55+ Moon Quotes in Hindi : चांद पर शायरी | Shayari On Moon

Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

शायरों की महफिल सजी हो और चांद का जिक्र न हो, ऐसा हो ही नहीं सकता। किसी शायर के लिए चांद उसके प्यार का आइना है, तो किसी के लिए अकेलेपन का साथी। चांद और शायरी का रिश्ता बेहद पुराना है। चांद और उसकी चांदनी को न जाने कितने ही शायरों और आशिकों ने अपनी भावनाएं व्यक्त करने का जरिया बनाया है। हम भी इस आर्टिकल में आपके लिए ऐसे ही बेस्ट चांद शायरी व चांद कोट्स लाए हैं। इनकी मदद से आप भी अपने दिल का हाल बयां कर सकते हैं। इन शायरियों में प्यार का रंग और बेवफाई को लेकर तंज दोनों ही बेशुमार हैं।

स्क्रॉल करें

शुरुआत में पढ़िए, चांद पर बेहतरीन शायरी व कोट्स

55+ चांद शायरी और कोट्स – Moon shayari in Hindi | Chand Shayari

चांद पर शायरी और कोट्स का संग्रह बेहद विशाल है। पुराने जमाने की कालजयी शायरियों से लेकर नए जमाने की वॉट्सऐप शायरियों तक सभी में चांद का जिक्र मिल ही जाता है। 55+ चांद शायरी और कोट्स के इस आर्टिकल में चांद पर प्यार, बेवफाई, अकेलेपन और 2 लाइन शायरियों का बेहतरीन कलेक्शन है, जिनके जरिए आप अपनी भावनाएं व्यक्त कर सकते हैं।

आगे पढ़ें लेख

चलिए, सबसे पहले पढ़ते हैं कुछ रोमांटिक मून कोट्स व शायरियां।

रोमांटिक मून कोट्स – Romantic Moon Quotes

istock

चांद को प्यार का प्रतीक माना जाता है। शायर अपने प्यार और प्रेमिका की खूबसूरती की तुलना अक्सर चांद से करते आए हैं, क्योंकि शायरों को चांद में अपने महबूब का चेहरा नजर आता है। चांद पर ऐसी ही रोमांटिक शायरी व कोट्स हम नीचे आपके लिए लाए हैं।

  1. चांद सा चेहरा देखने की इजाजत दे दो हमें,
    तुम्हें अपना बनाने की इजाजत दे दो हमें,
    हम इश्क करना चाहते हैं तुमसे,
    इश्क करने की इजाजत दे दो हमें।
  1. कौन कहता है कि मोहब्बत में चांद तारे तोड़ लाना जरूरी है,
    कह दें वो प्यार हमसे करते हैं, हमारे लिए इतना ही काफी है।
  1. बना के तस्वीर उसकी आसमान में टांग आया हूं,
    और लोग पूछते हैं कि आसमान में आज चांद बेदाग क्यों है।
  1. अब चांद में भी नजर आने लगा है चेहरा उनका,
    जबसे इजहार-ए -मोहब्बत हुआ है उनका।
  1. लोग पूछते हैं कि हम चांद को यूं बार-बार देखते क्यों हैं,
    अब उन्हें कौन समझाए की चांद में हमें महबूब नजर आता है।
  1. चांद पर थोड़ा गुरूर हम भी कर लें,
    पर मेरी नजरें पहले महबूब से तो हटें।
  1. वो खुशियां बाजारों में कहां, जो खुले आसमान में है,
    वो खूबसूरती चांद में कहां, जो आप में है।
  1. चांद से तो हर किसी को प्यार है,
    मैं खुशनसीब हूं कि चांद को मुझसे प्यार है।
  1. वो पलकें झुकाकर अक्सर यूं शर्माते हैं,
    जब हम उन्हें प्यार से चांद कहकर बुलाते हैं।

पढ़ते रहिए, रोमांटिक मून कोट्स

Shutterstock

  1. मेरे महबूब का चेहरा भी उस चांद से मिलता है,
    बस उसकी तरह इसके दिल में दाग नहीं।
  1. आज मुद्दतों बाद मुझे मेरे चांद का दीदार तो हुआ,
    बेशक एक दूसरे से हम गले लगकर न मिले,
    पर दो घड़ी ही सही उसका दीदार तो हुआ।
  1. जिक्र तेरी खूबसूरती का जो किया तो वो चांद भी शरमाया,
    हम किस्से पर किस्सा सुनाते गए वो बादलों में गुम होता गया।
  1. दिल थाम लेंगे फूल और चांद भरेगा आहें
    जब बात होगी हुस्न की सब पहले तेरा ही नाम लेंगे।
  1. ए-खुदा उसे सुबह का चांद और मुझे शाम का सूरज बना दे,
    मिले ऐसे कि मैं उसमें समा जाऊं और वो मुझमें समा जाए।
  1. बहुत गुरूर था चांद को अपनी खूबसूरती पर,
    आज मेरे सनम की चमक को देख, वो बादलोंं में छिप गया।
  1. न वो चांद चाहिए न वो सितारे चाहिए,
    मुझे बस मेरी मोहब्बत की सलामती चाहिए।

रोमांटिक शायरी के बाद पढ़िए मून पर 2 लाइन शायरी।

2 लाइन शायरी ऑन चांद – 2 Line Shayari On Moon

चांद पर शायरी की दो लाइनें किसी को भी इंप्रेस करने के लिए काफी हैं। चांद पर आगे दी गईं दो लाइन शायरियों को आप अपने दोस्तों और करीबियों को भेज सकते हैं या फिर इसे अपना स्टेटस भी बना सकते हैं।

  1. मेरा और उस चांद का मुकद्दर भी एक जैसा है,
    मैं यहां हजारों में तन्हा हूं और वो वहां तारों में तन्हा है।
  1. रोज सुबह चिढ़ाता है सूरज भी उगने पर,
    कहता है अब कहां है, वो चांद जिस पर बड़ा घमंड था तुम्हें।
  1. कल रात इक तारा देखा टूटता हुआ बिल्कुल मेरे जैसा,
    चांद को जरा भी फर्क न पड़ा, क्योंकि वो भी है तेरे जैसा।
  1. मिलने को उनसे बेकरार इतना थे कि सो न पाए रातभर,
    आंखों में ख्वाब उनके थे और नाम उनका लिखते रहे चांद पर।
  1. ए-खुदा तूने भी बड़ा सितम किया है आशिकों पर,
    बनाया गर चांद तो महबूब मेरे नसीब में क्यों नहीं।
  1. निकल पड़ता हूं मैं सर्द अंधेरी रातों में,
    अपनी तन्हाई छुपाने और चांद की तन्हाई मिटाने।

मून कोट्स इन हिंदी का सिलसिला जारी है

  1. क्यों रातों को तू जागता रहता है ए-चांद,
    बता किस से तुझे मोहब्बत-ए इजहार हुआ है।
  1. हम उसे रोज खुद से ज्यादा चाहते रहे और वो हमसे दूर जाता गया,
    ठीक वैसे ही जैसे हम चांद को निहारते रहे और वो बादलों में गुम होता गया।

Shutterstock

  1. हम सफर हो कोई अपना भी जिंदगी में,
    कब तक छत पर यूं चांद ताकते रहेंगे।
  1. काश कि मैं आसमान का एक तारा होता, तुम मुझे और मैं तुम्हें प्यारा होता,
    देखती दुनिया जिस चांद को दूर से, उसे करीब से देखने का हक सिर्फ मेरा होता।
  1. थी मोहब्बत जब तक चांद से उससे खूबसूरत न था कोई जहां में,
    मोहब्बत का नशा उतरा, तो हमें दाग भी दिखने लगे उसमें।
  1. न चाहते हुए भी लब पर ये फरियाद आ ही जाती है,
    मत दिखा कर मुझे ए-चांद, किसी की याद आ जाती है।
  1. इसी कशमकश में ये रात गुजर जाए,
    मैं चांद देखने निकलूं और वो बादलों में छिप जाए।
  1. लाख कोशिश कर ले बादल, चांद को मुझसे छिपाने की,
    लिखवा के लाया हूं मैं किस्मत में उसे खुदा से।

स्क्रॉल करके आगे पढ़ें मून शायरी

  1. हर सुबह डूब जाता है ये चांद,
    काश कोई इसे तैरना सीखा देता।
  1. जानता हूं बड़ा मगरूर है तू ए-चांद,
    क्या करूं मेरी तन्हाई का साथी भी बस तू है।
  1. न चांद की चाह न फलक का इंतजार,
    कैसे कहूं मुझे है बस तुझसे ही प्यार।
  1. कुछ वो कोरे से हैं, कुछ मैं सादा सा,
    जैसे एक ही आसमां में दो चांद हों आधा-आधा सा।
  1. इक चांद ही तो था जिसे देख हम तसल्ली करते थे,
    कमबख्त बादलों ने उसे भी छिपा लिया।
  1. तेरी बेवफाई के किस्से सुन ये चांद भी हर रात घटता गया,
    जब हो गई इंतहा, तो वो भी अमावस को मुझे तन्हा कर गया।
  1. बहुत रोता होगा ये चांद भी और कोसता भी होगा हमें,
    हमारी चंद ख्वाहिशों ने उसके सारे तारे तोड़ लिए।

पढ़ते रहें मून कोट्स

इस मून शायरी लेख में आगे हम पूरे चांद पर शायरियां लेकर आए हैं।

फुल मून कोट्स – Full Moon Quotes

Shutterstock

पूरा चांद ईद का हो या फिर पूर्णिमा का न इसकी खूबसूरती बदलती है न इसकी महत्ता। सितारों से भरी रात में पूरे चांद का खूबसूरत नजारा हर किसी को भाता है, तो शायर इससे अछूते कैसे रहें। बस तो आगे पढ़िए फुल मून कोट्स व बेहतरीन शायरियां, जिन्हें हमने खास आपके लिए लिखा है।

  1. हम ताकते रहे राह उनकी उम्र भर खड़े यूं चौराहे पर,
    जिन्हें दिख गया वो चांद, उनकी ईद हो गई।
  1. होता जाता है जब तेरे चांद से चहरे का दीदार,
    खुदा कसम दिल में उमड़ पड़ता है प्यार।
  1. ये पूरा चांद बिल्कुल तुम सा खूबसूरत होता है,
    लेकिन ऐसा सिर्फ कभी-कभी ही होता है।

istock

  1. आ गए हो मिलने हमसे, तो जी भरकर बातें कर लो,
    आता कहां है रोज-रोज तुम जैसा पूरा चांद आंगन में।
  1. वो आसमां में ताकते रहे ईद का चांद,
    हम उन्हें नजर भर देखकर ईद मना आए।

आगे और हैं फुल मून कोट्स

  1. न जाने क्या मजहब है इस चांद का,
    ईद भी इसकी, करवा चौथ भी इसका।
  1. पूर्णिमा के चांद को देखकर तुम्हें याद करते हैं,
    वो भी एक दौर था जब तुम्हें ऐसे ही घंटों निहारा करते थे।
  1. आज ये पूरा चांद आसमां में चमक रहा है,
    लगता है इसे भी इजहार-ए-मोहब्बत हुआ है।
  1. आज आसमां में चांद पूरा है,
    तारे भी अपने पूरे रूबाब में हैं,
    फिर भी हमारे महबूब से ये सब फीके हैं।
  1. आज तो अपने प्यार का जादू चला ही दो हम पर,
    देखो, फलक में आज चांद भी पूरा है।
  1. उसकी तो मोहब्बत भी चांद की तरह थी,
    पहले पूरी थी, फिर दिन-ब-दिन घटने लगी।
  1. तेरी खूबसूरती के सामने सबकुछ फीका लगे,
    आसमां में पूरा है चांद फिर भी तेरी दमक के सामने आधा लगे।
  1. जन्नत क्या होती है मुझे नहीं मालूम,
    लेकिन पूरे चांद की रात में तुझे देखना,
    मुझे जन्नत के करीब ले जाता है।

फुल मून शायरियों के बाद अब पढ़िए मून लाइट पर शायरियां।

मून लाइट कोट्स – Moon Light Quotes

चांद पर शायरी, चांदनी के जिक्र के बिना अधूरी है। चांद की खूबसूरती और चांदनी की शीतलता का जिक्र कई शायर अपनी रचनाओं में करते आए हैं। हम भी मूनलाइट पर शायरी व कोट्स का ऐसा ही बेहतरीन संग्रह हम आगे आपके लिए लाए हैं।

  1. कहां से लाता है इतनी सहनशीलता ये चांद,
    अपने हिस्से सारे दाग रख दूसरों को रोशन किए जा रहा है।
  1. क्यों हर कोई उस चांद से ही दिल लगाना चाहता है,
    शहर का हर एक सितारा उसका होना चाहता है,
    खुश हैं हम दूर रहकर उससे क्योंकि,
    चांद दूर से ज्यादा खूबसूरत नजर आता है।
  1. ढल गई शाम और चारों ओर अंधेरा छाने लगा,
    तभी निकल आया चांद और आसमां पर सितारे छाने लगे,
    हम भी धीरे-धीरे उनकी यादों में खोने लगे,
    चांदनी देख ऐसा महसूस हुआ जैसे हमारा महबूब पास आने लगा।
  1. तुम मेरे जीवन के चांद बन जाओ,
    और मैं हमेशा के लिए तुम्हारी चांदनी बन जाऊं।
  1. चांद की रोशनी आज फिर खिड़की से दस्तक दे रही है,
    लगता है फिर वो चांद को ताकते हुए हमें याद कर रहे हैं।

आगे और भी हैं मूनलाइट कोट्स

  1. जीवन में हार न हो तो सफलता की कद्र कौन करता,
    जैसे रात अंधेरी न होती, तो चांदनी की बात कौन करता।
  1. कह दो इन अंधेरों से कि अब उनसे डर नहीं लगता मुझे,
    चांदनी हाथ थामे हर कदम पर मेरे साथ है।
  1. वो चांद सी शीतल, मैं सूरज सा गर्म,
    मिलन की आस लगाएं भी तो कैसे।
  1. हाल-ए-दिल की दास्तां सुनाता किसे,
    सो चुके थे चांद तारे भी फिर चांदनी लाता कहां से।
  1. उस बेवफा ने साथ क्या छोड़ा,
    चांदनी भी बनकर धूप सताने लगी।
  1. चांदनी रात में तारों का साथ है,
    तू नहीं है तो क्या तेरी हर याद मेरे साथ है।
  1. पूर्णिमा का चांद समझकर मोहब्बत की थी उनसे,
    वो अमावस की रात बन मेरे जीवन में अंधकार कर गए।

हमें उम्मीद है कि ऊपर आर्टिकल में दिए गए चांद पर शायरी व कोट्स आपको पसंद आए होंगे। आप इन चांद कोट्स को अपने प्रेमी-प्रेमिका, दोस्त व करीबियों को भेज सकते हैं। आप चाहे तो चांद शायरी को सोशल मीडिया पर अपना स्टेटस भी डाल सकते हैं। इसी तरह के बेहतरीन कोट्स पढ़ने के लिए स्टाइल क्रेज से जुड़े रहें।

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.
आवृति गौतम ने सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ बिहार से मास कम्युनिकेशन में एमए किया है। इन्होंने अपने करियर की शुरूआत... more

ताज़े आलेख