गुस्से (क्रोध) को कम करने के उपाय – How to Control Anger in Hindi

Written by

गुस्सा एक भावनात्मक प्रतिक्रिया है। यह किसी को कम आता है और किसी को ज्यादा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि जल्दी गुस्सा होना या ज्यादा गुस्सा आना एक समस्या है। इससे व्यक्ति का स्वास्थ्य बिगड़ने के साथ ही उसे शारीरिक क्षति भी पहुंच सकती है (1)। वैसे यह सभी जानते हैं कि जब इंसान को गुस्सा आता है, तो वो खुद पर नियंत्रण खो देता है। उसके दिमाग की सोचने-समझने की क्षमता कम हो जाती है, लेकिन गुस्से पर काबू करना जरूरी है। यही कारण है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम गुस्सा क्यों आता है और क्रोध क्या है, इस बारे में बता रहे हैं। साथ ही यहां गुस्सा कम करने के उपाय भी दिए गए हैं, जो क्रोध को शांत करने में सहायक भूमिका निभा सकते हैं।

शुरू करते हैं लेख

लेख में सबसे पहले हम बता रहें हैं कि क्रोध क्या है।

विषय सूची

गुस्सा क्या है  – What is Anger in Hindi

गुस्सा एक भावनात्मक स्थिति है। जब व्यक्ति को ठेस पहुंचती है या कुछ चीजों से झुंझलाहट और चिड़चिड़ापन होता है, तो मन में नकारात्मक भाव जन्म लेते हैं। जब यह भाव मनुष्य पर हावी होते हैं, तो उसकी शारीरिक अभिव्यक्ति में बदलाव दिखने लगता है। इस स्थिति में व्यक्ति अपने गुस्से को हाव-भाव, बोलकर, चिल्लाकर या शारीरिक हमले से प्रकट करता है। बार-बार इस तरह गुस्सा करने से मनुष्य कई तरह की बीमारियों की चपेट में भी आ जाता है (1)। यही कारण है कि दूसरों के साथ-साथ खुद के लिए भी गुस्से को नुकसानदायक कहा जाता है।

आगे बढ़ते हैं

अब जानते हैं कि आखिर किन-किन कारणों से गुस्सा आता है।

गुस्से के कारण – Causes of Anger in Hindi

हम लेख में पहले ही बता चुके हैं कि गुस्सा एक भावनात्मक स्थिति है। इसमें व्यक्ति के मन में नकारात्मक भाव पैदा होते हैं, जो कुछ विशेष स्थितियों में प्रबल होकर व्यक्ति को प्रभावित करते हैं। तो आइए, उन स्थितियों पर एक नजर डाल लेते हैं, जो गुस्सा आने का कारण बनती हैं (2)।

  • नापसंद लोगों के कारण
  • कुछ घटनाओं से
  • पुरानी बुरी यादें
  • परिवार में झगड़े की स्थिति
  • किराये का ज्यादा होना
  • जब सहकर्मी खुद को श्रेष्ट व्यक्त करते हुए काम में दखल दे

स्क्रॉल करें

गुस्सा आने के मुख्य कारण के बाद अब क्रोध कम करने के उपाय पर एक नजर डालते हैं

गुस्से को कम करने के उपाय – Tips to Control Anger in Hindi

अगर किसी को ज्यादा या बार-बार गुस्सा आता है, तो नीचे बताए गए क्रोध कम करने के उपाय आजमाना लाभकारी हो सकते हैं। क्या हैं क्रोध कम करने के उपाय जानने के लिए लेख को आगे पढ़ें।

1. उल्टी गिनती करें

उल्टी गिनती गिनना गुस्सा कम करने के उपाय का एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। इसके माध्यम से गुस्से की तीव्रता को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है (3)। इसी वजह से गुस्से में कुछ भी बोलने से पहले 10 से 1 तक उल्टी गिनती करते हुए अपनी सांसों पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश करनी चाहिए। इससे गुस्सा तो नियंत्रित होगा ही साथ ही सोचने का भी समय मिलेगा। इससे दी जाने वाली प्रतिक्रिया के प्रभावों के बारे में व्यक्ति अच्छे से विचार कर पाएगा।

2. थोड़ा टहल लें

गुस्सा कम करने के उपाय में टहलना भी शामिल है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित ‘जर्नल ऑफ एक्सरसाइज रिहैबिलिटेशन’ के शोध में भी इस बात का जिक्र मिलता है। इसके लिए बस टहलते समय अपने चले गए कदमों पर ध्यान देना होगा। ऐसा करने से दिमाग को शांत व गुस्से को नियंत्रित रखा जा सकता है। शोध के अनुसार, स्थान परिवर्तन करने से परिस्थिति में बदलाव आ सकता है, जिससे गुस्से की तीव्रता कम हो सकती है (4)। इसी वजह से जब कभी भी किसी को गुस्सा आए, तो बिना अधिक बात किए उस स्थान से उठकर थोड़ी देर टहलना बेहतर होगा।

3. मेडिटेशन करें

विषय विशेषज्ञों के मुताबिक, गुस्सा कम करने के उपाय में माइंडफुलनेस मेडिटेशन मददगार साबित हो सकता है (5)। मेडिटेशन के इस प्रकार में मन मस्तिष्क को शांत कर किसी एक बिंदु या खुशी देने वाले पलों पर ध्यान केंद्रित किया जाता है (1)। इस तरह क्रोध कम करने के उपाय में मेडिटेशन को शामिल करने से व्यक्ति धीरे-धीरे गुस्से पर नियंत्रण करना सीख सकता है। साथ ही इससे तुरंत गुस्से को कुछ हद तक कम करने में भी मदद मिल सकती है।

4. गहरी सांस लें

गुस्सा कम कैसे करें, इस सवाल का जवाब सांस लेने की प्रक्रिया में भी छिपा हुआ है। दरअसल, अगर ध्यान केंद्रित करते हुए कुछ मिनट तक धीरे-धीरे गहरी सांस ली जाए, तो गुस्से को नियंत्रित किया जा सकता है (3)। गुस्सा कम करने के लिए सिर्फ गहरी सांस लेना ही नहीं, बल्कि काउंटिंग करते हुए भी गहरी सांस लेना अच्छा होता है (4)। इन दोनों प्रक्रिया से मेडिटेशन की ही तरह मन शांत हो सकता है। साथ ही गुस्से के कारण दी जाने वाली प्रतिक्रिया के खराब परिणामों के बारे में सोचने की क्षमता विकसित हो सकती है।

5. संगीत सुनें

गुस्सा शांत करने के उपाय में मधुर संगीत सुनना भी शामिल है। दरअसल, मन को सुकून देने वाले गाने सुनने से गुस्से को खुद पर हावी होने से रोका जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर इस विषय से जुड़ा एक शोध भी उपलब्ध है। रिसर्च के अनुसार, म्यूजिक थेरेपी मन में पनपने वाले नकारात्मक भावों को दूर करने में मदद करती है, जिससे गुस्से को नियंत्रित किया जा सकता है (7)।

6. मांसपेशियों से गुस्सा कम करें

मांसपेशियों से भी गुस्सा कम करने का उपाय हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, जमीन पर पैरों से जोर देते हुए मांसपेशियों में तनाव पैदा करें। इससे पिंडली और जांघों की मांसपेशियों पर दवाब महसूस होगा। साथ ही कोहनियों को मोड़कर मुट्ठियों को कस लें। फिर फर्श में बांह के निचले हिस्‍सों को समानांतर रखें। इस दौरान भुजाओं, ऊपरी बांहों, कंधों और चेस्ट की मांसपेशियों पर खिंचाव महसूस होगा। इसके अलावा, दांतों को काटकर जबड़े की मांसपेशियों में दवाब महसूस करें। इन सभी तरीकों से गुस्से को कुछ कम किया जा सकता है (8)।

7. चुप रहने का प्रयास करें

गुस्सा कम करने का उपाय एक यह भी है कि कुछ भी न बोलें व चुप रहने का प्रयास करें। यह गुस्से को नियंत्रित करने का सबसे बेहतर और आसान विकल्प माना जाता है। गुस्से की स्थिति पैदा होने पर कुछ समय तक खुद को शांत रखने का प्रयास करें और कुछ भी न बोलें। इससे दूसरे को सुनने और समझने का मौका मिलेगा। साथ ही गुस्से को नियंत्रित करने के साथ-साथ बेहतर और स्पष्ट प्रतिक्रिया देने में भी मदद मिल सकती है (2)।

8. अच्छी नींद लें

गुस्सा कम कैसे करें, इस सवाल का एक जवाब अच्छी नींद लेना भी है। हृदय धमनी से संबंधित रोगियों पर किए गए एक शोध में पाया गया है कि पर्याप्त नींद न लेने की स्थिति में रोगियों को तुरंत गुस्सा आने लगता है (9)। इस रिसर्च के आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि अपर्याप्त नींद की वजह से भी लोग अपने गुस्से पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं। ऐसे में अगर गुस्से को कम करने के उपाय में सोने के समय पर ध्यान दिया जाए और उसमें सुधार किया जाए, तो गुस्से पर काबू पाना मुमकिन हो सकता है।

पढ़ते रहें

गुस्सा कम कैसे करें, यह जानने के बाद अब आगे गुस्से से होने वाले दुष्प्रभावों को पढ़ें।

अधिक क्रोध आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक क्यों है?

अधिक क्रोध कुछ गंभीर समस्याओं के जोखिम को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से बढ़ाने का काम कर सकता है। इसलिए, इसे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है। आइए, निम्नलिखित बिंदुओं के माध्यम से जानते हैं कि गुस्सा किन समस्याओं का कारण बनने या उन्हें प्रभावित करने में मुख्य भूमिका निभा सकता है (1)।

  • हृदय धमनी रोग
  • बुलिमिक बिहेवियर (सामान्य से अधिक खाने की प्रवृत्ति)
  • डायबिटीज का खतरा
  • गुस्से के कारण तेज वाहन चलाने से दुर्घटना की आशंका
  • शराब, सिगरेट व अन्य नशीले पदार्थों का सेवन
  • आलस्य की अधिकता और शारीरिक कार्य की क्षमता में कमी

लेख अंत तक पढ़ें

अब जानते हैं कि योग और व्यायाम गुस्सा कम करने के उपाय हो सकते हैं या नहीं।

गुस्से को नियंत्रित करने के लिए योग और व्यायाम – Yoga and Exercise to control your anger in Hindi

ऊपर बताए गए उपायों के अलावा योग और व्यायाम से क्रोध पर नियंत्रण पाया जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर पब्लिश एक रिसर्च पेपर के अनुसार, एरोबिक्स व्यायाम भी गुस्सा कम करने का तरीका हो सकता है। इस अध्ययन में पाया गया कि एरोबिक व्यायाम करने से गुस्से के कारण किए जाने वाले आक्रामक व्यवहार और प्रतिक्रिया कम हो सकती है (10)। इस आधार पर गुस्से को नियंत्रित करने में एरोबिक व्यायाम के तौर पर निम्नलिखित एक्सरसाइज कर सकते हैं, जैसे (11):

जैसा कि हम लेख में बता ही चुके हैं कि नींद की कमी के कारण लोगों को जल्दी गुस्सा आता है। ऐसे में एरोबिक व्यायाम नींद की गुणवत्ता को बढ़ाकर भी गुस्से को कम कर सकता है (12)। इसके अलावा, योग भी गुस्सा कम करने का तरीका है। एक रिसर्च में बताया गया है कि योग गुस्से को और गुस्से में दी जाने वाली प्रतिक्रियाओं को नियंत्रित कर सकता है। इसके लिए निम्नलिखित योगासन किए जा सकते हैं (13)।

क्रोध क्या है और गुस्सा क्यों आता है, इन सवालों के जवाब तो आपको मिल ही गए होंगे। साथ ही आपको गुस्सा कम कैसे करें, इसके लिए कुछ आसान उपायों के बारे में भी जानकारी हासिल हो गई होगी। अब आप इस लेख को अपने करीबियों के साथ साझा करके उन्हें गुस्से को कम करने के उपाय बता सकते हैं। भले ही जितने भी शांत स्वभाव का इंसान क्यों न हो कभी-न-कभी उसे गुस्सा जरूरी आ जाता है। ऐसे में हर कोई इस आर्टिकल को पढ़कर अपने गुस्से को नियंत्रित कर सकता है। बस तो इस आर्टिकल से खुद के और अपने करीबियों के गुस्से को कम करें और सुखी व खुशहाल जिंदगी का आनंद उठाएं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या क्रोध या गुस्सा आना मानसिक बीमारी है?

नहीं, यह मानसिक बीमारी नहीं है। हम लेख में बता ही चुके हैं कि मनुष्य को क्रोध क्यों आता है। यह सिर्फ एक भावनात्मक स्थिति है, जिसे नियंत्रित करना जरूरी है। हां, गुस्सा कई मानसिक बीमारियों का लक्षण हो सकता हैं।

मुझे इतनी आसानी से गुस्सा क्यों आता है?

गुस्सा क्यों आता है और इसके कारण हम ऊपर बता ही चुके हैं। यह अधिकतर मन में आने वाले नकारात्मक भाव की वजह से ही आता है।

क्रोध प्रबंधन के लिए सबसे अच्छा उपचार क्या है?

लेख में हम यह स्पष्ट कर चुके हैं कि गुस्सा किसी तरह की कोई बीमारी नहीं है। यह एक भावनात्मक स्थिति है। ऐसे में गुस्से को कम करने के उपाय और गुस्सा कम करने का तरीका अपना सकते हैं।

पत्नी का गुस्सा कम करने के उपाय क्या हैं?

लेख में ऊपर बताए गए विभिन्न तरीकों को आप पत्नी का गुस्सा कम करने के उपाय के तौर पर आजमा सकते हैं।

बच्चों का गुस्सा कैसे कम करें?

कई छोटे बच्चे जिद्दी और गुस्सैल स्वभाव के होते हैं। ऐसे में इन बच्चों का गुस्सा कम करने के लिए उलटी गिनती गिनना और लेख में बताए गए अन्य उपाय अपना सकते हैं।

गुस्सा कम करने की दवा क्या है?

क्रोध आना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। इस वजह से गुस्सा कम करने की दवा नहीं है। हां, इसे कम करने के लिए दिमाग को शांत करने के उपाय अपनाए जा सकते हैं। ऐसे कई उपाय हमने लेख में ऊपर बताए हैं।

मनुष्य को क्रोध क्यों आता है?

विपरीत परिस्थितियों और नकारात्मक भाव के कारण मनुष्य को क्रोध आता है।

एक दिन में गुस्सा कैसे कम करें?

एक दिन में गुस्सा कम नहीं हो सकता है, क्योंकि गुस्सा कम करने की दवा नहीं होती है।

13 Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Check out our editorial policy for further details.

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख

scorecardresearch