केल (काले) के 16 फायदे, उपयोग और नुकसान – Benefits and Uses of Kale in Hindi

Medically reviewed by Neha Srivastava (Nutritionist), Nutritionist
Written by

कई बार हंसी-मजाक में शाकाहारी लोगों को यह जरूर सुनना पड़ा होगा कि पनीर के अलावा वेजीटेरियन और खा ही क्या सकते हैं। अगर आपको भी कभी कोई ऐसा कहे, तो आप उन्हें कह सकते हैं कि शाकाहारी लोगों के लिए हरी सब्जियों की कमी नहीं है। पालक, पत्तागोभी, बीन्स, करेला जैसी आम सब्जियों के अलावा भी कई अन्य सब्जियां भी बाजार में मौजूद हैं, जिनके विषय में लोग ज्यादा नहीं जानते, जैसे केल। संभव है कि आप इसका नाम पहली बार सुन रहे होंगे और सोच रहे होंगे कि ‘केल क्या है? तो इस लेख के जरिए हम इसी सब्जी के बारे में आपको जानकारी देंगे कि काले खाने के फायदे क्या-क्या हैं और इसे कैसे उपयोग किया जा सकता है।

शुरू करते हैं लेख

सबसे पहले लेख के इस भाग में यह जानते हैं कि केल क्या है?

केल क्या है – What is Kale Leaves in Hindi

केल एक हरी पत्तेदार सब्जी है, जिसे लीफ कैबेज (leaf cabbage) भी कहते हैं। यह सिर्फ हरा ही नहीं, बल्कि बैंगनी रंग में भी पाया जाता है। इसे पत्तेदार सब्जियों (cruciferous veggies) की श्रेणी में रखा गया है। यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है, साथ ही इसका स्वाद भी काफी अच्छा होता है। यह ब्रोकली, पत्तागोभी और फूलगोभी के ही परिवार का है (1)।

आगे और पढ़ें

लेख के आगे के भाग में हम आपको सेहत के लिए केल क्यों फायदेमंद है इस बारे में जानकारी देंगे।

केल (काले) आपके सेहत के लिए क्यों अच्छा है?

केल पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है। इसमें विटामिन (ए, सी, के), कैल्शियम, पोटैशियम, फाइबर और कई अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो आपको स्वस्थ रखने का काम कर सकते हैं। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर की कोशिकाओं की क्षति का बचाव कर कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं (1)।

डिटेल में आगे पढ़ें

लेख के आगे के भाग में हम काले के फायदे विस्तार से बताएंगे।

केल के फायदे – Benefits of Kale in Hindi

केल का सेवन करने के कई फायदे हैं, जिनमें से कुछ के बारे में हम नीचे विस्तार से जानकारी दे रहे हैं।

1. हृदय के लिए केल के फायदे

हृदय स्वस्थ तो आप स्वस्थ, लेकिन भागादौड़ भरी दिनचर्या में दिल को सेहतमंद रखना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। वैसे अगर आप सही डाइट लेते हैं, तो हृदय को स्वस्थ रखा जा सकता है। अब जब डाइट की बात आई है, तो आप अपनी आहार में केल को शामिल कर सकते हैं। यह न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट है, बल्कि यह आपके दिल को स्वस्थ रखने का काम कर सकता है। एक शोध में इस बात का जिक्र है कि केल जूस कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर हृदय रोग के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है (1)। इसलिए, हृदय को स्वस्थ रखने के लिए केल के जूस का सेवन करना लाभकारी हो सकता है।

2. पाचन के लिए काले के फायदे

पाचन संबंधी समस्या आम हो चुकी है और लगभग हर कोई इससे परेशान रहता है। ऐसे में खाने का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। पोषक तत्वों में फाइबर पाचन को सही रखने में मददगार साबित हो सकता है। फाइबर के सेवन से पाचन क्रिया दुरुस्त होने के साथ कब्ज की समस्या से भी राहत मिल सकती है (2)। इस स्थिति में केल को आप अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं, क्योंकि केल फाइबर से समृद्ध होता है (3)

3. हड्डियों के लिए केल के लाभ

डायबिटीज एक वैश्विक स्वास्थ्य समस्या बन चुकी है, जिससे एक बड़ी आबादी ग्रसित है। अगर आप इस गंभीर बीमारी से बचना चाहते हैं, तो केल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। डायबिटीज एक वैश्विक स्वास्थ्य समस्या बन चुकी है, जिससे एक बड़ी आबादी ग्रसित है। अगर आप इस गंभीर बीमारी से बचना चाहते हैं, तो केल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। केल में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। साथ ही, यह एंटी-डायबिटिक गुण से समृद्ध होता है, जो मधुमेह के जोखिम से आपको बचा सकता है (5)।

4. मधुमेह के लिए केल के फायदे

डायबिटीज एक वैश्विक स्वास्थ्य समस्या बन चुकी है, जिससे एक बड़ी आबादी ग्रसित है। अगर आप इस गंभीर बीमारी से बचना चाहते हैं, तो केल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। यह एक गुणकारी खाद्य पदार्थ है, जो एंटी-डायबिटिक गुण से समृद्ध होता है, जो मधुमेह के जोखिम से आपको बचा सकता है (5)।

5. डिप्रेशन के लिए काले के फायदे

इस भागदौड़ के दौर में लोगों के पास खुद के लिए भी वक्त नहीं है, साथ ही साथ घर और काम की चिंता लगभग हर किसी को है। ऐसे में कई लोगों को तनाव की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में अगर आप खुद को डिप्रेशन से बचाना चाहते हैं, तो केल के सेवन का लाभ उठा सकते हैं। केल एंटी डिप्रेसेंट (Antidepressant) गुणों से समृद्ध होता है, जो तनाव से आपको राहत देने का काम कर सकता है (6)।

6. कैंसर के लिए केल के फायदे

केल कई पौष्टिक तत्व जैसे – कैल्शियम, पोटैशियम व फाइबर से भरपूर होता है। इतना ही नहीं इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाया जाता है। एंटीऑक्सीडेंट कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है, साथ ही यह कैंसर जैसी घातक बीमारी के जोखिम को कम कर सकता है (1)।

7. एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी

एंटीऑक्सीडेंट शरीर के लिए आवश्यक माना जाता है और यह कैंसर के जोखिम को कम कर सकता है। इसके अलावा, एंटीऑक्सीडेंट अन्य शारीरिक तकलीफों से भी छुटकारा दिला सकता है। शरीर में इसकी पूर्ति के लिए आप केल का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि यह बाकी जरूरी पोषक तत्वों के साथ एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर होता है। एंटीऑक्सीडेंट के साथ केल एंटी-इफ्लेमेटरी गुणों से भी समृद्ध होता है, जो सूजन की समस्या से आपको आराम दिलाने का काम कर सकता है (1) (7)।

8. आंखों के लिए केल के लाभ

आंखों की कमजोरी एक आम समस्या बनती जा रही है, जिसका सबसे बड़ा कारण शरीर में सही पोषण की कमी होना है। ऐसे में केल का सेवन फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि यह आंखों को स्वस्थ रखने का काम करता है (8)। इसके अलावा, यह विटामिन-ए से भी समृद्ध होता है, जो दृष्टि में सुधार के साथ-साथ कम रोशनी में देखने की क्षमता का विकास करता है (3) (9)।

9. रोग प्रतिरोधक शक्ति के लिए केल

शरीर को स्वस्थ रखना है, तो व्यक्ति का इम्यून सिस्टम मजबूत होना जरूरी है। जिन व्यक्तियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, वे जल्दी बीमार पड़ते हैं। मौसम में हल्के बदलाव से भी उन्हें सर्दी-जुकाम और बुखार की समस्या हो सकती है। ऐसे में इम्यून सिस्टम को बेहतर करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन जरूरी हो जाता है। रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के लिए आहार में केल को शामिल किया जा सकता है। केल कई पौष्टिक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो आपको स्वस्थ रहने में मदद कर सकता है (1)(10)।

10. मोटापे के लिए केल

आज लगभग हर दूसरा व्यक्ति बढ़ते वजन से परेशान है। कई लोग मोटापे को कम करने के लिए व्यायाम या योग का सहारा लेते हैं, जो कि सही है, लेकिन इसका असर तब और ज्यादा होगा जब व्यक्ति अपनी डाइट पर भी ध्यान दे। डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल कर आप मोटापे की समस्या से धीरे-धीरे ही सही, लेकिन छुटकारा पा सकते हैं। उन्हीं सब्जियों में से एक है केल। केल की गिनती लो कैलोरी फूड में होती है। इसे सुपरफूड भी कहा जा सकता है। यह कई विटामिन-ए, विटामिन-के, विटामिन-सी, फोलेट जैसे पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें मौजूद डाइट्री फाइबर मोटापे से बचाव का काम कर सकता है (11)।

11. थकान दूर करने के लिए केल

कई बार लोगों को पर्याप्त खाने के बाद भी थकान महसूस होती है, जिसके पीछे भोजन में सही पोषक तत्वों का न होना हो सकता है। एनर्जेटिक बने रहने के लिए भोजन में सही पोषण का होना बहुत जरूरी है। यहां केल एक चमत्कारी भूमिका निभा सकता है, क्योंकि यह कैलोरी के साथ विटामिन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और प्रोटीन से भरपूर होता है, जो थकान को दूर कर आपको ऊर्जावान बनाने का काम करेंगे (3)।

12. गर्भावस्था के दौरान केल

गर्भावस्था के दौरान खान-पान का खास ख्याल रखा जाता है। अगर बात करें केल की, तो गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन किया जा सकता है। इसमें फाइबर मौजूद होता है, जो प्रेगनेंसी के दौरान कब्ज की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (3) (12)। साथ ही इसमें कैल्शियम भी होता है, जो गर्भवती महिला और उसके होने वाले शिशु की हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है (13)। हालांकि, इसे कितना खाना है, इस बारे में डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

13. लिवर के लिए

केल लिवर के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, यह कोलेस्ट्रॉल और फैट को कम करता है, जिससे लिवर स्वस्थ रहता है (14)। अगर शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है, तो लिवर के आसपास फैट जमने लगता है, जो फैटी लिवर का कारण बन सकता है। ऐसे में केल के सेवन से इस समस्या से बचा जा सकता है। इसके अलावा, केल में फाइबर मौजूद होता है (3) जिससे कब्ज जैसी समस्या से भी राहत मिल सकती है(1)। जब पेट साफ रहेगा तो शरीर से विषैले तत्व बाहर निकल जाएंगे और व्यक्ति स्वस्थ रहेगा।

14. यूरिनरी हेल्थ के लिए केल

केल यूरिनरी हेल्थ के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (urinary tract infection-UTI) में यूरिनरी सिस्टम के किसी भी हिस्से में संक्रमण हो सकता है। कई बार यह दर्दनाक भी हो सकता है। ऐसे में विटामिन-सी युक्त केल के सेवन से इसका समाधान किया जा सकता है, क्योंकि विटामिन-सी संक्रमण से लड़ने का काम करता है (15)।

15. विटामिन, फाइबर, कैल्शियम व आयरन से भरपूर केल

केल में विटामिन, फाइबर, आयरन व कैल्शियम जैसे पौष्टिक तत्व पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं (3), जो आपको स्वस्थ रहने में मदद करते हैं। जहां विटामिन-ए और कैल्शियम त्वचा, मस्तिष्क, हड्डियों व दांतों के लिए लाभदायक होते हैं (16) (17), वहीं आयरन एनीमिया से बचाव कर सकता है (18)। इसमें मौजूद फाइबर कब्ज और पेट संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (19)।

16. त्वचा और बालों के लिए केल

केल न सिर्फ आपके स्वास्थ्य के लिए, बल्कि आपके बालों और त्वचा के लिए भी बहुत लाभदायक हो सकता है। केल में नियासिन और विटामिन-सी मौजूद होता है, जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं (3) (20)। साथ ही इसमें फोलेट मौजूद होता है, जो बालों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। केल के सेवन से मेनोपॉज के बाद होने वाली बालों की समस्या से बचाव हो सकता है (21)। इतना ही नहीं इसमें कई अन्य पौष्टिक तत्व भी मौजूद होते हैं, जो आपके त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं।

आर्टिकल पढ़ते रहें

आगे जानिए केल में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं।

केल के पौष्टिक तत्व – Kale Nutritional Value in Hindi

नीचे हम आपके साथ एक सूची शेयर कर रहे हैं, जिसमें केल में मौजूद पौष्टिक तत्वों के बारे में जानकारी दी गई है (3)।

 पोषक तत्व       प्रति 100 ग्राम
पानी89.63 ग्राम
एनर्जी35 केसीएल
प्रोटीन2.92 ग्राम
टोटल लिपिड (फैट)1.49 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट4.42 ग्राम
फाइबर, टोटल डायटरी4.1 ग्राम
शुगर, टोटल 0.99 ग्राम
मिनरल
कैल्शियम254 मिलीग्राम
आयरन1.60 मिलीग्राम
मैग्नीशियम 33 मिलीग्राम
फास्फोरस55 मिलीग्राम
पोटैशियम348 मिलीग्राम
सोडियम53 मिलीग्राम
जिंक0.39 मिलीग्राम
विटामिन
विटामिन सी93.4 मिलीग्राम
थायमिन0.113 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन0.347 मिलीग्राम
नियासिन1.180 मिलीग्राम
विटामिन बी-60.147 मिलीग्राम
फोलेट62 माइक्रोग्राम
विटामिन बी-120.00 माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आरएई241माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आईयू4812 आईयू (IU)
विटामिन ई0.66 मिलीग्राम
विटामिन डी (डी2 + डी3)0.0 माइक्रोग्राम
विटामिन डी0 आईयू (IU)
विटामिन के389.6 माइक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 0.178 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड0.104 ग्राम
 फैटी एसिड, टोटल पोलीअनसैचुरेटेड 0.673 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल ट्रांस0.000 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 0 मिलीग्राम
अन्य
कैफीन0 मिलीग्राम

स्क्रॉल करके आगे पढ़ें

केल के फायदे तब और असरदार होंगे जब आप इसका सेवन सही तरीके से करेंगे। इसलिए, नीचे हम आपको केल को सही तरीके से खाने की जानकारी देंगे।

केल (काले) खाने का सही तरीका – How to Use Kale Leaves in Hindi

Shutterstock

अगर आप इस दुविधा में हैं कि केल को कैसे खाना है, तो अब आपको उलझन में रहने की जरूरत नहीं, नीचे जानिए इसे खाने के विभिन्न तरीके।

  • केल को स्टीम करके आहार में शामिल कर सकते हैं।
  • आप केल को उबालकर सलाद के साथ खा सकते हैं।
  • आप केल का सूप बनाकर पी सकते हैं या केल को अन्य सूप में भी मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
  • आप केल की स्मूदी बना सकते हैं या अन्य स्मूदी में केल के पत्ते मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
  • आप केल के चिप्स बनाकर सेवन कर सकते हैं।
  • आप केल का जूस भी पी सकते हैं।

जानकारी के लिए स्क्रॉल करें

अब बारी आती है यह जानने की कि केल कहां से खरीदें, तो नीचे हम इसकी जानकारी भी दे रहे हैं।

केल कहां से खरीदें? – Where to Buy Kale Leaves in Hindi

इस लेख में काले खाने के फायदे से लेकर इसे खरीदने तक की जानकारी आपको मिलेगी। नीचे पढ़ें कि आप केल कहां से खरीद सकते हैं।

  • आप अपने नजदीकी सुपर मार्केट से केल खरीद सकते हैं।
  • इसके अलावा, आप केल पाउडर को ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

जारी रखें पढ़ना

अब जब आप केल खरीदने के लिए सुपर मार्केट जाने का प्लान बना चुके हैं, तो उसे कैसे चुनें उसके बारे में भी जान लें।

केल (काले) का चयन और सुरक्षित रखने का सही तरीका

नीचे जानिए कि काले के फायदे पाने के लिए सही केल का चुनाव कैसे करें और उसे कैसे ज्यादा दिनों तक स्टोर करके रखें।

  • उन केल का चुनाव करें, जिसकी पत्तियां गहरे रंग और छोटे से मध्यम आकार की हों।
  • नम, कुरकुरा और बिना कटे हुए केल के पत्तों का चुनाव करें।
  • उन पत्तों का चुनाव करें, जिसमें छेद न हो। अगर पत्तों में छेद है, तो समझ जाएं कि उनमें कीड़े हो सकते हैं।
  • पीले या भूरे रंग के पत्तों वाले केल का चुनाव न करें।
  • केल के तने भी खाने योग्य होते हैं, इसलिए सुनिश्चित करें कि वे भी ताजे हों।
  • अगर बात करें केल को स्टोर करने की, तो एक प्लास्टिक की थैली में या फ्रीजर के अंदर केल को स्टोर करके रख सकते हैं।

लेख को अंत तक पढ़ें

केल के फायदे के साथ-साथ उसके कुछ नुकसान भी हैं, जिनके बारे में हम आपको नीचे जानकारी दे रहे हैं।

केल के नुकसान – Side Effects of Kale in Hindi

हम इसके नुकसान के बारे में इसलिए बता रहे हैं, ताकि आपको इसका लाभ अधिक से अधिक मिल सके।

  • अगर केल का सही तरीके से पकाकर सेवन न किया जाए, तो इससे गोइटर (Goitre, थायराइड ग्लैंड का बढ़ना और इसमें सूजन होना) जैसी बीमारी की समस्या हो सकती है (22)। वहीं, केल को हमेशा अच्छी तरह साफ करने के बाद ही बनाएं।
  • केल में ऑक्सलेट मौजूद होता है (3) और इसके अधिक सेवन से किडनी की समस्या हो सकती है (23)।
  • गर्भवती महिलाओं के लिए केल अच्छा आहार है, लेकिन फिर भी अगर आप पहली बार इसका सेवन कर रही हैं, तो एक बार डॉक्टर से इस बारे में परामर्श लें।

अगर अब तक आपने केल को अपने आहार में शामिल नहीं किया है, तो आशा करते हैं कि इस लेख में काले खाने के फायदे जानने के बाद आप इसका सेवन जरूर शुरू कर देंगे। इसके नियमित सेवन से आपको केल के लाभ अपने शरीर में दिखने लगेंगे। वहीं, इसकी सेवन करने से पहले इसकी मात्रा और सावधानियों को ध्यान में जरूर रखें, वरना इसके कुछ दुष्परिणाम भी हो सकते हैं। उम्मीद करते हैं कि हमारा यह लेख आपके लिए लाभकारी साबित होगा। इस तरह की अन्य जानकारी पाने के लिए स्टाइलक्रेज के साथ जुड़े रहें।

संदर्भ (Sources)

  1. Healthy food trends – kale
    ttps://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000729.htm
  2. Fiber
    https://medlineplus.gov/ency/article/002470.htm
  3. Kale
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/323505/nutrients
  4. Bone Health for Life: Health Information Basics for You and Your Family
    https://www.bones.nih.gov/health-info/bone/bone-health/bone-health-life-health-information-basics-you-and-your-family
  5. Antidiabetic Properties of an Apple/Kale Extract In Vitro, In Situ, and in Mice Fed a Western-Type Diet
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/28622482/
  6. Antidepressant foods: An evidence-based nutrient profiling system for depression
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6147775/
  7. Kale: Review on nutritional composition, bio-active compounds, anti-nutritional factors, health beneficial properties and value-added products
    https://www.tandfonline.com/doi/full/10.1080/23311932.2020.1811048
  8. Dietary Sources of Lutein and Zeaxanthin Carotenoids and Their Role in Eye Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3705341/
  9. Vitamin A
    https://medlineplus.gov/ency/article/002400.htm
  10. Kale: An excellent source of vitamin C, pro-vitamin A, lutein and glucosinolates
    https://www.researchgate.net/publication/263429788_Kale_An_excellent_source_of_vitamin_C_pro-vitamin_A_lutein_and_glucosinolates
  11. Lentil and Kale: Complementary Nutrient-Rich Whole Food Sources to Combat Micronutrient and Calorie Malnutrition
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4663599/
  12. 1Macronutrient and Micronutrient Intake during Pregnancy: An Overview of Recent Evidence
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6413112/
  13. Calcium supplementation during pregnancy and lactation: Effects on the mother and the fetus
    https://www.ajog.org/article/S0002-9378(05)00711-8/fulltext
  14. Plants Consumption and Liver Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4499388/
  15. An overview on urinary tract infections and effective natural remedies
    https://www.plantsjournal.com/archives/2017/vol5issue6/PartA/5-6-7-566.pdf
  16. Vitamins
    https://medlineplus.gov/ency/article/002399.htm
  17. Calcium
    https://medlineplus.gov/calcium.html
  18. Iron in diet
    https://medlineplus.gov/ency/article/002422.htm
  19. Fiber
    https://medlineplus.gov/ency/article/002470.htm
  20. Definitions of Health Terms: Vitamins
    https://medlineplus.gov/definitions/vitaminsdefinitions.html
  21. Nutrition of women with hair loss problem during the period of menopause
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4828511/
  22. Naturally Occurring Food Toxins
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3153292/
  23. High potassium level
    https://medlineplus.gov/ency/article/001179.htm

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

ताज़े आलेख