काली किशमिश के 7 फायदे और नुकसान – Black Raisins Benefits and Side Effects in Hindi

Medically Reviewed By Neha Srivastava (Nutritionist), Nutritionist
Written by

शरीर को पर्याप्त पोषण देने के लिए अन्य ड्राई फ्रूट्स के साथ ही काली किशमिश को भी आहार में शामिल किया जा सकता है। माना जाता है कि इसमें कई ऐसे जरूरी पोषक तत्व और गुण होते हैं, जो औषधि का काम कर सकते हैं। इस बात में कितनी सच्चाई है, यह जानने के लिए स्टाइलक्रेज के इस लेख को पढ़ें। यहां हम विस्तार से काली किशमिश खाने के फायदे बताएंगे। साथ ही काली किशमिश का उपयोग करने के तरीके और इसकी अधिकता से होने वाले काली किशमिश के नुकसान की भी जानकारी देंगे। बस तो काली किशमिश के फायदे और नुकसान दोनों जानने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें

स्क्रॉल करें

आर्टिकल की शुरुआत करते हैं सेहत के लिए काली किशमिश के फायदे के साथ।

काली किशमिश के फायदे – Benefits of Black Raisins in Hindi

बेशक, किशमिश के कई रंग और आकार होते हैं, लेकिन सभी किशमिश को अंगूर से ही बनाया जाता है। कुछ को हरे अंगूर से, तो कुछ को काले अंगूर से। अंगूरों की तरह विभिन्न तरह की किशकिश में भी लगभग एक जैसे ही पोषक तत्व पाए जाते हैं। किशमिश में मौजूद पोषक तत्व किस प्रकार फायदेमंद होते हैं, आगे जानिए।

1. रक्तचाप को नियंत्रित रखने के लिए

काली किशमिश खाने के फायदे में रक्तचाप को संतुलित बनाए रखना शामिल है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में भी इस बात का जिक्र है। रिसर्च के अनुसार, काली किशमिश में फाइबर और पोटेशियम की अच्छी मात्रा होती है। ये दोनों पोषक तत्व उच्च रक्तचाप को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। शोध में यह भी जिक्र मिलता है कि किशमिश में पाए जाने वाले पॉलीफेनोल्स भी रक्तचाप को कम करने में अहम भूमिका निभा सकते हैं (1)।

2. एनीमिया

एनीमिया को साधारण शब्दों में खून की कमी कहते हैं। एनीमिया की समस्या तब उत्पन्न होती है, जब शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिसमें सबसे मुख्य आयरन की कमी को माना जाता है। ऐसे में आयरन की पूर्ति के लिए जिन खाद्य पदार्थ का जिक्र किया जाता है, उनमें किशमिश भी शामिल है। मतलब किशमिश में पाया जाने वाला आयरन एनीमिया की समस्या में फायदेमंद हो सकता है (2)। इसी वजह से काली किशमिश के फायदे में एनीमिया को भी गिना जाता है।

3. नुकसानदायक कोलेस्ट्रॉल से राहत

काली किशमिश का उपयोग करके खराब कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है। इससे जुड़ी एक रिसर्च एनसीबीआई की वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। शोध के अनुसार, काली किशमिश का सेवन करके एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) और ट्राइग्लिसराइड (ब्लड में मौजूद एक प्रकार का फैट) को कम किया जा सकता है। बताया जाता है कि किशमिश में मौजूद फाइबर और पॉलिफिनॉल्स कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं (3)।

4. हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए

स्वस्थ हड्डियों के लिए भी काली किशमिश को फायदेमंद माना जाता है। एक शोध के अनुसार, किशमिश में बोरोन मिनरल की अच्छी मात्रा होती है, जो स्केलेटल मेंटेनेंस यानी हड्डियों के रखरखाव में मदद करता है (1)। साथ ही बोरोन को हड्डी स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए भी जाना जाता है (4)। इसके अलावा ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियां नरम और कमजोर) होने से बचाव में भी किशमिश से मदद मिल सकती है।

एक शोध के अनुसार, ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित महिला को प्रतिदिन 250 mg मैग्नीशियम देने से हड्डियों की बोन मिनरल डेंसिटी का स्तर बढ़ सकता है। ऐसे खाद्य पदार्थ, जिनमें मैग्नीशियम की समृद्ध मात्रा होती है. उनमें भी काली किशमिश का नाम शामिल है (4)। यही नहीं, किशमिश में कैल्शियम भी अच्छी मात्रा में होता है, जो हड्डियों को हेल्दी बनाए रखने में सहायक होता है (1)।

5. प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने के लिए

प्रतिरक्षा तंत्र कई प्रकार के संक्रमण और बीमारियों के खतरे को कम कर सकता है (5)। एक रिसर्च के अनुसार, किशमिश का सेवन करने से प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार हो सकता है (6)। कोरोना (कोविड) जैसी समस्या से भी बचाव के लिए किशमिश के सेवन की सलाह दी जाती है। इसे इम्यूनिटी बूस्टिंग खाद्य की श्रेणी में रखा गया है। दरअसल, विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों को इम्यूनिटी बढ़ाने वाला फूड कहा जाता है (7)। किशमिश में भी विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है (8)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि काली किशमिश का उपयोग करने से प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार हो सकता है।

6. त्वचा के लिए

त्वचा के स्वास्थ्य के लिए भी काली किशमिश का सेवन फायदेमंद माना जाता है। दरअसल, किशमिश में  एंटीबैक्टीरियल प्रभाव होते हैं, जो त्वचा से जुड़े कई बैक्टीरियल संक्रमण से बचाव और आराम दिलाने में मदद कर सकते हैं। किशमिश में मौजूद एंटी बैक्टीरियल प्रभाव एस.औरियस (Staphylococcus Aureus) जैसे बैक्टीरिया से लड़ने में अहम भूमिका निभा सकते हैं (9)। एस.औरियस बैक्टीरिया शरीर से जुड़े कई संक्रमण के साथ ही स्किन इंफेक्शन का भी कारण बनते हैं (10)।

7. बालों के लिए

एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, विटामिन सी और आयरन की कमी से बाल झड़ने की समस्या उत्पन्न हो सकती है (11)। यहां भी काली किशमिश के लाभ देखे जा सकते हैं, क्योंकि इसमें आयरन और विटामिन-सी दोनों ही पाए जाते हैं (8)। ऐसे में बालों की समस्या से राहत पाने के लिए काली किशमिश को दैनिक आहार में जगह दी जा सकती है।

पढ़ना जारी रखें

काले किशमिश खाने के फायदे के बाद अब आगे काली किशमिश के पौष्टिक तत्वों के बारे में जानिए।

काली किशमिश के पौष्टिक तत्व – Black Raisins Nutritional Value in Hindi

काली किशमिश में मौजूद पोषक तत्व ही इसे सेहत के लिए कई प्रकार से फायदेमंद बनाते हैं। यहां काली किशमिश में मौजूद इन्हीं पोषक तत्वों के बारे में बता रहे हैं (8)।

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
ऊर्जा300 kcal
प्रोटीन3.57 g
कार्बोहाइड्रेट78.57 g
फाइबर3.6 g
शुगर60.71 g
कैल्शियम Ca36 mg
आयरन, Fe1.93 mg
सोडियम, Na11 mg
विटामिन सी2.1 mg

पढ़ते रहें लेख

काला किशमिश के फायदे के बाद काले किशमिश के उपयोग के बारे में जानते हैं।

काली किशमिश का उपयोग – How to Use Black Raisins in Hindi

काली किशमिश का सेवन अलग-अलग तरीकों से किया जा सकता है। नीचे जानिए काली किशमिश खाने ये तरीके।

कैसे खाएं:

  • इसे कुकीज में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • काली किशमिश को केक बनाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • इसे अन्य ड्राई फ्रूट्स के साथ मिलाकर खाया जा सकता है।
  • इसे रात भर पानी में भिगोकर, अगली सुबह खाया जा सकता है।
  • मीठे पकवानों में इसका इस्तेमाल स्वाद बढ़ाने के लिए किया जा सकता है।
  • काली किशमिश को दूध के साथ भी खाया जा सकता है।

कब खाएं:

  • काली किशमिश को सीधे या अन्य ड्राई फ्रूट के साथ सुबह और शाम के वक्त खाया जा सकता है।
  • दोपहर या रात के खाने के बाद काली किशमिश युक्त मिठाई का सेवन किया जा सकता है।
  • रात में सोने से पहले काली किशमिश को दूध के साथ लिया जा सकता है।
  • रातभर पानी में भिगोई हुई काली किशमिश सुबह खा सकते हैं।

कितना खाएं:

अन्य ड्राई फ्रूट्स के साथ 10 से 12 काली किशमिश को रात में भिगोकर प्रतिदिन सुबह खाया जा सकता है। शरीर के अनुसार, इसके सेवन की उचित मात्रा और काली किशमिश खाने का तरीका जानने के लिए आहार विशेषज्ञ से सलाह लेना बेहतर होगा।

आगे स्क्रॉल करें

काली किशमिश के फायदे और उपयोग के बाद अब जानिए काली किशमिश के नुकसान क्या हैं।

काली किशमिश के नुकसान – Side Effects of Black Raisins in Hindi

यूं तो काली किशमिश के फायदे ही होते हैं, लेकिन इसका अधिक सेवन करने से निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं।

  • किशमिश एक हाई ग्लाइसेमिक (Glycemic) खाद्य पदार्थ है। ऐसे में इसका अधिक सेवन करने से मधुमेह का जोखिम बढ़ सकता है (12)।
  • काली किशमिश में अधिक कैलोरी होती है (8)। ऐसे में इसका अधिक सेवन करने से वजन बढ़ाने का खतरा हो सकता है (13)।
  • कुछ संवेदनशील लोगों को काली किशमिश के सेवन से एलर्जी हो सकती है (14)।

आप लेख के जरिए काली किशमिश के फायदे और नुकसान के बारे में अच्छे से जान गए होंगे। वैसे इसमें कोई दो राय नहीं कि काली किशमिश का सेवन सावधानी और सीमित मात्रा में करने से यह सेहतमंद ही साबित होते हैं। इसलिए, काले किशमिश के लाभ प्राप्त करने के लिए बेझिझक इसे दैनिक आहार में शामिल किया जा सकता है। बस इसकी मात्रा को हमेशा सीमित ही रखें, नहीं तो लेख में बताए गए दुष्प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है। उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपको पसंद आया होगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या वजन कम करने के लिए काली किशमिश अच्छी है?

हां, काली किशमिश का सीमित मात्रा में सेवन करने से वजन कम व नियंत्रित हो सकता है। दरअसल, इसमें डाइट्री फाइबर और प्रीबायोटिक होते हैं, जिनकी मदद से वजन नियंत्रण में सहायता मिल सकती है (15)।

अगर हम रोज काली किशमिश खाते हैं तो क्या होता है?

सीमित मात्रा में काली किशमिश का रोजाना सेवन फायदेमंद हो सकता है। इससे इम्यूनिटी बढ़ने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप के खतरे से बचा जा सकता है।

हरी और काली किशमिश में से कौन-सी बेहतर है?

दोनों ही किशमिश अंगूर को सुखाकर बनाई जाती है। ऐसे में दोनों को ही फायदेमंद माना जा सकता है। हां, इन्हें सुखाने के तरीके के कारण इनके पोषक तत्वों पर असर पड़ सकता है।

क्या काली किशमिश वजन बढ़ाती है?

हां, अधिक मात्रा में काली किशमिश का सेवन करने से वजन बढ़ सकता है। इसमें कैलोरी की अच्छी मात्रा होती है (8)। अधिक कैलोरी से वजन बढ़ाने का जोखिम बढ़ सकता है (13)।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

    1. Is Eating Raisins Healthy?
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7019280/
    2. Anemia
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK499994/
    3. Raisins and additional walking have distinct effects on plasma lipids and inflammatory cytokines
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2329638/
    4. Essential Nutrients for Bone Health and a Review of their Availability in the Average North American Diet
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3330619/
    5. Immune System and Disorders
      https://medlineplus.gov/immunesystemanddisorders.html
    6. Raisin Consumption by Humans: Effects on Glycemia and Insulinemia and Cardiovascular Risk Factors
      https://onlinelibrary.wiley.com/doi/full/10.1111/1750-3841.12071
    7. Immunity boosting diet during Covid 19
      https://pharmascope.org/ijrps/article/view/3089/6983
    8. BLACK RAISINS
      https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/359037/nutrients
    9. Identification of phenolic compounds, antibacterial and antioxidant activities of raisin extracts
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6356098/
    10. Staphylococcal Infections
      https://medlineplus.gov/staphylococcalinfections.html
    11. The Role of Vitamins and Minerals in Hair Loss: A Review
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6380979/
    12. Fruit consumption and risk of type 2 diabetes: results from three prospective longitudinal cohort studies
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3978819/
    13. The Effects of Overfeeding on Body Composition: The Role of Macronutrient Composition – A Narrative Review
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5786199/
    14. Raisin allergy in an 8 year old patient
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4304147/
    15. Acute effects of raisin consumption on glucose and insulin reponses in healthy individuals
      https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4153099/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Neha Srivastava (Nutritionist)

(Nutritionist)
Neha Srivastava - Nutritionist M.Sc -Life Science PG Diploma in Dietetics & Hospital Food Services. I am a focused health... more

ताज़े आलेख