केले के 31 फायदे, उपयोग और नुकसान – Banana (Kela) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

Medically Reviewed By Neelanjana Singh, RD
Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

केले की गिनती उन चुनिंदा स्वादिष्ट और गुणकारी फलों में होती है, जो तुरंत पेट भरने का काम करते हैं। इसका सेवन न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है, बल्कि त्वचा पर अच्छा असर दिखाता है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस खास लेख में हम केला खाने के फायदे बता रहे हैं। साथ ही यहां केले का उपयोग, इसकी सही मात्रा और अधिक केला खाने के नुकसान से जुड़ी जानकारी भी मौजूद है।

शुरू करते हैं लेख

आइए, सबसे पहले जानते हैं कि केला लोगों के लिए कितना अच्छा है और कैसे।

केला आपके लिए कितना सही है? Are Bananas Good For You?

केला के गुण की वजह से इसे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसमें ऊर्जा, प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, विटामिन बी-6 और ए जैसे कई जरूरी पोषक तत्व होते हैं (1)। इसमें मौजूद फाइबर वजन घटाने और पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है।

केला रेसिस्टेंट स्टार्च से भी भरपूर होता है, जो पेट के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है (2)। इसमें मैग्नीशियम भी पाया जाता है, जिससे टाइप 2 मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है ( 3)। इसी वजह से केले को स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। आगे विस्तार से केला खाने के फायदे पढ़िए।

स्क्रॉल करें

नीचे जानिए कि केला सेहत पर और क्या-क्या सकारात्मक असर दिखा सकता है।

केले के फायदे – Benefits of Banana (Kela) in Hindi

केला गुणों का खजाना है, जिस कारण यह सेहत पर कई तरह के फायदे दिखा सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि केला किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है। इसका सेवन बीमारी से बचाव करने और उसके लक्षणों के प्रभाव को कम करने में कुछ हद तक मददगार साबित हो सकता है। 

1. हृदय स्वास्थ्य

हृदय स्वास्थ्य के लिए भी केला खाने के फायदे देखे गए हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन में दिया है कि केले में पोटैशियम की अच्छी मात्रा होती है, जो रक्तचाप को सामान्य रखने और हृदय संबंधी कार्यों को सही तरीके से करने में मदद कर सकता है। यही नहीं केले में विटामिन-बी6 भी होता है, जिसे हृदय स्वास्थ्य के लिए जरूरी माना जाता है (4)।  

2. उच्च रक्तचाप

केले खाने के फायदे में उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करना भी शामिल है। हम ऊपर बता ही चुके हैं कि केले में भरपूर मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है। यह पोटैशियम रक्त वाहिकाओं की दीवारों को आराम पहुंचाकर रक्तचाप को कम करने का काम कर सकता है (4)।

3. पाचन स्वास्थ्य

पाचन स्वास्थ्य के लिए भी केले के फायदे बहुत हैं। दरअसल, केले में मौजूद फाइबर पाचन तंत्र को ठीक रख सता है। साथ ही फाइबर भोजन सही तरीके से पचाता है और मल निकासी की प्रक्रिया आसान बना सकता है। इसके अलावा, कब्ज जैसी पेट संबंधी समस्या से भी निजात दिलाने के लिए भी फाइबर को जाना जाता है। यही नहीं, केले में रेसिस्टेंट स्टार्च होता है, जिसे पेट के लिए अच्छा माना गया है (2)।

4. मस्तिष्क स्वास्थ्य

मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए भी केले के फायदे होते हैं। एक अध्ययन के अनुसार, विटामिन-बी6 की कमी से वयस्कों की मस्तिष्क कार्यप्रणाली कमजोर होती है। यह विटामिन-बी6 केले में होता है (5)। इसके अलावा, केला मैग्नीशियम से भी समृद्ध होता है, जो नर्व फंक्शन को बेहतर कर सकता है ( 3)। ये शरीर और मस्तिष्क के बीच संदेश भेजते और समझते हैं (6)। ऐसे में मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए केले को फायदेमंद कहा जा सकता है।

5. हड्डी स्वास्थ्य

हड्डियों के लिए केला खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। यह कैल्शियम से समृद्ध है और हड्डियों के विकास व मजबूती में कैल्शियम की अहम भूमिका होती है (7)। साथ ही हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए केले में मौजूद मैग्नीशियम भी जरूरी होता है। मैग्नीशियम हड्डियों के विकास और शरीर में कैल्शियम के प्रवाह में मदद करता है ( 3)।

6. मधुमेह

मधुमेह के लिए भी केले के गुण देखे गए हैं। एक मेडिकल रिसर्च की मानें, तो केले को मधुमेह के इलाज के लिए के ट्रेडिशनल मेडिसिन की तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है (8)। साथ ही बनाना स्टेम (डंठल) और इसके फूल भी मधुमेह की स्थिति में राहत पहुंचा सकता है। इसके अलावा, केले में पोटैशियम भी पाया जाता है (4)। यह पौटेशियम मधुमेह के इलाज और बचाव में सहायक भूमिका निभा सकता है (9)।

7. डायरिया

डायरिया होने पर केले के औषधीय गुण मददगार साबित हो सकते हैं। रिसर्च बताती हैं कि इसमें पेक्टिन पाया जाता है, जो एक प्रकार का फाइबर है। यह फाइबर बाउल मूवमेंट को नियंत्रित कर डायरिया से निजात दिलाने का काम कर सकता है (4)।

8. हैंगओवर

अगर हैंगओवर से परेशान हैं, तो केले का सेवन कर सकते हैं (4)। दरअसल, अल्कोहल की अधिक मात्रा के कारण शरीर में पोटैशियम, मैग्नीशियम व सोडियम जैसे मिनरल्स असंतुलित हो जाते हैं और तरल पदार्थ का स्तर बिगड़ जाता है (10)। वहीं, केले में पोटैशियम और मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा होती है। साथ ही इसमें हल्का सोडियम भी होता है। इसी वजह से केले को हैंगओवर के लिए अच्छा माना जा सकता है (1)।

अगर कोई हैंगओवर से परेशान हैं, तो वो शहद के साथ बनाना मिल्क का सेवन कर सकते हैं। केला पेट और शरीर को शांत करने में मदद करता है। साथ ही यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम को स्थिर करने और ब्लड शुगर स्तर को बेहतर करके व्यक्ति को ऊर्जा देता है (4)।

9. एनीमिया

एनीमिया एक घातक बीमारी है, जो शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी से होती है। लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में फोलेट महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, इसलिए फोलेट की कमी भी एनीमिया का कारण बनती है (11)।  इस परेशानी में भी केले खाने के फायदे हो सकते हैं।

दरअसल, केला में फोलेट की अच्छी मात्रा होती है, जो लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है। इससे एनीमिया की स्थिति में कुछ हद तक सुधार हो सकता है (12)। इसी वजह से एनीमिया से बचने के लिए आहार में केले को शामिल करना फायदेमंद माना जाता है।

10. तनाव

तनाव से छुटकारा पाने के लिए भी केला के गुण मदद कर सकते हैं। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित जानकारी के अनुसार, केले में विटामिन-बी होता है और विटामिन-बी तनाव को कम करने और कार्य क्षमता को बढ़ाने में अहम भूमिका निभा सकता है (13)।

11. बढ़ाता है ऊर्जा

शरीर में ऊर्जा के प्रवाह को बढ़ाने के लिए खाली पेट केला खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। एक मेडिकल रिसर्च में दिया है कि केले में ऊर्जा का अच्छा स्रोत होता है। यह व्यायाम के दौरान भी शरीर में जरूरी ऊर्जा को बनाए रखने में मदद कर सकता है। यही वजह है कि एथलीट शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने के लिए भी केला का सेवन करते हैं (1)। शरीर को पर्याप्त ऊर्जा मिलने पर शारीरिक और मानसिक थकान से भी राहत मिल सकती है (14)।

12. आंखों के लिए

केले के औषधीय गुण के लाभ आंखों को भी होते हैं। दरअसल, केला अन्य जरूरी पोषक तत्वों के अलावा कैरोटिनॉइड से भी समृद्ध होता है, जो विटामिन ए का ही एक प्रकार है (15)। विटामिन-ए आंखों के रेटिना में पिगमेंट को बढ़ा सकता है। इसके अलावा, विटामिन-ए रतौंधी (कम रोशनी में साफ न दिखना) से भी बचाव करने के लिए जाना जाता है (16)।

यही नहीं, पपीते का सेवन करने से ऐज-रिलेटेड मैकुलर डिजनरेशन यानी कम दिखाई देने की समस्या और आंखों में मोतियाबिंद होने के जोखिम को कुछ कम किया जा सकता है  (15)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि पपीता आंखों के लिए भी अच्छा है।

13. मासिक धर्म के समय दर्द 

मासिक धर्म के दौरान दर्द से निजात पाने के लिए भी केले खाने के फायदे देखे गए हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, केले के सेवन से मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव और दर्द से राहत मिल सकती है (17)। वहीं, मासिक धर्म के समय पेट में ऐंठन होती है (18)। इससे केला में मौजूद पोटैशियम राहत दिला सकता है, क्योंकि पोटैशियम को ऐंठन की समस्या कम करने के लिए जाना जाता है (19)। 

14. अनिद्रा

रात में केला खाने के फायदे अनिद्रा की स्थिति में हो सकते हैं। दरअसल, केले में ट्रिप्टोफैन नामक अमीनो एसिड की भरपूर मात्रा होती है। यह पदार्थ मेलाटोनिन यानी स्लीप हार्मोन के उत्पादन को ट्रिगर करता है जो नींद को बढ़ावा दे सकता है। ऐसे में सोने से कुछ घंटे पहले केला खाने से रात को अच्छी नींद आ सकती है (20)।

15. मच्छर के काटने पर

केले के औषधीय गुण मच्छर के काटने के असर को कम कर सकते हैं। एक मेडिकल रिसर्च में दिया है कि केले के छिलके में एंटी माइक्रोबियल गुण होता है। इसे शरीर में रगड़ने से मच्छर के काटे हुए हिस्से को ठीक करने में मदद मिल सकती है (21)। इसके लिए केले के छिलके को प्रभावित जगह पर 2 से 3 मिनट तक रगड़ना होगा।

16. बढ़ाता है रोग प्रतिरोधक क्षमता

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए केले का सेवन कर सकते हैं। दरअसल, केला मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत होता है, जो इम्यून सिस्टम को स्वस्थ रखने का काम कर सकता है (22)। साथ ही केले में कैरोटिनॉइड भी होते हैं, जो एक प्रकार का विटामिन ए होता है। यह इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने का काम कर सकता है (23)।

17. मॉर्निंग सिकनेस

गर्भावस्था में मॉर्निंग सिकनेस होना सामान्य है, इससे लगभग 70 से 85 फीसदी गर्भवतियां प्रभावित होती हैं। इस दौरान महिलाओं को पूरे दिन में कभी भी उल्टी और मतली हो जाती है (24)। इससे छुटकारा दिलाने में केले के लाभ देखे जा सकते हैं। दरअसल, केला रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखते हुए मॉर्निंग सिकनेस से बचा सकता है।

इसके अलावा, केले में विटामिन-बी6 भी होता है, जिसे  मॉर्निंग सिकनेस के लिए अच्छा माना जाता है (24)। साथ ही इसमें मैग्नीशियम की भी अच्छी मात्रा होती है (4)। पोषण चिकित्सक (न्यूट्रिशन थेरेपिस्ट) नीलांजना सिंह का कहना है कि मैग्नीशियम भी मॉर्निंग सिकनेस को कुछ कम कर सकता है।

18. मूड बदलने के लिए

केले खाने के फायदे में मूड में बदलाव भी शामिल है। एक मेडिकल रिसर्च के अनुसार, केला में ट्रिप्टोफैन नामक प्रोटीन होता है। ट्रिप्टोफैन पचने के बाद सेरोटोनिन नामक केमिकल न्यूरोट्रांसमीटर में परिवर्तित हो जाता है। ये दिमाग के लिए सबसे जरूरी केमिकल होता है, जो अवसाद से राहत दिलाने के साथ ही मूड को बेहतर कर सकता है (25)। न्यूट्रिशन थेरेपिस्ट नीलांजना सिंह के अनुसार, केला में मौजूद एक तरह का कार्बोहाइड्रेट भी मूड को बेहतर कर सकता है।

19. वजन घटाने के लिए

सुबह खाली पेट केला खाने के फायदे वजन घटाने के लिए हो सकते हैं। वजन कम करने के लिए भी उच्च फाइबर डाइट की आवश्यकता होती है और केला फाइबर से समृद्ध होता है। यह शरीर में ज्यादा कैलोरी बढ़ाए बिना पेट भरने का काम करेगा, जिससे वजन नियंत्रित रहेगा। इसके अलावा, केला रेसिस्टेंट स्टार्च से भी समृद्ध होता है, जो वजन को नियंत्रित करने सकता है (2)

20. दांतों की सफेदी

अगर कोई सोच रहे होंगे कि केला कैसे दांतों को चमका सकता है, तो बता दें कि दांतों के लिए केले का छिलका कारगर घरेलू नुस्खा है। बस इसके लिए केले के छिलके से दांतों को कुछ देर रगड़ना होगा (25)। ऐसा हफ्ते में तीन-चार बार कर सकते हैं।

21. ब्यूटी स्लिप

सोते समय स्किन को रिपेयर करना है, तो केला का सेवन कर सकते हैं। दरअसल, केले में ट्रिप्टोफैन नामक अमीनो एसिड होता है। ट्रिप्टोफैन, मेलाटोनिन यानी स्लीप हार्मोन के उत्पादन को बढ़ाता है, जिसे नींद को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। इस आधार पर कहा जा सकता है कि रात में सोने से कुछ घंटे पहले केला का सेवन करने पर अच्छी नींद आती है और सोते समय स्किन रिपेयर हो सकती है (20)। 

22. पेट का अल्सर

पेट का अल्सर एक गंभीर समस्या है। इसमें पेट, फूड पाइप और छोटी आंत में दर्द होता है। अगर इसका इलाज न किया जाए, तो इसके परिणाम घातक भी हो सकते हैं (26)। यहां केला अहम भूमिका निभा सकता है। दरअसल, केले का एंटासिड प्रभाव पेट के अल्सर और अल्सर की क्षति से बचा सकता है। साथ ही यह एसिडिटी को कम करके पेट में होने वाले जलन में भी कमी ला सकता है (4)।

23. त्वचा को करे मॉइस्चराइज

केले के लाभ त्वचा पर भी दिखाई दे सकते हैं। केला त्वचा के लिए बेहतरीन प्राकृतिक मॉइस्चराइजर की तरह काम करता है। दरअसल, इसमें विटामिन बी 6, सी और पानी की अच्छी मात्रा होती है। ये सभी त्वचा को हाइड्रेट रखने का काम कर सकते हैं (20)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एक पका हुआ केला लें और उसे अच्छी तरह मैश कर लें।
  • मैश किए हुए केले को आंखों को छोड़कर पूरे चेहरे पर लगाएं।
  • लगभग 20-25 मिनट बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें
  • अगर त्वचा ज्यादा शुष्क है, तो केले में आधा शहद मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसकी जगह एक पके हुए केले के साथ एक चम्मच दही और एक चम्मच विटामिन-ई ऑयल जैसे बादाम तेल को अच्छी तरह मिला लें।
  • इस मिश्रण को 20-25 मिनट के लिए चेहरे पर लगाएं और गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

24. एंटी एजिंग

स्किन एजिंग से राहत पाने के लिए केला मदद कर सकता है। केले में फ्लेवोनोइड पॉली-फेनोलिक एंटीऑक्सिडेंट जैसे ल्यूटिन, जेक्सैन्थिन, ß और α-कैरोटीन होते हैं। ये फ्री रेडिकल्स से सुरक्षा प्रदान करके उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं (20)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एक चौथाई पका हुआ केला लें और उसमें एक से दो चम्मच गुलाब जल डालकर अच्छी तरह मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को चेहरे और गले पर लगाएं।
  • लगभग आधे घंटे बाद हल्के ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • यह उपाय हफ्ते में दो से तीन बार कर सकते हैं।

25. चमकती त्वचा

त्वचा को चमकदार बनाने के लिए केला कारगर साबित हो सकता है। यह विटामिन बी-6 और पानी का अच्छा स्रोत है, जो त्वचा में नमी बनाए रखने के साथ ही त्वचा में चमक लाने का काम कर सकता है (20)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • आधा पका हुआ केला मैश करके उसमें एक चम्मच चंदन का पेस्ट और एक चौथाई चम्मच शहद मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को लगभग 20-25 मिनट के लिए चेहरे व गर्दन पर लगाएं और बाद में गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • वैकल्पिक रूप से आधे केले को मैश करके उसमें एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं।
  • इस मिश्रण को लगभग 20 मिनट के लिए चेहरे व गर्दन पर लगाएं और बाद में गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • चाहें तो केले के साथ दूध का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आधा पका हुआ केला मैश करें और इसमें तीन से चार चम्मच दूध मिलाकर अच्छी तरह पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को चेहरे व गर्दन पर 20 मिनट के लिए लगाएं और बाद में गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

26. त्वचा की मृत कोशिकाओं के लिए

त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए भी केले के लाभ देखे जा सकते हैं। इससे त्वचा को स्क्रब करने और स्किन से डेड सेल्स को हटाने में मदद मिल सकती है (4)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • एक पके हुए केले को मैश करें और उसमें एक चम्मच चीनी मिलाएं।
  • अब इस केले के स्क्रब को चेहरे और गर्दन पर लगाकर उंगलियों से कुछ मिनट तक धीरे-धीरे स्क्रबिंग करें।
  • बाद में गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें।

27. मुंहासों के लिए

अगर कोई मुंहासों से परेशान हैं, तो घबराने की जरूरत नहीं है। केले के छिलके का इस्तेमाल बढ़ते मुंहासों को रोकने के लिए कर सकते हैं। केले का छिलका एंटीबैक्टीरियल गुणों से समृद्ध होता है , जो मुंहासों से आराम दिला सकता है (20)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • केले का छिलका लें और उसके अंदर वाले भाग को प्रभावित जगह पर कुछ मिनट के लिए धीरे-धीरे रगड़ें।
  • करीब 2 से 3 मिनट बाद साफ पानी से चेहरा धो लें।

28. खुजली, सोरायसिस और मस्से के लिए

यहां केले का छिलका अहम भूमिका निभा सकता है। केले के छिलके में एंटी बैक्टीरियल गुण होता है (27)। यह गुण खुजली वाली त्वचा, सोरायसिस (पपड़ीदार स्किन) और मस्सों से निजात दिलाने का काम कर सकता है।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • खुजली वाली त्वचा के लिए केले के छिलके के अंदर वाले भाग को प्रभावित जगह पर कुछ देर रगड़ें।
  • मस्से और सोरायसिस के इलाज के लिए केले के छिलके को प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं या थोड़ी देर धीरे-धीरे रगड़ भी सकते हैं।

नोट – ऊपर बताई गई त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए केले का छिलका कितना कारगर है, इस पर अभी और अध्ययन की आवश्यकता है। अच्छा होगा कि इन समस्याओं के लिए त्वचा विशेषज्ञ से बात करें।

29. सूजी हुई आंखें

कई बार आंखों के आसपास सूजन आ जाती है। इससे निजात पाने के लिए केले के छिलके का उपयोग कर सकते हैं। केले का छिलका एंटी इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है, जो सूजन को दूर कर सकता है (28)। नीचे जानिए कि किस प्रकार केले के छिलके का इस्तेमाल करना चाहिए।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • केले का छिलका लें और आंखों के आसपास सूजन वाली जगह पर कुछ देर के लिए लगाएं या थोड़ी देर धीरे-धीरे रगड़ें।
  • 15 से 20 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से साफ कर लें।

30. पैरों के लिए

पैरों के लिए भी केला खाने के लाभ देखे जा सकते हैं। पैरों की देखभाल के लिए यहां केले का छिलका अहम भूमिका निभा सकता है। पैरों के लिए इसका इस्तेमाल एस्ट्रिंजेंट की तरह किया जाता है (28)। एस्ट्रिंजेंट एक तरह का रसायन है, जो पैरों को एक्सफोलिएट कर अतरिक्त तेल को हटा सकता है। इसका उपयोग नीचे जानिए।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • केले का छिलका लें और उसे पैरों व एड़ियों पर धीरे-धीरे रगड़ें।
  • यह प्रक्रिया आप पांच से दस मिनट तक रोजाना कर सकते हैं।

31. बालों का विकास

बालों के लिए भी केले के फायदे बहुत हैं। सही पोषण न मिलने की वजह से बालों का विकास रुक सकता है और वो समय से पहले झड़ सकते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, केले के जूस से स्कैल्प की मालिश करने पर बालों के विकास को बढ़ावा मिल सकता है। साथ ही बाल झड़ने की समस्या कम हो सकती है (4)।

कैसे करें इस्तेमाल :

  • रोजाना नाश्ते में केले को शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा बालों के विभिन्न टाइप के लिए नीचे दिए गए हेयर मास्क अपना सकते हैं।

मुलायम बालों के लिए :

  • एक पका हुआ केला लें और मैश कर लें।
  • अब इसमें एक चम्मच जैतून तेल मिलाएं और बालों व स्कैल्प पर अच्छी तरह लगाएं।
  • 15 मिनट के लिए बालों को हेयर कवर से ढक दें।
  • चाहें तो इसे रात भर के लिए भी बालों पर लगा छोड़ सकते हैं।
  • फिर बालों को शैंपू कर लें।
  • केले के साथ एवोकाडो या कोको को भी मिक्स कर सकते हैं। यह पूरी तरह से वैकल्पिक है।

चमकदार बालों के लिए :

  • एक चौथाई कप जैतून के तेल में एक पका हुआ केला और एक अंडे की सफेदी अच्छी तरह मिलाएं।
  • मिश्रण को स्कैल्प से लेकर बालों की पूरी लंबाई तक लगाएं और 15 मिनट बाद पसंदीदा शैम्पू व कंडीशनर से बाल धो लें।

मजबूत बालों के लिए :

  • एक पका केला लें और उसमें दो-तीन चम्मच दही मिलाएं।
  • अब इस पेस्ट को अपने स्कैल्प पर अच्छी तरह लगाएं और 15-20 मिनट बाद शैंपू कर लें।

सूखे बालों के लिए :

  • एक पके केले के साथ तीन चम्मच शहद मिलाएं।
  • इस मिश्रण को बालों और स्कैल्प पर अच्छी तरह लगाएं।
  • फिर 15-20 मिनट बाद शैंपू करके कंडीशनर लगा लें।

क्षतिग्रस्त बालों के लिए :

  • एक पके केले में आधा चम्मच बादाम तेल मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को बालों और स्कैल्प पर लगाएं और 10 से 15 मिनट बाद शैम्पू व कंडीशनर से बालों को धो लें।

नीचे भी पढ़ें

केला खाने के फायदे के बाद आगे हम बताएंगे कि इसमें कौन-कौन से पोषक तत्व मौजूद हैं।

केले के पौष्टिक तत्व – Banana (Kela) Nutritional Value in Hindi

केले के फायदे जानने के बाद नीचे दी गई तालिका के माध्यम से जानिए इसमें मौजूद पौष्टिक तत्वों के बारे में (1)

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
जल74.91g
ऊर्जा89 kcal
प्रोटीन1.09g
कुल लिपिड (वसा)0.33g
कार्बोहाइड्रेट22.84g
फाइबर, कुल डायटरी2.6g
शुगर, कुल12.23g
कैल्शियम5mg
आयरन0.26mg
मैग्नीशियम27mg
फास्फोरस22mg
पोटैशियम358mg
सोडियम1mg
जिंक0.15mg
विटामिन-सी8.7mg
थायमिन0.031mg
राइबोफ्लेविन0.073mg
नियासिन0.665mg
विटामिन बी -60.367mg
फोलेट, डीएफई20µg
विटामिन-ए, RAE3µg
विटामिन-ए IU64IU
विटामिन-ई (अल्फा-टोकोफेरॉल)0.10mg
विटामिन-के (फाइलोक्विनोन)0.5µg
फैटी एसिड, कुल सैचुरेटेड0.112g
फैटी एसिड, कुल मोनोअनसैचुरेटेड0.072g
फैटी एसिड, कुल पॉलीअनसैचुरेटेड0.164g

पढ़ना जारी रखें

आइए, अब जानते हैं केला खाने का तरीका क्या है।

केले का उपयोग – How to Use Banana in Hindi

केला का कई तरह से सेवन किया जा सकता है। नीचे हम केला खाने का सही समय और केला खाने का तरीका बता रहे हैं।

कैसे करें उपयोग 

  • केले को छीलकर ऐसे ही खा सकते हैं।
  • इसे फ्रूट सलाद में शामिल करके खाया जाता है।
  • केला का शेक बनाकर भी पी सकते हैं।
  • केले के बने चिप्स भी ले सकते हैं।
  • केला को स्मूदी में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • दही और केला भी शहद डालकर खा सकते हैं।

कब करें उपयोग 

  • इसे सुबह-शाम या कभी भी फल की तरह सीधे खा सकते हैं।
  • इससे बनी स्मूदी या बनाना शेक को दोपहर में पी सकते हैं।
  • शाम के समय स्नैक में बनाना चिप्स को शामिल कर सकते हैं।

कितना करें उपयोग 

  • रोजाना 250 ग्राम तक केले का सेवन करना सेहत के लिए सुरक्षित माना जाता है (29)। इससे अधिक केले का सेवन करने पर कुछ नुकसान हो सकते हैं, जिसका लेख के अंतिम भाग में जिक्र किया गया है। ब्लैडर इंफेक्शन को कम करने के लिए 3 से 4 केला का सेवन कर सकते हैं (4)।

नीचे और जानकारी है

आइए, अब केले से बनाने वाली कुछ रेसिपी के बारे में जान लेते हैं।

केले से बनाने वाली रेसिपी- Popular Banana Recipes

केले से कई तरह के खाद्य पदार्थ तैयार किए जा सकते हैं, उनमें से कुछ रेसिपीज इस प्रकार हैं। 

1. बनाना शेक

सामग्री :

  • दो बड़े पके केले
  • एक कप बादाम का दूध (जो मीठा न हो)
  • बर्फ के कुछ टुकड़े
  • एक चौथाई कप पीनट बटर
  • दो चम्मच कोको पाउडर
  • आधा चम्मच वनीला

बनाने की प्रक्रिया :

  • सभी सामग्रियों को ब्लेंडर में डालें और अच्छी तरह ब्लेंड करें।
  • अब कांच के गिलास में शेक को सर्व करें।

2. बनाना-एवोकाडो स्मूदी

सामग्री :

  • एक पका केला
  • एक पका हुआ एवोकाडो
  • आधा कप दही
  • एक कप बादाम का दूध (बिना मीठा)
  • एक चम्मच वनीला
  • एक चम्मच शहद
  • बर्फ के कुछ टुकड़े

बनाने की प्रक्रिया :

  • एक ब्लेंडर में सभी सामग्रियों को डालें और अच्छी तरह ब्लेंड करें।
  • फिर कांच के गिलास में सर्व करें।

3.बनाना-एवोकाडो मफीन

सामग्री :

  • 11 कप नेचुरल ब्रैन (चोकर)
  • एक कप गेहूं का आटा
  • आधा कप पैक्ड ब्राउन शुगर
  • डेढ़ कप बेकिंग पाउडर
  • आधा चम्मच बेकिंग सोडा
  • एक चम्मच दालचीनी
  • एक चौथाई चम्मच नमक
  • दो अंडे
  • 1 कप मैश किया हुआ केला
  • आधा कप दूध
  • कप का एक तिहाई वनस्पति तेल

बनाने की प्रक्रिया :

  • ओवन को 375 F. पर गर्म करें।
  • एक बड़ा बाउल लें और उसमें ब्रैन, आटा, ब्राउन शुगर, बेकिंग पाउडर, बेकिंग सोडा, दालचीनी और नमक मिलाएं।
  • एक अन्य बाउल में अंडे, मसला हुआ केला, तेल और दूध को अच्छी तरह मिलाकर पहले बनाए गए मिश्रण में मिला दें।
  • बेक के लिए मफिन कप्स में मिश्रण को डालें और ओवन में 20 मिनट के लिए बेक करें।
  • मफिन्स को ओवन से निकाले और आनंद लें।

4. केले की चाय

सामग्री :

  • केला (सिरों से कटा हुआ)
  • छह कप साफ पानी
  • स्वादानुसार दालचीनी और शहद

बनाने की प्रक्रिया :

  • स्टेनलेस स्टील के बर्तन में पानी को उबालने के लिए रखें।
  • उबलते पानी में केला डालें और 10 मिनट बाद निकाल लें।
  • अब गर्म पानी को किसी कप में छान लें।
  • थोड़ा ठंडा होने दें और स्वाद के लिए दालचीनी और शहद मिलाएं।
  • इनमें से किसी एक को भी केले की चाय में डाल सकते हैं।
  • अब केले की चाय का आनंद लें।

लेख में बने रहें

आगे हम बता रहे हैं कि इसका चयन और स्टोर कैसे किया जाए।

केले का चयन और लंबे समय तक सुरक्षित रखना – Selection and Storage of Banana in Hindi

केले के शारीरिक फायदे पाने के लिए इसका सही चुनाव और स्टोर करना बहुत जरूरी है। नीचे इसी विषय को अच्छे से समझिए।

चयन

  • अगर कोई केले का तुरंत उपयोग करना चाहते हैं, तो पीले रंग के केलों का चयन करें। ध्यान रहे कि ये ज्यादा मुलायम न हों।
  • अगर दो-तीन दिन के लिए केले खरीद रहे हैं, तो उन केलों का चयन करें, जिनका ज्यादा भाग हरा हो और दोनों सीरे पीले हों।
  • एकदम काले और गले हुए केले खरीदने से बचें।

भंडारण

  • केलों के चयन के साथ उन्हें सही प्रकार से स्टोर करना भी जरूरी है। अगर कोई केलों को ज्यादा दिन तक स्टोर करना चाहते हैं, तो उन्हें कमरे के तापमान में रखें। ध्यान रखें कि उन पर सूर्य की तेज धूप न पड़ें।
  • केलों को बाकी फलों के साथ स्टोर न करें, ऐसा करने से बाकी फल जल्दी पक कर खराब हो सकते हैं। केलों को हमेशा अलग ही स्टोर करें।
  • अगर पहले से ही केले को छिल लिया है, तो इसे तुरंत खाएं। हवा के संपर्क में आने पर ये खराब हो सकते हैं, जिसका असर सेहत पर भी पड़ सकता है।
  • कटे केले को ऑक्सीडेशन और काले होने से बचाने के लिए उस पर नींबू का रस डालकर रख सकते हैं।

लेख अंत तक पढ़ें

केला खाने के लाभ, इसके सेवन और चयन संबंधी जानकारी के बाद केले के कुछ नुकसान जानते हैं।

केले के नुकसान – Side Effects of Banana in Hindi

केला खाने के फायदे और नुकसान दोनों होते हैं, लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि केला गुणकारी फल है, लेकिन इसका अत्यधिक सेवन निम्नलिखित समस्याओं का कारण भी बन सकता है। नीचे जानिए केले के कुछ दुष्प्रभाव जानिए।

  • केले में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और ट्रिप्टोफैन होते हैं। इससे व्यक्ति को ज्यादा नींद आ सकती है (4)। ऐसे में केले का अधिक सेवन करने के बाद ड्राइविंग करने से दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है।
  • शराब पीने के बाद केला खाने से सिरदर्द हो सकता है (4)।
  • कुछ लोगों को केले के सेवन से एलर्जी हो सकती है (4)।
  • अत्यधिक फाइबर शरीर में आयरन, जिंक, मैग्नीशियम और कैल्शियम के अवशोषण (Absorption) में बाधा बन सकता है (30)। दरअसल, केला में फाइबर होता है, इसलिए इसके अधिक सेवन से यह स्थिति उत्पन्न हो सकता है (1)।
  • केला पोटैशियम का भी अच्छा स्रोत है (1)। ऐसे में अगर कोई पोटैशियम सप्लीमेंट के साथ अधिक मात्रा में केले का भी सेवन कर रहा है, तो उसके शरीर में पोटैशियम की अधिकता (हाइपरकलेमिया) हो सकती है (31)।
  • केला फाइबर का बड़ा स्रोत है और अधिक मात्रा में फाइबर का सेवन गैस, पेट में ऐंठन और पेट फूलने की समस्या का कारण बन सकता है (1), (30)।

केला सेहत के लिए अच्छा होता है और शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है। इसी वजह से शारीरिक गतिविधि करने वाले लोग इसका सेवन ज्यादा करते हैं। वैसे यह फल सभी के लिए फायदेमंद होता है, इसलिए आप भी इसे अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। अगर किसी को कोई गंभीर बीमारी है या कोई दवाई ले रहा है, तो केले को आहार में शामिल करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या केले मोटा करता है?

नहीं, सीमित मात्रा में केला खाने से मोटापा नहीं होता। वैसे केला व्यक्ति को मोटा करने और वजन घटाने दोनों में सहायक माना जाता है। दरअसल, सीमित केले के सेवन से इसमें मौजूद फाइबर वजन घटा सकता है (2)। अगर अधिक मात्रा में और ज्यादा पके हुए केले का सेवन किया जाए, तो व्यक्ति केले में मौजूद शुगर की वजह से मोटा हो सकता है।

कौन सा केला खाना चाहिए – पका हुआ या कच्चा?

दोनों तरह के केले खा सकते हैं। पके हुए केले को फल की तरह खाया जाता है और कच्चे केले को पकाकर सब्जी की तरह।

क्या रात में केला खाना स्वस्थ है?

जी हां, रात में भी केला खा सकते हैं, क्योंकि रात में केला खाने के फायदे में नींद को बढ़ावा देना शामिल है। बस ध्यान रहे कि सोने से 2-3 घंटे पहले केले का सेवन करें।

मैं एक दिन में कितने केले खा सकता हूं?

एक दिन में मध्यम आकार के चार केले खा सकते हैं (29) (4)।

क्या मैं दैनिक मात्रा से ज्यादा केले खा सकता हूं?

हां, स्वस्थ व्यक्ति जब कभी ऊर्जाहीन महसूस करे, तो वो एक केला अतिरिक्त खा सकता है। मगर ऐसा रोजाना करना शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

कितने केले रोजाना खाना नुकसानदायक हो सकता है?

अगर रोजाना इंसान 5 से अधिक केले खा रहा है, तो वो नुकसानदायक हो सकता है।

क्या वर्कआउट के बाद केला खाना अच्छा है?

जी हां, वर्कआउट के बाद केला खाना अच्छा होता है। इससे शरीर को तुरंत ऊर्जा की प्राप्ति हो सकती है।

अगर मैं रोज एक केला खाऊं तो क्या होगा?

रोजाना एक केला खाने से शरीर को कुछ मात्रा में जरूरी पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है। इससे एनीमिया, मधुमेह और अनिद्रा जैसे समस्याओं से भी राहत मिल सकती है, जिसकी जानकारी हमने लेख में विस्तार से दी है।

केला कब नहीं खाना चाहिए?

अगर किसी को सर्दी जुकाम है, तो ऐसी स्थिति में केला का सेवन नहीं करना चाहिए। दरअसल, केले की तासीर ठंडी होती है, जिससे  कि सर्दी जुकाम की समस्या बढ़ सकती है (4)।

केला खाने के क्या नुकसान हैं?

सीमित मात्रा में केला खाने के नुकसान ज्यादा नहीं होते, पर कुछ लोगों को इससे एलर्जी हो सकती है (4)।

शहद और केला खाने के फायदे किस तरह के हो सकते हैं ?

केला और शहद खाने के फायदे में वजन को संतुलित रखना और मधुमेह से बचाव शामिल हो सकता है (4)।

सुबह-सुबह केला खाने के फायदे क्या हो सकते हैं ?

सुबह खाली पेट केला खाने के फायदे में पाचन तंत्र को बेहतर करना शामिल है। साथ ही वजन कम करने और शरीर को ऊर्जा प्रदान करने में भी यह मदद कर सकता है (4)।

केला और पपीता खाने के फायदे क्या है?

केला और पपीता खाने के फायदे सेहत के साथ ही त्वचा पर नजर आ सकता है। दरअसल, केले में एंटी एजिंग गुण होता है, जो बढ़ती उम्र के प्रभाव को धीमा कर सकता है (20)। साथ ही पपीता में विटामिन्स की अच्छी मात्रा होती है, जो त्वचा की समस्या को दूर रखने और स्किन को हेल्दी रखने में मदद कर सकता है (32)।

दही और केला खाने के फायदे क्या हैं?

दही और केला खाने के फायदे पाचन तंत्र को सबसे अधिक होते हैं। खासकर कब्ज की समस्या को दूर करने में। इसके अलावा, वजन नियंत्रित करने के लिए भी दोनों को फायदेमंद माना गया है। यही नहीं, शरीर को ऊर्जावान बनाए रखने के लिए भी इनका सेवन किया जा सकता है (33) (4)।

केला और अंडा खाने के नुकसान किस तरह के हो सकते हैं?

केला और अंडा को साथ में खाने पर एलर्जी हो सकती है। साथ ही पेट में गैस बनाने की भी समस्या उत्पन्न हो सकती है।

संदर्भ (Sources)

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Banana raw
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/1102653/nutrients
  2. Dietary fibre
    https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/fibre-in-food
  3. Magnesium
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/Magnesium-HealthProfessional/
  4. Traditional and Medicinal Uses of Banana
    https://www.phytojournal.com/vol1Issue3/Issue_sept_2012/9.1.pdf
  5. Vitamin B6
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminB6-HealthProfessional/
  6. nerve cell
    https://www.cancer.gov/publications/dictionaries/cancer-terms/def/nerve-cell
  7. Calcium and Vitamin D: Important at Every Age
    https://www.bones.nih.gov/health-info/bone/bone-health/nutrition/calcium-and-vitamin-d-important-every-age
  8. Effects of Banana (Musa Sapientum Linn) Consumption for Physical Strength Metabolic Response Oxidative Stress Lipid Profiles and Interleukin-23 in Healthy Men: A Preliminary Study
    https://opensportssciencesjournal.com/contents/volumes/V10/TOSSJ-10-151/TOSSJ-10-151.pdf
  9. Potassium and risk of Type 2 diabetes
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3197792/
  10. Magnesium Calcium Potassium Sodium Phosphorus Selenium Zinc and Chromium Levels in Alcohol Use Disorder: A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7357092/
  11. Anemia
    https://medlineplus.gov/ency/article/000560.htm
  12. Folate
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/Folate-HealthProfessional/
  13. Reducing occupational stress with a B-vitamin focussed intervention: a randomized clinical trial: study protocol
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4290459/
  14. Vitamins and Minerals for Energy Fatigue and Cognition: A Narrative Review of the Biochemical and Clinical Evidence
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7019700/
  15. Bioactive compounds in banana fruits and their health benefits
    https://www.researchgate.net/publication/329792735_Bioactive_compounds_in_banana_fruits_and_their_health_benefits
  16. Vitamin A
    https://medlineplus.gov/ency/article/002400.htm
  17. PLANTAIN OR EDIBLE BANANA (MUSA X PARADISICA VAR – SAPIEMTUM) SOME LESSER KNOWN FOLK USES IN INDIA
    http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.270.9466&rep=rep1&type=pdf
  18. Menstruation
    https://medlineplus.gov/menstruation.html
  19. Manage common problems
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK310804/
  20. AMAZING BEAUTY AND HEALTH BENEFITS OF BANANAS
    https://pjn.sbvjournals.com/doi/PJN/pdf/10.5005/pjn-7-3-19
  21. Detection of antimicrobial activity of banana peel (Musa paradisiaca L.) on Porphyromonas gingivalis and Aggregatibacter actinomycetemcomitans: An in vitro study
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4678547/
  22. Magnesium in diet
    https://medlineplus.gov/ency/article/002423.htm
  23. Pro‐vitamin A carotenoids in East African highland banana and other Musa cultivars grown in Uganda
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6977416/
  24. Morning sickness
    https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000604.htm
  25. Fruits and Vegetables that Resembles to Body Organs and have Significant Role on them
    https://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.948.1101&rep=rep1&type=pdf
  26. Peptic ulcer
    https://medlineplus.gov/ency/article/000206.htm
  27. Anti-inflammatory and antioxidant activities of extracts from Musa sapientum peel
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23964457/
  28. Daily consumption of banana marginally improves blood glucose and lipid profile in hypercholesterolemic subjects and increases serum adiponectin in type 2 diabetic patients
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25651610/
  29. Daily consumption of banana marginally improves blood glucose and lipid profile in hypercholesterolemic subjects and increases serum adiponectin in type 2 diabetic patients
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25651610/
  30. Fiber
    https://medlineplus.gov/ency/article/002470.htm
  31. Hyperkalemia
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK470284/
  32. CARICA PAPAYA A MAGIC HERBAL REMEDY
    http://www.journalijar.com/uploads/539_IJAR-13856.pdf
  33. Potential Health Benefits of Combining Yogurt and Fruits Based on Their Probiotic and Prebiotic Properties
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5227968/

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Neelanjana Singh

(RD)
Neelanjana Singh has over 30 years of experience in the field of nutrition and dietetics. She created and headed the... more

ताज़े आलेख