सामग्री और उपयोग
Stylecraze

नाक से खून आने के कारण और घरेलू इलाज – Home Remedies To Stop Nose Bleeding in Hindi

by
नाक से खून आने के कारण और घरेलू इलाज – Home Remedies To Stop Nose Bleeding in Hindi Hyderabd040-395603080 August 13, 2019

खून देखकर अक्सर लोग घबरा जाते हैं। वहीं, जब खून नाक से बहने लगता है, तो लोगों को गंभीर बीमारी का डर भी सताने लगता है। वैसे नाक से खून निकलना ज्यादा गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन लगातार नाक से खून बहे, तो आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत हो जाना चाहिए। यह स्वास्थ्य से जुड़ी किसी गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको नाक से खून निकलने के कारण, इसके इलाज और यह समस्या कब गंभीर हो सकती है, इसके बारे में बताएंगे।

नाक से खून आने के कारण जानने से पहले इसके प्रकार जान लेते हैं।

नाक से खून के प्रकार – Types of Nose Bleed in Hindi

नाक से खून बहने की समस्या को दो प्रकार में बांटा गया है। इन दोनों प्रकार के बारे में विस्तार से जानते हैं (1):

एंटीरियर (Anterior) : नाक से खून निकलने का यह सबसे सामान्य प्रकार है। इस दौरान नाक के अंदर की सतह की रक्त वाहिनियां (ब्लड वेसल्स) फटने के कारण नाक से खून बहने लगता है। इस ब्लड वेसल्स को किसेलबाक प्लेक्सस (Kiesselbach plexus) के नाम से जाना जाता है। इसे सामान्य भाषा में नकसीर फूटना भी कहते हैं।

पोस्टीरियर (Posterior) : यह बीमारी की वजह से होने वाली ब्लीडिंग होती है। इस दौरान नाक से खून काफी ज्यादा बहने लगता है। इस अवस्था में आपको नाक से खून आने के इलाज के लिए डॉक्टर से संपर्क जरूर करना चाहिए।

नाक से खून आने के कारण और घरेलू उपचार जानने के लिए पढ़ते रहें यह लेख।

नाक से खून आने के कारण – Causes of Nose Bleed in Hindi

नाक से खून आने के कई कारण हो सकते हैं। इसमें एलर्जी और नाक में जलन से लेकर गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं शामिल हैं। नीचे हम बात करेंगे नाक से खून आने के विभिन्न कारणों के बारे में (2)।

  • सर्दी, छींक या साइनस (Sinus) की समस्या के कारण नाक में होने वाली जलन
  • ठंडी या गर्म हवा
  • उच्च रक्तचाप
  • जोर लगाकर नाक साफ करना या खींचना
  • नाक में किसी कीड़े या वस्तु का फंसना
  • नाक में चोट लगना
  • साइनस या पिट्यूटरी ट्यूमर सर्जरी
  • डिविएट सेप्टम
  • विटामिन के की कमी
  • दवाओं का रासायनिक प्रभाव
  • नाक स्प्रे का ओवर डोज
  • नेसल कन्नुला (Nasal Cannulas) से ऑक्सीजन ट्रीटमेंट

नाक से खून आने के कारण जानने के बाद चलिए जानते हैं कि नाक से खून आने के इलाज में कौन-कौन से घरेलू तरीके अपनाए जा सकते हैं।

नाक से खून निकलना कम करने के लिए घरेलू उपाय

1. कोल्ड कंप्रेस

Cold compress Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • कुछ बर्फ के टुकड़े
  • एक मुलायम तौलिया

उपयोग का तरीका :

  • तौलिये में बर्फ के टुकड़े लपेटें और इसे नाक पर रखें।
  • बीच-बीच में तौलिये से नाक को हल्का-हल्का दबाएं।
  • 4-5 मिनट तक इस प्रक्रिया को दोहराते रहें।

कैसे है लाभदायक :

बर्फ की ठंडक रक्तस्राव को कम कर देती है, जिससे ब्लीडिंग रुक जाती है (3) (4)।

2. सेब का सिरका

सामग्री :

  • 2 चम्मच सेब का सिरका
  • एक गिलास पानी

उपयोग का तरीका :

  • सिरके को पानी में डालें।
  • अच्छे से हिलाकर इसे पी लें।

कैसे है लाभदायक :

जैसा कि हम ऊपर बता चुके हैं कि नाक से खून निकलने का कारण रक्तचाप बढ़ना भी है। वहीं, सेब का सिरका ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है (5)। यहां बता दें कि इस संबंध में अभी और वैज्ञानिक शोध की आवश्यकता है, इसलिए इसे प्रयोग करने से पहले डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

3. केयेन पेपर (Cayenne Pepper)

सामग्री :

  • 1 चम्मच केयेन पेपर
  • एक गिलास गर्म पानी

उपयोग का तरीका :

  • पानी में कैयेन पेपर डालकर मिक्स करें।
  • अब इस पानी को पी जाएं।

कैसे है लाभदायक :

अगर आपके नाक से खून ब्लड प्रेशर के बढ़ने से आ रहा है, तो केयेन पेपर आपकी मदद कर सकता है। ये रक्त रक्त वाहिकाओं को खोलकर रक्त प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे रक्तचाप कम होता है (6)।

4. बिच्छू बूटी (Nettle Leaf)

Nettle Leaf Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • 1 चम्मच बिच्छू बूटी की पत्तियां
  • 1 कप गर्म पानी
  • रुई

उपयोग का तरीका :

  • गर्म पानी में बिच्छू बूटी की पत्तियां डालें।
  • जब पानी ठंडा हो जाए, तो इसमें रुई डुबोएं और इसे नाक पर रखें।
  • ब्लीडिंग न रुकने तक रुई को नाक पर ही रखा रहने दें।

कैसे है लाभदायक :

यह हर्बल उपचार नाक से बहते खून को रोक सकता है। दरअसल, इसमें प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट गुण होते हैं, जो रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ते और रक्तस्राव को रोकने में मदद करते हैं। इसलिए, ब्लीडिंग को रोकने में इसे सहायक माना जाता है (7)। हालांकि, इसको लेकर अभी शोध की जरूरत है।

5. ह्यूमिडफायर (Humidifier)

सामग्री :

  • ह्यूमिडफायर उपकरण

उपयोग का उपयोग का तरीका :

  • शुष्क हवा को नरम करने के लिए ह्यूमिडफायर का इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे है लाभदायक :

अक्सर शुष्क हवा की वजह से भी नाक से खून निकल सकता है। इसलिए, ह्यूमिडफायर की मदद से आसपास की रूखी हवा को नम कर नकसीर को रोका जा सकता है (8) (9)।

6. एसेंशियल ऑयल

सामग्री :

  • लैवेंडर तेल की 2-3 बूंदें
  • एक कप पानी
  • बर्फ
  • तौलिया

उपयोग का तरीका :

  • पानी में तेल की बूंदें डालें।
  • इस मिश्रण में पेपर टॉवल या कोई अन्य तौलिया डुबोएं।
  • पानी निचोड़कर तौलिये में बर्फ के टुकड़े लपेटें और नाक पर रखें।
  • धीरे-धीरे इससे नाक को दबाएं।

कैसे है लाभदायक :

लैवेंडर तेल में एंटीसेप्टिक और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जिस कारण यह तेल नाक से खून रोकने में सहायक साबित हो सकता है (10)।

7. प्याज

onion1 Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • प्याज के रस की कुछ बुंदें या कटा हुआ एक टुकड़ा
  • रुई

उपयोग का तरीका :

  • प्याज को पीसकर उसका रस निचोड़ लें।
  • रस में रुई को डुबोकर इसे नाक पर 3-4 मिनट के लिए रखें।
  • आप नाक के पास एक प्याज का टुकड़ा रखकर इसकी गंध भी ले सकते हैं।

कैसे है लाभदायक :

प्याज का इस्तेमाल बंद नाक को खोलने, बहती नाक को ठीक करने और ब्लड प्रेशर को कम करने में किया जाता है (11)। इसी तरह प्याज को नाक से बहते खून को रोकने के लिए भी प्रयोग में लाया जा सकता है, क्योंकि यह आपके शरीर की गर्मी को सोखने के साथ ही नाक से बहते खून को भी रोक सकता है (12)।

8. स्लाइन स्प्रे (Saline Spray)

सामग्री :

  • 1/2 चम्मच नमक
  • 1/2 चम्मच बेकिंग सोडा
  • डेढ़ कप पानी
  • एक सिरिंज

उपयोग का तरीका :

  • पानी में नमक और बेकिंग सोडा मिलाएं।
  • सिरिंज की मदद से इस पानी को एक नासिका में डालें और दूसरी नासिका को बंद रखें।
  • इसके बाद अपने सिर को आगे की तरफ झुकाएं और सारा पानी बाहर निकाल दें।
  • इसे एक से दो बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक :

स्लाइन स्प्रे संक्रमणों को दूर करने में मदद करता है। साथ ही यह नाक की नली में आने वाले खून को शरीर में वापस भेजने में मदद करता है (8) (13)।

9. विटामिन

सामग्री :

  • विटामिन ई कैप्सूल

उपयोग का तरीका :

  • कैप्सूल काटकर तेल को एक छोटे कटोरे में डालें।
  • इस तेल को अपनी नासिका में लगाएं।
  • इसे रात भर लगा रहने दें।
  • जब तक नाक ड्राई लगे, तब तक इसे लगाते रहें।

कैसे है लाभदायक :

मौसम के शुष्क होने की वजह से भी आपके नाक से खून बहने लगता है। ऐसे में आप विटामिन ई तेल की मदद से नाक की झिल्ली को मॉइस्चराइज कर सकते हैं। विटामिन ई में हाइड्रेट गुण मौजूद होता है (14)। जब नाक में नमी बनी रहेगी, तो नकसीर का खतरा कम होता है (15)।

10. गोल्डन सील (Goldenseal)

सामग्री :

  • गोल्डनसील के कुछ पत्ते
  • एक कप गर्म पानी

उपयोग का तरीका :

  • गर्म पानी में पत्तियों को डुबोकर हर्बल चाय तैयार करें।
  • 4-5 मिनट के लिए इस चाय की भाप लें।

कैसे है लाभदायक :

इस जड़ी-बूटी की मदद से हेमोरेजिक डिसऑर्डर जैसे रक्तस्राव विकारों का इलाज किया जा सकता है। इसमें रोगाणुरोधी (एंटीमाइक्रोबियल), एस्ट्रिंजेंट और हेमोस्टैटिक (रक्तस्राव को रोकना) गुण होते हैं। इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल सर्दी-जुकाम की दवा व स्प्रे बनाने के लिए भी किया जाता है। इसलिए, माना जाता है कि यह नकसीर को रोकने में भी मदद कर सकती है (16)।

11. विच हैजल

सामग्री :

  • विच हैजल के रस की कुछ बूंदें
  • रुई

उपयोग का तरीका :

  • विच हेजल के रस में रुई को भिगोएं और इसे नाक पर रखें।
  • कुछ मिनट बाद रुई को हटा दें।
  • आवश्यकता पड़ने पर इसका दोबारा इस्तेमाल करें।

कैसे है लाभदायक :

विच हेजल एक पौधा है, जिसकी पत्ती, छाल और टहनियों का उपयोग औषधि बनाने के लिए किया जाता है। इसमें मौजूद एस्ट्रिंजेंट केमिकल रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ता और रक्तस्राव को रोकने में मदद करता है (17)।

12. तुलसी

Basil Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • तुलसी के रस की कुछ बूंदें

उपयोग का तरीका :

  • तुलसी के रस को खून निकलने वाले नाक के छेद में डालें।
  • इसके अलावा, आप तुलसी की पत्तियों को चबा भी सकते हैं।

कैसे है लाभदायक :

तुलसी का इस्तेमाल लंबे समय से आयुर्वेद में होता आया है। इसमें शरीर को सर्दी-जुकाम से बचाने के गुण हैं। तुलसी में एंटीबैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीइंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो घाव को भरने में मदद करते हैं (18)। इसलिए, इसका इस्तेमाल नाक से बहते खून को रोकने के लिए किया जाता है (19)

नाक से बहते खून को रोकने के लिए घरेलू उपाय जानने के बाद अब हम कुछ अन्य नुस्खों की बात कर लेते हैं।

नाक से खून निकलने से बचने के उपाय – Prevention Tips for Nose Bleed in Hindi

नाक से खून निकलने को कुछ आसान तरीकों से रोका जा सकता है। इस दौरान आपको बिना हड़बड़ाए इन झटपट तरीकों को अपनाने की जरूरत है। जानें, क्या हैं ये तरीके (2) (20) :

  • अगर आप सीधी मुद्रा में बैठते हैं, तो नाक से बहते खून को रोका जा सकता है।
  • हल्का आगे झुककर मुंह से सांस लेने के बजाय नाक से सांस लें। इससे भी नाक से बहते खून को रोका जा सकता है।
  • नाक को अंगूठे और उंगली की मदद से करीब 10 मिनट तक हल्का दबाकर रखें। इससे रक्त प्रवाह कम होगा और रक्तस्राव रुक जाएगा।
  • वैसलीन को दिन में दो बार नाक के दोनों हिस्सों में अच्छे से लगा लें। खासकर, इसे रात में लगाना फायदेमंद होता है।

अगर किसी वजह से आपके नाक से खून बहने लगे, तो आप घबराएं नहीं, बल्कि धैर्यपूर्वक इस लेख में दिए गए घरेलू उपायों और टिप्स को अपनाएं। अगर इन घरेलू उपायों के बाद भी खून नहीं रुकता, तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। अपने सुझाव और सवाल के लिए आप हमसे कमेंट बॉक्स के माध्यम से जुड़ सकते हैं। आइए, चलते-चलते कुछ पाठकों के सवालों के जवाब भी जान लेते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

नाक से खून बहने के दुष्प्रभाव

नाक से खून बहने के दुष्प्रभाव ये हो सकते हैं-

  • जी मिचलाना
  • सांस की नली में बाधा उत्पन्न होना।
  • नाक से निकला खून गले में पहुंचकर पेट में जलन पैदा कर सकता है।

क्या गर्भावस्था में नाक से खून आना आम है?

जी हां, प्रेगनेंसी में नाक से खून आना आम है। गर्भावस्था के दौरान, श्वास नलिका (रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट) में ज्यादा खून आने लगता है, जिससे नाक में भारीपन का एहसास होता है। इस खून के जमा होने के कारण गर्भवतियों के नाक से खून बहने लग सकता है। इसके अलावा, नाक में रक्त की मात्रा बढ़ने से नाक की छोटी रक्त वाहिकाएं को नुकसान होता है। इस कारण से भी नाक से खून बहने लगता है (21)।

किस वजह से अचानक वयस्कों के नाक से खून आता है?

रक्त वाहिकाएं को नुकसान पहुंचने की वजह से खून आता है। यह समस्या 65 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों और छोटे बच्चों में अधिक पाई जाती है (22)। मौसम का ज्यादा ठंडा या गर्म होना भी नाक से खून आने (नकसीर) का कारण बन सकता है (2)।

संबंधित आलेख