गाय के दूध के 12 फायदे और नुकसान – Cow Milk Benefits and Side Effects in Hindi

Medically reviewed by Neelanjana Singh, Nutrition Therapist & Wellness Consultant
by

आप सब अपनी मां और दादी-नानी से गाय के दूध के फायदे सुनकर ही बड़े हुए होंगे। यही वजह है कि भारत के लगभग सभी घरों में सुबह नाश्ते में और रात को सोने से पहले एक गिलास दूध जरूर पिया जाता है। खासकर, बच्चों को गाय का दूध जरूर पिलाया जाता है, क्योंकि यह मस्तिष्क और हड्डी के विकास में अहम भूमिका निभाता है। कुछ ऐसे ही जाने-पहचाने और अनजाने गाय के दूध के फायदे के बारे में हम स्टाइलक्रेज के इस लेख में आपको तथ्यों के साथ जानकारी देंगे। इस लेख के जरिए हम आपको गाय के दूध के फायदे तो बताएंगे ही, साथ ही अगर इसके कुछ नुकसान हैं, तो इस बारे में भी हम आपको प्रमाण सहित बताएंगे।

चलिए, अब सीधे आपको गाय के दूध के फायदे के बारे में बताते हैं।

गाय के दूध के फायदे – Benefits of Cow Milk in Hindi

1. पाचन में सहायक

गाय का दूध आपको बदहजमी से बचाने में मदद कर सकता है। दरअसल, गाय के दूध में विटामिन बी-12 पाया जाता है। यह विटामिन पाचन की प्रक्रिया में मदद करता है। दूध के प्रति कप में 1.2mg विटामिन बी-12 होता है। एक दिन में वयस्कों को 2.4mg विटामिन बी-12 की जरूरत है यानी एक कप दूध आपके शरीर में विटामिन बी-12 की आधी जरूरत को पूरा कर देता है (1)। वहीं, गाय के दूध का लगभग 80% प्रोटीन कैसिइन (casein) होता है, जो पूरे शरीर में कैल्शियम और फॉस्फेट को पहुंचाता और पाचन में सहायता करता है। इसलिए, कहा जा सकता है कि दूध का सेवन करने से खाना अच्छे से हजम हो सकता है।

2. कैंसर से बचाव

माना जाता है कि कैंसर के इलाज में भी गाय के दूध का सेवन फायदेमंद होता है। दरअसल, गाय के फोर्टिफाइड (अतिरिक्त विटामिन और खनिज डालकर बनाया गया) दूध में विटामिन-डी उच्च मात्रा में पाया जाता है (2), जो कैंसर के खतरे को कम कर सकता है। इसलिए, कहा जाता है कि गाय का दूध कैंसर की आशंका को पनपने से रोकने में मदद कर सकता है (3)। एक रिसर्च की मानें, तो दूध और डेयरी उत्पाद का सेवन संभवतः कोलोरेक्टल कैंसर, ब्लैडर कैंसर, गैस्ट्रिक कैंसर और स्तन कैंसर से बचाता है। वहीं, डेयरी सेवन प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम माना जाता है (4)। हालांकि, कुछ अध्ययन कहते हैं कि दूध के सेवन और कैंसर के बीच किसी भी तरह के संबंध की कोई स्पष्ट जानकारी अभी तक नहीं मिल पाई है (5)।

3. आंखों के स्वास्थ्य के लिए

गाय के दूध को आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी सहायक माना जाता है, क्योंकि गाय के दूध में विटामिन-ए होता है। विटामिन-ए आंखों के लिए जरूरी पोषक तत्वों में से एक है (6)। विटामिन-ए आंखों की रोशनी को सुधारने में मदद करता है (7)। इसके अलावा विटामिन-ए की कमी की से आपको रतौंधी, आंखों के सफेद हिस्से में धब्बे (बिटोट स्पॉट) जैसी कई आंखों से संबंधी समस्याएं हो सकती हैं (8)।

4. हृदय स्वास्थ्य

गाय का दूध पीने से आप हृदय को भी स्वास्थ रख सकते हैं। दूध पीने से इस्केमिक स्ट्रोक (ब्लड क्लोट होने की वजह से आने वाला स्ट्रोक) के जोखिम को कम किया जा सकता है। साथ ही इस्केमिक हृदय रोग को कम करने में भी फायदेमंद माना जाता है (5) (9)। इसमें मौजूद सैचुरेटेड फैटी एसिड के उच्च प्लाज्मा स्तर भी हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं, जो डेयरी उत्पादों में मौजूद रहते हैं (10)।

5. इम्यूनिटी

गाय के कच्चे दूध में प्रोबायोटिक्स यानी जीवित माइक्रोऑर्गेनाइज्म होते हैं, जो इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। एक अध्ययन में पाया गया है कि कच्चा दूध पीने से बच्चों का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और उनका शरीर कई तरह के संक्रमण का सामना करके बच्चों के विकास में मदद करता है। इसके अलावा, दूध उबालकर पीने से भी इम्यून सिस्टम मजबूत होता है (11) (12)। ऐसे में कहा जा सकता है कि दूध आपको बीमारियों से बचाने में भी मदद कर सकता है, क्योंकि जब आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत रहेगी, तो आपका शरीर रोगों से लड़कर आपको उनसे बचाता रहेगा।

6. हड्डी स्वास्थ्य

गाय का दूध हड्डी को स्वस्थ रखने में भी काफी सहायक हो सकता है। दरअसल, दूध और डेयरी के अन्य उत्पाद मैग्नीशियम और कैल्शियम के महत्वपूर्ण स्रोत होते हैं। इसलिए, हड्डियों के विकास के लिए दूध का सेवन काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। बच्चों व युवाओं के साथ ही व्यस्कों के हड्डी स्वास्थ्य के लिए भी दूध को अच्छा माना गया है (11)।

7. वजन को रखे नियंत्रित

दुनियाभर में अधिक वजन और मोटापे की वजह से कई लोग परेशान हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए आप तरह-तरह के जतन भी करते होंगे, लेकिन क्या कभी गाय का दूध पीने के बारे में सोचा है। जी हां, गाय का दूध युवाओं के बढ़ते वजन को रोकने में मदद कर सकता है। एक विश्लेषण के अनुसार, डेयरी सेवन करने वाले 38 प्रतिशत बच्चों का वजन डेयरी का सेवन कम करने वाले बच्चाें के मुकाबले संतुलित था। दरअसल, गाय का दूध और डेयरी उत्पाद प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं और प्रोटीन वजन घटाने या फिर उसे नियंत्रित रखने में मदद करता है। यह भोजन के बाद बार-बार उठने वाली खाने की इच्छा को कम करता है, जो एनर्जी की अधिक खपत को रोकता है, जिससे शरीर की वसा कम होती है (11)।

8. मस्तिष्क विकास

दूध मस्तिष्क विकास के लिए भी अहम माना जाता है। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड मनुष्यों के मस्तिष्क से संबंधित प्रक्रियाओं में मदद करता है। हमारे दिमाग को बेहतर तरीके से कार्य करने में ओमेगा -3 फैटी एसिड सहायक माना गया है। ओमेगा-3 फैटी एसिड लेने वाले बच्चे में दिमाग विकास संबंधी विकार (जैसे – पढ़ने, वर्तनी में अंतर करने और व्यवहार) को कम करने में फायदेमंद माना गया है (1) (13)। शायद यही वजह है कि बच्चों को गाय का दूध पीने की सलाह दी जाती है।

9. मूड को बनाए बेहतर

जैसा कि हम आपको ऊपर बता ही चुके हैं कि गाय का दूध आपके मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बनाए रखने में काफी मददगार साबित हो सकता है। ऐसे में माना जाता है कि इसे पीने से मानसिक विकार को भी दूर किया जा सकता है। दरअसल, दूध में ओमेगा-फैटी एसिड पाया जाता है। अगर शरीर में इसकी कमी हो जाए, तो दिमागी विकार जैसे डिस्लेक्सिया (पढ़ने में दिक्कत), एकाग्रता की कमी, अवसाद, बाइपोलर डिसऑर्डर (मूड स्विंग), याददाश्त में कमी और सिजोफ्रेनिया (सोचने और समझने की क्षमता को प्रभावित करने वाला विकार) का जोखिम बढ़ जाता है (1) (13)।

10. एलोपेसिया (Alopecia)

एलोपेसिया बालों के झड़ने की समस्या है। इस दौरान बाल पैच में झड़ने लगते हैं। एक सेमी से 4 सेमी तक के हिस्से से बाल झड़कर खत्म हो जाते हैं और वो हिस्सा खाली और चिकना हो जाता है। वैसे तो एलोपेसिया ओटोइम्यून की वजह से होता है। कुछ पोषक तत्वों जैसे – विटामिन-डी और जिंक के सेवन से यह समस्या कम हो सकती है (14)। ये दोनों ही पोषक तत्व दूध में पाए जाते हैं (1) (15)। ऐसे में माना जाता है कि एलोपेसिया की समस्या से गुजर रहे लोगों को गाय दूध का सेवन करना चाहिए।

11. दमकती त्वचा और एंटी एजिंग

माना जाता है कि कच्चे दूध को चेहरे पर लगाने से काफी निखार आता है। दरअसल, प्राचीन काल से लोग दूध का इस्तेमाल नहाने व चेहरा धोने के लिए करते रहे हैं। ऐसे में आप भी गाय के कच्चे दूध में रूई डूबोकर अपने चेहरे पर लगा सकते हैं। आयुर्वेद के मुताबिक ऐसा करने से चेहरे में चमक आती है। शायद यही वजह है चेहरे को साफ करने और फेस पैक बनाने के लिए गाय के कच्चे दूध का इस्तेमाल किया जाता है (16)। वैसे दूध में रेटिनॉल (Retinol) पाया जाता है (17), जिसे चेहरे के लिए वरदान माना जाता है। रेटिनॉल विटामिन-ए होता है, जो बढ़ती उम्र के सभी लक्षणों को दूर कर आपको दमकता चेहरा देता है (18) (19)। विटामिन-ए की कमी से त्वचा रूखी होने लगती है (20)। ऐसे में आप गाय के दूध का उपयोग करके त्वचा की नमी को बरकरार रख सकते हैं।

12. त्वचा स्वास्थ्य

गाय के दूध में मौजूद विटामिन-ए और प्रोटीन हमारे चेहरे के लिए वरदान से कम नहीं है। गाय के दूध में पाए जाने वाले ये दोनों पोषक तत्व त्वचा के स्वास्थ्य और सुंदरता को बढ़ाएं रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा, गाय के दूध में विटामिन-डी भी होता है, जो त्वचा की बढ़ती उम्र को रोकने में मदद कर सकता है (18) (21)। आप अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिए रोजाना गाय के दूध का सेवन कर सकते हैं। साथ ही इसे किसी फैस पैक में मिलाकर भी चेहरे पर लगा सकते हैं।

नोट: दूध में पाए जाने वाले विटामिन और खनिजों की मात्रा भिन्न-भिन्न हो सकती है। दरअसल, गाय के दूध में मौजूद पोषक तत्व इस बात पर निर्भर करते हैं कि उसे आहार में क्या दिया जा रहा है (1)।

गाय के दूध के फायदे जानने के बाद अब इससे मिलने वाले पोषक तत्वों पर भी एक नजर डाल देते हैं।

गाय के दूध के पौष्टिक तत्व – Cow Milk Nutritional Value in Hindi

गाय के दूध के फायदे जानने के साथ ही इसमें मौजूद पोषक तत्वों को जान लेना भी जरूरी है। नीचे दिए गए टेबल में हम आपको बताएंगे प्रति 100 ग्राम गाय के दूध में कितनी मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं (18)।

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
ऊर्जा62kcal
प्रोटीन3.33g
कुल फैट3.33g
कार्बोहाइड्रेट5.42g
शुगर5.00g
मिनरल्स
कैल्शियम125mg
सोडियम52mg
विटामिन
विटामिन सी0.5mg
विटामिन ए125IU
विटामिन डी42IU
लिपिड्स
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड2.080g
कोलेस्ट्रोल15mg

गाय के दूध में मौजूद पोषक तत्वों के बाद गाय के दूध का उपयोग जान लेते हैं। इसके बाद लेख में आगे आपको गाय के दूध के नुकसान के बारे में भी बताएंगे।

गाय के दूध का उपयोग – How to Use Cow Milk in Hindi

गाय के दूध के फायदे तो आप जान ही चुके हैं, अब गाय के दूध का उपयोग किस-किस तरीके से किया जा सकता है, यह आपको बता देते हैं।

  • दूध आप सीधे उबालकर पी सकते हैं।
  • दूध का इस्तेमाल आप खीर बनाने के लिए भी कर सकते हैं।
  • दूध से आप मिठाइयां बनाकर खा सकते हैं।
  • दूध का प्रयोग आप दही जमाने के लिए भी कर सकते हैं।
  • कच्चे दूध को आप चेहरे पर लगा सकते हैं।
  • आप गाय के दूध से स्मूदी भी बना सकते हैं।

नोट: कुछ लोग दूध को कच्चा पीने की सलाह देते हैं, क्योंकि ऐसी मान्यता है कि दूध को उबालने से उसके पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। हम आपको बता दें कि ऐसा कुछ भी नहीं है। कच्चे दूध में पाये जाने वाले सभी पोषक तत्व लगभग उतनी ही मात्रा में दूध उबालने के बाद भी मौजूद रहते हैं (1)। इसलिए, आप दूध को उबालकर ही इस्तेमाल में लाएं, क्योंकि कच्चे दूध को पीने के कई नुकसान भी हो सकते हैं, जिनके बारे में हम आपको लेख के अंत में बताएंगे।

कितना पीना चाहिए:

गाय के दूध का उपयोग के साथ ही इसकी मात्रा कितनी लेनी चाहिए यह भी जानना जरूरी। चलिए, अब जान लेते हैं कि बच्चों में और अन्य लोगों को गाय के दूध का सेवन कितना करना चाहिए।

बच्चे के लिए गाय के दूध की मात्रा : जब शिशु 1 साल का हो जाए, तभी उसे गाय का दूध पिलाना चाहिए। बाल रोग विशेषज्ञ कैल्शियम की जरूरतों को पूरा करने के लिए दिन में 16 से 24 औंस यानी 2 से 3 कप गाय का दूध पीने की सलाह देते हैं (22)।

वयस्कों के लिए गाय के दूध की मात्रा : वयस्कों को गाय का दूध 200 ml यानी एक गिलास पीने की सलाह दी जाती है (23)

चलिए, अब बात करते हैं गाय के दूध के नुकसान के बारे में।

गाय के दूध के नुकसान – Side Effects of Cow Milk in Hindi

गाय के दूध के फायदे और उपयोग तो आप जान ही चुके हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि इसे पीने से नुकसान भी हो सकता है। नीचे हम आपको गाय के दूध के नुकसान के बारे में बताएंगे (24) (25) (4)।

  • 1 वर्ष से कम उम्र के शिशुओं को गाय का दूध पिलाने से एनीमिया होने का खतरा हो सकता है।
  • गाय के दूध में मौजूद प्रोटीन में टाइप 1 मधुमेह के जोखिम पाए जाते हैं।
  • प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम हो सकता है।
  • कुछ ऐसे लोग भी होते हैं, जिन्हें दूध से एलर्जी होती है, ऐसे लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। जिन लोगों को लैक्टोज इनटॉलेरेंस है उन्हें भी गाय का दूध नहीं पीना चाहिए।

अगर आपको गाय के दूध से एलर्जी है, तो इसे पीने के बाद नीचे दिए गए लक्षण नजर आ सकते हैं (26) (27) (28)।

  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • उल्टी
  • मल में रक्त
  • गैस
  • डायरिया
  • पेट दर्द
  • जी मिचलाना
  • पेट फूलना

नोट: गाय के दूध के फायदे और नुकसान दोनों ही हैं। इसलिए, आपको गाय का दूध पीने के बाद इसके नुकसान से जुड़ा कोई भी लक्षण शरीर में देखने को मिलता है, तो सीधे डॉक्टर से संपर्क करें। अगर आपको गाय के दूध से एलर्जी नहीं है, तो आप इसका सेवन बेहिचक कर सकते हैं। बस ध्यान रहें कि आप इसकी संतुलित मात्रा का ही सेवन करें।

गाय का दूध आपके शरीर में औषधि की तरह भी काम कर सकता है। बस जरूरी है इस बारे में सही जानकारी होने की। हम उम्मीद करते हैं कि आपको इस लेख के माध्यम से गाय के दूध से संबंधित हर जानकारी मिल गई होगी। इस लेख में बताए गए गाय के दूध के लाभ को आप अपने तक ही सीमित न रखें, बल्कि अपने दोस्तों व परिचितों के साथ भी साझा करें।

23 संदर्भ (Sources) :

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

vinita pangeni

विनिता पंगेनी ने एनएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में बीए ऑनर्स और एमए किया है। टेलीविजन और डिजिटल मीडिया में काम करते हुए इन्हें करीब चार साल हो गए हैं। इन्हें उत्तराखंड के कई पॉलिटिकल लीडर और लोकल कलाकारों के इंटरव्यू लेना और लेखन का अनुभव है। विशेष कर इन्हें आम लोगों से जुड़ी रिपोर्ट्स करना और उस पर लेख लिखना पसंद है। इसके अलावा, इन्हें बाइक चलाना, नई जगह घूमना और नए लोगों से मिलकर उनके जीवन के अनुभव जानना अच्छा लगता है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch