केले के फेस पैक लगाने के फायदे – Benefits of Banana Face Pack in Hindi

by

स्वस्थ और सुंदर चेहरे की चाहत हर किसी को होती है। खूबसूरत दिखने के लिए लोग कई तरह की क्रीम और ट्र्रीटमेंट की भी मदद लेते हैं। इन सबके अलावा, फेस पैक भी दमकती त्वचा पाने का एक बेहतरीन तरीका है। चेहरे के लिए यूं तो कई तरह के फेस मास्क को इस्तेमाल में लाया जा सकता है, लेकिन स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम केले के फेस पैक लगाने के फायदे बता रहे हैं। हम केले और इसके साथ इस्तेमाल की जा रही अन्य सामग्रियों पर हुए शोध के आधार पर विभिन्न तरीके के केले के फेस पैक के लाभ के बारे में जानकारी देंगे।

इस लेख में हम केले के फेस पैक लगाने से पहले बरती जाने वाली सावधानियां और टिप्स भी बताएंगे। पाठक ध्यान दें कि केले के फेस पैक लेख में बताई गई किसी भी त्वचा समस्या का इलाज नहीं हैं। ये केवल इन समस्याओं के उपचार में सहायक भूमिका निभा सकते हैं।

चलिए, सबसे पहले केले के फेस पैक के फायदे के बारे में जान लेते हैं।

केले के फेस पैक के फायदे – Benefits of Banana Face Pack in Hindi

1. ग्लोइंग स्किन

केले को स्किन का ग्लो बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स स्किन डिटॉक्सिफायर की तरह काम कर चेहरे पर मौजूद विषाक्त प्रदूषकों और मृत कोशिकाओं को हटाने का काम करते हैं। साथ ही यह चेहरे को जरूरी पोषक तत्व देता है, जिसके फलस्वरूप चेहरे पर चमक देखने को मिल सकती है (1)। इसके अलावा, केले में विटामिन-सी भी होता है, जो स्किन को ग्लो करने के लिए जाना जाता है (2)। विटामिन-सी चेहरे को निखारने में मदद करता है, जिससे चेहरा दमकता हुआ नजर आता है (3)

2. मुंहासे

मुंहासों की समस्या से परेशान लोगों के लिए केले का फेसपैक फायदेमंद हो सकता है। माना जाता है कि केला बतौर एंटी-एक्ने काम करता है, जिसकी मदद से चेहरे पर बार-बार होने वाले जिद्दी पिंपल से बचने में मदद मिल सकती है (4)। केले में जिंक एलिमेंट भी होता है, जिसे मुंहासे के इलाज के लिए जाना जाता है (2) (5)

3. एंटी-एजिंग

केले को बढ़ती उम्र से बचाव करने के लिए भी जाना जाता है। इसमें मौजूद एंटी-एजिंग गुण चेहरे को जवां बनाए रखने में मदद करते हैं (4)। इसके अलावा, केले में मौजूद विटामिन-सी भी एंटी-एजिंग की तरह काम करता है (3)। विटामिन-सी झुर्रियों को कम करता है। साथ ही यह त्वचा में कसावट लाने और सूर्य की किरणों की वजह से चेहरे पर समय से पहले दिखने वाले एजिंग के लक्षणों को कम करने में भी मदद करता है (6)। केले को फेसपैक की तरह इस्तेमाल करने के साथ ही इसका सेवन भी त्वचा के लिए लाभदायक हो सकता है।

4. मॉइस्चराइज

केले को चेहरे को नमी देने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। केले में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स त्वचा को आवश्यक पोषक तत्व देकर इसे मॉइस्चराइज करने का काम कर सकते हैं (1)। माना जाता है कि यह चेहरे के साथ ही स्कैल्प को भी मॉइस्चराइज करने का काम करता है (7)। हालांकि, इस पर अधिक शोध नहीं हुआ है, जिस वजह से यह स्पष्ट नहीं है कि इसमें ऐसा कौन सा तत्व है, जो स्किन को मॉइस्चराइज करने का काम करता है।

लेख में आगे हम केले के विभिन्न फेस पैक और केले के फेस पैक के फायदे के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

केले के फेस पैक – Banana Face Pack in Hindi

1. केला और शहद फेस मास्क

सामग्री:

  • 1 केला
  • एक चम्मच ओटमील
  • एक चम्मच शहद

उपयोग का तरीका:

  • ब्लैंडर में ओट्स को डालकर पेस्ट बना लें।
  • फिर केले का भी पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब दोनों सामग्रियों को एक कटोरी में निकालकर शहद डालें।
  • शहद डालने के बाद अच्छे से मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण को चेहरे पर हल्के हाथों से लगा लें।
  • केले के फेस मास्क के सूखने के बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे लाभदायक है:

केले में मौजूद एंटी-एजिंग गुण त्वचा को जवां रखने और चमकदार बनाने में मदद कर सकते हैं। वहीं शहद में मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण मुंहासों की वजह बनने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने और पिंपल को ठीक करने में मददगार हो सकते हैं। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) पर उपलब्ध एक रिसर्च में भी शहद को मुहांसों के लिए फायदेमंद माना गया है। शोध के समय मुंहासे के इलाज के लिए 12 हफ्तों तक जिन्होंने शहद का इस्तेमाल प्रभावित हिस्से पर किया, उनमें सुधार देखा गया (8)। माना जाता है कि शहद चेहरे को इंफेक्शन से बचाता है और त्वचा को नमी देता है (9)। ओट्स की बात करें तो यह सैपोनिन कम्पाउंड की मौजूदगी की वजह से त्वचा की गहराई से सफाई करता है। साथ ही ओट्स को चेहरे को आराम पहुंचाने और स्किन को मॉइस्चराइज करने में लाभदायक पाया गया है (10)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

केले और शहद फेस मास्क का फायदा तैलीय, रूखी त्वचा और मिश्रित यानी सभी प्रकार की त्वचा वाले लोग उठा सकते हैं।

2. केला और बटर फेसमास्क

सामग्री:

  • 1 पका हुआ केला
  • 1 बड़ा चम्मच मक्खन या मलाई
  • कुछ गुलाब की पंखुड़ियां या गुलाब जल

उपयोग का तरीका:

  • केले को मैश करके पेस्ट तैयार करें।
  • मक्खन को भी अच्छे से फेंट लें।
  • अगर मक्खन उपलब्ध नहीं है, तो मलाई का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • अब सभी सामग्रियों को मिलाकर अच्छे से फेंटें।
  • मिश्रण तैयार होने के बाद इसे पूरे चेहरे पर लगाएं।
  • करीब आधे घंटे बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे लाभदायक है:

मक्खन और केले से बना यह फेस पैक रूखी त्वचा वाले लोगों के लिए अल्ट्रा हाइड्रेटिंग की तरह काम कर सकता है। केले के एंटीएक्ने और एंटीएजिंग गुण एक ओर चेहरे को जवां रखने और मुहांसों से बचाने में मदद करेंगे (4)। वहीं दूसरी ओर मक्खन में मौजूद फैट, चेहरे को अच्छे से मॉइचराइज कर शुष्क त्वचा की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (11)। दूध की क्रीम भी चेहरे के रूखेपन को दूर करने के साथ ही त्वचा को चमकदार बनाने के लिए जानी जाती है (12)। गुलाब की पंखुड़ियों का अर्क यूवी रेज की वजह से ढीली होती त्वचा (Skin deterioration) को ठीक करने में मदद कर सकता है (13)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

इस केले के फेस पैक को सिर्फ रूखी त्वचा वाले लोगों को उपयोग में लाना चाहिए

3. योगर्ट और केला फेस मास्क

सामग्री:

  • एक चम्मच केले का पेस्ट
  • एक चम्मच दही (योगर्ट)
  • एक चम्मच खीरे का रस

उपयोग का तरीका:

  • सभी सामग्रियों को एक साथ मिक्स कर लें।
  • अब इन्हें अच्छे से फेंट कर मास्क तैयार करें।
  • पेस्ट तैयार होते ही इसे हल्के हाथों से चेहरे पर लगा लें।
  • केले का फेस पैक सूखने के बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे लाभदायक है:

केले को दमकती त्वचा पाने के लिए फेस मास्क की तरह दही के साथ भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है। केले के फायदे तो हम ऊपर बता ही चुके हैं। वहीं, दही में मौजूद लैक्टोबैसिली (Lactobacilli) प्रीबायोटिक्स चेहरे को झुर्रियों से दूर रख त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद कर सकता है (14) (3)। केले के फेस मास्क में मौजूद खीरा विटामिन-सी, ए और अन्य एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होने की वजह से सूदिंग व मॉइस्चराइजिंग प्रभाव दिखाता है। इसके अलावा, खीरे में मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी गुण एक्ने से होने वाली सूजन से आराम दिलाने में मदद कर सकता है (15)। इतना ही नहीं, खीरा सनबर्न के दर्द को कम करने और त्वचा पर मौजूद गंदगी को साफ करने का काम भी कर सकता है (16)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

इस फेस पैक को रूखी त्वचा वाले लोग इस्तेमाल में ला सकते हैं।

4. केला और नींबू फेस मास्क

सामग्री:

  • 1 केला
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • आधा चम्मच पानी
  • एक चम्मच शहद

उपयोग करने का तरीका:

  • केले को ब्लैंडर में मैश कर लें।
  • इसे एक कटोरी में निकालकर नींबू, पानी और शहद डालें।
  • अब इन सभी सामग्रियों को अच्छी तरह फेंट लें।
  • पेस्ट तैयार होने के बाद इसे पूरे चेहरे पर हल्के हाथों से लगा लें।
  • अतं में फेस मास्क सूखने के बाद त्वचा को धो लें।

कैसे लाभदायक है:

केले और नींबू से बना फेस मास्क चेहरे की रंगत को निखारने के लिए लाभदायक हो सकता है। केले और नींबू दोनों में विटामिन-सी होता है, जो चेहरे के पिगमेंट को कम करके रंग साफ करने में मदद कर सकता है। साथ ही केले में मौजूद विटामिन-सी, ए और ई चेहरे पर स्किन लाइटनर की तरह का काम कर सकते हैं। इसके अलावा, केले का इस्तेमाल झुर्रियों को दूर करने में भी किया जा सकता है (7) (17)। नींबू में मौजूद विटामिन सी एंटी-एजिंग की तरह काम करने के साथ ही ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से भी बचाता है, जो स्किन एजिंग का कारण होता है। इसके अलावा, विटामिन सी फोटो-एजिंग (सूर्य की किरणों से त्वचा पर पड़ने वाली झुर्रियों) से बचा सकता है (18)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

नींबू और केले के फेस पैक मिश्रित व तैलिय त्वचा वाले लोग इस्तेमाल कर सकते हैं।

5. केला और विटामिन-ई पैक

सामग्री:

  • दो चम्मच केले का ताजा पेस्ट
  • दो विटामिन-ई की गोली या ऑयल की कुछ बूंदें
  • शहद (वैकल्पिक)

उपयोग का तरीका:

  • सभी सामग्रियों को एक कटोरी में डाल लें।
  • विटामिन-ई की गोलियों के अंदर मौजूद तरल को भी सामग्री वाली कटोरी में डालें।
  • अब इन्हें अच्छे से फेंट कर पेस्ट तैयार करें।
  • मिश्रण तैयार होने के बाद हल्के हाथों से चेहरे पर लगा लें।
  • करीब 20 मिनट या फेस पैक सूखने के बाद त्वचा को धो लें।

कैसे लभदायक है:

केला और शहद दोनों चेहरे के लिए कितने फायदेमंद हैं, यह तो हम ऊपर बता ही चुके हैं। दोनों त्वचा को नमी देने, जवां रखने और पिंपल से बचाने में अहम योगदान देते हैं। वहीं, विटामिन-ई त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए जाना जाता है। यह या इससे युक्त तेल त्वचा संबंधी समस्या जैसे, जेरोसिस (Xerosis) मतलब रूखेपन की समस्या, एटॉपिक डर्मेटाइटिस (त्वचा का लाल, रूखा और खुजलीदार हो जाना) और अल्सर जैसी परेशानियों को कम कर सकता है। जानवरों और मनुष्यों पर किए गये एक शोध के मुताबिक इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट स्किन एजिंग, सनबर्न और इंफ्लामेटरी बीमारियों से त्वचा को बचाने में मदद कर सकता है (19) (20)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

इस केले के फेसमास्क को सभी प्रकार की त्वचा वाले लोग इस्तेमाल में ला सकते हैं।

6. केले और हल्दी फेस पैक

सामग्री:

  • एक चम्मच केले का पेस्ट
  • एक चम्मच शहद
  • आधा चम्मच हल्दी पाउडर

उपयोग का तरीका:

  • तीनों सामग्रियों को अच्छे से मिलाकर मिश्रण तैयार करें।
  • पेस्ट तैयार होने के बाद हल्के हाथों से चेहरे पर लगा लें।
  • करीब 15 से 20 मिनट तक छोड़ दें।
  • अब चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे लाभदायक है:

केला और शहद मुंहासों को कम करने, स्किन को जवां बनाए रखने और त्वचा को नमी देने का काम करते हैं, यह तो हम ऊपर बता ही चुके हैं। वहीं, धूल-मिट्टी व प्रदूषण की वजह से त्वचा की चमक लगातार फीकी पड़ने लगती है। साथ ही स्किन संक्रमण का भी खतरा बना रहता है। ऐसे में हल्दी त्वचा के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। इसमें मौजूद करक्यूमिन (Curcumin) स्किन कैंसर और अन्य संक्रमण के जोखिम से बचाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह त्वचा पर बुरा प्रभाव डालने वाले बैक्टीरिया से भी लड़ने में मदद करता है (21) (22)। इसके अलावा, हल्दी में नियासिन यानी विटामिन-बी3 होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। यह हाइपरपिगमेंटेशन को ठीक करके चेहरे को साफ करने का काम कर सकता है (21) (17)

उपयुक्त त्वचा प्रकार:

इस केले के फेस मास्क के फायदे सभी प्रकार के चेहरे वाले लोग उठा सकते हैं।
लेख में आगे अब हम केले के फेस पैक लगाने के कुछ जरूरी टिप्स बता रहे हैं।

केले के फेस पैक लगाने के लिये कुछ और टिप्स – Other Tips To Use Banana Face Pack in Hindi

केले के फेस पैक के फायदे तो आप जान गए हैं। अब यह फेस पैक लगाने से संबंधित कुछ जरूरी टिप्स हम बता रहे हैं, जो आपकी मदद करेंगे।

  • केले का फेस पैक लगाते वक्त नरम ब्रश या हल्के हाथों का ही इस्तेमाल करें।
  • फेस पैक लगाते समय ध्यान रखें कि चेहरे पर किसी तरह का दबाव न बनाएं।
  • नींबू फेस मास्क सभी किस्म की स्किन के अनुरूप नहीं होता, इसलिए पैक लगाते समय उपयुक्त स्किन टाइप का जरूर ध्यान रखें।
  • अगर पैक लगाने वाले व्यक्ति की त्वचा बहुत तैलीय है, तो मक्खन वाले फेस मास्क को न लगाएं।
  • सावधानी के रूप में किसी भी फेस मास्‍क को सीधे चेहरे पर लगाने से पहले पैच टेस्ट कर लें।

केले के फेस पैक के फायदे के साथ ही इससे जुड़ी सावधानियों को जानना भी जरूरी है।

बचाव – Caution

केले के फेस पैक को चेहरे पर लगाने से पहले कुछ सावधानियां बरतना भी जरूरी है। यही वजह है कि हम फेस मास्क लगाते समय कुछ जरूरी बातें, जिनका ख्याल रखा जाना चाहिए, उसके बारे में बता रहे हैं।

  • हल्दी युक्त फेस पैक लगाते समय ध्यान रखें कि आधे व एक चम्मच से ज्यादा इसका उपयोग न करें। अधिक मात्रा में इसका इस्तेमाल करने पर हल्दी फेस मास्क धोने के बाद चेहरे पर पीले निशान रह सकते हैं।
  • केले के फेस मास्क में शामिल किसी भी पदार्थ से अगर एलर्जी हो तो उसका उपयोग न करें।
  • नींबू को हमेशा डाइल्यूट यानी पानी में मिलाकर पतला करके ही इस्तेमाल करें। ऐसा न करने पर नींबू चेहरे को नुकसान भी पहुंचा सकता है।
  • केले के फेस मास्क धोने के बाद त्वचा को माइल्ड क्रीम से मॉइस्चराइज जरूर करें।
  • त्वचा पर पैक लगाने से पहले देख लें कि स्किन पर कहीं कट या घाव तो नहीं है। अगर किसी तरह का कट हो तो नींबू युक्त केले के फेस पैक के फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है।

केले के फेस पैक लगाने के फायदे तो आप जान ही गए हैं। अब आप आसानी से इन्हें घर पर बनाकर पार्लर जैसा निखार और स्किन संबंधी समस्याओं को थोड़ा कम कर सकते हैं। केले के फेस पैक को लगाने से पहले ध्यान रखें कि यह आपके चेहरे के प्रकार के लिए उपयुक्त होना चाहिए। हमने लेख में केले के फेस पैक के साथ ही उपयुक्त त्वचा प्रकार की भी जानकारी दी है। तैलीय त्वचा पर अगर आप रूखी त्वचा के लिए बने मास्क का उपयोग करेंगे, तो केले के फेस पैक के नुकसान भी हो सकते हैं। केले के फेस पैक संबंधी कुछ सवाल आपके जहन में हों, तो उन्हें आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से हम तक पहुंचा सकते हैं। हम कामना करते हैं कि केले के फेस पैक का इस्तेमाल करके आप दमकते रहें।

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

vinita pangeni

विनिता पंगेनी ने एनएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में बीए ऑनर्स और एमए किया है। टेलीविजन और डिजिटल मीडिया में काम करते हुए इन्हें करीब चार साल हो गए हैं। इन्हें उत्तराखंड के कई पॉलिटिकल लीडर और लोकल कलाकारों के इंटरव्यू लेना और लेखन का अनुभव है। विशेष कर इन्हें आम लोगों से जुड़ी रिपोर्ट्स करना और उस पर लेख लिखना पसंद है। इसके अलावा, इन्हें बाइक चलाना, नई जगह घूमना और नए लोगों से मिलकर उनके जीवन के अनुभव जानना अच्छा लगता है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch