सामग्री और उपयोग

गुलाब की पंखुड़ियों के फायदे और नुकसान – Rose Petals (Gulab) Benefits and Side Effects in Hindi

by
गुलाब की पंखुड़ियों के फायदे और नुकसान – Rose Petals (Gulab) Benefits and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 November 19, 2019

घर के बगीचे में लगा गुलाब का फूल न सिर्फ घर की खूबसूरती को बढ़ाता है, बल्कि इससे आती खुशबू मन को तरोताजा कर देती है। गुलाब के फूल का धार्मिक महत्व भी माना गया है। वहीं, कुछ लोग गुलाब की पंखुड़ियों को खाने में इस्तेमाल करते हैं। दरअसल, गुलाब की पंखुड़ियां हमारे स्वास्थ्य के लिए प्रभावी रूप से कारगर साबित हो सकती हैं। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको गुलाब की पंखुड़ियां खाने के फायदे और गुलाब की पंखुड़ियां का प्रयोग करने के बारे में बताएंगे। इसके अलावा, गुलाब की पंखुड़ियां के नुकसान के बारे में भी बताया जाएगा।

आइए, गुलाब की पंखुड़ियों से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

गुलाब की पंखुड़ियों के फायदे – Benefits of Rose Petals in Hindi

हम यहां गुलाब की पंखुड़ियों के कई फायदे बता रहे हैं, जो हमारी रोजमर्रा की समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकते हैं। आइए, इन फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

1. मानसिक उत्साह बढ़ाने के लिए

गुलाब की पंखुड़ियां खाने के फायदे में मानसिक उत्साह को बढ़ाना शामिल है। दरअसल, गुलाब की सुंदरता और खुशबू से मानसिक उत्साह को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। एक मेडिकल रिसर्च के अनुसार, अगर आप ऑफिस में अपने आसपास गुलाब के फूल को रखते हैं, तो उसे देखने से तनाव की स्थिति कम हो सकती है। साथ ही आपका मन प्रसन्न रहता है (1)

2. संक्रमण से बचाव

संक्रमण से बचे रहने के लिए भी गुलाब की पंखुड़ियों के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, गुलाब की पंखुड़ियों में विटामिन-सी की मात्रा पाई जाती है (2)। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, विटामिन-सी न केवल संक्रमण से बचाने का काम करता है, बल्कि यह इसको खत्म करने और इसे फैलने से रोकने का भी काम करता है (3)

3. अवसाद से बचने के लिए

डिप्रेशन एक गंभीर मानसिक बीमारी है। इस स्थिति में व्यक्ति की सोचने-समझने की क्षमता प्रभावित होती है (4)। अवसाद की स्थिति से बाहर निकलने के लिए भी गुलाब की पंखुडियां प्रभावी रूप से कार्य कर सकती हैं। दरअसल, गुलाब की पंखुड़ियों में एंटी डिप्रेसेंट गुण पाए जाते हैं, जिस कारण अवसाद की समस्या को खत्म करने में मदद मिल सकती है (5)

4. कब्ज

गुलाब की पंखुड़ियां को खाने से कब्ज की समस्या से भी राहत मिल सकती है। इसका कारण यह है कि गुलाब की पंखुड़ियों में फाइबर की मात्रा पाई जाती है (2)। वैज्ञानिकों का दावा है कि फाइबर स्रोत वाले पदार्थो को खाने में इस्तेमाल करने से कब्ज की समस्या से बचा जा सकता है (6)

5. यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से बचाव

अगर आप यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन की समस्या से जूझ रही हैं, तो गुलाब का फूल आपके लिए लाभदायक साबित हो सकता है। गुलाब की पंखुड़ियां एंटी-बैक्टीरियल गतिविधि पाई जाती है (5)। एक मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार, एंटी-बैक्टीरियल के प्रभाव से एंटरोकोकस फेसेलिस (Enterococcus faecalis) को निष्क्रिय किया जा सकता है। इससे यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के खतरे को रोका जा सकता है (7)। आपको बता दें कि एंटरोकोकस फेसेलिस एक प्रकार का सुक्ष्म जीव है, जो मूत्र मार्ग में संक्रमण का कारण बनता है।

6. मासिक धर्म में राहत

माहवारी में किसी भी प्रकार की अनियमितता होने या संभावित तारीख के आसपास माहवारी न आने की स्थिति में गुलाब की पंखुड़ियों का सेवन इस समस्या को हल कर सकता है। दरअसल, गुलाब में मेंस्ट्रुल रेगुलेटर (Menstrual regulator) यानी मासिक धर्म की प्रक्रिया को सामान्य करने का गुण पाया जाता है । यह माहवारी के दौरान होने वाले दर्द की समस्या और खून के अनियमित स्राव के उपचार में मदद कर सकता है (5)

7. नींद न आने की स्थिति

अगर आप पूरी रात करवट बदल-बदल कर काट रहे हैं और आंखों में नींद नहीं है, तो इसका मतलब यह है कि आप इनसोमनिया यानी अनिद्रा की समस्या से जूझ रहे हैं (8)। वहीं, गुलाब की पंखुड़ियों में अनिद्रा की समस्या को दूर करने का गुण पाया जाता है। इसके सेवन से आप एक अच्छी नींद ले सकते हैं (5)

8. मुंहासों से छुटकारा

अगर आपके चेहरे पर मुंहासों की समस्या बनी हुई है, तो गुलाब की पंखुडियों से आपको राहत मिल सकती है। ऐसा इसलिए संभव हो सकता है, क्योंकि गुलाब के फूल में विटामिन-सी की मात्रा पाई जाती है (2)। विटामिन-सी में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। विटामिन-सी से युक्त पदार्थों का सेवन करने से मुंहासों की समस्या को ठीक करने के साथ-साथ चेहरे पर मौजूद लाल निशानों को भी ठीक करने में मदद मिल सकती है (9)

9. आंखों के नीचे मौजूद काले घेरों के लिए

आंखों के नीचे मौजूद काले घेरे को विज्ञान की भाषा में पेरिओरिबिटल हाइपरपिगमेंटेशन (Periorbital hyperpigmentation) के नाम से जाना जाता है। इस समस्या से परेशान लोगों के लिए गुलाब की पंखुड़ियों का प्रयोग लाभदायक साबित हो सकता है। दरअसल, इसमें मौजूद विटामिन-सी एंटीऑक्सीडेंट की तरह कार्य करता है, जिसका इस्तेमाल करने से आंखों के नीचे मौजूद काले घेरों को ठीक करने में मदद मिल सकती है (10)

10. मॉइस्चराइजर (Moisturises) के रूप में

गुलाब की पंखुड़ियां मॉइस्चराइजर के रूप में भी आपकी त्वचा के लिए लाभदायक हो सकती हैं। दरअसल, गुलाब की पंखुड़ियों में विटामिन-सी पाया जाता है। विटामिन-सी में ऐसा विशेष गुण पाया जाता है, जो त्वचा को मॉइस्चराइज करने में मदद कर सकता है। हालांकि, आंखों के पास इसका इस्तेमाल करते समय सावधानी बरतने की जरूरत होती है। आप इसकी पत्तियों के पेस्ट को त्वचा पर मॉइस्चराइजर के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं (9)

11. मृत त्वचा को हटाने के लिए

मृत त्वचा को हटाने के लिए गुलाब की पंखुड़ियों का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए गुलाब के फूलों में मौजूद विटामिन-ए प्रभावी रूप से कार्य करता है (2)। विशेषज्ञों के द्वारा किए गए एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, विटामिन-ए एक्सफोलिएट (मृत त्वचा को हटाने का गुण) की तरह काम करता है। इस प्रकार आप त्वचा में निखार लाने के लिए गुलाब की पंखुड़ियां को इस्तेमाल कर सकते हैं (12)

आइए, अब लेख के अगले भाग में जानते हैं कि गुलाब की पंखुड़ियों में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।

गुलाब की पंखुड़ियों के पौष्टिक तत्व –  Rose Petals Nutritional Value in Hindi

गुलाब की पंखुड़ियों में विभिन्न पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिन्हें हम यहां टेबल के जरिए समझा रहे हैं (2) : 

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
कैलोरी167kcal
कार्बोहाइड्रेट46.7g
फाइबर, कुल डाइटरी3.3g
शुगर, कुल40g
मिनरल
कैल्शियम33mg
आयरन0.6mg
सोडियम297mg
विटामिन
विटामिन सी2mg
विटामिन ए, आईयू167IU

लेख के इस भाग में आपको गुलाब की पंखुड़ियों के उपयोग के बारे में बताया जा रहा है। 

गुलाब की पंखुड़ियों का उपयोग – How to Use Rose Petals in Hindi

How to Use Rose Petals in Hindi Pinit

Shutterstock

गुलाब के पंखुड़ियों का उपयोग कुछ इस प्रकार किया जा सकता है :

  • गुलाब की पंखुड़ियों को सीधे खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • गुलाब की पंखुड़ियों का गुलकंद बनाकर खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • गुलाब की पंखुड़ियों को पानी में भिगोकर कमरे को खुशबूदार बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • शहद और गुलाब की पत्तियों के मिश्रण को खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • गुलाब जल के साथ गुलाब के फूल, लौंग और चीनी को पीस लें, फिर खाने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

कब खाएं: सुबह और रात में गुलाब की पंखुडियों को खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है। 

कितना खाएं: एक बार में गुलाब की 10 ग्राम पंखुड़ियों का इस्तेमाल खाने में किया जा सकता है। 

लेख में आगे हम गुलाब की पंखुड़ियों के कुछ नुकसान बता रहे हैं।

गुलाब की पंखुड़ियों के नुकसान – Side Effects of  Rose Petals in Hindi 

गुलाब की पंखुड़ियों के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं :

  • अगर गुलाब की पंखुडियों को कीटनाशक के तौर पर तैयार किया गया है, तो इसका सेवन आपका स्वास्थ्य खराब कर सकता है।
  • गुलाब की पंखुड़ियों में सोडियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जिसका अधिक सेवन करने से आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है(2), (13)
  • गुलाब की पंखुड़ियों में विटामिन-ए की मात्रा पाई जाती है। इसका अधिक सेवन करने से सिरदर्द, मतली, कोमा और कभी-कभी मौत का कारण भी बन सकता है(2), (14)
  • गुलाब की पंखुडियां शुगर की पर्याप्त मात्रा का स्रोत मानी जाती हैं। इसलिए, इनका अधिक सेवन हृदय रोगों का कारण बन सकता है(2), (15)

गुलाब के फूलों का उपयोग अभी तक आपने सामान्य रूप से किया होगा, लेकिन इस लेख को पढ़ने के बाद आप इसका बेहतर उपयोग कर सकते हैं। इससे न केवल आपका स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा, बल्कि आपकी दिनचर्या की भी अच्छी शुरुआत होगी। हालांकि, गुलाब की पंखुड़ियां हमें आसानी से मिल जाती हैं, लेकिन इसकी ताजगी पर खास ध्यान देने की जरूरत है। अगर आप गुलाब के फूलों के सेवन और इसके इस्तेमाल से जुड़ा हुआ कोई सवाल पूछना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए कॉमेंट बॉक्स के जरिए हमें संपर्क कर सकते हैं। हमें तथ्य सहित आपके सवालों का जवाब देने में खुशी होगी।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Somendra Singh

सोमेंद्र ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से 2019 में बी.वोक इन मीडिया स्टडीज की है। पढ़ाई के दौरान ही इन्होंने पढ़ाई से अतिरिक्त समय बचाकर काम करना शुरू कर दिया था। इस दौरान सोमेंद्र ने 5 वेबसाइट पर समाचार लेखन से लेकर इन्हें पब्लिश करने का काम भी किया। यह मुख्य रूप से राजनीति, मनोरंजन और लाइफस्टइल पर लिखना पसंद करते हैं। सोमेंद्र को फोटोग्राफी का भी शौक है और इन्होंने इस क्षेत्र में कई पुरस्कार भी जीते हैं। सोमेंद्र को वीडियो एडिटिंग की भी अच्छी जानकारी है। इन्हें एक्शन और डिटेक्टिव टाइप की फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

संबंधित आलेख