त्वचा की देखभाल
Stylecraze

मुंहासों के लिए एलोवेरा के फायदे और इस्तेमाल का तरीका – Aloe Vera for Pimples in Hindi

by
मुंहासों के लिए एलोवेरा के फायदे और इस्तेमाल का तरीका – Aloe Vera for Pimples in Hindi Hyderabd040-395603080 July 19, 2019

एलोवेरा के एक नहीं, बल्कि कई आयुर्वेदिक गुण हैं। यही वजह है कि इसका इस्तेमाल सौंदर्य उत्पाद जैसे क्रीम, फेसवॉश व शैंपू आदि में किया जाता है। रंग साफ करने और मुंहासों के लिए एलोवेरा गुणकारी प्राकृतिक उपचार होता है। चेहरे, बाल और सेहत के लिए भी एलोवेरा गुणकारी होता है। इसका नियमित रूप से इस्तेमाल करने से चेहरे के मुंहासों और काले धब्बों को जड़ से खत्म करने में मदद मिलती है और त्वचा बेदाग व खूबसूरत होती है।

इसे त्वचा के कटने, छिलने या जलने पर भी लगाया जा सकता है। इसमें मौजूद जेल का इस्तेमाल अर्थराइटिस जैसी समस्याओं से राहत दिलवाने के लिए भी किया जा सकता है (1)। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम जानेंगे कि पिम्पल के लिए एलोवेरा किस तरह रामबाण इलाज है।

क्या एलोवेरा कील-मुंहासे दूर करने में मददगार है? विज्ञान क्या कहता है?

पिम्पल के लिए एलोवेरा को आज से नहीं, बल्कि वर्षों से औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। एलोवेरा को सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि दुनिया के कई देशों, जैसे – चीन, इजिप्ट, ग्रीस व जापान में प्राकृतिक उपचार के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। आइए, जानते हैं कि मुंहासों के लिए एलोवेरा के फायदे क्या-क्या हैं और ये कैसे काम करता है।

  1. एलोवेरा में विटामिन-ए होता है जो एंटी-ऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। एंटी-ऑक्सीडेंट शरीर से फ्री-रेडिकल्स को खत्म करने का काम करता है। इस प्रकार पिम्पल्स के लिए एलोवेरा मददगार साबित हो सकता है (2)।
  2. पिम्पल्स के लिए एलोवेरा की बात की जाए, तो इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया को खत्म करते हैं और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मुंहासों से होने वाले सूजन व जलन से राहत दिलाते हैं (2) (3)।
  3. मुहासों का एक कारण कब्ज भी हो सकता है। एलोवेरा का सेवन शरीर को डिटॉक्सिफाई करके पेट को साफ रखने में मदद करता है। साथ ही यह खून की भी साफ करता है (4)।
  4. एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंट गुण होता है, जिस कारण से एलोवेरा त्वचा को सूरज की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से बचाता है (2)।
  5. एलोवेरा त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाकर नई परत बनाने में मदद करता है। इस गुण के कारण पिम्पल्स के लिए एलोवेरा आपके पुराने मुंहासों के दाग से छुटकारा पाने में सहायक हो सकता है (5)।

आगे हम जानेंगे कि आप मुंहासों के लिए एलोवेरा का उपयोग किस-किस तरह से कर सकते हैं।

मुंहासों के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल कैसे करें – How to Use Aloe Vera for Pimples in Hindi

मुंहासों के लिए एलोवेरा का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है। आप इसे सीधे अपनी त्वचा पर लगा सकते हैं और इसका पैक भी बना सकते हैं। अलग-अलग प्रकार की स्किन और पिम्पल के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल भी अलग-अलग तरह से होता है। यहां हम बाजार में मिलने वाले एलोवरा जेल या क्रीम की बात नहीं कर रहे, बल्कि प्राकृतिक एलोवेरा के पत्ते की बात कर रहे हैं। नीचे दिए गए विभिन्न तरीकों से आप पिम्पल्स के लिए एलोवेरा को उपयोग में ला सकते हैं।

1. मुंहासों के लिए एलोवेरा

सामग्री:
  • 1 चम्मच एलोवेरा का जेल
विधि:
  • एलोवेरा के पत्ते को बीच में से काट कर, चम्मच की मदद से उसका जेल निकाल लें।
  • अब जेल को चेहरे पर प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • इसे रात भर लगा रहने दें।
  • सुबह अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।
  • इसे प्रतिदिन करने से जल्द ही मुंहासों से छुटकारा मिल सकता है (2)।

2. एलोवेरा, शहद और दालचीनी

सामग्री:
  • 2 चम्मच एलोवेरा जेल
  • 4 चम्मच शहद
  • आधा चम्मच दालचीनी पाउडर (आवश्यकतानुसार)
विधि:
  • सारी सामग्रियों को एक बाउल में डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • अच्छी तरह मिल जाने पर आप इसे अपने पूरे चेहरे पर या सिर्फ प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं।
  • इसे 5-10 मिनट तक अपने चेहरे पर लगा रहने दें।
  • सूख जाने के बाद इसे ठंडे पानी से धो लें और सूखे तौलिये से थपथपा कर पोंछ लें।

नोट: दालचीनी पाउडर से जलन हो सकती है, तो इसे अपनी त्वचा की सहनशीलता के अनुसार ही मिलाएं। अगर इस पैक से हल्की-सी भी जलन हो, तो तुरंत धो लें। साथ ही इसे लगाने से पहले आप पैच टेस्ट भी कर सकते हैं।

3. एलोवेरा जेल और नींबू

सामग्री:
  • 2 चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक चौथाई चम्मच नींबू का रस
विधि:
  • एक बाउल में एलोवेरा जेल और नींबू के रस को अच्छी तरह से मिला लें।
  • इसे प्रभावित जगह पर लगा कर 5-10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • सूख जाने पर ठंडे पानी से धो लें (6)।

4. एलोवेरा जेल और टी ट्री ऑयल :

सामग्री:
  • 2 चम्मच एलोवेरा जेल
  • 2-3 बूंदें टी-ट्री ऑइल
  • 1 चम्मच साफ पानी
विधि:

● एक बाउल में एलोवेरा जेल, टी-ट्री ऑयल और साफ पानी मिलाकर उसका मिश्रण तैयार कर लें।
● इस मिश्रण को 1 मिनट (उससे ज्यादा नहीं) के लिए चेहरे पर लगाए और फिर धो लें।
● इसे प्रतिदिन दोहराएं (7)।

5. एलोवेरा स्प्रे या फेस मिस्ट

सामग्री:
  • डेढ़ कप साफ पानी
  • 1 चम्मच एलोवेरा जेल
  • किसी भी एसेंशियल ऑयल की 2 बूंदें
विधि:
  • 1 स्प्रे बोतल में एलोवेरा जेल और साफ पानी का मिश्रण तैयार कर लें।
  • चाहें तो इसमें एसेंशियल ऑयल की 2 बूंदें मिला लें।
  • फिर बोतल को हिलाकर इस मिश्रण को अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • इस मिश्रण को दिन में 3-4 बार अपने चेहरे या प्रभावित स्थान पर लगाएं।
  • याद रखें कि इस्तेमाल से पहले बोतल को जरूर हिलाएं।
  • ध्यान रहे कि इसे छिड़कते समय अपनी आंखें बंद रखें (8)।

6. एलोवेरा, शक्कर और ऑयल स्क्रब

सामग्री:
  • आधा कप जोजोबा तेल
  • आधा कप दरदरी पिसी हुई शक्कर
  • एक चौथाई कप एलोवेरा जेल
विधि:
  • एक बाउल में जोजोबा ऑयल और शक्कर को अच्छी तरह मिला लें।
  • अब इसमें एलोवेरा जेल को मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें।
  • इस स्क्रब को अपनी हथेली में लेकर पूरे चेहरे पर या प्रभावित स्थान पर लगाकर हल्के हाथों से मसाज करें।
  • फिर कुछ देर बाद ठंडे पानी से धो कर, सूखे तौलिये से थपथपा कर पोंछ लें (9)।

नोट: पिम्पल पर कभी स्क्रब न करें। इससे वो फूट सकते हैं और उनके दाग पड़ सकते हैं।

7. एलोवेरा और सेब का सिरका

सामग्री:
  • 1 चम्मच एलोवेरा जेल
  • डेढ़ चम्मच सेब का सिरका
  • डेढ़ चम्मच साफ पानी
  • 1 कॉटन बॉल
विधि:
  • एक बाउल में सेब का सिरका और साफ पानी मिला लें।
  • फिर इसमें एलोवेरा जेल मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को कॉटन बॉल की मदद से प्रभावित जगह पर लगा कर 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • आखिर में ठंडे पानी से धोकर, साफ तौलिये से पोंछ लें।

नोट : सेब के सिरके में लैक्टिक एसिड मौजूद होता है, जो मुंहासों को दूर करने में मदद करता है (10)।

8. एलोवेरा और बेबी ऑयल

सामग्री:
  • 1 चम्मच एलोवेरा जेल
  • 2-3 बूंदें बेबी ऑयल
विधि:
  • एक बाउल में एलोवेरा जेल और बेबी ऑयल मिला लें।
  • इससे अपने चेहरे पर या सिर्फ प्रभावित जगह पर लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मसाज करें।
  • फिर एक घंटे के बाद गुनगुने पानी से धो लें (11)।

9. एलोवेरा और गुलाब जल

सामग्री:
  • 1 चम्मच गुलाब जल
  • 2 चम्मच एलोवेरा जेल
  • आधा खीरा (कद्दूकस किया हुआ)
विधि:
  • गुलाब जल, खीरा और एलोवेरा जेल को एक बाउल में मिला लें।
  • इस मिश्रण को अपने हाथों से चेहरे पर लगाएं।
  • सूख जाने पर गुनगुन पानी से धोएं और फिर सूखे तौलिये से थपथपा कर पोंछ लें (6)।

आइए, अब एलोवेरा से बनी कुछ बेहतरीन क्रीम के बारे में जान लेते हैं।

मुंहासों के लिए सबसे अच्छे कुछ एलोवेरा जेल के नाम

अगर आपके आसपास एलोवेरा का पौधा नहीं है या ताजा एलोवेरा नहीं मिल रहा है, तो आप बाजार में मौजूद एलोवेरा उत्पाद ले सकते हैं। इनसे आपको पिम्पल के लिए एलोवेरा का लाभ मिल सकता है। यहां हम कुछ खास एलोवेरा जेल के बारे में बता रहे हैं।

1. इनवुड नेचुरल एलोवेरा जेल (Inwood Natural Aloevera Gel)

गुण:
  • इसमें एलोवेरा के प्राकृतिक गुण मौजूद होते हैं, जो त्वचा को कोमल और मुलायम बनाते हैं।
  • मुंहासों से राहत दिलाने के साथ-साथ खुरदुरी व जली-कटी त्वचा से भी राहत मिल सकती है।
  • इस क्रीम का टेक्सचर हल्का है और यह त्वचा में आसानी से अवशोषित हो जाती है।
अवगुण:
  • यह क्रीम दूसरे उत्पादों के मुकाबले महंगी है।

किस तरह की त्वचा के लिए बेहतर है?

  • इस क्रीम को हर तरह की त्वचा पर लगाया जा सकता है। खासकर, सूखी त्वचा पर यह क्रीम अच्छी तरह से काम करती है।
रेटिंग : 5/5

(यहां से खरीदें)

2. रिवोना नेचुरल एलोवेरा जेल (Rivona Naturals Aloevera Gel)

गुण:
  • पिम्पल्स के लिए एलोवेरा के 99 प्रतिशत गुण इसमें मौजूद है।
  • यह क्रीम मुंहासों से राहत दिलाने के साथ-साथ रैशेज, खुजली व जली-कटी त्वचा से भी राहत दिलाती है। साथ ही यह सूरज की हानिकारक किरणों से भी बचाती है।
  • इसे चेहरे के साथ-साथ बालों के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे बाल चिपचिपे नहीं होते हैं।
अवगुण:
  • यह त्वचा को मॉइस्चराइज नहीं करती है। इसे लगाने के बाद ऊपर से मॉइस्चराइजर लगाने की जरूरत पड़ती है।

किस तरह की त्वचा के लिए बेहतर है?

  • यह ऑयली या फिर सामान्य त्वचा के लिए अच्छी है।
रेटिंग : 4.5/5

(यहां से खरीदें)

3. नेचर रिपब्लिक एलोवेरा जेल (Nature Republic Aloe Vera Gel) :

गुण:
  • विटामिन से भरपूर इस क्रीम में 92 प्रतिशत एलोवेरा के गुण हैं, जो पिम्पल और पुराने पिम्पल के दागों से राहत दिलाते हैं।
  • इसे आप चेहरे के साथ-साथ हाथ, पैर और पूरे शरीर पर लगा सकते हैं।
  • ये त्वचा को मॉइस्चराइज करती है और नमी बनाए रखती है।
अवगुण:
  • यह रूखी त्वचा को मॉइस्चराइज नहीं कर पाती है।

किस तरह की त्वचा के लिए बेहतर है?

  • सामान्य व तैलीय त्वचा के लिए सबसे बेहतर है।
रेटिंग : 5/5

(यहां से खरीदें)

4. ट्रूफेला क्रिस्टल क्लियर एलोवेरा जेल (TRUFELLA Crystal Clear Aloe Vera Gel) :

गुण:
  • यह क्रीम मुंहासों और सनबर्न जैसी समस्याओं के लक्षणों से आराम देती है।
  • इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण प्रदूषण से त्वचा को होने वाले नुकसान से बचाते हैं।
  • इसे चेहरे के साथ-साथ बालों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
अवगुण:
  • इसकी गंध थोड़ी तेज है।
  • संवेदनशील त्वचा पर इसे लगाने से जलन हो सकती है ।

किस तरह की त्वचा के लिए बेहतर है?

  • यह सामान्य व तैलीय त्वचा के लिए बेहतर है।
रेटिंग : 4.5/5

(यहां से खरीदें)

5. अर्बन बॉटेनिक प्योर एलोवेरा जेल (Urban Botanics Pure Aloe Vera Gel)

गुण:
  • मुंहासों से लड़ने के साथ-साथ रूखी त्वचा के लिए भी बेहतर है। साथ ही इसे लगाने से खुजली व जलन से भी राहत मिलती है।
  • सिर की खुजली और रूसी से भी निजात दिला सकती है।

किस तरह की त्वचा के लिए बेहतर है?

  • इसे हर तरह की त्वचा पर इस्तेमाल किया जा सकता है।
रेटिंग : 4.5 / 5

(यहां से खरीदें)

लेख के आखिरी हिस्से में हम जानेंगे कि त्वचा पर एलोवेरा के दुष्प्रभाव किस प्रकार हो सकते हैं।

कील-मुंहासे में एलोवेरा लगाने के कुछ दुष्प्रभाव

वैसे तो एलोवेरा के कोई दुष्प्रभाव नहीं है और मुंहासों के लिए एलोवेरा सबसे बेहतरीन आयुर्वेदिक औषधि है, लेकिन फिर भी सावधानी बरतना जरूरी है।

  • अगर आपने पहले कभी एलोवेरा का उपयोग नहीं किया है, तो इसे चेहरे पर लगाने से पहले पैच टेस्ट कर लें। आप थोड़े-से एलोवेरा जेल को हाथ पर लगा लें। अगर जलन या खुजली हो, तो इसका इस्तेमाल न करें।
  • वहीं, अगर आप इस लेख में बताए गए घरेलू उपचार का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो ध्यान दें कि इनमें इस्तेमाल होने वाली किसी सामग्री से आपको एलर्जी तो नहीं होती। अगर होती है, उसका इस्तेमाल न करें।
  • अगर आप एलोवेरा का सेवन करना चाहते हैं, तो पहले डॉक्टर से पूछ लें। संभव है कि किसी को इसका सेवन करने से स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं (2)।
  • एलोवेरा को लगाकर धूप में निकलने से पिम्पल के लिए एलोवेरा का उल्टा असर हो सकता है। साथ ही आपका रंग भी गहरा हो सकता है।

एलोवेरा सच में चमत्कारी आयुर्वेदिक पौधा है। इस लेख से आप समझ गए होंगे की पिम्पल्स के लिए एलोवेरा का उपयोग किस प्रकार किया जा सकता है। याद रखिए कि आप पिंपल के लिए एलोवेरा पर पूरी तरह से निर्भर न रहें। अगर आपकी समस्या ज्यादा गंभीर है, तो तुरंत अपने चिकित्सक से संपर्क करें। इसके अलावा, अगर आपको पिंपल के लिए एलोवेरा के कुछ अन्य फायदे पता हैं, तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स में लिख कर हमें बताएं। साथ ही आप एलोवेरा को इस्तेमाल करने के बाद अपने अनुभव हमारे साथ शेयर कर सकते हैं।

और पढ़े:

संबंधित आलेख