नारियल के दूध के फायदे, उपयोग और नुकसान – Coconut Milk Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by

नारियल जरूरी पोषक तत्वों का भंडार माना जाता है। खासकर, गर्मी के दिनों में इसके पानी की मांग बहुत बढ़ जाती है। वहीं, दक्षिण भारतीय व्यंजनों में इसे विभिन्न तरीके से उपयोग में लाया जाता है। इसके अलावा, खाने-पीने के शौकीन नारियल के दूध को भी काफी पसंद करते हैं। नारियल का दूध काफी स्वादिष्ट होता है और सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम शरीर के लिए नारियल के दूध के फायदे बताने जा रहे हैं। यहां आप जान पाएंगे कि नारियल के दूध का उपयोग स्वास्थ्य के लिए किस प्रकार लाभदायक हो सकता है। इसके अलावा, लेख में नारियल के दूध के नुकसान पर भी प्रकाश डाला गया है। ध्यान दें कि नारियल का दूध किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है, यह केवल समस्या के प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में मददगार हो सकता है।

जानिए विस्तार से

आइये, बिना देर करते हुए जान लेते हैं नारियल के दूध के फायदे।

नारियल के दूध के फायदे – Benefits of Coconut Milk in Hindi

नारियल का दूध शरीर के लिए कई तरह से लाभकारी हो सकता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि नारियल का दूध न सिर्फ सेहत बल्कि त्वचा और बालों को भी फायदा पहुंचा सकता है। अब पढ़िए आगे –

सबसे पहले जान लेते हैं स्वास्थ्य के लिए नारियल के दूध के फायदे।

सेहत/स्वास्थ्य के लिए नारियल के दूध के फायदे – Health Benefits of Coconut Milk in Hindi

1. हृदय को रखे स्वस्थ 

माना जाता है कि ब्लड लिपिड (खून में फैट/कोलेस्ट्रॉल की मात्रा) की अनियंत्रित मात्रा हृदय रोग का कारण बन सकती है। हृदय को स्वस्थ रखने के लिए इसे संतुलित रखना बहुत जरूरी है। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि नारियल के दूध का सेवन खराब कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा कर कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने का काम कर सकता है (1)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि नारियल का दूध कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित कर हृदय को स्वस्थ रखने का काम कर सकता है।

2. वजन कम करने में सहायक

वजन कम करने में नारियल के दूध के फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, नारियल के दूध में फैट ज्यादातर मीडियम चैन फैटी एसिड (MCFAs) के रूप में मौजूद होता है (2)। लॉन्ग चैन फैटी एसिड की तुलना में मीडियम चैन फैटी एसिड व्यक्ति के फैट को ऊर्जा में जल्दी बदल सकते हैं और ऊर्जा के उपयोग को बढ़ा सकते हैं। इस वजह यह फैट को कम करने में मदद कर सकता है और व्यक्ति को वजन कम करने में सहायता मिल सकती है (3)। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

3. मधुमेह को करे नियंत्रित

नारियल के दूध के फायदे की बात करें, तो इसका उपयोग मधुमेह के घरेलू उपाय के रूप में भी किया जा सकता है। माना जाता है कि नारियल में एंटीडायबिटिक गुण पाए जाते हैं। डायबिटिक चूहों पर किए गए एक शोध में यह साबित हुआ है कि यह बढ़े हुए ग्लूकोज और इंसुलिन के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। साथ ही यह मधुमेह के कारण क्षतिग्रस्त हुए पैंक्रियाज को भी स्वस्थ करने में सहायक हो सकता है (4)। नारियल के इन फायदों को देख कर कहा जा सकता है कि नारियल के दूध का उपयोग मधुमेह को नियंत्रित करने में लाभदायक हो सकता है। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

4. एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और एंटीफंगल गुणों से समृद्ध

नारियल के दूध का उपयोग कई तरह के रोगों से लड़ने के लिए किया जा सकता है। दरअसल, नारियल के दूध में लॉरिक एसिड मौजूद होता है, जो शरीर में एक उपयोगी कंपाउंड में परिवर्तित होता है, जिसे मोनोलॉरिन कहा जाता है। यह एक एंटीवायरल और एंटीबैक्टीरियल कंपाउंड होता है, जो शरीर को वायरस या बैक्टीरिया के कारण होने वाली कई तरह की बीमारियों से बचा सकता है। इसके अलावा, लॉरिक एसिड में एंटीफंगल गुण भी मौजूद होता है, जो फंगल संक्रमण से शरीर का बचाव कर सकता है (2) ।

5. अल्सर में फायदेमंद

माना जाता है कि अल्सर की समस्या में नारियल के दूध का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। इससे संबंधित एक शोध एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद है। शोध में बताया गया है कि नारियल पानी के मुकाबले, प्रतिदिन दो मिलीलीटर नारियल के दूध का सेवन अल्सर के आकार को 54 प्रतिशत कम करने में प्रभावी हो सकता है। इस विषय को लेकर मनुष्यों पर अभी और शोध की आवश्यकता है (5)।

6. प्रोस्टेट ग्लैंड के लिए लाभदायक

द जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन द्वारा प्रकाशित एक शोध में यह बताया गया है कि होल फैट मिल्क का सेवन प्रोस्टेट कैंसर का एक बड़ा कारण बन सकता है। वहीं, अगर कम फैट या स्किम दूध का सेवन किया जाए, तो यह लो-ग्रेड/शुरुआती स्टेज के कैंसर की वजह बन सकता है (6)। ऐसे में माना जाता है कि डेरी उत्पादों की जगह अन्य विकल्प जैसे नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है। यह प्रोस्टेट कैंसर से बचाने में मदद करेगा या नहीं, इस विषय पर फिलहाल कोई शोध उपलब्ध नहीं है, लेकिन यह डेरी प्रोडक्ट की जगह एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

जारी रखें पढ़ना

लेख में आगे जानिए त्वचा के लिए नारियल के दूध के फायदे।

त्वचा के लिए नारियल के दूध के फायदे – Skin Benefits of Coconut Milk in Hindi

1. त्वचा को बनाए नम

त्वचा को नम बनाए रखने के लिए भी नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है। माना जाता है कि नारियल एक प्राकृतिक एमोलिएंट है और इसमें मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं। इस खूबी के कारण नारियल के दूध को त्वचा को नम और मुलायम करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए एक मॉइस्चराइजिंग फेस पैक बनाया जा सकता है। जानें इसे बनाने की विधि –

सामग्री :

  • तीन चम्मच नारियल का दूध
  • एक चम्मच शहद
  • दो चम्मच बादाम पाउडर

विधि :

  • एक बाउल में सभी सामग्री को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट की एक पतली परत चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • लगभग 30 मिनट तक सूखने के बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।
  • अंत में साफ तौलिए से थपथपा कर चेहरे को पोंछ लें।

2. सनबर्न से दिलाए आराम

तेज धूप त्वचा को जला सकती है, जिसे सनबर्न कहते हैं। सनबर्न से आराम पाने के लिए नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है। इसके लिए एक कटोरी में नारियल का ठंडा दूध लें और उसे सनबर्न से प्रभावित त्वचा पर लगाएं। लगभग 15-20 मिनट लगे रहने के बाद त्वचा को धो लें। माना जाता है कि यह त्वचा की सूजन और लालपन को कम करने में मदद कर सकता है और सनबर्न से आराम दिला सकता है।

3. त्वचा को एक्सफोलिएट करे

नारियल का दूध किस प्रकार त्वचा को एक्सफोलिएट करता है, इससे जुड़ा कोई वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है। हालांकि, नारियल के दूध से बना स्क्रब त्वचा को सौम्यता से साफ करने और मुलायम बनाए रखने में मदद कर सकता है। लगभग 5-7 मिनट इस स्क्रब का उपयोग त्वचा की मृत कोशिकाओं से आराम दिला सकता है। नीचे जानिए इसे बनाने की विधि –

सामग्री :

  • एक चम्मच नारियल का दूध
  • दो चम्मच ब्राउन शुगर
  • आधा चम्मच नारियल तेल (पिघला हुआ)

विधि :

  • एक बाउल में सभी सामग्री को मिलाकर स्क्रब बना लें।
  • अब चेहरे को फेस वॉश से धोकर साफ कर लें।
  • चेहरे को धोने के बाद, बनाए गए स्क्रब से चेहरे को स्क्रब करें।
  • उंगलियों को गोलाकार घुमाते हुए नाक, ठोड़ी और पूरे चेहरे पर लगभग 5-7 मिनट अच्छी तरह स्क्रब करें।
  • अंत में चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें और साफ तौलिए से पोंछकर मॉइस्चराइजर लगा लें।

नोट : पाठकों को बता दें कि त्वचा के लिए नारियल के दूध के उपयोग से जुड़ा कोई वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है। इसके उपयोग के बाद अगर त्वचा पर जलन या असहजता महसूस हो, तो इसे तुरंत साफ कर लें और समस्या गंभीर होने पर त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क करें।

अंत तक पढ़ें

सेहत और त्वचा के लिए नारियल के दूध के फायदे जानने के बाद, आगे जानिए बालों के लिए इसके लाभ।

बालों के लिए नारियल के दूध के फायदे – Hair Benefits of Coconut Milk in Hindi

1. बालों को बढ़ने में करे मदद

बाल झड़ने के पीछे कई कारण हो सकते हैं और उनमें से एक पोषक तत्वों की कमी भी है। कुछ खास खनिज जैसे आयरन और जिंक की कमी की वजह से भी हेयर फॉल की समस्या हो सकती है (7)। ऐसे में, नारियल के दूध का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। इसमें ये खनिज पाए जाते हैं और इसके उपयोग से बालों के झड़ने की समस्या में कमी और बालों के बढ़ने में मदद मिल सकती है (8)। इन खनीजों की पूर्ति के लिए नारियल के दूध का सेवन किया जा सकता है। आप चाहें, तो नीचे बताए गए तरीके से नारियल के दूध का उपयोग बालों के लिए कर सकते हैं –

विधि :

  • एक कटोरी में थोड़ा का नारियल का दूध लें और उससे स्कैल्प में मसाज करें।
  • लगभग 20 मिनट मसाज करने के बाद, इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • अंत में बालों को शैम्पू से धो लें।  

2. प्राकृतिक कंडीशनर

माना जाता है कि यह बालों को प्राकृतिक रूप से कंडीशन भी कर सकता है। यही कारण है कि तेल के अलावा, नारियल के दूध का उपयोग भी कई शैम्पू और कंडीशनर बनाने के लिए किया जाता है (9)। उपयोग के लिए नीचे दिया गया तरीका अपना सकते हैं  –

  • सबसे पहले बालों को शैम्पू से धो लें।
  • अब उन पर आवश्यकतानुसार नारियल का दूध लगाएं।
  • लगभग तीन से पांच मिनट रखने के बाद, बालों को पानी से धो लें।
  • हफ्ते में दो से तीन बार यह उपाय किया जा सकता है।

आगे पढ़ें

अब जानिए नारियल के दूध में कौन-कौन से पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

नारियल के दूध के पौष्टिक तत्व – Coconut Milk Nutritional Value in Hindi

नीचे दिए गए टेबल के माध्यम से जानिए नारियल के दूध में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में (8) –

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी 67.62 ग्राम
ऊर्जा230 kcal
प्रोटीन2.29 ग्राम
फैट23.84 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट5.54 ग्राम
फाइबर2.2 ग्राम
शुगर3.34 ग्राम
मिनरल
कैल्शियम16 मिलीग्राम
आयरन1.64 मिलीग्राम
मैग्नीशियम37 मिलीग्राम
फास्फोरस100 मिलीग्राम
पोटेशियम263 मिलीग्राम
सोडियम15 मिलीग्राम
जिंक0.67 मिलीग्राम
कॉपर0.266 मिलीग्राम
मैंगनीज 0.916 मिलीग्राम
सेलेनियम6.2 माइक्रोग्राम
विटामिन
विटामिन-सी2.8 मिलीग्राम
थियामिन0.026 मिलीग्राम
पेंटोथेनिक एसिड0.183 मिलीग्राम
नियासिन0.76 मिलीग्राम
विटामिन-बी 60.033 मिलीग्राम
फोलेट16 माइक्रोग्राम
कोलीन8.5 मिलीग्राम
विटामिन-ई0.15 मिलीग्राम
विटामिन-के0.1 माइक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड21.14 ग्राम
फैटी एसिड टोटल मोनोअनसैचुरेटेड1.014 ग्राम
फैटी एसिड टोटल पोलीअनसैचुरेटेड0.261 ग्राम

पढ़ना जारी रखें

लेख में आगे जानिए नारियल के दूध का उपयोग किस तरह किया जा सकता है।

नारियल के दूध का उपयोग – How to Use Coconut Milk in Hindi

खाने में नारियल के दूध का उपयोग नीचे बताए गए तरीकों से किया जा सकता है –

  • नारियल के दूध से खीर बनाई जा सकती है।
  • मिठाई बनाने के लिए साधारण दूध की जगह नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है।
  • इस दूध का उपयोग करके मलाई कोफ्ता जैसे व्यंजन बनाए जा सकते हैं।
  • इसका उपयोग व्हाइट सॉस पास्ता का सॉस बनाने के लिए किया जा सकता है।
  • बंगाली डिश चिंगरी मलाई करी बनाने के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • शीर खुरमा बनाने के लिए भी नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है।
  • नारियल के दूध का उपयोग फ्रूट कस्टर्ड बनाने के लिए भी कर सकते हैं।
  • चिकन करी को एक अलग जायका देने के लिए उसमें नारियल के दूध का उपयोग किया जा सकता है।

अंत तक पढ़ें

लेख के अंत में जानिए नारियल के दूध के नुकसान क्या-क्या हो सकते हैं।

नारियल के दूध के नुकसान – Side Effects of Coconut Milk in Hindi

नारियल के दूध के नुकसान से जुड़े वैज्ञानिक अध्ययनों का अभाव है, लेकिन किसी को अगर नारियल से एलर्जी है, तो उन्हें निम्नलिखित नुकसान उठाने पड़ सकते हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं (10) –

  • संवेदनशील त्वचा पर लाल चकत्ते
  • गले में खराश
  • पेट में दर्द
  • डायरिया
  • उल्टी

अपने दैनिक जीवन में शामिल करने के लिए अब आपके पास नारियल का एक और प्रोडक्ट उपलब्ध है। हम आशा करते हैं कि नारियल के दूध के फायदे समझने के बाद, आप इसका उपयोग जरूर करना चाहेंगे। इसका इस्तेमाल करते समय यह भी ध्यान रखें कि लाभ के साथ नारियल के दूध के नुकसान भी हैं। इसके उपयोग के दौरान अगर बताए गए दुष्प्रभाव सामने आते हैं, तो इसका इस्तेमाल बंद करें और डॉक्टर से संपर्क करें। हम उम्मीद करते हैं कि लेख में दी गई जानकारी आपके लिए लाभकारी रही होगी। ऐसी अन्य सामग्रियों के फायदे जानने के लिए पढ़ते रहें स्टाइलक्रेज।

10 संदर्भ (Sources) :

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Soumya Vyas

सौम्या व्यास ने माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीएससी किया है और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बेंगलुरु से टेलीविजन मीडिया में पीजी किया है। सौम्या एक प्रशिक्षित डांसर हैं। साथ ही इन्हें कविताएं लिखने का भी शौक है। इनके सबसे पसंदीदा कवि फैज़ अहमद फैज़, गुलज़ार और रूमी हैं। साथ ही ये हैरी पॉटर की भी बड़ी प्रशंसक हैं। अपने खाली समय में सौम्या पढ़ना और फिल्मे देखना पसंद करती हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch