काले अंगूर के फायदे और नुकसान – Black Grapes Benefits and Side Effects in Hindi

Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

आइए, जानते हैं कि काले अंगूर खाने के फायदे क्या क्या हो सकते हैं।

काले अंगूर के फायदे – Benefits of Black Grapes in Hindi

काले अंगूर के फायदे सेहत के लिए कई सारे हैं। लेख में नीचे वैज्ञानिक शोध के आधार पर काले अंगूर के फायदे बता रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

1. मधुमेह में उपयोगी है काला अंगूर

काले अंगूर के फायदे की बात करें, तो इसका सेवन मधुमेह के मरीजों के लिए लाभकारी हो सकता है। दरअसल, इसमें रेसवेरेट्रॉल नामक रसायन होता है, जिसमें एंटी-हाइपरग्लाइसेमिक प्रभाव पाया जाता है, जो इंसुलिन के स्तर को सही रखने में मदद कर सकता है (1 )।

वहीं, एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) की ओर से उपलब्ध एक शोध में बताया गया है कि डायबिटीज से ग्रस्त चूहों पर रेसवेरेट्रॉल का प्रयोग किया था। शोध के दौरान पाया गया कि रेसवेरेट्रॉल में एंटी-डायबिटिक प्रभाव होता है। परिणामस्वरूप डायबिटीज से ग्रस्त चूहों की स्थिति में सुधार पाया गया। वहीं, रेसवेरेट्रॉल का उपयोग मधुमेह की दवाओं में भी किया जाता है (2)।

2. हृदय को स्वस्थ रखने में काले अंगूर के फायदे

काले अंगूर में मौजूद पॉलीफेनोल्स उच्च रक्तचाप की समस्या से बचाते हैं, जो हृदय रोग का कारण बन सकते हैं। ये पॉलीफेनोल्स रक्त वाहिकाओं की अंदरूनी कोशिकाओं के कार्य में सुधार करते हैं, जिससे रक्त का सही प्रवाह बना रह सकता है। साथ ही ये उन एंजाइम की गतिविधि को घटाते हैं, जो ब्लड प्रेशर से जुड़े हार्मोन में परिवर्तन ला सकते हैं (3)।

वहीं, अंगूर में पाए जाने वाले पॉलीफेनोल्स में एंटी-प्लेटलेट प्रभाव भी होता है, जो प्लेटलेट्स को इकट्ठा होने से रोक सकता है। इससे स्ट्रोक या दिल के दौरे के जोखिम को कम किया जा सकता है (4)। काले अंगूर के इन्हीं गुणों को देखते हुए इन्हें हृदय की सेहत के लिए अच्छा माना जा सकता है।

3. कैंसर से बचाव में काले अंगूर के फायदे

कैंसर की रोकथाम में कालू अंगूर प्रभावशाली हो सकता है। इस विषय पर कई रिसर्च हो चुकी हैं, जिसमें मालूम होता है कि कैंसर के विभिन्न रूपों को पनपने से रोकने में काले अंगूर का उपयोग अहम भूमिका निभा सकता है (5)।

वहीं, काले अंगूर के छिलके में प्रचुर मात्रा में रेसवेरेट्रॉल पाया जाता है। यह एपोप्टोसिस को यानी कैंसर कोशिका के नष्ट होने की प्रक्रिया को प्रेरित कर कैंसर को फैलने से रोक सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक अध्ययन में बताया गया है कि रेसवेरेट्रॉल में एंटी-कैंसर प्रभाव होता है, जो पेट, प्रोस्टेट, ब्रेस्ट और फेफड़ों के कैंसर को पनपने से रोक सकता है (6)।

इतना ही नहीं काले अंगूर के बीज और रस में भी कैंसर रोधी तत्व पाए जाते हैं (7)। अंगूर में पाए जाने वाले अन्य शक्तिशाली एंटीकैंसर घटक कैटेचिन और एन्थोकायनिन हैं, जो कैंसर से बचाव में अहम भूमिका निभा सकते हैं (8)। हां, अगर किसी को कैंसर है, तो उसे डॉक्टर से इलाज करना चाहिए। इस अवस्था में घरेलू उपचार कारगर साबित नहीं हो सकते।

4. मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में अंगूर के फायदे

काले अंगूर के जूस का सेवन व्यक्ति के दिमाग की सक्रियता को बढ़ा सकता है। एक वैज्ञानिक शोध में साफतौर से यह बताया गया है कि इसमें पाए जाने वाला रेसवेरेट्रॉल मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। साथ ही रेसवेरेट्रॉल का सेवन मूड को सुधार सकता है और बढ़ती उम्र में भूलने की समस्या को भी कम कर सकता है (9 )। इस आधार पर काले अंगूर का सेवन मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभा सकता है।

5. आंखों के लिए उपयोगी हैं काले अंगूर

आंखों के लिए भी काले अंगूर का फायदा उठाया जा सकता है। चूहों पर किए गए एक रिसर्च के अनुसार, अंगूर ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से लड़कर रेटिना की रक्षा कर सकता है (10)। काले अंगूर में पाया जाने वाला रेसवेरेट्रॉल तत्व एंटी-ऑक्सीडेटिव, एंटी-एपोप्टोटिक(कोशिका बचाव), एंटी-ट्यूमरोजेनिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव रखता है। इन्हीं कारणों से अंगूर का सेवन ग्लूकोमा, मोतियाबिंद की समस्या, उम्र संबंधी नेत्र विकार (AMD) और मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी जैसे आंखों के रोगों से बचाव कर सकता है (11)।

6. हड्डियों के लिए काले अंगूर के फायदे

काले अंगूर में मौजूद रेसवेरेट्रॉल तत्व हड्डियों के लिए भी फायदेमंद है। यह बोन डेंसिटी यानी हड्डियों के घनत्व को बढ़ाने में सहायक हो सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर इसी संबंध में एक रिसर्च पेपर उपलब्ध है। इस रिसर्च पेपर में कहा गया है कि हड्डियों पर अंगूर के प्रभाव को जानने के लिए चूहों पर रिसर्च की गई थी, जिसमें पाया गया कि हड्डियोंं को स्वस्थ रखने में अंगूर लाभदायक है (12)। अभी मनुष्यों पर यह परीक्षण किया जाना बाकी है।

7. सूजन से राहत देते हैं काले अंगूर

काले अंगूर में विभिन्न तरह के पॉलीफेनॉल्स पाए जाते हैं, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं (13 )। काले अंगूर का उपयोग सूजन कम करने में इसलिए भी प्रभावी हो सकता है, क्योंकि इसमें मौजूद एंथोसाइनेंस तत्व में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है (14)। यही वजह है कि कालू अंगूरों को सूजन को दूर करने के लिए कारगर उपाय माना जा सकता है।

8. अल्जाइमर रोग के लिए काले अंगूर के फायदे

एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध एक शोध के अनुसार, रेसवेरेट्रॉल का सेवन अल्जाइमर की समस्या में आराम पहुंचा सकता है। फिलहाल, यह शोध चूहों पर किया गया था। मनुष्य पर इसके प्रभाव को जानने के लिए और शोध किए जाने की जरूरत है (15)।

9. वजन कम करने में

मोटापे से परेशान लोगों के लिए काले अंगूर का सेवन लाभकारी हो सकता है। इसमें पाया जाने वाले रेसवेरेस्ट्रॉल फैटी एसिड के ऑक्सीकरण को सक्रिय करके शरीर में चर्बी को बढ़ने से रोकने में लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा, इसमें एंटी-ओबेसिटी यानी मोटापे को नियंत्रित करने वाला प्रभाव भी पाया जाता है (16)। ऐसे में यह कहा जा सकता है कि काले अंगूर का सेवन मोटापा को नियंत्रित करने में कारगर हो सकता है।

10. बेहतर नींद के लिए काले अंगूर के फायदे

काला अंगूर अनिद्रा की स्थिति को सुधार सकता है। अनिद्रा या इंसोमनिया ऐसी बीमारी हैं, जिसमें व्यक्ति पर्याप्त नींद नहीं ले पाता है। वहीं, अंगूर में नींद को बढ़ाने वाला तत्व मेलाटॉनिन पाया जाता है (17)। इसलिए, कहा जा सकता है कि सोने से पहले अंगूर का सेवन करने से नींद की गुणवत्ता को बेहतर किया जा सकता है ।

11. लंबी आयु के लिए काले अंगूर

कई प्राणियों पर हुए अध्ययन से यह साबित हुआ है कि काले अंगूर में पाया जाने वाला रेसवेरेट्रॉल नामक तत्व आयु को बढ़ाने में मदद कर सकता है। इसका कारण यह है कि रेस्वेरेट्रॉल प्रोटीन के एक समूह को बढ़ाता है, जिसका नाम सर्टिन (sirtuins) है (18)। यह प्रोटीन समूह शरीर में कोशिकाओं को स्वस्थ रखने का काम कर सकता है (19)। इसलिए, नियमित रूप से अंगूर का सेवन करना स्वस्थ और लंबा जीवन जीने में लाभदायक सिद्ध हो सकता है।

आगे है और जानकारी

आइए, अब जानते हैं कि अंगूर में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं ।

काले अंगूर के पौष्टिक तत्व – Black Grapes Nutritional Value in Hindi

काले अंगूर के पौष्टिक तत्व के बारे में लेख में जानकारी देने से पहले आपको यह बताना भी जरूरी है कि पोषक तत्वों और लाभ के मामले में काले व हरे अंगूर लगभग एक जैसे ही होते हैं। इन दोनों अंगूर का साइंटिफिक नाम भी एक ही है, विटिस विनिफेरा (Vitis vinifera)। आइए, जानते हैं कि 100 ग्राम अंगूर में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व कितनी मात्रा में मौजूद होते हैं (20)।

पौष्टिक तत्वप्रति 100 ग्राम
पानी80.5 ग्राम
एनर्जी69 केसीएएल
टोटल लिपिड (फैट)0.16 ग्राम
प्रोटीन0.72 ग्राम
ऐश0.48 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट18.1 ग्राम
फाइबर, टोटल डायटरी0.9 ग्राम
शुगर15.5 ग्राम
फास्फोरस20 मिलीग्राम
मैग्नीशियम7 मिलीग्राम
आयरन0.36 मिलीग्राम
पोटैशियम191 मिलीग्राम
सोडियम2 मिलीग्राम
जिंक0.07 मिलीग्राम
कॉपर0.127 मिलीग्राम
मैंगनीज0.071 मिलीग्राम
सेलेनियम0.1 माइक्रोग्राम
कैल्शियम10 मिलीग्राम
फ्लोराइड7.8 माइक्रोग्राम
विटामिन सी3.2 मिलीग्राम
विटामिन बी-60.357 मिलीग्राम
विटामिन-बी 60.086 मिलीग्राम
कोलिन, टोटल3 माइक्रोग्राम
विटामिन ए आईयू66 आईयू
ल्यूटिन-जिआजेंथिन72 माइक्रोग्राम
फोलेट टोटल2 माइक्रोग्राम
विटामिन (एल्फा टोकोफैरॉल)0.19 मिलीग्राम
विटामिन के (फाइलोक्विनॉम)14.6 माइक्रोग्राम
फैटी एसिड, टोटल सेचुरेटेड0.054 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसेचुरेटेड0.07 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसेचुरेटेड0.048 ग्राम

पढ़ते रहें आर्टिकल

आइए, अब आगे जानते हैं कि काले अंगूर का उपयोग कैसे किया जा सकता है ।

काले अंगूर का उपयोग – How to Use Black Grapes in Hindi

काले अंगूर स्वास्थ्य के लिए वरदान समान हैं। इसका प्रयोग कई प्रकार से किया जा सकता है, जिसके बारे में नीचे बताया गया है।

  • पके हुए काले अंगूर खाने में बेहद स्वादिष्ट लगते हैं, इसलिए आप इन्हें सीधे खा सकते हैं।
  • काले अंगूर का प्रयोग फ्रूट सलाद में किया जा सकता है ।
  • काले अंगूर का जूस भी हेल्दी ड्रिंक साबित हो सकता है ।
  • इन्हें आप किसी भी फ्रूट स्मूदी या शेक में इस्तेमाल कर सकते हैं ।
  • काले अंगूर दिखने में भी आकर्षक होते हैं। इसलिए, इन्हें आप किसी मीठी डिश की ड्रेसिंग में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • स्वीट योगर्ट के साथ काले अंगूर मिलाकर खाए जा सकते हैं, यह स्वादिष्ट कस्टर्ड की तरह लगता है।
  • अंगूर का सेवन किसी भी टाइम किया जा सकता है, इसके लिए कोई प्रतिबंध नहीं है।

लेख में अंत तक बने रहें

लेख में आगे जानते हैं कि काले अंगूर के नुकसान क्या-क्या हो सकते हैं।

काले अंगूर के नुकसान – Side Effects of Black Grapes in Hindi

बेशक काले अंगूर स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं, लेकिन इसके नुकसान को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। आइए, जानते हैं कि क्या हैं काले अंगूर के नुकसान।

  • काले अंगूर का सेवन संतुलित मात्रा में ही करना चाहिए, इसके अधिक सेवन से पेट से जुड़ी समस्या हो सकती हैं, क्योंकि इसमें अघुलनशील फाइबर पाया जाता है (21)।
  • गर्भवती महिलाओं को अंगूर का सेवन डॉक्टर से पूछकर ही करना चाहिए, क्योंकि गर्भावस्था बेहद संवेदनशील समय होता है। इस दौरान थोड़ी-सी लापरवाही भी गर्भवती महिला व शिशु के संकट का कारण बन सकती है।
  • जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि अंगूर में एंटी प्लेटलेट्स प्रभाव होता है, जो रक्त का थक्का बनने से रोक सकता है। अंगूर का यह गुण हानिकारक भी हो सकता है। विशेष तौर पर सर्जरी के दौरान काले अंगूर ज्यादा खून बहने का कारण बन सकते हैं, इसलिए सर्जरी से दो हफ्ते पहले काले अंगूर का सेवन छोड़ दें (4)।

स्टाइलक्रेज के इस लेख में बताया गया है कि काले अंगूर का सेवन कितना लाभकारी हो सकता है। साथ ही काले अंगूर के नुकसान भी हैं, जिनका ध्यान रखा जाना चाहिए। उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। पुरानी कहावत है कि अति हर चीज की बुरी होती है, इसलिए काले अंगूरों का सेवन भी सीमित मात्रा में करना सही रहता है। अगर आप किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, तो काले अंगूर के नियमित सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

काले अंगूर कैसे खरीदें?

काले अंगूर का चयन करते समय ध्यान दें कि अंगूर ताजे हैं या नहीं। हमेशा ताजे अंगूर का चयन करें। नर्म, गले और किसी प्रकार की दुर्गंध आ रही है, तो इसे न खरीदें।

क्या रात में काले अंगूर खा सकते हैं?

हां, रात के समय काले अंगूर का सेवन किया जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें कि खाना खाने के बाद या सोने से ठीक पहले इसका सेवन न करें।

क्या काले अंगूर का अधिक मात्रा में सेवन आपके लिए हानिकारक है?

हां, अधिक मात्रा में काले अंगूर का सेवन हानिकारक हो सकता है, क्योंकि किसी भी चीज की अधिकता अपने साथ दुष्परिणाम लेकर आती है।

एक दिन में कितने काले अंगूर का सेवन किया जा सकता है?

एक दिन में डेढ़ से दो कप काले अंगूर का सेवन किया जा सकता है (22)। हालांकि, यह मात्रा व्यक्ति के स्वास्थ्य स्थिति पर भी निर्भर करती है।

अगर आप रोज काले अंगूर खाते हैं, तो क्या होता है?

रोजाना काले अंगूर का सेवन डायबिटिज, ह्नदय रोग जैसी कई समस्याओं से बचाव के लिए लाभकारी हो सकता है। ऊपर लेख में इसके अन्य फायदों के बारे में विस्तार से बताया गया हैं।

लाल या काले अंगूर में से बेहतर कौन से हैं?

लाल और काले दोनों ही अंगूर पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। सेहत के लिहाज से दोनों का सेवन फायदेमंद हो सकता है (23)।

संदर्भ (Sources) :

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Fruit consumption and risk of type 2 diabetes: results from three prospective longitudinal cohort studies
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3978819/
  2. Resveratrol and diabetes
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24841877/
  3. The Relevance of Dietary Polyphenols in Cardiovascular Protection
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/28356040/
  4. Grapes and Cardiovascular Disease
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2728695/pdf/nut1391788S.pdf
  5. Grapes and human health: a perspective
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/18662007/
  6. The occurrence of resveratrol in foodstuffs and its potential for supporting cancer prevention and treatment. A review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29517181/
  7. Anticancer and Cancer Chemopreventive Potential of Grape Seed Extract and Other Grape-Based Products1
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2728696/
  8. Combination chemoprevention with grape antioxidants
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26829056/
  9. Resveratrol prevents age-related memory and mood dysfunction with increased hippocampal neurogenesis and microvasculature, and reduced glial activation
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25627672/
  10. Protective effects of a grape-supplemented diet in a mouse model of retinal degeneration
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26732835/
  11. Resveratrol and Ophthalmic Diseases
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4848669/
  12. Effects of resveratrol on bone mineral density in ovarectomized rats
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23674958/
  13. Grape Consumption Increases Anti-Inflammatory Markers and Upregulates Peripheral Nitric Oxide Synthase in the Absence of Dyslipidemias in Men with Metabolic Syndrome
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3546615/
  14. Inhibition of Low-Grade Inflammation by Anthocyanins after Microbial Fermentation in Vitro
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4963887/
  15. Dietary resveratrol prevents  Alzheimer’s  markers and increases life span in SAMP8
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23129026/
  16. Anti-obesity effect of resveratrol-amplified grape skin extracts on 3T3-L1 adipocytes differentiation
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3439571/
  17. Dietary Sources and Bioactivities of Melatonin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5409706/
  18. Future directions of resveratrol research
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29951589/
  19. SIRTUIN REGULATION IN AGING AND INJURY
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4682052/
  20. Grapes, red or green  (European  type, such as Thompson seedless),  raw
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/174683/nutrients
  21. Tips for relieving
    https://uncw.edu/healthservices/documents/irritablebowelsyndrome_000.pdf
  22. Daily Intake of Grape Powder Prevents the Progression of Kidney Disease in Obese Type 2 Diabetic ZSF1 Rats
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5409684/
  23. Comparison of Antioxidant Activities of Different Grape Varieties
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6222363/

The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख