सामग्री और उपयोग

जिलेटिन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Gelatin Benefits and Side Effects in Hindi

by

जानवरों पर शोध करके उनसे कई प्रकार के फायदेमंद कंपाउंड प्राप्त किए जाते हैं। उन्हीं में से एक जिलेटिन है। आमतौर पर जिलेटिन का उपयोग जेली और गम कैंडी बनाने के लिए किया जाता है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले गुणों और पोषक तत्वों की वजह से इसका उपयोग कई बीमारियों को दूर करने के लिए भी किया जाता रहा है। स्टाइलक्रेज के इस आर्टिकल में हम जिलेटिन के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। साथ ही हम लेख में जिलेटिन पाउडर के फायदे, उपयोग और नुकसान के बारे में भी जानेंगे। जिलेटिन स्वास्थ्यवर्धक है और यह बीमारियों के कुछ लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, संपूर्ण इलाज के लिए डॉक्टर से चेकअप करवाना जरूरी है।

आइए, सबसे पहले जिलेटिन के बारे में जान लेते हैं कि इसे कहां से प्राप्त किया जाता है।

जिलेटिन क्या है? – What is Gelatin in Hindi

जिलेटिन एक प्रकार का प्रोटीन है, जिसे जानवरों के मांस, हड्डियों व कनेक्टिव टिशू से निकले कोलेजन अर्क से प्राप्त किया जाता है (1)। यह पारदर्शी, स्वादहीन और रंगहीन पदार्थ होता है। जिलेटिन का उपयोग त्वचा की समस्याओं और जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा, यह ऑस्टियोअर्थराइटिस (जोड़ों के बीच के तरल का खत्म होना), गठिया, एनीमिया (रेड ब्लड सेल्स की कमी), ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों का कमजोर होना) और कमजोर नाखून जैसी कई समस्याओं के लक्षणों को कम करने में कारगर हो सकता है। साथ ही हम बता दें कि इसके इन उपयोगों का कोई ठोस वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है। फिर भी जिलेटिन का उपयोग उपरोक्त समस्याओं को दूर करने के साथ ही खाद्य पदार्थों, सौंदर्य प्रसाधनों और दवाइयां बनाने में किया जाता है (2)।

जिलेटिन को जानने के बाद इससे होने वाले फायदों के बारे में चर्चा कर लेते हैं। 

जिलेटिन के फायदे – Benefits of Gelatin in Hindi 

जिलेटिन में पाए जाने वाले औषधीय गुणों के कारण इसका उपयोग खाद्य पदार्थ के अलावा कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। यहां हम स्वास्थ्य के लिए जिलेटिन के कुछ प्रमुख फायदों के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

1. वजन कम करने के लिए जिलेटिन के फायदे

जिलेटिन का सेवन वजन को कम करने के लिए मददगार हो सकता है। दरअसल, इसमें प्रोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। ब्राजील के एक शोध केंद्र के अनुसार, प्रोटीन आसानी से नहीं पचता और इसके सेवन से भूख भी कम लगती है। इससे हर समय कुछ भी खाने-पीने की इच्छा कम होती है, जिससे वजन बढ़ने की प्रक्रिया थम जाती है और धीरे-धीरे वजन कम होने लगता है (3)। जिलेटिन के सेवन से न सिर्फ वजन को नियंत्रित किया जा सकता है, बल्कि इसकी मदद से वजन को कम करने में भी मदद मिल सकती है।

2. जोड़ों के दर्द के लिए (Osteoarthritis) 

क्या आप मान सकते हैं कि जेली और अन्य खाद्य पदार्थ में उपयोग होने वाला जिलेटिन जोड़ों के दर्द को दूर करने लिए भी कारगर है?‌ संभवत नहीं, लेकिन यह सच है। एनीसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के अनुसार, जिलेटिन में पाया जाने वाला कोलेजन ऑस्टियोपोरोसिस के उपचार के साथ ही जोड़ों के दर्द में भी मददगार साबित हो सकता है (4)।

3. डायबिटीज को कम करने के लिए जिलेटिन के फायदे 

मधुमेह की समस्या बहुत आम हो गई है और लोग इसके उपचार के लिए कई प्रकार के उपाय भी करते रहते हैं। बता दें कि एनआईएच (नेशनल इंस्टिटयूट ऑफ हेल्थ) में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, मछली से प्राप्त होने वाले जिलेटिन में ओमेगा-3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है। यह कई समस्याओं के साथ ही इंसुलिन की सक्रियता को बढ़ाकर टाइप-2 डायबिटीज को नियंत्रित करने में कुछ हद तक फायदेमंद हो सकता है (5)। साथ ही ध्यान रहे कि अगर कोई डायबिटीज से पीड़ित है, तो वह डॉक्टर की सलाह पर ही घरेलू उपचार का इस्तेमाल करे और दवा का सेवन करना न छोड़े।

4. नाखूनों के विकास के लिए 

अगर नाखूनों का पतलापन, उनका कमजोर और बेजान होना जैसी नाखूनों की विकास संबंधी समस्या है, तो इन समस्याओं से छुटकारा दिलाने में जिलेटिन फायदेमंद हाे सकता है। जर्नल ऑफ द सोसाइटी ऑफ कॉस्मेटिक केमिस्ट द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार, इसमें पाया जाने वाला अमीनो एसिड न सिर्फ नाखूनों के विकास में सहायक हो सकता है, बल्कि यह नाखूनों की कई समस्या को दूर करने में भी आपकी मदद कर सकता है (6)।

5. दांतों के लिए जिलेटिन के फायदे 

स्वस्थ दांतों के साथ ही कैविटी जैसी दांतों की समस्या से बचाए रखने में भी जिलेटिन फायदेमंद हो सकता है। यूएसडीए (यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर) के अनुसार, जिलेटिन में प्रोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है (7)। वहीं, एनसीबीआई में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, प्रोटीन को दांतों की कई बीमारियां दूर करने के लिए फायदेमंद माना गया है। यह न सिर्फ कैविटी से दांतों की रक्षा करता है, बल्कि सड़न और बैक्टीरिया की वजह से दांतों के इनेमल को क्षतिग्रस्त होने से भी रोक सकता है (8)। इस कारण यह कहा जा सकता है कि जिलेटिन का उपयोग दांतों के लिए लाभकारी साबित हो सकता है।

6. अच्छी नींद के लिए 

अनिद्रा की समस्या को दूर करने और नींद के समय को बढ़ाने में जिलेटिन लाभदायक साबित हो सकता है। एनसीबीआई में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, इसमें ग्लाइसिन नामक घटक पाया जाता है (9)। वहीं, एक अन्य शोध में जिक्र मिलता है कि ग्लाइसिन का उपयोग चिकित्सकीय विकल्प के रूप में नींद की समस्या को दूर करने के साथ ही नींद की गुणवत्ता में सुधार के लिए भी किया जा सकता है। यह न सिर्फ अनिद्रा की समस्या को दूर कर सकता है, बल्कि नींद को लम्बे समय तक बरकरार रखने में भी मदद कर सकता है (10)।

7. अच्छे पाचन के लिए 

पाचन की समस्या को दूर करने के लिए जिलेटिन एक अच्छा खाद्य पदार्थ हो सकता है। एनसीबीआई में प्रकाशित शोध के अनुसार, इसमें पाया जाने वाला टैनिक एसिड न सिर्फ दस्त को दूर करने में मदद कर सकता है, बल्कि उल्टी और आंतों की कई समस्याओं से राहत दिला पाचन में सुधार करने में भी मदद कर सकता है (11)।

8. त्वचा के लिए जिलेटिन के फायदे 

स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने के साथ ही जिलेटिन त्वचा संबंधी कई समस्याओं को ठीक करने में भी मदद कर सकता है। यूएसडीए के अनुसार, यह विटामिन-सी और प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है (7)। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के अनुसार, स्वस्थ त्वचा और उसके सेल्स को बनाए रखने के लिए प्रोटीन की प्रमुख भूमिका हो सकती है (12)। वहीं, एनसीबीआई की ओर से प्रकाशित शोध के अनुसार, विटामिन-सी त्वचा को संक्रमण से बचाने के साथ ही इसे पर्याप्त पोषण प्रदान कर सकता है (13)।

9. बालों के लिए 

बालों के विकास और उनकी सुरक्षा के लिए जिलेटिन फायदेमंद हो सकता है। इसमें प्रोटीन और विटामिन-सी की मात्रा पाई जाती है (7)। प्रोटीन बालों के सूखेपन को दूर करने के साथ ही उन्हें टूटने से रोकता है। वहीं, विटामिन-सी बालों को झड़ने से रोकता है और उन्हें लंबा व घना बनाने में मदद कर सकता है (14)।

जिलेटिन के फायदों को जानने के बाद आगे हम इसके पोषक तत्वों के बारे में बता रहे हैं।

जिलेटिन के पौष्टिक तत्व – Gelatin Nutritional Value in Hindi 

जिलेटिन में पाए जाने वाले पोषक तत्व सेहत के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। नीचे तालिका के जरिए जानते हैं इसके पोषक तत्वों के बारे में (7):

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
कैलोरी381 kcal
प्रोटीन9.52 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट0.09 ग्राम
शुगर85.71 ग्राम
मिनरल्स
सोडियम357 मिलीग्राम
विटामिन
विटामिन सी42.9 मिलीग्राम

पाेषक तत्वों को जानने के बाद अब हम बात करते हैं इसके उपयोग के बारे में। 

जिलेटिन का उपयोग – How to Use Gelatin in Hindi 

चिकित्सा के क्षेत्र में जिलेटिन पाउडर का उपयोग कैप्सूल को कोटिंग करने और कॉस्मेटिक्स के निर्माण के लिए किया जाता है (2)। इसके अलावा, जिलेटिन को कुछ अन्य तरीकों से भी उपयोग किया जा सकता है, जो इस प्रकार हैं (15):

  • जिलेटिन पाउडर का उपयोग बाजार में पाई जाने वाली कैंडीज को बनाने के लिए भी किया जाता है।
  • मार्शमैलो (शुगर की मीठी कैंडी) बनाने में इसका उपयोग किया जाता है।
  • जिलेटिन के उपयोग से केक को सजाया जा सकता है।
  • आईसक्रीम बनाने के लिए भी जिलेटिन का उपयोग किया जा सकता है।

कब खा सकते हैं: चूंकि, जिलेटिन रंगहीन और स्वादहीन होता है, इसलिए अगर आप ऐसे ही खाएंगे, तो यह आपके मुंह का स्वाद खराब कर सकता है। इसका उपयोग ऊपर दिए हुए खाद्य पदार्थों के रूप में कभी कर सकते हैं।

कितनी मात्रा में करें उपयोग: इसका उपयोग 10 ग्राम तक प्रतिदिन किया जा सकता है (2)। फिर भी इसकी मात्रा के बारे में एक बार आहार विशेषज्ञ की सलाह लेना जरूरी है।

जिलेटिन के उपयाेग के बाद जानते हैं इससे होने वाले नुकसान के बारे में। 

जिलेटिन के नुकसान – Side Effects of Gelatin in Hindi 

जरूरी नहीं कि जिलेटिन फायदेमंद ही रहे। कई बार इसके नुकसान भी देखने में आ सकते हैं। इससे होने वाले नुकसान कुछ इस प्रकार हैं।

  • जिन लोगों को जिलेटिन से एलर्जी हो उन्हें इससे दूर ही रहना चाहिए। नहीं तो इसके कुछ दुष्परिणाम हो सकते हैं (16)।
  • दस्त के दौरान जिलेटिन से बने पदार्थों से बचना चाहिए, क्योंकि यह दस्त की स्थिति को बिगाड़ सकता है (17)।
  • एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, इसका अधिक सेवन लिवर और किडनी से संबंधित समस्याएं पैदा कर सकता है (18)।

इस आर्टिकल के माध्यम से आपने जिलेटिन के उपयोग, फायदे और नुकसान के बारे में जाना। आपने पढ़ा कि किस प्रकार से जिलेटिन को प्राप्त किया जाता है। साथ ही किस प्रकार से इसका उपयोग खाद्य पदार्थों के साथ-साथ इसमें पाए जाने वाले औषधीय गुणों की वजह से सेहत और त्वचा के लिए भी किया जा सकता है। अगर आपने आर्टिकल को पढ़ कर इसे अपनी डाइट में शामिल करने का मन बना लिया है, तो पहले आपको अपने डॉक्टर से परामर्श कर लेना चाहिए। जिलेटिन की जानकारी बताता यह आर्टिकल आपके लिए किस प्रकार से उपयोगी रहा नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए हमें जरूर बताएं। साथ ही अगर आप जिलेटिन के संबंध में कुछ और पूछना चाहते हैं, तो अपने सवान हमारे साथ शेयर कर सकते हैं। हम प्रमाण सहित जवाब देने का प्रयास करेंगे।

और पढ़े:

×
This article changed my life!
This article was informative.
Change

×
This article contains incorrect information.
This article doesn’t have the information I’m looking for.
Change

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Saral Jain

सरल जैन ने श्री रामानन्दाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय, राजस्थान से संस्कृत और जैन दर्शन में बीए और डॉ. सी. वी. रमन विश्वविद्यालय, छत्तीसगढ़ से पत्रकारिता में बीए किया है। सरल को इलेक्ट्रानिक मीडिया का लगभग 8 वर्षों का एवं प्रिंट मीडिया का एक साल का अनुभव है। इन्होंने 3 साल तक टीवी चैनल के कई कार्यक्रमों में एंकर की भूमिका भी निभाई है। इन्हें फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, एडवंचर व वाइल्ड लाइफ शूट, कैंपिंग व घूमना पसंद है। सरल जैन संस्कृत, हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, मराठी व कन्नड़ भाषाओं के जानकार हैं।

ताज़े आलेख