Medically Reviewed By Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD
Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

बालों को स्वस्थ रखने के लिए हम कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल तो कर लेते हैं, लेकिन बालों की मूलभूत जरूरत को नहीं समझ पाते। इसलिए, अगर स्वयं की नियमित रूप से देखभाल की जाए, तो स्वस्थ, चमकदार और घने बाल पाने के लिए इतने जतन करने न पड़ें, लेकिन हम घरेलू नुस्खों की जगह हेयर प्रोडक्ट्स की ओर ज्यादा आकर्षित रहते हैं। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम घने बालों के लिए टिप्स भी बताएंगे। साथ ही बाल झड़ने के कारण के बारे में भी जानकारी देंगे, जिन्हें ध्यान में रखकर बालों को झड़ने से रोककर घने बाल पाए जा सकते हैं।

स्क्रॉल करें

आर्टिकल की शुरुआत करते हैं इस जानकारी के साथ कि बाल पतले होने का कारण क्या है।

बाल पतले क्यों होते हैं? – Causes Of Thin Hair In Hindi

बालों के पतले होने के कई कारण हो सकते हैं, जिनके बारे में हम यहां विस्तार से बता रहे हैं।

  1. प्रोटीन व पोषक तत्वों की कमी : बालों को मजबूती प्रदान करने के लिए प्रोटीन अहम पोषक तत्व होता है। अगर शरीर में प्रोटीन की कमी होती है, तो इसका दुष्प्रभाव बालों पर देखने को मिल सकता है। इस विषय पर हुए शोध को एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया है। शोध में बताया गया है कि अगर शरीर में प्रोटीन की कमी होती है, तो बाल पतले होने के साथ झड़ने लगते हैं (1)।

वहीं, एक अन्य शोध के अनुसार बालों के झड़ने के कारण में पोषक तत्वों की कमी भी हो सकती है। ऐसे में विटामिन और मिनरल की सही खुराक बालों के झड़ने की समस्या को कम कर सकती है। साथ ही यह जानना भी जरूरी है कि कौन से विटामिन और खनिज का सेवन बालों को झड़ने से रोकने में मदद कर सकता है। कई बार गलत पोषक तत्व का ज्यादा सेवन करने से बाल झड़ने की समस्या बढ़ जाती है (2) बालों को बढ़ाने के लिए कौन-से पोषक तत्व जरूरी हैं, इसके बारे में हम लेख के अगले हिस्से में बताएंगे

  1. स्ट्रेस : बाल झड़ने के पीछे का एक कारण स्ट्रेस को भी माना जा सकता है। दरअसल, स्ट्रेस की वजह से बालों के विकास में बाधा आती है। चूहों पर किए गए एक शोध में भी स्ट्रेस की वजह से बालों की ग्रोथ में अवरोध और हेयर फॉलिकल्स पर हानिकारक प्रभाव देखे गए हैं (3)। शारीरिक या भावनात्मक तनाव के कारण स्कैल्प के करीब एक से तीन चौथाई बाल झड़ सकते हैं। इस तरह के बालों के झड़ने को टेलोजेन एफ्लुवियम (Telogen Effluvium) कहा जाता है (4)
  1. हॉर्मोनल असंतुलन : स्ट्रेस के साथ ही हॉर्मोन्स का संतुलन बिगड़ने से भी बाल झड़ने लगते हैं (4)। इसमें सबसे पहले रजोनिवृत्ति (Menopause) की वजह से हॉर्मोन्स में होने वाले बदलाव शामिल हैं (5)। इसके अलावा, प्रसव के बाद होने वाले हॉर्मोनल असंतुलन के कारण भी बाल झड़ सकते हैं (6)। रजोनिवृत्ति या प्रसव के कारण बालों का झड़ना अक्सर 6 महीने से 2 साल के बाद ठीक हो सकता है। इसके अलावा, पीसीओडी (pcod) की समस्या ले कारण भी बाल पतले हो सकते हैं।
  1. खून की कमी के कारण : शरीर में खून की कमी को एनीमिया कहा जाता है और इसका एक कारण आयरन की कमी भी हो सकती है (7)। रक्त की आपूर्ति बालों के बढ़ने में मददगार हो सकती है। वहीं, शरीर में आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया बालों के पतले होने और झड़ने का प्रमुख कारण हो सकता है (8) फिलहाल, इस विषय पर और शोध किया जा रहा है।
  1. थायराइड के कारण : बालों के पतले होने का एक कारण थायराइड की समस्या भी हो सकती है। थायरायड हॉर्मोन बालों के विकास और रखरखाव के लिए जरूरी है। अगर हाइपोथायरायडिज्म (थायरायड ग्रंथि हॉर्मोन का पर्याप्त उत्पादन नहीं कर पाती) या हाइपरथायरायडिज्म (थायरायड ग्रंथि अधिक हॉर्मोन का अधिक उत्पादन करती है) की स्थिति बनती है, तो बालों का झड़ना शुरू हो सकता है (9)
  1. मेडिकल कंडीशन के कारण : कुछ मेडिकल कंडीशन ऐसी भी होती हैं, जो बालों के पतला होने और झड़ने का कारण बन सकती हैं। उन्हीं में से एक है एलोपेशिया एरीटा भी है। यह ऑटोइम्यून बीमारी है। इस बीमारी के कारण प्रतिरक्षा प्रणाली, जो सामान्य रूप से आपके शरीर को बीमारी से बचाने में मदद करती है, बालों के फॉलिकल्स पर हमला करना शुरू कर देती है। हेयर फॉलिकल्स त्वचा का वो हिस्सा होते हैं, जिनसे बाल बढ़ते हैं (10)। इसके अलावा, हृदय की समस्या और कैंसर जैसी बीमारी होने पर भी बालों का पतला होना या झड़ना शुरू हो सकता है (11)
  1. प्रसव के कारण : प्रसव के बाद वाले समय को भी बाल झड़ने का एक कारण माना जा सकता है। एक अध्ययन में इस बात की पुष्टि हुई है कि कुछ महिलाओं को प्रसव के बाद बालों के झड़ने की शिकायत हो सकती है। फिलहाल, इस संबंध में और शोध किए जाने की जरूरत है (6)
  1. प्रदूषण : प्रदूषण की वजह से सिर्फ एलर्जी और अस्थमा जैसे रोग नहीं होते, बल्कि बालों के झड़ने की समस्या भी हो सकती है। प्रदूषण की वजह से स्कैल्प पर जगह-जगह लाल चकत्ते, खुजली, बालों का कमजोर होना, बालों के जड़ों में दर्द और डैंड्रफ की समस्या हो सकती हैं। आगे चलकर इसी समस्या की वजह से एलोपेसिया हो जाता है, यानी स्कैल्प से गोलाकार में बाल झड़ने लगते हैं (12)
  1. आनुवंशिक : अगर परिवार में पीढ़ी-दर-पीढ़ी गंजेपन की समस्या रही हो, तो परिवार के अन्य सदस्य को भी बाल झड़ने और गंजेपन जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है (13)
  1. केमिकल युक्त प्रोडक्ट : बालों को सीधा करने, रंगने और स्टाइलिश बनाने के लिए बाजार में कई प्रकार के प्रोडक्ट मिलते हैं, जिनमें मौजूद केमिकल बालों के झड़ने का कारण बन सकता है। शोध में पाया गया है कि बालों पर प्रोटीन युक्त लेयर होती है, जिसमें 18-मेथाइलिसोसेनिक एसिड (18-MEA) और फ्री लिपिड शामिल होते हैं। 18-MEA बालों में हाइड्रोफोबिसिटी यानी एक प्रकार की नमी को बनाए रखने में मदद करता है। सौंदर्य प्रसाधन में मौजूद केमिकल इस नमी के अवशाेषण को बढ़ा सकते हैं। इससे बाल कमजोर होकर टूटना शुरू हो सकते हैं (14)
  1. हेयर स्टाइलिंग टूल्स : बालों को स्टाइलिश करने वाले टूल्स भी बालों को कमजोर करने और झड़ने का कारण बन सकते हैं। इस विषय पर हुए रिसर्च से पता चला है कि केमिकल युक्त प्रोडक्ट और हीट स्टाइलिंग टूल का बार-बार उपयोग फॉलिकल्स के डैमेज का कारण हो सकता है। फॉलिकल्स के डैमेज होने से बाल स्थायी रूप से कमजोर हो सकते हैं और झड़ना शुरू हो सकते हैं (14)। इसके अलावा, वे प्रोटीन के सेवन से भी बाल झड़ सकते हैं या पतले हो सकते हैं।

पढ़ना जारी रखें

बालों के पतले होने के कारण जानने के बाद बालों को घना करने वाले घरेलू उपायों पर चर्चा करते हैं।

बालों को घना करने वाले घरेलू उपाय – How To Get Thick Hair Naturally In Hindi

ऐसे कई नुस्खे हैं, जिन्हें घर में इस्तेमाल करने से बालों को कुछ हद तक घना किया जा सकता है। ये घरेलू उपाय किस हद तक कारगर हैं, यह प्रत्येक व्यक्ति की समस्या पर निर्भर करता है।

1. मेथी के बीज

मेथी के बीज से बना तेल बालों को कई प्रकार की समस्याओं से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद हो सकता है, जिनमें से एक है बालों का कमजोर होना। इस विषय पर हुई रिसर्च के अनुसार, मेथी के बीज में प्रोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। प्रोटीन ऐसा पोषक तत्व है, जो बालों के पतले होने, झड़ने और गंजेपन की समस्या को कम करने में मदद कर सकता है। शोध में इस बात की भी पुष्टि हुई कि मेथी के बीज में पाया जाने वाला लेसिथिन नामक कंपाउंड बालों को मॉइस्चराइज करने के साथ ही मजबूती प्रदान कर सकता है। साथ ही डैंड्रफ की समस्या को भी कुछ हद तक कम कर सकता है (15)

कैसे करें उपयोग : 

  • मेथी के तेल की कुछ बूंदों को नारियल तेल में मिलाकर बालों पर मसाज करने के लिए उपयोग में लिया जा सकता है।
  • ध्यान रहे इसकी मात्रा का उपयोग बालों की लंबाई के हिसाब से करना चाहिए। इसका उपयोग सोने के पहले बालों में मसाज करने के लिए किया जा सकता है।
  • मेथी के तेल का उपयोग नहाते समय शैंपू में मिलाकर भी कर सकते हैं।

2. अंडा

ऐसा माना जाता कि अंडे का उपयोग भी बालों को मजबूती प्रदान कर बालों के पतला होने और झड़ने की समस्या से छुटकारा दिलाने में मददगार हो सकता है। इस विषय पर हुए अध्ययन से इस बात की पुष्टि हुई है कि अंडे की जर्दी में पाया जाने वाला घुलनशील पेप्टाइड्स कंपाउंड बालों के विकास को बढ़ाने में मददगार हो सकता है। इसके अलावा, यह बालों को झड़ने से रोकने में भी मददगार हो सकता है और गंजेपन की समस्या से छुटकारा दिला सकता है (16)

कैसे उपयोग करें :

  • अंडे का उपयोग ऑलिव ऑयल के साथ फेंट कर नहाने के पहले हेयर मास्क के रूप में किया जा सकता है।
  • अंडे की जर्दी और जैतून के तेल काे मिलाकर भी इसका उपयोग बालों पर किया जा सकता है।
  • एलोवेरा के साथ भी अंडे का उपयोग बालों की समस्या में फायदेमंद हो सकता है।

3. आंवला

बालों की ग्रोथ बढ़ाने और झड़ने से रोकने के लिए आंवला को आयुर्वेद में बेहतरीन हेयर टॉनिक के रूप में स्थान दिया गया है। शोध में पाया गया है कि आंवले का तेल और इससे बनने वाले शैंपू का उपयोग न सिर्फ बालों के विकास को बढ़ा सकता है, बल्कि उन्हें मजबूती भी प्रदान कर सकता है (17)

कैसे उपयोग करें:

  • आंवले के पाउडर का उपयोग नारियल या जैतून के तेल के साथ बालों पर हेयर मास्क के रूप में किया जा सकता है।
  • आंवला और शिकाकाई को पानी में मिलाकर बने पेस्ट को बालों पर लगाया जा सकता है। बालों पर लगा पेस्ट सूखने के बाद बालों को शैंपू से धो लें।
  • आंवला पाउडर का उपयोग अंडे के साथ भी बालों पर मास्क के रूप में कर सकते हैं।
  • इतना ही नहीं मेहंदी के साथ भी आंवला पाउडर का उपयोग बालों की समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए कर सकते हैं।

4. गुड़हल का फूल और नारियल तेल

बालों को घना करने के लिए गुड़हल का फूल और नारियल तेल का उपयोग भी फायदेमंद हो सकता है। गुड़हल के फूल में मौजूद विटामिन-सी बालों के फॉलिकल्स को मजबूत करने में मदद कर सकता है। इससे बाल घने और मजबूत होते हैं (18)। वहीं, नारियल का तेल बालों की परत यानी हेयर शेफ्ट के अंदर तक जाकर उसे पोषण दे सकता है (14)।

कैसे उपयोग करें: 

  • गुड़हल के फूल की कुछ बूंदें और नारियल तेल को मिलाकर इसका उपयोग बालों की मसाज करने के लिए किया जा सकता है।
  • इसके अलावा, नहाने के पहले भी दोनों तेल को मिलाकर हेयर मास्क के रूप में उपयोग कर सकते हैं।
  • नारियल तेल के साथ गुड़हल के फूल का तेल का उपयोग रात को सोने के पहले भी बालों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है।

5. प्याज

प्याज का उपयोग खाने में तड़का लगाने के साथ ही बालों की मजबूती और उन्हें घना बनाने के लिए भी किया जा सकता है। इस विषय का मनुष्यों पर हुए शोध से पता चला है कि प्याज कर सीधे तौर पर उपयोग करने से नए बालों के विकास में लाभकारी साबित हो सकता है और बालों को घना करने में असरदार हो सकता है (19)। हालांकि, शोध में यह स्पष्ट नहीं किया गया कि बालों को घना करने और उनकी ग्रोथ बढ़ाने में प्याज का कौन-सा गुण फायदेमंद होता है।

कैसे उपयोग करें: 

  • प्याज के रस की कुछ बूंदें सीधे बालों पर लगाने से फायदा मिल सकता है।
  • इसके अलावा, प्याज के रस और नारियल तेल का उपयोग हेयर मास्क के रूप में कर सकते हैं।
  • प्याज के साथ ही नींबू के रस को भी नहाने के 1 घंटे पहले बालों पर लगाया जा सकता है।

6. अरंडी का तेल

अरंडी का तेल भी बालों को घना और मजबूत करने में लाभदायक हो सकता है। रिसर्च में पाया गया है कि अरंडी के तेल में रिसिनोलिक एसिड और मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है, जो बालों पर हुमेक्टैंट (नमी को बनाए रखने) और मॉइस्चराइजर के रूप में कार्य कर सकता है। यह बालों को झड़ने से रोकने के साथ ही उन्हें घना करने में भी लाभदायक हो सकता है (20)। हालांकि, अगर किसी को ऑयली स्कैल्प या डैंड्रफ की समस्या है, तो वो अरंडी के तेल का उपयोग न करें।

कैसे उपयोग करें : 

  • नहाने से पहले अरंडी के तेल की कुछ बूंदें लेकर बालों की मसाज की जा सकती है।
  • इसका उपयोग बादाम के तेल साथ हेयर मास्क के रूप में कर सकते हैं।
  • नारियल तेल के साथ भी इसे बालों पर उपयोग किया जा सकता है।

पढ़ना जारी रखें

चलिए, अब बालों को झड़ने से रोकने और बालों को घना करने के टिप्स पर एक नजर डाल लेते हैं।

पतले बालों को घना और खूबसूरत बनाने के लिए कुछ टिप्स – Thick Hair Tips In Hindi

पतले बालों को घना और खूबसूरत बनाने के लिए घरेलू उपयोग के अलावा भी कुछ आसान से टिप्स को फॉलो किया जा सकता है। यहां हम बालों की समस्या से छुटकारा दिलाने और उन्हें घना करने के कुछ उपयोगी टिप्स बता रहे हैं।

1. स्कैल्प की मसाज

स्कैल्प की मसाज करने से बालों की ग्रोथ को बढ़ाया जा सकता है। मसाज के लिए नारियल या विशेषज्ञ की सलाह पर किसी भी केमिकल रहित तेल को उपयोग में लाया जा सकता है। तेल लगाने के दो-तीन घंटे बाद या रात-भर तेल को बालों में छोड़कर माइल्ड शैम्पू कर लें। दरअसल, स्कैल्प की मालिश करने से इसके अंदर के सबक्यूटेनियस (Subcutaneous) टिश्यू को मिलने वाले स्ट्रेचिंग फोर्स से डर्मल पैपिला कोशिकाओं (हेयर फॉलिकल्स के नीचे मौजूद सेल) में बदलाव होता है। साथ ही इससे स्ट्रेस भी कम होता है, जिससे बाल मोटे होते हैं (21)।

2. केमिकल-फ्री हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें

बाजार में कई ऐसे उत्पाद हैं, जो घने बालों का वादा करते हैं। ये पदार्थ कितने प्रभावी होते हैं, यह तो नहीं कहा जा सकता, लेकिन इनमें मौजूद हानिकारक रसायन बालों को रूखा बनाने के साथ ही इनके झड़ने की वजह जरूर बन जाते हैं। इसके अलावा, केमिकल ट्रीटमेंट भी बालों को नुकसान पहुंचाते हैं (14)। ऐसे में इनकी जगह प्राकृतिक तत्वों से भरपूर जैसे कि पेपरमिंट ऑयल, एलोवेरा या जैतून युक्त प्रोडक्ट और नैचुरल ट्रीटमेंट का इस्तेमाल किया जा सकता (22) (23)।

3. बालों को सही तरीके से धोएं

बालों को सही से धोने का तरीका भी बालों को बढ़ाने और घने बनाने में मदद कर सकता है। जी हां, शायद ही किसी ने सोचा होगा कि बालों को सही तरीके से साफ रखने से स्कैल्प को स्वस्थ रखने के साथ ही बालों को मजबूत और उनकी ग्रोथ में सुधार किया जा सकता है। इसके अलावा, बालों की सफाई डैंड्रफ, सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस, सोराइसिस और एटोपिक डर्माटाइटिस जैसी समस्या से भी छुटकारा दिलाने में मददगार हो सकती हैं (24)।

बस बालों को धोते या साफ करते समय दो नियमों को याद रखना चाहिए। सबसे पहला- बालों को रोजाना शैम्पू न करें। इससे बाल प्राकृतिक तेल का उत्पादन नहीं कर पाते, जो हमारे बालों को पोषण देते हैं। दूसरा, बालों को गर्म पानी से धोने से बचें। गर्म पानी बालों को रूखा, बेजान और नाजुक बनाते हैं।

4. बालों को प्राकृतिक रूप से सुखाएं

प्राकृतिक रूप से बालों को सुखाना हमेशा ही अच्छा माना जाता है। हेयर वॉश के बाद गीले बालों को तौलिये से लपेट कर पानी को सुखाएं। फिर कुछ देर बाद इन्हें खुला छोड़ दें। बार-बार शैम्पू करने और हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करके सुखाने से बालों की सतह को नुकसान पहुंचता है। यह कमजोर और रूखे हो सकते हैं। इसलिए, बालों को प्राकृतिक रूप से ही सुखाना चाहिए। प्राकृतिक रूप से बालों को सुखाने पर इन्हें हानि नहीं पहुंंचती। इससे बाल न तो टूटते हैं और न ही रूखे होते हैं (25)।

5. बालों को हाइड्रेट रखें

बालों को स्वस्थ और टूटने से बचाने के लिए इन्हें डीप कंडीशन करना जरूरी है। बालों को धोने के बाद हमेशा कंडीशनर करना याद रखें। इससे बाल ज्यादा उलझते नहीं हैं और मुलायम बने रहते हैं। बालों को सूखा और घुंघराले होने से बचाने के लिए हेयर क्रीम, सीरम या तेल लगा सकते हैं (26)।

6. कंघी सही से करें

घने बाल पाने के लिए याद रखें कि प्लास्टिक और मेटल हेयर ब्रश का इस्तेमाल न करें। साथ ही गिले बालों को कभी भी कंघी न करें। चौड़े दांतों वाली कंघी का इस्तेमाल कर धीरे-धीरे बालों को कंघी करें। बालों को ज्यादा कंघी करने और सुलझाते समय बालों को खींचने से भी बचें। ज्यादा कंघी करने से बाल दो-मुंहें हो सकते हैं। दिनभर में सिर्फ दो बार ही कंघी करें। इसके अलावा, बालों को हल्के से कंघी करें, क्योंकि जोर लगाकर कंघी करने से बाल टूटने लगते हैं (14)। इसलिए, बालों को झड़ने से बचाने और घने बाल पाने के लिए कंघी करते समय खास ध्यान देने की जरूरत है।

7. हीट स्टाइलिंग टूल्स का उपयोग कम करें

हीट स्टाइलिंग टूल्स के लगातार उपयोग से बाल शुष्क, कमजोर और क्षतिग्रस्त हो जाते हैं। इसलिए, ब्लो ड्रायर, स्ट्रेटनर और कर्लिंग आयरन जैसे हीट स्टाइलिंग टूल्स के उपयोग से या तो बचें या कम से कम इस्तेमाल करें (25)। इनकी जगह प्राकृतिक स्टाइलिंग तरीकों का भी इस्तेमाल किया जा सकता है, जैसे कि बालों के लिए रबड़ के बने उत्पाद, जूड़ा (बन्स) बनाना व चोटी बनाना।

8. नियमित अंतराल पर बालों को ट्रिम करें

समय-समय पर बालों को ट्रिम करते रहें। इससे दो-मुंहें बाल कम होते हैं और बालों की ग्रोथ भी बढ़ती है। ट्रिमिंग से बालों के खराब हिस्से कट जाते हैं और बाल अच्छे दिखते हैं।

9. तनाव से दूर रहें

ऊपर लेख में हम बता चुके हैं कि स्ट्रेस की वजह से बाल झड़ते हैं (3)। ऐसे में स्ट्रेस को नियंत्रित करके भी बालों को झड़ने से रोका जा सकता है। इसलिए, बालों को घना करने के टिप्स में तनाव कम करना भी हमेशा शामिल होता है। मानसिक शांति से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ नहीं होता है, इसलिए किसी भी बात को लेकर तनाव न लें। स्ट्रेस से बचने के लिए ध्यान, योग और व्यायाम कर सकते हैं। साथ ही सकारात्मक लोगों से बातचीत भी कुछ हद तक मदद कर सकती है।

10. खाने पर ध्यान दें

जैसा कि हम पहले भी बता चुके हैं कि पोषक तत्वों की कमी की वजह से भी बाल झड़ने की समस्या पैदा हो सकती है। इसलिए, घने बालों के लिए नियमित रूप से संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए। प्रोटीन, विटामिन (बी और सी), जिंक, कैल्शियम, आयरन, बायोटिन और मैग्नीशियम बालों के लिए जरूरी होते हैं। ये बालों की ग्रोथ बढ़ाने के साथ ही इनकी क्वालिटी को बनाए रखने में मदद करते हैं (5) (2)।

बालों को झड़ने से रोकने और उन ग्रोथ को बढ़ाने के लिए ऊपर दिए नुस्खे प्रभावी रूप से काम कर सकते हैं। यहां हमने बालों के कमजोर होकर झड़ने से लेकर उनकी ग्रोथ से जुड़ी तमाम जानकारी दी है। बालों को घना करने के घरेलू उपाय को अपना कर कमजोर बालों को मजबूत किया जा सकता है। हां, अगर बाल झड़ने की समस्या काफी गंभीर है यानी एलोपेसिया जैसी समस्या है, तो एक बार डॉक्टर से संपर्क कर लेना सही रहेगा। सौंदर्य व बालों को स्वस्थ रखने से संबंधित और जानकारी के लिए आप हमारे अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या घने बालों के लिए बाजार से खरीदे गए उत्पादों की तुलना में प्राकृतिक तत्व बेहतर विकल्प हैं?

हां, बाजार से खरीदे गए उत्पादों में केमिकल हो सकते हैं, जो बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं, इसलिए प्राकृतिक वस्तुओं का उपयोग बेहतर विकल्प हो सकता है।

एक महीने में बालों को घना कैसे बनाएं?

ऊपर दिए गए बालों को घना करने के उपाय और टिप्स को फॉलो करने आकर्षक और घने बाल प्राप्त किए जा सकते हैं, लेकिन, ध्यान रहे कि किसी भी उपचार को पूरी तरह असर करने में कम से कम 6 महीने लग सकते हैं।

मुझे रात भर में घने बाल कैसे मिल सकते हैं?

रात भर में घने बाल प्राप्त नहीं किए जा सकते हैं। हां, अगर आप ऊपर दिए गए घरेलू उपचार और टिप्स का पालन करते हैं, तो कुछ ही समय में घने बाल प्राप्त किए जा सकते हैं।

मेरे बाल इतने पतले क्यों हैं?

बालों के पतले होने के कई कारण हो सकते हैं। इनके बारे में हम ऊपर बता चुके हैं, जिनमें प्रदूषण, पोषक तत्वों की कमी, खून की कमी का होना शामिल है।

घने बालों के लिए मुझे क्या खाना चाहिए?

घने बालों के लिए पोषक तत्वों से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए (2)। अगर फिर भी समस्या दूर नहीं होती है, तो डॉक्टर से संपर्क करना ही बेहतर होगा।

मैं 5 मिनट में अपने बाल कैसे बड़े कर सकता हूं?

5 मिनट बालों को बड़ा नहीं किया जा सकता है। प्रतिदिन बालों की सही देखभाल करने से कुछ ही महीनों में घने बाल प्राप्त किए जा सकते हैं।

बालों को 10 दिन में घना कैसे करें?

जरूरी नहीं कि बाल 10 दिन में घने हो जाएं। यह काफी हद तक बालों की देखभाल और उनकी क्वालिटी पर निर्भर करता है। आप ऊपर बताए गए बालों को घना करने के तरीके आजमाकर बालों को जल्दी घना कर सकते हैं।

References

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Diet and hair loss: effects of nutrient deficiency and supplement use
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5315033/#:~:text=Protein%20malnutrition%2C%20such%20as%20in,in%20iron%20and%20zinc%20uptake.
  2. The Role of Vitamins and Minerals in Hair Loss: A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6380979/
  3. Burden of Hair Loss: Stress and the Underestimated Psychosocial Impact of Telogen Effluvium and Androgenetic Alopecia
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S0022202X15309635
  4. Hair loss
    https://medlineplus.gov/ency/article/003246.htm
  5. Nutrition of women with hair loss problem during the period of menopause
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4828511/
  6. The Postpartum Telogen Effluvium Fallacy
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4908443/
  7. Anemia
    https://medlineplus.gov/ency/article/000560.htm#:~:text=Anemia%20is%20a%20condition%20in,to%20folate%20(folic%20acid)%20deficiency
  8. Iron Plays a Certain Role in Patterned Hair Loss
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3678013/
  9. A Descriptive Study of Alopecia Patterns and their Relation to Thyroid Dysfunction
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3746235/
  10. Alopecia areata
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5573125/#:~:text=Alopecia%20areata%20is%20an%20autoimmune,affect%20all%20hair%20bearing%20sites.
  11. Hair Loss: A Harbinger of the Morbidities to Come!
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3681116/
  12. Understanding Hair Loss due to Air Pollution and the Approach to Management
    https://www.longdom.org/open-access/understanding-hair-loss-due-to-air-pollution-and-the-approach-to-management-2167-0951-1000133.pdf
  13. Genetic prediction of male pattern baldness
    https://storage.googleapis.com/plos-corpus-prod/10.1371/journal.pgen.1006594/1/pgen.1006594.pdf?X-Goog-Algorithm=GOOG4-RSA-SHA256&X-Goog-Credential=wombat-sa%40plos-prod.iam.gserviceaccount.com%2F20201223%2Fauto%2Fstorage%2Fgoog4_request&X-Goog-Date=20201223T081855Z&X-Goog-Expires=3600&X-Goog-SignedHeaders=host&X-Goog-Signature=80f97382dfb6f1f2d378a1c9e2dac02dd809db7ca3043a78a2489e0487f8ac9f798789656f626895c8f2bb93dae388b88d45ae047efb6ffc462d9d0316225f026b5fab11e8da4fe3401087eea5c8e0d4c7f3021e5a640ba12efa298c3ae3f0655f32327c9598905a47bad218c6c092045f67ccc368beab67531d2d01afb741962ba71b1bb04a19ee8e2e0b9612fbd78efe34e2d46cb2cf057aa266d61eea452ba18ceac9cf921d38289b8de6f341565ecf16456a6edfb1bb0c872a254d9df0790361de29899030dcf719c006d078055486b6bb8ba9c880a1bd161fab2d122a22ff64f75298f53b222e0b1282f95360717b6f714327499fb700c74f40fa3020fb
  14. Hair Cosmetics: An Overview
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4387693/
  15. Fenugreek (Trigonella foenum-graecum L.) As a Valuable Medicinal Plant
    http://www.ijabbr.com/article_7851_bbd8fa7701b237d7746306a9df24e736.pdf
  16. Naturally Occurring Hair Growth Peptide: Water-Soluble Chicken Egg Yolk Peptides Stimulate Hair Growth Through Induction of Vascular Endothelial Growth Factor Production
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29583066/
  17. Preclinical and Clinical Studies Demonstrate That the Proprietary Herbal Extract DA-5512 Effectively Stimulates Hair Growth and Promotes Hair Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5429933/
  18. Hair Growth Promoting Potential of Phospholipids Purified from Porcine Lung Tissues
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4354319/
  19. Onion juice (Allium cepa L.), a new topical treatment for alopecia areata
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12126069/
  20. “Castor Oil” – The Culprit of Acute Hair Felting
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5596646/#:~:text=Castor%20oil%20is%20extracted%20from,thick%20and%20sticky%20in%20consistency.&text=Only%20applying%20hair%20oils%20or,not%20help%20in%20hair%20growth.
  21. Standardized Scalp Massage Results in Increased Hair Thickness by Inducing Stretching Forces to Dermal Papilla Cells in the Subcutaneous Tissue
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4740347/
  22. Peppermint Oil Promotes Hair Growth without Toxic Signs
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4289931/
  23. Ethnopharmacological survey of home remedies used for treatment of hair and scalp and their methods of preparation in the West Bank-Palestine
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5499037/
  24. Scalp Condition Impacts Hair Growth and Retention via Oxidative Stress
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6369642/
  25. Hair Shaft Damage from Heat and Drying Time of Hair Dryer
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3229938/
  26. Shampoo and Conditioners: What a Dermatologist Should Know?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4458934/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख