घने बालों के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स – Tips To Grow Thick Hair in Hindi

by

बालों को स्वस्थ रखने के लिए हम कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल तो कर लेते हैं, लेकिन बालों की मूलभूत जरूरत को नहीं समझ पाते। इसलिए, अगर स्वयं की नियमित रूप से देखभाल की जाए, तो स्वस्थ, चमकदार और घने बाल पाने के लिए इतने जतन करने न पड़े, लेकिन हम घरेलू नुस्खों की जगह हेयर प्रोडक्ट्स की ओर ज्यादा आकर्षित रहते हैं। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम घने बालों के लिए टिप्स के बारे में बताएंगे। साथ ही बाल झड़ने के कारण के बारे में भी जानकारी देंगे, जिन्हें ध्यान में रखकर बालों को झड़ने से रोककर घने बाल पाए जा सकते हैं।

चलिए, सबसे पहले बाल झड़ने के कुछ कारणों पर नजर डाल लेते हैं। इसके बाद बालों को घना करने के घरेलू उपाय के बारे में बताएंगे।

बाल झड़ने के कारण – Causes of Hair Fall in Hindi

  1. स्ट्रेस : बाल झड़ने के पीछे का एक कारण स्ट्रेस को भी माना जाता है। दरअसल, स्ट्रेस की वजह से बालों के विकास में बाधा आती है। चूहों पर किए गए एक शोध में भी स्ट्रेस की वजह से बालों की ग्रोथ में अवरोध और हेयर फॉलिकल्स पर हानिकारक प्रभाव देखे गए हैं (1)। शारीरिक या भावनात्मक तनाव के कारण स्कैल्प के करीब एक से तीन चौथाई बाल झड़ सकते हैं। इस तरह के बालों के झड़ने को टेलोजेन एफ्लुवियम (Telogen Effluvium) कहा जाता है (2) 
  1. हार्मोनल असंतुलन : स्ट्रेस के साथ ही हार्मोन्स का संतुलन बिगड़ने से भी बाल झड़ने लगते हैं (2)। इसमें सबसे पहले रजोनिवृत्ति (Menopause) की वजह से हार्मोन्स में होने वाले बदलाव शामिल हैं (3)। इसके अलावा, प्रसव के बाद होने वाले हार्मोंनल असंतुलन के कारण भी बाल झड़ते हैं (4)। रजोनिवृत्ति या प्रसव के कारण बालों का झड़ना अक्सर 6 महीने से 2 साल के बाद ठीक हो सकता है। 
  1. खराब पोषण : बालों के झड़ने के पीछे का कारण पोषक तत्वों की कमी भी हो सकती है। ऐसे में विटामिन और मिनरल की सही खुराक बालों के झड़ने की समस्या को कम कर सकती है। साथ ही यह जानना भी जरूरी है कि कौन से विटामिन और खनिज का सेवन बालों को झड़ने से रोकने में मदद कर सकता है। कई बार गलत पोषक तत्व का ज्यादा सेवन करने से बाल झड़ने की समस्या बढ़ जाती है (5)। बालों को बढ़ाने के लिए कौन से पोषक तत्व जरूरी हैं, इसके बारे में हम लेख के अगले हिस्से में बताएंगे। 
  1. प्रदूषण : प्रदूषण की वजह से सिर्फ एलर्जी और अस्थमा जैसे रोग नहीं होते, बल्कि बालों से संबंधित समस्याएं भी पैदा होने लगती हैं। इसलिए, प्रदूषण को भी बालों के झड़ने का एक कारण माना जाता है। प्रदूषण की वजह से स्कैल्प में जगह-जगह लाल चकत्ते पड़ना, खुजली, बालों का कमजोर होना, बालों की जड़ों में दर्द और डैंड्रफ जैसी समस्या पैदा होती हैं। आगे चलकर इसी समस्या की वजह से एलोपेसिया हो जाता है, यानी स्कैल्प से गोलाकर में बाल झड़ने लगते हैं (6)
  1. आनुवंशिक (Genetics) : परिवार में अगर पीढ़ी-दर-पीढ़ी गंजेपन की समस्या रही हो तो परिवार के अन्य सदस्य को भी बाल झड़ने और गंजेपन जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है (7)

अब, लेख में आगे हम बालों को घना और लंबा रखने के कुछ खास टिप्स बता रहे हैं। नीचे, बताई गई बातों को ध्यान में रखकर और अपनी दिनचर्या में शामिल करके बालों को झड़ने से रोका जा सकता है।

चलिए, अब बालों को झड़ने से रोकने और बालों को घना करने के टिप्स  पर एक नजर डाल लेते हैं।

पतले बालों को घना और खूबसूरत बनाने के लिए कुछ टिप्स – Tips To Get Thicker Hair Naturally in Hindi 

1. स्कैल्प की मसाज

स्कैल्प की मसाज करने से बालों की ग्रोथ को बढ़ाया जा सकता है। थिक हेयर पाने के लिए रोजाना या एक दिन के अंतराल में स्कैल्प की हल्के हाथों से मसाज की जा सकती है। मसाज के लिए नारियल या विशेषज्ञ की सलाह पर किसी भी केमिकल रहित तेल को उपयोग में लाया जा सकता है। तेल लगाने के दो-तीन घंटे बाद या रातभर तेल को बालों में छोड़कर माइल्ड शैम्पू कर लें।

दरअसल, स्कैल्प की मालिश करने से इसके अंदर के सबक्यूटेनियस (Subcutaneous) टिश्यू को मिलने वाले स्ट्रेचिंग फोर्स से डर्मल पैपिला कोशिकाओं (हेयर फोलिकल्स के नीचे मौजूद सेल) में बदलाव होता है। साथ ही इससे स्ट्रेस भी कम होता है, जिससे बाल मोटे होते हैं (8)। करीब 11 से 20 मिनट रोजाना बालों की मालिश करने से झड़ते बालों की समस्या को दूर किया जा सकता है (9) 

2. केमिकल-फ्री हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें

बाजार में कई ऐसे उत्पाद हैं, जो घने बालों का वादा करते हैं। ये पदार्थ कितने प्रभावी होते हैं, यह तो नहीं कहा जा सकता, लेकिन इनमें मौजूद हानिकारक रसायनों बालों को रूखा बनाने के साथ ही इनके झड़ने की वजह जरूर बन जाते हैं। इसके अलावा, केमिकल ट्रीटमेंट भी बालों को काफी नुकसान पहुंचाते हैं (10)। ऐसे में इनकी जगह प्राकृतिक तत्वों से भरपूर जैसे कि पेपरमिंट ऑयल, एलोवेरा या जैतून युक्त प्रोडक्ट और नैचुरल ट्रीटमेंट का इस्तेमाल किया जा सकता (11) (12) 

3. बालों को सही तरीके से धोएं

बालों को सही से धोने का तरीका भी बालों को बढ़ाने और घने बनाने में मदद कर सकता है। जी हां, शायद ही किसी ने सोचा होगा कि बालों को सही तरीके से धोने से इनमें कई अच्छे बदलाव देखने को मिल सकते हैं। बालों को धोते समय हर किसी को दो नियमों को याद रखना चाहिए। सबसे पहला- बालों को रोजाना शैम्पू न करें। इससे बाल प्राकृतिक तेल का उत्पादन नहीं कर पाते, जो हमारे बालों को पोषण देते हैं। दूसरा, बालों को गर्म पानी से धोने से बचें। गर्म पानी बालों को रूखा, बेजान और नाजुक बनाते हैं। 

4. बालों को प्राकृतिक रूप से सुखाएं

प्राकृतिक रूप से बालों को सुखाना हमेशा ही अच्छा माना जाता है। हेयर वॉश के बाद गीले बालों को तौलिये से लपेट कर पानी को सुखाएं। फिर कुछ देर बाद इन्हें खुला छोड़ दें। बार-बार शैम्पू करने और हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करके सुखाने से बालों की सतह को नुकसान पहुंचता है। यह कमजोर और रूखे हो सकते हैं। इसलिए, बालों को प्राकृतिक रूप से ही सुखाना चाहिए। प्राकृतिक रूप से बालों को सुखाने पर इन्हें हानि नहीं पहुंंचती। इससे बाल न तो टूटते हैं और न ही रूखे होते हैं (13) 

5. बालों को हाइड्रेट रखें

बालों को स्वस्थ और टूटने से बचाने के लिए, इन्हें डीप कंडीशन करना जरूरी है। बालों को धोने के बाद हमेशा कंडीशनर करना याद रखें। इससे बाल ज्यादा उलझते नहीं हैं और मुलायम बने रहते हैं। बालों को सूखा और इन्हें घुंघराले होने से बचाने के लिए हेयर क्रीम, सीरम या तेल लगा सकते हैं (14)  

6. कंघी सही से करें

घने बाल पाने के लिए याद रखें कि प्लास्टिक और मेटल हेयर ब्रश का इस्तेमाल न करें। साथ ही गिले बालों को कभी भी कंघी न करें। चौड़े दांतों वाली कंघी का इस्तेमाल कर धीरे-धीरे बालों को कंघी करें। बालों को ज्यादा कंघी करने और सुलझाते समय बालों को खींचने से भी बचें। ज्यादा कंघी करने से बाल दो-मुंहें हो सकते हैं (15)। दिनभर में सिर्फ दो बार ही कंघी करें। इसके अलावा, बालों को हल्के से कंघी करें, क्योंकि जोर लगाकर कंघी करने से बाल टूटने लगते हैं (16)। इसलिए, बालों को झड़ने से बचाने और घने बाल पाने के लिए कंघी करते समय खास ध्यान देने की जरूरत है। 

7. हीट स्टाइलिंग टूल्स का उपयोग कम करें

हीट स्टाइलिंग टूल्स के लगातार उपयोग से बाल शुष्क, कमजोर और क्षतिग्रस्त हो जाते हैं, जिससे इनके टूटने का खतरा बढ़ जाता है। हीट स्टाइलिंग टूल्स जैसे ब्लो ड्रायर, स्ट्रेटनर और कर्लिंग आयरन के उपयोग से या तो बचें या तो इनका इस्तेमाल कुछ खास अवसरों तक ही सीमित रखें (13)। इनकी जगह प्राकृतिक स्टाइलिंग तरीकों का भी इस्तेमाल किया जा सकता है, जैसे कि बालों के लिए रबड़ के बने उत्पाद, जूड़ा (बन्स) बनाना व चोटी बनाना। 

8. नियमित अंतराल पर बालों को ट्रिम करें

समय-समय पर बालों को ट्रिम करते रहें। इससे दो-मुंहें बाल कम होते हैं और बालों की ग्रोथ भी बढ़ती है। ट्रिमिंग से बालों के खराब हिस्से कट जाते हैं और बाल अच्छे दिखते हैं। 

9. तनाव से दूर रहें

ऊपर लेख में हम बता चुके हैं कि स्ट्रेस की वजह से बाल झड़ते हैं (1)। ऐसे में स्ट्रेस को नियंत्रित करके भी बालों को झड़ने से रोका जा सकता है। इसलिए, बालों को घना करने के टिप्स में तनाव कम करना भी हमेशा शामिल होता है। मानसिक शांति से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ नहीं होता है, इसलिए किसी भी बात को लेकर तनाव न लें। अगर कोई समस्या है, तो उसकी वजह से स्ट्रेस लेने की जगह समस्या का हल निकालने के बारे में सोचना चाहिए। स्ट्रेस से बचने के लिए ध्यान, योग और व्यायाम कर सकते हैं। साथ ही सकारात्मक लोगों से बातचीत भी कुछ हद तक मदद कर सकती है।

10. खाने पर ध्यान दें

जैसा कि हम पहले भी बता चुके हैं कि पोषक तत्वों की कमी की वजह से भी बाल झड़ने की समस्या पैदा हो सकती है। इसलिए, घने बालों के लिए नियमित रूप से संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए। प्रोटीन, विटामिन (बी और सी), जिंक, कैल्शियम, आयरन, बायोटिन और मैग्नीशियम बालों के लिए जरूरी होते हैं। ये बालों की ग्रोथ बढ़ाने के साथ ही इनकी क्वालिटी को बनाए रखने में मदद करते हैं (17) (5)

बालों को घना करने के घरेलू उपाय और इन्हें झड़ने से कैसे बचाया जाए, ये विस्तार से हमने इस लेख में आपको बताया है। यहां बताई गई बातों का ख्याल रखते हुए पौष्टिक आहार का सेवन करने से बालों को घना बनाना आसान हो सकता है। हां, अगर बाल झड़ने की समस्या काफी गंभीर है यानी एलोपेसिया जैसी समस्या है, तो एक बार डॉक्टर से संपर्क कर लेना सही रहेगा। डॉक्टरी उपचार और लेख में बताए गए घने बालों के लिए टिप्स झड़ते बालों की समस्या से निजात दिलाने में आपकी जरूर मदद करेंगे। बालों को घना करने के संबंध में अगर कोई सवाल आपके जहन में हो, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से उन्हें हम तक पहुंचा सकते हैं।  

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या घने बालों के लिए बाजार से खरीदे गए उत्पादों की तुलना में प्राकृतिक तत्व एक बेहतर विकल्प है?

हां, बाल घने करने के घरेलू उपाय हर कोई इसलिए आजमाता है, क्योंकि ये केमिकल फ्री होते हैं। साथ ही प्राकृतिक सामग्री का इस्तेमाल करने वालों को पता होता है कि वो अपने बालों में क्या लगा रहे हैं। वहीं, बाजार से खरीदे गए हेयर प्रोडक्ट में क्या-क्या मौजूद है, यह पूरी तरह स्पष्ट नहीं होता। साथ ही बाजार में बिकने वाले उत्पाद बालों के लिए फायदेमंद होंगे या नहीं, ये तो कोई नहीं कह सकता, लेकिन यह तो तय है कि प्राकृतिक चीजें केमिकल रहित होती हैं। इसलिए, बाजार में प्राकृतिक तत्व से बने कई प्रोडक्ट मौजूद हैं, जो केमिकल प्रोडक्ट का बेहतर विकल्प के रूप में उभर रहे हैं।

बाल किससे बने होते हैं?

बाल प्रोटीन से मिलकर बने होते हैं। विशेष रूप से कहा जाए, तो केराटिन (Keratin) से, जो एक तरह का प्रोटीन होता है (18)

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

vinita pangeni

विनिता पंगेनी ने एनएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में बीए ऑनर्स और एमए किया है। टेलीविजन और डिजिटल मीडिया में काम करते हुए इन्हें करीब चार साल हो गए हैं। इन्हें उत्तराखंड के कई पॉलिटिकल लीडर और लोकल कलाकारों के इंटरव्यू लेना और लेखन का अनुभव है। विशेष कर इन्हें आम लोगों से जुड़ी रिपोर्ट्स करना और उस पर लेख लिखना पसंद है। इसके अलावा, इन्हें बाइक चलाना, नई जगह घूमना और नए लोगों से मिलकर उनके जीवन के अनुभव जानना अच्छा लगता है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch