घरेलू उपचार
Stylecraze

फटी एड़ियों के लिए 20 सबसे कारगर घरेलू उपाय – Effective Home Remedies For Cracked Heels in Hindi

by
फटी एड़ियों के लिए 20 सबसे कारगर घरेलू उपाय – Effective Home Remedies For Cracked Heels in Hindi Hyderabd040-395603080 February 15, 2019

शारीरिक सौंदर्यता के प्रति महिलाएं ज्यादा सचेत रहती हैं। वहीं, कुछ समस्याएं ऐसी हैं, जिन्हें लेकर महिलाओं की चिंता बढ़ जाती है। उनमें एड़ियों का फटना भी शामिल है। एड़ियां त्वचा के शुष्क हो जाने के कारण फटती हैं, इसलिए सर्दियों में यह समस्या आम हो जाती है। दरार पड़ने से एड़ियां काफी दुखती हैं, जिससे चलने में भी समस्या होती है। इसके अलावा, यह पैरों की खूबसूरती पर भी प्रभाव डालती हैं। मॉइस्चराइजेशन की कमी और प्रदूषण के साथ-साथ एक्जिमा, मधुमेह, थायरॉइड और सोरायसिस जैसी चिकित्सीय स्थितियां भी एड़ियों के सूखने का कारण बनती हैं। इस लेख में हम आपको फटी एड़ियों के लिए 20 घरेलू उपाए बता रहे हैं, जिन्हें इस्तेमाल करने से आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

विषय सूची


फटी एड़ियों के लिए कारगर घरेलू उपाय – Home Remedies for Cracked Heels in Hindi

अगर फटी एड़ियों को नजरअंदाज किया जाए, तो यह पैरों की त्वचा को काफी सख्त बना सकती हैं। बाजार में इसके कई आधुनिक उपचार मौजूद हैं, लेकिन अगर आप इनसे निजात पाने के लिए प्राकृतिक तरीकों की खोज में हैं, तो यह लेख आपको काफी फायदा पहुंचा सकता है। बाजार में मिलने वाली आधुनिक दवाइयों से ज्यादा कारगर और गुणकारी प्राकृतिक औषधियां होती हैं, जिनका प्रयोग आप बिना किसी हिचक के कर सकते हैं।

यहां जानिए घर में ही फटी एड़ियों का इलाज करने के सबसे सटीक उपायों के बारे में।

1. नींबू, नमक, ग्लिसरीन और गुलाब जल युक्त फुट मास्क

Foot masks with lemon, salt, glycerin and rose water Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक चम्मच नमक
  • आधा कप नींबू का रस
  • दो चम्मच ग्लिसरीन
  • हल्का गर्म पानी
  • फुट स्क्रबर

कैसे करें इस्तेमाल

  • बाल्टी को आधा हल्के गर्म पानी से भर दें।
  • अब इसमें एक चम्मच नमक, नींबू के रस की 10 बूंद, एक चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच गुलाब जल मिलाएं।
  • पानी के इस मिश्रण में अपने दोनों पैरों को 15-20 मिनट तक डूबोकर रखें।
  • अब फूट स्क्रबर से एड़ियों को स्क्रब करें।
  • इसके बाद अलग से एक चम्मच ग्लिसरीन, एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच नींबू के रस को मिलाकर मिश्रण तैयार करें और फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • थोड़ी देर बाद जुराबें पहनकर रात भर के लिए मिश्रण को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह एड़ियों को हल्के गर्म पानी से धो लें।

कितनी बार करें

● कुछ दिनों तक यह प्रक्रिया दोहराएं, जब तक कि एड़ियां मुलायम नहीं हो जातीं।

कैसे है लाभदायक

नींबू के रस में मौजूद अम्लीय गुण सूखी त्वचा को ठीक करने का काम करता है। इस प्रकार यह फटी एड़ियों को मुलायम बनाने में मदद करता है (1)। नींबू के अम्लीय गुण के साथ मिलकर गुलाब जल और ग्लिसरीन काफी प्रभावशाली हो जाते हैं, जो दरारों को जल्द भर एड़ियों को मुलायम बनाते हैं। ग्लिसरीन एड़ियों को सॉफ्ट बनाता है और गुलाब जल अपने एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण से फटी एड़ियों को ठीक करता है ।

सावधानी : नींबू का प्रयोग करने से त्वचा में जलन या सूखापन आ सकता है, इसलिए एलर्जी की जांच के लिए पैच टेस्ट (हाथ पर लगाकर देखना) जरूर कर लें।

2. हाइड्रोजेनेटेड वेजिटेबल ऑयल

सामग्री

  • दो चम्मच वेजिटेबल ऑयल

कैसे करें इस्तेमाल

  • अपनी एड़ियों को धो लें और साफ तौलिए से अच्छी तरह सूखा लें।
  • अब तेल को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • जुराबें पहनकर रात भर के लिए तेल को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह उठकर अपने पैरों को धो लें।

कितनी बार करें

  • कुछ दिन तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

हाइड्रोजनीकरण वो प्रक्रिया है, जिसके अंतर्गत वनस्पति तेल में हाइड्रोजन मिलाया जाता है। इससे तेल खराब होने की आशंका कम हो जाती है। हाइड्रोजेनेटेड वेजिटेबल ऑयल में मौजूद फैट त्वचा को पोषित करने का काम करता है, जिससे फटी एड़ियां फिर से मुलायम हो जाती हैं (2)। फटी एड़ियों के इलाज के लिए आप हाइड्रोजेनेटेड वेजिटेबल ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

3. केला-एवोकाडो युक्त फुट मास्क

Banana-aquacado foot masks Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक पका केला
  • आधा एवोकाडो

कैसे करें इस्तेमाल

  • केले और एवोकाडो को अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • 15-20 मिनट पेस्ट को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • अब हल्के गर्म पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक यह प्रक्रिया रोजाना दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

एवोकाडो एसेंशियल ऑयल, विटामिन और फैट से समृद्ध होता है, जो शुष्क त्वचा की मरम्मत करने का काम करता है (3)। वहीं, केला एक कारगर मॉइस्चराइजर के रूप में काम करता है, जो त्वचा को मुलायम और चिकना करने का काम करता है। फटी एड़ियों के इलाज के लिए आप इन दोनों को यहां बताए गए तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं (4)।

4. वैसलीन और नींबू का रस

सामग्री

  • एक चम्मच वैसलीन
  • नींबू के रस की चार से पांच बूंदें
  • हल्का गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • बाल्टी में एड़ियां भिगोने के लिए हल्का गर्म पानी डालें।
  • अब इस पानी में 15-20 मिनट तक अपनी एड़ियों को डुबोकर रखें और बाद में सूखा लें।
  • अब वैसलीन और नींबू के रस को एक साथ मिलाकर फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • जुराबें पहनकर रात भर के लिए मिश्रण को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह उठकर अपने पैरों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

फटी और सूखी एड़ियों के लिए आप नींबू का इस्तेमाल कर सकते हैं। नींबू एक गुणकारी सिट्रस फल है। इसका इस्तेमाल शरीर से जुड़ी विभिन्न परेशानियों से निजात पाने के लिए किया जा सकता है। नींबू अम्लीय और वैसलीन मॉइस्चराइजिंग गुण से समृद्ध होती है, जिसका इस्तेमाल आप फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए कर सकते हैं (5)।

5. पैराफिन वैक्स

सामग्री

  • एक चम्मच पैराफिन वैक्स
  • सरसों/नारियल तेल की दो से तीन बूंद

कैसे करें इस्तेमाल

  • पैराफिन वैक्स को सरसों या नारियल के तेल के साथ मिला लें।
  • मोम के पिघलने तक मिश्रण को गर्म करें।
  • मिश्रण को ठंडा होने के लिए रखें और एड़ियों पर लगाएं।
  • अब जुराबें पहन लें और रात भर के लिए मिश्रण को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह उठकर पैरों को धो लें।

कितनी बार करें

  • हफ्ते में एक या दो बार सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

पैराफिन वैक्स एक नरम व रंगहीन ठोस पदार्थ है, जो पेट्रोलियम, कोयले या ऑयल शेल से प्राप्त होता है। यह हाइड्रोकार्बन अणुओं का मिश्रण होता है। यह एक प्राकृतिक इमाल्यन्ट की तरह काम करता है, जिससे त्वचा को मुलायम होने में मदद मिलती है। 10-15 दिन नियमित इस्तेमाल करने से आपको फर्क दिखने लगेगा। फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं (6)।

सावधानी : पैराफिन वैक्स के हल्का ठंडा होने पर ही उसे पैरों पर लगाएं। मुधमेह के मरीज इस उपाय को न करें।

6. शहद

Honey Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक कप शहद
  • हल्का गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • एक बाल्टी पानी में एक कप शहद मिला लें।
  • अब अपने पैरों को इस मिश्रण में 15-20 मिनट तक डुबोकर रखें।
  • अब अपनी एड़ियों को आराम से स्क्रब करें।
  • स्क्रब के बाद हल्के गर्म पानी से पैरों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियां मुलायम होने तक रोजाना इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

शहद एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है, जो फटी एड़ियों को भरने और त्वचा को मुलायम करने का काम करता है। क्रैक हिल्स से जल्द राहत पाने के लिए आप शहद का इस्तेमाल यहां बताई गई प्रक्रिया के अनुसार कर सकते हैं (7)।

7. चावल का आटा

सामग्री

  • दो-तीन चम्मच चावल का आटा
  • एक चम्मच शहद
  • तीन-चार बूंद सेब का सिरका

कैसे करें इस्तेमाल

  • चावल का आटा, शहद और सेब का सिरका मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अगर आपकी एड़ियां कुछ ज्यादा ही फटी हैं, तो आप जैतून या बादाम का तेल भी इसमें मिला सकते हैं।
  • एड़ियों को 10 मिनट तक हल्के गर्म पानी में डुबोकर रखने के बाद मिश्रण से एड़ियों की स्क्रबिंग करें।

कितनी बार करें

  • हफ्ते में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

चावल का आटा त्वचा से खराब परत को हटाने के साथ-साथ मुलायम बनाने का काम भी करता है। फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं (8)।

8. जैतून का तेल

सामग्री

  • एक चम्मच जैतून का तेल
  • कॉटन बॉल की मदद से अपनी एड़ियों पर जैतून तेल लगाएं और 15 मिनट तक मसाज करें।
  • अब जुराबें पहन लें और एक घंटे बाद एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक इस प्रक्रिया को रोजाना करें।

कैसे है लाभदायक

जैतून का तेल काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें कई जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो त्वचा को कोमल और मुलायम बनाने का काम करते हैं (9)। फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह एड़ियों को चिकना, मुलायम और स्वस्थ रखने का एक कारगर तरीका है।

9. ओट्स मील

Oats meal Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक चम्मच ओट्स मील पाउडर
  • चार-पांच बूंद जैतून के तेल की

कैसे करें इस्तेमाल

  • जैतून के तेल के साथ ओट्स मील पाउडर मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • एक घंटे तक पेस्ट को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • अब ठंडे पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

  • हर दूसरे दिन इस इस प्रक्रिया को दोहराएं, जब तक कि एड़ियां मुलायम नहीं हो जातीं।

कैसे है लाभदायक

ओट्स मील एंटीइंफ्लेमेटरी और मॉइस्चराइजिंग गुणों से समृद्ध होता है, जो मृत कोशिकाओं को हटाने के साथ-साथ त्वचा को मुलायम बनाने का काम भी करता है (10)।

10. शीशम का तेल

सामग्री

  • चार से पांच बूंद शीशम के तेल की

कैसे करें इस्तेमाल

  • अपनी एड़ियों पर शीशम का तेल लगाएं।
  • अब धीरे-धीरे कुछ देर तक मसाज करें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

शीशम का तेल पोषक तत्वों से भरपूर होता है और एक कारगर मॉइस्चराइजर की तरह काम करता है। फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप शीशम के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं (11)।

11. नारियल का तेल

सामग्री

  • दो चम्मच नारियल का तेल

कैसे करें इस्तेमाल

  • अपनी एड़ियों पर नारियल का तेल लगाएं।
  • धीरे-धीरे मसाज करें।
  • अब जुराबें पहन लें और रात भर तेल को एड़ियों से लगे रहने दें।
  • सुबह पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

नारियल का तेल त्वचा को हाइड्रेट करने का काम करता है। साथ ही यह एक कारगर मॉइस्चराइजर की तरह और त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाने का काम भी करता है। यह गहराई में जाकर त्वचा को पोषित करता है (12) (13)।

12. लिस्टरिन सोक

सामग्री

  • एक कप लिस्टरिन
  • एक कप वाइट विनेगर
  • दो कप पानी
  • बाल्टी
  • फुट स्क्रबर

कैसे करें इस्तेमाल

  • बाल्टी में पानी डालें और उसमें लिस्टरिन व वाइट विनेगर मिला लें।
  • मिश्रण में 15-20 मिनट तक एड़ियों को डुबोकर रखें।
  • अब फुट स्क्रबर से एड़ियों की स्क्रबिंग करें।
  • साफ पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

लिस्टरिन कठोर मृत त्वचा को नरम कर साफ करता है। इसमें मेन्थॉल और थाइमोल जैसे फाइटोकेमिकल्स मौजूद होते हैं, जो इसे कारगर एंटीसेप्टिक बनाने का काम करते हैं (14)। फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप लिस्टरिन का इस प्रकार इस्तेमाल कर सकते हैं।

13. बेकिंग सोडा

Baking soda Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • तीन चम्मच बेकिंग सोडा
  • हल्का गर्म पानी
  • एक बाल्टी
  • फुट स्क्रबर

कैसे करें इस्तेमाल

  • बाल्टी को दो-तिहाई हल्के गर्म पानी से भर लें और उसमें बेकिंग सोडा मिलाएं।
  • अब इसमें 10-15 मिनट तक पैरों को डुबोकर रखें।
  • पैरों को बाहर निकालें और एड़ियों की स्क्रबिंग करें।
  • अब साफ पानी से एड़ियां धो लें।

कितनी बार करें

हफ्ते में दो बार इस प्रक्रिया को करें।

कैसे है लाभदायक

फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए आप बेकिंग सोडा का इस्तेमाल कर सकते हैं। बेकिंग सोडा एंटीइंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है और यह त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाने का काम करता है (15)।

14. सेब का सिरका

सामग्री

  • एक कप सेब का सिरका
  • तीन से चार कप हल्का गर्म पानी
  • एक बाल्टी

कैसे करें इस्तेमाल

  • बाल्टी में लगभग तीन से चार कप पानी डाल दें।
  • अब पानी में सेब का सिरका मिलाएं।
  • फिर 15 मिनट तक अपनी एड़ियों को इस मिश्रण में डुबोकर रखें और एड़ियों की स्क्रबिंग करें।
  • अब साफ पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

एक दिन छोड़कर इस प्रक्रिया को जारी रखें, जब तक कि एड़ियां मुलायम न हो जाएं।

कैसे है लाभदायक

माइल्ड एसिड सेब के सिरके को एक्सफोलिएट एजेंट बनाने का काम करता है, जो त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाने का काम करता है। फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए आप सेब के सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं (16)।

15. सेंधा नमक

सामग्री

  • आधा कप सेंधा नमक
  • हल्का गर्म पानी
  • एक बाल्टी

कैसे करें इस्तेमाल

  • एड़ियां डुबोने लायक बाल्टी में हल्का गर्म पानी भर लें।
  • अब 15 मिनट तक अपनी फटी एड़ियों को डुबोकर रखें और धीरे-धीरे स्क्रब करें।

कितनी बार करें

  • एड़ियों के मुलायम होने तक यह प्रक्रिया हफ्ते में दो से तीन बार जारी रखें।

कैसे है लाभदायक

फटी एड़ियों का घरेलू इलाज करने के लिए आप सेंधा नमक का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेंधा नमक त्वचा को मुलायक बनाकर फटी एड़ियों से निजात दिलाने का काम करता है (17)।

16. एलोवेरा

Aloe vera Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एलोवेरा जेल
  • गुनगुना पानी
  • एक बाल्टी
  • जुराबें

कैसे करें इस्तेमाल

  • एड़ियां डुबोने लायक बाल्टी में गुनगुना पानी भर लें।
  • अब एड़ियों को कुछ मिनट के लिए पानी में डुबोकर रखें और बाद में साफ करके सूखा लें।
  • अब फटी एड़ियों पर एलोवेरा जेल लगाएं।
  • इसके बाद जुराबें पहन लें और रात भर के लिए एलोवेरा जेल को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह साफ पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें

चार से पांच दिन तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

एलोवेरा सूखी और मृत त्वचा की मरम्मत करने का काम करता है। यह उन दरारों को ठीक करने का काम करता है, जो कोलेजन सिन्थेसिस को बढ़ाने का काम करती हैं। एलोवेरा में मौजूद एमिनो एसिड त्वचा को मुलायम करने का काम करता है (18)।

17. टी ट्री तेल

सामग्री

  • पांच-छह बूंद टी ट्री तेल की
  • एक चम्मच नारियल या जैतून का तेल

कैसे करें इस्तेमाल

  • टी ट्री तेल को नारियल या जैतून के तेल के साथ मिलाएं।
  • अब तेल के मिश्रण को फटी एड़ियों पर लगाकर कुछ मिनट तक मसाज करें।

कितनी बार करें

  • कुछ दिनों तक रात को सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

टी ट्री तेल त्वचा को साफ कर ठीक हालत में लाने का काम करता है। फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप टी ट्री तेल का नियमित उपयोग कर सकते हैं ।

सावधानी : टी ट्री तेल को सीधे न लगाएं, जैतून या नारियल के तेल के साथ मिलाकर प्रयोग में लाएं।

18. प्यूमिक स्टोन

सामग्री

  • प्यूमिक स्टोन
  • हल्का गर्म पानी
  • टब

कैसे करें इस्तेमाल

  • एड़ियां डुबोने भर के लिए टब में हल्का गर्म पानी डालें।
  • अब प्यूमिक स्टोन से एड़ियों की स्क्रबिंग करें, ताकि मृत कोशिकाएं हट जाएं और त्वचा मुलायम हो जाएं।
  • अब साफ पानी से एड़ियों को धो लें और सूखाकर मॉइस्चराइजर क्रीम लगाएं।

कितनी बार करें

रोजाना दिन में एक बार करें।

कैसे है लाभदायक

प्यूमिक स्टोन की खुरदरी सतह मृत त्वचा को हटाने में मदद करती है। इसका इस्तेमाल आप फटी एड़ियों के लिए कर सकते हैं।

सावधानी : प्यूमिक स्टोन का इस्तेमाल आराम से करें, ज्यादा जोर लगाकर रगड़ने से स्वस्थ त्वचा छिल सकती है और खून भी निकल सकता है।

19. विटामिन-ई तेल

सामग्री

  • विटामिन-ई कैप्सूल

कैसे करें इस्तेमाल

  • तीन से चार कैप्सूल में छेद करके तेल निकाल लें।
  • अब इस तेल को फटी एड़ियों पर लगाएं और थोड़ी देर तक मसाज करें।

कितनी बार करें

एक दिन में दो से तीन बार विटामिन-ई तेल का प्रयोग करें।

कैसे है लाभदायक

विटामिन-ई तेल त्वचा को पोषित और हाइड्रेट कर एड़ियों को मुलायम और चिकना करने का काम करता है। विटामिन-ई तेल के लिए आप बाजार से विटामिन-ई के कैप्सूल लेकर आ सकते हैं। फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं (19)।

20. शिया बटर

Shia Butter Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक से दो चम्मच ऑर्गेनिक शिया बटर

कैसे करें इस्तेमाल

  • दो-तीन मिनट तक शिया बटर से एड़ियों की मसाज करें।
  • अब जुराबें पहन लें और रात भर के लिए बटर को एड़ियों पर लगे रहने दें।

कितनी बार करें

कुछ दिनों तक इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

शिया बटर को कारगर स्किन मॉइस्चराइजर के नाम से जाना जाता है, जो त्वचा को हाइड्रेट और पोषित करता है। शिया बटर विटामिन-ए और विटामिन-ई गुणों से समृद्ध होता है। यह सूखेपन से संबंधित त्वचा की विभिन्न स्थितियों को सुधारने का काम करता है (20)। फटी एड़ियों से राहत पाने के लिए आप शिया बटर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जैसा कि इस लेख में बताया गया है कि इन घरेलू उपचार की मदद से एक-दो हफ्ते के अंदर आपको लाभ दिखने लगेगा। साथ ही यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपकी एड़ी में दरारें कितनी गहरी हैं। अगर दरारें गहरी हैं, तो उन्हें भरने में ज्यादा वक्त लग सकता है। बस आपको पूरे धैर्य के साथ इन उपचारों को प्रयोग में लाना है। इसके अलावा, अगर आप त्वचा संबंधी किसी रोग जैसे सोरायसिस, एक्जिमा, मधुमेह और हार्मोनल असंतुलन से पीड़ित हैं, तो एड़ी फटने की समस्या से निजात पाने में थोड़ा अधिक समय लग सकता है।

फटी एड़ियों को ठीक करने के कई तरीके मौजूद हैं, जिनमें पैरों को मॉइस्चराइज रखना, प्रदूषण से दूरी, पैरों को आराम देना, फुट मसाज के लिए प्राकृतिक तेल का इस्तेमाल करना, गर्म पानी में नींबू का रस डालकर पैर डुबोकर रखना आदि शामिल हैं। आप इन तरीकों को अपनाकर बिना डॉक्टर की मदद से अपनी फटी एड़ियों का इलाज कर सकते हैं।

अब आप फटी एड़ियों से निजात पाने के विभिन्न घरेलू नुस्खों के बारे में अवश्य ही जान गए होंगे। ये सभी उपचार प्राकृतिक हैं और काफी कारगर। अपनी फटी एड़ियों को ठीक करने के लिए आप लेख में बताए गए किसी भी देसी उपचार को प्रयोग में ला सकते हैं। ध्यान रहे कि अगर आप किसी गंभीर शारीरिक समस्या से ग्रसित हैं, तो इन उपायों को अपनाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर कर लें। यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

सवाल – फटी एड़ियों से बचने के उपाय?

जवाब – इलाज से बेहतर समस्या से बचाव है। इसलिए, फटी एड़ियों से बचाव के कई घरेलू उपचार मौजूद हैं, जिनका इस्तेमाल कर आप अपनी एड़ियों को फिर से खूबसूरत बना सकते हैं। निम्नलिखित उपायों को अपनाएं-

  • सूखी एड़ियों के लिए उचित मॉइस्चराइजेशन पहला कदम है।
  • आरामदायक जूते पहनना, अत्यधिक चलने से बचना और प्रदूषण के संपर्क में आने से बचना चाहिए।
  • नियमित रूप से अपनी एड़ियों को प्यूमिक स्टोन से रगड़ें। साथ ही गर्म नमक के पानी में नींबू के रस को मिलाकर उसमें पैरों को डुबोकर रखें। इससे पैर साफ और मुलायम रहेंगे।
  • पैरों को आराम देने से और तेल से पैरों की मालिश करने से भी एड़ियों का सूखापन और दरारें दूर होती हैं।
  • अपनी त्वचा को हाइड्रेट और कोमल रखने के लिए खूब पानी पिएं।

सवाल – क्यों फटती हैं एड़ियां?

जवाब – सूखी और फटी एड़ियों के पीछे कई कारण मौजूद होते हैं। एड़ियों की त्वचा में कोई तैलीय ग्रंथियां मौजूद नहीं होती। उचित देखभाल के अभाव में ये सूख जाती हैं और दरारें पड़नी शुरू हो जाती हैं। समस्या गंभीर रूप भी ले लेती है और दरारों से खून भी निकलने लगता है। फटी एड़ियों के निम्नलिखित अन्य कारण भी हो सकते हैं-

  • त्वचा की स्थिति जैसे सोरायसिस और एक्जिमा।
  • थायराइड, मधुमेह और हार्मोनल असंतुलन जैसी चिकित्सीय स्थितियां।
  • प्रदूषण।
  • लंबे समय तक चलना और सख्त जमीन पर खड़े रहना।

उचित देखभाल और मॉइस्चराइजिंग के साथ फटी एड़ियों को ठीक किया जा सकता है।

सवाल – सूखी फटी एड़ियों के लक्षण क्या हैं?

जवाब – सूखी फटी एड़ियों के लक्षण हैं –

  • एड़ी और तलवे के आसपास सूखापन
  • त्वचा पर लाल और परतदार पैच
  • त्वचा का छिलना
  • त्वचा में दरारें और लकीरें
  • खुजली
  • दरारों से खून बहना
  • संक्रमण के कारण दरारों से स्राव

सवाल – क्या मधुमेह के कारण भी एड़ियां फटती हैं ?

जवाब – हां, इसके कारण भी एड़ियां फट सकती हैं। अनियंत्रित रक्त शर्करा का स्तर पैरों की नसों को नुकसान पहुंचाता है, जिससे त्वचा सूखी हो जाती है। चूंकि पैर के पंजों में कोई तैलीय ग्रंथि नहीं होती, इसलिए वो अक्सर सूख जाते हैं। एड़ी पर मोटी सूखी त्वचा, जिसे कैलस के रूप में जाना जाता है, एड़ी में दरारें विकसित कर सकती है। मधुमेह पर नियंत्रण कर आप फटी एड़ियों की समस्या से बच सकते हैं। मधुमेह के दौरान फटी एड़ियों से गंभीर संक्रमण होने का खतरा होता है, जिनका इलाज करना मुश्किल भी हो सकता है। डायबिटीज के शुरुआती चरण में पैरों की अच्छी देखभाल करना बहुत जरूरी है।

सवाल – केवल एड़ियां ही क्यों फटती हैं, पैर के अन्य भाग क्यों नहीं?

जवाब – चूंकि पैर के पंजों पर कोई तैलीय ग्रंथियां नहीं होती हैं, इसलिए ये जल्दी सूख जाते हैं। एड़ियों की त्वचा मोटी और सूखी होती है, अत्यधिक गतिविधि के कारण दरारों से रक्तस्राव होने लगता है। किसी सख्त या ठंडी सतह पर लंबे समय तक खड़े रहना, जोर देकर चलना और मोटापा आदि एड़ी फटने की वजह बन सकते हैं। शरीर का अधिकांश भार एड़ी द्वारा वहन किया जाता है, क्योंकि ये सूखी और फूली हुई होती हैं, इसलिए इनमें जल्दी दरारें पड़ जाती हैं। कई बार ये दरारें गहरी हो जाती हैं और इनसे खून बहने लगता है।

संबंधित आलेख