कटहल के बीज के 6 फायदे, उपयोग और नुकसान – Jackfruit Seeds Benefits and Side Effects in Hindi

Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

हम आहार में कई ऐसी सब्जियों को शामिल करते हैं, जिन्हें बीजों के साथ थाली में जगह दी जाती है। कटहल भी उन्हीं में से एक है, जिसे फल होते हुए सब्जी के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। इसका कारण कुछ और नहीं, बल्कि कटहल का स्वाद है। बेशक! यह खाने में स्वादिष्ट होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह शारीरिक समस्याओं से बचाव में भी काम आता है। जी हां, कटहल के बीज के गुण के कारण स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम कटहल बीज के फायदे और कटहल के बीज का उपयोग बताने जा रहे हैं। इन सब के बारे में जानने से पहले यह भी समझ लें कि कटहल के बीज केवल लेख में शामिल समस्याओं में राहत दिला सकता है। पूर्ण इलाज के लिए डॉक्टरी सलाह लेनी जरूरी है।

पढ़ते रहें लेख

आइए, लेख में आगे बढ़ने से पहले हम कटहल का बीज क्या होता है? इस बारे में जान लेते हैं।

कटहल का बीज क्या होता है?

कटहल को काटने के बाद उसके गूदे के बीच में मौजूद छोटा अंश ही कटहल का बीज कहलाता है। लोग कटहल के गूदे के साथ ही इसे भी बड़े चाव से खाते हैं। यह दिखने में भूरे रंग का होता है। इसमें कई तरह के जरूरी विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं (1)। इनके कारण होने वाले फायदों के बारे में हम लेख में आगे विस्तार से बताएंगे।

आगे पढ़ें

कटहल का बीज क्या होता है, जानने के बाद हम कटहल के बीज के फायदे बता रहे हैं।

कटहल के बीज के फायदे – Benefits of Jackfruit Seeds in Hindi

लेख के इस भाग के माध्यम से अब हम कटहल के बीज के फायदे के बारे में बता रहे हैं। यहां मौजूद सभी जानकारी वैज्ञानिक शोध के आधार पर दी गई है। चलिए, जान लेते हैं, कटहल के बीज के फायदे के बारे में, जो कुछ इस प्रकार हैं :

1. कैंसर से बचाव

कैंसर की समस्या से बचने में कटहल के बीज खाने के फायदे हो सकते हैं। जैकफ्रूट सीड से संबंधित एक शोध के मुताबिक इनमें एंटीकर्सिनोजेनिक (Anticarcinogenic) प्रभाव होता है। यह इफेक्ट कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकता है। इसी कारण से इसे कैंसर से बचने में मददगार माना जाता है (2)। ध्यान रहे कि कैंसर होने पर कटहल के बीज के भरोसे नहीं बैठा जाना चाहिए। कैंसर से ग्रस्त मरीज को डॉक्टर से इलाज करवाना चाहिए, क्योंकि कैंसर एक जानलेवा और घातक बीमारी है।

2. पाचन में मदद करे

पाचन को मजबूत बनाने में भी जैकफ्रूट सीड अहम भूमिका निभा सकते हैं। इस बात की पुष्टि कटहल से संबंधित एक शोध से होती है। रिसर्च में जिक्र मिलता है कि कटहल के बीज में मौजूद फाइबर पाचन स्वास्थ्य को बनाए रखने में सहायक हो सकते हैं (3)। इसी आधार पर कटहल के बीज के लाभ में पाचन को भी गिना जाता है।

3. कोलेस्ट्रोल को कम करे

बढ़े हुए कोलेस्ट्रोल की समस्या को नियंत्रित करने के लिए भी जैकफ्रूट सीड को उपयोग किया जा सकता है। नाइजीरिया की ओदुदुवा यूनिवर्सिटी के मुताबिक, इसमें मौजूद सैपोनिंस कंपाउंड कोलेस्ट्रोल को कम कर सकता है। शोध में यह भी बताया गया है कि इसकी मात्रा भुने हुए कटहल के बीज में कम हो सकती है (4)।

साथ ही कटहल के बीज में मौजूद फ्लेवेनोइड तत्व भी कोलेस्ट्रोल को कम कर सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन की मानें, तो यह खराब कोलेस्ट्रोल (एलडीएल) को कम करके एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढ़ाने में सहायक हो सकता है। बस ध्यान दें कि भीगे हुए बीज खराब कोलेस्ट्रोल (एलडीएल) को बढ़ा भी सकते हैं (2)। इसी आधार पर कहा जाता है कि कटहल के बीज खाने के फायदे में कोलेस्ट्रोल कम करना का गुण भी शामिल है।

4. एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव से समृद्ध

कटहल बीज के गुण में एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव भी शामिल है। जैकफ्रूट सीड से संबंधित एक शोध में बताया गया है कि इसके सूक्ष्म कणों में एंटीमाइक्रोबियल (सूक्ष्म जीवाणुओं को नष्ट करने वाला) गुण होता है। इसके कारण यह शरीर को संक्रामक बीमारियों के प्रभाव से बचा सकता है। साथ ही कुछ खाद्य पदार्थों में मौजूद पैथोजेन्स (बीमारी फैलाने वाले बैक्टीरिया या वायरस) के प्रभाव को कम करने में भी यह मदद कर सकता है (5)।

5. एनीमिया

कटहल के बीज खाने के फायदे आयरन की कमी के कारण होने वाली एनीमिया की समस्या में भी मददगार हो सकते हैं। कटहल से संबंधित एक शोध में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि कटहल और कटहल के बीज आयरन से समृद्ध होते हैं। ऐसे में कटहल के बीज एनीमिया से बचाव में सहायक हो सकते हैं। इसी वजह से खून की कमी को दूर करने के लिए कटहल के बीज और कटहल का उपयोग किया जाता है (6)।

6. त्वचा के लिए उपयोगी

त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने में भी कटहल के बीज सहायक हो सकते हैं। कटहल के बीज से जुड़े एक रिसर्च में जिक्र मिलता है कि यह थियामिन और राइबोफ्लेविन जैसे विटामिन से समृद्ध होते हैं। ये दोनों ही विटामिन त्वचा के लिए जरूरी माने जाते हैं। इसी आधार पर शोध में कहा गया है कि कटहल के बीज के लाभ में त्वचा को स्वस्थ बनाना भी शामिल है (7)।

स्क्रॉल करें

कटहल के बीज खाने के फायदे के बाद कटहल के बीज के पौष्टिक तत्वों पर एक नजर डाल लेते हैं।

कटहल के बीज के पौष्टिक तत्व – Jackfruit Seed Nutritional Value in Hindi

चार्ट के माध्यम से हम कटहल के बीज के पौष्टिक तत्वों को नीचे बता रहे हैं। कटहल के बीज के फायदे इन्हीं पोष्टिक तत्वों की वजह से शरीर को होते हैं। आइए, इसके बारे में जानते हैं (8)।

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी51.0 g
प्रोटीन6.6 g
टोटललिपिड (फैट)0.40 g
कार्बोहाइड्रेट25.8 g
फाइबर1.0 g
मिनरल
कैल्शियम50 mg
आयरन1.5 mg
मैग्नीशियम54 mg
फास्फोरस38 mg
पोटैशियम246 mg
सोडियम63 mg
विटामिन
विटामिन-सी11 mg
थियामिन0.25 mg
राइबोफ्लेविन0.11 mg
विटामिन-ए10 IU

अब पढ़ें उपयोग

लेख के अगले भाग में हम बताएंगे कि कटहल के बीज का उपयोग कैसे किया जा सकता है।

कटहल के बीज का उपयोग – How to Use Jackfruit Seeds in Hindi

कटहल के बीज का उपयोग करने के तरीकों को निम्न बिन्दुओं के माध्यम से समझा जा सकता है (1)।

  • कटहल की सब्जी बनाते हुए इन बीजों को उसके साथ पकाकर खाया जाता है।
  • इन बीजों को अलग से फ्राई करके स्नैक्स के रूप में शाम में लिया जा सकता है।
  • चाहें तो इन बीजों को पीसकर इसकी स्मूदी भी बना सकते हैं।
  • इन बीजों को भूनकर सुबह या शाम के नाश्ते में भी खाने के लिए उपयोग किया जा सकता है।
  • इसे उबालकर भी खाया जा सकता है।
  • कटहल के सूखे बीजों का आटा बनाकर भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

सेवन की मात्रा- वैसे तो इसके एक दिन की खाद्य मात्रा पर किसी तरह का शोध उपलब्ध नहीं है। फिर भी माना जाता है कि दिनभर में मुट्ठीभर कटहल के बीज का सेवन किया जा सकता है। इसकी अधिकता होने पर कटहल के बीज के नुकसान भी हो सकते हैं, जिसके बारे में हम आगे बताएंगे।

बन रहें हमारे साथ

अब हम कटहल के बीज का सेवन करते समय बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बात करेंगे।

कटहल के बीज लेने से पहले की सावधानियां

कटहल के बीज लेने से पहले निम्न बातों पर गौर करना जरूरी है।

  • कटहल के बीजों को सेवन करने से पूर्व अच्छे से पका लें।
  • बीजों को इस्तेमाल से पहले जांच लें कि वह अधिक कठोर या नर्म तो नहीं हैं।
  • किसी भी सूरत में कटहल के बीजों को कच्चा न खाएं।
  • कटहल के बीजों पर एक परत चढ़ी होती है, जो काफी कठोर होती है। खाने से पूर्व उसे निकालना न भूलें।
  • एक ही बार में बहुत सारे कटहल के बीज का सेवन करने से बचें।

महत्वपूर्ण जानकारी नीचे है

आगे कटहल के बीज के नुकसान पर एक नजर डाल लेते हैं।

कटहल के बीज के नुकसान – Side Effects of Jackfruit Seeds in Hindi

कटहल के बीज के फायदे ऊपर हम बता चुके हैं। फायदे के साथ ही कटहल के बीज के नुकसान के बारे में जान लेना भी जरूरी है। निम्न बिन्दुओं के माध्यम से इसके नुकसान को समझा जा सकता है (7):

  • हाई बीपी की समस्या के लिए दवा लेने वालों को कटहल के बीज का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि कटहल बीज के गुण में बीपी को कम करने वाला प्रभाव पाया जाता है।
  • अगर कोई डायबिटीज की समस्या में दवा ले रहा है, तो इन बीजों के सेवन से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें। दरअसल, इसमें ब्लड शुगर को कम करने का गुण होता है।
  • कटहल बीज के गुण में खून को पतला करने का प्रभाव भी शामिल है। इसी वजह से खून को पतला करने वाली दवा के साथ इसका उपयोग न करें।
  • अगर किसी को विशेष खाद्य पदार्थ से एलर्जी की शिकायत है, तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।
  • कटहल के बीजों में हल्की विषाक्तता पाई जाती है। हालांकि, इसका सेहत और स्वास्थ्य पर कोई विषैला प्रभाव नहीं होता। फिर भी सावधानी के लिए इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए (9)।

कटहल के बीज के गुण और कटहल के बीज के लाभ से परिचित होने के बाद मुमकिन है कि आप भी कटहल के बीज का उपयोग करने के बारे में सोच रहे होंगे। इसके लिए लेख में दिए तरीकों को अपना कर कटहल के बीज के फायदे पाए जा सकते हैं। हां, इसके इस्तेमाल से पहले कटहल के बीज के नुकसान को भी ध्यान में रखें। ऐसा करने से इसके दुष्प्रभाव से बचकर सिर्फ कटहल के बीज के लाभ उठाए जा सकते हैं। स्वास्थ्य संबंधी ऐसे ही लेख पढ़ने के लिए स्टाइलक्रेज की वेबसाइट पर विजिट करते रहें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या कटहल के बीज खाना ठीक है?

जी बिल्कुल, कटहल के बीज का सेवन किया जाता है। इसी वजह से कटहल के बीज के फायदे लेख में विस्तार से बताए गए हैं।

क्या कटहल के बीज जहरीले होते हैं?

कटहल के बीज में हल्की विषाक्तता पाई जाती है, लेकिन इसका शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है (9)।

क्या कटहल के बीज से गैस बनती है?

हां, इससे हल्की गैस बन सकती है। दरअसल, कटहल के बीज में फाइबर पाया जाता है (10)। फाइबर की अधिकता पेट में गैस बना सकती है (11)।

कटहल के बीज कितने दिनों तक चलते हैं?

कटहल के बीजों को अगर सुखाकर रखा जाए, तो इन्हें करीब तीन महीन के लिए सुरक्षित रखा जा सकता है।

क्या डायबिटिक कटहल के बीज खा सकते हैं?

हां, कटहल में ब्लड शुगर को कम करने वाला गुण पाया जाता है (7)। इसी वजह से यह डायबिटिक व्यक्ति के लिए अच्छा हो सकता है। बस ध्यान दें कि डायबिटीज की दवा के साथ इसका सेवन डॉक्टर के परामर्श के बाद ही करें।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Check out our editorial policy for further details.
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.
पुजा कुमारी ने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में एमए किया है। इन्होंने वर्ष 2015 में अपने... more

ताज़े आलेख