घरेलू उपचार
Stylecraze

फटी एड़ियों के लिए असरदार घरेलू इलाज – Cracked Heel Remedies in Hindi

by
फटी एड़ियों के लिए असरदार घरेलू इलाज – Cracked Heel Remedies in Hindi Hyderabd040-395603080 November 11, 2019

चेहरे की खूबसूरती का ध्यान रखते-रखते हम अपने पांव को नजरअंदाज कर देते हैं। देखा जाए तो शारीरिक आकर्षण बनाने रखने में चेहरे के साथ-साथ पांव की भी भूमिका होती है। इसलिए, पांव से जुड़ी समस्याओं पर भी ध्यान देना बहुत जरूरी है। देखा गया है कि महिलाएं फटी एड़ियों से ज्यादा परेशान रहती हैं। फटी एड़ियां खूबसूरत से खूबसूरत चप्पल और सैंडल की चमक को फीका कर देती हैं। ऐसे में अगर आप फटी एड़ियों की दवा या अन्य उपाय कर थक चुके हैं और अब आपके मन में यह सवाल आ रहा है कि फटी एड़ियां कैसे ठीक करें, तो यह लेख खास आपके लिए ही है।

स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के उपाय बताएंगे। फटी एड़ियों के घरेलू उपाय न सिर्फ आसान होंगे, बल्कि इसे सही तरीके से आजमाने पर ये असरदार भी साबित हो सकते हैं।

इससे पहले कि आप फटी एड़ियों का इलाज जानें, आपका यह जानना जरूरी है कि फटी एड़ियां होने के कारण क्या हैं।

फटी एड़ियों के कारण – Causes of Cracked Heels in Hindi

अगर फटी एड़ियों से छुटकारा पाना है, तो जरूरी है कि उसके होने का कारण भी जाना जाएं। अगर किसी तकलीफ की वजह पता हो, तो उसे ठीक करना और उसका ख्याल रखना आसान हो जाता है। नीचे हम आपको फटी एड़ियां के कारण बताने जा रहे हैं (1) (2) (3) (4) (5)।

  • अगर मौसम ज्यादा शुष्क है, तो उसका असर आपकी त्वचा पर पड़ता है।
  • अगर आपका वजन ज्यादा है, तो आपको फटी एड़ियों की समस्या हो सकती है। जब आप खड़े रहते हैं, तो आपका पूरा भार पैर पर पड़ता है, जिस कारण एड़ियां फट सकती हैं।
  • बहुत देर तक चलने या खड़े रहने से भी एड़ियां फट सकती हैं।
  • डायबिटीज के कारण भी एड़ियां फट सकती हैं।
  • बिना चप्पल पहने चलना, ज्यादातर सैंडल पहनना, एक ही तरह के फुटवियर पहनना, ज्यादा कड़े चप्पल पहनना या ऐसे जूते पहनना जिसकी फिटिंग सही न हो।

लेख के आगे के भाग में जानिए फटी एड़ियां होने के क्या-क्या लक्षण हो सकते हैं।

फटी एड़ियों के लक्षण – Symptoms of Cracked Heels in Hindi

फटी एड़ियों का इलाज जानने से पहले उसके लक्षण जान लेना जरूरी है, ताकि फटी एड़ियों का उपचार करना आसान हो। इसलिए, नीचे जानिए फटी एड़ियां होने के लक्षण –

  • एड़ियों की त्वचा का शुष्क हो जाती है और हल्की दरारें दिखने लगती हैं।
  • त्वचा पर लाल और परतदार पैच होना।
  • त्वचा की ऊपरी परत का निकलना।
  • खुजली होना या चलने से दर्द का एहसास होना।
  • दरारों से खून निकलना और दर्द होना।

अब जब आपने इतना कुछ जान ही लिया है, तो आगे जानते हैं कि फटी एड़ियां कैसे ठीक करें।

फटी एड़ियों के लिए घरेलू उपचार – Home Remedies for Cracked Heels in Hindi

नीचे जानिए फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए फटी एड़ियों के घरेलू उपाय, जो न सिर्फ आसान होंगे, बल्कि सही उपयोग से असरदार भी हो सकते हैं।

1. वेजिटेबल यानि वनस्पति तेल

सामग्री :

  • दो चम्मच वेजिटेबल ऑयल

कैसे करें इस्तेमाल :

  • अपनी एड़ियों को धो लें और साफ तौलिए से अच्छी तरह सूखा लें।
  • अब तेल को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • जुराबें पहनकर रात भर के लिए तेल को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह उठकर अपने पैरों को धो लें।

कितनी बार करें :

कुछ दिन तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

वेजिटेबल ऑयल में एमोलिएंट (Emollient) गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा को नर्म बनाकर उसे फटने से बचाते हैं। फिलहाल, इस संबंध में और शोध की जरूरत है (6)। इसके अलावा, इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण त्वचा संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं (7)। फटी एड़ियों का इलाज आप वेजिटेबल ऑयल से कर सकते हैं।

2. शहद

सामग्री :

  • एक कप शहद
  • हल्का गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एक बाल्टी पानी में एक कप शहद मिला लें।
  • अब अपने पैरों को इस मिश्रण में 15-20 मिनट तक डूबोकर रखें।
  • अब अपनी एड़ियों को आराम से स्क्रब करें।
  • स्क्रब के बाद हल्के गर्म पानी से पैरों को धो लें।

कितनी बार करें :

एड़ियां मुलायम होने तक रोजाना इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

त्वचा के लिए शहद का उपयोग लंबे समय से किया जाता रहा है। शहद में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल व एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं (8), जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। इतना ही नहीं यह त्वचा को हील करने के साथ-साथ त्वचा को हाइड्रेट करने में भी मदद कर सकते हैं, जिसका सकारात्मक प्रभाव फटी एड़ियों पर दिख सकता है (9) (10)।

[ पढ़े: Shahad Ke Fayde in Hindi ]

3. वैसलीन

सामग्री :

  • एक चम्मच वैसलीन
  • नींबू के रस की चार से पांच बूंदें
  • हल्का गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल :

  • बाल्टी में एड़ियां भिगोने के लिए हल्का गर्म पानी डालें।
  • अब इस पानी में 15-20 मिनट तक अपनी एड़ियों को डूबोकर रखें और बाद में सूखा लें।
  • अब वैसलीन को फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • जुराबें पहनकर रात भर के लिए मिश्रण को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह उठकर अपने पैरों को धो लें।

कितनी बार करें :

एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है

यह त्वचा में मॉइस्चर प्रदान कर उसे फटने से बचाव कर सकता है। यह त्वचा में नमी को बनाए रखता है और उसे नर्म और मुलायम बनाता है (11)।

[ पढ़े: वैसलीन के फायदे और उपयोग ]

4. नारियल का तेल

सामग्री :

  • दो चम्मच नारियल का तेल

कैसे करें इस्तेमाल :

  • अपनी एड़ियों पर नारियल का तेल लगाएं।
  • धीरे-धीरे मसाज करें।
  • अब जुराबें पहन लें और रात भर तेल को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें :

एड़ियों के मुलायम होने तक रोज रात को सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

नारियल तेल त्वचा को हाइड्रेट करने का काम करता है। साथ ही यह एक कारगर मॉइस्चराइजर की तरह काम कर त्वचा को अंदर तक पोषण प्रदान कर उसे मुलायम बना सकता है। इसका एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण त्वचा संबंधी परेशानियों से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। फिलहाल, इस संबंध में और शोध की आवश्यकता है (12) (13) (14) (15)।

5. नींबू, नमक, ग्लिसरीन और गुलाब जल युक्त फुट मास्क

सामग्री :

  • एक चम्मच नमक
  • आधा कप नींबू का रस
  • दो चम्मच ग्लिसरीन
  • हल्का गर्म पानी
  • दो चम्मच गुलाब जल
  • फुट स्क्रबर

कैसे करें इस्तेमाल :

  • बाल्टी को आधे गुनगुने पानी से भर दें।
  • अब इसमें एक चम्मच नमक, नींबू के रस की 10 बूंदें, एक चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच गुलाब जल मिलाएं।
  • पानी के इस मिश्रण में अपने दोनों पैरों को 15-20 मिनट तक डूबोकर रखें।
  • अब फूट स्क्रबर से एड़ियों को स्क्रब करें।
  • इसके बाद अलग से एक चम्मच ग्लिसरीन, एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच नींबू के रस को मिलाकर मिश्रण तैयार करें और फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • थोड़ी देर बाद जुराबें पहनकर रात भर के लिए मिश्रण को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह एड़ियों को गुनगुने पानी से धो लें।

कितनी बार करें :

जब तक एड़ियां मुलायम नहीं हो जातीं, इस प्रक्रिया को रोज रात को सोने से पहले दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

ग्लिसरीन ह्यूमेक्टेंट (Humectant) की तरह काम करता है, ताकि त्वचा में मॉइस्चर बरकरार रहे (16)। वहीं, गुलाब में एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा को जलन और सूजन से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं (17)। नींबू आपकी त्वचा की रंगत को निखारने में मदद कर सकता है (18)। वहीं, नमक में एनाल्जेसिक (Analgesic) यानी दर्दनाशक गुण मौजूद होते हैं, जो फटी एड़ियों में होने वाले दर्द से राहत दिला सकते हैं (19)। यह मिश्रण फटी एड़ियों की दवा के रूप में असर करने में मदद कर सकता है ।

सावधानी : नींबू का प्रयोग करने से त्वचा में जलन या सूखापन आ सकता है। इसलिए, एलर्जी की जांच के लिए पैच टेस्ट (हाथ पर लगाकर देखना) जरूर कर लें।

6. तिल का तेल (sesame oil)

सामग्री :

  • तिल के तेल की चार से पांच बूंदें

कैसे करें इस्तेमाल :

  • अपनी एड़ियों पर तिल का तेल लगाएं।
  • अब धीरे-धीरे कुछ देर तक मसाज करें।

कितनी बार करें :

एड़ियों के मुलायम होने तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

तिल का तेल कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसमें घाव को भरने का भी गुण मौजूद होता है। कई बार फटी एड़ियों में संक्रमण की समस्या भी हो जाती है, ऐसे में तिल का तेल लाभकारी हो सकता है। इसके साथ ही यह फटी एड़ियों में होने वाले दर्द को भी कम कर सकता है (20) (21)। यह फटी एड़ियों के उपाय के रूप में कारगर साबित हो सकता है।

7. सेंधा नमक या एप्सम सॉल्ट (Epsom salt)

सामग्री :

  • आधा कप सेंधा नमक
  • हल्का गर्म पानी
  • एक बाल्टी

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एड़ियां डुबोने लायक बाल्टी में हल्का गर्म पानी भर लें।
  • अब 15 मिनट तक अपनी फटी एड़ियों को डूबोकर रखें और धीरे-धीरे स्क्रब करें।

कितनी बार करें :

एड़ियों के मुलायम होने तक यह प्रक्रिया हफ्ते में दो से तीन बार जारी रखें।

कैसे फायदेमंद है?

यह नमक आपको त्वचा संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। यह न सिर्फ त्वचा को नर्म बनाने में मदद कर सकता है, बल्कि पैरों की दुर्गंध को भी ठीक करने में मददगार हो सकता है (22)। इससे रूखी त्वचा की समस्या से भी राहत मिल सकती है।

[ पढ़े: सेंधा नमक के फायदे, उपयोग और नुकसान ]

8. एलोवेरा

सामग्री :

  • एलोवेरा जेल
  • गुनगुना पानी
  • एक बाल्टी
  • जुराबें

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एड़ियां डुबोने लायक बाल्टी में गुनगुना पानी भर लें।
  • अब एड़ियों को कुछ मिनट के लिए पानी में डूबोकर रखें और बाद में साफ करके सूखा लें।
  • अब फटी एड़ियों पर एलोवेरा जेल लगाएं।
  • इसके बाद जुराबें पहन लें और रातभर के लिए एलोवेरा जेल को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • सुबह साफ पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें :

चार से पांच दिन तक रोजाना सोने से पहले यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा में हीलिंग और मॉइस्चराइजिंग गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा की समस्या को दूर कर उसे कोमल बनाने में मददगार साबित हो सकता है। यह कठोर त्वचा को मुलायम बनाने में सहायता कर सकता है (23)।

[ पढ़े: एलोवेरा (घृतकुमारी) के फायदे, उपयोग और नुकसान ]

9. केला-एवोकाडो युक्त फुट मास्क

सामग्री :

  • एक पका केला
  • आधा एवोकाडो

कैसे करें इस्तेमाल :

  • केले और एवोकाडो को अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं।
  • 15-20 मिनट तक पेस्ट को एड़ियों पर लगे रहने दें।
  • अब हल्के गर्म पानी से एड़ियों को धो लें।

कितनी बार करें :

एड़ियों के मुलायम होने तक यह प्रक्रिया रोजाना दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

त्वचा के लिए विटामिन ए और नियासिन (विटामिन बी3) लाभकारी माने जाते हैं (24)। केला इन दो खास पोषक तत्वों से समृद्ध होता है, इसलिए त्वचा के स्वास्थ्य के लिए केले का उपयोग किया जा सकता है (25)। वहीं, एवोकाडो में मौजूद हीलिंग गुण फटी एडियों को भरने का काम काम कर सकते हैं (26)। फटी एड़ियों के उपाय के लिए यह फुट मास्क असरदार साबित हो सकता है ।

10. शिया बटर

सामग्री :

  • एक से दो चम्मच ऑर्गेनिक शिया बटर या शिया बटर

कैसे करें इस्तेमाल :

  • दो-तीन मिनट तक शिया बटर से एड़ियों की मसाज करें।
  • अब जुराबें पहन लें और रात भर के लिए बटर को एड़ियों पर लगे रहने दें।

कितनी बार करें :

कुछ दिनों तक इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे फायदेमंद है?

शिया बटर एक कारगर स्किन मॉइस्चराइजर है, जो त्वचा को हाइड्रेट और पोषित करने का काम कर सकता है। इतना ही नहीं यह त्वचा को नर्म और कोमल बनाने का काम भी कर सकता है (27)।

11. विटामिन-ई तेल

सामग्री :

  • तीन से चार विटामिन-ई कैप्सूल

कैसे करें इस्तेमाल :

  • तीन से चार कैप्सूल में छेद करके तेल निकाल लें।
  • अब इस तेल को फटी एड़ियों पर लगाएं और थोड़ी देर तक मसाज करें।

कितनी बार करें :

एक दिन में दो से तीन बार विटामिन-ई तेल का प्रयोग करें।

कैसे फायदेमंद है?

विटामिन-ई तेल त्वचा को पोषित और हाइड्रेट कर एड़ियों को मुलायम और चिकना करने में मदद कर सकता है क्योंकि इसमें वून्ड हीलिंग (Wound Healing) गुण मौजूद होते हैं। यह त्वचा को हाइड्रेट रखने में भी मदद कर सकता है (28)।

12. प्यूमिस स्टोन

सामग्री :

  • प्यूमिस स्टोन
  • गुनगुना पानी
  • टब

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एड़ियां डुबोने भर के लिए टब में गुनगुना पानी डालें।
  • अब प्यूमिस स्टोन से एड़ियों की स्क्रबिंग करें, ताकि मृत कोशिकाएं हट जाएं और त्वचा मुलायम हो जाएं।
  • अब साफ पानी से एड़ियों को धो लें और सूखाकर मॉइस्चराइजर लगाएं।

कितनी बार करें :

हर दूसरे दिन आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

फटी एड़ियो का उपचार करने के लिए आप प्यूमिस स्टोन का भी उपयोग कर सकते हैं । प्यूमिस स्टोन की खुरदरी सतह मृत त्वचा को हटाने में मदद करती है। इसका इस्तेमाल आप फटी एड़ियों के लिए कर सकते हैं।

सावधानी : प्यूमिक स्टोन का इस्तेमाल आराम से करें, ज्यादा जोर लगाकर रगड़ने से स्वस्थ त्वचा छिल सकती है और खून भी निकल सकता है।

आगे जानिए फटी एड़ियों से बचने के कुछ उपाय।

फटी एड़ियों से बचने के उपाय – Prevention Tips for Cracked Heels in Hindi

इलाज से बेहतर समस्या से बचाव है। इसलिए, फटी एड़ियों से बचाव के लिए आप नीचे बताए गए टिप्स को फॉलो कर अपनी एड़ियों को फटने से बचा सकते हैं।

  • अपने एड़ियों को मॉइस्चराइज करके रखें। खासकर, सुबह कहीं बाहर जाने से पहले और रात को सोने से पहले पैरों पर क्रीम या लोशन जरूर लगाएं।
  • आरामदायक फुटवियर यानी चप्पल, जूते या सैंडल का सही चुनाव करें। सिर्फ फुटवियर के बाहरी खूबसूरती पर न जाएं, बल्कि आराम का भी ध्यान रखें।
  • प्रदूषण व धूल-मिट्टी से अपने पैरों को बचाएं और बाहर जाने से पहले मोजे जरूर पहनें।
  • नियमित रूप से अपनी एड़ियों को प्यूमिक स्टोन से रगड़ें। साथ ही गर्म नमक के पानी में नींबू के रस को मिलाकर उसमें पैरों को डूबोकर रखें। इससे पैर साफ और मुलायम रहेंगे।
  • पैरों को आराम देने से और तेल से पैरों की मालिश करने से भी एड़ियों का सूखापन और दरारें दूर होती हैं।
  • अपनी त्वचा को हाइड्रेट और कोमल रखने के लिए खूब पानी पिएं।
  • खाने में जरूरी पौष्टिक तत्व युक्त खाद्य पदार्थ जैसे – हरी सब्जियों व फलों का सेवन करें।
  • कहीं बाहर से आने के बाद पैरों को अच्छे से धोएं।

नोट: ऊपर बताए गए फटी एड़ियों के घरेलू उपाय के असर के लिए आपको धैर्य रखना होगा, क्योंकि ये कोई जादू नहीं कि तुरंत काम करें। इनके नियमित और सही तरीके से उपयोग करने से आपको इसका असर दिखने लगेगा। अगर इन फटी एड़ियों के नुस्खे को आजमाने के बाद भी आपकी दरारें ठीक न हो या उनमें से खून आ रहा हो, तो एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर करें। डॉक्टर आपकी स्थिति को देखते हुए आपको फटी एड़ियों की दवा लेने की सलाह दे सकते हैं। फटी एड़ियों को अनदेखा न करें, फटी एड़ियों का इलाज जरूरी है।

इस लेख को पढ़ने के बाद अब आप फटी एड़ियों के घरेलू उपाय तो जान ही चुके हैं। ऊपर बताए गए फटी एड़ियों के उपाय न सिर्फ आसान हैं, बल्कि असरदार भी हैं। इन उपायों को आजमाएं और अपना अनुभव हमारे साथ साझा करें। अगर आपके पास भी फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के आसान तरीके हैं, तो उसे भी हमारे साथ शेयर करें। ध्यान रहे कि अगर आप किसी गंभीर शारीरिक समस्या से ग्रसित हैं, तो इन उपायों को अपनाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर कर लें। फटी एड़ियों के घरेलू उपाय का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

संबंधित आलेख