आंखों की पलकों के लिए अरंडी का तेल कैसे इस्तेमाल करें – Castor Oil For Eyelashes in Hindi

Written by

मस्कारा और नकली आईलैशेज के बिना भी पलकें सुंदर और घनी दिख सकती हैं। इसके लिए कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं। बस अरंडी के तेल का उपयोग किया जा सकता है, क्योंकि घनी आईलैशेज के लिए अरंडी के तेल को फायदेमंद माना जाता है। यहां तक दावे किए जाते हैं कि अरंडी का तेल पलकों को टूटने से भी बचाता है। इन दावों की सच्चाई समझने के लिए स्टाइलक्रेज के इस लेख को पढ़ें। यहां हम बताएंगे कि आईलैशेज बढ़ाने के लिए अरंडी के तेल के फायदे होते हैं या नहीं। साथ ही इसके उपयोग के कुछ आसान और प्रभावी तरीकों का भी जिक्र करेंगे।

स्क्रॉल करें

सबसे पहले जानते हैं कि आईलैश घनी बनाने के लिए अरंडी का तेल सच में फायदेमंद है भी या नहीं।

क्या अरंडी का तेल सच में पलकों को बढ़ाता है : Does castor oil really make your eyelashes grow

पलकें बढ़ाने के लिए अरंडी के तेल को लेकर वृहद स्तर पर किए गए सटीक वैज्ञानिक शोध की कमी है। हां, कुछ स्टडी में इसे फायदेमंद बताया गया है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ साइंस एंड रिसर्च पेपर में कहा गया है कि अरंडी के तेल को नारियल और बादाम के तेल में मिलाकर उपयोग किया जाए, तो यह पलकों को बढ़ा सकता है (1)

दरअसल, अरंडी के तेल को हेयर फॉलिकल्स में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर बालों के विकास में तेजी लाने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा, अरंडी के तेल में ओमेगा-6 एसेंशियल फैटी एसिड होता है, जो बालों को स्वस्थ रखने में मददगार साबित हो सकता है (1)

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस भाग में हम बता रहे हैं कि आईलैशेज बढ़ाने के लिए कैस्टर ऑयल फायदेमंद कैसे है।

आईलैशज बढ़ाने के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे – Benefit Of Castor Oil For Eyelashes in Hindi

कैस्टर ऑयल में पाए जाने वाले पोषक तत्व और औषधीय गुण इसे बालों की ग्रोथ के लिए फायदेमंद बनाते हैं। इसमें मौजूद रिसिनोलिक एसिड से नीचे बताए गए फायदे हो सकते हैं (2)

  • बालों और पलकों को झड़ने से रोक सकता है
  • मॉइस्चराइजिंग प्रभाव पलकों को नमी दे सकता है
  • बालों की ग्रोथ के लिए जाना जाता है
  • पलकों और बालों को घना बना सकता है
  • बालों की जड़ों में रक्त प्रवाह को बढ़ाता है

पढ़ते रहें

लेख के इस हिस्से में जानें पलकों के लिए अरंडी के तेल के उपयोग के बारे में।

पलकों के लिए अरंडी का तेल कैसे इस्तेमाल करें – How to Use Castor Oil for Eyelashes in Hindi

आईलैशज बढ़ाने के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे के बाद यहां हम बता रहे हैं कि आंखों की पलकों के लिए अरंडी का तेल कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

1. शुद्ध अरंडी का तेल

सामग्री:

  • थोड़ा-सा अरंडी का तेल
  • मस्कारा ब्रश

कैसे इस्तेमाल करें :

  • चेहरे को अच्छी तरह साफ कर लें।
  • ध्यान रहे कि आंखों पर किसी तरह का मेकअप न हो।
  • अब साफ मस्कारा ब्रश लें।
  • इस ब्रश को अरंडी के तेल में डुबोएं और पलकों पर लगाएं।
  • इसे रात भर पलकों पर लगा रहने दें।
  • सुबह गुलाब जल या फिर मेकअप वाइप की मदद से इसे साफ कर लें।

कैसे है लाभदायक :

अरंडी के तेल को पलकों की जड़ों में मस्कारा बर्श से लगाने से खून का प्रवाह बढ़ सकता है। एक रिसर्च में बताया गया है कि यह स्कैल्प के ब्लड सर्कूलेशन को बढ़ाकर उन्हें मजबूत व घना कर सकता है (2)। ऐसे में यह माना जा सकता है कि स्कैल्प के साथ ही पलकों वाले हिस्से का भी रक्त संचार बढ़ाकर यह पलकों के टूटने व झड़ने की समस्या को दूर करके उनकी ग्रोथ में मदद कर सकता है।

2. जैतून का तेल और अरंडी का तेल

सामग्री:

  • दो चम्मच अरंडी का तेल
  • दो चम्मच जैतून का तेल

कैसे इस्तेमाल करें :

  • एक बोतल लें, जिसमें दोनों तेल को मिलाकर रख सकें।
  • बोतल में दो चम्मच जैतून का तेल और दो चम्मच अरंडी का तेल डालें।
  • दोनों तेल को बोतल में डालने के बाद अच्छी तरह मिला लें।
  • अब मस्कारा ब्रश की मदद से दोनों पलकों पर ये तेल लगाएं।
  • इसे रात भर आंखों पर लगा रहने दें। फिर सुबह मेकअप वाइप से साफ कर लें।

कैसे है लाभदायक :

आईलैशेज बढ़ाने के लिए अरंडी और जैतून के तेल को मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, अरंडी के तेल की तरह ही जैतून का तेल भी प्रकृतिक रूप से पलकों की ग्रोथ में सहायक साबित हो सकता है। इसमें मौजूद एमोलिंएट गुण और पोषक तत्व हेयर लॉस को कम करने और डैमेज बालों में सुधार कर सकते हैं (3)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि जैतून और अरंडी के तेल का मिश्रण आईलैशेज के लिए भी फायदेमंद हो सकता है।

3. अरंडी और बादाम का तेल

सामग्री :

  • दो चम्मच बादाम का तेल
  • अरंडी का तेल दो चम्मच

कैसे इस्तेमाल करें :

  • किसी बोतल या कटोरी में दो चम्मच अरंडी का तेल और दो चम्मच बादाम का तेल डालें।
  • अब इन्हें आपस में अच्छी तरह मिलाकर मस्कारा ब्रश की मदद से पलकों पर लगाएं।
  • बेहतर परिणाम के लिए इसे रात भर पलकों पर लगाकर रख सकते हैं

कैसे है लाभदायक :

अरंडी और जैतून के तेल की ही तरह ही बादाम के तेल का उपयोग करने से भी पलकों को घना, लंबा और चमकदार बनाया जा सकता है। बताया जाता है अरंडी और बादाम के तेल के मिश्रण से हेयर फॉलिकल्स यानी बालों के रोम का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है। इसे पलकों के लिए भी फायदेमंद माना जाता है (1)। इस कारण अरंडी के तेल के साथ बादाम का तेल मिलाकर इस्तेमाल करने से बेहतर परिणाम मिल सकते हैं।

4. ग्लिसरीन, एग व्हाइट और कैस्टर ऑयल

सामग्री :

  • एक चम्मच अरंडी का तेल
  • ग्लिसरीन की दो बूंदें
  • एग व्हाइट की दो बूंदें

कैसे इस्तेमाल करें :

  • एक छोटी-सी बोतल लें और उसमें थोड़ा-सा अरंडी का तेल डाल दें।
  • अब इसमें दो बूंदें ग्लिसरीन की डाल लें।
  • फिर दो बूंद जितना अंडे का सफेद भाग डालकर अच्छे से मिलाएं।
  • अब मस्कारा ब्रश की मदद से इस सीरम को अपनी दोनों पलकों पर लगा लें।
  • इसे कुछ घंटों के लिए लगा रहने दें और फिर आंखें धो लें।

कैसे है लाभदायक :

अरंडी का तेल पलकों के लिए तो फायदेमंद होता ही है, लेकिन ग्लिसरीन और अंडे के सफेद हिस्से का मिश्रण इसे और प्रभावी बना सकता है। दरअसल, अंडे में सल्फर, फास्फोरस, सेलेनियम, आयोडीन, जिंक और प्रोटीन मौजूद होते हैं। ये सभी मिलकर बालों के विकास में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (4)

वहीं, पलकों की त्वचा पर ग्लिसरीन का उपयोग करने पर यह पलकों की नमी को बरकरार रख सकता है, जिससे पलकें स्वस्थ रह सकती हैं (5) (6)। इस आधार पर यह मिश्रण बालों के साथ ही पलकें बढ़ाने के लिए मददगार साबित हो सकता है। बस ध्यान दें कि इस मिश्रण का इस्तेमाल करते वक्त ये आंखों में न जाए।

5. वैसलीन, नारियल तेल और कैस्टर ऑयल

सामग्री :

  • दो चम्मच अरंडी का तेल
  • आधा चम्मच वैसलीन
  • एक चम्मच नारियल का तेल

कैसे इस्तेमाल करें :

  • सबसे पहले एक छोटी बोतल लें।
  • इसमें वैसलीन, नारियल तेल और अरंडी का तेल डालें।
  • अब इन तीनों को अच्छी तरह मिला लें।
  • मिश्रण तैयार हो जाए, तो मस्कारा ब्रश की मदद से अपनी दोनों पलकों पर लगाएं।
  • इसे रातभर अपनी आंखों पर लगा रहने दें।
  • फिर सुबह मेकअप वाइप से आंखें साफ कर लें।

कैसे है लाभदायक :

नारियल के तेल में फैटी एसिड होते हैं, जिन्हें बालों को मजबूत करने के साथ ही उनके विकास में सहायक माना गया है। साथ ही बालों का झड़ने रोकने में भी यह मदद कर सकता है (7)। वहीं, वैसलीन को आईलैशेज में होने वाले जुओं और उनके अंडों को कम करने के लिए जाना जाता है, जिससे पलकें स्वस्थ रहती हैं (8)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि आई लैश घनी बनाने के लिए अरंडी का तेल, नारियल तेल और वैसलीन का मिश्रण लाभकारी परिणाम दे सकता है।

6. अरंडी का तेल और विटामिन ई तेल

सामग्री:

  • विटामिन ई कैप्सूल
  • एक चम्मच अरंडी का तेल

कैसे करें उपयोग:

  • एक कटोरी में अरंडी का तेल और विटामिन ई कैप्सूल से जेल निकालकर मिला लें।
  • अब इसे मस्कारा ब्रश की मदद से पलकों पर लगाएं।
  • इसे रात भर लगा रहने दें और सुबह कॉटन से साफ कर लें।

कैसे हैं फायदेमंद:

बालों को बढ़ाने के लिए अरंडी के तेल के साथ ही विटामिन ई को भी फायदेमंद माना गया है। एक रिसर्च के अनुसार, विटामिन ई में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करके बालों का झड़ना कम कर सकता है। साथ ही बालों की ग्रोथ को भी बढ़ावा दे सकता है (9)। पलकें भी ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की वजह से झड़ रही हों, तो विटामिन ई और अरंडी के तेल का मिश्रण फायदा पहुंचा सकता है।

7. अरंडी का तेल और तिल का तेल

सामग्री:

  • एक चम्मच अरंडी का तेल
  • तिल का तेल एक चम्मच

कैसे करें उपयोग:

  • तिल का तेल और अरंडी का तेल मिला लें।
  • इस मिश्रण को मस्कारा ब्रश की मदद से अपनी पलकों पर लगाएं।
  • सुबह आंखें धो लें।

कैसे है फायदेमंद:

पलकों के लिए अरंडी के तेल में तिल के तेल को मिलाकर भी उपयोग किया जा सकता है। रिसर्च बताती हैं कि तिल का तेल सेहत के लिए ही नहीं, बल्कि बालों के लिए भी लाभदायक हो सकता है। विशेषज्ञों की मानें, तो तिल के तेल में हेयर प्रमोटिंग प्रभाव होते हैं, जिससे बालों को बढ़ाने में मदद मिल सकती है (10)। इसका लाभ पलकों को भी मिल सकता है।

8. अरंडी का तेल और सरसों का तेल

सामग्री:

  • एक चम्मच अरंडी का तेल
  • आधा चम्मच सरसों का तेल

कैसे करें उपयोग:

  • एक छोटी बोतल में सरसों का तेल और अरंडी का तेल डालें।
  • अब इन दोनों को बोतल में अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • इसके बाद मस्कारा ब्रश से पलकों पर इस मिश्रण को लगाएं।
  • कुछ देर आंखों पर लगा रहने दें और फिर कॉटन से साफ कर लें।

कैसे हैं फायदेमंद:

सरसों के तेल को अरंडी के तेल के साथ मिलाकर पलकों और बालों को पोषण देने के लिए उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, सरसों के बीज से प्राप्त तेल में हेयर ग्रोथ एक्टीविटी होती है। इससे बालों के विकास में सहायता मिल सकती है (11)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि इन दोनों का मिश्रण पलकों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है।

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस भाग में जानेंगे कि आईलैश घनी बनाने के लिए अरंडी का तेल कितने दिनों में असर दिखा सकता है।

अरंडी के तेल से पलकें बढ़ाने में कितना समय लगता है?

अरंडी के तेल से बेहतर परिणाम पाने के लिए इसका रोजाना रात को इस्तेमाल करना होगा, लेकिन यह कितने समय में असर दिखाएगा कहना मुश्किल है। हां, आमतौर पर अरंडी के तेल से पलकें चार से छह महीने में स्वस्थ होने लगती हैं, जिसका असर पलकों की ग्रोथ पर भी पड़ सकता है। हालांकि, इस विषय पर स्पष्ट शोध किए जाने की जरूरत है।

आगे जाने कुछ खास

यहां हम बता रहे हैं कि पलकों के लिए अरंडी के तेल का उपयोग करने के लिए क्या कर सकते हैं और क्या नहीं।

पलकों के लिए अरंडी के तेल का उपयोग करने के लिए क्या करें और क्या न करें- Do’s and Don’ts For Using Castor Oil For Eyelashes in Hindi

पलकों के लिए अरंडी तेल का उपयोग करने के पहले कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। आगे हम इस दौारन क्या कर सकते हैं और क्या नहीं, यह क्रमबद्ध बता रहे हैं।

क्या करें :

  • अरंडी का तेल उपयोग करने के पहले पैच टेस्ट जरूर करें।
  • अरंडी का तेल उपयोग करते समय ब्रश का उपयोग करना चाहिए। कॉटन से तेल फैल सकता है।
  • मस्कारा ब्रश को तेल में डुबोने पर जितना तेल उसमें आता है, वह पलकों के लिए पर्याप्त होता है।
  • आईलैशज बढ़ाने के लिए कोल्ड प्रेस्ड अरंडी का तेल ही उपयोग में लाएं।
  • इसे सुबह मेकअप से करीब एक से दो घंटे पहले इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • बेहतर प्रभाव के लिए इसे रात में सोने से पहले प्रयोग करें और रात भर के लिए छोड़ दें।
  • आंखों में अरंडी का तेल या इसका मिश्रण चला जाए, तो आंखों को तुरंत धो लें।

क्या न करें :

  • अरंडी के तेल से एलर्जी होने पर इसका उपयोग न करें।
  • अरंडी का तेल इस्तेमाल करते समय ध्यान दें कि यह आंखों में न जाने पाए।
  • आंखों में हल्की जलन होने लगे, तो आंखों को रगड़ने न लगें।
  • पलकों में अरंडी का तेल लगाने के लिए कॉटन का उपयोग करने से बचें। इससे अधिक मात्रा में तेल आंखों में जा सकता है।

आगे पढ़ें

लेख के अंतिम भाग में जानिए कि आईलैशेज के लिए अरंडी का तेल कितना सुरक्षित है।

क्या आईलैशेज के लिए अरंडी का तेल इस्तेमाल करना सुरक्षित है?

अरंडी का तेल पूरी तरह से ऑर्गेनिक और केमिकल रहित हो, तो यह आईलैशेज के लिए यह हो सकता है। बस इसे पलकों पर लगाते हुए सावधानी बरतने की जरूरत होती है। यह आंखों के अंदर बिल्कुल भी नहीं जाना चाहिए। ऐसा होने पर कुछ समय के लिए धुंधला दिखाई दे सकता है। साथ ही जलन और एलर्जी की शिकायत भी हो सकती है (12)। अगर कभी आंखों में अरंडी का तेल चला जाए, तो तुरंत आंखों को धो लें।

अब तो आप अच्छे से जान ही गए होंगे कि पलकों को घना और लंबा बनाने के लिए अरंडी का तेल क्यों फायदेमंद माना जाता है। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि अरंडी का तेल लगाते ही तुरंत आईलैशेज बढ़ने लगेंगी। साथ ही कोई वैज्ञानिक प्रमाण भी नहीं है कि जिससे स्पष्ट हो कि अरंडी के तेल से पलकें कितनी और कितने समय में बढ़ती हैं। इसी वजह से सब्र के साथ अरंडी के तेल का उपयोग आईलैशेज के लिए करें। इतना तो तय है कि अरंडी का तेल और अन्य सामग्रियों के मिश्रण से पलकें स्वस्थ जरूर होंगी।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या अरंडी का तेल आईलैश सीरम से बेहतर है?

यह कह पाना मुश्किल है कि अरंडी का तेल बेहतर है या आईलैश सीरम। दरअसल, अरंडी के तेल में प्राकृतिक गुण मौजूद होते हैं और आईलैश सीरम को विशेषज्ञों की देख रेख में बनाया जाता है। ऐसे में दोनों को ही आईलैश के लिए फायदेमंद और बेहतर माना जा सकता है।

क्या पलकों पर अरंडी का तेल लगाने से काले घेरे हो जाएंगे?

नहीं, अरंडी के तेल में पिगमेंट लाइटनिंग प्रभाव होता है, जो डार्क सर्कल को कम करने में मददगार साबित हो सकता है (13)

यदि आंखों में अरंडी का तेल घुस जाए तो क्या होगा?

यदि अरंडी का तेल आंखों में चला जाए, तो हल्की जलन या एलर्जी हो सकती है (12)

क्या लंबी पलकें पाने के लिए अरंडी के तेल के साथ सरसों के तेल का मिश्रण लगा सकते हैं?

लंबी पलकों के लिए अरंडी के तेल के साथ सरसों के तेल का उपयोग काफी प्रचलित है। दरअसल, सरसों और अरंडी के तेल दोनों में ही बालों की ग्रोथ करने वाला प्रभाव होता है, लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट नहीं है कि इससे पलकें भी बढ़ सकती हैं या नहीं। स्कैल्प के हेयर ग्रोथ के आधार पर इसे फायदेमंद कहा जा सकता है, लेकिन इसपर शोध की आवश्यकता है।

क्या अरंडी का तेल या वैसलीन पलकों के लिए बेहतर है?

हां, अरंडी के तेल के साथ वैसलीन का उपयोग पलकों के लिए बेहतर हो सकता है। अरंडी का तेल एक ओर ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर पलकों को घना बना सकता है (1)। दूसरी ओर वैसलीन का उपयोग करने से पलकों की कई समस्या जैसे कि जुएं और अंडे यानी लीख को पड़ने को रोका जा सकता है (8)

क्या अरंडी का तेल पलकों के लिए सुरक्षित है?

हां, अरंडी का तेल पलकों के लिए सुरक्षित माना गया है। बशर्ते, यह तेल पूरी तरह से शुद्ध हो।

मैं अपनी पलकें मोटी कैसे कर सकती हूं?

पलकों को मोटा और घना दिखाने के लिए नकली पलकें लगाई जा सकती हैं। प्राकृतिक रूप से पलकों को घना करने के लिए अरंडी के तेल को नारियल तेल के साथ मिलाकर लगाने से फायदा हो सकता है। इसके अलावा, बादाम तेल भी अच्छा साबित हो सकता है (1)। इन सभी में बालों व पलकों के विकास को बढ़ाने वाला प्रभाव पाया जाता है।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Castor Oil Plant (Ricinus communis L.): Botany Ecology and Uses
    https://www.ijsr.net/archive/v3i5/MDIwMTMyMDY1.pdf
  2. Herbal Hair Cosmetics – An Overview
    https://www.wjpsonline.org/admin/uploads/tAax0z.pdf
  3. Ethnopharmacological survey of home remedies used for treatment of hair and scalp and their methods of preparation in the West Bank-Palestine
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5499037/
  4. Review on Hair Problem and its Solution
    https://www.researchgate.net/publication/342174156_Review_on_Hair_Problem_and_its_Solution
  5. Glycerin-Based Hydrogel for Infection Control
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3839013/
  6. Safety Assessment of Glycerin as Used in Cosmetics
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/31840548/
  7. A REVIEW: POLYHERBAL ANTIDANDRUFF HAIR OIL
    https://wjpr.net/admin/assets/article_issue/1614405445.pdf
  8. A Rare Case of Blepharitis: Phthiriasis Palpebrarum
    http://cms.galenos.com.tr/Uploads/Article_22022/TPD-42-90.pdf
  9. Effects of Tocotrienol Supplementation on Hair Growth in Human Volunteers
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3819075/
  10. THE WONDER OF HERBS TO TREAT-ALOPECIA
    https://www.researchgate.net/publication/308780570_THE_WONDER_OF_HERBS_TO_TREAT-ALOPECIA
  11. PROSPECT OF HERBS AS HAIR GROWTH POTENTIAL
    https://www.researchgate.net/publication/312167161_PROSPECT_OF_HERBS_AS_HAIR_GROWTH_POTENTIAL
  12. Contact Allergy to Castor Oil, but Not to Castor Wax
    https://www.researchgate.net/publication/312301767_Contact_Allergy_to_Castor_Oil_but_Not_to_Castor_Wax
  13. Castor Oil: Properties, Uses, and Optimization of Processing Parameters in Commercial Production
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5015816/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
सरल जैन ने श्री रामानन्दाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय, राजस्थान से संस्कृत और जैन दर्शन में बीए और डॉ. सी. वी. रमन विश्वविद्यालय, छत्तीसगढ़ से पत्रकारिता में बीए किया है। सरल को इलेक्ट्रानिक मीडिया का लगभग 8 वर्षों का एवं प्रिंट मीडिया का एक साल का अनुभव है। इन्होंने 3 साल तक टीवी चैनल के कई कार्यक्रमों में एंकर की भूमिका भी निभाई है। इन्हें फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, एडवंचर व वाइल्ड लाइफ शूट, कैंपिंग व घूमना पसंद है। सरल जैन संस्कृत, हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, मराठी व कन्नड़ भाषाओं के जानकार हैं।

ताज़े आलेख