मार्शमैलो रूट के फायदे और नुकसान – Marshmallow Root Benefits and Side Effects in Hindi

Written by

भारत में कई वर्षों से चिकित्सा के क्षेत्र में औषधीय जड़ी बूटियों का उपयोग किया जाता रहा है। कई जड़ी-बूटियां ऐसी हैं, जो स्वास्थ्य के लिए और कई तरह के रोगों से बचाव के लिए कारगर साबित हो सकती है। उन्हीं में से एक मार्शमैलो रूट यानी मार्शमैलो की जड़ है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम मार्शमैलो रूट के फायदे से जुड़ी जानकारी दे रहे हैं। साथ ही पाठकों के साथ पारदर्शिता रखते हुए हम मार्शमैलो रूट के नुकसान के बारे में भी बताएंगे। तो मार्शमैलो रूट के फायदे, नुकसान, उपयोग व अन्य जानकारियों के लिए लेख को पूरा पढ़ें।

स्क्रॉल करें

आइये, लेख में सबसे पहले हम आपको बता दें कि मार्शमैलो रूट क्या है?

मार्शमैलो रूट क्‍या है? – What Is Marshmallow Root in Hindi

मार्शमैलो एक औषधीय पौधा है। इसका वैज्ञानिक नाम एल्थिया ऑफिसिनैलिस (Althaea officinalis) है और यह मुख्य रूप से यूरोप, उत्तरी अफ्रीका और पश्चिमी एशिया से संबंध रखता है। इसकी जड़, पत्ते और फूल आमतौर पर पारंपरिक चिकित्सा में उपयोग किए जाते हैं। वहीं, इसमें कई खास औषधीय गुण पाए जाते हैं, जिनमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी, एंटी-कफ, एंटीवायरल और एंटी-यीस्ट शामिल हैं। इसके अलावा, इसका उपयोग हाइपरलिपिडेमिया (रक्त में लिपिड की अधिक मात्रा), सूजन, गैस्ट्रिक अल्सर और प्लेटलेट्स की समस्या के दौरान लाभकारी माना जाता है (1)। नीचे हम पाठकों को मार्शमैलो रूट के लाभ के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

पढ़ते रहें

आर्टिकल के इस हिस्से में सेहत के लिए मार्शमैलो रूट के फायदे के बारे में विस्तार से जानकारी दे रहे हैं।

मार्शमैलो रूट के फायदे – Benefits of Marshmallow Root in Hindi

मार्शमैलो के औषधीय गुण इसे सेहत के लिए कई प्रकार से फायदेमंद बना सकते हैं। यहां हम आपको मार्शमैलो रूट के फायदे बता रहे हैं। वहीं, इस बात का ध्यान रखें कि मार्शमैलो की जड़ किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है। इसका सेवन बीमारी से बचाव और इसके प्रभाव को कुछ हद तक कम कर सकता है। अब मार्शमैलो रूट के फायदे कुछ इस प्रकार हैं:

1. कफ और सर्दी में

मार्शमैलो रूट के फायदे कफ और सर्दी में देखे जा सकते हैं। दरअसल, इसमें मौजूद पॉलीसेकेराइड में एंटीट्यूसिव प्रभाव पाया जाता है, यानी कफ से निजात दिलाने वाला गुण (2)। वहीं, एक अध्ययन में मार्शमैलो रूट युक्त एक हर्बल सिरप को कफ और कोल्ड के लिए प्रभावी पाया गया है (3)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि कफ और सर्दी की समस्या में मार्शमैलो रूट एक कारगर उपाय हो सकता है।

2. फेफड़ों के कैंसर से बचाव 

कैंसर से बचाव में मार्शमैलो के फायदे देखे जा सकते हैं। इससे जुड़े एक शोध में पाया गया है कि मार्शमैलो के पॉलीसेकेराइड्स में एंटीप्रोलिफेरेटिव (कैंसर सेल्स ग्रोथ को रोकने वाला) गुण पाए जाते हैं। यह गुण लंग्स के साथ लिवर और ब्रेस्ट कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, शोध में इस बात की जानकारी भी दी गई है कि मार्शमैंलो में एंटीकैंसर गुण पाए जाते हैं। यह गुण कैंसर के जोखिम से बचाव करने में फायदेमंद हो सकते हैं (4)।

यहां हम पाठकों को बता दें कि मार्शमैलो की जड़ कैंसर का उपचार नहीं है, हां यह कैंसर के जोखिम को कुछ हद तक कम कर सकता है। वहीं, अगर किसी को कैंसर है तो इसके लिए डॉक्टरी इलाज बहुत जरूरी है।

3. बैक्टीरियल संक्रमण के लिए

बैक्टीरियल संक्रमण से लड़ने और इससे बचाव में भी मार्शमैलो के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में जिक्र मिलता है कि मार्शमैलो की जड़ एस. म्यूटान और एल.एसिडोफिलस नामक बैक्टीरिया के खिलाफ एंटीबैक्टीरियल प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है। हालांकि, अध्ययन में एंटीबैक्टीरियल प्रभाव के लिए और शोध किए जाने की बात भी कही गई है (5)।

4. पाचन स्वास्थ्य के लिए

मार्शमैलो के लाभ में पाचन स्वास्थ्य भी शामिल है। शोध में पाया गया कि मार्शमैलो रूट का उपयोग पारंपरिक चीनी चिकित्सा में कई प्रकार की समस्याओं के लिए किया जाता है। इन समस्याओं में से एक है पाचन संबंधी विकार। मार्शमैलो का उपयोग पाचन संबंधी समस्याओं से बचाव में मदद कर सकता है (6)।

इसके अलावा, एक अन्य शोध से पता चला है कि मार्शमैलो रूट में एंटासिड गुण पाए जाते हैं (7)। बता दें यह गुण पेट के एसिड स्तर को नियंत्रित करने के साथ सीने में जलन और कब्ज की समस्या में भी लाभकारी हो सकता है (8)। इसके अलावा, मार्शमैलो रूट में लैक्सेटिव गुण भी पाए जाते हैं, जो मल निकासी प्रक्रिया में सुधार का काम कर सकते हैं (9)।

5. लीकी गट के लिए  

लीकी गट सिंड्रोम पाचन से जुड़ी समस्या है। इसमें पेट में दर्द, ऐंठन, सूजन और गैस से जुड़ी परेशानियां शामिल हैं। मार्शमैलो के फायदे इन समस्याओं को काफी हद तक कम करने में सहायक हो सकते हैं। दरअसल, इससे जुड़ी जानकारी में इस बात का साफ तौर पर जिक्र है कि मार्शमैलो रूट में म्यूसिलेज (एक प्रकार का तरल) की मात्रा अधिक पाई जाती है जो पाचन तंत्र की समस्याओं से बचाव में सहायक हो सकता है।

यह आंत में सूजन, अल्सर और दस्त जैसी समस्याओं को कुछ हद तक कम करने या बचाव में लाभकारी माना जा सकता है। मार्शमैलो रूट अल्सरेटिव कोलाइटिस और क्रोहन रोग के लिए भी उपयोगी हो सकता है (10)। ऐसे में कहा जा सकता है कि लीकी गट की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए मार्शमैलो रूट का इस्तेमाल करना फायदेमंद हो सकता है।

जारी रखें पढ़ना

6. मधुमेह के लिए 

बदलते जीवनशैली की वजह से कई सारी बीमारियों का जोखिम लगा रहता है। मधुमेह या डायबिटीज की समस्या भी उन्हीं में से एक है। ऐसे में डायबिटीज में डाइट के साथ-साथ मार्शमैलो रूट का उपयोग भी लाभकारी हो सकता है। दरअसल, इससे जुड़े शोध में यह जानकारी मिलती है कि मार्शमैलो रूट में हाइपोग्लिसेमिक यानी ब्लड शुगर लेवल को कम करने का गुण मौजूद होता है (11)।

ऐसे में डायबिटीज की डाइट में मार्शमैलो रूट का चूर्ण या इसकी चाय को शामिल करना अच्छा विकल्प हो सकता है। हालांकि, अगर कोई डायबिटीज की दवा का सेवन कर रहा है तो बेहतर है इसे डाइट में शामिल करने से पहले एक बार डॉक्टरी सलाह जरूर लें। 

7. जख्म भरने के लिए

मार्शमैलो की रूट का उपयोग जख्म को भरने में मदद कर सकता है। इससे जुड़े एक शोध में पाया गया कि पारंपरिक चीनी चिकित्सा में मार्शमैलो का उपयोग सूजन को कम करने के साथ ही घाव भरने के लिए भी किए जाने की बात सामने आई है (6)। हालांकि, घाव भरने के लिए मार्शमैलो रूट का कौन-सा गुण फायदेमंद होता है, यह अभी शोध का विषय है।

8. दर्द निवारक के रूप में

जख्म भरने के साथ ही मार्शमैलो रूट दर्द को दूर करने में भी मददगार हो सकती है। दरअसल, एक अध्ययन के अनुसार, मार्शमैलो रूट में मौजूद हाइपोलेटिन-8-ग्लूकोसाइड नामक फ्लेवोनॉयड में एनाल्जेसिक यानी दर्दनिवारक गुण मौजूद होता है। यह गुण शरीर से जुड़े दर्द को कम करने में मदद कर सकता है (12)।

9. त्वचा के लिए

मार्शमैलो रूट त्वचा की कई समस्याओं को कम करने में मदद कर सकती है। इससे जुड़े एक शोध में पाया गया कि मार्शमैलो की जड़ के अर्क में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाया जाता है। मार्शमैलों के अर्क में पाया जाने वाला यह गुण त्वचा संबंधी कई समस्याओं जैसे कि फुरुनकुलोसिस (त्वचा पर फोड़े) और एक्जिमा की समस्या को ठीक करने में लाभदायक हो सकता है।

शोध में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि मार्शमैलो की जड़ का अर्क युक्त मलहम सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों की वजह से होने वाली त्वचा की जलन को भी कम करने में मदद कर सकता है (13)।

10. बालों के लिए

सेहत और त्वचा के साथ ही मार्शमैलो रूट का उपयोग बालों के विकास के लिए भी किया जा सकता है। इससे जुड़े एक शोध में पाया गया कि मार्शमैलो रूट के अर्क का उपयोग एंड्रोजेनिक एलोपेशीया की समस्या (बाल झड़ने का एक प्रकार) के दौरान फायदेमंंद साबित हो सकता है। दरअसल, इसमें बालों को बढ़ाने के गुण पाए जाते हैं, जो बालों के विकास में मददगार हो सकते हैं (14)।

आगे भी है कुछ खास

जानते हैं मार्शमैलो रूट के उपयोग के बारे में।

मार्शमैलो रूट का उपयोग – How to Use Marshmallow Root in Hindi

मार्शमैलो के औषधीय गुण के लाभ लेने के लिए इसको कई प्रकार से उपयोग किया जा सकता है। यहां हम इसके कुछ खास उपयोग के बारे में बता रहे हैं।

  • मार्शमैलो रूट का उपयोग चाय के रूप में किया जा सकता है।
  • डॉक्टरी परामर्श पर मार्शमैलो रूट का उपयोग सप्लीमेंट के रूप में किया जा सकता है।
  • त्वचा के लिए मार्शमैलो रूट पाउडर का उपयोग जलन और सूजन को दूर करने के लिए किया जा सकता है।
  • मार्शमैलो रूट के पाउडर का उपयोग हेल्थ ड्रिंक के रूप में भी कर सकते हैं।

नीचे जाने कुछ खास

चलिए, अब जान लेते हैं कि मार्शमैलो रूट की चाय कैसे बनाई जाती है?

मार्शमैलो रूट चाय बनाने की विधि

मार्शमैलो रूट की चाय कई समस्याओं में फायदेमंद हो सकती है। ऐसे में यहां हम आपको बता रहे हैं मार्शमैलो रूट की चाय बनाने की आसान विधि के बारे में।

1. मार्शमैलो रूट की चाय

  • दो लोगों के लिए

सामग्री:

  • दो कप चाय बनाने के लिए एक से दो मार्शमैलो रूट
  • 2 कप पानी

विधि:

  • सबसे पहले मार्शमैलो रूट को छीलकर साफ कर लें और छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • इसके बाद एक बर्तन में पानी डाल दें और गर्म होने के लिए रख दें।
  • पानी में थोड़ा उबाल आने पर इसमें मार्शमैलो रूट के दो छोटे टुकड़े डाल दें।
  • बर्तन को ढक्कन से कवर कर दें और कम से कम 10 मिनट तक इस मिश्रण को अच्छी तरह से उबलने दें।
  • इसके बाद इसे एक कप में छान लें।
  • मार्शमॉलो चाय तैयार है।

2. मार्शमैलो टी बैग की चाय

सामग्री:

  • एक मार्शमैलो टी बैग
  • एक कप पानी

विधि:

  • सबसे पहले एक बर्तन में एक कप पानी लें।
  • गैस में पानी को गर्म होने लिए रख दें।
  • जब पानी में उबाल आने लगे तो कप में पानी निकालर मार्शमैलो टी बैग को डाल दें।
  • ध्यान रखें कि टी बैग को पानी में एक से दो मिनट तक ही भिगोएं।
  • स्वाद के लिए एक टीस्पून शहद भी मिला सकते हैं।

आगे पढ़ें

जानते हैं कि मार्शमैलो रूट की खुराक कितनी होनी चाहिए।

मार्शमैलो रूट की खुराक

मार्शमॉलो रूट की खुराक कितनी ली जा सकती है हम यहां बता रहे हैं।

पाउडर के रूप में 1 चम्मच मार्शमॉलो रूट दिन में एक बार ले सकते हैं। पूरे दिन में 1 कप मार्शमॉलो चाय भी ले सकते हैं। स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए डॉक्टरी परामर्श पर इसकी कैप्सूल भी ली जा सकती है। हालांकि, इसकी दैनिक खुराक की मात्रा से जुड़ा कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है, इसलिए इस विषय में डॉक्टर से सलाह लेना ज्यादा अच्छा होगा।

स्क्रॉल करें

आर्टिकल के इस हिस्से में जानते हैं मार्शमैलो रूट के नुकसान के बारे में।

मार्शमैलो रूट के नुकसान – Side Effects of Marshmallow Root in Hindi

मार्शमैलो रूट पर हुए शोध में इसके फायदों की अधिक जानकारी मिलती है और नुकसान के ऊपर बहुत ही कम शोध उपलब्ध हैं। आइये, नीचे जानते हैं मार्शमैलो रूट के संभावित साइड इफेक्ट्स क्या-क्या हो सकते हैं

  • स्तनपान के दौरान बच्चे के लिए मार्शमैलो रूट असुरक्षित हो सकती है। इसलिए, इस दौरान इसके सेवन से परहेज करें (15)। हालांकि, इस दौरान यह किस प्रकार का नुकसान पहुंचा सकती है, फिलहाल, इससे जुड़े सटीक शोध का अभाव है।
  • जैसे कि हमने जानकारी दी है कि मार्शमैलो रूट रक्त शर्करा के स्तर को कम कर सकती है। इसलिए, कोई अगर मधुमेह की दवाई ले रहा है, तो इसके सेवन से बचे या डॉक्टर से सलाह के बाद ही सेवन करे। इसका सेवन ब्लड शुगर के स्तर को जरूरत से ज्यादा कम कर सकता है (11)।
  • संवेदनशील त्वचा वालों के लिए मार्शमैलो रूट से एलर्जी की समस्या हो सकती है।

मार्शमैलो रूट से जुड़ी तमाम जानकारी के बाद अब हम उम्मीद कर सकते हैं कि आप मार्शमैलो रूट के फायदे और नुकसान अच्छी तरह समझ गए होंगे। साथ ही मार्शमैलो रूट का उपयोग किसी प्रकार किया जा सकता है, इसकी भी आपको अच्छी समझ हो गई होगी। अब आप चाहें, तो डॉक्टरी परामर्श पर इसे इस्तेमाल में ला सकते हैं। वहीं, इसके सेवन की सही मात्रा से जुड़ी जानकारी डॉक्टर से जरूर लें, ताकि आप इससे होने वाले नुकसान से बचे रहें। आशा करते हैं कि मार्शमैलो के फायदे की जानकारी देता यह आर्टिकल आपके लिए लाभकारी रहा होगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल:

मार्शमैलो रूट कहां से खरीद सकते हैं?

मार्शमॉलो रूट को किसी आयुर्वेदिक दुकान से या ऑनलाइन ऑर्डर किया जा सकता है।

क्या स्लिपरी एल्म और मार्शमैलो रूट को एक साथ ले सकते हैं?

स्लिपरी एल्म और मार्शमैलो रूट सेहत के लिए फायदेमंद माने जाते हैं (16)। वहीं, इन्हें एक साथ लेने से पहले एक बार डॉक्टरी परामर्श जरूर लें।

क्या मार्शमैलो रूट रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम कर सकती है?

हां, इससे जुड़े एक वैज्ञानिक अध्ययन में इसके हाइपोग्लाइसेमिक (रक्त शर्करा कम करने वाला) प्रभाव के बारे में पता चलता है, यानी मार्शमैलो की जड़ ब्लड शुगर को कम करने में मदद कर सकती है (11)।

मार्शमैलो रूट की चाय का स्वाद कैसे होता है?

मार्शमैलो रूट की चाय का स्वाद थोड़ा मीठा और थोड़ा मिट्टी जैसा होता है।

क्या मार्शमैलो रूट जीईआरडी के लिए अच्छी है?

हां, मार्शमैलो रूट जीईआरडी (एसिड रिफ्लक्स) के लिए फायदेमंद हो सकती है। इसमें एंटासिड गुण पाए जाते हैं, जो एसिड को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है (7)।

क्या मार्शमैलो रूट में रेचक प्रभाव पाया जाता है?

हां मार्शमैलो रूट में रेचक प्रभाव पाया जाता है (17)।

क्या मार्शमैलो रूट वजन कम करने में आपकी मदद करता है?

हां मार्शमैलो रूट वजन को कम करने में मददगार हो सकता है (18).

संदर्भ (Sources)

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Therapeutic effects of marshmallow (Althaea officinalis L.) extract on plasma biochemical parameters of common carp infected with Aeromonas hydrophila
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5524553/
  2. [Antitussive action of extracts and polysaccharides of marsh mallow (Althea officinalis L var. robusta)]
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/1615030/
  3. Open trial to assess aspects of safety and efficacy of a combined herbal cough syrup with ivy and thyme
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/16391481/
  4. Microwave-assisted extraction of polysaccharides from the marshmallow roots: Optimization purification structure and bioactivity
    https://www.sciencedirect.com/science/article/abs/pii/S0144861720304756
  5. Antibacterial Effects of Different Concentrations of Althaea officinalis Root Extract versus 0.2% Chlorhexidine and Penicillin on Streptococcus mutans and Lactobacillus (In vitro)
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5558251/
  6. An Evaluation of Root Phytochemicals Derived from Althea officinalis (Marshmallow) and Astragalus membranaceus as Potential Natural Components of UV Protecting Dermatological Formulations
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4756206/
  7. Application of Bioinformatics and System Biology in Medicinal Plant Studies
    https://www.researchgate.net/publication/320433194_Application_of_Bioinformatics_and_System_Biology_in_Medicinal_Plant_Studies
  8. Antacids
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK526049/
  9. Gastroprotective effects of herbal medicines (roots)
    https://www.tandfonline.com/doi/full/10.1080/10942912.2018.1473876
  10. leaky-gut
    https://www.berkeleyherbalcenter.org/wp-content/uploads/2020/05/leaky-gut.pdf
  11. The Effect of Althaea officinalis.L Root Alcoholic Extract on Blood Sugar Level and Lipid Profiles of Streptozotocin Induced-Diabetic Rats
    https://www.researchgate.net/publication/281545119_The_Effect_of_Althaea_officinalisL_Root_Alcoholic_Extract_on_Blood_Sugar_Level_and_Lipid_Profiles_of_Streptozotocin_Induced-Diabetic_Rats
  12. The Pharmaceutical Importance of Althaea officinalis and Althaea rosea : A Review
    https://sphinxsai.com/2013/JulySept13/phPDF/PT=57(1378-1385)JS13.pdf
  13. Medicinal plants used in treatment of inflammatory skin diseases
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3834722/
  14. Differences in Growth Response of Human Hair Follicle Mesenchymal Stem Cells to Herbal Extracts and a Growth Factor
    http://jmp.ir/browse.php?a_id=2084&sid=1&slc_lang=en
  15. Marshmallow
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK501839/
  16. Amie Skilton nd bhsc: Inflammation in the Gut Drives Systemic Inflammation
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4991648/
  17. COVID-19: Is There Evidence for the Use of Herbal Medicines as Adjuvant Symptomatic Therapy?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7542597/
  18. Comprehensive Study of Scientific Evidence and Potential Risk of Herbal Medicine Use for Body Weight Reduction in North West Saudi Arabia
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7555612/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

    ताज़े आलेख