिश्रण को बालों में अच्छी तरह लगा लें।
  • फिर एक घंटे के लिए इसे बालों में लगा रहने दें।
  • इसके बाद शैम्पू से बालों को धो लें।
  • इसे हफ्ते में दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

गुलाब जल के इस्तेमाल से दो मुंहे बालों की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। दरअसल, गुलाब जल हर्बल मॉइस्चराइजर की तरह काम कर बालों में नमी बनाए रखने में मदद कर सकता है, जिससे दो मुंहे बालों की समस्या कुछ हद तक कम हो सकती है (18)। इस संबंध में भी अभी और मेडिकल रिसर्च किए जाने की जरूरत है।

17. कटिंग और ट्रिमिंग

दो मुंहे बालों की समस्या को प्रत्येक समयांतराल पर कटिंग और ट्रिमिंग के जरिए भी ठीक किया जा सकता है। इससे न सिर्फ दो मुंहे बालों से छुटकारा मिलता है, बल्कि बाल सुंदर भी नजर आते हैं। साथ ही उनकी ग्रोथ भी अच्छी तरह से होती है।

लेख के अंत में जानिए दो मुंहे बालों की समस्या से कैसे बचा जाए।

दो मुंहे बालों से बचाव – Prevention Tips for Split Ends in Hindi

दो मुंहे बालों की समस्या से बचे रहने के लिए निम्नलिखित बातों का जरूर ध्यान रखें।

  • एक ही ब्रांड व केमिकल रहित तेल का इस्तेमाल करें।
  • अच्छी क्वालिटी का हेयर ब्रश यानी कंघी का इस्तेमाल करें।
  • बालों के अनुकूल समय-समय पर शैम्पू और कंडीशनर का इस्तेमाल करें।
  • नियमित रूप से बालों में तेल लगाएं।
  • हमेशा बालों में कंघी धीरे-धीरे करें।

उम्मीद करते हैं कि इस लेख को पढ़ने के बाद अब आप दो मुंहे बालों की समस्या और इसके कारणों से परिचित हो गए होंगे। साथ ही आप इस समस्या से बचाव व इन्हें कुछ हद तक ठीक करने के लिए दो मुंहे बालों का घरेलू उपचार भी जान गए होंगे। साथ ही इस लेख में दो मुंहे बालों से छुटकारा पाने के जरूरी टिप्स भी बताए गए हैं। अगर दो मुंहे बालों की समस्या ठीक होने का नाम नहीं ले रही है, तो आप संबंधित डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। आशा करते हैं कि लेख में दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। इसके अलावा, लेख से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स की मदद से अपने सवाल हमसे पूछ सकते हैं।

×
This article changed my life!
This article was informative.
Change

×
This article contains incorrect information.
This article doesn’t have the information I’m looking for.
Change

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Bhupendra Verma

भूपेंद्र वर्मा ने सेंट थॉमस कॉलेज से बीजेएमसी और एमआईटी एडीटी यूनिवर्सिटी से एमजेएमसी किया है। भूपेंद्र को लेखक के तौर पर फ्रीलांसिंग में काम करते 2 साल हो गए हैं। इनकी लिखी हुई कविताएं, गाने और रैप हर किसी को पसंद आते हैं। यह अपने लेखन और रैप करने के अनोखे स्टाइल की वजह से जाने जाते हैं। इन्होंने कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्म की स्टोरी और डायलॉग्स भी लिखे हैं। इन्हें संगीत सुनना, फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

ताज़े आलेख