गुलाबी होंठ पाने के प्राकृतिक तरीके – How To Get Soft Pink Lips Naturally in Hindi

Medically reviewed by Suvina Attavar (Dermatologist & Hair transplant surgeon)
Written by

होंठ चेहरे का मुख्य आकर्षण माने जाते हैं। वहीं होंठ अगर गुलाबी हों तो चेहरे की खूबसूरती कई गुना बढ़ जाती है। यही वजह है कि हर कोई गुलाबी होंठ पाने की चाह रखता है। मगर, लाख कोशिशों के बावजूद कई लोगों की यह ख्वाहिश पूरी नहीं हो पाती है। क्या आपके साथ भी ऐसा होता है? क्या आपके होंठ भी रूखे और फटे नजर आते हैं? अगर ऐसा है, तो यकीन मानिए यह आर्टिकल आपके लिए ही है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम होठ को गुलाबी कैसे बनाये, इस सवाल का जवाब देने के साथ ही गुलाबी होंठ पाने के आसान घरेलू उपाय भी बताएंगे। ताकि लिप्स को पिंक कैसे करें, इस बात को बेहतर तरीके से समझा जा सके।

पढ़ते रहे लेख

तो आइए सबसे पहले हम होंठों के रूखे होने और फटने का कारण क्या है, यह जान लेते हैं।

रूखे और फटे होंठों के कारण – Cause of Dry and Chapped Lips in Hindi

होंठ की त्वचा काफी संवेदनशील और पतली होती हैं। इसलिए, होंठों को खास देखभाल की जरूरत होती है। होंठों को मॉइस्चराइज रख उन्हें नर्म और स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिल सकती है (1)। हालांकि, होंठों के रंग बदलने और फटने के कई कारण हैं, जिनके बारे में हम यहां बता रहे हैं।

  • गलत जीवनशैली का होना जैसे – धूम्रपान करना, सही आहार न लेना और तनाव लेना (2) (3) (4)
  • डिहाइड्रेशन यानी ठीक से पानी न पीना या पानी की कमी के कारण (5)
  • कैफीन का अधिक सेवन (6)
  • गलत ब्यूटी प्रोडक्ट यानी खराब या एक्सपायर्ड लिप प्रोडक्ट के इस्तेमाल से (7)
  • सस्ते ब्यूटी या लिप प्रोडक्ट के कारण (8)
  • रात को मेकअप न हटाने की वजह से
  • धूप की हानिकारक किरणों और धूल-मिट्टी के कारण (9)
  • खून की कमी के कारण (10)
  • विटामिन बी 12 की कमी के कारण (10)
  • चेलाइटिस (cheilitis- होंठों में सूजन या शुष्क होने की समस्या) के कारण  (11)

पढ़ते रहे लेख

आगे हम लिप्स को गुलाबी कैसे बनाये, इसके कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं।

गुलाबी होंठ पाने के आसान घरेलू उपाय – Pink Lips Tips in Hindi

अब वक्त है गुलाबी होंठ पाने के आसान घरेलू उपाय जानने का। तो यहां हम कुछ ऐसे नुस्खे बताने जा रहे हैं, जिनमें इस्तेमाल की जाने वाली सामग्रियां आपको घर या बाजार में आसानी से मिल जाएंगी।

सावधानी : नीचे बताए जा रहे लिप्स पिंक करने के उपाय इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर कर लें, क्योंकि हो सकता है कि कुछ लोगों को इन घरेलू उपायों में इस्तेमाल होने वाली किसी सामग्री से एलर्जी की शिकायत हो। चलिए, अब जानते हैं लिप्स को पिंक कैसे करें।

1. लिप बाम और साफ कपड़े का कॉम्बो

सामग्री :

  • अच्छी क्वालिटी का लिप बाम
  • धुला हुआ नर्म कपड़ा

उपयोग करने का तरीका :

  • सबसे पहले आप अपने होंठों पर लिप बाम की एक मोटी परत लगाएं। इसे लगाने का सही वक्त है रात को सोने से पहले।
  • जब आप सुबह उठेंगे, तब तक लिप बाम आपके होंठ में अच्छी तरह से घुल चुका होगा।
  • अब एक साफ भीगा हुआ कपड़ा लें और उससे होंठों पर मालिश करें, ताकि आपके होंठों की मृत कोशिकाएं निकल जाएं।
  • फिर आप अपने होंठों पर लगे अत्यधिक लिप बाम को पोंछ लें, ताकि आपके होंठों पर ताजगी का अहसास हो।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

जैसे त्वचा को मॉइस्चराइजर की जरूरत होती है, वैसे ही होंठों को लिप बाम की जरूरत होती है। यह होंठों के लिए मॉइस्चराइजर का काम कर सकता है। सोने से पहले लिप बाम की मोटी परत लगाने से बहुत फायदे होते हैं। रात को सोने से पहले लिप बाम लगाने से सुबह होंठ नर्म और मुलायम दिखेंगे। हर रात सोने से पूर्व इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

लिप बाम में पेट्रोलियम जेली होता है, जो रूखे होंठों की समस्या को दूर करने में मदद कर सकता है (12)। वहीं लिप बाम फटे और सूजन युक्त होठों की समस्या को ठीक करने में भी मदद कर सकता है (11)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि लिप बाम फटे और रूखे होंठों को ठीक करने के कई प्रभावी तरीकों में से एक है। खासकर अगर रात को सोने से पहले लिप बाम लगाया जाए, तो इसके अच्छे परिणाम हासिल हो सकते हैं।

2. अनार के बीज का मास्क

सामग्री :

  • कुचले हुए अनार के बीज
  • ठंडी मलाई

उपयोग करने का तरीका :

  • एक अनार लें और उनके दानों को निकालकर उन्हें कुचल लें।
  • अब इन क्रश दानों को मलाई के साथ मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर अपने होंठों पर इस पेस्ट को लगाकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • थोड़ी देर बाद गुनगुने पानी से धो लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इस लिप मास्क को हफ्ते में दो से तीन बार लगा सकते हैं। यह होंठों की रंगत को निखारने में मदद कर सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

गुलाबी होंठ पाने के तरीके में अनार का जूस भी शुमार है। दरअसल, अनार में प्यूनीकैलेगंस नामक यौगिक होता है, जो मेलेनिन के उत्पादन को रोकता है और आपके होंठों को काला होने से बचा सकता है (13)। अब किसी के मन में यह सवाल आए कि ‘पिंक लिप्स कैसे करें’, तो अनार को एक बार जरूर याद कर लें। वहीं इस उपाय में शामिल की जाने वाली मलाई लिप्स को गहराई से हाइड्रेट कर मुलायम और चमकदार बना सकती है। इसमें मौजूद ब्लीचिंग गुण लिप्स की प्राकृतिक रंगत को निखारने के साथ ही लिप्स के कोने में बनने वाले जिद्दी स्पॉट्स से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं (14)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि यह फल न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, बल्कि त्वचा और होंठों के लिए भी उपयोगी हो सकता है। अनार और मलाई के मिश्रण का यह नुस्खा होंठों की खूबसूरती को बढ़ा सकता है।

3. नींबू और शहद का मास्क

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • आधा चम्मच नींबू का रस
  • एक शीशे की कटोरी

उपयोग करने का तरीका :

  • नींबू के रस और शहद को कटोरी में डालकर अच्छे से मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस लिप मास्क को अपने होंठों पर लगाकर 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर इसे गुनगुने पानी से धोकर लिप बाम लगा लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे हर दूसरे दिन लगा सकते हैं। वहीं बेहतर प्रभाव के लिए इसे नियमित इस्तेमाल में भी लाया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

नींबू और शहद के फायदों के बारे में लगभग हर कोई जानता है। अगर इनदोनों मिल जाएं, तो यह गुलाबी होंठ पाने के मामले में अधिक प्रभावी साबित हो सकता है। दरअसल, शहद त्वचा को मॉइस्चराइज करता है। साथ ही यह फटे होंठों के समस्या से भी राहत दिलाने में मदद कर सकता है। इसके अलावा नींबू के साथ शहद का इस्तेमाल त्वचा के रूखेपन को दूर करने में मदद कर सकता है (15)। वहीं दूसरी ओर, नींबू एक प्राकृतिक ब्लीच की तरह काम करता है, जो त्वचा की प्राकृतिक रंगत को निखारने में मदद कर सकता है (16)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि नींबू और शहद का मिश्रण त्वचा व होंठों के लिए भी लाभकारी साबित हो सकता है।

4. गुलाब की पंखुड़ियों का लिप मास्क

सामग्री :

  • पांच-छह गुलाब की पंखुड़ियां
  • आधा कप दूध

उपयोग करने का तरीका :

  • रातभर गुलाब की पंखुड़ियों को दूध में भिगोकर रख दें।
  • सुबह दूध को छानकर पंखुड़ियों को पीस लें।
  • पीसी हुई पंखुड़ियों में एक-दो बूंद दूध मिला लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने होंठों पर लगाकर 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर ठंडे पानी से धो लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे हर रोज लगा सकते हैं। वहीं बेहतर लाभ के लिए इसे रातभर लगाकर छोड़ा भी जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

गुलाबी होंठ पाने के लिए गुलाब से बेहतर और क्या हो सकता है। हर महिला की चाहत होती है कि उनके होंठ गुलाब की पंखुड़ी की तरह नर्म, मुलायम और गुलाबी हों। इसके लिए गुलाब की पंखुड़ियों का लिप मास्क एक बेहतर विकल्प माना जा सकता है। दरअसल, गुलाब की पंखुड़ियां एंटी-इन्फलेमेटरी तत्वों से भरपूर होती हैं, जो त्वचा से संबंधित सूजन को कम करने में मदद कर सकती हैं (17)। वहीं  एक अन्य शोध के मुताबिक, गुलाब की पंखुड़ियों में एंटी एजिंग गुण होते हैं, जो स्किन एजिंग की समस्या जैसे :- झुर्रियां और पिग्मेंटेशन से बचाव में लाभकारी हो सकते हैं (18)। यहीं कारण है कि कई लिप बाम और लिपस्टिक को बनाने के लिए भी गुलाब की पंखुड़ियों का इस्तेमाल किया जाता है (19)।

5. कोको और चॉकलेट लिप थेरेपी

सामग्री :

  • एक चम्मच कोको बटर
  • दो क्यूब डार्क चॉकलेट
  • एक विटामिन-ई का कैप्सूल

उपयोग करने का तरीका :

  • सबसे पहले चॉकलेट के टुकड़ों को और बटर को पिघला लें।
  • अब विटामिन-ई कैप्सूल को तोड़कर उसका तेल इसमें मिलाएं।
  • फिर इस मिश्रण को किसी कटोरी में निकालकर ठंडा होने दें।
  • जब यह ठंडा हो जाए, तो इसे अपने होंठों पर लगाएं और 10 से 15 मिनट तक लगा रहने दें।
  • उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

जब भी आपको लगे कि आपके होंठ रूखे हो रहे हैं या नमी खो रहे हैं, तो इस मिश्रण को लगाया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

कोकोआ बटर एक अच्छा मॉइश्चराइजर है, जो त्वचा को नमी प्रदान कर सकता है। वहीं इसमें मौजूद फाइटोकेमिकल्स सूरज की हानिकारक किरणों से त्वचा की रक्षा कर सकते हैं (20)। इसके साथ ही कोकोआ में पॉलीफेनोल यौगिक मौजूद होते हैं, जो त्वचा की झुर्रियों, महीन रेखाओं आदि समस्याओं से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। साथ ही यह त्वचा की प्राकृतिक रंगत को बनाए रखने में भी मदद कर सकते हैं (21)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि यह लिप थेरेपी फटे व सूखे होंठों को ठीक करने के साथ ही उन्हें प्राकृतिक गुलाबी बनाने में मददगार हो सकती है।

6. एलोवेरा जेल का लिप मास्क

सामग्री :

  • ताजा एलोवेरा जेल (आप चाहें तो बाजार में मिलने वाला एलोवेरा जेल भी उपयोग कर सकते हैं)
  • जैतून का या नारियल का तेल

उपयोग करने का तरीका :

  • एलोवेरा का पत्ता लें और उसे बीच से काट लें।
  • अब चम्मच के जरिए इसमें से जेल निकालकर एक कटोरी में रख लें।
  • फिर इसमें कुछ बूंद जैतून या नारियल का तेल मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें।
  • आप इस मिश्रण को लिप बाम की तरह लगा सकते हैं।
  • इस मिश्रण को आप फ्रिज में स्टोर करके भी रख सकते हैं।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे लिप बाम की तरह कभी भी लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा जेल के फायदे तो जगजाहिर हैं। यह न सिर्फ सेहत बल्कि त्वचा के लिए भी लाभकारी हो सकता  है। एलोवेरा में जिबरेलिन्स और ऑक्सिन नामक हॉर्मोन्स होते हैं, जिनमें एंटीइंफ्लेमेटरी के साथ-साथ हीलिंग यानी किसी भी तरह के घाव को भरने के गुण होते हैं। इसके अलावा यह त्वचा को मॉइश्चराइज करने का काम भी कर सकता है (22)। वहीं नारियल या जैतून का तेल भी त्वचा को सुरक्षा प्रदान करने का काम कर सकता है (23) (24)। इस आधार पर माना जा सकता है कि नारियल या जैतून तेल के साथ एलोवेरा रूखे या फटे होंठ से राहत दिलाने में अधिक प्रभावी साबित हो सकता है।

7. चुकंदर का लिप बाम

सामग्री :

  • आधा चम्मच चुकंदर का पाउडर
  • एक चम्मच शिया बटर
  • दो चम्मच जैतून का तेल
  • एक चम्मच बीवैक्स पेलेट्स (यह आसानी से बाजार में उपलब्ध है)
  • एक छोटा लिप बाम जार

उपयोग करने का तरीका :

  • एक शीशे के जार में शिया बटर, जैतून का तेल और बीवैक्स डालें।
  • अब एक सॉसपैन में पानी गर्म करें और इसमें उस जार को रखें।
  • इसे तब तक रखें, जब तक जार के अंदर की सामग्रियां पिघलकर आपस में मिल न जाएं।
  • फिर इस मिश्रण में चुकंदर का पाउडर डालकर मिश्रण तैयार करें।
  • इसके बाद इस मिश्रण को छोटे लिप बाम जार में डालकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • जब यह ठंडा हो जाए, तो इसे अपने होंठों पर लगाएं।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे लिप बाम की तरह कभी भी लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

घरेलू तौर पर तैयार किया गया यह लिप बाम कई पोषक तत्वों से भरपूर माना जाता है, जो होंठों को कोमल और मुलायम बनाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह फटे होंठों पर भी बेहतर तरीके से काम कर सकता है। दरअसल, इसमें मौजूद जैतून का तेल त्वचा के लिए प्राकृतिक कंडीशनर का काम करता है (25)। इसके अलावा, चुकंदर में बीटानिन होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी प्रभाव प्रदर्शित करता है और त्वचा की रंगत को निखारने का काम कर सकता है (26)। इस आधार पर माना जा सकता है कि गुलाबाी होंठ पाने के तरीके में चुकंदर लिप बाम के इस घरेलू उपाय को इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, इसे आजमाने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।

8. चीनी और जैतून तेल का लिप स्क्रब

सामग्री :

  • एक चम्मच भूरी या सफेद चीनी
  • एक चम्मच ऑलिव ऑयल (आप एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल का भी उपयोग कर सकते हैं)

उपयोग करने का तरीका :

  • एक कटोरी में एक चम्मच भूरी या सफेद चीनी को एक चम्मच जैतून तेल में मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को अपने होंठों पर स्क्रब की तरह सर्कुलर मोशन में लगाएं।
  • फिर कुछ देर बाद इसे भीगे हुए साफ व मुलायम कपड़े से पोंछकर लिप बाम लगा लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

हफ्ते में एक या दो बार इस स्क्रब का इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है?

चीनी और जैतून के तेल से तैयार स्क्रब को भी गुलाबी होठ पाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल, चीने एक प्राकृतिक एक्फोलिएटर (मृत त्वचा को हटाने वाला) है, जिसे स्क्रब के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। यह त्वचा की रंगत को निखारने में मदद कर सकती है (27)। वहीं जैतून के तेल के फायदे स्किन के लिए कई हैं। यह त्वचा की प्राकृतिक नमी को बनाए रखने में मदद कर सकता है (28)। इस आधार पर मन जा सकता है कि जैतून तेल के साथ तैयार चीनी का यह स्क्रब होठों को प्राकृतिक गुलाबी रंग देने में मददगार हो सकता है।

9. नींबू और ग्लिसरीन का लिप मास्क

सामग्री :

  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच ग्लिसरीन
  • एक कंटेनर

उपयोग करने का तरीका :

  • आप नींबू के रस और ग्लिसरीन को मिला लें।
  • आप चाहें तो इस मिश्रण को एक जार में रखकर फ्रिज में एक हफ्ते के लिए स्टोर भी कर सकते हैं।
  • इस मिश्रण को साफ ब्रश या उंगलियों से लगा सकते हैं।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

अगर होंठ बहुत रूखे हैं, तो इस मिश्रण को हर रोज लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

होठों की प्राकृतिक गुलाबी रंगत पाने के लिए नींबू और ग्लिसरीन का यह मास्क भी काफी कारगर साबित हो सकता है। दरअसल, ग्लिसरीन लिप्स को हाइड्रेट करके पर्याप्त मात्रा में नमी प्रदान कर सकती है (29)। वहीं नींबू प्राकृतिक तौर से त्वचा की रंगत को निखारने का काम कर सकता है। हालांकि यह ध्यान रखना जरूरी है कि नींबू के रस को किसी चीज में मिलाकर ही उपयोग किया जाए। क्योंकि, कुछ लोगों को इसके कारण त्वचा पर जलन के शिकायत हो सकती है (16)। इस आधार पर माना जा सकता है कि नींबू और ग्लिसरीन का यह लिप मास्क रूखे होंठों की समस्या को दूर करने के साथ ही उन्हें प्राकृतिक गुलाबी रंग प्रदान कर सकता है।

10. दूध और हल्दी का पैक

सामग्री :

  • एक चम्मच ठंडा दूध
  • आधा चम्मच हल्दी पाउडर

उपयोग करने का तरीका :

  • ठंडे दूध को हल्दी के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने होंठों पर लगाकर पांच से छह मिनट के लिए छोड़ दें।
  • जब यह सूख जाए, तो इसे हल्के से स्क्रब करें।
  • फिर गुनगुने पानी से धोकर लिप बाम लगा लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे हर दूसरे दिन लगा सकते हैं। इससे न सिर्फ होंठों पर निखार आएगा बल्कि वह आकर्षक भी  दिखेंगे।

कैसे फायदेमंद है?

हल्दी एंटीसेप्टिक की तरह काम करती है। इस कारण यह त्वचा से संबंधित घावों को भरने में मदद कर सकती है। साथ ही यह रूखी त्वचा की समस्या को दूर करने और उसे चमकदार बनाने में भी मददगार हो सकती है (30)। वहीं दूध में लैक्टिक एसिड होता है जो पिग्मेंटेशन को कम करने के साथ स्किन को हाइड्रेट व स्किन को रिपेयर करने में मदद कर सकता है (31) (32)।  इस आधार पर माना जा सकता है कि दूध और हल्दी के पैक से प्राकृतिक तरीके से गुलाबी होंठ पाने में मदद मिल सकती है।

11. स्ट्रॉबेरी लिप मास्क

सामग्री :

  • एक स्ट्रॉबेरी
  • एक चम्मच शहद
  • एक चम्मच जैतून का तेल

उपयोग करने का तरीका :

  • एक शीशे के बर्तन में स्ट्रॉबेरी को अच्छी तरह कुचल लें।
  • अब इसमें शहद मिलाएं।
  • फिर इसमें जैतून का तेल मिलाकर अच्छे से मिश्रण तैयार कर लें।
  • अब इस लिप मास्क को अपने होंठ पर लगाकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद साफ, नर्म व भीगे कपड़े से अपने होंठों को पोंछ लें।
  • पहली बार से ही इसका असर दिखने लगेगा। होंठ नर्म और मुलायम लगने लगेंगे।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इस मास्क को हफ्ते में तीन से चार बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

गुलाबी होंठ पाने के लिए स्ट्राबेरी लिप मास्क भी इस्तेमाल किया जा सकता है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) पर प्रकाशित स्ट्राबेरी से संबंधित एक शोध में इस बात का इशारा मिलता है। शोध में माना गया कि स्ट्रॉबेरी में प्रचुर मात्रा में विटामिन-सी मौजूद होता है। यह त्वचा में कसाव लाने के साथ ही उसे नर्म और मुलायम बनाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह त्वचा की प्राकृतिक रंगत को निखारने में भी सहायक हो सकता है (33)। वहीं, शहद नमी बनाए रखने के साथ त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकता है (14)।

12. धनिया पत्ता का लिप मास्क

सामग्री :

  • चार से पांच धनिये के पत्ते
  • पानी

उपयोग करने का तरीका :

  • धनिये के पत्तों का पेस्ट बना लें।
  • फिर इस पेस्ट को अपने होंठ पर लगाकर 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें और फिर साफ व गीले कपड़े से पोंछ लें।
  • इसके बाद थोड़ा लिप बाम जरूर लगाएं।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे हर रोज लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

धनिया की पत्तियों का उपयोग भी कुछ हद तक होंठों के गुलाबी रंग को बनाए रखने में मदद कर सकता है। दरअसल, धनिया में सूर्य की हानिकारण किरणों से होने वाले त्वचा की रंगत में बदलाव को ठीक करने की क्षमता पाई जाती है। साथ ही स्वस्थ त्वचा को बनाए रखने में भी मदद कर सकती है (34)। इस आधार पर माना जा सकता है कि यह धूप के कारण आने वाले होंठों के रंग में बदलाव को ठीक कर उन्हें हल्का गुलाबी बनाए रखने में मदद कर सकती है।

13. बादाम तेल और नींबू का मिश्रण

सामग्री :

  • बादाम तेल की कुछ बूंदें
  • थोड़ा-सा नींबू का रस

उपयोग करने का तरीका :

  • बादाम तेल और नींबू के रस को मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें।
  • फिर इस मिश्रण को लिप बाम की तरह लगा लें।

कब और कितनी बार इसका उपयोग करें?

इसे हर रोज सुबह और रात को सोने से पहले लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

बादाम के तेल का इस्तेमाल पुराने जमाने से कई चाइनीज, आयुर्वेदिक और पर्शियन दवाओं में त्वचा संबंधित परेशानियों को दूर करने के लिए किया जाता रहा है। इसमें कई गुणकारी तत्व होते हैं जो त्वचा को कोमल बनाने के साथ उसे जवां और तरोताजा बनाने में मददगार हो सकते हैं। साथ ही इसका इस्तेमाल त्वचा के रंग और टोन में सुधार के लिए भी किया जा सकता है (35)। वहीं, नींबू भी त्वचा के रंग को हल्का कर उसे निखारने में मदद कर सकता है (16)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि बादाम तेल और नींबू का यह मिश्रण होंठों को गुलाबी बनाने में मददगार हो सकता है।

नीचे स्क्रोल करें

गुलाबी होंठ पाने के आसान घरेलू उपाय के बाद पिंक लिप्स के लिए कुछ अन्य टिप्स जान लेते हैं।

गुलाबी होंठ के लिए कुछ और उपाय  – Other Tips For Pink Lips in Hindi

लिप्स को गुलाबी बनाने के लिए उनकी बाहर से केयर करने के साथ ही अंदरूनी पोषण पर भी ध्यान देना भी आवश्यक है। तो आइए जानते हैं कि डाइट का ध्यान रखते हुए होंठ को गुलाबी कैसे बनाये:

  • आधिक से अधिक पानी का सेवन करें, क्योंकि पानी की कमी के कारण भी त्वचा रूखी हो सकती है (4)। इस कारण यह रूखे और फटे होंठों की स्थिति भी पैदा हो सकती है।
  • सूरज की हानिकारक किरणों से भी होंठ फटने की परेशानी होती है। ऐसे में टमाटर को सलाद के तौर पर डाइट में शामिल कर सकते हैं। टमाटर में लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से रक्षा प्रदान कर सकता है (36)।

उम्मीद है कि अब सभी को लिप्स को पिंक कैसे करें, इसका जवाब मिल गया होगा। पिंक लिप्स पाना ज्यादा मुश्किल नहीं है, बस जरूरत है तो होंठों की थोड़ी देखभाल करने की। इसके लिए लेख में दिए गुलाबी होंठ पाने के प्राकृतिक उपायों को इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि ये घरेलू नुस्खे कोई जादू की छड़ी नहीं हैं, जो रातों-रात होंठों की रंगत और रूखेपन को ठीक कर देंगे। इसलिए लिप्स पिंक करने के उपाय को इस्तेमाल करने के दौरान धैर्य रखना होगा और इनमें से जो भी नुस्खा अपना रहे हैं, उसका नियमित रूप से उपयोग करना पड़ेगा। अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो इसे अन्य लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

अपने होंठों को एक दिन में पिंक कैसे कर सकते हैंं?

होठों को एक दिन में पिंक नहीं किया जा सकता है, लेकिन डाइट का खास ख्याल रखने के साथ ऊपर बताए गए उपायों को अपनाने से कुछ हफ्तों में इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

गुलाबी लिप्स के लिए कौन सी क्रीम बेस्ट होती है?

हर्बल सामग्रियों से युक्त क्रीम को गुलाबी लिप्स के लिए इस्तेमाल करना उपयोगी माना जा सकता है। हालांकि, किसी भी क्रीम का चयन करने से पहले यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि क्रीम आपकी स्किन को सूट करेगी या नहीं। इसके लिए क्रीम में शामिल सभी सामग्रियों को भी एक बार बरीकी से जरूर देखें।

पिंक लिप्स के लिए कौन सा लिप बाम बेस्ट होता है?

पिंक लिप्स के लिए आप एक ऐसे लिप बाम का चाय करें, जिसमें अधिक से अधिक हर्बल सामग्रियों का उपयोग किया गया हो। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि उसमें कोई ऐसा पदार्थ शामिल न हो, जिससे आपको एलर्जी हो।

Sources

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख