लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान – Lemon Grass Benefits and Side Effects in Hindi

Medically Reviewed By Neha Srivastava (Nutritionist), Nutritionist
Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

लेमन ग्रास का नाम सुनते ही आपके दिमाग में जरूर हरी-हरी घास की तस्वीर आई होगी। साथ ही आप सोच रहे होंगे कि भला घास भी क्या स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकती है? बस यहीं आप धोखा खा गए। आपको स्पष्ट कर दें कि हम यहां कोई ऐसी-वैसी घास नहीं, बल्कि लेमन ग्रास की बात कर रहे हैं। यह सिर से लेकर पैर तक, कई बीमारियों से निजात दिलाने में सहायक हो सकती है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में आज हम लेमन ग्रास क्या है और शरीर के लिए लेमन ग्रास के फायदे क्या-क्या हैं, इससे जुड़ी हर जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

स्क्रॉल करें

चलिए, सबसे पहले जानते हैं कि लेमन ग्रास क्या है।

लेमन ग्रास क्या है?

लेमन ग्रास एक औषधीय पौधा है, जो खासकर दक्षिण-पूर्वी एशिया में पाया जाता है। यह घास जैसा ही दिखता है, बस इसकी लंबाई आम घास से ज्यादा होती है। वहीं, इसकी महक नींबू जैसी होती है और इसका ज्यादातर उपयोग चाय में अदरक की तरह किया जाता है। इसके अलावा, दवा के रूप में लेमन ग्रास आयल का उपयोग भी सालों से किया जाता आ रहा है। इसमें लगभग 75 प्रतिशत सिट्रल पाया जाता है, जिसकी वजह से इसकी खुशबू भी नींबू जैसी होती है। अक्सर लेमन ग्रास तेल का उपयोग सौंदर्य उत्पाद और पेय पदार्थों में किया जाता है (1)।

आगे विस्तार से पढ़ें

लेख के इस भाग में लेमन ग्रास के औषधीय गुणों के बारे में बता रहे हैं।

लेमन ग्रास के औषधीय गुण

लेमन ग्रास में कई औषधीय गुण होते हैं, जिस वजह से कई आयुर्वेदिक उपचार के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित रिसर्च की मानें, तो इसमें बैक्टीरिया से बचाव के लिए एंटी-बैक्टीरियल, सूजन को दूर करने के लिए एंटी-इन्फ्लेमेटरी व फंगस से राहत दिलाने के लिए एंटी-फंगल प्रभाव होते हैं। लेमन ग्रास में पाए जाने वाले ये सभी गुण कई कई तरह की बीमारियों और संक्रमण से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं (2)।

पढ़ते रहें

लेमन ग्रास के औषधीय गुण जानने के बाद आगे जानिए लेमन ग्रास के फायदे क्या-क्या हैं।

लेमन ग्रास के फायदे – Benefits of Lemon Grass in Hindi

दिखने में घास जरूर प्रतीत होती है, लेकिन लेमन ग्रास के अनेक फायदे हैं। नीचे हम लेमन ग्रास के फायदे क्रमबद्ध बता रहे हैं।

1. कोलेस्ट्रॉल के लिए

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखने में लेमन ग्रास अहम भूमिका निभा सकती है। इस बात की पुष्टि दो अलग-अलग शोध से होती है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, लेमनग्रास के अर्क में हाइपोकोलेस्ट्रोलेमिक प्रभाव होता है, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मददगार हाे सकता है (3)।

वहीं, इसी संबंध में एनसीबीआई (नेशनल सेंटर ऑफ बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में बताया गया है कि लेमन ग्रास तेल के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम किया जा सकता है (4)। इस तरह कोलेस्ट्रॉल को संतुलित रखने के लिए लेमन ग्रास के फायदे हासिल किए जा सकते हैं।

2. पाचन के लिए लाभकारी

एक शोध में साफतौर से बताया गया है कि लेमन ग्रास का सेवन अपच, गैस्ट्रिक की समस्यापेट संबंधित अन्य परेशानियों से राहत दिलाने के साथ पेट की अंदरूनी दीवारों (Stomach lining) को सुरक्षा प्रदान कर सकता है। साथ ही, पाचन को दुरुस्त करने में भी सहायक हो सकता है (5)। यदि किसी को पाचन संबंधी परेशानी है, तो वो लेमन ग्रास टी से तैयार चाय का सेवन कर सकता है।

3. किडनी के लिए

किडनी को स्वस्थ रखने के लिए भी लेमन ग्रास के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, लेमन ग्रास में मूत्रवर्धक गुण होता है। इसका सेवन करने से बार-बार पेशाब जाने की जरूरत हो सकती है, जो किडनी के लिए अच्छा है। इससे शरीर के विषाक्त पदार्थ पेशाब के जरिए बाहर निकल सकते हैं, जिसे किडनी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जा सकता है। इसके अलावा, पथरी की दवाइयों में भी मूत्रवर्धक गुण होते हैं, जो किडनी स्टोन को बाहर निकालने में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (6)।

4. कैंसर से बचाव

लेमन ग्रास और लेमन ग्रास तेल में एंटी-कैंसर गुण पाए जाते हैं, जो कैंसर सेल्स को खत्म कर कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं (7)। इसके अलावा, कैंसर सेल्स को खत्म करने के लिए लेमन ग्रास की चाय के फायदे भी हो सकते हैं (8)। हालांकि, कैसर एक लाइलाज बीमारी है जिसका सटीक इलाज अभी तक नहीं खोजा गया है ऐसे कैंसर की समस्या में लेमन ग्रास की उपयोग करने के स्थानी डॉक्टर के बताया गया उपचार अपनाना चाहिए।

5. वजन कम करने के लिए लेमन ग्रास के फायदे

जैसा कि लेख में पहले ही बताया जा चुका है कि लेमन ग्रास में मूत्रवर्धक गुण होता है। यह शरीर को डिटॉक्सिफाई कर सकता है और यूरिन के जरिए विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकाल सकता है। माना जाता है कि डिटॉक्सिफिकेशन से वजन कम करने में मदद मिल सकती है (9)।

इसके अलावा, एक अन्य शाेध में इस बात का जिक्र मिलता है कि लेमनग्रास में β-सिट्रोनेलोल नामक कंपाउंड पाया जाता है, जो वसा के ऊतक यानी टिश्यू की गतिविधि में वृद्धि कर वजन को कम करने में मददगार हो सकता है (10)। इस तरह वजन को नियंत्रित करने के लिए लेमन ग्रास की चाय को आहार का हिस्सा बनाना एक बेहतर विकल्प हो सकता है।

6. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

लेमन ग्रास पर आधारित एक शोध में साफतौर से बताया गया है कि लेमन ग्रास में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए, बी और सी मौजूद होते हैं, जो इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में सहायक भूमिका निभा सकते हैं (5)। वहीं, एक अन्य शोध के अनुसार लेमनग्रास में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर करने में मदद कर सकता है (11)। इस तरह लेमन ग्रास इम्यूनिटी को बूस्ट करने में उपयोगी साबित हो सकता है।

7. अनिंद्रा में लाभदायक

अनिद्रा की शिकायत होने पर या फिर ठीक से नींद नहीं आ रही है, तो इस समस्या से आराम पाने के लिए लेमन ग्रास तेल का उपयोग कर सकते हैं। इसमें सेडेटिव (Sedative) गुण होते हैं, जो बेहतर नींद लेने में मदद कर सकते हैं (2)। चाहें तो लेमन ग्रास तेल की कुछ बूंदें डिफ्यूजर में डाल कर उससे अरोमाथेरेपी ले सकते हैं।

8. गठिया के लिए लेमन ग्रास के फायदे

रूमेटाइड अर्थराइटिस ऐसी समस्या है, जिसमें जोड़ों में दर्द, सूजन और अकड़न आने लगती है। 30 से 60 साल की उम्र में ये समस्या होना आम है। एक वैज्ञानिक अध्ययन में गठिया की समस्या से राहत के लिए लेमन ग्रास तेल को फायदेमंद बताया गया है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो गठिया के लक्षणों से आराम दे सकता है (12)। इसके लिए लेमन ग्रास तेल की कुछ बूंदों से प्रभावित जगह पर मसाज किया जा सकता है।

9. अवसाद के लिए लेमन ग्रास

अवसाद से लड़ने में भी लेमन ग्रास के फायदे देखे गए हैं। दरअसल, लेमन ग्रास में एंटी-डिप्रेसेंट यानी अवसाद की स्थिति को कम करने वाले गुण पाए जाते हैं, जो अवसाद को दूर करने का काम कर सकते हैं (13)। ऐसे में अवसाद से ग्रसित लोगों के लिए लेमन ग्रास की चाय का सेवन उपयोगी माना जा सकता है।

10. तंत्रिका तंत्र के लिए लेमन ग्रास के फायदे

लेमन ग्रास के पोषक तत्व तंत्रिका तंत्र के लिए लाभकारी हो सकते हैं। दरअसल, इसमें मैग्नीशियम पाया जाता है, जो न्यूरोडीजेनेरेटिव रोग से बचाव कर सकता है (14) (15)। न्यूरोडीजेनेरेटिव रोग में मस्तिष्क के न्यूरॉन्स नष्ट होने लगते हैं। वहीं, एक अन्य शोध के अनुसार लेमनग्रास तंत्रिका तंत्र के लिए टॉनिक माना जाता है। यह मस्तिष्क को उत्तेजित कर घबराहट, वर्टिगो यानी चक्कर आना और विभिन्न प्रकार के न्यूरोनल विकारों से निपटने में मदद कर सकता है (11)।

11. अस्थमा के लिए

आयुर्वेद में श्वसन संबंधी विकारों के इलाज के लिए लेमन ग्रास का इस्तेमाल सालों से किया जा रहा है। इसके पीछे लेमन ग्रास में मौजूद विटामिन सी को जिम्मेदार माना जाता है। यह श्वसन प्रणाली में होने वाली ब्लॉकेज, फ्लू और अस्थमा जैसे श्वसन विकारों से राहत प्रदान करने में मदद कर सकता है (11)। ऐसे में लेमन ग्रास के फायदे की सूची में अस्थमा से राहत भी शामिल है।

12. स्ट्रेस के लिए लेमन ग्रास

लेमन गार्स के गुण स्ट्रेस से भी आराम दिला सकते हैं। असल में ये काम लेमन ग्रास में पाया जाने वाला मैग्नीशियम करता है। शोध में पाया गया है कि मैग्नीशियम की कमी तनाव से जुड़ी समस्याओं जैसे सिरदर्द, अनिद्रा, थकान, अति-भावनात्मकता व चिंता आदि हो सकती हैं (16)। ऐसे में लेमन ग्रास का सेवन मदद कर सकता है, क्योंकि इसमें मैग्नीशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है (14)। चाहें तो स्ट्रेस और चिंता को दूर करने के लिए लेमन ग्रास तेल से अरोमाथेरेपी भी ले सकते हैं (17)।

13. मधुमेह के लिए लेमन ग्रास के फायदे

अगर मधुमेह से परेशान हैं, तो लेमन ग्रास के गुण मदद कर सकते हैं। लेमन ग्रास और उसके फूलों को पारंपरिक रूप से मधुमेह के इलाज के लिए उपयोग किया जाता रहा है। इसमें एंटी-डायबिटिक गुण होते हैं, जो खाली पेट और खाने के बाद के ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं (18)।

14. दर्दनिवारक

लेमनग्रास का उपयोग दर्द को कम करने में सहायक हो सकता है। दरअसल, चुहों पर किए गए एक अध्ययन से इस बात की पुष्टि होती है। शोध में पाया गया कि लेमनग्रास के साथ ही इसकी चाय और तेल में एनाल्जेसिक प्रभाव यानी दर्द निवारक प्रभाव पाया गया, जो दर्द को कम करने में मदद कर सकता है (19)। इस तरह दर्द की स्थिति में लेमन ग्रास का उपयोग लाभकारी हो सकता है।

15. मुंहासों के लिए लेमोंग्रस के फायदे

लेमन ग्रास के गुण बेदाग और पिंपल-फ्री त्वचा पाने में मदद कर सकते हैं। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं, जो पिम्पल और संक्रमण फैलाने वाले कीटाणुओं से लड़ते हैं और उन्हें जड़ से खत्म कर सकते हैं (2)। इसके अलावा, इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस को कम करने के साथ मुहांसों को बढ़ने से रोक सकते हैं (20)।

पढ़ते रहें

लेख के अगले भाग में लेमन ग्रास के पोषक तत्वों के बारे में जानेंगे।

लेमन ग्रास के पौष्टिक तत्व – Lemon Grass Nutritional Value in Hindi

इस टेबल की मदद से जानिए कि लेमन ग्रास में कौन-कौन से पोषक तत्व कितनी मात्रा में पाए जाते हैं (14)।

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी 70.58 ग्राम
ऊर्जा99 कैलोरी
प्रोटीन1.82 ग्राम
फैट0.49 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट25.31 ग्राम
कैल्शियम65 मिलीग्राम
आयरन8.17 मिलीग्राम
मैग्नीशियम60 मिलीग्राम
फास्फोरस101 मिलीग्राम
पोटैशियम723 मिलीग्राम
सोडियम6 मिलीग्राम
जिंक2.23 मिलीग्राम
कॉपर0.266 मिलीग्राम
मैंगनीज5.224 मिलीग्राम
सिलेनियम0.7 माइक्रोग्राम
विटामिन सी2.6 मिलीग्राम
थियामिन0.065 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन0.135 मिलीग्राम
नियासिन1.101 मिलीग्राम
पैंटोथैनिक एसिड0.050 मिलीग्राम
विटामिन बी-60.080 मिलीग्राम
फोलेट डीएफई75 माइक्रोग्राम
विटामिन ए आईयू6 आईयू
फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड0.119 ग्राम
फैटी एसिड टोटल मोनोअनसैचुरेटेड0.054 ग्राम
फैटी एसिड टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड0.170 ग्राम

अंत तक पढ़ें

आइए, अब आपको बताते हैं कि लेमन ग्रास का उपयोग कैसे किया जाता है।

लेमन ग्रास का उपयोग – How to Use Lemon Grass in Hindi

लेमन ग्रास की न सिर्फ सुगंध बल्कि इसका स्वाद भी नींबू के से मिलता-जुलता होता है। थाई और कॉन्टिनेंटल खाना बनाने में लेमन ग्रास का खास उपयोग किया जाता है। लेमन ग्रास का उपयोग कई तरह से कर सकते हैं, जैसे:

कैसे उपयोग करें:

  • लेमन ग्रास टी के फायदे के लिए ग्रीन टी की तरह इसकी चाय बना सकते हैं। इसे चाय में अदरक/इलाइची की तरह भी उपयोग कर सकते हैं।
  • चिकन बनाते समय उसमें थोड़ी-सी लेमन ग्रास काट कर डाल सकते हैं। यह चिकन को एक अलग स्वाद दे सकती है।
  • लेमन ग्रास का सूप बना सकते हैं। थोड़ी-सी लेमन ग्रास टमाटर के सूप में भी डाल सकते हैं।
  • लेमन ग्रास चाय के फायदे के लिए इसमें बर्फ डाल इसकी आइस्ड लेमन ग्रास टी बना सकते हैं।
  • लेमन ग्रास का पेस्ट बना कर सब्जियां बनाने में उपयोग कर सकते हैं।
  • खाने में नींबू के छिलके की जगह लेमन ग्रास का उपयोग कर सकते हैं।

कब उपयोग करें:

  • लेमन ग्रास चाय का सेवन सुबह और शाम कर सकते हैं।
  • दोपहर या रात के भोजन में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

कितना उपयोग करें:

  • चाय को कड़क बनाने के लिए आवश्यकतानुसार उसमें एक या दो लेमन ग्रास की पत्तियां डाल सकते हैं।
  • खाना बनाने में भी स्वादनुसार 8-10 पत्तियां लेमन ग्रास डाल सकते हैं, लेकिन इसका उपयोग सीमित मात्रा में ही करें।

नोट: ध्यान रखें कि ताजी लेमन ग्रास का ही उपयोग करें। उपयोग करने से पहले इसके डंठल के नीचे का टुकड़ा काट दें और सूखी हुई पत्तियां हटा दें। लेमन ग्रास की पत्तियां चाय बनाने में और अंदर का पीला भाग खाना बनाने में उपयोग कर सकते हैं।

नीचे स्क्रॉल करें

लेमोंग्रस के फायदे जानने के बाद अब आगे जानिए लेमन ग्रास के नुकसान।

लेमन ग्रास के नुकसान – Side Effects of Lemon Grass in Hindi

वैस तो इसका सेवन सुरक्षित है, लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से लेमन ग्रास के नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। नीचे जानिए लेमन ग्रास के कुछ दुष्प्रभावों के बारे में (11):

  • इसके ड्युरेटिक प्रभाव के कारण बार बार पेशाब जाने की समस्या हो सकती है।
  • संवेदनशील लोगों को इससे एलर्जी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

नोट: लेमन ग्रास के नुकसान का अभी कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है। इसके सभी नुकसान लोगों के अनुभवों पर आधारित हैं। इसलिए, अगर कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें।

अब तो आप लेमन ग्रास के नुकसान और फायदों के बारे में समझ ही गए होंगे। आपने ध्यान दिया होगा कि लेमन ग्रास के नुकसान ज्यादा नहीं हैं और ये लगभग सुरक्षित ही है, बशर्ते आप इसका सेवन सीमित और नियंत्रित मात्रा में करें। साथ ही, इस बात का भी ध्यान रखें कि अगर लेमन ग्रास का उपयोग किसी विशेष समस्या के लिए कर रहे हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें। हम उम्मीद करते हैं कि इस लेख में दी गई जानकारी आपके काम आएगी। इस लेख को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर करना न भूलें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

लेमनग्रास किसके लिए अच्छा है?

लेमनग्रास कई प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं में फायदेमंद हाे सकता है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी व एंटी-फंगल जैसे औषधीय गुण होते हैं जो कई तरह की बीमारियों और संक्रमण से बचा सकते हैं (2)।

क्या आप रोज लेमनग्रास की चाय पी सकते हैं?

हां, रोजाना लेमनग्रास टी का सेवन किया जा सकता है (21)। बशर्ते, इसका सेवन सीमित मात्रा में किया जाए।

क्या लेमनग्रास लिवर के लिए अच्छा है?

हां, लेमनग्रास में हेपेटोप्रोटेक्टिव प्रभाव होता है, जो लीवर की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है (22)।

क्या लेमन ग्रास वजन घटाने के लिए अच्छा है?

हां, लेमन ग्रास में मौजूद सिट्रोनेलोल नामक कंपाउंड वजन को कम करने में मददगार हो सकता है (10)।

क्या लेमन ग्रास बालों के लिए अच्छा है?

हां, लेमनग्रास बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है। इसमें एंटीडैंड्रफ प्रभाव होता है, जो डैंड्रफ की समस्या में बालों के लिए हेयर टॉनिक का कार्य कर सकता है (23)।

क्या लेमनग्रास आंखों के लिए अच्छा है?

हां, आयुर्वेद में लेमनग्रास को आंखों की समस्या के लिए फायदेमंद माना गया है (24)।

क्या लेमनग्रास उच्च रक्तचाप को कम कर सकता है?

हां, लेमनग्रास में एंटीहाइपरटेंसिव प्रभाव होता है, जो रक्तचाप को कम करने में सहायक हो सकता है (25)।

सेहत के लिए लेमन ग्रास टी के फायदे क्या क्या हो सकते हैं?

सेहत के लिए लेमन ग्रास टी फायदे कई सारे हैं। इसका इस्तेमाल गले में खराश, बुखार, गठिया, मांसपेशियों की ऐंठन, हैजा, सिरदर्द, मधुमेह आदि समस्याओं से राहत प्रदान कर सकता है (2)।

त्वचा के लिए लेमन ग्रास आयल के फायदे क्या हैं?

त्वचा के लिए लेमनग्रास काे एक स्किन टॉनिक के रूप में माना जाता है। इसमें एस्ट्रिंजेंट और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जिस वजह से ऑयली और मुंहासों वाली त्वचा के लिए यह एक बेहतर क्लीन्जर की तरह काम कर सकता है। साथ ही यह त्वचा को टोनिंग करने में भी मदद कर सकता है (11)।

संदर्भ (Sources):

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. LEMON GRASS
    http://nhb.gov.in/Horticulture%20Crops/Lemongrass/Lemongrass1.htm
  2. Scientific basis for the therapeutic use of Cymbopogon citratus stapf (Lemon grass)
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3217679/#ref61
  3. Hypocholesterolaemic effect of ethanolic extract of fresh leaves of Cymbopogon citratus (lemongrass)
    https://academicjournals.org/article/article1383297319_Agbafor%20and%20Akubugwo.pdf
  4. Cholesterol reduction and lack of genotoxic or toxic effects in mice after repeated 21-day oral intake of lemongrass (Cymbopogon citratus) essential oil
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/21693164/
  5. Therapeutic benefi ts of lemongrass and tea tree
    https://www.heighpubs.org/hjcee/pdf/acee-aid1022.pdf
  6. Ameliorating effect of gum arabic and lemongrass on chronic kidney disease induced experimentally in rats
    https://bnrc.springeropen.com/track/pdf/10.1186/s42269-019-0086-x.pdf
  7. INSIGHT TO LEMONGRASS ESSENTIAL OIL AS PHYTOMEDICINE: STATE OF THE ART AND FUTURE PERSPECTIVES
    http://www.ajpcrjournal.com/article/INSIGHT%20TO%20LEMONGRASS_ESSENTIAL%20OIL%20AS%20PHYTOMEDICINE%20STATE%20OF%20THE%20ART%20AND%20FUTURE%20PERSPECTIVES.pdf
  8. Citral is a new inducer of caspase-3 in tumor cell lines
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/15931590/
  9. Detox diets for toxin elimination and weight management: a critical review of the evidence
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25522674/
  10. Lemon grass
    https://www.researchgate.net/publication/290390651_Lemon_grass
  11. Lemon Grass (Cymbopogon
    L spreng ) Valuable Grass But Underutilized In Northern Nigeria
  12. Effect of Lemongrass Oil on Rheumatoid Arthritis
    http://jpsr.pharmainfo.in/Documents/Volumes/vol9Issue02/jpsr09021734.pdf
  13. Evaluation of anti-depressant effect of lemon grass ( Cymbopogon citratus ) in albino mice
    https://www.researchgate.net/publication/271362306_Evaluation_of_anti-depressant_effect_of_lemon_grass_Cymbopogon_citratus_in_albino_mice
  14. Lemon grass (citronella) raw
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/168573/nutrients
  15. The Role of Magnesium in Neurological Disorders
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6024559/#targetText=From%20a%20neurological%20standpoint%2C%20magnesium
  16. Magnesium and stress
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK507250/
  17. Effect of Lemongrass Aroma on Experimental Anxiety in Humans
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26366471/
  18. STUDY OF ANTIDIABETIC EFFECT OF LEMONGRASS (CYMBOPOGON CITRATUS) AQUEOUS ROOTS AND FLOWER EXTRACTS ON ALBINO MICE
    http://ijpsr.com/bft-article/study-of-antidiabetic-effect-of-lemongrass-cymbopogon-citratus-aqueous-roots-and-flower-extracts-on-albino-mice/?view=fulltext
  19. Myrcene mimics the peripheral analgesic activity of lemongrass tea
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/1753786/
  20. Oxidants and anti-oxidants status in acne vulgaris patients with varying severity
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24795060/
  21. Potential Functions of Lemon Grass (Cymbopogon citratus) in Health and Disease
    https://www.researchgate.net/publication/234007840_Potential_Functions_of_Lemon_Grass_Cymbopogon_citratus_in_Health_and_Disease
  22. Hepatoprotective Effect of Cymbopogon Citratus Aqueous Extract Against Hydrogen Peroxide-Induced Liver Injury in Male Rats
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4202655/
  23. Anti-dandruff Hair Tonic Containing Lemongrass (Cymbopogon flexuosus) Oil
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26566122/
  24. Lemongrass essential oil gel as a local drug delivery agent for the treatment of periodontitis
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4078470/
  25. Antihypertensive potential of the aqueous extract which combine leaf of Persea americana Mill. (Lauraceae) stems and leaf of Cymbopogon citratus (D.C) Stapf. (Poaceae) fruits of Citrus medical L. (Rutaceae) as well as honey in ethanol and sucrose experimental model
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4301628/

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Neha Srivastava (Nutritionist)

(Nutritionist)
Neha Srivastava - Nutritionist M.Sc -Life Science PG Diploma in Dietetics & Hospital Food Services. I am a focused health... more

ताज़े आलेख