घरेलू उपचार
Stylecraze

खुजली दूर करने के 15 आसान घरेलू उपाय – Home Remedies for Itching (Khujli) in Hindi

खुजली दूर करने के 15 आसान घरेलू उपाय – Home Remedies for Itching (Khujli) in Hindi Hyderabd040-395603080 March 22, 2019

कई बार अचानक होने वाली खुजली को रोक पाना मुश्किल हो जाता है। अधिकांश लोग त्वचा को खुरच-खुरच कर खून तक निकाल देते हैं। त्वचा को खुरचने से भले ही थोड़ी देर के लिए सुकून मिल जाए, लेकिन इसके बाद होने वाली पीढ़ा असहनीय होती है। गर्मियों के दौरान यह आम है, क्योंकि पसीने का निकलना और देर तक त्वचा पर बने रहने से बैक्टीरिया पनपने लगते हैं, जिससे खुजली का एहसास होता है। गले, कमर, बगल और जाघों के बीच में खुजली ज्यादा होती है, क्योंकि यहां पसीने का जमाव ज्यादा होता है।

विषय सूची


कभी-कभार होने वाली खुजली कष्टदायक नहीं होती है, लेकिन समस्या तब ज्यादा गंभीर हो जाती है, जब यह अधिक दिनों तक रहे। इस लेख में जानिए खुजली से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी और इससे जल्द निजात पाने के सटीक घरेलू उपाय।

खुजली के कारण – Causes of Itching in Hindi

गर्मी में पसीना ही एकमात्र खुजली का कारण नहीं है, नीचे जानिए खुजली की विभिन्न वजहों के बारे में –

  • शुष्क त्वचा या जिरोसिस
  • त्वचा में जलन या चकत्ते
  • लिवर से जुड़ा कोई रोग या किडनी फेल
  • मल्टीपल स्क्लेरोसिस, डायबिटीज
  • सौंदर्य प्रसाधनों से होने वाली एलर्जी
  • ओपिऑयड्स, एंटी मलेरिया जैसे ड्रग्स का रिएक्शन (1)
  • गर्भावस्था
  • बढ़ती उम्र
  • पर्यावरणीय कारक

खुजली के कारण जानने के बाद खुजली के लक्षणों की बात करते हैं।

खुजली के लक्षण – Symptoms of Itching in Hindi

  • त्वचा का लाल होना और धब्बे
  • छाले
  • शुष्क और छीलने वाली त्वचा
  • पपड़ीदार त्वचा

खुजली के घरेलू उपाय – Home Remedies for Itching in Hindi

खुजली की समस्या लंबे समय तक त्वचा को प्रभावित कर सकती है। डॉक्टरी उपचार के जरिए इसे ठीक किया जा सकता है, लेकिन अगर आप इससे निजात पाने के लिए प्राकृतिक और सुरक्षित नुस्खों की खोज में हैं, तो नीचे बताए जा रहे घरेलू उपायों को अपना सकते हैं –

1. बेकिंग सोडा बाथ

सामग्री

  • आधा कप बेकिंग सोडा
  • हल्का गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल?

  • हल्के गर्म पानी से बाथटब भर लें।
  • पानी में आधा कप बेकिंग सोडा मिला लें।
  • 15 से 20 मिनट तक इस पानी में शरीर को डुबोए रखें।

कितनी बार करें?

जब तक खुजली कम नहीं होती है, रोजाना इस पानी से स्नान करें।

कैसे है लाभदायक?

खुजली का उपाय करने के लिए आप बेकिंग सोडा प्रयोग में ला सकते हैं। गर्म पानी में बेकिंग सोडा (सोडियम बाइकार्बोनेट) डालकर स्नान करने से खुजली से त्वचा को आराम मिलता है। इसमें मौजूद एंटीफंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण खाज को कम कर त्वचा को आराम पहुंचाने का काम करते हैं (2), (3)।

2. तुलसी

Basil for Itching in Hindi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • छह-आठ तुलसी की पत्तियां

कैसे करें इस्तेमाल?

  • तुलसी के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
  • आप अपनी त्वचा पर इन पत्तियों को सीधा रगड़ भी सकते हैं।

कितनी बार करें?

  • खुजली से तुरंत राहत के लिए आप ऐसा रोज कर सकते हैं।

कैसे है लाभदायक?

तुलसी एक गुणकारी औषधि है, जिसका इस्तेमाल आप खुजली से निजात पाने के लिए कर सकते हैं। तुलसी एंटीमाइक्रोबियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध होती है, जो खुजली से संक्रमित त्वचा को आराम देने का काम करती है (4, 5)।

3. नींबू

सामग्री

  • एक-दो नींबू
  • कॉटन पैड

कैसे करें इस्तेमाल?

  • एक या दो नींबू का रस निकाल लें।
  • अब कॉटन पैड को नींबू के रस में डुबोएं और खुजली वाले स्थान पर लगाएं।
  • अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो आप नींबू के रस में थोड़ा पानी भी मिला सकते हैं।

कितनी बार करें?

जल्द राहत पाने के लिए आप रोजाना दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

खुजली का उपाय करने के लिए आप नींबू प्रयोग में ला सकते हैं। नींबू सिट्रिक और एसिटिक एसिड से भरपूर होता है। साथ ही यह एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी बैक्टीरियल व एंटी-इरिटेंट गुणों से समृद्ध होता है, जिस कारण यह खुजली और सूजन वाली त्वचा के इलाज में मदद करता है (6, 7)।

4. एलोवेरा जेल

सामग्री

  • एलोवेरा जेल (आवश्यकतानुसार)

कैसे करें इस्तेमाल?

  • एलोवेरा पत्ती के अंदर मौजूद जेल को बाहर निकालें और किसी साफ कंटेनर में रख लें।
  • अब इस जेल को खुजली की जगह पर लगाएं और छोड़ दें।
  • बाकी जेल को फ्रिज में स्टोर करके रख दें।

कितनी बार करें?

रोजाना दिन में दो-तीन बार एलोवेरा जेल का इस्तेमाल करें।

कैसे है लाभदायक?

आप ऐलोवेरा जेल को खुजली की दवा के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐलोवेरा जेल खुजली से संक्रमित त्वचा को ठंडक और आराम देने का काम करता है। यह एंटी एलर्जिक व एंटी इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है, जिससे खुजली कम होती है। यह एक सुरक्षित प्राकृतिक उपाय है, जिसका इस्तेमाल आप खुजली से निजात पाने के लिए कर सकते हैं (8)।

5. सेब का सिरका

Apple Vinegar for Itching in Hindi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • एक कप सेब का सिरका
  • नहाने योग्य गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल?

  • नहाने के पानी में एक कप सेब का सिरका और लगभग 15 मिनट तक इसमें अपने शरीर को डुबोकर रखें।
  • बाद में साफ पानी से नहा लें।

कितनी बार करें?

हर दूसरे दिन इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

सेब का सिरका एक सटीक खुजली का घरेलू उपाय है, जो खुजली और चकत्तों से राहत देने का काम करता है। सिरका एंटी माइक्रोबियल गुणों से समृद्ध होता है, जो खुजली से संक्रमित त्वचा का इलाज करता है (9)। खुजली का इलाज करने के लिए आप सेब के सिरके का बताए गए तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं।

6. नीम

सामग्री

  • 10-15 नीम के पत्ते
  • पानी (आवश्यकतानुसार)

कैसे करें इस्तेमाल?

  • नीम की पत्तियों को पानी के साथ पीसकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को खुजली वाली जगह पर लगाएं और कुछ घंटों के लिए छोड़ दें।
  • आप पानी में नीम की पत्तियों को उबालकर नहा भी सकते हैं।

कितनी बार करें?

पेस्ट वाली विधि रोजाना दो बार करें और नहाने वाली विधि दिन में एक बार करें।

कैसे है लाभदायक?

नीम की पत्तियां एंटीवायरल और एंटी बैक्टीरियल गुणों से समृद्ध होती हैं, जिससे खुजली वाली त्वचा को आराम मिलता है (10)। नीम का पेस्ट खुजली के कारण बनने वाले घावों को सूखाने का काम करता है। यह एक सुरक्षित प्राकृतिक उपाय है, जिसका इस्तेमाल आप कर सकते हैं।

7. ओटमील बाथ

सामग्री

  • दो कप ओट्स
  • चारा कप पानी
  • एक साफ सूती कपड़ा
  • गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल?

  • ओटमील को ग्राइंड कर चार कप पानी में कुछ मिनट के लिए भिगो दें।
  • अब ओटमील को एक सूती कपड़े में रखें और इसे कस लें।
  • बाथटब में नहाने योग्य पानी भर लें और कपड़े में बंधे हुए ओटमील को पांच-दस मिनट के लिए पानी में रख दें।
  • अब लगभग 15 से 20 मिनट के लिए इस पानी में स्नान करें।

कितनी बार करें?

समस्या के दिनों में रोजाना इस प्रक्रिया को दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

खुजली का इलाज करने के लिए आप ओटमील बाथ कर सकते हैं। ओटमील बाथ एक कारगर मॉइस्चराइजिंग और एंटी इंफ्लेमेटरी एजेंट की तरह काम करता है, जो खुजली से संक्रमित त्वचा को आराम देने का काम करता है (11)।

8. नारियल का तेल

Coconut Oil for Itching in Hindi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • नारियल का तेल (आवश्यकतानुसार)

कैसे करें इस्तेमाल?

  • गुनगुने पानी से स्नान कर लें और शरीर को अच्छी तरह सूखा लें।
  • अब आवश्यकतानुसार नारियल का तेल लें और प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • अगर आपको हर जगह खुजली महसूस होती है, तो आप पूरे शरीर पर तेल से मालिश कर सकते हैं।

कितनी बार करें?

समस्या के दिनों में रोजाना करें।

कैसे है लाभदायक?

नारियल के तेल में लोरिक एसिड नाम का खास तत्व पाया जाता है, जो एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुणों से समृद्ध होता है (12)। यह एक सुरक्षित प्राकृतिक उपाय है, जिसका इस्तेमाल खुजली से राहत पाने के लिए किया जा सकता है।

9. कोल्ड कंप्रेस

सामग्री

  • एक आइस पैक

कैसे करें इस्तेमाल?

  • आइस पैक लें और प्रभावित क्षेत्र पर कुछ मिनट के लिए लगाएं।
  • आपको जहां-जहां खुजली हो रही है, वहां-वहां आइस पैक लगाएं।

कितनी बार करें?

जब भी आपको खुजली का एहसास हो यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

खुजली को कम करने के लिए आप आइस पैक का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइस पैक का ठंडा एहसास खुजली वाली त्वचा को आराम देने का काम करता है (13)।

10. पुदीना

सामग्री

  • मुट्ठी भर पुदीने की पत्तियां
  • दो कप पानी
  • कॉटन बॉल

कैसे करें इस्तेमाल?

  • दो कप पानी में मुट्ठी भर पुदीने की पत्तियां डालें और उबाल लें।
  • उबालने के बाद पानी ठंडा होने दें।
  • ठंडा हो जाने के बाद पुदीने का पानी छान लें।
  • अब इसमें कॉटन बॉल को भिगोकर खुजली से प्रभावित त्वचा पर लगाएं।

कितनी बार करें?

समस्या के दौरान यह प्रक्रिया दो-तीन बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

पुदीने की पत्तियों में मौजूद प्रमुख तत्व मेन्थॉल होता। मेन्थॉल एंटी इंफ्लेमेटरी और एनेस्थीसिया गुणों से समृद्ध होता है, जो खुजली और सूजन से आपको राहत दिला सकता है (14, 15)।

11. मेथी के बीज

सामग्री

  • एक-दो कप मेथी के बीज

कैसे करें इस्तेमाल?

  • मेथी के बीजों को एक घंटे के लिए पानी में भिगो दें।
  • भीगे हुए मेथी के दानों को थोड़े से पानी के साथ पीसकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं।
  • अब पेस्ट को खुजली से प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  • पेस्ट सूखने पर त्वचा को पानी से धो लें।

कितनी बार करें?

सप्ताह में कम से कम तीन बार यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

मेथी के बीज में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो खुजली और सूजन को काफी हद तक कम कर सकते हैं (16)। मेथी के बीज अपने एंटीमाइक्रोबियल गुणों के चलते रैशेज को ठीक करने का काम करते हैं। खुजली से राहत पाने के लिए आप मेथी के बीजों का इस प्रकार प्रयोग कर सकते हैं (17)।

12. शहद

Honey for Itching in Hindi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • शहद (आवश्यकतानुसार)

कैसे करें इस्तेमाल?

  • खुजली व चकत्तों वाले क्षेत्र पर शहद लगाएं।
  • कम से कम 20 मिनट तक शहद को लगा रहने दें।
  • 20 मिनट बाद साफ पानी से त्वचा पर लगे शहद को धीरे से पोंछ लें।

कितनी बार करें?

  • दिन में यह प्रक्रिया दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

शहद एक सटीक खुजली का घरेलू उपाय है, जो एंटी बैक्टीरियल गुणों से समृद्ध होता है (18)। इसका इस्तेमाल आप खुजली से संक्रमित त्वचा को आराम पहुंचाने के लिए कर सकते हैं। शहद न सिर्फ चकत्तों को कम करेगा, बल्कि निशान मिटाने में मदद करेगा।

13. लहसुन

सामग्री

  • लहसुन की दो-तीन कलियां
  • आधा कप जैतून का तेल

कैसे करें इस्तेमाल?

  • लहसुन की कलियों को छोटा-छोटा काट लें और जैतून के तेल के साथ गर्म कर लें।
  • गर्म करने के बाद तेल को रातभर के लिए इसी तरह छोड़ दें।
  • अगली सुबह, इस तेल को सभी प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
  • 20 से 30 मिनट तक तेल त्वचा पर लगा रहने दें और बाद में साफ पानी से धो लें।

कितनी बार करें?

समस्या के दौरान रोजाना एक बार यह प्रक्रिया दोहराएं।

कैसे है लाभदायक?

खुजली का उपाय करने के लिए आप लहसुन प्रयोग में ला सकते हैं। लहसुन को अपने शक्तिशाली एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटीफंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाना जाता है, जिसका इस्तेमाल आप खुजली से निजात पाने के लिए कर सकते हैं (19)। यह एक सुरक्षित प्राकृतिक उपाय है।

14. एसेंशियल ऑयल

क) पुदीने का तेल

सामग्री

  • पुदीने के तेल की दो-तीन बूंद
  • कैरियर तेल (नारियल या जैतून का तेल) का एक बड़ा चम्मच

कैसे करें इस्तेमाल?

  • पुदीने के तेल को कैरियर तेल के साथ मिलाएं।
  • अब इसे प्रभावित जगह पर लगाएं।

कितनी बार करें?

रोजाना कम से कम एक बार जरूर करें।

कैसे है लाभदायक?

पुदीने के तेल में मेन्थॉल होता है, जो एंटीइंफ्लेमेटरी और एनेस्थीसिया गुणों के लिए जाना जाता है। खुजली से राहत पाने के लिए आप इस खास तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं (14, 15)।

ख) टी ट्री ऑयल

Tea Tree Oil for Itching in Hindi Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • टी ट्री तेल की दो-तीन बूंद
  • कैरियर तेल (नारियल या जैतून का तेल) का एक बड़ा चम्मच

कैसे करें इस्तेमाल?

  • टी ट्री ऑयल को कैरियर तेल के साथ मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को सीधे खुजली वाली त्वचा पर लगाएं और इसे सूखने दें।

कितनी बार करें?

रोजाना कम से कम एक बार जरूर करें।

कैसे है लाभदायक?

खुजली की दवा के रूप में आप टी ट्री ऑयल इस्तेमाल में ला सकते हैं। टी ट्री ऑयल एक औषधीय तेल है, जो एंटीसेप्टिक, एंटीमाइक्रोबियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध होता है। खुजली से संक्रमित त्वचा का इलाज करने के लिए आप इस खास तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं (20), (21)।

15. विटामिन्स

ऊपर बताए गए उपायों के अलावा आप खुजली से बचे रहने के लिए विटामिन्स से भरपूर खाद्य पदार्थों का भी सेवन कर सकते हैं। विटामिन-ए, सी और ई आपकी त्वचा को संक्रमण से होने वाली खुजली से बचाए रखने में मदद करते हैं। विटामिन-ए त्वचा कोशिकाओं के उत्पादन और वृद्धि को बढ़ावा देकर त्वचा को स्वस्थ और पोषित रखता है (22)।

वहीं, विटामिन-सी कोलेजन के उत्पादन में सहयोग करता है, जो त्वचा के लिए जरूरी है (23)। विटामिन-सी और ई एंटीऑक्सीडेंट गुणों से समृद्ध होते हैं, जो त्वचा को रेडिकल्स फ्री रखते हैं (24)। अंडे, पनीर, दूध, खट्टे फल, हरी सब्जियां और नट्स विटामिन्स से भरपूर होते हैं, जिनका आप सेवन कर सकते हैं।

खुजली से बचाव के उपाय – Prevention Tips For Itching in Hindi

  • ढीले-ढाले या सूती कपड़े पहनें।
  • अपने आसपास नमी को बनाए रखने के लिए ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें।
  • अपने नाखूनों को समय पर काटें।
  • रोजाना शावर लें।
  • तनाव के स्तर को नियंत्रण में रखें।
  • कैफीन और अल्कोहल के सेवन से बचें।
  • रोजाना पानी की पर्याप्त मात्रा लें, ताकि आप अच्छी तरह हाइड्रेटेड रहें।
  • अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज रखें। इसके लिए आप अच्छा मॉइस्चराइजर प्रयोग कर सकते हैं।
  • जिन खाद्य पदार्थाों से आपको एलर्जी है उनसे दूर रहें।
  • कपड़े धोने के बाद अच्छी तरह धूप में सुखाएं, कपड़ों का गीलापन खुलजी को आमंत्रण देता है।

कब लेनी चाहिए डॉक्टर की सलाह – When to Visit A Doctor in Hindi

  • अगर खुजली कई हफ्तों तक रहे।
  • घरेलू उपाय के बावजूद कोई सुधार न हो।
  • अचानक खुजली का शुरू हो जाना।
  • पूरे शरीर को प्रभावित करना।
  • खुजली के साथ थकान, वजन घटना या बुखार आना।
  • खुजली के साथ किसी अन्य त्वचा संक्रमण का सामने आना।

खुजली एक आम समस्या है, जो किसी भी वक्त आपकी त्वचा को निशाना बना सकती है। शरीर के प्रति सही देखभाल और प्रतिदिन शरीर की नियमित सफाई से आप इससे बचे रहेंगे। खुजली होने पर आप लेख में बताए गए प्राकृतिक उपायों को अपना सकते हैं। आशा है, यह लेख आपको पसंद आया होगा, किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप अपने सवाल नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

और पढ़े:

संबंधित आलेख