Mothers Day Quotes and Shayari in Hindi – हैप्पी मदर्स डे शायरी हिंदी में

by

मां, एक ऐसा अनमोल शब्द, जिससे जीवन का हर भाव जुड़ा है। जीवन देने वाली मां एक बच्चे की पहली दोस्त और पहली शिक्षिका होती है। वह मां ही है, जो बच्चे को संस्कार देने के साथ दुनियादारी की भी सीख देती है। मां बच्चे के अंदर कोमलता का भाव भरती है और उसे हर मुश्किल से लड़ना भी सिखाती है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए, इस मदर्स डे पर मां के सम्मान में स्टाइलक्रेज लाया है मदर्स डे शायरी। यहां पढ़िए मां पर शायरी हिंदी में, जिन्हें आप अपनी मां, बहनों, दादी और नानी को भेज कर उन्हें खास महसूस करा सकते हैं।

मदर्स डे पर शायरी पढ़ने से पहले जानिए कि मदर्स डे कब आता है।

मदर्स डे कब आता है?

‘इंटरनेशनल मदर्स डे’ हर साल मई के दूसरे रविवार को मनाया जाता है। भारत में भी मदर्स डे इसी दिन मनाया जाता है।

यह जानने के बाद कि मदर्स डे कब आता है, आगे पढ़िए मां पर शायरी हिंदी में।

हैप्पी मदर्स डे पर शायरी – Mothers Day Quotes in Hindi

Shutterstock

  1. कभी बहन, कभी दोस्त, तो कभी पिता का फर्ज निभाती है,

वो मेरी मां है, जो तारों के बीच चांद की तरह जगमगाती है।

  1. मां की हंसी मेरे जीवन को महकाती है,

उसके होने से ये जिंदगी चहचहाती है,

हो दूर चाहे जितना भी वो अपने बच्चे से,

मां की हर दुआ हर बार रंग लाती है।

  1. मेरे कहे बिना, मेरी हर बात समझ जाती हो,

जब तक घर न लौटूं, एक कौर भी नहीं खाती हो,

तुम्हारा शुक्रिया मैं करूं तो कैसे करूं मां,

मेरी हर खुशी पर मुझसे ज्यादा तुम मुस्कुराती हो।

हैप्पी मदर्स डे मां।

  1. मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, हर चौखट पर ढूंढा उस खुदा को,

जब थक कर घर लौटा, तो खुदा मेरे घर की चौखट पर खड़ा था।

हैप्पी मदर्स डे।

  1. रोशन है घर की दहलीज मां से,

सीखी है मैंने हर तमीज मां से,

मां के होने से दुनिया की तमाम खुशियां हैं,

इस जहां में कुछ नहीं है अजीज मां से।

  1. मैं लिखना तो चाहता था भगवान का नाम,

कलम उठाया तो अपने आप ‘मां’ लिखता गया।

  1. मेरे बैरागी जीवन में भी जो राग भर देती हैं,

मां एक तेरी लोरियां ही हैं, जो कमाल कर देती हैं।

हैप्पी मदर्स डे।

  1. भटक जाता हूं अक्सर इन राहों में,

मां, तेरी उंगली बिना पकड़े चलना मुझे आज भी नहीं आता।

  1. मां, तेरे होने से मैं पूरा,

तू साथ न रहे, तो मैं अधूरा,

तू है तो जीवन है मधुर संगीत,

तू न हो तो जिंदगी का हर गीत बेसुरा।

10.मेरी मां मकान को घर बनाती है,

मेरे जीवन की हर शाम सजाती है,

वो है तो सुरों से भरी है ये जिंदगी मेरी,

उसके न होने से जिंदगी बेसुरा राग गाती है।

  1. हाथ में दही लिए, शगुन की कटोरी है मां,

माथे पर थपथपाती, नींद की लोरी है मां,

परिवार का हर हिस्सा अपने आप में अलग होता,

लेकिन, हर रिश्ते को जोड़ती प्रेम की डोरी है मां।

  1. दुनिया की भागदौड़ में, तू मेरा सहारा है,

दरिया की मौजों में तू मेरा किनारा है,

हाथों की लकीरों से क्या बदलेगी किस्मत मेरी,

मेरी मां, तू मेरी किस्मत का सितारा है।

  1. मेरी बेजुबान जिंदगी को शब्द तूने दिए,

अनर्थ मेरे जीवन को अर्थ तूने दिए,

मैं भटक जाता इस जिंदगी की राह में,

पर मेरी हर राह को लक्ष्य तूने दिए।

  1. मेरे जीवन के गुलों में खुशबू का वास है मां,

दिल से कभी न उतरे वो प्रेम का एहसास है मां,

सात समंदर पार जाने के बाद भी,

हर क्षण, हर पल मेरे दिल के पास है मां।

  1. पूजा की थाल में रखी वो हरी चूड़ियां है मेरी मां,

ओस की बूंदों से सजी गुलाब की पंखुड़ियां है मेरी मां,

इस जमाने के सामने मेरी ज़ुबान कड़वी होगी भी कैसे,

अपने नाम से मिठास घोलती मिश्री की पुड़िया है मेरी मां।

  1. हर रात मुझे लोरी गाकर सुलाती है,

हर सुबह “उठा जा लल्ला” कह कर जगाती है,

यूं तो लड़ती है, दिन में सौ बार मुझसे,

कभी चोट मुझे लगे, तो साथ में मां भी कराहती है।

  1. काबा, काशी, घूम लिया मैंने चारों धाम,

जन्नत तब मिली जब मां को किया प्रणाम।

हैप्पी मदर्स डे।

  1. एक अरसा बीत गया था हमे सोए हुए,

आज सालों बाद मां का आंचल नसीब हुआ है।

  1. ये आपके दिए संस्कार ही हैं,

जो हर रिश्ते को पवित्र समझ पाया,

यह आपका लाड ही है,

जो रोते हुए भी मुस्कुरा पाया।

  1. मां के होने से आंगन में बहार है,

मां के होने से जीवन उपहार है,

मेरी जिंदगी कटती न जाने कैसे,

मैं सुखी हूं कि तू मेरी पालनहार है।

हैप्पी मदर्स डे।

  1. मेरी काली रात में चिराग की तरह,

तपती धूप में पानी की फुहार की तरह,

मां मेरी हर मुश्किल में तुम खड़ी रही,

मेरे आगे एक मजबूत दीवार की तरह।

  1. मेरे दिल से निकलती है ये दुआ,

मेरी मां से दूर रहे हर गम का धुआं।

हैप्पी मदर्स डे।

  1. मां त्याग की मूरत है,

मां परमात्मा की सूरत है,

मां है तो ईश्वर पर है विश्वास,

मां से जिंदगी खूबसूरत है।

  1. लाख सजदे मैंने किये थे,

मगर असर किसी का न हुआ,

जब कुछ भी असर न किया,

काम आई मां की दुआ।

  1. मेरी हर सांस पर नाम तुम्हारा है,

हर वक्त मिलता साथ तुम्हारा है,

मुझे अब डर किसी बात का नहीं,

जब सिर पर रखा हाथ तुम्हारा है।

Shutterstock

  1. मुझे छांव में रख कर, खुद धूप में जलती थी,

मेरी मां मुझे चप्पल पहना कर, खुद नंगे पैर चलती थी।

  1. जब काम न आई किसी वैद, हकीम की दवा,

तब मेरे जख्मों को जिसने भरा वो थी मां की दुआ।

  1. मां वो है जिसके कदमों में जन्नत बसती है,

मेरी मां हंसे तो मेरी सारी दुनिया हंसती है,

मैं तो काफिर हूं, क्या ईश्वर क्या अल्लाह,

मेरी मां के पैरों में ही खुदाई बसती है।

  1. मेरी मांगी हर दुआ कबूल होती है,

मेरे मंदिर में बस मेरी मां रहती है।

  1. मदर्स डे पर शायरी लिखने बैठा तो क्या लिखता,

कलम ने भी कह दिया, यह एहसास नहीं लिखा जा सकता।

  1. सुकून नहीं मिला सारे जहान में इतना,

मिलता है मां की गोद में जितना।

  1. याद आती है तो पास बुलाती हो मुझे,

थक जाती हूं तो आंचल में सुलाती हो मुझे,

कभी जो नींद न आए मुझे तो,

माथे को थपथपा कर लोरी सुनाती हो मुझे।

  1. आज भी दर्द होने पर पहला नाम मां का निकलता है,

मेरी मां का प्यार हर हकीम की दवा से बढ़कर है।

  1. मां, तुम परिवार को जोड़ने वाली डोरी हो,

मां, तुम उनींदी रातों में नींद भरी लोरी हो,

मां, तुम दीप हो, आस्था हो, विश्वास हो,

मां, तुम भर पेट खाने के बाद खीर की कटोरी हो।

  1. जब मां के लिए कुछ लिखने बैठा,

तो एहसास हुआ कि मां ने खुद मुझे लिखा है।

  1. मेरी मांगी पूरी हर मन्नत हुई,

मां के पैरों में नसीब मुझे जन्नत हुई।

  1. मां आसमान में चमकता ध्रुव तारा है,

मां, भाव है, गरिमा है, गौरव है,

मां, बच्चों के जीवन में उजियारा है।

  1. किसी की भी बददुआएं मुझ तक कम ही आया करती हैं,

सबकी बददुआओं के ऊपर मेरी मां की दुआओं का असर है।

39.लाखों में भीड़ में भी मुझे,

अलग से पहचान लेती है,

कुछ छिपाना भी चाहूं तो,

मेरी मां सब कुछ जान लेती है।

  1. कुछ इस कदर वाकिफ है मेरे हर अंदाज से मां,

मेरे अंदाज-ए-हसीं में मेरी तकलीफ पहचान लेती है।

  1. पैसों से कहां खुशियां बहाल होती हैं,

खुशकिस्मत हैं वों, जिनके घर मां होती है।

  1. यूं तो भागादौड़ी में भूल चुका हूं सबको,

अब इत्तेफ़ाक़न ही किसी की याद आती है,

पर जब कभी भी ये दिल टूट जाता है,

मां तू बहुत याद आती है।

  1. है कबूल हर फरमान तेरा, तू चाहे जो कह दे,

बस ए खुदा, इन हाथों की लकीरों पर मां लिख दे।

44.थक जाता हूं बोझा उठाते-उठाते,

मां, देखूं तुझे तो ही सुकून मिलता है,

कहीं खो गया इस जवानी की आपाधापी में,

पर तू है तो आज भी बचपन लगता है।

45.यूं तो हरदम चेहरे पर हंसी रहती है,

जमाने के आगे मैं मुस्कुराया करता हूं,

पर न जाने क्या सुकून तेरी गोद में मां,

सिर रखते ही सारे दर्द बहा दिया करता हूं।

  1. बैठा खाने की मेज पर, ना जाने क्या ढूंढता हूं,

तू चुपके से नमक सरका देती है,

बिन कहे, मां, तू कैसे सब जान लेती है?

  1. एक बंजारा सा बन गया हूं मैं,

कभी गांव तो कभी शहर बदलता हूं,

अब तो हर गली-मोहल्ला अंजान लगता है,

बस तू है, तो यह मकान घर लगता है।

  1. सुबह के लिए है वो सूरज जरूरी,

रात के लिए है वो चंद्रमा जरूरी,

मेरी जिंदगी हो जाती लापता,

मेरे जीवन के लिए है मां जरूरी।

  1. मेरे गालों पर रुकती खुशी है मां,

मेरे दिल की हर धड़कन है मां,

दुनिया वालों, तुम्हें अब क्या बताऊं,

सच बताऊं तो मेरे जीने की वजह है मां।

  1. नवरात्रि में रखा उपवास मैंने,

रमज़ान में रखे पूरे रोजे मैंने,

लेकिन, जब लिया ऊपर वाले का नाम,

मां का ही चेहरा पाया हर जगह मैंने।

दोस्तों, हम आशा करते हैं कि मदर्स डे पर शायरी आपको पसंद आई होंगी। इस बार जब आप अपनी मां को हैप्पी मदर्स डे शायरी की मदद से विश करें तो उन्हें इस बात का एहसास करवाएं कि वो आपके लिए कितनी खास हैं। आप चाहें तो मां पर शायरी हिंदी में, अंग्रेजी में या अपनी क्षेत्रीय भाषा में लिख कर मां को भेज सकते हैं। इसके साथ ही, आप उन्हें मदर्स डे गिफ्ट देकर, उनका दिन और खास बना सकते हैं। नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिख कर हमें जरूर बताएं कि मदर्स डे पर शायरी आपको कैसी लगीं।
और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Soumya Vyas

सौम्या व्यास ने माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीएससी किया है और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बेंगलुरु से टेलीविजन मीडिया में पीजी किया है। सौम्या एक प्रशिक्षित डांसर हैं। साथ ही इन्हें कविताएं लिखने का भी शौक है। इनके सबसे पसंदीदा कवि फैज़ अहमद फैज़, गुलज़ार और रूमी हैं। साथ ही ये हैरी पॉटर की भी बड़ी प्रशंसक हैं। अपने खाली समय में सौम्या पढ़ना और फिल्मे देखना पसंद करती हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch